*Menstrual Hygiene Day 2024: MCC aims to make a lasting impact on Chandigarh's sanitation standards and community empowerment*

उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने 31 मार्च को जी-20 प्रतिनिधि मंडल के पंचकूला दौरे की तैयारियों की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक की करी अध्यक्षता

-पिंजौर के गांव चिक्कन पहुंचने पर ग्रामीणों द्वारा परंपरागत ढंग से किया जाएगा प्रतिनिधि मंडल का स्वागत

-प्रतिनिधि मंडल के सदस्य गांव में नैट हाउस, पोली हाउस और खेतों का करेंगे भ्रमण

For Detailed

पंचकूला, 16 मार्च- उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने 31 मार्च को जी-20 प्रतिनिधि मंडल के पंचकूला दौरे के संबंध में की जा रही तैयारियों की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता की। लघु सचिवालय के सभागार में आयोजित इस बैठक में बागवानी विभाग के निदेशक डाॅ. अर्जुन सिंह सैनी भी उपस्थित थे।


श्री माहवीर कौशिक ने बताया कि 31 मार्च को विभिन्न देशों के लगभग 180 प्रतिनिधि सर्वप्रथम पिंजौर के गांव चिक्कन का दौरा करेंगे और उसके पश्चात उनके लिए ऐतिहासिक यादविन्द्रा गार्डन में रात्रि भोज का आयोजन किया जाएगा। इस अवसर पर केन्द्र व राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे।


बागवानी विभाग के निदेशक डाॅ. अर्जुन सिंह सैनी ने बताया कि गांव चिक्कन पहुंचने पर प्रतिनिधि मंडल का किसानों और ग्रामीणों द्वारा परंपरागत ढंग से स्वागत किया जाएगा। उन्होंने बताया कि गांव में विभिन्न स्टाॅल लगाए जाएंगे जहां प्रतिनिधि मंडल के सदस्य किसानों से पहाड़ी क्षेत्र मोरनी में अपनाइ जा रही कृषि पद्धति, आधुनिक फल रोपण पद्धति, आधुनिक कोल्ड स्टोर, मशरूम उत्पादन और काले चावल के उत्पादन आदि विषयों पर बातचीत करेंगे। इसके अलावा उन्हें नैट हाउस, पोली हाउस और खेतों का भ्रमण भी करवाया जाएगा और सूक्षम सिंचाई प्रणाली के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी जाएगी।
श्री महावीर कौशिक ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्रतिनिधि मंडल के गांव चिक्कन और यादविन्द्रा गार्डन दौरे के लिए सभी आवश्यक प्रबंध पूरे किए जाएं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये कि गांव चिक्कन और यादविन्द्रा गार्डन में सभी आधुनिक सुविधाओं से युक्त मोबाइल मेडिकल युनिट की व्यवस्था की जाए।  


श्री महावीर कौशिक जो कि कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग के निदेशक भी हैं ने बताया कि विदेशी मेहमानों का पारंपरिक वाद्य यंत्रों-बीन और नगाड़े से खास स्वागत होगा। उन्होंने कहा कि प्रतिनिधियों को हरियाणा की स्मृद्ध संस्कृति से रू-बरू करवाने के लिए सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जाएगा, जिसमें हरियाणा कला एवं सास्कृतिक कार्य विभाग के कलाकारों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे।
इस अवसर पर एसडीएम पंचकूला ममता शर्मा, एसडीएम कालका रूचि सिंह बेदी, जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गगनदीप सिंह, एसीपी कालका राम कुमार, सिविल सर्जन डाॅ. मुक्ता कुमार, डिप्टी एसएमओ डाॅ. विकास गुप्ता, तहसीलदार पंचकूला पुन्यदीप शर्मा, तहसीलदार रायपुररानी विरेन्द्र गिल, खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी पिंजौर मार्टिना महाजन, जिला बागवानी अधिकारी अशोक कौशिक सहित अन्य विभागों के संबंधित अधिकारी भी उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com/

*Menstrual Hygiene Day 2024: MCC aims to make a lasting impact on Chandigarh's sanitation standards and community empowerment*

डाॅ0 आर0 एस0 सोलंकी, अतिरिक्त निदेशक(सांख्यिकी) हरियाणा ने की जिला किसान कल्ब की मासिक बैठक की अध्यक्षता

For Detailed

पंचकूला, 16 मार्च- डाॅ0 आर0 एस0 सोलंकी, अतिरिक्त निदेशक(सांख्यिकी) हरियाणा की अध्यक्षता में जिला सचिवालय में जिला किसान कल्ब की मासिक बठैक सम्पन्न हुई।


इस अवसर पर उन्होंने ने कृषि तथा किसान कल्याण विभाग, हरियाणा द्वारा चलाई जा रही विभिन्न स्कीमों के बारे में विस्तारपूर्वक  जानकारी देते हुए प्राकृतिक खेती अपनाने पर बल दिया, जो कि किसानों व मृदा स्वास्थ्य के लाभ के साथ-साथ मानव स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी है। उन्होंने स्पष्ट किया कि प्राकृतिक खेती के दूरगामी परिणाम होंगे।  


श्री जय प्रकाश, विषय विशेषज्ञ ने कृषि विभाग द्वारा क्रियान्वित की जा रही विभिन्न कृषि योजनाओं जैसे “मेरी फसल मेरा ब्यौरा”, “मेरा पानी मेरी विरासत”, “प्रकृतिक खेती” बारे विस्तार से बताया। उन्होंने हरी खाद के रूप में ढैंचे के प्रयोग तथा दलहनी फसलों से भूमि की उर्वरकता शक्ति पर पडने वाले प्रभावों के बारे में बताते हुए उपस्थित किसान सदस्यों को इन्हें अपनाने पर बल दिया गया।


श्री राहुल बरकोदिया, सहायक मृदा संरक्षण अधिकारी, पंचकूला ने मृदा परीक्षण के लाभ तथा मृदा नमूना लेने की विधि बारे बताते हुए किसानों को आहवान किया कि हर किसान को अपने खेत की भूमि का परीक्षण कराना चाहिए ताकि किसानों को अपने खेत के मृदा स्वास्थय बारे जानकारी उपलब्ध हो सके तथा उसी के आधार पर विभिन्न फसलों में कृषि सामग्री का समुचित प्रयोग करते हुए अत्यधिक खर्चों से बचा जा सके।


श्री राजन खोरा, जिला मत्स्य अधिकारी, मत्स्य विभाग, पंचकूला ने मछली पालन कार्यों से होने वाले लाभों के बारे में  बताते हुए अनुरोध किया कि ग्राम पंचायतों, किसान समुहों, स्वयं सहायता समूहों और  किसान द्वारा मछली पालन को व्यवसाय के रूप में अपनाना चाहिए, जो कि आय के अच्छे स्त्रोत के साथ-2 भूमि की उपजाऊ शक्ति बढाने व भूमि जल-स्तर को बढाने में भी सहायक है।


किसान सदस्यों के पूछने पर नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा विभाग के उपस्थित प्रतिनिधि ने बताया कि प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान के अंतर्गत किसानों को 3 एच0 पी0 से 10 एच0 पी0 क्षमता के सोलर पम्प पर 75 प्रतिशत सब्सिडी देने की योजना है।


फसल अवशेष प्रबंधन स्कीम पर चर्चा के दौरान डा0 सुरेन्द्र सिंह, उप निदेशक, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, पंचकूला द्वारा अवगत कराया गया है कि जो किसान फसल अवशेषों जैसे पराली व फाने को खेत में ना जला कर इनका अन्य विधियों (इन-सीटू/एक्स-सीटू) से प्रबंधन करते है विभाग द्वारा उन किसानों को 1000 रूपया प्रति एकड की दर से अनुदान राशि प्रदान की जाती है। उन्होंने किसान क्लब के उपस्थित सदस्यों को आहवान किया कि उक्त स्कीम के साथ-साथ कृषि विभाग द्वारा चलाई जा रही विभिन्न किसान हितेषी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाएं।

https://propertyliquid.com/

*Menstrual Hygiene Day 2024: MCC aims to make a lasting impact on Chandigarh's sanitation standards and community empowerment*

राजकीय महाविद्यालय, सेक्टर-1 में सड़क सुरक्षा पर एक दिवसीय कार्यशाला का किया गया आयोजन

For Detailed

पंचकूला, 16 मार्च- श्रीमाता मनसा देवी संस्कृत कॉलेज द्वारा सड़क सुरक्षा संगठन के सहयोग से सेक्टर-1 स्थित राजकीय महाविद्यालय में सड़क सुरक्षा पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में हरियाणा पुलिस के महानिदेशक और हरियाणा पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन के प्रबंध निदेशक डॉ रमेश चंद्र मिश्रा बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे।


कार्यशाला के उद्घाटन सत्र में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए डॉ मिश्रा ने कहा कि हर सड़क हादसे में चालक की ही गलती हो यह जरूरी नहीं। अक्सर दूसरों की लापरवाही का नतीजा हादसे के रूप में हम सबके सामने आता है। कभी खराब सड़क तो कभी यातायात संकेतकों की अवहेलना सड़क हादसों का कारण बनता है।


सड़क हादसों के संभावित कारणों पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि हरियाणा पुलिस सड़कों की तकनीकी खामियों को पहचानने के लिए यातायात इंजीनियरों के साथ ही विभिन्न शैक्षणिक और गैर शैक्षणिक संस्थानों में जागरूकता अभियानों और सड़कों पर यातायात नियमों का सख्ती से पालन करवाने के लिए सदैव तत्पर है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों में सड़क सुरक्षा जागरूकता के लिए सड़क सुरक्षा को स्कूल और कॉलेज स्तर पर पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाया जाना आज के समय की जरूरत है।


कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित सड़क सुरक्षा संगठन पंचकूला के अध्यक्ष दीप किशन चैहान ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि उनके संगठन का मकसद आम नागरिकों में सड़क सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए जागरूकता फैलाना है, ताकि किसी को असमय ही अपनी जान गंवानी न पड़े। उन्होंने कहा कि हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी है कि सड़क हादसों को रोकने के लिए सड़क सुरक्षा से संबंधित नियमों का पालन करें और अपने घर-परिवार के सदस्यों, मित्रों को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करें।


कार्यशाला की शुरुआत दीप प्रज्जवलन के साथ हुई। तत्पश्चात श्री माता मनसा देवी राजकीय संस्कृत कॉलेज की प्राचार्या रीटा गुप्ता ने कार्यशाला के मुख्य अतिथि और सेक्टर -1 कॉलेज के प्राचार्य डी एस लांबा ने वक्ताओं का स्वागत पुष्पगुच्छ देकर और बैज लगा कर किया। सड़क सुरक्षा पर प्राचार्या रीटा गुप्ता ने कहा कि यातायात नियमों का पालन सभी के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि सड़क दुर्घटना किसी के साथ भी हो सकती है। इसके कारण परिवार को अपूरणीय  क्षति पहुंचने की संभावना बनी रहती हैं। कार्यशाला का संचालन सेक्टर -1 कॉलेज के पत्रकारिता विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ अनिल कुमार पाण्डेय द्वारा किया गया। वहीं मनसा देवी कॉलेज की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ रेणुका ध्यानी ने कार्यशाला में उपस्थित अतिथियों समेत कार्यशाला में प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से जुड़े सहयोगियों का आभार माना।


कार्यशाला में पंचकूला जिले के सभी राजकीय महाविद्यालयों के विद्यार्थी और प्राध्यापकगण बड़ी संख्या में उपस्थित रहे। कार्यशाला के आयोजन में सेक्टर -1 कॉलेज के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ जितेंद्र कुमार, प्रो राम मेहर, असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ चित्रा सिंह, संध्या, यामिनी और श्रीमता मनसा देवी कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ राजबीर कौशिक का विशेष सहयोग रहा।

https://propertyliquid.com/

*Menstrual Hygiene Day 2024: MCC aims to make a lasting impact on Chandigarh's sanitation standards and community empowerment*

युवाओं को समाज सेवा से जोड़ने एवं रचनात्मक कार्यों का आवश्यक प्रशिक्षण लेकर सदैव जनहित एवं समाज के लिए समर्पित होकर कार्य करना चाहिए-डाॅ. मुकेश अग्रवाल

For Detailed

पंचकूला, 16 मार्च- युवाओं को सभी प्रकार की समाज सेवा से जोड़ने एवं रचनात्मक कार्यों का आवश्यक प्रशिक्षण लेकर सदैव जनहित एवं समाज के लिए समर्पित होकर कार्य करना चाहिए।


यह उदगार भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी हरियाणा राज्य शाखा के महासचिव डॉ मुकेश अग्रवाल ने पंचकूला स्थित माता मनसा देवी मंदिर परिसर में बने लक्ष्मी भवन में भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी हरियाणा राज्य शाखा द्वारा प्राथमिक चिकित्सा प्रवक्ता हेतु आयोजित दो दिवसीय मूल्यांकन शिविर में निरिक्षण के दौरान संबोधित करते हुए प्रकट किए।


उन्होंने कहा कि संस्कार एवं नैतिक शिक्षा ही युवाओं को समाज से जोड़ता है। संस्कार के कारण ही युवाओं के परिवार की पहचान होती है। उन्होंने कहा कि जब तक मनुष्य स्वयं अपने आपको नहीं बदलेगा तब तक हम समाज को नहीं बदल सकते। इसके उन्होंने कहा कि युवाओं को रैड क्रॉस की गतिविधियों के साथ जुड़कर रैडक्रॉस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करना चाहिए।


प्राथमिक चिकित्सा प्रवक्ताओं हेतु आयोजित इस मूल्यांकन शिविर के अंतिम दिवस पर उत्तर प्रदेश से आई मास्टर ट्रेनर श्वेता सिंह एवं पंजाब से आई साइना वर्मा द्वारा हरियाणा प्रदेश के 18 जिलों से आए सभी प्रवक्ताओं का हड्डी टूट एवं रक्त स्त्राव पर मूल्यांकन किया। राज्य शाखा द्वारा आयोजित इस मूल्यांकन शिविर में हरियाणा प्रदेश के 18 जिलों के 40 प्रवक्ताओं के साथ-साथ तीन मास्टर ट्रेनरों ने भाग लिया।
हरियाणा प्रदेश के राज्य प्रशिक्षण अधिकारी संजीव धीमान द्वारा मुख्य अतिथि महासचिव मुकेश अग्रवाल को शॉल एवं स्मृति चिन्ह भेंट किया गया।


इस अवसर पर हरियाणा राज्य शाखा के राज्य प्रशिक्षण सुपरवाइजर रमेश चैधरी,  हरियाणा राज्य शाखा के जनसंपर्क अधिकारी विजय कुमार रिसोर्स पर्सन टेकचंद, लिपिक  चंद्रमोहन, सेवादार रंजीत एवं विजय कुमार चालक भी विशेष रूप से उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com/

*Menstrual Hygiene Day 2024: MCC aims to make a lasting impact on Chandigarh's sanitation standards and community empowerment*

खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने विभिन्न क्षेत्रो में स्थित रेस्टोरेंट, ढाबा व दुकानों का औचक निरीक्षण कर खाद्य पदार्थों के लिये सैंपल

For Detailed

पंचकूला, 16 मार्च- आयुक्त खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग, हरियाणा, पंचकूला के द्वारा खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता की जांच करने के निर्देशानुसार जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी गौरव शर्मा ने अन्य स्वास्थ्य कर्मियों के साथ आज विभिन्न दूध की डेयरियों, किरयाणे की दुकानों व अन्य स्थानों जैसे कोल्ड स्टोर, खाद्य पदार्थ बनाने की फैक्टरियों आदि का औचक निरीक्षण किया।


जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी गौरव शर्मा ने बताया कि निरीक्षण के दौरान खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम, 2006 के तहत खाद्य पदार्थों के नमूने लेकर जांच हेतू खाद्य प्रयोगशाला करनाल में विश्लेषण के लिये भेजे गए।


उन्होंने बताया कि जो खाद्य पदार्थ खाने योग्य नहीं थे उन्हें मौके पर नष्ट करवा दिया गया तथा सभी मिठाई विक्रेताओं एवं निर्माताओं व अन्य खाद्य पदार्थ बेचने वाले दुकानदारों को ताजा व शुद्ध खाद्य पदार्थध्मीठाई ही बेचने की सलाह दी गई। इसके अलावा सभी दुकानदारों को दूषित व बासी मिठाई न बेचने की चेतावनी भी दी गई कि यदि कोई भी दुकानदार ऐसा करता पाया गया तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।  

https://propertyliquid.com/

इन दुकानों से लिए सैंपल
उन्होंने बताया कि विभाग की टीम द्वारा गुरूनानक किरयाना स्टोर नाडा साहिब से टाटा टी, सैनी डिपार्टमेंटस स्टोर से दूध तथा जसमेश काकर हाउस, हरमीत सिंह और गुरदीप किरयाना स्टोर से सरसो के तेल के सैंपल लिए गए।

*Menstrual Hygiene Day 2024: MCC aims to make a lasting impact on Chandigarh's sanitation standards and community empowerment*

उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने आज तहसील पंचकूला, तहसील बरवाला, तहसील कालका और उप तहसील मोरनी के गांवों में रबी-2023 की फसलों की करी मौका पड़ताल

-उपायुक्त ने लट्ठा, टैब और रजिस्टर गिरदावरी से फसल का किया मिलान

For Detailed

पंचकूला, 16 मार्च- उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने आज तहसील पंचकूला, तहसील बरवाला, तहसील कालका और उप तहसील मोरनी के गांवों का दौरा किया और रबी-2023 की फसलों की मौके पर पड़ताल की।
इस अवसर पर उनके साथ संबंधित अधिकारी भी उपस्थित थे।
श्री महावीर कौशिक ने तहसील बरवाला के गांव कामी, तहसील पंचकूला के गांव बिल्ला और कोट, कालका तहसील के गांव बासघाटी और जल्ला तथा उप तहसील मोरनी के गांव बास-थापली और बास-मुरादपुर में फसल की मौका पड़ताल की और लट्ठा, टैब और रजिस्टर गिरदावरी से फसल का मिलान किया जो कि सही पाया गया। उन्होंने खेतों में जाकर खड़ी फसल का निरीक्षण किया और संबंधित अधिकारियों से रिकार्ड संबंधी जानकारी प्राप्त की।
इस अवसर पर तहसीलदार कालका विक्रम सिंगला, नायब तहसीलदार बरवाला अभिनव गौतम, कानूनगो सुरजीत सिंह, मक्खन सिंह, पटवारी दीपक, नरेन्द्र, कुलदीप, सोमनाथ, कमल, मंजीत, अमित के अलावा सदर कानूनगो ब्रांच से रणबीर सिंह देसवाल और जयव्रत उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com/

*Menstrual Hygiene Day 2024: MCC aims to make a lasting impact on Chandigarh's sanitation standards and community empowerment*

अपरेंटिस जागरूकता पर 17 मार्च को रेड बिशप में किया जाएगा वर्कशाप का आयोजन

-युवा सशक्तिकरण एवं उद्यमिता विभाग हरियाणा के आयुक्त एवं सचिव श्री विजय सिंह दहिया मुख्य अतिथि के रूप में करेंगे शिरकत

– वर्कशाॅप में करीब 100 से अधिक कंपनियों के प्रतिनिधि करेंगे अपने विचार सांझा

-पंचकूला व अंबाला के युवाओं को अपनी प्रतिभा को निखारने का मिलेगा मौका

For Detailed

पंचकूला, 16 मार्च- कौशल विकास और उद्यमिता निदेशालय हरियाणा और कौशल विकास एवं ओद्यौगिक प्रशिक्षण विभाग, हरियाणा के संयुक्त तत्वावधान में कल 17 मार्च को सेक्टर 1 स्थित रेड बिशप में दोपहर 2 से सायं 5.30 बजे तक अपरेंटिस जागरूकता पर एक वर्कशाप का आयोजन किया जाएगा। इस वर्कशाॅप में पंचकूला व अंबाला के युवाओं को अपनी प्रतिभा को निखारने का मौका मिलेगा। इस वर्कशाॅप में करीब 100 से अधिक कंपनियों के प्रतिनिधि अपने विचार सांझा करेंगे।
इस संबंध में जानकारी देते हुए राजकीय ओद्यौगिक प्रशिक्षण संस्थान सेक्टर 14 के प्रधानाचार्य श्री यशपाल ढांडा ने बताया कि इस वर्कशाॅप में युवा सशक्तिकरण एवं उद्यमिता विभाग हरियाणा के आयुक्त एवं सचिव श्री विजय सिंह दहिया मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करेंगे जबकि उपायुक्त श्री महावीर कौशिक विशिष्ट अतिथि होंगे। कौशल विकास एवं ओद्यौगिक प्रशिक्षण विभाग के अतिरिक्त निदेशक संजीव शर्मा भी उपस्थित रहेंगे। उन्होंनंे बताया कि दोनो जिलों की सभी आईटीआई के विद्यार्थी इस वर्कशाॅप में हिस्सा लेंगे। अंबाला व पंचकूला की बड़ी कंपनियां इस वर्कशाॅप में हिस्सा लेंगी। एसडीआईटी के अधिकारियों द्वारा विद्यार्थियों का मार्गदर्शन किया जाएगा ताकि वे यहां से अनुभव प्राप्त करके पंचकूला व अन्य क्षेत्रों से आई कंपनियों के बारे मे जानकारी व उनके प्रतिनिधियों द्वारा दिये गए व्याख्यान से सीख कर अपनी-अपनी योग्यता के आधार पर रोजगार के अवसर प्राप्त कर सकें।  
उन्होंने बताया कि वर्कशाॅप में आरएसडी की क्षेत्रीय निदेशक स्वाती और सहायक निदेशक यशपाल गर्ग विद्यार्थियों का मार्गदर्शन करंगे। इसके अलावा इंडिया सर्किट, पंच आॅटो, राजा गियर, पंचकूला स्टील, अमरटैक्स, स्लाईलम, मारूति केयर टेकर  सहित 100 से अधिक कंपनियों के प्रतिनिधि विद्यार्थियों से अपने विचार सांझा करेंगे।

https://propertyliquid.com/