शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

अध्यापकों व विद्यार्थियों ने मिलकर बनाए आकर्षक एवं उपयोगी टी एल एम

एस एम सी, माता पिता व अभिभावकों ने भी बढ़कर चढ़कर लिया कर लिया भाग

For Detailed

पंचकूला जुलाई 22: राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 की चौथी वर्षगांठ मनाने के उपलक्ष्य में शिक्षण सप्ताह का जिला पंचकूला के विभिन्न विद्यालयों में बड़ी धूमधाम से मनाया गया । जिला पंचकूला मे उपायुक्त एवं एफ एल एन मिशन डायरेक्टर पंचकूला डॉक्टर यश गर्ग की अध्यक्षता एवं जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी संध्या मलिक की देखरेख में चल रहे निपुण कार्यक्रम के अंतर्गत शिक्षा सप्ताह प्रथम दिन टी एल एम दिवस के रूप में मनाया गया जिसमें अध्यापकों व विद्यार्थियों ने निपुण हरियाणा मिशन के अंतर्गत सुंदर-सुंदर व उपयोगी टी एल एम बनाए जिसमें विद्यार्थियों के माता-पिता व अभिभावकों ने भी बढ़ चढ़कर साथ दिया ।
जिला एफ एल एन समन्वयक असिन्द्र कुमार ने बताया कि टी एल एम बनाने के साथ-साथ अध्यापकों ने शिक्षा विभाग से प्राप्त टी एल एम एवं हैंडमेड टी एल एम को कक्षा कक्ष में उपयोग किया ताकि विद्यार्थी खेल-खेल में सीख सकें ।
इस अवसर पर टी एल एम प्रदर्शनियाँ भी लगाई गई जिसमें एसएमसी सदस्यों, माता-पिता अभिभावकों प्रदर्शनियों का भ्रमण करवाया गया व शिक्षक सहायक सामग्री के कक्षा कक्ष में उपयोग के विषय में जानकारी प्रदान की गई ।

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

कब बुलबुल परिवार पंचकूला ने मनाया द्वितीय चरण वन महोत्सव

For Detailed

पंचकूला जुलाई 22: भारत स्काउट एंड गाइड हरियाणा के तत्वाधान में कब बुलबुल परिवार पंचकूला द्वारा संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सेक्टर 26 पंचकूला के प्रांगण में जिला स्तरीय वन महोत्सव का द्वितीय चरण बड़ी धूमधाम से मनाया गया जिसमें जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी पंचकूला एवं जिला कमिश्नर कब एवं बुलबुल संध्या मलिक ने मुख्य अतिथि के रूप मे शिरकत की ।


इस कार्यक्रम का मुख्य थीम पेड़ लगाओ – जीवन बचाओ था जिसमें मुख्य अतिथि ने पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया ।
जिला संगठन आयुक्त असिन्द्र कुमार ने जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी का इस भव्य कार्यक्रम में पहुंचने पर आभार जताया एवं इस सत्र से कब एवं बुलबुल गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर बल दिया ।जिसमें वर्तमान सत्र में जिले में कब मास्टर, फ्लॉक लीडर, एवं कब बुलबुल प्रशिक्षण पर विशेष बल दिया जाएगा ताकि जिले में एक बेहतरीन टीम तैयार हो सके।


जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी संध्या मलिक ने उपस्थित ब्लॉक लीडर कब मास्टर व कब बुलबुल को जिले में इस मुहिम को जोर शोर से आगे बढ़ाने के लिए अभिप्रेरित किया । इस अवसर पर उन्होंने विद्यालय प्रधानाचार्य श्री संजीव अग्रवाल एवं प्राथमिक विद्यालय मुखिया उषा व अध्यापिका मीना शर्मा का भव्य आयोजन में सहयोग के लिए आभार जताया। इस कार्यक्रम में 100 कब एवं बुलबुल विद्यार्थियों एवं 30 अध्यापकों ने भाग लिया ।
इस अवसर पर विद्यालय प्रधानाचार्य संजीव अग्रवाल, फ्लॉक लीडर नीना रोजड़ा, मीना शर्मा, उषा,पूजा कौशिक, नरेश कुमारी, मीना देवी, रितु, किरण ज्योति व दीपिका कब मास्टर्स प्रदीप, गगनदीप, सत्येंद्र, गुलाब ने इस कार्यक्रम को सफल बनाने में विशेष सहयोग दिया |

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

पुरूषों में सुनील और महिला वर्ग में प्रियंका बनी हरियाणा केसरी

चार दिवसीय राज्यस्तरीय अखाडा प्रतियोगिता का हुआ समापन

22 राज्यों के लगभग 1800 खिलाडियों ने दिखाए जौहर

हरियाणा की खेल नीति पूरे देश में सर्वश्रेष्ठ है और दूसरे राज्य भी इसका अनुसरण कर रहे है – श्री विवेक पदम सिंह

For Detailed

पंचकूला, 22 जुलाई : हरियाणा खेल विभाग के अतिरिक्त निदेशक श्री विवेक पदम सिंह ने कहा कि हरियाणा की खेल नीति पूरे देश में सर्वश्रेष्ठ है और दूसरे राज्य भी इसका अनुसरण कर रहे है । हरियाणा के खिलाडियों ने देश में ही नही बल्कि दुनियाभर में मैडल जीतकर हरियाणा का नाम रोशन किया है।
श्री विवेक पदम सिंह ताऊ देवी लाल स्टेडियम सेक्टर-3 में आयोजित हरियाणा राज्य अखाड़ा कुमार केसरी दंगल-2024 के समापन समारोह में बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। उन्होने विजेता खिलाडियों को बधाई व शुभकामनाएं दी।


इस अवसर पर रोहतक जोन की उपनिदेशक सुनीता खत्री व जिला खेल अधिकारी नीलकमल भी मौजूद थी।


उन्होने अर्जुन अवार्डी सुनील कुमार को हरियाणा केसरी का खिताब जीतने पर 1.51 लाख रूपये का नकद पुरस्कार और और द्वितीय सोनू को हरियाणा कुमार का खिताब जीतने पर एक लाख रूपये का नकद ईनाम व गदा देकर सम्मानित किया।


श्री विवेक पदम ने महिला वर्ग में पहलवान प्रियंका को हरियाणा केसरी का खिताब जीतने पर 1.51 लाख रूपये व ईशिका को द्वितिय पुरूस्कार जीतने पर 1 लाख रूपये का नकद पुरस्कार, और रोहतक की अंजलि को हरियाणा कुमार का खिताब जीतने पर 1 लाख रूपये व सिमरन को द्वितिय पुरूस्कार जीतने पर 50 हजार रूपये का नकद ईनाम देकर सम्मानित किया। श्री विवेक पदम ने फ्री स्टाईल पुरूष व महिला, ग्रीको रोमन पुरूष और महिला के विजेता, उपविजेता खिलाडियों को नकद पुरूस्कार व गदा देकर खिलाडियों को सम्मानित व उनकी हौसलाअफजाई की।


श्री विवेक पदम ने कहा कि आज हरियाणा के खिलाडी अपने बेहतरीन प्रर्दशन से लगातार मैडल जीत रहे हैं और हर राष्ट्रीय व अंर्तराष्ट्रीय खेलों में हरियाणा के खिलाडी एक तिहाई पदक जीतकर लाते है। सरकार द्वारा प्रदेश में खेल और खिलाड़ियों को बढ़ावा देने के लिए अनेक आधुनिक स्टेडियम बनाए गए हैं। पिछले दिनों पंचकूला के अंर्तराष्ट्रीय स्तर के मैदान में खेलों इंडिया का सफल आयोजन किया गया। हरियाणा के खिलाडियों ने मैडल जीतकर देशभर में अपना परचम लहराया।


उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को सर्वाधिक पुरस्कार राशि देने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य है। दूसरे राज्यों के खिलाडी भी हरियाण की तरफ से खेलने और करोडों के ईनाम जीतने के लिए तत्पर रहते हैं। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता खिलाड़ी को 6 करोड़ रुपये, रजत पदक विजेता को 4 करोड़ रुपये और कांस्य पदक विजेता को 2.50 करोड़ रुपये की राशि दी जाती है। इस अवसर पर खिलाडियों ने अतिरिक्त निदेशक श्री विवेक पदम सिंह का पगडी पहनाकर स्वागत किया।


अतिरिक्त निदेशक ने आयोजन को सफल बनाने के लिए खेल विभाग व अन्य विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों का धन्यवाद किया।
इस अवसर पर ताउ देवीलाल खेल स्टेडियम सैक्टर-3 के हैंडबाल कोच मनोज, रेसलिंग कोच अश्विनी विचित्र, कब्बडी कोच नरेंद्र सिंह, मेहर सिंह अखाडे के कोच रवि अहलावत, रणधीर सिंह, हरदीप सिंह, फतेहाबाद से कोच अजय, कोच अनिल तथा खेल विभाग के कोच व अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

Tree Plantation Drive marks the celebrations of ‘Vanmahotsav’ at BH-3 & BH-2, PU

Chandigarh July 22, 2024

For Detailed

The residents and staff of Boys Hostel No. 3 and 2, Panjab University, Chandigarh today on 22nd July, 2024, in collaboration with Horticulture Department, celebrated ‘Vanmahotsav’ by planting tree saplings at different blocks of the hostels. Prof. Kewal Krishan, Dean International Students, Prof. Amit Chauhan, Dean Students Welfare and Prof. Emanual Nahar, Former DSW, Panjab University launched the tree plantation drive.Prof. Amit Chauhan, PU DSW applauded the initiative ofboth the hostels and stressed on the need of environmental sustainability by planting more trees. Dr. Sucha Singh, Warden, BH-3 and Dr. Tilak Raj, Warden (BH-2) jointly organized the tree plantation drive under the VanmahotsavProgramme of the PU Horticulture Department. Among those who were present during the tree plantation drive included Wardens, Staff, Residents and horticulture (engineer), Mr. Amandeep.

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

नगराधीश की अध्यक्षता में जिला अप्रेंटिशिप कमेटी की बैठक का आयोजन

-अधिक से अधिक रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिये आईटीआई, युवाओं को उद्योगों की मांग के अनुरूप करें तैयार-नगराधीश

-सितंबर माह के प्रथम सप्ताह में विभाग द्वारा किया जाएगा जाॅब फेयर का आयोजन

For Detailed

पंचकूला, 22 जुलाई- नगराधीश सुश्री मन्नत राणा की अध्यक्षता में आज लघु सचिवालय के सभागार में जिला अप्रेंटिशिप कमेटी की बैठक आयोजित की गई। नगराधीश ने आईटीआई युवाओं को निजी क्षेत्रों में अधिक से अधिक रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिये उन्हें उद्योगों की मांग के अनुरूप तैयार करने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि इसके अलावा ओद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में प्रतिष्ठित उद्योगपतियों द्वारा लेक्चर का आयोजन किया जाये ताकि युवाओं को सरकारी विभागों के साथ साथ निजी क्षेत्र में भी रोजगार के लिये प्रेरित किया जा सके।
बैठक में विभिन्न ओद्यौगिक संस्थानों के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।
नगराधीश ने आईटीआई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे ओद्यौगिक संस्थानों के साथ बैठक कर आधुनिक तकनीक को देखते हुये उद्योगों की मांग के अनुरूप युवाओं को तैयार करें।  उन्होनंे कहा कि आज सरकारी के साथ-साथ निजी क्षेत्र में भी रोजगार की आपार संभावनायें है और अपने कौशल के दम पर युवा निजी कंपनियों में रोजगार के  बेहतर अवसर प्राप्त कर सकते है।
सुश्री मन्नत राणा ने कहा कि युवाओं का निजी क्षेत्र की ओर रूझान बढ़ाने के लिये आईटीआईज द्वारा युवाओं को विभिन्न ओद्योगिक संस्थानों में दौरा करवाया जाये ताकि वे जान सके कि ओद्योगिक क्षेत्र में उनके लिये रोजगार की क्या क्या संभावनायें हैं। उन्होंने कहा कि इससे युवाओं का मनोबल भी बढ़ेगा और वे पढ़ाई के साथ साथ उद्योगों की कार्य प्रणाली को भी बारीकी से जान सकेंगे। उन्होंने निर्देश दिये कि कक्षाओं में बच्चों को अपनी ट्रेड के साथ साथ अन्य तकनीकी ज्ञान भी दिया जाये ताकि वे ओद्यौगिक संस्थानों की मांग को पूरा कर सके।
आईटीआई सेक्टर-14 के प्रिंसीपल श्री मनदीप बेनीवाल ने बताया कि इच्छुक सरकारी व निजी ओद्यौगिक प्रतिष्ठान अप्रेंटिशिप के लिए अप्रेंटिशिप पोर्टल पर रिक्त पद सर्जित कर सकते है। उन्होंने कहा कि सितंबर माह के प्रथम सप्ताह में विभाग द्वारा जाॅब फेयर का आयोजन किया जाएगा, जिसमें जिला के अधिक से अधिक सरकारी और निजी ओद्यौगिक प्रतिष्ठानों को आमंत्रित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आईटीआई पास विद्यार्थियों को रोजगार मेले के लिए एसएमएस भेजने के साथ-साथ आईटीआई इंस्ट्रकटर द्वारा निजी रूप से भी संपर्क किया जाता है ताकि अधिक से अधिक युवा इन मेलों में शामिल होकर रोजगार के अवसर प्राप्त कर सके।  
इस मौके पर आईटीआई सेक्टर-14 के जेएपीओ संदीप श्यान, अप्रेंटिस इन्सट्रक्टर मुकेश व सुमन, हरियाणा चेंबर आॅफ काॅमर्स इंड्रस्टी के प्रधान रजनीश गर्ग, पंच आॅटो के सीईओ सीबी गोयल, बीएन हाईटैक के प्रोजैक्ट हैड पीके वर्मा, अमरटैक्स इंिडया लिमिटिड से राकेश और दीपिका सहित विभिन्न कंपनियों के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

एसडीएम कालका को बाइपास स्थित मंदिर का मुआयना कर एनएचएआई से करवाएं रिटर्निंग वाॅल का निर्माण – उपायुक्त

उपायुक्त ने समाधान शिविर में 54 लोगों की शिकायतों को सुनते हुए संबन्धित विभाग के अधिकारियों को निपटान करने के दिए निर्देश

For Detailed

पंचकूला, 22 जुलाई – उपायुक्त डा. यश गर्ग ने ग्रामीण की शिकायत पर एसडीएम कालका को बाइपास स्थित मंदिर का मुआयना कर एनएचएआई से रिटर्निंग वाॅल का निर्माण करवाने के निर्देश दिए। विश्वकर्मा काॅलोनी निवासी टीकाराम ने शिकायत में बताया कि कालका बाइपास पिंजौर रोड के पीछे मंदिर बना हुआ है। हाइवे की तरफ जगह खाली होने के कारण मंदिर के गिरने का खतरा बना हुआ है। मंदिर को बचाने के लिए रिटर्निंग वाॅल का निर्माण कवाया जाए।

उपायुक्त डा. यश गर्ग आज लघु सचिवालय के सभागार में आयोजित समाधान शिविर में आमजन की समस्याओं को सुन रहे थे। उपायुक्त ने सोमवार को 54 लोगों की शिकायतों को सुनते हुए संबन्धित विभाग के अधिकारियों को जल्द से जल्द निपटान करने के निर्देश दिए।

उपायुक्त ने फिरोजपुर निवासी व्यक्ति को पौधे लगाने के लिए सड़क किनारे जगह मुहैया करवाने के निर्देश दिए। फिरोजपुर निवासी जरनैल सिंह ने बताया कि वो पौधारोपण का कार्य करता है। अब तक करीब दो हजार पौधे रोपित कर चुका है। उन्होंने कहा कि वो गांव की रायपुररानी को जाने वाली करीब दो किलोमीटर लंबी सड़क के किनारों पर पौधे लगाना चाहता है जहां पर जगह मुहैया करवाई जाए।

   डा. यश गर्ग ने पुलिस उपायुक्त को एक ग्रामीण की शिकायत की जांच सौंपते हुए परिवारिक मामले का हल निकलवाने को कहा। इसके अलावा शिकायतकर्ता को कहा कि  परिवार के मामलों को घर-परिवार में ही  आपसी सहमति से भी सुलझाया जा सकता है । ग्रामीण जगीर सिंह ने शिकायत में बताया कि दो साल पहले उसके भाई ने उसके हिस्सा में मकान का निर्माण कर लिया था, अब वो अपने हिस्सा में निर्माण करने लगा तो उसका भाई उनको निर्माण नहीं करने दे रहा है। उपायुक्त से गुहार लगाई कि उसके मामले की जांच करवाकर उसको निर्माण करवाने की अनुमति दी जाए।

उपायुक्त ने एक व्यक्ति की शिकायत पर जिला राजस्व अधिकारी को गांव अम्बका की गौचरान की जमीन पर हुए कब्जे को हटवाकर सरकारी सम्पत्ति को बोर्ड लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मौके पर जाकर निशानदेही की जाए और जितना भी कब्जा हो उसको छुड़वाया जाए। इसके लिए यदि जरूरत हो तो डयूटी मजिस्ट्रेट भी नियुक्त करवा लें।

डा. यश गर्ग ने गांव मानका की दो शिकायतों पर जिला राजस्व अधिकारी को नियमानुसार इंतकाल दर्ज करने के निर्देश दिए। ग्रामीण गुरमीत ने शिकायत में बताया कि उसकी पत्नी की मौत हो चुकी है उसके हिस्से की जमीन का इंतकाल दर्ज करवाया जाना है। दूसरी शिकायत में गांव मानका निवासी बलजिन्द्र सिंह ने अपने पिता की जमीन का इंतकाल दर्ज करवाने की गुहार लगाई।

डा. यश गर्ग ने अतिरिक्त उपायुक्त को  डॉ बीआर अंबेडकर नवीनीकरण योजना के तहत आए आवेदन में शिकायतकर्ता का नाम चैककर मकान की मरम्मत के सहयोग करने के निर्देश दिए। गांव सुदर्शनपुर निवासी तरसेम चंद ने बताया कि उसने करीब एक वर्ष पहले डॉ बीआर अंबेडकर नवीनीकरण योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन किया था। उसके मकान की छत कच्ची है, जो बरसात में किसी भी समय गिर सकती है।

उपायुक्त ने कहा कि इनकम के लिए आवेदन के साथ स्वयं घोषणा पत्र लगाया जाए। इसके बाद वेरीफिकेशन करवाई जाएगी। उपायुक्त ने जिला वासियों ने अपील की कि आय ठीक करवाने के लिए आय घोषणा पत्र आवेदन के साथ लगाना जरूरी है। उन्होंने बताया कि जिन बेटियों की शादी हो गई हैं और उन्हें मायके पक्ष से ससुराल पक्ष के परिवार पहचान पत्र में शामिल करवाना है तो उसके लिए मैरिज सर्टिफिकेट बनाकर आवेदन करें। इस प्रक्रिया से मौके पर ही शादीशुदा बेटियों की शिकायत का निवारण किया जाएगा।

समाधान शिविर में परिवार पहचान पत्र में इनकम ठीक करवाने, आयु ठीक करवाने परिवार पहचान पत्र अलग बनवाने, मेम्बर एड व डिलेट, जाति दुरुस्त करवाने, मोबाइल नंबर ठीक करवाने समेत अन्य प्रकार की शिकायत आई।

इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त सचिन गुप्ता, पुलिस उपायुक्त हिमाद्रि कौशिक, जिला परिषद के सीईओ गगनदीप सिंह, एसडीएम गौरव चौहान , नगराधीश मन्नत राणा, जिला राजस्व अधिकारी डा. कुलदीप सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी अशोक शर्मा, जिला समाज कल्याण अधिकारी विशाल सैनी, पब्लिक हेल्थ एक्सईएन समीर शर्मा समेत अधिकारीगण मौजूद रहे।

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

Panjab University, Chandigarh ranked 10th Best University in India

For Detailed

The U.S. News & World Report, the global authority in rankings and consumer advice, has ranked Panjab University as the 10th Best educational institution in India and 737 globally for 2024-25. PU has been ranked 213 among Universities in Asia.  A total of 2172 educational institutions were ranked on 13 parameters, including research indices, academic programmes, facilities, academic peer perception, high impact publications and citations based on the data of web of Science for 5 year period of 2018-2022. This is a marked improvement over its rank in 2022-23 wherein it was ranked 759 globally out of 2000 universities.

PU has also performed well in many of the disciplines.

SubjectGlobal University Ranking 2024
Physics301
Pharmacology and Toxicology329
Biology and Biochemistry 609
Physical Chemistry713
Chemistry840
Materials Science901
Engineering 904

Earlier, in June, 2024, The Center for World University Rankings (CWUR) had ranked Panjab University, Chandigarh, among the top 4% of higher education institutions globally for the year 2023-24 in the survey of 21,000 institutions, representing the largest academic ranking of global universities.CWUR survey had also ranked PU as 10th  Best Institution in India and 242 in India. Globally, it has been ranked 527 in quality of education imparted and a research rank of 794, with an overall score of 71.6. These rankings were based on four parameters: education, employability, faculty, and research, with equal emphasis on student-related and faculty-related indicators.

Panjab University, Chandigarh, has also achieved the 10th rank in India among government universities in the recent survey by Education World (EW), India(2024), with a score of 1125. The rankings are based on ten parameters of higher education excellence, including faculty competence, faculty welfare and development, research and innovation, curriculum and pedagogy,industry interface, placements, infrastructure, internationalism, leadership/governance, and the range and diversity of study programs offered. Panjab University scored 284 out of 300 in research and innovation, demonstrating the university’s strong credentials in this domain.

There has been a tremendous improvement in rankings of PU in recent past, having  achieved the highest rankings A++ in NAAC accreditation and grant of Category I status by UGC as well as improved rankings in QS and THE World Rankings.

Vice Chancellor Prof. Renu Vig has congratulated the  faculty, students, and staff for their pivotal contributions in bringing PU on the path of revitalisation.

She attributed these improvements to the dedication and sincerity of the various stakeholders, which is helping PU realise its true potential. She shared that the University is operating strategically, developing an Institutional Development Plan (IDP) which is in sync with its commitment to contribute significantly towards Viksit Bharat by 2047. It has also restructured many of its courses as per the emerging employment scenario and aligning them with the NEP-2020.  

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

*खेल हमें एक दूसरे के साथ जोड़ते है – विधानसभा अध्यक्ष*

*पंचकूला तेज़ी से स्पोर्ट्स हब के रूप में उभर रहा है* 

*श्री ज्ञानचंद गुप्ता गुप्ता ने 18वें अश्वनी गुप्ता ममोरियल पंचकूला डिस्ट्रीक बैडमिंटन चेम्पियनशीप – 2024 के पारितोषिक वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में की शिरकत*

*विजेता खिलाड़ियों की किया सम्मानित* 

For Detailed

पंचकूला 21 जुलाई: हरियाणा के विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि खेल हमें एक दूसरे के साथ जोड़ते है , जीवन में अनुशासन और टीम भावना पैदा करके हमे हार और जीत की परवाह किए बिना जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा देते है । 

   हरियाणा विधान सभा अध्यक्ष और अश्वनी गुप्ता ममोरियल ट्रस्ट पंचकूला के प्रधान श्री ज्ञानचंद गुप्ता गुप्ता आज सेक्टर-3 स्थित ताउ देवी लाल स्पोर्टस काॅम्पलैक्स में 18वें अश्वनी गुप्ता ममोरियल पंचकूला डिस्ट्रीक बैडमिंटन चेम्पियनशीप – 2024 के पारितोषिक वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे । इस अवसर पर नगर निगम महापौर कुलभूषण गोयल भी उपस्थित थे । 

     इससे पहले हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता और नगर निगम महापौर कुलभूषण गोयल ने दिवांगत अश्वनी गुप्ता के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता की पुत्री रुचि गोयल और दिवंगत अश्वनी गुप्ता के पुत्र पार्थ गुप्ता भी उपस्थित थे।

    तीन दिन चली इस प्रतियोगिता में जिला के लगभग 275 खिलाड़ियों ने भाग लिया । प्रतियोगिता में अंडर-11, 13, 15, 17 और 19 (लड़के-लड़कियां) और वैटर्न कैटेगरी में 35 से 75 वर्ष आयु वर्ग में मैच खेले गए।

    श्री गुप्ता में विभिन आयु वर्ग में प्रथम स्थान हासिल करने वाले खिलाड़ियों को विनर ट्रॉफी, द्वितीय स्थान हासिल करने वाले खिलाड़ियों को रनर- अप ट्रॉफी और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को ब्रोंज मेडल देकर सम्मानित किया। 

   विधानसभा अध्यक्ष की उपस्थिति में ओपन कैटिगरी में पुरुष डबल का मैच खेला गया। इस रोमांचक मुक़ाबले में अक्षिता महाजन और शिवेन शर्मा की टीम ने केतन चहल और रवि सिंगला की टीम को 20-22, 21-24 और 21-12 से हराकर जीत दर्ज की । इसी प्रकार लड़कों के अंडर 15 सिंगल मुक़ाबले में आर्यन मक्कड़ ने जयेश दुग्गल को 21-17 और 22-20 से हराकर जीत हासिल की । 

  विजेता खिलाड़ियों को बधाई एवं शुभकामनाएँ देते हैं श्री गुप्ता ने कहा कि जिन्होंने इस प्रतियोगिता में जीत हासिल की है वे आज यहाँ से भविष्य में और बेहतर प्रदर्शन करने का संकल्प लेकर जाये ।जो खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में जीत हासिल नहीं कर सके वे निराश ना हो बल्कि और अधिक मेहनत करने का प्रण ले ताकि आगे आने वाली प्रतियोगिता में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन देकर कर जीत हासिल कर सके। श्री गुप्ता ने खिलाड़ियों के साथ -साथ उनके अभिभावकों को भी बधाई एवं शुभकामनाएं दी और आह्वान किया कि वे इसी तरह अपने बच्चों को बैडमिंटन खेल के प्रति प्रोत्साहित करते रहें ताकि खिलाड़ी अपने माता पिता के साथ देश और प्रदेश का नाम भी रोशन करें।

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि है कि यह हर्ष का विषय है कि आज पंचकूला तेज़ी से स्पोर्ट्स हब के रूप में उभर रहा है और यहाँ के खिलाड़ी खेल के क्षेत्र में नये आयाम स्थापित कर रहे है । हर प्रतियोगिता में जिला के खिलाड़ी ना केवल बढ़ चढ़कर भाग लेते है बल्कि अपने परदर्शन से जिला का नाम देश और विदेश में रोशन करते है। उन्होंने कहा कि तीन बार बैडमिंटन नेशनल चैम्पियनशिप पंचकूला के ही खिलाड़ी जीते है । 

  श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि अश्वनी गुप्ता एक होनहार और राष्ट्रीय स्तर के बैडमिंटन खिलाड़ी थे और इसी बैडमिंटन हाॅल में खेला करते थे। उन्होंने कहा कि अश्वनी गुप्ता का एक सड़क दुर्घटना में देहांत हो गया था। अश्वनी गुप्ता की स्मृति में अश्वनी गुप्ता मेमोरियल ट्रस्ट का गठन किया गया, जिसके माध्यम से पंचकूला और ट्राइसिटी के साथ-साथ राष्ट्रीय स्तर की बैडमिंटन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है ताकि युवाओं को नशे से दूर रखकर उन्हें सही दिशा दी जा सके। इसके अलावा ट्रस्ट द्वारा ब्लड डोनेशन कैप व अन्य सामाजिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाता है, जिसमें लोग बढ़चढ़कर हिस्सा लेेते है। 

श्री गुप्ता ने कहा कि अश्वनी गुप्ता ममोरियल ट्रस्ट पिछले 18 वर्षों से खेलों के माध्यम से युवाओं को खेलों के प्रति प्रोत्साहित करता आ रहा है। उन्होंने कहा कि खेलों से बच्चों में खेल और अनुशासन की भावना पैदा होती है। बच्चों की उर्जा को सकारात्मक दिशा में लगाकर उन्हें नशे जैसी बुरी लत से बचाया जा सकता है। उन्होनंे कहा कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन का वास होता है इसलिए अभिभावक अपने बच्चों को खेलों के प्रति प्रोत्साहित करें। उन्होंने कहा कि पंचकूला के अनेक खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पंचकूला का नाम रोशन किया है।

श्री गुप्ता ने अश्वनी गुप्ता ममोरियल ट्रस्ट और जिला बैडमिंटन एसोसिएशन के पदाधिकारियों को प्रतियोगिता के सफल आयोजन की बधाई भी दी । 

*ये रहे उपस्थित*

 इस अवसर पर जिला खेल अधिकारी नीलकमल, हरियाणा बैडमिंटन एसोसिएशन के वित्त सचिव विनय अग्रवाल, पूर्व अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन कोच विजयदीप सिंह, पूर्व राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच संजीव सचदेवा, जिला बैडमिंटन एसोसिएशन के पैटर्न विनोद मित्तल, महासचिव जितेंद्र महाजन, उप प्रधान डीपी सोनी, वित सचिव डीपी सिंगल, पीडी वर्मा, केसी मित्तल, बृजलाल गर्ग, आरसी गुप्ता, देवेंद्र राणा, नागेश शर्मा, बीजेपी मंडल अध्यक्ष सिद्धार्थ राणा, मंडल महामंत्री जसवीर सिंह , कोच सुनीता सहित खिलाड़ी और उनके अभिभावक उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

हरियाणा महिला विकास निगम की व्यक्तिगत ऋण योजना पर मिल रहा 10 हजार से 25 हजार का अनुदान

वर्ष 2024-25 के लिए जिला में 60 परिवारों को ऋण दिए जाने का लक्ष्य

For Detailed

पंचकूला, 20 जुलाई – उपायुक्त डा. यश गर्ग ने बताया कि हरियाणा महिला विकास निगम द्वारा व्यक्तिगत ऋण योजना चलाई जा रही है। निगम द्वारा वर्ष 2024-25 के लिए जिला में 60 परिवारों को ऋण दिए जाने का लक्ष्य रखा गया है, जो 20 अन्य श्रेणी व 40 अनुसूचित जाति के परिवारों को मुहैया करवाया जाएगा।

उपायुक्त ने बताया कि जिन महिलाओं की वार्षिक आय 1.80 लाख रुपये से कम है तथा उसके परिवार का कोई सदस्य आयकरदाता की श्रेणी में शामिल ना हो, वह इस योजना के अन्तर्गत 1.50 लाख रुपये के ऋण के लिए आवेदन कर सकता है। उन्होंने बताया कि इस पर निगम द्वारा अधिकतम 10,000 रुपये अन्य श्रेणी के परिवारों को और 25,000 रुपये अनुसूचित जाति के परिवारों को अनुदान राशि दी जाती है। ऋण का 10 प्रतिशत लाभार्थी को स्वयं वहन करना पड़ता है। शेष राशि की व्यवस्था राष्ट्रीयकृत सहकारी बैकों से करवाई जाती है।
डा. यश गर्ग ने बताया कि विभिन्न क्रियाकलापों के लिए जैसे सिलाई, कढ़ाई, करियाना, मनियारी, रेडीमेट गारमैन्टस, कपड़े की दुकान, स्टेशनरी, बुटीक व जनरल स्टोर इत्यादि ऋण शहरी/ग्रामीण पात्रों के लिए उपलब्ध है।

उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिए निगम के जिला प्रबन्धक, हरियाणा महिला विकास निगम, कमरा नंबर-52, तीसरी मंजिल, नई बिल्डिग, लघु सचिवालय सेक्टर-1 पंचकूला या फोन नंबर 0172-2585271 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

https://propertyliquid.com

शिक्षा सप्ताह के प्रथम दिन विद्यालयों में दिखा भारी उत्साह

जिला बाल कल्याण परिषद् के केन्द्रों से प्रशिक्षण लेने वाले 70 प्रशिक्षु कर रहे हैं सरकारी व गैर सरकारी संस्थानों में काम

परिषद् द्वारा मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के अंर्तगत 346 परिवार पंजीकृत

For Detailed

पंचकूला, 20 जुलाई : उपायुक्त डाॅ यश गर्ग ने बताया कि जिला बाल कल्याण परिषद गरीब असहाय बच्चों, लडकियों महिलाओं के चहुंमुखी विकास के लिए कार्य कर रहा है।

उन्होंने बताया कि परिषद द्वारा गरीब असहाय बच्चों, लडकियों, महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिए तीन कंप्युटर प्रशिक्षण केन्द्र पंचकूला, ग्राम सचिवालय रायपुररानी, और मिनी बाल भवन कालका में खोले गए हैं। एक फैशन डिजाईनिग प्रशिक्षण केन्द्र मिनी बाल भवन कालका में चलाया जा रहा है। तीन सिलाई एवं कढाई केन्द्र पंचकूला, मिनी बाल भवन कालका, पंचायत घर रायपुररानी से प्रशिक्षण दिया जा रहा है। दो ब्युटी केयर प्रशिक्षण केन्द्र पंचकूला और मिनी बाल भवन कालका खोले गए हैं और तीन डे केयर केन्द्र, बेज नंबर-19, सेक्टर-14, पंचकूला, मिनी बाल भवन कालका और लघु सचिवालय, सेक्टर-1 पंचकूला में छह माह से छह साल तक के बच्चों को सुविधा प्रदान की जाती है।

उन्होंने बताया कि इन सभी गतिविधियों में लगभग 2200 बच्चे लाभांवित हो रहे हैं। इसके अतिरिक्त परिषद् द्वारा मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के अंर्तगत 346 परिवार पंजीकृत है। अब तक कुल 142 लडकियों, महिलाओं को भी प्रशिक्षण दिया जा चुका है और उन्हे प्रमाण पत्र वितरित किये जा चुके हैं।
उन्होंने बताया कि परिषद द्वारा कोर्स उपरांत दिये जाने वाले प्रमाण पत्र सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है। प्रमाण पत्र प्राप्त करने उपरांत बच्चे सरकारी, गैर सरकारी व अपना स्वयं का रोजगार स्थापित करके अपने परिवार की आय बढा सकते हैं। परिषद् द्वारा संचालित केन्द्रों से प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके कुल 70 प्रशिक्षु सरकारी, गैर सरकारी संस्थानों में कार्य कर रहे है तथा स्वयं का रोजगार स्थापित कर चुके हैं। परिषद् द्वारा ग्रीष्म कालीन अवकाश के दौरान खण्ड स्तर पर ग्रीष्म कालीन शिविर लगाये जाते है। जिसमें बच्चों को सकारात्मक सोच के साथ ग्रीष्म कालीन अवकाश के दौरान व्यस्त रखा जाता है। शिविर के दौरान बच्चों को योगा, आर्ट एंड क्राफ्ट, और नृत्य की शिक्षा निपुण ट्रेनरों द्वारा प्रदान की जाती है।

डा यश गर्ग ने बताया बताया कि परिषद् द्वारा राष्ट्रीय चित्रकला प्रतियोगिताएं भी खण्ड स्तर तथा जिला स्तर पर करवाई जाती है। परिषद् द्वारा प्रतिवर्ष अक्टुबर माह में बाल दिवस समारोह के उपलक्ष्य में विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है जैसे रंगोली, पोस्टर मेकिंग, स्कैचिंग आन द स्पाॅट, प्रश्नोतरी प्रतियोगिता, कार्ड मेकिंग, कलश/थाली सजावट, दीया/मोमबती सजावट इत्यादि।

उपायुक्त ने बताया कि जिला स्तर की प्रतियोगिताओं में प्रथम और द्वितीय स्थान पर आने वाले बच्चों को मण्डल स्तरीय प्रतियोगिताओं में भेजा जाता है और मण्डल स्तरीय प्रतियोगिताओं में प्रथम और द्वितीय स्थान पाने वाले बच्चों को राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में भेजा जाता है। राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पाने वाले बच्चों को महामहिम राज्यपाल महोदय द्वारा सम्मानित किया जाता है। उपरोक्त गतिविधियों के बारे समय समय पर परिषद् द्वारा गांव व शहर में बच्चों व महिलाओं को प्रेरित किया जाता है।

उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिए जिला बाल कल्याण परिषद, बेज नंबर 19, सेक्टर-14, पंचकूला, दूरभाष- 0172-2586554 पर संपर्क कर सकते हैं।

https://propertyliquid.com