नगराधीश ने टाउन पार्क में  स्कूली बच्चों द्वारा निकाली गई मैराथन रैली को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

अखिल भारतीय वन खेलकूद प्रतियोगिता 2023 का दूसरा दिन रोमांच से भरा रहा

रस्साकशी में एकतरफा मुक़ाबके में हरियाणा की टीम ने गोवा पर जीत दर्ज करते हुए अगले राउंड में प्रवेश किया

वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता के 45 किलोग्राम भार वर्ग में हरियाणा की समता धीमान रही प्रथम

For Detailed

पंचकूला मार्च 11: ताऊ देवीलाल स्टेडियम सेक्टर 3 पंचकूला में आयोजित की जा रही अखिल भारतीय वन खेलकूद प्रतियोगिता 2023 का दूसरा दिन रोमांच से भरा रहा। हरियाणा और गोवा की टीमों के बीच रस्साकशी का शानदार मुकाबला खेला गया जिसमें एकतरफा मुक़ाबके में हरियाणा की टीम ने जीत दर्ज करते हुए अगले राउंड में प्रवेश किया।

महिलाओं की वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता के 45 किलोग्राम भार वर्ग में छत्तीसगढ़ की मंजूलता ने पहला स्थान प्राप्त किया जबकि उत्तराखंड की ललिता राणा दूसरे और उत्तर प्रदेश की रीच वर्मा तीसरे स्थान पर रही।

49 किलोग्राम भार वर्ग में छत्तीसगढ़ की राजमणि राजवडे प्रथम स्थान पर रही जबकि उत्तराखंड की दीपा नेगी दूसरे और केरला की बिनथू आर तीसरे स्थान पर रही।

55 किलोग्राम भार वर्ग में छत्तीसगढ़ की उर्मिला मार्को पहले स्थान पर उत्तराखंड की सोनम फरहामन दूसरे तमिलनाडु की कार्तिका जे तीसरे और उत्तराखंड की केएम गोविंदी चौथे स्थान पर है ।

59 किलोग्राम भार वर्ग में कर्नाटका की स्वर्णा नायक ने पहला स्थान प्राप्त किया जबकि तमिलनाडु की संगीता एस और तमिलनाडु की ही धन लक्ष्मी दूसरे और तीसरे स्थान पर रही ।

64 किलोग्राम भार वर्ग में कर्नाटका की एस थोईथोई देवी प्रथम छत्तीसगढ़ की निरुपा सालोनी दूसरे , केरला की निशांति आर तीसरे और उत्तर प्रदेश की आशिया हुसैन चौथे स्थान पर रही।

71 किलोग्राम भार वर्ग में छत्तीसगढ़ की पूजा देवगन प्रथम स्थान पर मध्य प्रदेश की सुरमिला दूसरे स्थान पर केरला की शिमिना तीसरे और उत्तराखंड की किरण दिमारी चौथे स्थान पर रही.

76 किलोग्राम भार वर्ग में तमिलनाडु की अभिशा कुमारी प्रथम उत्तर प्रदेश की श्वेता रानी दूसरे उत्तराखंड की विद्या रावत तीसरे और तेलंगाना की जय भारती चौथे स्थान पर रही।

81 किलोग्राम भार वर्ग में कर्नाटका की लिखीथा प्रथम मध्यप्रदेश की नरेशवरी दूसरे व तेलंगाना की वाई हरिका तीसरे स्थान पर रही ।

87 किलोग्राम भार वर्ग में हरियाणा की समता धीमान प्रथम और उत्तर प्रदेश की मंदवी पांडे दूसरे स्थान पर रही।

पुरुष वर्ग में कबड्डी की प्रतियोगिता में हरियाणा की टीम ने केरल की टीम को 50-14 से हराया। इसी प्रकार हिमाचल प्रदेश की टीम ने आंध्रप्रदेश की टीम को 58-06 से तथा छत्तीसगढ़ ने मध्यप्रदेश को 47-14 से हराया।

महिला वर्ग में खेले गए कबड्डी की प्रथम सेमीफाइनल मैचों में कर्नाटक ने छत्तीसगढ़ पर 39-16 से जीत दर्ज की। इसी प्रकार हिमाचल और गुजरात के बीच खेले गए दूसरे सेमीफाइनल मैच में हिमाचल की टीम ने गुजरात को 43-02 से हराया।

महिला वर्ग में खेले गए टेबल टेनिस के क्वाटर फाइनल मैचों में मध्य प्रदेश ने गुजरात को शिकस्त दी। इसी प्रकार कर्नाटक ने उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश ने छत्तीसगढ़ तथा उड़ीसा ने मिज़ोरम को हराया।

पुरुष वर्ग में खेले गए टेबल टेनिस के प्री क्वाटर फाइनल मैच में मध्य प्रदेश ने उत्तर प्रदेश को हराया। इसी प्रकार तेलंगाना ने महाराष्ट्र को, जम्मू-कश्मीर ने गुजरात को, पंजाब ने उत्तराखंड को, आसाम ने पश्चिमी बंगाल को, छत्तीसगढ़ ने अंडेमान-निकोबार को, डब्ल्यूआईआई ने नागालैंड को तथा मणिपुर ने झारखंड को हराया।

पुरुष वर्ग की सीनियर वेटर्न श्रेणी में खेले गए टेबल टैसिस प्री क्वाटर फाइनल मुकाबलों में मध्य प्रदेश ने आसाम को हराया। इसी प्रकार केरल ने उत्तराखंड को, झारखण्ड ने तेलंगाना को, पर्यावरण, वन, जलवायू परिवर्तन मंत्रालय ने छत्तीसगढ़ को, मणिपुर ने डब्लियूआईआई को, बिहार ने आंध्र प्रदेश को, जम्मू-कश्मीर ने कर्नाटक को तथा डीएफई ने राजस्थान को हराया। महिला वर्ग में सीनियर वेटर्न श्रेणी में खेले गए टेबल टैसिस सेमी फाइनल मुकाबलों मध्यप्रदेश ने छत्तीसगढ़ को तथा उत्तर प्रदेश ने उड़ीसा को हराया।

https://propertyliquid.com/

नगराधीश ने टाउन पार्क में  स्कूली बच्चों द्वारा निकाली गई मैराथन रैली को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

मोटर एक्सीडेन्ट क्लेम्स ट्रिब्युनल मामलों पर वर्ष की पहली राज्य लोक अदालत का हुआ आयोजन

For Detailed

पंचकूला 11 मार्च : हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण ने न्यायमूर्ति श्री ऑगस्टाइन जॉर्ज मसीह, न्यायाधीश, पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय एवं कार्यकारी अध्यक्ष, हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के मार्गदर्शन में आज हरियाणा राज्य भर में एम0ऐ0सी0टी0 (मोटर एक्सीडेन्ट क्लेम्स ट्रिब्युनल) मामलों पर वर्ष की अपनी पहली राज्य लोक अदालत का आयोजन किया। हरियाणा के 22 जिलों में इस राज्य लोक अदालत का आयोजन किया गया।


आज की राज्य लोक अदालत में, 1475 मामले उठाए गए और 190 मामलों का निपटारा किया गया तथा जिसमें कुल 19,83,84,000 रूपये राशि का निपटान किया गया।

https://propertyliquid.com/

नगराधीश ने टाउन पार्क में  स्कूली बच्चों द्वारा निकाली गई मैराथन रैली को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

हरियाणा, अखिल भारतीय वन खेलकूद प्रतियोगिता की तीसरी बार मेजबानी करने वाला देश का पहला राज्य-कंवरपाल

खेल-कूद प्रतियोगिताओं का यह महाकुंभ देश और प्रदेश में एक सकारात्मक बदलाव का प्रतीक

हरियाणा देश में खेलों में अग्रणी प्रदेश-वन मंत्री

देश के वन विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने खेल-कूद तथा फिटनेस के मामले में लहराया परचम

For Detailed

पंचकूला, 11 मार्च – हरियाणा के पर्यावरण एवं वन मंत्री श्री कंवरपाल ने कहा कि हरियाणा देश का पहला प्रदेश है जिसे तीसरी बार अखिल भारतीय वन खेल-कूद प्रतियोगिता की मेजबानी करने का अवसर प्राप्त हुआ है। हरियाणा की भूमि उसके युवाओं के जोश के लिए जानी जाती है। खेल-कूद प्रतियोगिताओं का यह महाकुंभ देश और प्रदेश में एक सकारात्मक बदलाव का प्रतीक है।

श्री कंवरपाल आज पंचकूला सेक्टर 3 स्थित ताऊ देवी लाल स्टेडियम में 26वीं अखिल भारतीय वन खेल-कूद प्रतियोगिता का शुभारंभ करने के पश्चात संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर अंबाला लोकसभा सांसद श्री रतन लाल कटारिया भी उपस्थित थे।

इससे पूर्व श्री कंवरपाल ने 26वें अखिल भारतीय वन खेल-कूद प्रतियोगिता के शुभारंभ की घोषणा की और विभिन्न राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से आए खिलाड़ियों के दलों द्वारा प्रस्तुत मार्चपास्ट की सलामी ली।

उन्होंने कहा कि इससे पहले वर्ष 2013 में पंचकूला में और 2002 में फरीदाबाद में इस प्रतियोगिता का सफल आयोजन किया गया था। उन्होंने कहा कि हरियाणा को इन खेलों को पुनः आयोजित करने का अवसर प्रदान करने के लिए वे केन्द्र सरकार का आभार प्रकट करते हैं। श्री कंवरपाल ने कहा कि राजनीतिक जीवन की शुरुआत से ही उनका वन एवं वन्य कर्मियों से नाता रहा है। उनका क्षेत्र यमुनानगर में कालेसर का घना जंगल होने के कारण यहां पर वन कर्मियों की गतिविधियां बराबर बनी रहती थी। उन्होंने देखा है कि वन कर्मी बड़ी सफुर्ति से रात-दिन गश्त करके वन संपदा की रक्षा करते हैं।

वन मंत्री ने कहा कि हमें खेल-कूद से अनुशासन में रहना, टीम स्पिरिट से कार्य करना तथा सतत सुधार करते रहना भी सीखने को मिलता हैै। खेलों से एक भाईचारे की भावना भी उत्पन्न होती है जो हमारे कार्यक्षेत्र में परिवार को जोड़ने का कार्य करती है। उन्हांेने कहा कि वन खेल-कूद प्रतियोगिता का आयोजन न केवल हमारे वन परिवार को और मजबूत करने, अपने-अपने प्रदेश तथा संगठनों का नाम रोशन करने का एक अवसर है बल्कि इस प्रतियोगिता का सीधा असर हमारे कार्यों पर भी पड़ेगा और हमारी कार्यकुशलता भी बढेगी। खेल हमें अपने मतभेदों को मिटा कर जाति, धर्म, क्षेत्र को भूल कर एकजुट होकर लक्ष्यों की प्राप्ति करना सिखाते हैं।

श्री कंवरपाल ने कहा कि हरियाणा पूरे देश में खेलों में एक अग्रणीय प्रदेश है। हरियाणा की जनसंख्या देश की जनसंख्या का मात्र 2 प्रतिशत है परंतु टोक्यो ओलंपिक 2020 में देश द्वारा जीते कुल 7 पदकों में से 3 पदक हरियाणा के खिलाड़ियों ने हासिल किए जिसमें नीरज चोपड़ा का स्वर्ण पदक भी शामिल है। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा के खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में प्रदेश का नाम रोशन किया है और इसमें प्रदेश की खेल परंपराओं तथा प्रदेश सरकार की खेल नीतियों का महत्वपूर्ण योगदान है।
उन्होंने कहा कि देश के वन विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने खेल-कूद तथा फिटनेस के मामले में अपना परचम लहराया है। एक अधिकारी ने तो एवरेस्ट पर भी फतह की थी और हाल ही में कर्नाटक की एक महिला आईएफएस अधिकारी ने एनर्टाटिका पहुंच कर तिरंगा लहराया। यह हमारे लिए बड़े गर्व की बात है।

अंबाला लोकसभा सांसद श्री रतन लाल कटारिया ने कहा कि 26वें अखिल भारतीय वन खेल-कूद प्रतियोगिता का आयोजन उनके लोकसभा क्षेत्र में किया जा रहा है जिसके लिए वे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल का आभार प्रकट करते हैं। उन्होंने कहा कि पंचकूला में विश्व स्तरीय खेल इन्फ्रास्ट्रचर विकसित किया गया है और पिछले वर्ष ही यहां खेलो इंडिया यूथ गेम्ज़ का सफल आयोजन किया गया। उन्होंने कहा कि इस वन खेल-कूद प्रतियोगिता में देश के सभी राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशो के खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की कि इस प्रतियोगिता से नई खेल प्रतिभाएं उभर कर सामने आएंगी।

हरियाणा के पर्यावरण और वन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री विनीत गर्ग ने कहा कि खेलों का मानव जीवन में बहुत महत्व है। खेल जहां जीवन में अनुशासन सिखाते है वहीं खेलों से शरीर स्वस्थ रहता है और स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मन का वास होता है। उन्होंने कहा कि यह हर्ष का विषय है कि सभी वन अधिकारी और कर्मचारी किसी न किसी खेल गतिविधि से जुड़े हैं और नियमित रूप से अभ्यास करते हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा हरि की भूमि है, जहां श्रीकृष्ण ने गीता का दिव्य संदेश दिया था। वे आशा करते हैं कि सभी खिलाड़ी गीता के संदेश से प्रेरणा लेते हुए प्रतियोगिता में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे।

इस अवसर पर हरियाणा और गोवा की टीम के बीच रस्साकशी का मुकाबला हुआ , जिसमें हरियाणा की टीम ने गोवा की टीम पर आसानी से विजय प्राप्त की। इस मौके पर कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गए।
इस मौके पर महानिदेशक, वन विभाग, भारत सरकार श्री सीपी गोयल, हरियाणा के प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री जगदीश चंद्र, अतिरिक्त प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री विवेक सक्सेना तथा श्री घनश्याम शुक्ला, मुख्य वन संरक्षक श्री अनंत प्रकाश पाण्डेय और विभिन्न प्रदेशो के वरिष्ठ वन अधिकारी उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com/

नगराधीश ने टाउन पार्क में  स्कूली बच्चों द्वारा निकाली गई मैराथन रैली को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

नशा मुक्त सिरसा जागरूकता  में बेहतर कार्य के लिये मक्खन सिंह हुये समान्नित

-उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर किया समान्नित

सिरसा, 11 मार्च।

For Detailed

      नशा मुक्त सिरसा अभियान के तहत लोगों को जागरूक करने में बेहतर कार्य के लिये मक्खन सिंह लेखाकार को समान्नित किया गया। उपायुक्त पार्थ गुप्ता व पुलिस अधीक्षक ने मक्खन सिंह को प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर समान्नित किया। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त डॉ आनंद कुमार शर्मा सहित अन्य प्रसाशनिक अधिकारी भी उपस्थित थे।

 नशा मुक्त सिरसा एंव नशा मुक्त भारत अभियान के तहत सीडीएलयू में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में नशा छोड़ने वालो, नशा छुड़वाने सहयोग करने वालो तथा नशा जागरूकता में बेहतर कार्य करने वालों को सम्मानित किया गया। मक्खन सिंह को नशा को लेकर जन जन को जागरूक करने के लिये बेहतर कार्य के लिये समान्नित किया गया।

उपायुक्त पार्थ गुप्ता ने मक्खन सिंह को सम्मानित करते हुये कहा कि दूसरों को भी प्रेरणा लेते हुए नशा मुक्त सिरसा अभियान में सहयोग करना चाहिये। अपने सामर्थ्य अनुसार सहयोग जरूर करें ताकि सिरसा को नशा मुक्त किया जा सके। उन्होंने कहा कि लोगों को नशा को लेकर जागरूक करें। 

मक्खन सिंह ने कहा कि नशा किसी व्यक्ति की समस्या नही बल्कि पूरे समाज की है। इसलिये इसमें सभी को अपना सहयोग करना होगा, तभी सिरसा को ड्रग फ्री बनाया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि अपने आसपास के लोगों को जागरूक करें। नशा से ग्रस्त व्यक्ति का इलाज करवाने में मदद करें। यदि कहीं नशा बिकने की सूचना मिलती तो तुरंत पुलिस को सूचित करे।

उन्होंने कहा कि प्रशासन ने जिला के कालांवाली व सिरसा में नशा मुक्ति केंद्र स्थापित किए हैं। इन केंद्रों में नशा बीमारी से ग्रस्त लोगों का नि:शुल्क इलाज काउंसिल की जाती है। किसी भी व्यक्ति को अपने आस-पास नशा से पीडि़त व्यक्ति मिले, उसे नशा मुक्ति केंद्र में लाने में सहयोग करें। उन्होंने बताया कि नशामुक्ति के लिए राष्ट्रीय हेल्पलाइन नं. 1800-11-0031 जारी किया गया है, जिस पर नशा से ग्रस्त व्यक्ति की काउंसिल व पुनर्वास केंद्रों में जानकारी दी जाती है।

https://propertyliquid.com/