OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

PU DLIS celebrated International Museum Day

Chandigarh May 18, 2022

For Detailed News

The Department of Library and Information Science, Panjab University, Chandigarh celebrated International Museum Day 2022 today on 18.05.2022. Every year International Museum Day (IMD) is organized on 18th May. The Theme of the event was “The Power of Museums”. The theme focuses on exploring the power of museums to achieve sustainability, to innovate on digitalization and accessibility, and the power of community building through education.

The event commenced with a brief introduction, history and significance about this day. Dr. Shiv Kumar, Chairperson of the department initiated the event. All the faculty members of the department presented their views on the relevance of museums in the society. They emphasized that museums collect, preserve, interpret, and display objects of artistic, cultural, or scientific significance for the education of the public. Museums help to preserve and promote our cultural heritage. Students took part in various activities and presented the information on significant museums in different states and UTs of India like Chandigarh, Punjab, Haryana, Himachal Pradesh, Uttrakhand, Uttar Pradesh and Jammu & Kashmir and shared their viewpoints regarding sustaining the museums in the future through innovative solutions. Overall, the event was fruitful with proactive participation of students, research scholars and the faculty members.

https://propertyliquid.com/

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

Fire Department Recruitment physical test begun

Chandigarh:

For Detailed News

The Municipal Corporation Chandigarh has started the physical tests of the successful candidates for recruiting 300 posts of Firemen, 60 drivers and 4 Sub Fire Officers at the Police Lines, Sector 26, here today

https://propertyliquid.com/

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

प्रदेश में स्थित सभी पुरातात्विक स्थलों का किया जाएगा नवीनीकरण -देवेंद्र सिंह बबली

– प्रदेश के पुरातात्विक स्थलों को पर्यटन की दृष्टि से भी किया जाएगा विकसित

– प्रदर्शनी के माध्यम से विभाग के पुरातात्विक स्थलों, स्मारकों और संग्रहालयों के साथ-साथ हरियाणा की समृद्ध विरासत की झलकियाों को किया गया प्रदर्शित-देवेंद्र सिंह बबली

For Detailed News

पंचकूला, 18 मई- हरियाणा के पुरातत्व एवं संग्रहालय मंत्री श्री देवेंद्र सिंह बबली ने कहा कि प्रदेश में स्थित सभी पुरातात्विक स्थलों का नवीनीकरण किया जाएगा ताकि युवा पीढी को हमारी प्राचीन सभ्यता के बारे में जागरूक किया जा सके। इसके लिए पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग द्वारा ऐसे स्थलों को चिन्हित किया जा रहा है।


श्री देवेंद्र सिंह बबली आज अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस 2022 के उपलक्ष्य में साइट संग्रहालय, भीमा देवी मंदिर परिसर, पिंजौर में ‘हरियाणा की विरासत’ विषय पर एक फोटो प्रदर्शनी का उद्घाटन करने उपरांत पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्थित पुरातात्विक स्थलों को पर्यटन की दृष्टि से भी विकसित किया जाएगा ताकि हरियाणा के साथ-साथ दूसरे प्रदेशों के लोग भी हरियाणा के प्राचीन ऐतिहासिक स्थलों का भ्रमण कर इनके बारे में जानकारी हासिल कर सकें। उन्होंने कहा कि विभाग की एक टीम शीघ्र ही अन्य प्रदेशों का दौरा कर वहां के पुरातात्विक स्थलों का अध्ययन करेगी, जिसके उपरांत वहां प्राचीन स्थलों को विकसित करने की दिशा में किए गए प्रयासों को हरियाणा में भी लागू किया जाएगा ताकि हमारी हजारों वर्ष पुरानी धरोहर को बेहतर ढंग से संजोया जा सके।


उन्होंने कहा कि इस प्रदर्शनी के माध्यम से विभाग के पुरातात्विक स्थलों, स्मारकों और संग्रहालयों के साथ-साथ हरियाणा की समृद्ध विरासत की झलकियाों को प्रदर्शित किया गया है। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा समय-समय पर इसी प्रकार की प्रदर्शनियों, कार्यशालाओं एवं कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। उन्होंने कहा कि भीमा देवी मंदिर परिसर में स्थित साइट संग्रहालय विभाग के 39 संरक्षित स्थलों में से एक है। इस साइट संग्रहालय में ओपन एयर डिस्प्ले के साथ-साथ 4 मूर्तिकला प्रदर्शन दीर्घाएं भी हैं। उन्होंने कहा कि पवित्र तालाब और मंदिर का चबूतरा भी इस स्थल का मुख्य आकर्षण है।
उन्होंने प्रदर्शनी आयोजित करने के लिए पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस प्रदर्शनी के माध्यम से आगंतुकों को एक ही मंच पर पूरे हरियाणा में फैली प्राचीन विरासत का अनुभव करवाया गया है।

https://propertyliquid.com/


इससे पूर्व श्री देवेंद्र बबली ने साइट संग्रहालय, भीमा देवी मंदिर परिसर का दौरा किया और प्राचीन भीमा देवी मंदिर के पुरातात्विक अवशेशों में गहन रूचि दिखाई। इस अवसर पर विभाग की ओर से श्री देवेंद्र सिंह बबली को प्राचीन मूर्तिकला की प्रतिकृति ‘भगवात गणेश’ की प्रतिमा भेंट की गई।


इस अवसर पर पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री एसएन राॅय, निदेशक श्रीमती मोनिका मलिक, विभाग की उप निदेशक डाॅ. बनानी भट्टाचार्य, जेजेपी के जिला प्रधान (शहरी) ओपी सिहाग, जिला प्रधान (ग्रामीण) भाग सिंह दमदमा तथा विभाग के अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

सेक्टर 14 स्थित राजकीय कन्या महाविद्यालय में विश्व एड्स वैक्सीन दिवस पर कार्यशाला का किया आयोजन

-किसी के साथ किसी प्रकार का दुर्वयवहार होता पाएं तो प्राधिकरण को करें सूचित-समप्रीत कौर

For Detailed News

पंचकूला, 18 मई- मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव श्रीमती समप्रीत कौर की अध्यक्षता में पंचकूला के सेक्टर 14 स्थित राजकीय कन्या महाविद्यालय में विश्व एड्स वैक्सीन दिवस के अवसर पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।


इस अवसर पर श्रीमती समप्रीत कौर ने कार्यशाला में उपस्थित विद्यार्थियों को प्रेरित किया कि वे किसी के साथ किसी भी प्रकार का दुर्वयवहार न करें और यदि कहीं किसी के साथ किसी प्रकार का दुर्वयवहार होता देखें तो जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के हैल्पलाईन नंबर 0172-2585566 अथवा हरियाणा विधिक सेवा प्राधिकरण के टोल फ्री नंबर 1800-180-2057 पर संपर्क कर इसकी जानकारी दे सकते हैं। उन्होंने बताया कि महिलाओं के लिए प्राधिकरण की  ओर से निशुल्क कानूनी सहायता उपलब्ध करवाई जाती है।


कार्यशाला में नागरिक अस्पताल की उप सिविल सर्जन डाॅ. मोनिका कौड़ा ने एड्स के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने एड्स की उत्पत्ति, फैलाव एवं रोकथाम के बारे में भी वहां पर उपस्थित विद्यार्थियों को जागरूक किया। उन्हेंने सभी को एक पावरप्वाइंट प्रस्तुति के माध्यम से एड्स के बारे में स्वयं तथा दूसरों को जागरूक करन के लिए प्रेरित किया।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ता मनवीर राठी ने इस अवसर पर सभी को स्वतंत्र बनने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने विश्व एड्स वैक्सीन दिवस पर कई उदाहरण प्रस्तुत करते हुए विद्यार्थियों को जागरूक किया।

https://propertyliquid.com/


इस अवसर पर महाविद्यालय के प्रधानाचार्य राजीव चौधरी भी उपस्थित थे।

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

मेगा योग शिविर के अंतिम दिन नगर निगम के महापौर कुलभूषण गोयल ने दीप प्रज्जवतिल कर किया शिविर का शुभारंभ

कमर दर्द में मरकट आसन का अभ्यास अत्यंत कारगर – डॉ जयदीप आर्य

For Detailed News

पंचकूला, 18 मई- आजादी के अमृत महोत्सव एवं अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस- 2022 के उपलक्ष्य में हरियाणा योग आयोग, आयुष विभाग व जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में परेड ग्राउड, सैक्टर-5 में आयोजित तीन दिवसीय मेगा योग शिविर के तीसरे व अंतिम दिन आज नगर निगम के महापौर कुलभूषण गोयल ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की तथा स्वयं योग क्रियाएं कर योग कर सबको योग करने का संदेश दिया।
श्री गोयल ने परंपरागत दीप प्रज्जवलित कर योग शिविर का शुभारंभ किया। इस अवसर पर हरियाणा योग आयोग के चेयरमैन डॉ जयदीप आर्य, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी, आईटीबीपी भानू के आईजी श्री ईश्वर सिंह दूहन भी उपस्थित थे।


श्री कुलभूषण गोयल ने मेगा योग शिविर के सफल आयोजन के लिए आयोजकों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि योग हमें स्वस्थ्य रखने के साथ-साथ उर्जा से भरपूर बना देता है। उन्होंने कहा कि हमें सभी को प्रतिदिन कुछ समय अपने आप को देना चाहिए योग करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत योग गुरू के रूप में विश्व मानचित्र पर अपनी पहचान बना चुका है और भारत ने न सिर्फ स्वयं योग को प्रोत्साहित किया अपितु अन्य देशों को भी योग से जोड़ा और विश्व गुरू बन कर उभरा।

https://propertyliquid.com/


डॉ जयदीप आर्य ने योग क्रियाएं करवाते हुए जानकारी दी कि कमर दर्द की समस्या के लिए मरकट आसन का अभ्यास सबसे अधिक कारगर है। इसके साथ ही उन्होंने कमर दर्द से राहत के लिए किये जाने वाले अन्य असानो का अभ्यास भी सभी प्रतिभागियों को करवाया। उन्होंने मानसिक तनाव से छुटकारा पाने के लिए योग निद्रा का अभ्यास करवाते हुए योग के लाभों से सबको अवगत करवाया । डॉ जयदीप आर्य ने बताया कि योग अब योगासन खेलों में भी अपनी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाकर योग से जुड़े खिलाड़ियों के लिए एक उज्जवल भविष्य के रूप में उभर रहा है। हरियाणा में होने जा रहे चौथे खेलो इंडिया यूथ गेम्स में पहली बार योगासन खेल के खिलाडी भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकेंगे।


इस अवसर पर हरियाणा योगासन स्पोर्ट्स एसोसिएशन के योगासन खिलाड़ियों काजल, आरुषि व अभय द्वारा योग डेमो की अद्धभुत प्रस्तुति दी गयी और इन बच्चों के प्रोत्साहन हेतु हरियाणा योग आयोग एवं आयुष विभाग द्वारा सम्मानित किया गया।


कार्यक्रम में पतंजलि योग समिति के श्री प्रेम आहूजा, आरोग्य भारती से डॉ पवन गुप्ता, भारतीय योग संस्थान से श्री रामेश्वर के साथ – साथ शिक्षा विभाग, खेल विभाग एवं पुलिस विभाग, पतंजलि के चंडीगढ़ प्रांतीय प्रभारी श्री नवीन, खेल विभाग से जिमनास्टिक सीनियर कोच श्रीमति नीलकमल, हरियाणा योग आयोग के रजिस्ट्रार डॉ हरीश कुमार सहित काफी संख्या में योग साधक भी उपस्थित थे।

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने वृद्ध आश्रम, सेक्टर 15 के विस्तार को लेकर एचएसआईआईडीसी व रेडक्रास के अधिकारियों के साथ की बैठक

-वृद्ध आश्रम का विस्तार आधुनिक सुविधाओं से युक्त होगा-डीसी

For Detailed News

पंचकूला, 18 मई- उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने आज लघु सचिवालय के सभागार में एचएसआईआईडीसी व रेडक्रास के अधिकारियों के साथ बैठक कर सेक्टर 15 स्थित वृद्ध आश्रम के विस्तार की रूप-रेखा पर विस्तार से चर्चा की।


उपायुक्त ने कहा कि वृद्ध आश्रम का विस्तार आधुनिक सुविधाओं युक्त होगा और उसमें वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा के लिए विशेष व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने बताया कि वृद्ध आश्रम के विस्तारीकरण में भू-तल पर आधुनिक मल्टीपर्पज़ हॉल कम योगा सेंटर, पूजा स्थल तथा डिस्पेंसरी की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा प्रथम व द्वितीय तल पर 7-7 कमरे अटैच बाथरूम और छत पर आधुनिक सोलर सिस्टम की व्यवस्था होगी। उन्होंने बताया कि वृद्ध आश्रम में रहने वाले वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा के लिए मोडयूलर किचन तैयार किया जाएगा। वृद्ध आश्रम के विस्तार का मैप आर्किटैक्ट संजय वर्मा द्वारा तैयार किया गया है।


उन्होंने बताया कि वृद्ध आश्रम में वरिष्ठ नागरिकों की सुविधा के लिए लिफ्ट का प्रावधान भी किया गया है, जिससे वरिष्ठ नागरिकों को उपर-नीचे चढने-उतरने में कठिनाई नहीं होगी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जल्द ही डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार की जाएगी जिसके उपरांत कार्य आरंभ कर दिया जाएगा।  

https://propertyliquid.com/


इस अवसर पर जिला रेडक्रास समिति की सचिव सविता अग्रवाल, एचएसआईआईडीसी के एजीएम अजय बंसल, कार्यकारी अभियंता रोहित कंवर, वृद्ध आश्रम के अधीक्षक गंभीर सिंह और आर्किटैक्ट संजय वर्मा भी उपस्थित थे।

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट में दिव्यांग बच्चों व बुजुर्गों से की मुलाकात

– मुख्यमंत्री ने ट्रस्ट को 21 लाख रुपये देने की घोषणा की, इसके अतिरिक्त 11 लाख रुपये वार्षिक तौर पर भी दिए जाएंगे
– मानव सेवा सबसे बड़ी सेवा है और भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट को इस कार्य को बखूबी कर रही है : मुख्यमंत्री मनोहर लाल


सिरसा, 18 मई।

For Detailed News


हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने बुधवार को भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट के तत्वावधान में चलाए जा रहे भाई कन्हैया आश्रम में पहुंचे तथा बेसहारा बुजुर्गों व बच्चों से मुलाकात कर उनका हाल-चाल जाना। इस अवसर पर उनके साथ उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला, बिजली मंत्री रणजीत सिंह, सांसद सुनीता दुग्गल, पूर्व चेयरमैन जगदीश चोपड़ा, गुरदेव सिंह राही, रेणू शर्मा, अमन चोपड़ा मौजूद थे। साथ ही उपायुक्त अजय सिंह तोमर व पुलिस अधीक्षक डा. अर्पित जैन, ट्रस्ट के प्रधान गुरविंदर सिंह, उप प्रधान हरदेव सिंह, सचिव रिशिपाल, ट्रस्टी संजीव जैन, हरबंस लाल जिंदल, भूप सिंह सोनी व मेघनाथ शर्मा आदि उपस्थित थे।


मुख्यमंत्री ने इस मौके पर भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट को 21 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि इसके अतिरिक्त ट्रस्ट को वार्षिक तौर पर किसी ने किसी योजना के तहत 11 लाख रुपये की मदद देने का प्रावधान किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने भाई कन्हैया आश्रम के मुख्य सेवाकार गुरविंद्र सिंह व ट्रस्टी संजीव जैन के प्रयासों की सराहना की। इसके अलावा ट्रस्ट की ओर से अस्पताल केे लिए जमीन की मांग पर उन्होंने घोषणा की कि जल्द ही जगह की पहचान कर ट्रस्ट को दी जाएगी।

मानव सेवा सबसे बड़ी सेवा : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने मानव सेवा सबसे बड़ी सेवा है और भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट इस कार्य को बखूबी कर रही है। ट्रस्ट द्वारा जिस समर्पण भाव व तमन्यता से कार्य किया जा रहा है, यह बहुत ही सराहनीय है। सेवा का आनंद अलग ही प्रकार का होता है, केवल सेवा करने वाले व्यक्ति का मन ही जानता है कि उसे इसमें कितना आनंद मिलता है। उन्होंने कहा कि रोटी, कपड़ा, मकान प्रत्येक व्यक्ति की आवश्यकता होती है, लेकिन मन की संतुष्टिï सर्वोपरि होती है। यदि व्यक्ति का मन संतुष्टï है तो दूसरी आवश्यकताओं की महत्ता कम पड़ जाती है। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति सेवा भाव के काम में लगे रहते हैं, वे धन्य है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा दिव्यांग बच्चों को ढाई हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जा रही है। उन्होंने कहा कि हमें प्रांतीय सीमाओं से उपर उठकर सोचना चाहिए, इसी धारणा को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार दूसरे राज्यों के प्रदेश में रहने वाले दिव्यांगजनों की सहायता के लिए भी कुछ न कुछ प्रावधान अवश्य किया जाएगा, ताकि इस प्रकार के आश्रमों को परेशानी न आए। उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश में लाखों लोग ऐसे हैं जोकि जन्म या दुर्घटना वश अथवा मानसिक रुप से दिव्यांग हैं, ऐसे लोगों की सेवा करना बहुत बड़ा काम है। सेवा परमो धर्म के भाव से काम कर रहे हैं।

https://propertyliquid.com/