OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

 Orientation regarding gender-based discriminations organised

Chandigarh May 16, 2022

For Detailed News

Centre for Social Work, Panjab University, Chandigarh has organised three days workshop (13th, 14th  May, & 16th May 2022) regarding an orientation to gender based discrimination by Professor Jyoti Seth, Head (Retd.) Department of Sociology, Post Graduate Govt College for Girls sector 42, Chandigarh. The session started with the brief discussion on Gender and sex, she explained that gender which is not male and female but man, woman, and transgender. Gender discrimination is faced by mostly women and transgender’s. This discrimination is because of patriarchy that is prevalent in India from roots and to remove this discrimination not only women have to speak about their right but also men have to change their views. Individual and group activities were performed which made students made to think about various topics (dowry, domestic violence, sayings about men and women, against birth of girl child etc.) which are main factors leading to discrimination. The session was interactive and group activity further refined the learning process of the students. The masters in social work students and research scholars participated in the workshop.

https://propertyliquid.com/

Dr. Gaurav Gaur, Chairperson alongwith Prof. Jyoti Seth answered the queries related to the theme asked by the students. The students asked questions from live-in-relationship, marriage, divorce and cultural practices prevalent in our society. The token of gratitude was presented to the resource person by the faculty and the students. It was very interactive and enlightening session for the students.

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

उपायुक्त ने सरल पोर्टल के कार्य को लेकर संबंधित विभागों के अधिकारियों की आयोजित बैठक की करी अध्यक्षता

– राईट टू सर्विस के तहत प्राप्त आवेदनों को तय समय सीमा में पूरा करने के दिये निर्देश

For Detailed News

पंचकूला, 16 मई- उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने सरल पोर्टल को लेकर लघु सचिवालय के सभागार में संबंधित विभागों की बैठक ली। उपायुक्त ने सभी विभागों को सरल पोर्टल पर प्राप्त आवेदनों को राईट टू सर्विस के तहत तय समय सीमा में पूरा करने के निर्देश दिये।


उपायुक्त ने नगर निगम पंचकूला, नगर निगम कालका, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, सेकटरी आरटीए, राजस्व विभाग, पचंकूला, बरवाला, कालका, मोरनी और रायपुररानी के तहसीलदार और नायब तहसीलदारों, मोरनी वन विभाग व पिंजौर वन विभाग, जिला कल्याण अधिकारी, जिला उद्योग विभागों से सरल पोर्टल के कार्यों पर विस्तार से चर्चा की।


उन्होंने कम स्कोरो वाले विभागों को चेताया कि वे जल्द ही लंबित आवेदनों का निपटान करें और अपने स्कोर को बढ़ायें ताकि जिला पंचकूला प्रदेश में पहले व दूसरे नंबर पर स्थान प्राप्त कर सके। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे आवेदनों को आरटीएस दायिरे से बाहर ना जाने दें। उन्होंने कहा कि आवेदनों को गंभीरता से लेते हुये तय समय सीमा में कार्य को पूरा करें।

https://propertyliquid.com/


इस अवसर पर एसडीएम पचंकूला डाॅ. ऋचा राठी, एसडीएम कालका रूचि सिंह बेदी, नगराधीश गौरव चैहान, सीएमजीजीए सृष्टि शर्मा, डीडब्ल्यूओ दीपिका, एमसी पंचकूला के जेटीओ आकाश कपूर सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

उपायुक्त ने बरवाला-रायपुररानी क्षेत्र के पोल्ट्री फार्म मालिकों व पोल्ट्री फार्म एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की करी अध्यक्षता

-सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों की पालना ना करने वाले पोल्ट्री फार्मों को किया जायेगा बंद

-दिशा निर्देशों की पालना  सुनिश्चित करने के लिये 6 टीमों का किया गया गठन-उपायुक्त

For Detailed News

पंचकूला, 16 मई-   उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने कहा कि बरवाला-रायपुररानी क्षेत्र में मक्खियों की समस्या से सख्ती से निपटा जायेगा व सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों की पालना ना करने वाले पोल्ट्री फार्मों को बंद किया जायेगा।


उपायुक्त श्री महावीर कौशिक आज लघु सचिवालय के सभागार में बरवाला-रायपुररानी क्षेत्र के पोल्ट्री फार्म मालिकों व पोल्ट्री फार्म एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
उपायुक्त ने कहा कि बरवाला-रायपुररानी क्षेत्र में मक्खियों की समस्या का मुख्य कारण पोल्ट्री फार्म है। उन्होंने पोल्ट्री फार्मों को निर्देश दिये कि वे मुर्गीयों को दी जाने वाली फीड में दवाई का प्रयोग करें ताकि मक्खियां पैदा ना हो। इसके अलावा गांव में नियमित तौर पर दवाई का छिड़काव किया जायें और पोल्ट्री फार्म में फ्लाई पेंट का प्रयोग किया जाये जोकि मक्खियों की समस्या दूर करने में काफी कारगर है।


उपायुक्त ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा बीडीपीओ, तहसीलदार, हरियाणा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी, कृषि विभाग के उपनिदेशक तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की अध्यक्षता में 6 टीमों का गठन किया गया हैं। ये टीमें गांव का दौरा कर इन दिशा निर्देशा की पालना सुनिश्चित करेंगी। उन्होंने पोल्ट्री फार्म मालिकों को स्पष्ट किया कि यदि इन दिशा निर्देशों की पालना नहीं की जाती तो दोषी पाये जाने वाले पोल्ट्री फार्म पर सख्त कार्रवाही की जायेगी और उन्हें नियमानुसार बंद कर दिया जायेगा। हरियाणा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी वीरेंद्र पूनिया ने बताया कि वर्तमान में 92 पोल्ट्री फार्म संचालित है, जिसमें से सरकार के दिशा निर्देशों की अनुपालना न करने पर दोषी पाये गये 5 पोल्ट्री फार्मो को बंद करने का नोटिस जारी कर दिया गया है। इन पोल्ट्री फार्मों को आगामी 60 दिन में बंद कर दिया जायेगा।


उपायुक्त ने कहा कि पोल्ट्री फार्मो की वजह से पैदा होने वाली मक्खियों की समस्या से बरवाला-रायपुररानी के लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने निर्देश दिये कि पोल्ट्री फार्म गांव में दवाई का छिड़काव करवायें ताकि जुलाई में बरसात के मौसम में मक्खियों की समस्या दोबारा ना पनपे।


पोल्ट्री फार्म एसोसिएशन ने उपायुक्त को आश्वासन दिया कि वे मक्खियों की समस्या के समाधान के लिये जिला प्रशासन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े है। उन्होंने कहा कि वे न केवल आज उपायुक्त द्वारा दिये गये दिशा निर्देशों की पालना करेंगे बल्कि सरकार के दिशा निर्देशों की अवेहलना करने वालों का नाम भी उजागर करेंगे ताकि उनके खिलाफ उपयुक्त कार्रवाही की जा सके।  

https://propertyliquid.com/


इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त मनीता मलिक, एसडीएम ऋचा राठी, पशु पालन विभाग के उपनिदेशक अनिल बनवाला, हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड पंचकूला के क्षेत्रीय अधिकारी वीरेंद्र पूनिया सहित बरवाला-रायपुररानी पोल्ट्री फार्म के मलिक व पोल्ट्री फार्म एसोसिएशन के पदाधिकारी उपस्थित थे। 

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

नवनियुक्त मानद महासचिव रंजीता मेहता ने हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद का संभाला कार्यभार

– बच्चों के सपनों को पूरा करना और बाल कल्याण  के कार्यों को बढ़ावा देना रहेगी प्राथमिकता-रंजीता मेहता


– बाल कल्याण के कार्यों को बढ़ावा देने के लिए जल्द तैयार की जाएगी रूपरेखा-रंजीता मेहता

पंचकूला, 16 मई- हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद की नवनियुक्त मानद महासचिव रंजीता मेहता ने परिषद मुख्यालय चंडीगढ़ में हरको बैंक चेयरमैन अरविंद यादव समेत अन्य गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में 22 वें मानद महासचिव के रूप में अपना पदभार ग्रहण किया।


हरको बैंक चेयरमैन  अरविंद यादव ने उन्हें मानद महासचिव की कुर्सी पर बैठाकर कार्यभार ग्रहण करने की शुभकामनाएं दी।


 परिषद मुख्यालय में पहुंचने पर नवनियुक्त मानद महासचिव रंजीता मेहता का जोरदार स्वागत हुआ। सभी गणमान्यों ने उन्हें परिषद का कार्यभार संभालने की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर महासचिव रंजीता मेहता ने राज्यपाल एवं प्रधान हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद श्री बंडारू दत्तात्रेय और मुख्यमंत्री एवं उपप्रधान हरियाणा राज्य बाल कल्याण परिषद श्री मनोहर लाल एवं पार्टी संगठन का बाल कल्याण परिषद की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देने के लिए हार्दिक आभार जताया।


 महासचिव रंजीता मेहता ने कहा कि  बच्चे भगवान का रूप होते हैं और उन्हें प्रदेश के बच्चों के कल्याण की बेहद महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गई है। वे इसे सेवा समझकर कार्य करेंगी। इस जिम्मेदारी का पूरी ईमानदारी और कर्तव्य निष्ठा से वहन करेंगी। उन्होंने कहा कि बच्चों का कल्याण परिषद की प्राथमिकता है और इस प्राथमिकता को पूरा करने के लिए वे पूरी तरह प्रयासरत रहेंगी। बच्चों  के हुनर को पहचान देने और बच्चों के सपनों को उड़ान देने के लिए परिषद लगातार प्रयासरत है। रंजीता मेहता ने कहा कि भविष्य में बाल कल्याण के कार्यों व योजनाओं को बढ़ावा और मूर्त रूप देने के लिए नई योजनाएं तैयार की जाएंगी और उन्हें जमीनी स्तर पर अमलीजामा भी पहनाने का कार्य किया जाएगा।


इस अवसर पर जस्टिस जितेंद्र चैहान, पूर्व मानद महासचिव संतोष अत्रेजा, राष्ट्रीय पंजाबी महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक मेहता, राष्ट्रीय पंजाबी महासभा प्रदेश अध्यक्ष भूपेश मेहता, एमडी जसविंद्र, सोनिका शर्मा शक्ति केंद्र प्रमुख, राजीव शर्मा, अमरटेक्स अरुण ग्रोवर, डॉ जसविंद्र मेहता रजिस्ट्रार एचएयू, डीपी सोनी, अशोक शर्मा, डीपी सिंघल, सुषमा खन्ना, शिवराज शर्मा, जिला संयोजक, राकेश पांडव, शसंयोजक पटियाला, नरेंद्र सिंगला, राजेश चैधरी, वीरेंद्र शुक्ला, विष्णु भटनागर, सामाजिक समर्थ बगलामुखी व अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों को एक सप्ताह के अंदर मोबाईल टाॅवर और ओएफसी केबल की अनुमति से संबंधित लंबित कार्यों को पूरा करने दिये निर्देश

For Detailed News

पंचकूला, 16 मई- हरियाणा के मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने मोबाईल टाॅवर और ओपटीकल फाईबर केबल (ओएफसी) की अनुमति को लेकर आज चंडीगढ़ से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हरियाणा के सभी जिलों के उपायुक्तों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने सभी जिला उपायुक्तों को मोबाईल टावर और ओएफसी से संबंधित लंबित कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिये।


जिला लघु सचिवालय के सभागार में वीडियों कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में उपस्थित उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल को एक सप्ताह के अंदर मोबाईल टाॅवर और ओएफसी केबल से संबंधित सभी लंबित कार्यों को पूरा करने का आश्वासन दिया।

https://propertyliquid.com/


बैठक के उपरांत श्री महावीर कौशिक ने पंचकूला नगर निगम व नगर निगम कालका, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, एचएसआईडीसी के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार मोबाईल टाॅवर और ओपटीकल फाईबर केबल की अनुमति से संबंधित सभी आवेदनों का 45 दिनों के अंदर निपटान करना होता हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे आवेदनकर्ता जिन्होंने नोटिस जारी होने के उपरांत भी अभी तक  आवश्यक दस्तावेज और निर्धारित फीस जमा नहीं कराई है तो उनके आवेदन रद्द किये जायें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे  इस संबंध में सभी लंबित कार्यों को एक सप्ताह में पूरा करें।
इस अवसर पर नगराधीश गौरव चौहान , नगर निगम पंचकूला के कार्यकारी अभियंता प्रमोद, नगर निगम कालका की कार्यकारी अधिकारी निशा शर्मा सहित संबंधित विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस-2022 के भव्य आयोजन की तैयारियों को लेकर सेक्टर- 5 स्थित परेड ग्राउंड में किया गया तीन दिवसीय विशाल योग विज्ञान शिविर का आयोजन

– हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने दीप प्रज्जवलित कर किया योग शिविर का शुभारम्भ

-प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने विश्व में योग को एक अलग पहचान दिलवाई -गुप्ता

-योग शारीरिक विकास के साथ साथ मानसिक, बौद्धिक एवं अध्यात्मिक विकास के लिये भी आवश्यक-गुप्ता

For Detailed News

पंचकूला, 16 मई- प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी हरियाणा में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को भव्य रूप में आयोजित करने के लिये तैयारियां अपने चरम पर है। इसी कड़ी में हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने पंचकूला में तीन दिवसीय विशाल योग विज्ञान शिविर का दीप प्रज्जवलित कर विधिवत शुभारंभ किया।


इस विशाल योग विज्ञान शिविर का आयोजन सैक्टर-5 पंचकूला स्थित परेड ग्राउंड में आजादी के अमृत महोत्त्सव के उपलक्ष्य में हरियाणा योग आयोग के चेयरमैन डाॅ. जयदीप आर्या के मार्गदर्शन में और जिला प्रशासन तथा आयुष विभाग पंचकूला के संयुक्त तत्वावधान में किया जा रहा है।


इस अवसर पर उपायुक्त श्री महावीर कौशिक भी उपस्थित थे। लगभग डेढ घंटे चले इस योग शिविर में श्री गुप्ता व श्री महावीर कौशिक ने विभिन्न योगासन कर, वहां उपस्थित लोगों को भी योग के लिये प्रेरित किया।  
श्री गुप्ता ने कहा कि इस योग विज्ञान शिविर का आयोजन आगामी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारी एवं योग को जन-जन तक पंहुचाने के लिये किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि योग का अर्थ है जोड़ना और इसी की सार्थकता का परिचय आज जिला की योग संस्थाओं, सरकारी विभागों, प्राईवेट संस्थाओं, गुरूकुल एवं आमजन ने एक साथ मिलकर, एक जैसा अभ्यास कर सभी को दिया और दैनिक रूप से योग करने का संकल्प लिया। उन्होंने कहा कि योग ही जीवन है और योग केवल शारीरिक अभ्यास ना होकर मानसिक, बौद्धिक एवं अध्यात्मिक विकास है। स्वास्थ्य के लिये निरोगी काया और निरोगी काया के लिये योग आवश्यक है।

https://propertyliquid.com/


योग के महत्व पर प्रकाश डालते हुये श्री गुप्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने विश्व में योग को एक अलग पहचान दिलवाई है। श्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों के परिणामस्वरूप यूएनओ ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया और वर्तमान में लगभग 177 देश इस दिन योगाभ्यास कर, योग का प्रचार प्रसार कर रहे है। उन्होंने आह्वान किया सभी लोग योग को अपने जीवन का हिस्सा बनाये और प्रतिदिन चाहे योगा सेंटर, स्कूल, काॅलेज व अन्य खुले स्थानों पर योगाभ्यास करें। इस अवसर पर उन्होंने आज के कार्यक्रम में आईटीबीपी के जवानों के द्वारा किये गये योगाभ्यास के लिये उन्हें शुभकामनायें दी। उन्होंने कहा कि योग से अनुशासन आता है और जिस प्रकार आईटीबीपी के जवानों ने योग क्रियायें करते समय अनुशासन का परिचय दिया है, वह सराहनीय है।


श्री गुप्ता ने विशाल योग विज्ञान शिविर के सह आयोजक भारत स्वाभिमान, इंडियन योगा एसोसिएशन, पतजंलि योग समिति, भारतीय योग संस्थान, आरोग्य भारती, ब्रह्मकुमारी, आर्ट आॅफ लिविंग, क्रीड़ाभारती, भारत विकास परिषद्, आर्य समाज, गुरूकुल संस्थाओं का कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिये धन्यवाद किया। उन्होंने इस कार्यक्रम के आयोजन के लिये हरियाणा योगायोग, जिला प्रशासन तथा आयुष विभाग के प्रयासों की भी सराहना की।
उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता का योग शिविर में पंहुचने पर स्वागत और धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता का इस विशाल योग विज्ञान शिविर में पंहुचने से यहां आये सभी योग साधकों का हौंसला व मनोबल बढ़ा है। श्री महावीर कौशिक ने आईटीबीपी के जवानों के साथ साथ अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों का भी धन्यवाद किया, जिन्होंने भारी संख्या में पंहुचकर इस कार्यक्रम को सफल बनाया और जीवन में योग की सार्थकता का संदेश दिया। उन्होंने कहा कि यह तीन दिवसीय योग शिविर 21 जून को आयोजित होने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियों के रूप में आयोजित किया जा रहा है ताकि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को भव्य रूप में मनाया जा सके।


इसके पश्चात श्री महावीर कौशिक ने विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता को तुलसी का पौधा देकर सम्मानित किया।


इससे पूर्व कार्यक्रम के आरंभ में राजकीय योग महाविद्यालय सेक्टर-23 चंडीगढ के योग प्रशिक्षक श्री रोशन लाल ने योग प्रोटोकाॅल करवाया। शिविर में लोगों को विभिन्न योग क्रियायें व आसन जैसे वृक्षासन, ताड़ासन, अर्धचक्रासन, त्रिकोणासन, भद्रासन, वज्रासन, अर्धअष्टासन, शशांकासन, उत्तानमंडुक, शवासन, भामरी इत्यादी करवायें गये और साथ ही इनकी महत्वत्ता के बारे में भी जानकारी दी गई। इस अवसर पर जिला योगासन स्पोर्टस के बच्चों द्वारा योग क्रियायें की गई, जिसे लोगों ने खूब सराहा।


इस मौके पर एसडीएम ऋचा राठी, एसीपी राजकुमार, हरियाणा योग आयोग के रजिस्ट्रार हरिशचंद्र, प्राथमिक प्रशिक्षण केंद्र भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल से महानिरीक्षक ईश्वर सिंह दुहन, जिला आयुर्वेद अधिकारी दलीप मिश्रा, बीजेपी के जिला उपाध्यक्ष उमेश सूद, महामंत्री परमजीत कौर, पार्षद नरेंद्र लुबाना सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

OFFICE ORDER OF DEAN STUDENT WELFARE

मुख्यमंत्री मनोहर लाल सिरसा जिला को देंगे करोड़ों रुपये की परियोजनाओं की सौगात

– 18 मई को सीडीएलयू के मल्टीपर्पज हॉल में करेंगे परियोजनाओं का शिलान्यास व उदï्घाटन


– उपायुक्त अजय सिंह तोमर ने मुख्यमंत्री के सिरसा दौरे के मद्देनजर जिला प्रशासन के अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश


सिरसा, 16 मई।

For Detailed News


उपायुक्त अजय सिंह तोमर ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के 18 मई के सिरसा दौरे के मद्देनजर सोमवार को अपने कैंप कार्यालय में जिला प्रशासन के अधिकारियों की बैठक ली और जरूरी व्यवस्थाओं के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उपायुक्त ने बताया कि मुख्यमंत्री इस दिन विभिन्न करोड़ों रुपये की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन एवं शिलान्यास करेंगे। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने, पुलिस विभाग को सुरक्षा व्यवस्था, विद्युत निगम के अधिकारियों को सुचारु बिजली व्यवस्था, जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को पीने के पानी की व्यवस्था एवं अन्य विभागों को भी आवश्यक इंतजाम करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त सुशील कुमार, एसडीएम जयवीर यादव, नगराधीश अजय सिंह व विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


मुख्यमंत्री 343 करोड़ 21 लाख के 42 प्रोजेक्ट का करेंगे उद्घाटन एवं शिलान्यास


उपायुक्त अजय सिंह तोमर ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल 18 मई को चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय सिरसा के मल्टीपर्पज हॉल में करीब 343 करोड़ 21 लाख रुपये की 42 विकास परियोजनाओं की सौगात देंगे, जिसमें 50 करोड़ 74 लाख रुपये के 15 प्रोजेक्ट का उदïï्घाटन करेंगे तथा 292 करोड़ 47 लाख रुपये के 27 प्रोजेक्ट का शिलान्यास करेंगे। इसमें लोक निर्माण विभाग के 9 प्रोजेक्ट, जनस्वास्थ्य विभाग के 4, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के 6, सिंचाई विभाग के 7, हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के 9, शिक्षा विभाग का एक, चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय का एक तथा पंचायती राज विभाग के 5 प्रोजेक्ट शामिल हैं।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल जिन 15 प्रोजेक्ट का उदïï्घाटन करेंगे, उनमें गांव मंगालिया में 394.53 लाख रुपये, गांव ममेरा में 462.86 लाख रुपये, गांव बकरियांवाली में 521.94 लाख रुपये तथा गांव अरनियांवाली में 311.20 लाख रुपये की लागत से बने 33 केवी सब स्टेशन का उद्घाटन करेंगे। इसी प्रकार 397.36 लाख रुपये की लागत से गांव डिंग व 360 लाख रुपये की लागत से गांव कागदाना में बनी पीएचसी तथा 873.89 लाख रुपये की लागत से रानियां में बनी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का उद्घाटन करेंगे। इसके अलावा 680.85 लाख रुपये की लागत से गांव जंडवाला से नुहियांवाली व कालुआना से सहारणी तक बनी सड़क का उद्घाटन करेंगे। साथ ही 206.86 लाख रुपये की लागत से बनी नुहियांवाली से घुंकावाली-खाई शेरगढ़ लिंक रोड, 153.36 लाख रुपये की लागत से बनी गांव खोखर से हेबुआना लिंक रोड, 220 लाख रुपये की लागत से बनी गांव राजपुरा माजरा से लखुआना लिंक रोड, 143.38 लाख रुपये की लागत से गांव केवल में बने परचेज सेंटर का उद्घाटन करेंगे। इसी प्रकार 100.94 लाख रुपये की लागत से राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल अबूबशहर में नए भवन, 149.20 लाख रुपये की लागत से गांव राजपुरा माजरा में बने स्वतंत्र केनाल बेस्ड वॉटर वक्र्स तथा 97.70 लाख रुपये की लागत से गांव मत्तड़ में जल जीवन मिशन के तहत पानी के कनेक्शन संबंधी कार्यों का उद्घाटन करेंगे।


मुख्यमंत्री मनोहर लाल जिन 27 प्रोजेक्ट का शिलान्यास करेंगे, उनमें 1372.17 लाख रुपये की लागत से गांव पनिहारी से अलिकां रोड पर घग्गर नदी के दोनों और एचएल ब्रिज के निर्माण कार्य का शिलान्यास करेंगे। इसी प्रकार 3145.73 लाख रुपये की लागत से गांव खारियां से ओटू तक सड़क निर्माण, 1433.38 लाख रुपये की लागत से जिला सिरसा में सात नई सड़कों के निर्माण 6059 लाख रुपये की लागत से 32 सड़कों के सुधारीकरण, 6800.26 लाख रुपये की लागत से सिरसा-ओटू-रानियां-डबवाली रोड के विस्तार व मजबूतीकरण कार्य का शिलान्यास करेंगे। इसके अलावा 178.09 लाख रुपये की लागत से तरकांवाली से माखोसरानी लिंक रोड, 231.73 लाख रुपये की लागत से तरकावाली से कागदाना लिंक रोड, 127.06 लाख रुपये की लागत से तरकावाली से गिगोरानी लिंक रोड के लिए 277.15 लाख रुपये की लागत खारियां से ओढां वाया घुंकावाली लिंक रोड के निर्माण कार्य का शिलान्यास करेंगे। इसी प्रकार 172.49 लाख रुपये की लागत से गांव धिंगतानियां से नेजियाखेड़ा सड़क के विस्तार व मजबूतीकरण, 519.10 लाख रुपये की लागत से गांव मौजदीन व 735.34 लाख रुपये की लागत से गांव गोरीवाला में 33केवी सब स्टेशन का शिलान्यास करेंगे। साथ ही 399.56 लाख रुपये की लागत से चोरमार माइनर, 343.86 लाख रुपये की लागत से ओढां माइनर, 180 लाख रुपये की लागत से मुन्नांवाली माइनर, 364.47 लाख रुपये की लागत से मैथ माइनर, 261.42 लाख रुपये की लागत से गुरुसर माइनर, 144.14 लाख रुपये की लागत से लोहगढ प्रथम डिस्ट्रीब्यूटरी, 134.53 लाख रुपये की लागत से जंडवाला सब माइनर के सुधारीकरण कार्य का शिलान्यास करेंगे।

https://propertyliquid.com/


इसी प्रकार 198.65 लाख रुपये की लागत से गांव कुक्करथाना में वाटर वक्र्स, गांव झुट्ठीखेड़ा में 198.90 लाख रुपये की लागत से वाटर वक्र्स व एफएचटीसी कार्य, 1923.36 लाख रुपये की लागत से चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय में टीचिंग ब्लॉक नंबर पांच, 3626.05 लाख रुपये की लागत से जिला परिषद भवन, 60.42 लाख रुपये की लागत से गांव तरकांवाली में तालाब, 217.49 लाख रुपये की लागत से गांव मटदादू से गंगा रोड तक गली निर्माण, 71.42 लाख रुपये की लागत से गांव लंबी में व 72.12 लाख रुपये की लागत से गांव लखुआना में ग्रे वाटर मैनेजमेंट कार्य का शिलान्यास करेंगे।