राम मंदिर में आज लगाया जाएगा फ्री हेल्थ चेकअप कैंप

महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा साइबर क्राइम से बच्चों की सुरक्षा हेतु एक दिवसीय कार्यशाला का किया गया आयोजन

For Detailed

पंचकूला, 17 नवंबर- महिला एवं बाल विकास विभाग पंचकुला द्वारा जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती बलजीत कौर के मार्गदर्शन में लघु सचिवालय में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।


 कार्यवाहक जिला बाल सरंक्षण अधिकारी कुसुम शर्मा ने बताया की जिला पंचकुला में साइबर क्राइम से बच्चों की सुरक्षा हेतु कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमे पीपीटी के माध्यम से उपस्थित सभी स्कूलों के प्रधानचार्य को साइबर क्राइम-बच्चों की सुरक्षा के बारे में जागरूक किया गया।


इस अवसर पर सब इस्पेक्टर रघुवीर सिंह ने बताया की यदि आप भी अपनी दिनचर्या के व्यवसाय से जुड़े अधिकतम काम इंटरनेट के जरिए करते हैं तो साइबर क्राइम के बारे में जानना आपके लिए बेहद आवश्यक है, क्योंकि इंटरनेट ही एक ऐसा जरिया है जो देश विदेश मे ंबैठे लोगों को आपस मे ं जोड़ने और व्यवसाय को बढ़ाने का काम करता है। ऐसे में धीरे-धीरे साइबर क्राइम भी बढ़ता जा रहा है।  यदि सरल शब्दो ंमे ंबात की जाए तो साइबर क्राइम एक ऐसा क्राइम है जिसमे ंकुछ अपराधी आपके फोन और इंटरनेट से कुछ अलग प्रकार के सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके साइबर क्राइम को अंजाम देते है।.साइबर क्राइम के अंतर्गत अपराधी आपके फोन या लैपटॉप के सॉफ्टवेयर से अपने सॉफ्टवेयर को जोड़ देते है ंऔर उसके बाद आपके बिजनेस से जुड़ी सभी जानकारी-बैंक की जानकारी प्राप्त कर अपराध को अंजाम देते है।


. रिर्सोस पर्सन श्रीमती निधि मलिक ने बताया कि साइबर क्राइम के तहत अपराधी आपकी निजी पहचान तक चुरा लेते हैं और इसी अपराध के तहत छोटे बच्चों को भी गलत मार्ग दर्शन प्रदान करते हैं।  इन सबके अलावा कुछ अपराधी ऐसे भी होते हैं जो साइबर क्राइम के तहत देश में नफरत फैलाने का काम भी करते हैं। 

ps://propertyliquid.com/

राम मंदिर में आज लगाया जाएगा फ्री हेल्थ चेकअप कैंप

उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने जिला एवं उपमंडल स्तरीय विजिलेंस कमेटी की आयोजित बैठक की  करी अध्यक्षता

-समितियों का मुख्य उद्देश्य विभागों की कार्य प्रणाली में सुधार लाकर प्रशासनिक तंत्र को और अधिक मजबूत और प्रभावी बनाना है-उपायुक्त

For Detailed

पंचकूला, 17 नवंबर- उपायुक्त श्री महावीर कौशिक की अध्यक्ष्ता में आज लघु सचिवालय के सभागार में जिला एवं उपमंडल स्तरीय विजिलेंस कमेटी की बैठक आयोजित की गई, जिसमें उन्होंने कमेटी को प्राप्त शिकायतों पर की गई कार्रवाही की रिपोर्ट एक सप्ताह के अंदर अंदर प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।


उपायुक्त ने बताया कि जिला स्तरीय विजिलेंस कमेटी का गठन अतिरिक्त उपायुक्त की अध्यक्ष्ता में किया गया है। जबकि उपमंडल स्तरीय विजिलेंस कमेटी पंचकूला और कालका का गठन संबंधित एसडीएम की अध्यक्षता में किया गया हैं।


उन्होंने बताया कि इन समितियों का मुख्य उद्देश्य भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए कार्य प्रणाली और प्रक्रिया में सुधार के उपायों को अपनाकर विभागों के विभिन्न कार्यों और गतिविधियों की जांच करके प्रशासनिक तंत्र को और अधिक मजबूत और प्रभावी बनाना है। उन्होंने जिला स्तरीय कमेटी को 15 दिन में कम से कम एक बार और उपमंडल स्तरीय विजिलेंस कमेटी को सप्ताह में कम से कम एक बार अपने अधीनस्त कार्यालयों और क्षेत्रों में औचक निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।


उन्होंने निरीक्षण के दौरान उक्त समितियां को उचित प्रक्रिया को अपनाने और सरकार के सभी प्रासंगिक कानूनों, नियमों, विनियमों और निर्देशों की अक्षरशः पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। उन्होंने ये भी निर्देश दिये कि समितियंा अपने अपने क्षेत्रों में चल रहे निर्माण कार्यों जैसे सड़क निर्माण, भवन निर्माण आदि के सैंपल गुणवत्ता की जांच के लिये लैंब में भेजे और यदि गुणवत्ता से समझौता पाया जाता है तो संबंधित के विरूद्ध कार्रवाही करने की सिफारिश करते हुये उन्हें रिपोर्ट प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा कि समिति के अध्यक्ष के पास गुणवत्ता जांच हेतू नमूने भेजने के लिये प्रयोगशाला के चयन करने का अधिकार होगा।


इस अवसर पर एसडीएम कालका रूचि सिंह बेदी, नगराधीश गौरव चैहान, लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता गौरव जैन, जनस्वास्थ्य अभियंत्रिकी विभाग के कार्यकारी अभियंता विकास लाठर, सिंचाई एवं जलसंसाधन विभाग के कार्यकारी अभियंता अनुराग गोयल, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के कार्यकारी अभियंता एनके पायल सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

ps://propertyliquid.com/

राम मंदिर में आज लगाया जाएगा फ्री हेल्थ चेकअप कैंप

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ने सेक्टर-17 के सामुदायिक केंद्र में लाला लाजपतराय की प्रतिमा का किया अनावरण

-श्री गुप्ता ने लाइब्रेरी के लिये 2 लाख रुपये की राशि देने की करी घोषणा
-देश की आजादी के लिये शहादत देने वाले ’शेर-ए-पंजाब’ लाला लाजपतराय को श्री गुप्ता ने किया नमन
-लाला लाजपतराय लाल, बाल और पाल के नाम से थे प्रसिद्ध-गुप्ता

For Detailed

पंचकूला, 17 नवंबर- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने लाला लाजपतराय जी के शहीदी दिवस के अवसर पर आज पंचकूला के सेक्टर-17 स्थित लाला लाजपत राय सामुदायिक केंद्र में लाला लाजपत राय की प्रतिमा का विधिवत रूप से हवन यज्ञ कर अनावरण किया। इस अवसर पर श्री गुप्ता ने सामुदायिक केंद्र  की लाइब्रेरी के लिये 2 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की।


इस अवसर पर नगर निगम महापौर श्री कुलभूषण गोयल व नगर निगम आयुक्त विरेंद्र लाठर भी उपस्थित थे।


अपने संबोधन में श्री गुप्ता ने कहा कि देश की आजादी के लिये शहादत देने वाले ’शेर-ए-पंजाब’ लाला लाजपतराय को वे नमन करते है।  लाला लाजपत राय जी  त्याग, तपस्या की एक आदर्श मूर्त रहे है। लाला लाजपतराय जी का जन्म पंजाब के मोगा जिले में 28 जनवरी 1865 को हुआ था। उनकी शहादत की बदौलत आज भारत के लोग आजादी की खुली हवा में सांस ले रहे है। लाला लाज पतराय को लाल बाल और पाल के नाम से जाना जाता है। बाल गंगाधर तिलक, विपिन चंद्रपाल और लाला जी की तिगड़ी ने युवाओं में अपने विचारों और देशभक्ति से देश के प्रति लड़ने की प्रेरणा जागृत की। उन्होंने कहा कि भारत की स्वाधीनता के लिये  14 से 18 वर्ष के हज़ारों वीर क्रांतिकारियों ने भरी जवानी में अपने प्राणों की आहुति दें दी। उन्होंने स्वामी दयानंद सरस्वती के साथ मिलकर आर्य समाज को देश में लोकप्रिय बना दिया।


उन्होंने कहा कि 30 अक्तूबर 1928 को लाला लाजपत राय जी ने देश के लोगों के साथ साइमन कमीशन के विरूद्ध एक विशाल प्रदर्शन किया, इस प्रदर्शन के दौरान लाला जी अंग्रेजों द्वारा की गई लाठीचार्ज से घायल हो गये। उन्होनंे घायल अवस्था में कहा कि मेरे शरीर पर पड़ी एक एक लाठी ब्रिटिश सरकार के ताबूत में कील का काम करेगी। 17 नंवबर 1928 को इन्हीं चोटो की वजह से लाला जी शहीद हो गये। लाला जी की मृत्यु से सारा देश अंग्रेजों के विरूद्ध उठ खड़ा हुआ। वीर क्रंातिकारी चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, राजगुरू व सुखदेव सहित अन्य क्रांतिकारियों ने लाला जी की लाठीचार्ज से हुई शहादत का बदला लेने का निर्णय लिया।
श्री गुप्ता ने कहा कि 17 दिसंबर 1928 को लाला जी की मौत के ठीक एक महीने बाद वीर क्रांतिकारियों ने ब्रिटिश पुलिस के अफसर सांडर्स को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया और लाला जी की मौत का बदला ले लिया। शहीद लाला जी के बलिदान के 20 वर्ष के भीतर ही ब्रिटिश समा्राज्य का सूर्यास्त हो गया।


इस अवसर पर प्रसिद्ध प्रो. एवं साहित्यकार एमएम जुनेजा, सेक्टर-17 की रेजीडेंस वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान डीपी सोनी, डीपी सिंगल, वरिष्ठ बीजेपी नेता वीके नैय्यर, बीजेपी के जिला करनाल प्रभारी दीपक शर्मा, शिवालिक बोर्ड के चेयरमैन ओमप्रकाश देवीनगर, युवा प्रदेश महामंत्री योगेंद्र शर्मा, बीजेपी नेत्री अनु कुमारी, बुद्धिजीवि प्रकोष्ठ के संयोजक चमनलाल कौशिक, पार्षद रितु गोयल, नरेंद्र लुबाना, हरेंद्र मलिक, सुमित सिंघला, राकेश वाल्मिकी, भगत सिंह मंच के प्रधान जगदीश भगत सिंह सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

ps://propertyliquid.com/

राम मंदिर में आज लगाया जाएगा फ्री हेल्थ चेकअप कैंप

स्वास्थ्य विभाग और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन पंचकूला द्वारा यवनिका पार्क सेक्टर-5 में मनाया गया विश्व मधुमेह दिवस

For Detailed

पंचकूला, 17 नवंबर- स्वास्थ्य विभाग और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन पंचकूला द्वारा सिविल सर्जन डाॅ मुक्ता कुमार की अध्यक्षता में और डिप्टी सिविल सर्जन डाॅ मोनिका कौड़ा की उपस्थिति में यवनिका पार्क सेक्टर-5 में विश्व मधुमेह दिवस मनाया गया।


डाॅ मोनिका कौडा ने कहा कि मधुमेह ह्दय रोग, अंधपन, गुर्दे की विफलता, निचले अंग विच्छेदन आदि का एक प्रमुख कारण है, जो काफी मृत्यु दर और रूगणता का कारण है। रक्त शर्करा, रक्तचाप और कोलेस्ट्राॅल के स्तर को यथासंभव सामान्य के करीब बनाये रखकर इन जटिलताओं को रोका जा सकता है। वर्तमान परिदृश्य में, मधुमेह कोविड-19 के अधिक गंभीर रूप से जुड़ा एक जोखिम कारक है और इस बात के उभरते प्रमाण है कि मधुमेह और कोविड के बीच यह संबंध दविदिश है।


उन्होंने बताया कि हर साल 14 नवंबर डब्लयूडीडी के रूप में मनाया जाता है। दुनियाभर में मधुमेह से पीड़ित लाखों लोगों की मधुमेह देखभाल तक पंहुच नहीं है और मधुमेह वाले लोगों को जटिलताओं से बचने के लिये, उनकी स्थिति का प्रबंधन करने के लिये निरंतर देखभाल और सहायता की आवश्यकता होती है। इस वर्ष डब्ल्यूडीडी का थीम था  ’’एक्सेस टू डायबिटीज केयर-अगर अभी नही तो कब’’
उन्होंने बताया कि मधुमेह और उच्च रक्तचाप सहित आम एनसीडी पर जनता के बीच जागरूकता पैदा करने के लिये ई-रिक्शा माउंटेड माइकिंग सेवाओं का उपयोग किया गया। सामान्य रक्त शर्करा के स्तर को बनाये रखने, नियमित उपचार और रोग की दीर्घकालिक जटिलताओं के मूल्यांकन के महत्व पर जोर देने के लिये मधुमेह जोखिम कारकों, संकेत और लक्षण और निवारक उपायों पर बैनर प्रदर्शित किये गये । मधुमेह और उच्च रक्तचाप के लिये सौ से अधिक लाभर्थियों की जांच की गई। उप सिविल सर्जन, डाॅ मोनिका कौडा और डाॅ शिल्पा सिंह, जिला कार्यक्रम समन्वयक ने उच्च रक्तचाप या बढ़े हुये ब्लड शुगर मार्कर वाले लोगों को मौके पर ही परामर्श दिया। डाॅ मोनिका ने सिविल अस्पताल सेक्टर-6 में आने वाले सभी मरीजों के लिये एनसीडी क्लीनिक संचालित होने की भी जानकारी दी। वरिष्ठ नागरिकों को सिविल अस्पताल में चल रहे ’वरिष्ठ नागरिक काॅर्नर’ के बारे में भी बताया गया कि कैसे एक जगह पर वरिष्ठ नागरिक, पंजीकरण से लेकर डाॅक्टरों से परामर्श और प्रयोगशाला जांच के लिये नमूने एकत्र करने तक सभी सेवाओं का लाभ उठा सकते है।

ps://propertyliquid.com/

राम मंदिर में आज लगाया जाएगा फ्री हेल्थ चेकअप कैंप

खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2022 के लिए जिला स्तरीय चयन ट्रायल 19 व 20 नवंबर को ताऊ देवी लाल खेल परिसर में किये जायेंगे आयोजित

For Detailed

पंचकूला, 17 नवंबर- खेलो इंडिया यूथ गेम्स 2022 का आयोजन 31 जनवरी से 11 फरवरी 2023 तक किया जाना प्रस्तावित है । खेलो इडिया यूथ गेम्स से पूर्व 27 खेल विधाओं में तौर देवीलाल खेल परिसर, सेक्टर-3 में जिला स्तरीय चयन ट्रायल आयोजित किये जायेंगे।


इस संबंध में जानकारी देते हुये जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी सुधा भसीन ने बताया कि इन चयन ट्रायल में भाग लेने वाले खिलाड़ी का जन्म 1 जनवरी 2004 को या इसके बाद हुआ हो अर्थात आयु 18 वर्ष से कम होनी चाहिये। 26 खेलों में जिला स्तरीय चयन ट्रायल 19 नवंबर को प्रात 8 बजे तथा एथलेटिक खेल के चयन ट्रायल 20 नवंबर को प्रात 8 बजे ताउ देवी लाल खेल परिसर में आयोजित किये जायेंगे।


उन्होंने बताया कि खेलो इडिया यूथ गेम्स से पूर्व 27 खेलों में आरचरी, एथलैटिक्स, बैडमिंटन, बास्केटबाल, बाक्सिंग, साइकिलिंग, फुटबाल, जिम्नास्टिक, हाकी, जूडो, कबड्डी, खो-खो, शूटिंग, तैराकी, टेबल टैनिस, टेनिस, वालीबाल, वेटलिफ्टिंग, कुश्ती, गटका, कलारीप्पयाटू, मलख्म्भ, थंग-ता, योगासन, फेंसिंग, क्याकिंग व कनोईंग और रोविंग का ट्रायल लिया जायेगा।


उन्होंने बताया कि  चयनित खिलाड़ी विभिन्न जिलों में विभिन्न खेलों में आयोजित होने वाली हरियाणा राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेंगे। जिला स्तरीय चयन ट्रायल व हरियाणा राज्य खेल प्रतियोगिता में भाग लेने के लिये खिलाड़ी के पास पंचकूला का रिहायशी प्रमाण पत्र, जन्म तिथि प्रमाण पत्र, आधार कार्ड व मैट्रिकुलेट सर्टीफिकेट होना आवश्यक है।

ps://propertyliquid.com/