कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

भारत में हर वर्ष 15 से 20 लाख लोग ब्रेन स्टोक से पीडि़त : डा. गौरव जैन

ब्रेन स्ट्रोक के इलाज की आधुनिक तकनीक मैकेनिकल थ्रोम्बैक्टॉमी अब अल्केमिस्ट अस्पताल पंचकूला में उपलब्ध: डा. अमनदीप सिंह

ब्रेन स्ट्रोक मरीज को ‘स्ट्रोक रेडी अस्पताल’ में ले जाना जरूरी: डा. मनीष बुद्धिराजा


90 प्रतिशत स्ट्रोक 10 टालने योगय जोखिम से संबंधित : डा. प्रशांत मसकारा

For Detailed News-


चंडीगढ़, 28 अक्तूबर (): अल्केमिस्ट तथा ओजस अस्पताल पंचकूला के डाक्टरों की टीम ने विश्व स्ट्रोक दिवस के अवसर पर ब्रेन स्ट्रोक (दिमागी दौरे) तथा जीवन शैली संबंधी जागरूकता पैदा करने के लिए मीडिया को संबोधित किया। इस अवसर पर न्यूरोलॉजी के कंस्लटेंट डा. गौरव जैन, इंटरवेंशनल रेडियोलॉजी के सीनियर कंस्लटेंट डा. अमनदीप सिंह, न्यूरो सर्जरी के कंस्लटेंट डा. मुनीष बुद्धिराजा, न्यूरोलॉजी के कंस्लटेंट डा. राहुल महाजन तथा न्यूरो सर्जरी कंस्लटेंट डा. प्रशांत मसकारा मौजूद थे।


डा. गौरव जैन ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत स्ट्रोक एक नई महामारी के रूप में उभर रहा है, क्योंकि देश भर में हर वर्ष 15 से 20 लाख लोग इस बीमारी से पीडि़त होते हैं। असल गिनती इससे कहीं अधिक है, क्योंकि अधिकांश मरीज अस्पतालों या क्लीनिकों तक पहुंचते ही नहीं। उन्होंने बताया कि भारत में स्ट्रोक के रोजाना 3000-4000 केस सामने आते हैं, जिनमें से मुश्किल से 2-3 प्रतिशत का इलाज होता है। पूरे विश्व में एक लाख की आबादी के पीछे हर वर्ष 60-100 केस सामने आते हैं, जबकि भारत में एक लाख की आबादी के पीछे 140-145 केस सामने आते हैं। भारत में स्ट्रोक के मामलों के बढऩे का कारण जागरूकता की कमी है। उन्होंने यह भी बताया कि देश में हर वर्ष जितनी मौतें स्ट्रोक से होती हैं, इतनी एडज, तपदिक व मलेरिया से भी नहीं होती।

डा. गौरव ने यह भी बताया कि पूरी दुनिया में 60 प्रतिशत स्ट्रोक के मरीज सिर्फ भारत में है। बीते 4-5 दशकों दौरान इन केसों में 100 प्रतिशत इजाफा हुआ है।


डा. राहुल महाजन ने इस अवसर पर बोलते हुए कहा कि दिमाग का दौरा उस समय पड़ता है, जब दिमाग की किसी नाड़ी में खून का थक्का (कलॉट) आने या नाड़ी फटने के कारण दिमाग को रक्त की सप्लाई कम हो जाती है। उन्होंने बताया कि 87 प्रतिशत केस नाड़ी में कलॉट आने पर होते हैं, जिनका इलाज किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि स्ट्रोक के मामले में समय की बहुत ज्यादा अहमियत है। उन्होंने बताया कि दौरा पडऩे के बाद हर मिनट में दिमाग के 19 लाख सैल नकारा हो जाते हैं, इसलिए मरीज को तुरंत निकटवर्ती अस्पताल ले जाना चाहिए। उन्होंने बताया कि 5 प्रतिशत स्ट्रोक डायबिटिज (शुगर), उच्च रक्तचाप तथा अधिक कैलेस्ट्रोल के कारण होते हैं।

https://propertyliquid.com


डा. कर्नल अमनदीप सिंह ने पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कहा कि खून के थक्के (कलॉट) के कारण पड़े दौरे का एक टीका लगाकर उस समय इलाज किया जा सकता है। यह दवाई कलॉट को खत्म कर देती है। यह तभी संभव है, जो कलॉट छोटा हो तथा मरीज को दौरा पडऩे पर साढ़े चार घंटों के अंदर-अंदर माहिर डाक्टरों के पास ले जाया जाए। उन्होंने बताया कि अब नई तकनीक मैकेनिकल थ्रोम्बैक्टॉमी आने से 24 घंटे के अंदर मरीज का इलाज किया जा सकता है। यह नई आधुनिक तकनीक अल्कैमिस्ट तथा ओजस अस्पताल पंचकूला में उपलब्ध है। इस तकनीक द्वारा बिना चीरफाड़ किए सफल इलाज संभव है। उन्होंने बताया कि मरीज को अस्पताल पहुंचाना ही अहम नहीं, बल्कि अस्पताल भी ‘स्ट्रोक रेडी अस्पताल’ होना चाहिए।

डा. मनीष बुद्धिराजा ने कहा कि भारत संक्रमण व बिना संक्रमण वाली बीमारियों के दोहरे बोझ का सामना कर रहा है। उन्होंने बताया कि भारत में हर वर्ष ब्रेन स्ट्रोक के 15-20 लाख मरीज अस्पतालों में आते हैं तथा यह अचानक मौत तथा अधरंग का सबसे बड़ा कारण है। मुंह में से लार बहना या किसी अंग हाथ-पैर में कमजोरी महसूस होना या सुन्न हो जाना स्ट्रोक के मुख्य लक्ष्ण है। डा. प्रशांत मसकारा ने कहा कि भारत जैसे देश में मुश्किल से 3 प्रतिशत मरीजों को ही थ्रोम्बैक्टॉमी विधि से इलाज मिलता है।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

राष्ट्रीय एकता दिवस के उपलक्ष में जन औषधि मित्र सम्मेलन का किया गया आयोजन

– हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने मुख्यातिथि के रूप में की शिरकत


– हरियाणा में 220 जन ओषधि केंद्र खोले गए हैं, जिला पंचकूला के 2 जन औषधि केंद्र शामिल

For Detailed News-

पंचकूला, 29 अक्तूबर- राष्ट्रीय एकता सप्ताह के उपलक्ष में प्रधानमंत्री भारतीय जनओषधि परियोजना के तहत आज सेक्टर-6 जाट धर्मशाला परिसर में जन औषधि मित्र सम्मेलन का आयोजन किया गया। हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने इस कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की।


इस अवसर पर नगर निगम महापौर श्री कुलभूषण गोयल तथा डिप्टी सीएमओ अनुज बिश्नोई भी उपस्थित थे।


श्री गुप्ता ने अपने संबोधन में कहा कि राष्ट्रीय एकता सप्ताह लौह पुरूष बल्लभ भाई पटेल की जयंती के उपलक्ष्य में मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में सरदार बल्लभ भाई पटेल की दुनिया में सबसे उंची प्रतिमा का अनावरण किया था। सरदार बल्लभ भाई पटेल ने भारत के स्वतंत्रता संग्राम में देश की आजादी के लिये महत्वपूर्ण भूमिका निभाई भी। उन्होंने स्वतंत्र भारत के एकीकरण में मार्गदर्शन किया।


विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आज देश में गरीबों के उत्थान के लिये लगभग 500 से अधिक जन कल्याणकारी योजनायें चलाई जा रही हैं, जिनका देश के करोड़ों लोगों को लाभ मिल रहा है। इसी कड़ी में देश के 736 जिलों में लगभग 8400 भारतीय जन औषधि केंद्र खोले जा चुके है जबकि हरियाणा में 220 जन ओषधि केंद्र हरियाणा प्रदेश में खोले गए हैं, जिसमें जिला पंचकूला के 2 जन औषधि केंद्र शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इन जन ओषधि केन्द्रों में देश के करोड़ों लोग लाभान्वित हो रहे हैं।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि आज दवाई भी जीवन का हिस्सा बन गई है और हम रोजमर्रा की चीजों के साथ दवाई का भी खर्चा वहन कर रहे है। आज के इस आधुनिक दौर में लोग अनेकों बीमारियों का शिकार हो रहे है और दवाइयों में अपने घर के बजट का 25 प्रतिशत हिस्सा खर्च कर रहे है।  उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की सोच है कि समाज में खड़े पंक्ति में अंतिम गरीब व्यक्ति को जन औषधि केंद्रों का लाभ मिले और कोई भी व्यक्ति दवाइयों के अभाव से हताहत ना हो। उन्होंने कहा कि जन औषधि केंद्र खुलने से गरीब व जरूरतमंद व्यक्ति को कई दवाइयों पर 60 से 70 प्रतिशत तक धन की बचत होती है। कुछ लोगों का यह मानना है कि जन औषधि केंद्र पर सस्ती दवाइयां लेने से इन दवाइयों का असर बीमारियों पर कम होता है परंतु ऐसा नहीं है। जन औषधि केंद्र पर मिलने वाली सभी जेनरिक दवाइयां डब्ल्यूएचओ और जीएमपी प्रमाणित कंपनियों से खरीदी जाती है और इनका बीमारियों पर असर पूरी तरह से होता है।


इस कार्यक्रम के दौरान जन औषधि केंद्र परियोजना हरियाणा राज्य के नोडल अधिकारी ओपी वर्मा ने विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता को मोमेंटो देकर सम्मानित किया।


इस अवसर पर बीजेपी जिला उपाध्यक्ष उमेश सूद, बरवाला मंडलाध्यक्ष गौतम राणा, संदीप यादव, सेक्टर-6 के एमसी पार्षद सुरेश वर्मा, रितु गोयल, राकेश वाल्मिकी, जय कोशिक, राजेश कुमार, हरेंद्र मलिक, सेक्टर-6 के जनओषधिय केंद्र के संचालक अनिल गिल सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

त्यौहारों के मद्देनजर पंचकूला के खाद्य सुरक्षा अधिकारी डा0 गौरव शर्मा व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों ने शहर की विभिन्न मिठाई की दुकानों, दूध की डेयरियों, आदि का किया गया औचक निरीक्षण

– खाद्य पदार्थो के नमूने लेकर विश्लेषण के लिए करनाल स्थित खाद्य प्रयोगशाला में भेजे-खाद्य सुरक्षा अधिकारी


– दूषित व मिलावटी खाद्य पदार्थ/मिठाई बेचता पाया जाने पर संबंध्तिा दुकानदार के खिलाफ की जायेगी सख्त कार्यवाही-गौरव शर्मा  

For Detailed News-

पंचकूला, 29 अक्तूबर-     त्यौहारों के मद्देनजर पंचकूला के खाद्य सुरक्षा अधिकारी डा0 गौरव शर्मा अन्य स्वास्थ्य कर्मियों ने शहर की विभिन्न मिठाई की दुकानों, दूध की डेयरियों, किरयाणे की दुकानों व अन्य स्थानों जैसे कोल्ड स्टोर, खाद्य पदार्थ/मिठाई बनाने की फैक्ट्रीयों आदि का औचक निरीक्षण किया और और खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम, 2006 के तहत खाद्य पदार्थो के नमूने लेकर विश्लेषण के लिए भेजे गए।


इस मौके पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने न खाने योग्य पदार्थों को नष्ट करवाया तथा सभी मिठाई विक्रेताओं एवं निर्माताओं व अन्य खाद्य पदार्थ बेचने वाले दुकानदारों को ताजा व शुद्ध खाद्य पदार्थ बेचने की हिदायत की। इसके साथ-साथ सभी दुकानदारों को दूषित व बासी मिठाई न बेचने की चेतावनी दी गई ताकि यदि कोई भी दुकानदार दूषित व मिलावटी खाद्य पदार्थध्मिठाई बेचता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।

https://propertyliquid.com


पंचकूला की 3 दुकानों से खाद्य पदार्थों/मिठाइयों के लिए सेंपल


उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा किए गए निरीक्षण के दौरान बरवाला स्थित बीकानेर स्वीट्स से रसगुल्ले व खोया पेड़ा, मादू राम स्वीटस से रसगुल्ले तथा प्रभु स्वीट्स बरवाला से खोया के नमूने लेकर विश्लेषण के लिए भेजे गए हैं।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष में श्रीमती अरूणा आसफ अली महाविद्यालय कालका में मेगा शिविर का किया आयोजन

For Detailed News-

पचंकूला, 29 अक्तूबर- जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण पचंकूला द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष में श्रीमती अरूणा आसफ अली महाविद्यालय कालका में मेगा शिविर का आयोजन किया गया, जिसका उदघाटन हरियाणा राज्य विधिक सेवाएं प्राधिकरण के सदस्य सचिव श्री प्रमोद गोयल व जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण पंचकूला के अध्यक्ष एवं जिला व सत्र न्यायाधीश श्री दीपक गुप्ता ने किया।
आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष में आयोजित इस कार्यक्रम में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता, परविधिक स्वयं सेवक व पैनल अधिवक्ताओं ने बढ-चढकर भाग लिया।


इस अवसर पर समस्य सचिव श्री प्रमोद गोयल ने कहा कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कानूनी जागरूकता के साथजन सेवा में भी अहम योगदान दे रहा है।


इस शिविर का संचालन में स्काउट्स, एनसीसी के छात्र व अध्यापकों ने सक्रिय भूमिका निभाई। इस शिविर में यातायात पुलिस, स्वास्थ्य, शिक्षा, कल्याण, समाज कल्याण, जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक, श्रम विभाग, सीएससी, बिजली निगम, जिला रेडक्रास, महिला एवं बाल विकास विभाग, ग्रामीण स्वरोजगार विभाग, लीड बैंक आदि विभागों द्वारा स्टॉल लगा कर उनसे संबंधित योजनाओं की जानकारी दी और साथ ही योजनाओं का लाभ लेने के इच्छुक व्यक्तियों के ऑनलाइन व लिखित आवेदन करवाए। इन विभागों के कर्मचारियों ने सबकी शिकायतें भी ली हैं, जिसका समाधान जल्द ही करवाया जायेगा। शिविर में स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों ने रोगियों के स्वास्थ्य की जांच की व दवाइयां दी।

https://propertyliquid.com


इस अवसर पर रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया जिसमें 60 लोगों ने अपनी स्वेच्छा से रक्तदान किया। इसके अलावा नागरिक अस्पताल सेक्टर 6 के डॉक्टरों की टीम द्वारा 80 लोगों का कोरोना टीकाकरण किया गया।


इस मौके पर मुख्य दंडाधिकारी डॉ. कविता कंबोज, कालका की सिविल जज श्रीमती गीतांजलि, हरियाणा महिला आयोग की अध्यक्ष प्रीति भारद्वाज दलाल, कॉलेज की प्रिंसीपल प्रोमिला मलिक सहित काफी संख्या में लोग भी उपस्थित थे। 

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

Vigilance Awareness Week celebrations at CEDS, PU

Chandigarh October 29, 2021

For Detailed News-

Vigilance Awareness Week celebrations were organized by the Department of Community Education and Disability Studies, Panjab University, Chandigarh from October 26th – 29th,  2021. Different events were organized starting with” Integrity Pledge” on 26th October, 2021;  A signature campaign on 27th October, 2021; A Virtual Quiz Competition on 28th October, 2021 and culminated with a Webinar on 29th October, 2021.  The Webinar was organized on the theme “ How to get Unique Disability Identification(UDID) Card for person with disability”. 

            The Resource Person was Dr. H.P.S. Kang, Professor in the Department of University Centre for Instrumentation and Micro-electronics, Panjab University, Chandigarh.  He highlighted the importance of the UDID Card and gave hands on training on the process of making the UDID card.  This generated lot of interest among the participants. Around 100 participants attended the Webinar. This Webinar was organized under the patronage of our honorable Vice-Chancellor Prof. Raj Kumar.  He has always been a source of great inspiration and motivation.  This Webinar was organized in collaboration with Equal Opportunity Cell-Persons with Disability, Panjab University, Chandigarh and SAKSHAM Chandigarh. 

https://propertyliquid.com

            The Chairperson of the Department of Community Education and Disability Studies Prof. (Dr.) Navleen Kaur introduced the theme of the Webinar and the Resource Person.  Dr. Ramesh Kataria, Coordinator of EOC-PwDc, P.U., Chandigarh highlighted the achievements of the Cell.   Mr. Ravi Khurana from SAKSHAM Chandigarh apprised the participants about the achievements of their Organization. 

            Dr. Ramesh Kataria proposed a vote of thanks. The Vigilance week celebrations were successfully organized by the Department Faculty: Dr. Md. Saifur Rahman, Mr. Nitin Raj and Md. Taukir Alam.

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

अंतिम रिर्हसल के उपरांत पोलिंग पार्टियां चुनाव सामग्री लेकर बूथों के लिए हुई रवाना

-ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के 211 बूथों पर एक लाख 85 हजार 873 मतदाता करेंगे वोट, प्रात: 7 बजे से सायं 6 बजे तक होगा मतदान


सिरसा, 29 अक्टूबर।


ऐलनाबाद विधानसभा उप चुनाव 2021 के लिए 30 अक्टूबर को होने वाले मतदान के लिए पोलिंग पार्टियों को उनकी जिम्मेदारियों का अहसास करवाते हुए संबंधित बूथों के लिए रवाना कर दिया गया। चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय के डा. अंबेडकर लॉ भवन में ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के लिए मतदान में लगी पोलिंग पार्टियों को चुनाव सामग्री वितरण कर उन्हें निर्धारित बूथों के लिए रवाना किया। चुनाव को निप्पक्ष, शांतिपूर्वक सम्पन्न करवाने के उद्ेश्य से सभी प्रकार की व्यवस्था पुख्ता की गई हैं।

For Detailed News-


जिला निर्वाचन अधिकारी अनीश यादव ने पोलिंग पार्टियों को चुनाव सामग्री वितरण प्रक्रिया का स्वयं निरीक्षण किया और पोलिंग पार्टियों को मतदान प्रक्रिया में बरती जाने वाली सावधानियों तथा आयोग के निर्देशों के बारे में अवगत करवाते हुए चुनाव ड्यूटी को पूरी निष्ठा व ईमानदारी के साथ निभाने को कहा। इस दौरान सामान्य पर्यवेक्षक विश्राम मीना, उपायुक्त अनीश यादव, रिटर्निंग अधिकारी ऐलनाबाद नरेंद्र पाल मलिक, जिला परिषद के सीईओ वेद बेनीवाल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय के डा. अंबेडकर लॉ भवन में ऐलनाबाद उप चुनाव में मतदान में लगी पोलिंग पार्टियों को ईवीएम, वीवीपैट सहित अन्य चुनाव सामग्री वितरित की गई। पोलिंग पार्टियों को चुनाव प्रक्रिया से संबंधित अंतिम रिहर्सल करवाकर चुनाव सामग्री का वितरण किया गया।
प्रात: 6 बजे मॉक पोल के बाद शुरू होगी मतदान प्रक्रिया


कल 30 अक्टूबर को प्रात: 7 बजे मतदान प्रक्रिया शुरू हो जाएगी, जोकि सायं 6 बजे तक चलेगी। मतदान के एक घंटे पूर्व यानि प्रात: 6 बजे मॉक पोल होगा, जोकि संबंधित प्रत्याशियों व पार्टियों के एजेंट की उपस्थिति में होगा। मॉक पोल के बाद एजेंटों के हस्ताक्षर उपरांत ही मतदान प्रक्रिया शुरू की जाएगी।


जिला के 211 बूथों पर एक लाख 85 हजार 873 मतदाता डालेंगे वोट


जिला निर्वाचन अधिकारी अनीश यादव ने बताया कि 30 अक्टूबर को ऐलनाबाद विधानसभा उप चुनाव की मतदान प्रक्रिया को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न करवाने के उद्देश्य से ऐलनाबाद एरिया में 211 बूथ बनाए गए है, इनमें से 121 बूथ संवेदनशील व अति संवेदनशील की श्रेणी में रखे गए है। मतदान प्रक्रिया निष्पक्ष व शांतिपूर्ण सुनिश्चित करने के लिए सभी 211 बूथ पर वेब कास्टिंग के जरिए लगातार निगरानी रखी जाएगी। इन बूथों पर ऐलनाबाद विधानसभा उप चुनाव में क्षेत्र के एक लाख 85 हजार 873 मतदाता अपना प्रतिनिधि चुनने के लिए मतदान करेंगे। इनमें 98 हजार 930 पुरुष मतदाता, 86 हजार 639 महिला मतदाता तथा 304 सर्विस वोटर शामिल हैं।


ऐलनाबाद शहर का 116 नंबर बूथ सखी व गांव मेहनाखेड़ा का बूथ नंबर 90 बनेगा मॉडल बूथ


आमजन को अधिक से अधिक मतदान के लिए प्रेरित करने बारे ऐलनाबाद शहर का बूथ नंबर 116 सखी बूथ व गांव मेहनाखेड़ा का बूथ नंबर 90 को मॉडल बूथ बनाया गया हैं। सखी बूथ पर पूरा स्टाफ महिला कर्मियों का ही रहेगा। मतदान करवाने से लेकर सुरक्षा व्यवस्था तक महिला स्टाफ की ड्यूटी रहेगी।

https://propertyliquid.com

बुजुर्गों व दिव्यांगों को मिलेगी वाहन की सुविधा


मतदान में दिव्यांगों व बुजुर्गों की अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने तथा उन्हें सहज व बिना बाधा के मतदान करवाने के उद्देश्य से नि:शुल्क वाहन व्यवस्था उपलब्ध रहेगी। मतदान केन्द्रों पर दिव्यांगों के लिए सुविधाओं के अलावा घर से बूथ तक लाने व मतदान के उपरांत वापिस घर छोडऩे के लिए प्रशासन द्वारा विशेष वाहनों की व्यवस्था की गई है। इन वाहनों में दिव्यांगों की सुविधा के लिए व्हील चेयर की सुविधा के साथ-साथ एक निरीक्षक की भी ड्यूटी लगाई गई है।