कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

Kirron Kher dedicated community centre at sector 38 C

For Detailed News-

Chandigarh, December 31:- Smt. Kirron Kher, Member Parliament, UT, Chandigarh has dedicated the Community centre in sector 38-C, here today in the presence of Sh. Ravi Kant Sharma, Mayor, Ms. Anindita Mitra, IAS, Commissioner, Municipal Corporation Chandigarh, Sh. Arun Sood, Ex Mayor & area councilor, other prominent persons of the area.

While addressing the gathering, the Member Parliament said that with the provision of state of art Community Centres within the city limits, now citizens of Chandigarh can enjoy spacious locations near their residences. She said that provision of all kind of services and facilities i.e. Senior Citizens room, E-Sampark Centre, gymnasium, library are the best services provided in the community centre.

https://propertyliquid.com

Sh. Ravi Kant Sharma, Mayor said that the community centre has been provided at a cost of Rs. 4.64 crores covering two storied building having area 1717 square meter. It accommodates multipurpose hall, kitchen & toilets at ground floor, bridegroom & bride room, dormitory, store & toilets at first floor. Moreover, the terrace at first floor above hall is accessible for recreation and social events.

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

PU VC Releases Calendar 2022

Chandigarh December 31, 2021

For Detailed News-

Panjab University (PU) Vice Chancellor Professor Raj Kumar today launched the Digital Calenader 2022 of Panjab University, Chandigarh.

Speaking on the occasion, Prof. Raj Kumar greeted the university teachers, officers, non teaching employees, alumni and students on the occasion of New Year. He wished them peace, joy and fulfilment in 2022.

While appreciating the initiative of launching digital calendar, Prof. Raj Kumar expressed his happiness that the University calendar that used to adorn the walls in the past will now adorn the mobile phones of all students and staff members. He said that the Digital Calendar of the University is in line with Prime Minister’s Vision of “Digital India” and can be accessed at click of a button on any smart phone. While the earlier physical version of University Calendar was sold at some fixed price, the digital avatar of the calendar will be available to anyone across the world, he added.

https://propertyliquid.com

PU Dean University Instructions Prof. V.R Sinha; Registrar and Finance Development Officer CA Vikram Nayyar; Controller of Examinations Dr. Jagat Bhushan, Dean Research Prof. S.K. Tomar; Director Public Relations Dr. Vineet Punia; SVC Dr. Muneeshwar Joshi and Manager  PU Press Mr. Jatinder Moudgil were also present on the occasion.

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

1 जनवरी 2022 से 15 से 18 वर्ष के बच्चों को पोर्टल पर करवाना होगा अपना रजिस्ट्रेशन

-स्कूली बच्चे अपने आई कार्ड से भी करवा सकेंगे कोविड टीकाकरण

For Detailed News-

पंचकूला, 31 दिसंबर- उपायुक्त श्री महावीर कौशिक की अध्यक्षता में कोविड-19 के बढ़ते हुये मामलों को लेकर लघु सचिवालय के सभागार में संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक आयोजित हुई।
इस अवसर पर नगराधीश सिमरनजीत कौर, स्वास्थ्य विभाग की डिप्टी सीएमओ और कोविड-19 इम्यूनाईजेशन की नोडल अधिकारी मीनू सासन भी उपस्थित थे।


बैठक में 15 से 18 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण की तैयारियों को लेकर चर्चा की गई। बैठक में बताया गया कि 15 से 18 साल के बच्चों को केवल कोवैक्सिन की डोज दी जायेगी। जिले की सभी सीएचसी और पीएचसी पर बच्चों का टीकाकरण किया जायेगा। कमांड अस्पताल पर टीकाकरण की यह सुविधा सिर्फ सैनिक व उनके परिजनों के लिये ही उपलब्ध रहेगी।


उन्होंने बताया कि 1 जनवरी से 15 से 18 वर्ष के बच्चों को पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के लिये आधार कार्ड आवश्यक होगा। स्कूली बच्चे अपना आई कार्ड दिखाकर भी कोविड-19 का टीकाकरण करवा सकेंगे। 3 जनवरी से पंजीकृत बच्चों का टीकाकरण किया जायेगा। उन्होंने बताया कि जिला में 15 से 18 वर्ष के लगभग 40 हजार बच्चे हैं, जिनको कोविड संकम्रण से बचाने के लिये रजिस्ट्रेशन के आधार पर कोवैक्सिन की डोज लगाई जायेगी।


उपायुक्त ने बैठक में उपस्थित सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों से अपील की कि वे जिलावासियों को कोविड टीकाकरण के लिये प्रोत्साहित करें ताकि आने वाली संभावित कोविड की तीसरी लहर से लोगों को सुरक्षित रखा जा सके और पंचकूला जिला शत प्रतिशत टीकाकरण की सूची में शामिल हो सके।  उन्होंने जिलावासियों से भी अपील की कि वे 15 से 18 वर्ष के अपने युवा बच्चों का टीकाकरण करवाये और कोविड के विरूद्ध इस लड़ाई में जिला प्रशासन का सहयोग करें।

https://propertyliquid.com


बैठक में पुलिस, आर्मी, स्वास्थ्य, शिक्षा, राजस्व, नगर निगम, बीडीपीओ पिंजौर व बरवाला, नवीन व नवीनीकरण उर्जा विभाग, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण और अन्य विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने टी-20 हैप-2021 टूर्नामेंट के पुरस्कार वितरण समारोह में की बतौर मुख्यातिथि शिरकत

-हरियाणा सरकार ने खिलाड़ियों के लिए खेल नीति बनाकर दिव्यांग खिलाड़ियों को भी सामान्य खिलाड़ियों के बराबर विश्व स्तरीय सुविधाएं करवाई उपलब्ध-दत्तात्रेय

-विजेता टीम को ट्राॅफी और एक लाख रुपये का नकद पुरस्कार देकर किया सम्मानित-दत्तात्रेय

For Detailed News-

पंचकूला, 31 दिसंबर- हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने कहा कि हरियाणा सरकार ने खेल प्रतिभाओं की पहचान कर दिव्यांग खिलाड़ियों को भी खेल नीति के तहत सामान्य खिलाड़ियों के बराबर सुविधाएं प्रदान की हैं।


श्री दत्तात्रेय आज सेक्टर-3 स्थित ताऊ देवीलाल खेल स्टेडियम में दिव्यांग प्रोफेशनल क्रिकेटर्स के टी-20 हैप-2021 टूर्नामेंट के पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्यातिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।
इस अवसर पर अंबाला लोकसभा सांसद श्री रतनलाल कटारिया, भिवानी के विधायक एवं फिजिकली चैलेंज्ड क्रिकेट एसोसिएशन आॅफ इंडिया (पी.सी.सी.ए.आई) के अध्यक्ष श्री घनश्याम सर्राफ और उपायुक्त श्री महावीर कौशिक भी उपस्थित थे। इस टूर्नामैंट में सभी राज्यों के 67 खिलाड़ियों ने भाग लिया और इन सभी खिलाड़ियों की चार टीमे आनन्द इलैवन, हार्ले इलैवन, प्रवीन इलैवन और रवि इलैवन बनाई गई थी। ये टीमें ऐसे व्यक्तियों के नाम पर बनाई गई जिन्होंने कोविड महामारी के दौरान 500 दिव्यांग खिलाड़ियों को पांच-पांच हजार रूपये की सहायता दी है।


उन्होंने कहा कि खेल प्रतिभाएं तराशने के लिए ”खेलो इण्डिया” कार्यक्रम शुरू किया गया है, जिससे खिलाड़ियो को प्रतिभा दिखाने का मौका मिला है। केन्द्र सरकार ने टोप्स कार्यक्रम भी शुरू किया है, जिसके तहत चुने हुए खिलाड़ियों को 5 लाख रुपये तक की सालाना आर्थिक सहायता दी जा रही है।


श्री दत्तात्रेय ने कहा कि दिव्यांग क्रिकेट टूर्नामैंट को महाकुंभ कहा जाए तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि उन्हें प्रसन्नता है कि सभी खेलों में ऑलम्पिक व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर हमारे खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस टूर्नामैंट में वर्ल्ड-कप विजेता टीम के खिलाड़ी विक्रांत, गुरूदास रावत व रविन्द्र गोपीनाथ ने भी भाग लिया।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश का नाम पहले पारम्परिक खेलों में जाना जाता था परंतु अब जैंटलमैन खेलों में भी प्रदेश के खिलाड़ियों ने अपनी अलग पहचान बनाई है। हरियाणा की एक प्रसिद्ध कहावत ‘देस्सों में देस हरियाणा, जित दूध-दही का खाणा’ का उल्लेख करते हुये उन्होंने कहा कि हमारे खिलाड़ियो ने खेल के क्षेत्र में अपनी उपलब्धियां से इस कहावत को सही साबित कर दिखाया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा का पैरालंपिक खेलों में एक स्वर्णिम इतिहास रहा है। टोक्यो पैरालंपिक में भारत ने कुल 19 पदक जीते हैं, इनमें 6 पदक हरियाणा के नाम हैं। इसी प्रकार से खिलाड़ियों ने सबसे अधिक पदक जीत कर प्रदेश का नाम रोशन किया है। उन्होनंे कहा कि हरियाणा देश का मात्र 2 प्रतिशत भू-भाग होते हुए खेलों का हब बना है और भारत का नाम रोशन किया।


श्री दत्तात्रेय ने कहा कि उन्हें सभी दिव्यांग युवाओं पर और भी गर्व है, जिन्होंने दूसरे खेलों के साथ-साथ क्रिकेट जैसी प्रतिस्पर्धाओं में उम्दा प्रदर्शन कर देशवासियों का दिल जीता है। इतना ही नहीं इंग्लैंड में हुए क्रिकेट टूर्नामैंट में वर्ल्ड-कप जीत कर भारत का नाम रोशन किया है। वे इन सभी खिलाड़ियों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएँ देते है।  


उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिव्यांग खिलाड़ियों के लिए कोच प्रशिक्षण सुविधा व सामान्य खिलाड़ियों के समान अन्य प्रोत्साहन देने वाली योजनाएं लागू की हैं। इन योजनाओं  के सार्थक परिणाम सामने आए हैं। इन योजनाओं व कार्यक्रमों का सबसे अधिक लाभ हरियाणा ने उठाया है। हरियाणा में दिव्यांगजन पैंशन योजना लागू की गई हैं, जिसके तहत उन्हें 2500 रूपये पैंशन दी जा रही है। इसी कारण दिव्यांग-जन सशक्तिकरण के लिए प्रदेश को राष्ट्रीय स्तर पर पुरस्कार भी मिल चुका है। इसके लिये वे विशेष तौर से मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल को बधाई देते है।


उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ने खिलाड़ियों के लिए खेल नीति बनाकर दिव्यांग खिलाड़ियों को भी सामान्य खिलाड़ियों के बराबर विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध करवाई हैं। हरियाणा सरकार की खेल नीति की न केवल देश में बल्कि विदेशों में भी सराहना हुई है। प्रदेश में उत्कृष्ट खिलाड़ियों के लिए सुरक्षित रोजगार सुनिश्चित करने के लिए नए नियम 2021 बनाये गए हैं, जिनके तहत 85 खिलाड़ियों को सरकारी नौकरियां भी दी जा चुकी हैं।


इस अवसर पर उन्होंने युवाओं से अपील है कि वे पढ़ाई के साथ-साथ खेलों से जुडें और खेलों को कैरियर के रूप में अपनाकर दृढ़ निश्चिय से आगे बढ़ें। सभी खिलाड़ी पूरे आत्मविश्वास और इच्छाशक्ति के साथ अपने खेलों में शत प्रतिशत दें।


इससे पूर्व अंबाला के सांसद श्री रतनलाल कटारिया ने संबोधित करते हुये राज्यपाल का इस कार्यक्रम में पधारने पर धन्यवाद किया। उन्होनंे कहा कि उन्हें सवा दो साल सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय संभालने का मौका मिला और इस अवधि में दिव्यांगों के कल्याण के लिये अनेक कल्याणकारी योजनायें लागू की गई।


इस अवसर पर हार्ले इलैवन और रवि इलैवन के बीच मैच आयोजित किया गया, जिसमें हार्ले इलैवन की टीम ने जीत हासिल की। श्री दत्तात्रेय ने विजेता टीम को ट्राॅफी और नकद पुरस्कार देकर सम्मानित किया। उन्होंने विजेता टीम के खिलाड़ियों को बधाई दी और जो खिलाड़ी जीत से वंचित रहे, उन्हें भी शुभकामनायें देते हुये भविष्य में और बेहतर प्रदर्शन करने के लिये प्रोत्साहित किया।


इस अवसर पर पुलिस उपायुक्त श्री मोहित हांडा, एसडीएम पंचकूला श्रीमती ऋचा राठी, फिजिकली चैलेंज्ड क्रिकेट एसोसिएशन आॅफ इंडिया के राज्य उपाध्यक्ष श्री रमेश सैनी, महासचिव श्री रवि चैहान, डिफरेंटली एबल्ड क्रिकेट काउंसल आॅफ इंडिया से श्री सुमित जैन, व्हील चेयर क्रिकेट एसोसिएशन के फाउंडर श्री अभय प्रताप, आईसीसीएल से श्री सीआर स्वामी, श्री महंत चरणदास महाराज, इंडियन रेडक्राॅस सोसायटी हरियाणा ब्रांच की वाईस चेयरमैन श्रीमती सुषमा गुप्ता, इंडियन रेडक्राॅस सोसायटी हरियाणा के महासचिव श्री डीआर शर्मा, पीसीसीएआई के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री अशोक कुमार भारद्वाज खिलाड़ी व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

श्री माता मनसा देवी मंदिर के प्रांगण में किया प्रश्नोत्तरी का आयोजन

पंचकूला, 31 दिसंबर- प्रादेशिक लोक संपर्क ब्यूरो चंडीगढ़  द्वारा चित्र प्रदर्शनी के दूसरे दिन माता मनसा देवी मंदिर के लंगर हाॅल में एक भारत श्रेष्ठ भारत के ऊपर एक प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया गया, जिसमें माता मनसा देवी मंदिर में निशुल्क पढ़ने आने वाले बच्चों ने भाग लिया।


माता मनसा देवी श्राईंन बोर्ड की सचिव शारदा प्रजापति ने बताया कि शिक्षिका संतोष और नोडल इंचार्ज रूस ने बच्चों को चित्र प्रदर्शनी का अवलोलन कराया। इंचार्ज रूस ने बच्चों को एक भारत श्रेष्ठ भारत के तहत सांझे राज्य  हरियाणा व तेलगांना राज्य की संस्कृति, खान-पान, स्मारक, प्रसिद्ध झीलें आदि के बारे जानकारी दी और उनसे जुड़े प्रश्न पूछें।


इस प्रतियोगिता में बच्चों ने कोरोना उपयुक्त व्यवहार अपनाते हुए बढ़चढ़ कर भाग लिया। सही जवाब देने वाले बच्चों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।


श्रीमती शारदा प्रजापति ने विजेताओं को बधाई दी और भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का आभार जताया कि सभी श्रद्धालुओं को एक भारत श्रेष्ठ भारत योजना के तहत हरियाणा और तेलंगाना की संस्कृति और सरकार की अनेकों योजनाओं बारे में जानने का अवसर मिला।


इस अवसर पर लंगर हाल की  नई इमारत में बच्चों की दौड़ का आयोजन भी करवाया गया, जिसमें पहली से सातवीं कक्षा के विद्यार्थियों ने भाग लिया, दौड में आये विजेता बच्चों को सम्मानित किया गया।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अकादमी सम्मानों की राशि में की वृद्धि- डाॅ. अमित कुमार अग्रवाल

-हरियाणा उर्दू अकादमी ने वर्ष 2019 व 2020 के वार्षिक सम्मानों की, करी घोषणा

For Detailed News-

पंचूकला, 31 दिसंबर- हरियाणा उर्दू अकादमी ने वर्ष 2019 व 2020 के वार्षिक सम्मानों की घोषणा कर दी है। ये सम्मान नये वर्ष के आरंभ में दिये जाने की योजना है।  


इस संबंध में जानकारी देते हुये मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव एवं सूचना, जन सम्पर्क और भाषा विभाग के महानिदेशक डाॅ. अमित कुमार अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री एवं अकादमी के अध्यक्ष श्री मनोहर लाल ने अकादमी सम्मानों की राशि में वृद्धि की घोषणा की है।


उन्होंने बताया कि दो वर्षों के सर्वोत्तम ‘फ़खे्र-हरियाणा’ सम्मान के लिए कुरूक्षेत्र के 94 वर्षीय प्रो॰ हिम्मत सिंह सिन्हा ‘नाज़िम’ और पानीपत के वरिष्ठ शायर डाॅ. कुमार पानीपती को देने का निर्णय लिया गया है। दोनों को पाँच-पाँच लाख रुपए की सम्मान राशि, स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति पत्र और अंग वस्त्र से सम्मानित किया जाएगा।


डाॅ. अग्रवाल ने बताया कि हाली सम्मान वर्ष 2019 के लिए डाॅ. क़मरूद्दीन ज़ाक़िर, नूह, (मेवात) को और वर्ष 2020 के लिए श्री कृष्ण कुमार तूर, (धर्मशाला) को देने का निर्णय लिया गया है। दोनों को तीन-तीन लाख रुपए की सम्मान राशि, स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति पत्र और अगं वस्त्र से सम्मानित किया जाएगा।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि कंवर महेन्द्र सिहं बेदी सम्मान वर्ष 2019 के लिए डाॅ. नसीरूद्दीन अज़हर, नूह, (मेवात), और वर्ष 2020 के लिए जनाब क़मर रईस (कमरूल हुसनैन चैधरी), (सोनीपत), सैयद मुज़फ़्फ़र हुसैन बर्नी सम्मान वर्ष 2019 के लिए श्री ज़ाहिद-उल-अह़सानी, (पानीपत), वर्ष 2020 के लिए डाॅ. देस राज सपरा, (शाहबाद मारकंडा) ख़्वाजा अह़मद अब्बास सम्मान वर्ष 2019 के लिए श्री रूप नारायण चन्दना, (करनाल), मुंशी गुमानी लाल सम्मान वर्ष 2019 के लिए श्री अनीस-उल-हसन सिद्दीकी, (गुरूग्राम), सुरेन्द्र पंडित सोज़़ सम्मान वर्ष 2019 के लिए श्री देवेन्द्र गोयल, (नई दिल्ली), वर्ष 2020 के नफ़स अम्बालवी (कमलेश कौशिक) (अम्बाला शहर), उर्दू तर्जुमा निगारी सम्मान वर्ष 2019 के लिए श्री सुरेंद्र बांसल, (शाहबाद मारकंडा), डाॅ. जावेद वशिष्ट सम्मान वर्ष 2019 के लिए डाॅ. रह़मान अख़तर, (पंजाबी यूनिवर्सिटी, पटियाला), बाल कृष्ण मुज़तर सम्मान वर्ष 2019 के लिए श्री एस.एल.धवन ’कमल’, (पंचकूला), वर्ष 2020 के लिए श्री इक़बाल अह़मद अंसारी, (पानीपत), जसवंत सिंह टोहानवी सम्मान वर्ष 2019 के लिए श्री नीरज रायज़ादा, (पंचकूला), उर्दू ग़ज़ल सराई सम्मान वर्ष 2019 के लिए श्री एस.डी.शर्मा, (पंचकूला), वर्ष 2020 के लिए श्री संजीव मागो ‘मुसाफिर’ का चयन किया गया है।
उन्होंने बताया कि इन सभी को सम्मान राशि में की गई वृद्धि के अनुसार एक-एक लाख रुपए की सम्मान राशि, स्मृति चिन्ह, प्रशस्ति पत्र और अगंवस्त्र से सम्मानित किया जाएगा।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

Kids to imbibe Swachhta as a way of life through colouring book ‘Swacchta ke Rang’

UT Adviser launches “Swachhta ke Rang” colouring book for school children

For Detailed News-

Chandigarh, December 31:- Now, children will learn good practices on keeping the city clean, through a novel colouring book ‘Swachhata Ke Rang.’ In a bid to create awareness about ‘Mission Swachh Chandigarh’ among children, the Municipal Corporation Chandigarh has released a colouring book on cleanliness.

Sh. Dharam Pal, IAS, Adviser to the Administrator, UT, Chandigarh today formally released the 20 page colouring book ‘Swachhata Ke Rang’ in the presence of Sh. Nitin Kumar Yadav, IAS, Home Secretary, Ms. Anindita Mitra, IAS, Commissioner, MCC, Sh. S.S. Gill, Secretary Education and other officers of Chandigarh Administration.

While elaborating about the coloring book, the Adviser said that the ‘Swachhta Ke Rang’ book depicts cartoons with a message pertaining to solid waste management and general cleanliness alongwith segregation of waste at source.

He said that the youth and students are one of the biggest change agents for any social transformation and the colouring book would aim to engage with them in an innovative manner and spread the message of cleanliness. The colouring book is meant to inspire children to take steps and create a long-lasting impact on the cleanliness of their homes, schools, neighbourhoods and eventually their City. He said that this initiative will push the Mission Swachh Chandigarh one step further towards making Swachh Bharat a ‘janandolan’. 

The Adviser asked the Secretary, Education, Chandigarh to chalk out policy to introduce this book in the school syllabus to engage children in the Swachh Bharat Mission in a different way. He said that participation of every segment of society is necessary to make the cleanliness mission a success and releasing colouring books are efforts to engage youth and children towards the mission.

The description of cartoons has been designed to educate the school kids about every aspect of Swachh Bharat Mission including attractive tag lines i.e. ‘Do your Bit, do not Spit’, ‘Make your planet fantastic, stop the use of plastic’, ‘Live life cleaner, make earth greener’, ‘Don’t be mean, keep your city clean’, ‘If you want the roads to glitter, do not litter’, ‘Do not urinate on the wall, use the washroom stall’, ‘Water a priceless treasure, save it with pleasure’, ‘There is no pride in defecating outside’, ‘For a city up to date, Separate the Waste’, ‘Paper, Plastic & Cardboard are dry waste’, ‘Vegetable peels, used tea, fruits & food that is left is wet’ and ‘Batteries, paint and glass; all are a hazard’ etc.

https://propertyliquid.com

The Adviser said that this initiative of Municipal Corporation Chandigarh will push the Mission Swachh Chandigarh one step further towards making Swachh Bharat a jan andolan, and will be the Clean Revolution to educate school children about the conceptualization of the campaign.

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

शहीद भगत सिंह स्टेडियम में 01 जनवरी 2022 को लगाया जाएगा ड्राइव-इन टीकाकरण शिविर

सिरसा, 31 दिसंबर।

For Detailed News-


कोरोना वैक्सीनेशन अभियान के तहत जिला रेडक्रॉस सोसायटी द्वारा स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से 01 जनवरी 2022 (शनिवार) को स्थानीय शहीद भगत सिंह स्टेडियम में ड्राइव-इन टीकाकरण शिविर का आयोजन किया जाएगा।


जिला रेडक्रॉस सोसायटी के सचिव लाल बहादुर बैनीवाल ने बताया कि उपायुक्त अनीश यादव के निर्देशानुसार स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से वैक्सीनेशन के शत प्रतिशत लक्ष्य को प्राप्त करने की कड़ी में 01 जनवरी 2022 को दो चरणों में प्रात: 9.30 बजे से साढ़े 12.30 बजे तथा शाम को 03.00 बजे से 05.30 बजे तक लगाया जाएगा।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि जिला में कोरोना से बचाव के लिए जगह-जगह पर कैंप लगाकर लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। शिविर में कोविड-19 नियमों का पालन की जाएगी। शिविर में दो प्रकार की वैक्सीनेशन कोविशील्ड व कोवैक्सिन उपलब्ध रहेगी। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन लगवाना जरूरी है, इसलिए अधिक से अधिक नागरिक उक्त शिविर में पहुंचकर वैक्सीनेशन का लाभ उठाएं।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

पीएमएफएमई योजना के तहत उद्योगों के विकास के लिए 35 प्रतिशत तक दी जा रही है सब्सिडी : उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 31 दिसंबर।


सरकार खाद्य प्रसंस्करण से जुड़े उद्यमों को आसान ऋण व तकनीकी सहायता जैसे कई कदमों के माध्यम से लगातार सशक्त बना रही है ताकि उद्योगों में बने उत्पाद की दुनिया के बाजारों से प्रतिस्पर्धा की क्षमता हो और वे आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत मजबूत भागीदार बनें। सरकार की प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण उन्नयन योजना के तहत अपने खाद्य प्रसंस्करण उद्यमों को बढ़ावा देने के लिए बैंक से लोन लेने पर प्रोजेक्ट लागत का 35 प्रतिशत सब्सिडी (अधिकतम 10 लाख रुपये) दिए जाने का प्रावधान है।


उपायुक्त अनीश यादव ने बताया कि ओडीओपी के तहत प्रोडक्ट कीनू प्रोसैसिंग के स्थान पर दूध से बने उत्पाद जैसे मिठाइयां, पनीर, दही, घी व बेकरी उत्पाद की सरकार द्वारा मंजूरी मिल चुकी है, जिसके तहत उद्यमी ओडीओपी के तहत नए प्रोजेक्ट लगाने के लिए भी बैंक से लोन व सब्सिडी का लाभ उठा सकते हैं। उद्यमियों को उत्पादों के लिए ट्रेनिंग और तकनीकी सहायता देने का भी प्रावधान किया गया है।

https://propertyliquid.com


जिला एमएसएमई केंद्र के सहायक निदेशक, दिनेश कुमार ने बताया कि आवेदक की आयु 18 वर्ष से अधिक हो तथा 8वीं कक्षा तक की शैक्षणिक योग्यता रखता हो। प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण योजना में ऋण प्राप्त करने के लिए उद्यमी पोर्टल डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यूडॉटएमओएफपीआईडॉटजीओवीडॉटइन पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं व जिला स्तर पर जिला उद्योग केंद्र बरनाला रोड़ कोर्ट कॉपलैक्स सिरसा में स्थापित एमएसएमई सैंटर में संपर्क स्थापित किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत आवेदकों को सभी प्रकार की सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से जिला में दो डिस्ट्रिक रिसोर्स पर्सन की भी नियुक्ति की गई है। योजना की जानकारी के लिए उद्यमी उनके मोबाइल नंबर 70154-26599, 94669-24075 पर संपर्क कर सकते हैं।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा को राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शित करने के लिये किया जा रहा है प्रोत्साहित-गुप्ता

For Detailed News-

पंचकूला, 30 दिसंबर- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि युवा देश की पहचान है और आने वाला समय युवाओं का है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल युवाओं को आगे बढ़ाने के लिये कृत संकल्प है और इस दिशा में केंद्र व राज्य सरकार द्वारा अनेक कदम उठाये गये हैं।


श्री गुप्ता आज जैनेंद्र गुरूकुल स्कूल सेक्टर-1 में खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग और जिला प्रशासन पंचकूला द्वारा आयोजित 27वें हरियाणा राज्य स्तरीय युवा उत्सव के पारितोषित वितरण समारोह में मुख्यातिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।


श्री गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के कुशल नेतृत्व में राज्य सरकार द्वारा युवाओं को सांस्कृतिक कार्यक्रमों, खेलो, शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा को राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शित करने के लिये समय समय पर अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं। उन्होंने कहा कि राज्य मे ंखेलों का बढ़ावा देने के लिये राज्य सरकार द्वारा पिछले 7 वर्षों के दौरान अनेक घोषणायें की गई है। नई खेल नीति के तहत राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मैडल हासिल करने वाले खिलाड़ियों के लिये नकद प्रोत्साहन राशि को कई गुणा बढ़ाया गया हैं।


उन्होंने कहा कि ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक विजेता को 6 करोड़ रुपये, रजत पदक विजेता को 4 करोड़ रुपये और कास्य पदक विजेता को ढाई करोड़ रुपये की राशि देकर सम्मानित किया जाता है। इसके अलावा इस बार राज्य सरकार द्वारा ओलंपिक में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को तैयारियों के लिये 5 लाख रुपये की एडवांस राशि दी गई और इसके सकारात्मक परिणाम भी सामने आये।
श्री गुप्ता ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा खिलाड़ियों के साथ साथ युवा कलाकारों को भी उनकी प्रतिभा को निखारने के लिये समय समय पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। यह हर्ष का विषय है कि हरियाणा के युवाओं ने 27 में से 25 बार राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिता में जीत हासिल की। उन्होनंे कहा कि यह राज्य सरकार की सोच और नीति का ही परिणाम है कि आज इतनी बड़ी संख्या में राज्यभर से बच्चे इस हरियाणा राज्य स्तरीय युवा उत्सव में भाग लें रहे हैं। उन्होंने प्रदेश के कोने कोने से आये बच्चों और अध्यापको ंका पंचकूला आने पर अभिनंदन किया।

https://propertyliquid.com


इससे पूर्व कार्यक्रम के नोडल अधिकारी श्री अनिल कौशिक ने हरियाणा विधानसभा श्री ज्ञानचंद गुप्ता का स्वागत किया और उत्सव के दौरान आयोजित की गई गतिविधियों पर प्रकाश डाला।


इस अवसर श्री गुप्ता ने विजेता टीमों को ट्राॅफी देकर सम्मानित किया। रेवाडी की टीम ओवर आॅल चेंपियन रही जबकि अंबाला की टीम ने दूसरा और भिवानी की टीम ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। समूह नृत्य (हरियाणवी) में पहला स्थान यमुनानगर की टीम ने हासिल किया। इसी प्रकार नाटक में प्रथम स्थान फतेहबाद और लोक गायन में प्रथम पुरस्कार झज्जर ने हासिल किया। रेवाडी ने प्रतियोगिता श्रेणी में पहला स्थान अर्जित किया।


इस अवसर पर जिला खेल अधिकारी अमरजीत सिंह, बीजेपी की जिला महामंत्री परमजीत कौर, पार्षद सुरेश वर्मा, सुरेखा, रेखा सरीन, सुरेंद्र नरवाल, खेल विभाग के अन्य अधिकारी व कोच और प्रदेश के विभिन्न जिलों से आये युवा उपस्थित थे।