Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

3 Day 41st INCA International Conference commences at PU

Chandigarh October 27, 2021

India will have a coherent national location data framework by 2030- Bandaru Dattatraya

For Detailed News-

            3 Day International Conference by Indian National Cartographic Association (INCA) commences today on the theme Cartography for Self Relient India which is being hosted by Department of Geography, Panjab University, Chandigarh.

            The Chief Guest, Hon’ble Governor of Haryana, Shri Bandaru Dattatraya in his address said that the geo-spatial field has tremendous potential for generating employment in the country. He also mentioned that in the management of COVID-19 pandemic crisis, COVID maps proved beneficial. He further added that application of Geographic Information Sciences(GIS) has become a crucial part of how NASA gets to know the feature of other worlds, develops broader understanding of Geophysics and gathers valuable information about our own planet. He added that India will have a coherent national location data framework by 2030 which will assist the country to move towards E-Economics, E-Service and E-Commerce and will help improve services to the citizens. He highlighted the SVAMITVA , flagship scheme of Centre is reformative step towards establishing clear ownership of property in rural inhabited areas by mapping of land parcels using drone technology.

            Prof. Raj Kumar, Vice Chancellor, PU, while referring the conference to be prestigious platform, emphasised on the need to come up with an action plan to make cartography multi-disciplinary so that its knowledge can be shared with other domains.

            The Surveyor General of India, Mr. Naveen Tomar, in his keynote address,  focussed on the requirement of data collection on a large scale to make India a self-reliant nation. Also, he stressed upon the need of fresh blood to be injected into the system and also talked about public-private partnership in this regard.

            The Guest of Honour, Vice Admiral Adhir Arora, Chief Hydrographer, Govt. of India stressed on the sphere of marine cartography and spoke on the complexities of ocean mapping particularly in terms of huge funding and man power being needed for this task.

https://propertyliquid.com

            Prof. Krishna Mohan, President of INCA, introduced the theme of the Conference, which he said aligned with the vison of The Government of India of “Reform, Perform and Transform”. It was followed by an inaugural address by Director of National Institute of Advanced Study, Bengaluru and Former Secretary, MoES, India, Dr. Shailesh Nayak. He emphasised on Maps to be a mainstay in the transformation of process of India under the vision of Aatma Nirbhar Bharat.

            The felicitations of the dignitaries along with the winners were performed apart from release of books and maps. Prof. Gaurav Kalotra, Chairperson Department of Geography proposed vote of thanks.

Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

विशेषज्ञ टीम ने 2022 में सिफारिश की जाने वाली नरमे की हाइब्रिड का किया निरीक्षण व अवलोकन

सिरसा, 27 अक्टूबर।

https://propertyliquid.com


भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के जेनेटिक इंजीनियरिंग मूल्यांकन समिति (जीईएसी) के विशेषज्ञों की टीम ने बुधवार को स्थानीय केंद्रीय कपास अनुसंधान संस्थान क्षेत्रीय स्टेशन में कपास परीक्षणों का निरीक्षण किया। इन परीक्षणों से पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में खेती के लिए जीईएसी द्वारा अनुमोदित बीजी 11 कपास संकरों की सिफारिश की जाती है।


निगरानी दल के अध्यक्ष एवं एडीआर पीएयू लुधियाना डा. डीएस मांगट, अन्य सदस्य व केंद्रीय कपास अनुसंधान संस्थान क्षेत्रीय स्टेशन के प्रमुख डा. एसके वर्मा, आरआरएस पीएयू बठिंडा के निदेशक डा. परमजीत सिंह, जेडीआरए एआरएस श्रीगंगानगर डा. आरपीएस चौहान, अखिल भारतीय कपास अनुसंधान परियोजना (कीट विज्ञान) पीएस एंड पीआई डा. ऋषि कुमार, अखिल भारतीय कपास अनुसंधान परियोजना (पादप. रोग विज्ञान) प्रधान वैज्ञानिक एंड पीआई आरआरएसए सिरसा डा.ï एसके सैन, पीएयूए फरीदकोट से डा. कुलवीर सिंह और एचएयूए हिसार से डा. ओमेंद्र सांगवान शामिल थे।

For Detailed News-


केंद्रीय कपास अनुसंधान संस्थान क्षेत्रीय स्टेशन के प्रमुख डा. एसके वर्मा ने बताया कि जीईएसी कपास परीक्षण पंजाब, हरियाणा और राजस्थान राज्यों में 06 स्थानों पर आयोजित किए जा रहे हैं। इन परीक्षणों के तहत उत्तर भारतीय परिस्थितियों में कीटों, रोगों और खेती के लिए उपयुक्तता की विभिन्न बीजी, कपास संकरों का परीक्षण और जांच की जा रही है। इस दौरान केंद्रीय कपास अनुसंधान संस्थान क्षेत्रीय स्टेशन सिरसा की गतिविधियों के बारे में चर्चा की। निगरानी टीम द्वारा प्रदर्शन/प्रौद्योगिकी पार्क का भी दौरा किया गया और क्षेत्रीय स्टेशन द्वारा विकसित देसी और अमेरिकी कपास की किस्मों और संकरों को दिखाया गया। इस अवसर पर वैज्ञानिक (कृषि विज्ञान) डा. अमरप्रीत सिंह व वैज्ञानिक (बीज विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी) देबाशीष पॉल भी उपस्थित थे।

Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

त्यौहारों के मद्देनजर पंचकूला के खाद्य सुरक्षा अधिकारी डा0 गौरव शर्मा व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों ने शहर की विभिन्न मिठाई की दुकानों, दूध की डेयरियों, आदि का किया गया औचक निरीक्षण

– खाद्य पदार्थो के नमूने लेकर विश्लेषण के लिए करनाल स्थित खाद्य प्रयोगशाला में भेजे-खाद्य सुरक्षा अधिकारी
– दूषित व मिलावटी खाद्य पदार्थ/मिठाई बेचता पाया जाने पर संबंध्तिा दुकानदार के खिलाफ की जायेगी सख्त कार्यवाही-गौरव शर्मा  

For Detailed News-

पंचकूला, 27 अक्तूबर-     त्यौहारों के मद्देनजर पंचकूला के खाद्य सुरक्षा अधिकारी डा0 गौरव शर्मा व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों ने शहर की विभिन्न मिठाई की दुकानों, दूध की डेयरियों, किरयाणे की दुकानों व अन्य स्थानों जैसे कोल्ड स्टोर, खाद्य पदार्थ/मिठाई बनाने की फैक्ट्रीयों आदि का औचक निरीक्षण किया और और खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम, 2006 के तहत खाद्य पदार्थो के नमूने लेकर विश्लेषण के लिए भेजे गए।


इस मौके पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने न खाने योग्य पदार्थों को नष्ट करवाया तथा सभी मिठाई विक्रेताओं एवं निर्माताओं व अन्य खाद्य पदार्थ बेचने वाले दुकानदारों को ताजा व शुद्ध खाद्य पदार्थ बेचने की हिदायत की। इसके साथ-साथ सभी दुकानदारों को दूषित व बासी मिठाई न बेचने की चेतावनी दी गई ताकि यदि कोई भी दुकानदार दूषित व मिलावटी खाद्य पदार्थध्मिठाई बेचता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।


पंचकूला की 7 दुकानों से खाद्य पदार्थों/मिठाइयों के लिए सेंपल

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा किए गए निरीक्षण के दौरान माधव स्वीटस, रायपुररानी से खोया, श्री नारायण स्वीटस रायपुररानी से खोया व रसगुला, अनिल डायरी रायपुररानी से बेसन के लड्डू, श्री नागेशर स्वीटस त्रिलोकपुर रायपुररानी से खोया व बर्फी, जीरो इथैपली लैब प्राईवेट लिमिटिड गांव टपरियान रायपुररानी से जैविक स्टेवा पाॅउडर, साई स्वीटस गांव टोका रायपुररानी से गुलाब जामुन और मेवस स्वीटस रेस्टोरेंट बैकेट हाल से पनीर व मेवा स्पेशल बर्फी के नमूने लेकर विश्लेषण के लिए भेजे गए हैं।

Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

गौ उत्पाद मानकीकरण करके पंजीकृत करवाएं गौशालाएं- संजीव कौशल

For Detailed News-

पंचकूला, 27 अक्तूबर- हरियाणा सरकार के वित्त आयुक्त, राजस्व एवम अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने हरियाणा गौ सेवा आयोग के तकनीकी मार्गदर्शन में पिंजौर की श्री कामधेनू गौशाला सेवा सदन में स्थापित गौवंश अनुसंधान केंद्र का दौरा किया। अनुसंधान केंद्र में पहुंचने पर हरियाणा गौ सेवा आयोग के चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग ने पुष्प गुच्छ भेंट कर उनका स्वागत किया और निरीक्षण के दौरान साथ रहे।
गौवंश अनुसंधान केन्द्र पहुंचने पर हरियाणा सरकार के वित्त आयुक्त, राजस्व एवम अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने गौवंश अनुसंधान केंद्र के बारे में जानकारी ली और विस्तृत चर्चा की। अनुसंधान केंद्र में चल रहे कार्यों को लेकर हरियाणा गौ सेवा आयोग के प्रयासों की जमकर सराहना की।


उन्होंने कहा कि हरियाणा की गौशाला में बन रहे उत्पादों का मानकीकरण नितांत आवश्यक है। इस तरह के उत्पादों को एक ब्रांड के नीचे पंजीकृत किया जाना चाहिए। गौशालाओं में बनने वाले उत्पादों को विश्वसनीय लैब में प्रमाणीकरण करवा कर उत्पादों की मार्केटिंग की व्यवस्था होनी चाहिए। इन उत्पादों के मानकीकरण और अनुसंधान के लिए एक प्रयोगशाला की स्थापना भी की जानी चाहिए।
वित्त आयुक्त एवं अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने कहा कि गायों की नस्ल सुधार करके गौशालाओं में दुग्ध उत्पादन बढ़ाकर एवं गौशालाओं में बन रहे गौ उत्पादों का बेहतर तरीके से बाजारीकरण करके हरियाणा की गौशालाओं को आत्मनिर्भर बना सकते हैं। उन्होंने गाय के गोबर से बन रहे खाद, गमलों, दीपक, लक्ष्मी गणेश की मूर्तियां, गाय के गोबर से बनने वाले प्राकृतिक पेंट के प्लांट का बारीकी से निरीक्षण किया।


बॉक्स
  हरियाणा गौ सेवा आयोग के चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग ने जानकारी प्रदान करते हुए कहा कि गौ सेवा आयोग ने गौतत्त्व के नाम से ब्रांड पंजीकृत करवा लिया गया है। गौ उत्पादों का मानकीकरण और प्रमाणीकरण पूरा होने पर गौ उत्पाद इसी गौतत्व ब्रांड से ही बनाए जायेंगे। इन उत्पादों के बेहतर प्रमीकरण के लिए एक प्रयोगशाला का विषय विचाराधीन है।

https://propertyliquid.com


उन्होंने गौशाला पहुंचकर गाय माता को हरा चारा, गुड़ अपने हाथों से खिलाया। हरियाणा गौ सेवा आयोग की ओर से चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग ने शाल और गाय माता का स्मृति चिन्ह भेंट किया एवम गौशाला प्रबंधक समिति की ओर से नवराज धीर ने गौ उत्पाद एवं गाय के गोबर से बना गमले में लगी तुलसा का पौधा भेंट किया। इस अवसर पर हरियाणा गौ सेवा आयोग के सचिव डॉ चिरंतन कादयान, पशु चिकित्सक डा अश्वनी कुमार, जितेंद्र डोगरा, रमेश गुप्ता, कन्हैया लाल गुप्ता एवं गौशाला प्रबंधक समिति के अनेक पदाधिकारी एवम सदस्य मौजूद रहे।

Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

1 नवंबर 2021 को ड्राफ्ट मतदाता सूची का किया जायेगा प्रकाशन- जिला निर्वाचन अधिकारी

-13 व 14 नवंबर तथा 27 व 28 नवंबर 2021 को शनिवार व रविवार अवकाश के दिनों में चलाया जायेगा विशेष पुनरीक्षण अभियान-विनय प्रताप सिंह
-20 दिसंबर 2021 तक इन दावे व आपत्तियों का किया जायेगा निपटान-उपायुक्त
-जिला निर्वाचक पंजीयन अधिकारी द्वारा 5 जनवरी 2022 तक मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन किया जायेगा

For Detailed News-

पंचकूला, 27 अक्तूबर- उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विनय प्रताप सिंह की अध्यक्षता में आज लघु सचिवालय के सभागार में जिला के मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के साथ बैठक हुई। बैठक में उपायुक्त ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम का अंतिम प्रकाशन 15 जनवरी 2021 को कर दिया गया है। इसके तहत पंचकूला जिला के दोनों विधानसभा क्षेत्रों 01 कालका और 02 पंचकूला में फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का संक्षिप्त पुनरीक्षण किया जायेगा।


इस अवसर पर जननायक जनता पार्टी, सीपीआईएम, बीएसपी, बीजेपी, आम आदमी पार्टी के प्रतिनिधि उपस्थित थे।


श्री विनय प्रताप सिंह ने बताया कि 1 नवंबर 2021 को ड्राफ्ट मतदाता सूची का प्रकाशन कर दिया जायेगा। इन मतदाता सूचियों में नये मतदाता अपने नाम दर्ज करवाने व अन्य किसी प्रकार की शुद्धि करवाने के लिये 30 नवंबर तक दावे व आपत्तियां दर्ज करवा सकते है। उन्होंने कहा कि मतदाताओं की सुविधा के लिये इस कार्य के लिये 13 व 14 नवंबर तथा 27 व 28 नवंबर 2021 को शनिवार व रविवार अवकाश के दिनों में विशेष पुनरीक्षण अभियान चलाया जायेगा। इसके तहत सभी मतदान केन्द्रों पर संबंधित बूथ लैवल अधिकारी मतदाता सूची के पुनरीक्षण के लिए दावे तथा आपत्तियां प्राप्त करने के लिए उपस्थित रहेंगे।
उन्होंने बताया कि ऐसे नागरिक जिनकी आयु 01 जनवरी 2022 को 18 वर्ष की हो चुकी है और उनका नाम अभी तक मतदाता सूची में दर्ज नहीं है वे अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करवा सकते है। इसके लिये उन्हें फार्म नंबर 6 भरने के साथ साथ अपने आवास और आयु का प्रमाण तथा नवीनतम पासपोर्ट आकार की रंगीन फोटो इस फार्म के साथ संलग्न करनी होगी। अपात्र मतदाता का नाम मतदाता सूची से काटवाने के लिये फार्म नंबर 7, मतदाता सूची में दर्ज प्रविष्टियों को शुद्ध करने के लिये फार्म नंबर 8 और विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत एक मतदान केंद्र से दूसरे मतदान केंद्र पर नाम स्थानांतरण करने के लिये फार्म नंबर 8ए भरना होगा।

https://propertyliquid.com


श्री विनय प्रताप सिंह ने जिला पंचकूला के अंतर्गत आने वाले दोनो विधानसभा क्षेत्रों के सभी मतदाताओं से अपील की है कि वे अपना नाम मतदाता सूची मुख्य निर्वाचन अधिकारी की वेबसाईट www.ceoharyana.nic.in     व किसी भी कार्य दिवस के दोरान जिला निर्वाचन कार्यालय पंचकूला में चेक कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि प्राप्त होने वाले दावे व आपत्तियों की जांच के उपरांत 5 जनवरी 2022 तक मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन किया जायेगा।


इस अवसर पर एसडीएम कालका ममता शर्मा, तहसीलदार पंचकूला पुणयदीप शर्मा, तहसीलदार वीरेंद्र गिल, तहसीलदार पिंजौर विक्रम सिंगला सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में सराहानीय कार्य करने वाली बालिकाओं को किया जायेगा सम्मानित

-ऐसी बालिकाएं जिन्होंने खेल, शिक्षा, सामाजिक कार्य, बहादुरी और मीडिया में सराहनीय कार्य किया है, 22 नवंबर 2021 तक कर सकती है आवेदन- सविता नेहरा

For Detailed News-


पंचकूला, 27 अक्तूबर- राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में सराहानीय कार्य करने वाली बालिकाओं को सम्मानित किया जायेगा, जिसके लिए हरियाणा महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं।


इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला परियोजना अधिकारी सविता नेहरा ने बताया कि आवेदन करने के लिए 22 नवंबर 2021 अंतिम तिथि निर्धारित की गई है। उन्होंने बताया कि ऐसी बालिकाएं जिन्होंने खेल, शिक्षा, सामाजिक कार्य, बहादुरी और मीडिया में सराहनीय कार्य किया है, वे अपने आवेदन सेक्टर-1 स्थित मिनी सचिवालय के नये भवन में जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला एवं बाल विभाग के कमरा नंबर 26 में व विभाग की ई-मेल आईडी  popkl.wcd@gmail.com  पर जमा करवा सकती हैं।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि इसके अलावा 60 प्रतिशत अक्षमता वाले बच्चे जिन्होंने खेल, शिक्षा, सामाजिक कार्य, बहादुरी और मीडिया में सराहनीय कार्य किए हैं, उन्हें भी विभाग द्वारा सम्मानित किया जायेगा। इसके लिए उन्हें अपना अक्षमता प्रमाण पत्र आवेदन के साथ संलग्न करना अनिवार्य होगा। उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिये दूरभाष नंबर    0172- 2590462 पर संपर्क किया जा सकता है।

Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

पंचकूला जिला की 3 अनाज मंडियों में अब तक 71620 मीट्रिक टन धान की, की जा चुकी है खरीद-उपायुक्त विनय प्रताप सिंह

-तीनों अनाज मंडियों में 67078 मीट्रिक टन धान का उठान किया गया है

For Detailed News-

पंचकूला, 27 अक्तूबर- जिला में खरीफ सीजन 2021-22 में सरकारी खरीद एजंसियों द्वारा धान की खरीद का कार्य प्रगति पर है। अब तक जिला की तीन मंडियों में 71620 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है, जिसमें से 43550 मीट्रिक टन हैफेड द्वारा तथा 28070 मीट्रिक टन हरियाणा वेयरहासिंग कॉरपोरेशन द्वारा खरीदी गई है। अब तक तीनों अनाजमंडियों में 67078 मीट्रिक टन धान का उठान किया जा चुका है।


इस संबंध में जानकारी देते हुए उपायुक्त श्री विनय प्रताप सिंह ने बताया कि खरीफ सीजन 2021-22 में जिला में दो सरकारी खरीद एजंसियों द्वारा धान की खरीद की जा रही है।
उन्होंने बताया कि अब तक पंचकूला अनाज मंडी में 5880 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है जिसमें से 1300 मीट्रिक टन हरियाणा वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन द्वारा तथा 4580 मीट्रिक टन हैफेड द्वारा खरीद की गई है। इसी प्रकार बरवाला अनाज मंडी में 38990 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है जिसमें से 17770 मीट्रिक टन हरियाणा वेयरहासिंग कार्पोरेशन द्वारा व 21220 मीट्रिक टन हैफेड द्वारा खरीद की गई। उन्होंने बताया कि रायपुररानी अनाज मंडी में अब तक 26750 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है जिसमें से 9000 मीट्रिक टन हरियाणा वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन द्वारा तथा 17750 मीट्रिक टन हैफेड द्वारा खरीद की गई है।

https://propertyliquid.com
उन्होंने बताया कि तीनों मंडियों द्वारा अब तक 67078 मीट्रिक टन धान का उठान किया जा चुका है, जिसमें से पंचकूला अनाजमंडी में 5005 मीट्रिक टन धान का उठान किया गया है। 955 मीट्रिक टन हरियाणा वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन व 4050 मीट्रिक टन हैफेड द्वारा धान का उठान किया गया है। इसी प्रकार बरवाला अनाजमंडी में 37610 मीट्रिक टन धान का उठान हुआ हैं, जिसमें से 16910 मीट्रिक टन धान का उठान हरियाणा वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन द्वारा व 20700 मीट्रिक टन उठान हैफेड द्वारा किया गया है। उन्होंने बताया कि रायपुररानी अनाजमंडी में 24463 मीट्रिक टन धान का उठान हुआ है, जिसमें 8263 मीट्रिक टन धान का उठान हरियाणा वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन द्वारा व 16200 मीट्रिक टन उठान हैफेड द्वारा किया गया है।


पंचकूला जिला में बरवाला, रायपुररानी व पंचकूला में स्थापित तीन अनाज मंडियों में सरकारी खरीद एजंसियों नामतः हैफेड तथा हरियाणा वेयरहासिंग कार्पोरेशन द्वारा फसलों की खरीद की जा रही है।

Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

उपचुनाव-उम्मीदवार, पोलिंग एवं मतगणना ऐजेंट आदि के लिए नाथूसरी चौपटा व ऐलनाबाद में 28 अक्तूबर (वीरवार) को लगेगा आरटीपीसीआर सैंपलिंग कैंप

-नाथूसरी चौपटा में खंड एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय तथा ऐलनाबाद के तहसील कार्यालय में लगेगा कैंप


-पोलिंग एजेंट, मतगणना एजेंट की कोविड-19 रिपोर्ट नेगेटिव होना अनिवार्य : रिटर्निंग अधिकारी


ऐलनाबाद, 27 अक्टूबर।

For Detailed News-


रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम नरेंद्र पाल मलिक ने बताया कि उपचुनाव के दौरान उम्मीदवार, चुनाव ऐजेंट, पोलिंग ऐजेंट तथा मतगणना ऐजेंट की कोविड-19 की रिपोर्ट नेगेटिव होना अनिवार्य है। इसी कड़ी में कोविड-19 नियमों की पालना के तहत 28 अक्तूबर को स्वास्थ्य विभाग द्वारा ऐलनाबाद के तहसील कार्यालय तथा नाथूसरी चौपटा के खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी के कार्यालय में आरटीपीसीआर सैंपलिंग कैंप का आयोजन किया गया है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव के सभी उम्मीदवार अपने पोलिंग एजेंट, मतगणना एजेंट आदि की आरटीपीसीआर सैंपलिंग अवश्य करवाएं, ताकि उन्हें पोलिंग तथा मतगणना एजेंट पहचान पत्र जारी हो सके। 

https://propertyliquid.com