कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

जिलाधीश श्री महावीर कौशिक ने कोरोना के बढते मामलों के दृष्टिगत जिलावासियों से राज्य सरकार द्वारा जारी एसओपी का पालन करने की करी अपील

  • फाइव फोल्ड स्ट्रैटजी टैस्ट-ट्रेस-ट्रैक-वैक्सीनेशन और कोविड-19 उचित व्यवहार की पालना पर दिया जा रहा है विशेष ध्यान- ज़िलाधीश

For Detailed News-

पंचकूला, 15 जनवरी- जिलाधीश श्री महावीर कौशिक ने कोरोना के नये वेरिएंट ओमिक्रोन तथा कोरोना वायरस के बढते मामलों के दृष्टिगत जिला वासियों से राज्य सरकार द्वारा जारी किये एसओपी का पालन करने की अपील की है ।


श्री महावीर कौशिक ने कहा की जिला में महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा की अवधि को 19 जनवरी सुबह 5 बजे तक बढ़ाया गया है। इस अवधि केे दौरान जिला में सभी प्रकार की जन सभाओं, रैली, प्रदर्शन, धरने इत्यादि पर पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा।

https://propertyliquid.com


जिलाधीश ने बताया कि कोविड-19 के नियंत्रण के लिए जिला में फाई फोल्ड स्ट्रैटजी टैस्ट-ट्रेस-ट्रैक-वैक्सीनेशन और कोविड-19 उचित व्यवहार की पालना सुनिश्चित करने पर विशेष बल दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा के तहत जारी दिशानिर्देशों की पालना सुनिश्चित करने हेतु अलग अलग अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गयी है । इसके अलावा सभी इंन्सीडेंट कमांडर अपने-अपने इलाकों में इन आदेशों को लागू करने के लिये उत्तरदायी हैं।आदेशो की उलंघना करने पर आपदा प्रबन्धन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 और आई पी सी की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जाएगी।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

A galaxy of international and national stalwarts to deliberate during the one week Faculty Training Programme

Chandigarh January 15, 2022

For Detailed News-

The University Institute of Pharmaceutical Sciences (UIPS), Panjab University is organizing a one week faculty training school virtually on “NEW ERA TECHNOLOGIES IN FORMULATION DESIGN SPACE” from January 17 to 22, 2022 under the initiative of UGC Networking Resource Centre. The course will be attended by more than 70 selected faculty participants representing 21 states across the country.

Present training course has been planned with an aim to provide single platform dissemination on multiple forums of novel drug delivery design, development, and real time translation to plug the bench to bedside/ lab to clinic gap. Program will offer a blend of highly innovative state of the art interactive talks from national and international experts both from the industry and academia coupled with live workshops.

Professor Maria José Alonso, Full Professor, University of Santiago de Compostela (USC), SPAIN & Editor-in-Chief, Drug Delivery and Translational Research; Ex-President, Controlled Release Society, will inaugurate the function and deliver the Key Note Address on “Delivery of Proteins and RNA Molecules using Nanotechnology.” Prof. Alonso is a highly accomplished and recognised among the top 10 researchers in the World in Pharmacology (Times Higher Education international ranking, 2010) and appeared on ‘The Power List’ of most influential researchers in field of Biopharmaceuticals (The Medicine Maker, 2020-21). She has h-index of 98 and was Vice-Rector of Research and Innovation of the USC and Visiting Scientist at MIT, Cambridge, US; Univ of Angers, France; Univ of Paris XI, France and is known for her innovative industrial and entrepreneurial expertise.

Chairperson of the Institute, Professor Indu Pal Kaur is the Program Coordinator of the UGC-NRC & Coordinator of the Course, while Dr Vandita Kakkar will be the Joint Coordinator.

https://propertyliquid.com

A galaxy of international and national stalwarts with in-house faculty will join us to deliberate during the Faculty Training Program on leading topics. All the stalwarts are not only highly accomplished in their areas of research, but are also credited with innovation, products and spin-offs.

1.       Professor May Griffith, Université de Montréal, Quebec, Canada

2.       Professor Tejal A Desai, University of California, San Francisco (UCSF), USA

3.       Professor Samuel Gourion-Arsiquaud, TRI Princeton, USA

4.       Prof. Joachim Kohn, Rutgers University, USA

5.       Prof. Bo Michniak – Kohn, Rutgers University, USA

6.       Prof. Sanjay Garg, University of South Australia

7.       Prof. Mansoor M. Amiji, Bouvé Colg of Health Sci, Northeastern Univ, USA

8.       Dr Deepika Aggarwal, Director R&D, iX Syrinx Pty Ltd, Melbourne, Australia

9.       Dr Ashok Kumar, Wayne State University, USA

10.   Dr Vivek Gupta, St. John’s University, USA

11.   Dr Prashant Dogra, Houston Methodist Res Institute, USA

12.   Mr Sachin Kumbhoje, OpEx Accelerator Pvt. Ltd., Maharashtra

13.   Dr Sudip Roy, Prescience Insilico Pvt. Ltd., Bengaluru

14.   Dr Parneet Kaur Deol GHG Khalsa Colg, Punjab

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

विदेश सहयोग विभाग हरियाणा के प्रधान सचिव योगेंद्र चैधरी ने मोरनी के गांव भूड़ी में ‘यूथप्रन्योर कैंप’ का किया शुभारंभ

-मोरनी हिल क्षेत्र के 40 युवक-युवतियां को रोजगार सृजन व होमस्टे के साथ-साथ साहसिक गतिविधियों के संचालन प्रक्रिया का दिया जायेगा प्रशिक्षण

For Detailed News-

पंचकूला, 15 जनवरी-     विदेश सहयोग विभाग हरियाणा के प्रधान सचिव एवं रिर्सोस मोबलाईजेशन सैल के सलाहकार श्री योगेंद्र चैधरी ने आज खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग द्वारा 15 से 24 जनवरी तक मोरनी के गांव भूड़ी में आयोजित किये जा रहे 10 दिवसीय ‘यूथप्रन्योर कैंप’ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के निदेशक पंकज नैन भी उपस्थित थे।
‘यूथप्रन्योर कैंप’ में भाग ले रहे युवा-युवतियों को संबोधित करते हुये श्री योगेंद्र चैधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में मोरनी क्षेत्र को देश में एडवेंचर स्पोर्टस एवं हिल स्टेशन के रूप में विकसित करने के लिये निरंतर प्रयास किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि हाल ही में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने मोरनी स्थित टिक्करताल में अनेक साहसिक खेल गतिविधियों का शुभारंभ किया, जिससे मोरनी की तरफ पर्यटको का रूझान बढ़ा है। इसी कड़ी में इस क्षेत्र के युवाओं को रोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की घोषणाओं की निरंतरता को आगे बढ़ाते हुए ‘यूथप्रन्योर कैंप’ का आयोजन किया जा रहा है।  


उन्होंने बताया कि भारत के विभिन्न राज्यों से पर्यटक पैराग्लाईडिंग के लिये मनाली व धर्मशाला जैसे पर्यटक स्थलों पर जाते है। हमें मोरनी को एक मैगनेट के रूप में विकसित करना है ताकि यहां अधिक से अधिक सुविधायें प्रदान कर पर्यटको को मोरनी के प्रति आकर्षित किया जा सके। वर्तमान समय की जीवनशैली इतनी व्यस्त है कि लोगों को कुछ समय बाद ऐसा लगने लगता है कि उन्हें प्राकृतिक सौंदर्य को देखने के लिये पहाड़ी क्षेत्र में जाना चाहिये, जहां पर कुछ समय के लिये अपने कार्यों को भूलकर तरोताजा महसूस कर सके।

https://propertyliquid.com


उन्होंने  मोरनी क्षेत्र के युवाओं से अपील की कि मोरनी में फूलों के अधिक से अधिक पौधे लगाकर मोरनी क्षेत्र को आकर्षण का केंद्र बनाये और साथ ही आने वाले पर्यटको को भी एक-एक पौधा लगाने के लिये प्रेरित करे ताकि इलाके की हरियाली के साथ साथ सुंदरता में भी वृद्धि हो। उन्होंने बागवानी विभाग को भी फूल वाले पौधे ज्यादा से ज्यादा लगाने के निर्देश दिये।


श्री योगेंद्र चैधरी ने मोरनी क्षेत्र के युवाओं का आह््वान किया कि वे मोरनी को एक स्वच्छ, सुंदर व हरा भरा पर्यटक स्थल बनाने में सरकार का सहयोग करें और आने वाले पर्यटको को भी प्रेरित करें कि वे प्लाॅस्टिक की बोतले व चिप्स के खाली रेपरो को कूड़ेदान में ही डाले। पर्यटक स्थल जितना हरा भरा, साफ सुथरा व स्वच्छ और फूलों से भरा होगा, उतना ही देश व विदेश के पर्यटको को आकर्षित करेगा। उन्होंने कहा कि मोरनी क्षेत्र के निवासी अपने घरों के  अतिरिक्त कमरों को सजाकर व वहां सभी आवश्यक सुविधायें उपलब्ध करवाकर पर्यटक को रूकने के लिये उपलब्ध करवा सकते है, जिससे उनकी आमदनी में इजाफा हो सकेगा।


इस अवसर पर संबोधित करते हुये श्री पंकज नैन ने बताया कि इस कैंप में 40 युवक-युवतियों को रोजगार सृजन व होमस्टे के साथ-साथ साहसिक गतिविधियों के संचालन के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस प्रशिक्षण शिविर का मुख्य उद्देश्य मोरनी खंड के युवाओं को रोजगार सृजन व सक्षम करने हेतु अपना कार्य करने के लिए सक्षम बनाना है।


उन्होंने बताया कि इसके अलावा इन युवा-युवतियों को मोरनी के स्थानीय ट्रैक्स के बारे में भी जानकारी दी जाएगी और यहां पर होने वाली वनस्पति, पशु-पक्षी, जीव-जंतुओं की जानकारी मोरनी आने वाले पर्यटकों के साथ साझा करने का प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस कैंप में होमस्टे ऑफ इंडिया द्वारा मोरनी के युवाओं को होमस्टे स्थापित करने तथा उसके संचालन के बारे में भी प्रशिक्षित किया जाएगा।


श्री नैन ने कहा कि इस प्रशिक्षण शिविर में केवल मेरनी खंड के युवा युवतियों को ही शामिल किया गया है। इन 10 दिनों में विभिन्न उच्च अधिकारियों द्वारा समय-समय पर आकर इन युवाओं को संबोधित किया जाएगा। इसके अलावा विभिन्न विभागों के विशेषज्ञों द्वारा कैंप की विजिट कर युवाओं को क्षेत्र की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी जाएगी ताकि आने वाले पर्यटको को सही जानकारी दें सके।
इस अवसर पर जिला खेल अधिकारी अमरजीत सिंह, वन विभाग के रेंज अधिकारी संजय कुमार, खेल विभाग की सीनियर सलाहकार पंखुड़ी, प्रदेश के कार्यक्रम अधिकारी रामकुमार व शिक्षा विभाग के संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

खेल नर्सरियों के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 20 जनवरी

For Detailed News-

सिरसा, 15 जनवरी। जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी सुदेश कुमार ने बताया कि हरियाणा सरकार के खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग हरियाणा के द्वारा 600 खेल नर्सरियां सरकारी व निजी शिक्षण संस्थाओं में तथा निजी खेल संस्थाओं (निजी खेल अकादमियों, निजी खेल प्रशिक्षण केन्द्र आदि ) को अलॉट की जानी है। इच्छुक सरकारी व निजी शिक्षण संस्थाएं तथा निजी खेल संस्थाओं (निजी खेल अकादमियों, निजी खेल प्रशिक्षण केन्द्र आदि) अपना आवेदन पत्र साफ  तथा सुन्दर लिखाई में भरकर 20 जनवरी, 2022 तक जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी सिरसा के कार्यालय  में जमा करवाएं। निर्धारित तिथि उपरान्त किसी भी आवेदन पत्र पर विचार नहीं किया जाएगा। खेल नर्सरी के आवेदन हेतु आवेदन पत्र खेल विभाग वेबसाइट हरियाणा स्पोट्र्स जीओवी.इन से डाउनलोड करें।

https://propertyliquid.com

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

धुंध के मौसम में सड़क सुरक्षा के नियमों का करें पालन : उपायुक्त अनीश यादव

– गाड़ी चलाते समय फोन का इस्तेमाल न करें, हमेशा सीट बेल्ट लगाए


सिरसा, 15 जनवरी।

For Detailed News-


उपायुक्त अनीश यादव ने जिलावासियों का आह्वïान किया है कि वे सर्दी व धुंध के मौसम में स्वयं तथा दूसरों की सुरक्षा के लिए यातायात नियमों का स्वेच्छा से पालन करें। वाहन चलाते समय सीट बेल्ट लगाए तथा फोन का इस्तेमाल न करें। गाड़ी की स्पीड कम से कम रखें। गाड़ी की हेडलाइट व फोग लैंप जलाकर रखें। बाई तरफ सड़क की सफेद पट्टी के साथ-साथ लेन में चले। दाएं-बाएं मुडऩे से कुछ समय पहले इंडिकेटर दें। अपने से आगे चल रहे वाहन से उचित दूरी बनाकर चले। अपने वाहनों के पीछे रेट्रो रिफ्लेक्टिव टेप अवश्य लगवाये। धुंध में सड़क किनारे व सड़क पर गाड़ी पार्क न करें। अगर किसी कारणवश गाड़ी पार्क करनी पड़े तो उसके चारों इंडिकेटर जलाकर रखें।

https://propertyliquid.com

कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

हरियाणा महिला विकास निगम के ऋणियों के लिए ब्याज माफी योजना शुरू : उपायुक्त अनीश यादव

– एक जून 2022 तक लागू रहेगी ब्याज माफी योजना


– बकाया मूलधन राशि की एकमुश्त या किस्तों में एक जून 2022 तक करें अदायगी

For Detailed News-


सिरसा 15 जनवरी : उपायुक्त अनीश यादव ने बताया कि हरियाणा महिला विकास निगम के ऋणियों का ब्याज माफ कर दिया जाएगा यदि वे 31 मार्च 2019 को कुल बकाया मूलधन राशि की एकमुश्त या किस्तों में आगामी एक जून 2022 तक अदायगी कर देते है। ब्याज माफी के लिए पात्रता शर्तें निर्धारित की गई है।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बताया कि इन पात्रता शर्तों में ऋणी की ऋण राशि 31 मार्च 2019 को अतिदेय है, ऋणी जो अपने ऋण खाते में बकाया मूलधन राशि की पूर्ण अदायगी एकमुश्त या किश्तों में आगामी एक जून 2022 तक कर देता है, ऋणी को ब्याज माफी का लाभ केवल पूर्ण समस्त बकाया पड़ी मूलधन राशि की अदायगी पर ही दिया जाएगा तथा इस योजना की समय सीमा केवल छह माह अर्थात एक जून 2022 तक है। इसके उपरांत योजना की समय सीमा बढ़ाने बारे किसी प्रकार का अनुरोध मान्य नहीं होगा। सभी ऋणी /ऋणियों के उत्तराधिकारी/जमानतदार सरकार की इस योजना का लाभ उठाये और समस्त बकाया पड़े मूलधन ऋण की एक जून 2022 तक पूर्ण अदायगी कर शत प्रतिशत ब्याज माफी का लाभ प्राप्त करें। निगम की जिला प्रबंधक  ने कहा कि इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए उनके कार्यालय अथवा मुख्यालय से सम्पर्क किया जा सकता है।