विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत किसानों को तकनीकी व वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है-दिलबाग सिंह

For Detailed News-

किसानों को तालाबों के अनुमानों की तैयारी में सहायता करने के साथ साथ गुणवत्ता वाले बीज व फीड की आपूर्ति की जाती है- दिलबाग सिंह

पंचकूला, 18 जुलाई- केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत किसानों को मछली पालन के व्यवसाय के लिये तकनीकी व वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।
इस संबंध में जानकारी देते हुये जिला मत्स्य अधिकारी श्री दिलबाग सिंह ने बताया कि किसानों को मछली पालन के लिये पट्टे पर गांव के तालाबों को लेने में सहायता प्रदान की जाती है। इसके अलावा मछली संस्कृति इकाई के निर्माण के लिये ऋण की सहायता भी उपलब्ध करवाई जाती है। उन्होंने बताया कि किसानों को मछली पालन के लिये प्रशिक्षण और पुनश्चर्या पाठ्यक्रम की व्यवस्था के साथ साथ तालाब साईटों की मिट्टी और पानी का विशलेषण में भी सहायता प्रदान की जाती है।


उन्होंने बताया कि किसानों को तालाबों के अनुमानों की तैयारी में सहायता व गुणवत्ता वाले बीज और फीड की आपूर्ति की जाती है। इसी तरह मछली के विकास और रोगों की जांच में भी सहायता की जाती है। इसके अलावा मछली फसल काटने की मशीन और मछली परिवहन और विपणन में सहायता की जाती है। 

https://propertyliquid.com


श्री दिलबाग ने बताया कि राज्य सरकार मत्स्य पालन क्षेत्र में विभिन्न गतिविधियों को शुरू करने के लिये मछली किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है। इस वित्तीय सहायता में सघन मत्स्य विकास कार्यक्रम की योजना के अंर्तगत नये तालाबों की खुदाई/मछली संस्कृति के लिये सामुदायिक भूमि का नवीनीकरण करके अतिरिक्त जल क्षेत्र का निर्माण करना शामिल है। उन्होंने बताया कि मौजूदा तालाबों और सूक्ष्म जलक्षेत्रों में मछली संस्कृति को बनाये रखने के लिये मछली किसानों को तकनीकी सहायता प्रदान करना है। इसके लिये शैलो, डीप ट्यूब्वैल और जलवाहक के लिये वित्तीय सहायता भी प्रदान की जाती है।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

664 लाभार्थियों ने करवाई वैक्सीनेशन

सिरसा, 18 जुलाई।

For Detailed News-


उप सिविल सर्जन डा. बुधराम ने बताया कि रविवार को 664 लाभार्थियों ने कोरोना की डोज लगवाई तथा अब तक जिला में चार लाख 12 हजार 39 लाभार्थियों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैैं। उन्होंने बताया कि 18 से 44 आयुवर्ग के एक लाख 29 हजार 376 लाभार्थियों को पहली तथा 4452 लाभार्थियों को दूसरी, 45 से 60 वर्ष आयुवर्ग के 92 हजार 279 लाभार्थियों ने कोरोना की पहली तथा 26 हजार 473 लाभार्थियों ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा ली है। इसके अलावा 60 वर्ष से अधिक आयु के एक लाख एक हजार 444 लाभार्थियों ने पहली तथा 40 हजार 402 लाभार्थियों ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा ली है।


उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन बेहद जरूरी है, इसलिए 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग का प्रत्येक व्यक्ति अपना वैक्सीनेशन अवश्य करवाएं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रत्येक व्यक्ति को चाहिए कि वे अपनी नैतिक जिम्मेवारी समझ कर बचाव उपायों व एसओपी गाइडलाइन की अनुपालना करें तभी कोरोना संक्रमण से बचाव संभव है। कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए नागरिकों का सहयोग जरूरी है, इसलिए आमजन जरा भी ढील न बरतें और टेस्टिंग व वैक्सीनेशन अवश्य करवाएं।

https://propertyliquid.com

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार-2021 के लिए नामांकन/अनुसंशाएं आमंत्रित – विनय प्रताप सिंह

For Detailed News-

For Detailed News-

पंचकूला, 18 जुलाई- पंचकूला के उपायुक्त श्री विनय प्रताप सिंह ने भारत की एकता और अखंडता में दिए गए योगदान के लिए जिले के सभी कार्यालयों के प्रमुखों को सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार – 2021 के लिए उपयुक्त नामांकन / अनुसंशाएं राज्य सरकार को 9 अगस्त, 2021 तक ऑनलाइन भेजने के लिए कहा है ताकि इसे भारत सरकार को भेजा जा सके।


उन्होंने कहा कि सरदार पटेल राष्ट्रीय एकता पुरस्कार भारत की एकता और अखंडता में योगदान के क्षेत्र में सर्वाेच्च नागरिक पुरस्कार है। धर्म, जाति, लिंग, स्थान या जन्म, आयु या व्यवसाय के भेद के बिना भारत के सभी नागरिक और कोई भी संस्था/संगठन इस पुरस्कार के लिए पात्र हैं।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बताया कि भारत सरकार द्वारा स्थापित इस पुरस्कार की घोषणा 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर की जाएगी। इस पुरस्कार का उद्देश्य भारत के नागरिकों/संस्थानों द्वारा एक मजबूत और एकजुट भारत के मूल्य को सुदृढ़ करने के साथ-साथ राष्ट्रीय एकता और अखंडता के लिए उल्लेखनीय और प्रेरक योगदान को मान्यता देना है। ।
उन्होंने कहा कि नामांकन/अनुसंशाओं में राष्ट्रीय एकता और अखंडता को बढ़ावा देने के लिए व्यक्तियों/संस्थाओं या संगठनों की विशिष्ट और असाधारण उपलब्धियों/सेवाओं को स्पष्ट रूप से उल्लेख करते हुए सभी प्रासंगिक विवरण शामिल होने चाहिए।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा आगामी 26 जुलाई तक रहेगा प्रभावी : उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 18 जुलाई।

For Detailed News-


उपायुक्त एवं जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के चेयरमैन अनीश यादव ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा की अवधि को 26 जुलाई, 2021 प्रात: पांच बजे तक बढ़ा दिया गया है, जिसके मद्देनजर जिला प्रशासन द्वारा नई हिदायतें जारी की गई है।


उपायुक्त ने बताया कि सरकार के निर्देशानुसार सप्ताह के सभी दिनों में रात्रि 11 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कफ्र्यू लागू रहेगा। उन्होंने बताया कि होटल व मॉल में स्थित रेस्टोरेंट व बार अथवा अन्य स्थानों पर स्थित रेस्टोरेंट व बार सुबह 10 बजे से रात्रि 11 बजे तक खोले जा सकेंगे। इन्हें भी कोविड-19 हिदायतों की पालना व 50 प्रतिशत क्षमता के साथ ही खोलने की अनुमति दी गयी है। साथ ही रात्रि 11 बजे तक खाद्य पदार्थों की रेस्टोरेंट से होम डिलीवरी की जा सकती है। गोल्फ कोर्स के क्लब हाउस, रेस्टोरेंट तथा बार 50 प्रतिशत क्षमता के साथ सुबह 10 बजे से रात्रि 11 बजे तक खोलने की अनुमति रहेगी। गोल्फ कोर्स में सामाजिक दूरी तथा कोविड-19 की हिदायत अनुसार ही मेंबर व आगुंतक गोल्फ कोर्स मैनेजमेंट की अनुमति उपरांत ही खेलने के लिए मान्य होंगे। जिम सुबह 6 बजे से रात्रि 9 बजे तक 50 प्रतिशत क्षमता एवं कोविड-19 की हिदायतों के साथ खोलने की अनुमति रहेगी।


उन्होंने बताया कि शादी समारोह में व अंतिम संस्कार के लिए 100 व्यक्ति सभी हिदायतों के साथ एकत्रित हो सकेंगे। खुले स्थान पर 200 लोगों के एकत्रित होने की संख्या सीमित की गई है। स्पा 50 प्रतिशत क्षमता के साथ सुबह 6 बजे से सायं 8 बजे तक खोलने की अनुमति रहेगी। स्वीमिंग पुल केवल एथेलेटिक्स/स्वीमिर्स के लिए कंपीटिशन इवेंट की प्रेक्टिस के लिए खुले रहेेंगे। सिनेमा हॉल अधिकतम 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ खुल सकते हैं। आईटीआई, यूनिवर्सिटी/कॉलेज केंपस शोध आदि कार्य प्रैक्टिकल क्लास तथा डाउट क्लियर करने के लिए के लिए खुले रहेंगे। उन्होंने बताया कि सामाजिक दूरी, कोविड के उचित व्यवहार की जारी हिदायतों की पालना करते हुए हरियाणा स्किल डेवलेपमेंट मिशन के तहत चलाए जा रहे ओपन ट्रेनिंग सेंटर तथा कोचिंग संस्थान, पुस्तकालय व ट्रेनिंग संस्थान (सरकारी व प्राइवेट) खोले जा सकते हैं। उन्होंने बताया कि सभी दुकानें सुबह 9 बजे से रात्रि 8 बजे तक, सभी मॉल सुबह 10 बजे से सायं 8 बजे तक खोलने की अनुमति रहेगी। धार्मिक स्थल एक समय में 50 लोगों की अधिकतम सीमा के साथ खोले जा सकेंगे। धार्मिक स्थलों पर सेनिटाइजेशन, सामाजिक दूरी, मास्क व अन्य कोविड-19 हिदायतों की पालना करनी होगी।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि कॉर्पोरेट कार्यालय शत-प्रतिशत कर्मचारियों के साथ खोले जाने की अनुमति प्रदान की गई है। हालांकि ऐसे सभी कार्यालयों में कोविड-19 हिदायतों का पालन प्रभावी रूप से करना होगा। सभी निर्माण एवं औद्योगिक इकाइयों तथा संस्थाओं को कार्य करने के लिए अनुमति रहेगी हालांकि कोविड-19 हिदायतों का पालन प्रभावी रूप से करना अनिवार्य रहेगा। स्पोर्टस कॉम्प्लेक्स तथा स्टेडियम केवल खेल गतिविधियों के लिए खुले रहेंगे और दर्शकों को वहां पर जाने की अनुमति नहींं होगी। खेल अधिकारियों की देखरेख में सामाजिक दूरी एवं अन्य हिदायतों की पालना सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा कि इन आदेशों को प्रभावी रूप से लागू करवाने के लिए संबंधित अधिकारियों द्वारा अनुपालना सुनिश्चित करवाई जाएगी।


उपायुक्त ने कहा कि संबंधित एसडीएम अपने-अपने अधीन क्षेत्रों में आदेशों की दृढता से पालना सुनिश्चित करेंगे। नियमों की उल्लंघना करने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 व धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई की जाए।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

मेरा पानी-मेरी विरासत योजना रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 31 जुलाई तक बढ़ाई

सिरसा,18 जुलाई।

For Detailed News-

-धान की फसल छोड़ अन्य फसल की खेती पर मिलेंगे सात हजार रुपये प्रति एकड़


प्रदेश में धान की खेती को छोड़कर फसल विविधीकरण के तहत अन्य फसल उगाने वाले किसानों के प्रोत्साहन के लिए शुरू की गई महत्वाकांक्षी योजना मेरा पानी-मेरी विरासत की रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि को बढ़ाकर 31 जुलाई कर दिया गया है।


उपायुक्त अनीश यादव ने बताया कि प्रदेश में लगातार बढ़ते हुए धान के क्षेत्र से प्रत्येक वर्ष भू-जल स्तर में गिरावट आ रही है। विशेषज्ञों का कहना है कि धान की खेती सबसे ज्यादा पानी का दोहन मांगती है। ऐसे में राज्य सरकार की तरफ से वैकल्पिक फसल के रूप में मक्का, कपास, बाजरा, दलहन, बागवानी की फसलों और जल संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए ‘मेरा पानी-मेरी विरासतÓ योजना की शुरुआत की गई है।

https://propertyliquid.com


मेरा पानी-मेरी विरासत योजना के तहत राज्य सरकार ने मक्का, कपास, खरीफ तिलहन, खरीफ दालें, चारा वाली फसलों एवं बागवानी की फसल लगाने पर सात हजार रुपये प्रति एकड़ देने का प्रावधान किया है। इस योजना के लाभ पात्र वही किसान होंगे जिनके द्वारा पिछले वर्ष धान की खेती की गई हो। योजना का लाभ अधिक से अधिक लोग उठा सके, इसके लिए सरकार ने योजना के लिए रजिस्ट्रेशन तिथि को बढ़ा कर 31 जुलाई कर दिया गया है। योजना का लाभ लेने के इच्छुक किसान पार्टल फसलडॉटहरियाणाडॉटजीओवीडॉटइन (http://fasal.haryana.gov.in) पर जाकर 31 जुलाई तक अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है। योजना के विषय मे अधिक जानकारी के लिए हेल्पलाइन नंबर 0172-2571553, 2571544 पर सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक संपर्क कर सकते है।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

सरकारी सेवाओं का लाभ लेने के लिए परिवार पहचान पत्र जरूरी, आय वेरिफिकेशन के कार्य में जनता करे सहयोग : अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह

सिरसा,18 जुलाई।

For Detailed News-

परिवार पहचान पत्र में आय वेरिफिकेशन का 93 प्रतिशत से अधिक कार्य पूरा : एडीसी


अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने बताया कि जिला में परिवार पहचान पत्र में आय वेरिफिकेशन का 93 प्रतिशत से अधिक किया जा चुका है। जिला के 8351 परिवारों के परिवार पहचान पत्र में आय वेरिफिकेशन का कार्य किया जाना है, जिनमें से 7812 परिवारों की आय वेरिफिकेशन का कार्य पूरा हो चुका है, शेष कार्य को जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा।


एडीसी ने बताया कि इस कार्य में चयनित लोकल कमेटी लगी हुई है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे परिवार पहचान पत्र में आय वेरिफिकेशन के कार्य में सहयोग दें। इसके अतिरिक्त जिन्होंने अभी तक परिवार पहचान पत्र नहीं बनवाएं हैं वो अपना पीपीपी कार्ड बनवाना सुनिश्चित करें और जिसका पहचान पत्र बन चुका है वह उसको अपडेट कर लें। अब सरकारी योजनाओं व सेवाओं का लाभ सभी लोगों को परिवार पहचान पत्र के आधार पर ही मिलेगा।


उन्होंने बताया कि यह महत्वाकांक्षी परियोजना हर परिवार को समृद्ध और खुशहाल बनाने में मील का पत्थर साबित होगी, क्योंकि अब सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को परिवार पहचान पत्र से जोड़ दिया है। इससे उन्हें न तो कार्यालयों के चक्कर काटने पड़ेंगे और न ही किसी कर्मचारी की जी-हुजूरी करनी पड़ेगी।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि परिवार पहचान पत्र एक विस्तृत डेटाबेस है जिसमें नागरिकों की सभी प्रकार की जानकारी शामिल होती हैं। इसमें परिवार की आर्थिक स्थिति सहित परिवार के सदस्यों की आयु, जाति, शिक्षा, रहन-सहन व संसाधनों आदि का पूरा विवरण जुटाया जा रहा है। इसी जानकारी के आधार पर सरकारी योजनाओं का लाभ, वास्तव में हकदार लोगों को समय पर मिल सकेगा। उपायुक्त ने बताया कि 60 साल की आयु पूरी होने पर वृद्धावस्था सम्मान भत्ता पेंशन और 18 साल की आयु होने पर मतदाता पहचान-पत्र जैसी योजनाओं का लाभ निर्धारित समय पर अपने-आप ही मिल जाएगा। इससे सरकारी कार्यालयों में पारदर्शिता बढ़ेगी, प्रभावशाली लोगों का हस्तक्षेप समाप्त हो जाएगा और केवल पात्र व्यक्ति ही योजना का लाभ उठा सकेंगे।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

महामारी की तीसरी लहर के अंदेशे को न करें नजरअंदाज, कोविड नियमों की करें पालना : उपायुक्त

सिरसा, 18 जुलाई।

For Detailed News-


उपायुक्त अनीश यादव ने जिलावासियों को हिदायत जारी की है कि नागरिक कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। बचाव उपायों को लेकर छोटी सी लापरवाही भी खतरनाक हो सकती है। इसलिए आमजन कोविड नियमों की नियमित रूप से पालना करें। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग व हाथ धोने के नियमों को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बना लें।


उन्होंने कहा कि जिला में संक्रमण मामलों में लगातार कमी होना सुखद है, लेकिन अभी संक्रमण पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है। विशेषज्ञों द्वारा संक्रमण की तीसरी लहर की संभावना जताई जा रही है। नागरिकों द्वारा थोड़ी सी लापरवाही भी संभावित लहर को बल दे सकती है। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग व हाथों को बार-बार धोना आदि नियमों की पालना के साथ-साथ वैक्सीनेशन करवाकर हम न केवल संक्रमण को पूरी तरह से खत्म कर सकते हैं, बल्कि तीसरी लहर की संभावना को भी टाला जा सकता है।
उपायुक्त ने कहा कि संभावित लहर के मद्देनजर नागरिकों को पहले की भांति अब ओर ज्यादा सावधानी बरतनी होगी और सरकार व प्रशासन द्वारा जारी सभी हिदायतों की अनुपालना करनी होगी। ऐसा करके ही संक्रमण के मामलों को रोका जा सकता है।

https://propertyliquid.com


बेवजह भीड़ का हिस्सा ना बने :
उपायुक्त अनीश यादव ने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा है कि वे भीड़-भाड़ वाले स्थानों से बचें और सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क व सैनिटाइजेशन जैसी सावधानियां अपनाएं। उन्होंने दुकानदारों से यह अपील की है कि वे राज्य सरकार द्वारा महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा के तहत जारी सभी हिदायतों का पालन करें और दूसरे लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें। उन्होंने नागरिकों से आवश्यक रूप से वैक्सीनेशन करवाने की अपील करते हुए कहा कि जिन्होंने पहली डोज ले ली है, वे दूसरी डोज जरूर लगवाएं। उन्होंने कहा कि वरिष्ठजनों तथा पहले से अन्य बीमारियों से पीडि़त व्यक्तियों के लिए वैक्सीनेशन बेहद जरूरी है। कोरोना के लक्षण महसूस होने पर जल्द से जल्द टेस्टिंग करवाई जाए क्योंकि संक्रमण का पता चलने पर यदि उपचार शुरू हो जाए तो खतरा बेहद सीमित हो जाता है।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

ग्रेशियन अस्पताल मोहाली ने कोरोना की दूसरी लहर दौरान 600 से अधिक मरीजों का इलाज किया: डा. प्रीती शर्मा

देश में 5 लाख लोगों के इलाज के लिए 70000 आईसीयू बैड उपलब्ध: डा. मनविंदरजीत कौर

For Detailed News-

मोहाली, 17 जुलाई: ग्रेशियन सुपर स्पैलिटी अस्पताल मोहाली की टीम ने मोहाली, चंडीगढ़ तथा पंचकूला में आईसीयू की सुविधा तथा गंभीर बीमारियों के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए एक पत्रकार कान्फे्रेंस में गंभीर मरीजों की संभाल, कोविड केयर तथा वेंटीलेशन संबंधी बहुत सारे तथ्यों तथा भ्रमों के बारे विचार चर्चा की।


ग्रेशियन अस्पताल में फेफड़ों के रोगों के माहिर तथा क्रिटिकल केयर के सीनियर कंस्लटेंट डा. प्रीती शर्मा ने पत्रकारों को संबोधन करते हुए कहा कि क्रिटिकल तथा इंटेसिल केयर (गंभीर मरीज की पूरी निष्ठा से देखभाल) में मरीज की गंभीर हालत के समय उसकी जिंदगी बचाने का प्रबंध शामल है, जिसमें अकसर जीवन रक्षक प्रणाली की जरूरत पड़ती है।


ऐसी जीवन रक्षक प्रणाली की सुविधा एक अच्छे अस्पताल में ही दी जा सकती है। उन्होंने बताया कि आईसीयू में 24 घंटे माहिर डाक्टर मौजूद रहे हैं तथा यहां विशेष नर्सें तैनात होती हैं। डाक्टरी स्टाफ के अलावा हर तरह की अति-आधुनिक टेक्नोलॉजी, वेंटीलेटर, डायलसिस मशीनें, इको, हाई-फ्लो, नेजल केनला, कार्डियक मॉनीटर शामिल होते हैं।


डा. प्रीती शर्मा ने यह भी बताया कि कोविड 19 की दूसरी लहर दौरान ग्रेशियन अस्पताल में गंभीर बीमारियों से पीडि़त 600 से अधिक मरीजों का इलाज किया गया, जिनमें चंडीगढ़ ट्राईसिटी के अलावा दिल्ली, नोएडा, फरीदाबाद, मेरठ, जम्मू, बरेली, देहरादून, हरिद्वार तथा मथुरा के मरीज भी शामिल थे।


डा. प्रीती शर्मा ने यह भी बताया कि हमारे देश में 10 हजार लोगों के पीछे 7 डाक्टर हैं, जो कि औसतन आधे हैं। उन्होंने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लयू एच ओ) मुताबिक भारत में 50000 क्रिटिकल केयर डाक्टरों की जरूरत है, जबकि हमारे देश में सिर्फ 8350 ऐसे सिखलाई याफ्ता डाक्टर हैं।


ग्रेशियन अस्पताल मोहाली के क्रिटिकल केयर के प्रमुख तथा सीनियर कंस्लटेंट डा. मनिंदरजीत कौर ने बताया कि लगभग सभी बड़े प्राइवेट तथा सरकारी अस्पतालों में इंटेसिव केयर यूनिट कायम किए हुए हैं। जो ध्यान से देखा जाए तो 10-20 बिस्तरों वाले यह क्रिटिकल केयर यूनिट अकसर मरीजों से भरे रहते हैं।

https://propertyliquid.com


सडक़ हादसों या अन्य दुर्घटनाओं का शिकार मरीजों को इन यूनिटों में दाखिल किया जाता है। उन्होंने बताया कि देश भर में सिर्फ 70 हजार आईसीयू बैड उपलब्ध हैं। आबादी के इलाज के साथ यहां 5 लाख आईसीयू बैडों की जरूरत है।


फेफड़ों तथा छाती के रोगों के माहिर डाक्टर हितेश गौड़ ने कहा कि भारत में अभी भी अस्पतालों में बिस्तरों की कमी है। हमारे देश में 10000 लोगों के पीछे सिर्फ 10 अस्पताल बैड उपलब्ध हैं, जबकि विश्व औसतन 10000 लोगों के पीछे 30 बैड हैं। उन्होंने बताया कि इस कमी को पूरा करने के लिए सभी अस्पतालों में उपलब्ध बिस्तरों में कम से कम 10 प्रतिशत आइसीयू बैड होने चाहिए।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

सरकार के साथ साथ गैर सरकारी संस्थायें व अन्य सामाजिक संस्थायें समाज सेवा के लिये तत्पर हो जाती है तो समाज, प्रदेश व देश को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता- गुप्ता

For Detailed News-

– रक्तदान महादान है और इसका कोई विकल्प नहीं-गुप्ता
— पंचकूला में 100 एकड़ में आॅक्सीवन स्थापित किया जा रहा है ताकि आॅक्सीजन की कोई कमी ना रहे-गुप्ता

पंचकूला, 17 जुलाई- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि जब सरकार के साथ साथ गैर सरकारी संस्थायें व अन्य सामाजिक संस्थायें समाज सेवा के लिये तत्पर हो जाती है तो समाज, प्रदेश व देश को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता।


श्री गुप्ता आज स्टेट बैंक आॅफ इंडिया सेक्टर-10 शाखा द्वारा बैंक के प्रांगण में जिला रेडक्राॅस सोसायटी के सहयोग से आयोजित रक्तदान शिविर में मुख्यातिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।


स्टेट बैंक आॅफ इंडिया की टीम को बधाई देते हुये श्री गुप्ता ने कहा कि एसबीआई कई वर्षों से रक्तदान व पौधारोपण के माध्यम से समाज सेवा के कार्य करता आ रहा है। श्री गुप्ता ने कहा कि उन्हें बताया गया है कि एसबीआई द्वारा हरियाणा प्रदेश में 1 लाख पौधे काॅरपोरेट सामाजिक जिम्मेदारी के तहत लगाने का लक्ष्य रखा गया है, जिसमें से 30 हजार पौधे लगाये जा चुके है।  


उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण हमारे जीवन के साथ जुड़ा है क्योंकि पेड़ होंगे तो आॅक्सीजन की कोई कमी नहीं रहेगीं। कोविड काल का जिक्र करते हुये उन्होंने कहा कि देश में आक्सीजन की कोई कमी ना हो, इसके लिये प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने स्वयं आगे आकर कमान संभाली और एयरलिफ्ट व अन्य माध्यमों से आॅक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करवाई।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार ने भी इस दिशा में आगे बढ़ते हुये हर शहर में पांच एकड़ से 100 एकड़ तक की भूमि पर आॅक्सीवन लगाने का निर्णय लिया है ताकि प्रदेश में प्राकृतिक आॅक्सीजन भरपूर मात्रा में उपलब्ध हो सके। इसी कड़ी में पंचकूला में 100 एकड़ में आॅक्सीवन स्थापित किया जा रहा है, जिसमें ज्यादा आॅक्सीजन देने वाले पौधों को लगाया जा रहा हैं।


श्री गुप्ता ने कहा कि रक्तदान महादान है और इसका कोई विकल्प नहीं है। उन्होंने कहा कि एसबीआई से उनका काफी पुराना नाता है और लोगों को इस बैंक पर इसकी सेवायें और अपनी जमा राशि की सुरक्षा की दृष्टि से पूरा विश्वास है। उन्होंने कहा कि एसबीआई आज ऐसा काम कर रहा है, जिसकी आम के समय में बहुत आवश्यकता है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि एसबीआई इसी प्रकार रक्तदान शिविर  व अन्य समाज सेवा के कामों के माध्यम से समाज की सेवा करता रहेगा।


इस अवसर पर श्री गुप्ता ने एसबीआई के कर्मचारी व अधिकारियों को रक्तदान करने पर बधाई दी व उन्हें बैज लगाकर व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। रक्तदान शिविर में पीजीआई चंडीगढ़ बल्ड बैंक के डाॅक्टरों की टीम द्वारा 75 यूनिट रक्त एकत्रित किया गया।      


बीजेपी जिला उपाध्यक्ष उमेश सूद ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता समाज सेवा के कामों में बढ़चढ़कर हिस्सा लेते है। उन्होंने कहा कि श्री गुप्ता के प्रयासों से ही पंचकूला मैट्रापोलिटन डवलपमेंट अथोरिटी का गठन हुआ है, जिससे पंचकूला के विकास को और गति मिलेगी।


एसबीआई के उप महाप्रबंधक संजय कुमार ने बताया कि एसबीआई सामाजिक काॅरपोरेट जिम्मेदारी के तहत समाज सेवा के अनेक काम करवाती आ रही है। जुलाई में लगभग 30 हजार पौधों का रोपण किया गया हैं तथा 70 हजार और पौधे पूरे हरियाणा में लगाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता का एसबीआई से पुराना संबंध रहा है और वे इस तरह के रक्तदान शिविरों में आकर रक्तदाताओं का मनोबल बढ़ाते रहे है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि श्री गुप्ता भविष्य में भी इसी प्रकार उनका सहायोग करते रहेंगे।


इस अवसर पर रेडक्राॅस सोसायटी की सचिव सविता अग्रवाल, पार्षद सोनिया सूद व जय कौशिक, योगेंद्र शर्मा, समाज सेवी अनिल थापर, एसबीआई के क्षेत्रीय प्रबंधक विनय कुमार, एसबीआई सेक्टर-10 शाखा के मुख्य प्रबंधक अरूण कुमार, समाज सेविका नीलम कौशिक व बैंक के अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

गुरुद्वारा पाकिस्तान जाने के इच्छुक तीर्थ यात्री 26 जुलाई से पहले करें आवेदन

सिरसा, 17 जुलाई।

For Detailed News-


श्री गुरू नानक देव जी के अवतरण दिवस पर गुरुद्वारा पाकिस्तान जाने के इच्छुक तीर्थ यात्री 26 जुलाई 2021 से पहले उपायुक्त कार्यालय में अपने प्रार्थना पत्र प्रस्तुत कर सकते हैं।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त अनीश यादव ने बताया कि नवंबर माह में श्री गुरु नानक देव जी के अवतरण दिवस पर गुरुद्वारा पाकिस्तान में मनाए जाने वाले गुरु पर्व में भाग लेने के इच्छुक तीर्थ यात्री अपना प्रार्थना पत्र निर्धारित तिथि से पहले उपायुक्त कार्यालय की पीएलए शाखा में कमरा नंबर 31 प्रथम तल में जमा करवाएं।