विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

श्रमिकों की बेटी की शादी में कन्यादान के रूप में दी जाती है एक लाख रुपये की राशि : उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 03 जुलाई।

For Detailed News-


हरियाणा भवन एवं संनिर्माण श्रम कल्याण बोर्ड द्वारा विभिन्न योजनाओं के माध्यम से श्रमिकों को विभिन्न सुविधाओं का लाभ प्रदान किया जा रहा है। बोर्ड द्वारा श्रमिकों की बेटी की शादी के लिए एक लाख एक हजार रुपए की राशि कन्यादान के रूप में प्रदान की जाती है और यह सुविधा श्रमिक की तीन बेटियों तक प्रदान की जाती है।


उपायुक्त ने बताया कि मुख्यमंत्री सामाजिक सुरक्षा योजना के तहत श्रमिक की यदि कार्य करते हुए मृत्यु होने पर 5 लाख रुपये तथा अचानक मृत्यु पर 2 लाख 15 हजार रुपए  की सहायता राशि भी दी जाती है। उन्होंने बताया कि बोर्ड द्वारा मातृत्व लाभ के लिए 36 हजार, पितृत्व लाभ के लिए 21 हजार रुपये, कामगारों को 5 वर्ष में एक बार नए औजारों की खरीद के लिए 8 हजार रुपये, पंजीकृत महिला कामगारों को उनकी सदस्यता के नवीनीकरण के समय साड़ी, सूट, चप्पल, रेनकोट, छाता, रबड़ मैट्रस, बर्तन व नैपकिन खरीदने के लिए हर वर्ष 51 सौ रुपए दिए जाते हैं। इसी प्रकार कामगारों को साइकिल खरीदने के लिए 3 हजार रुपये की वित्तीय राशि तथा महिला श्रमिक को सिलाई मशीन दी जाती है।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बताया कि पंजीकृत कामगार व उसके परिवार के चार सदस्यों को 4 वर्ष में एक बार धार्मिक व ऐतिहासिक स्थलों के भ्रमण के लिए रेलवे की द्वितीय श्रेणी व साधारण रोडवेज बसों का किराया भी दिया जाता है। पंजीकृत कामगारों के जो बच्चे मेडिकल अथॉरिटी द्वारा 50 प्रतिशत या इससे अधिक शारीरिक अथवा मानसिक रूप से अक्षम व दिव्यांग घोषित किए गए हैं, उन्हें दो हजार रुपये प्रति माह सहायता राशि दी जाती है। उन्होंने कहा कि कार्यस्थल पर किसी दुर्घटना में स्थाई रूप से दिव्यांग होने पर पंजीकृत कामगार को दिव्यांग प्रतिशतता के आधार पर डेढ़ से तीन लाख रुपये तक की एकमुश्त वित्तीय सहायता दी जाती है। किसी संक्रामक बीमारी या कार्यस्थल पर दुर्घटना के कारण दिव्यांग होने पर तीन हजार रुपये प्रति माह पेंशन देने का प्रावधान भी किया गया है। उल्लेखनीय है कि ये सुविधाएं पंजीकृत श्रमिक को उसके पंजीकरण होने के एक वर्ष बाद ही दी जाती है।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

डिजिटल इंडिया के कारण काले धन में कमी आयी है।

पंचकूला जुलाई 3ः केंद्रीय  जल शक्ति व सामाजिक न्याय अधिकारिता राज्य मंत्री श्री रतनलाल कटारिया ने कहा जून के महीने में भारत में लगभग 8,58,649 करोड़ रुपये (114 बिलियन डॉलर) का भुगतान एवं आदान-प्रदान डिजिटल तरीके से हुआ।

For Detailed News-


रत्न लाल कटारिया ने कहा भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम ¼NPCI)  भीम ऐप्प इतियादी के  द्वारा 5,47,373  करोड़ रुपये का भुगतान हुआ। फास्ट टैग द्वारा हाईवे पर 2,576 करोड़ रुपये का ट्रांसैक्शन हुआ। 2,84,033 करोड़ रुपये का भुगतान बैंक से बैंक द्वारा डिजिटल तरीके ( IMPS    – सेल फ़ोन या कंप्यूटर द्वारा  Immediate Payment Service½ से हुआ। आधार सत्यापन प्रक्रिया के द्वारा 24,667 करोड़ रुपये का पेमेंट हुआ।


यह सभी ट्रांसैक्शन कुछ सेकंड में बिना किसी थर्ड पार्टी के सत्यापन या हस्तक्षेप के हो गए – तभी यह डिजिटल हुए। उदाहरण के लिए, चेक पेमेंट के लिए किसी बैंक कर्मी को चेक क्लियर करना होता है। यही स्थिति बैंक टु बैंक मनी वायर या ट्रांसफर करने में है जिसे कोई कर्मी क्लियर करता है।


अगर इस 114 बिलियन डॉलर को एक वर्ष के आंकड़ों के रूप में ले, तो लगभग 1368 बिलियन डॉलर का ट्रांसैक्शन डिजिटल रूप से होगा।
रतन लाल कटारिया ने बताया कि दूसरे शब्दों में, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के पहले दिन से काला धन के खिलाफ प्रयासों से भारत की अर्थव्यवस्था का लगभग 50 प्रतिशत हिस्सा डिजिटल हो चुका है।  अमेरिका में डिजिटल पेमेंट अभी भी अर्थव्यवस्था का लगभग 20 प्रतिशत है, जबकि चीन में 45 प्रतिशत है।
रत्न लाल कटारिया ने कहा पिछले कुछ वर्षों में हुए बड़े फैसलों की वजह से निम्नलिखित परिणाम आये हैः

https://propertyliquid.com


1.काला धन रिकवरी 94,000 करोड़ से अधिक
2. अघोषित आय 1.3 लाख करोड़ से अधिक
3. एनपीए रिकवरी  5.63 लाख करोड़ से अधिक
4. रक्षा सौदों से अतिरिक्त बचत  1.92 लाख करोड़ से अधिक
5. डीबीटी बचत 1.78 लाख करोड़ से अधिक
6. विनिवेस से बचत 2.8 लाख करोड़ से अधिक
7. खानों की नीलामी से बचत 1.81 लाख करोड़ से अधिक रहा है !
 कटारिया ने बताया कि माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी ने  कानूनी और गैरकानूनी धन के मध्य एक दीवार खड़ी कर दी है।  पहले धनी लोग अपने नंबर 2 के पैसे को मॉरिशस या साइप्रस ले जाते थे।  वहां पर उन्हें टैक्स नहीं देना पड़ता था।  फिर वह उस पैसे को  शेयर या कागजी कंपनियों के जरिए भारत ले आते थे।  उदाहरण के लिए, वे लोग किसी शेयर कंपनी का शेयर मार्केट में उतारते थे और मॉरिशस या भारत से उस शेयर को कई गुना दामों में खरीद लेते थे।  दिखाया जाता था कि शेयर कंपनी को शेयर बेचने से भारी लाभ हुआ है और वह पैसा नंबर एक हो जाता था।
रतनलाल कटारिया ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री मोदी के  सत्ता में आने के बाद ऐसे लोगो का काला धन, चाहे भारत में हो या विदेश में, फंस गया और वह धन व्यापारी और उद्योगपतियों की सहायता करने में असमर्थ था,  लगभग चार लाख कागजी कंपनियों का पंजीकरण रद्द किया जा चुका है, उनके बैंक अकाउंट फ्रीज या बंद कर दिए गए हैं।
आज सारा डिजिटल – एवं कैश – ट्रांसैक्शन सरकार के समक्ष है। सरकार को पता है कि किस व्यक्ति ने किस स्थान से किसको पेमेंट किया है। तभी  GST    एवं आयकर के कलेक्शन में लगातार वृद्धि हो रही।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

कोविड-19 ड्राइव-इन टीकाकरण शिविर के पहले चरण में 142 लोगों को लगाई गई वैक्सीन

सिरसा, 03 जुलाई।

For Detailed News-

– कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन सबसे कारगर उपाय : उपायुक्त अनीश यादव
– कोरोना रोधी वैक्सीन लगवाने के लिए लोग हुए जागरूक, अब स्वयं वैक्सीनेशन के लिए आ रहे आगे


कोरोना वैक्सीनेशन अभियान के तहत जिला रेडक्रॉस सोसायटी की ओर से शनिवार को स्थानीय शहीद भगत सिंह स्टेडियम में कोविड-19 ड्राइव-इन टीकाकरण शिविर लगाया गया। शिविर के पहले चरण में आमजन ने बढ़चढ़ कर भाग लिया और लगभग 150 लोगों ने वैक्सीन लगाई गई।


जिला रेडक्रॉस सोसायटी के चेयरमैन एवं उपायुक्त अनीश यादव ने बताया कि जिला में शत प्रतिशत वैक्सीनेशन के लिए सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं का सहयोग लिया जा रहा है ताकि कोई भी नागरिक वैक्सीनेशन की सुविधा से वंचित न रहे। इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा भी जागरूकता के साथ-साथ विभिन्न कैंपों के माध्यम से वैक्सीनेशन कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन बेहद जरूरी है, इसलिए नागरिक वैक्सीनेशन के लिए आगे आएं और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें। इसके साथ-साथ वैक्सीनेशन के उपरांत भी बचाव उपायों की गंभीरता से पालना करें। जिला में अबतक तीन लाख 68 हजार से भी अधिक लोगों को कोरोना रोधी दवा का वैक्सीन लगाया जा चुका है। आमजन की जागरूकता की बदौलत जिला में रिकवरी रेट भी में सुधार हुआ है और निरंतर कोरोना मामले कम हो रहे हैं, अब जिला की रिकवरी रेट 98.08 प्रतिशत है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा वैक्सीनेशन के साथ-साथ प्रतिदिन टेस्टिंग भी की जा रही है, अबतक चार लाख पांच हजार से अधिक लोगों की टेस्टिंग की जा चुकी है।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने कहा कि नागरिक कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर कोरोना रोधी वैक्सीन जरूर लगवाएं। कोरोना संक्रमण को जड़ मूल से खत्म करने में वैक्सीनेशन अहम उपाय है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिला में टीकाकरण का कार्य तेजी से किया जा रहा है, इसलिए नागरिक वैक्सीनेशन के लिए आगे आएं और निर्धारित अंतराल के बाद दूसरी डोज भी लें। उन्होंने कहा कि जब तक कोरोना महामारी का पूर्ण खात्मा नहीं हो जाता है, तब तक हमें मास्क, उचित दूरी बनाकर रहने तथा सेनेटाइज आदि बचाव उपायों की कड़ाई से पालना करनी है।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

हरियाणा महिला विकास निगम द्वारा विधवा महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने के लिए व्यक्तिगत कारोबार स्थापित करने हेतू बैंकों के माध्यम से ऋण दिलवाने की योजना शुरु की है

पंचकूला, 3 जुलाई- हरियाणा महिला विकास निगम द्वारा विधवा महिलाओं को स्वावलम्बी बनाने के लिए व्यक्तिगत कारोबार स्थापित करने हेतू बैंकों के माध्यम से 3 लाख रुपये तक के ऋण दिलवाने की योजना शुरु की है, जिसमें जिला पंचकूला के लिए 20 केसों का लक्ष्य रखा गया है।

For Detailed News-


इस संबंध में जानकारी देते हुये महिला विकास निगम के जिला प्रबंधक श्री विजय सैनी ने बताया कि स्कीम के तहत जिन महिलाओं की वार्षिक आय 3 लाख रुपये तक तथा आयु 18 से 55 वर्ष है इस स्कीम के लिए पात्र होंगी। उन्होंने बताया कि बैंक ऋण के उपर लगे ब्याज की प्रतिपूर्ति हरियाणा महिला विकास निगम द्वारा सब्सिडी के रुप में अदा की जायेगी, जिसकी अधिकतम सीमा 50,000 रुपये व अवधी 3 वर्ष जो भी पहले होगी।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि बुटिक, सिलाई-कढ़ाई, आॅटो, ई-रिक्शा, मसाला/आचार इकाईयां/खाद्य प्रसंस्करण, कैरी बैग का निर्माण, बेकरी, रेडीमेंटस गारमेंटस, कम्प्यूटर जांच वक्र्स इत्यादि या जिन कार्यों को महिलायें करने में सक्षम हो, उन सभी कार्यो के लिये ऋण देने से पूर्व ट्रेनिंग भी करवाई जायेगी ताकि महिलाओं को अपने कारोबार या लघु उद्योग स्थापित करने में कार्य कुशलता की कमी महसूस न हो। उन्होंने बताया इस संबंध में अधिक जानकारी के लिये निगम के कार्यालय जिला प्रबंधक, हरियाणा महिला विकास निगम, एससीओ 30, प्रीत काॅम्पलैक्स, सेक्टर-12ए रैली, पंचकूला दूरभाष नंबर 0172-2585271 पर संपर्क कर सकते है।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

हरियाणा सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिये परिवार पहचान पत्र अनिवार्य- उपायुक्त

For Detailed News-

पंचकूला, 3 जुलाई- उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने हरियाणा सरकार द्वारा विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के तहत पेंशन प्राप्त करने वाले जिला के सभी लाभपात्रों से आग्रह किया है कि वह शीघ्रातिशीघ्र अपना परिवार पहचान पत्र बनवायें ताकि उन्हें पेंशन प्राप्त करने में किसी प्रकार की समस्या का सामना न करने पड़ें।


उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा पेंशन प्राप्त करने वाले सभी लाभपात्रों के लिये परिवार पहचान पत्र आवश्यक कर दिया गया है और वे पेंशन के लिये तभी आवेदन कर सकते है जब उनका परिवार पहचान पत्र बना होगा। इसलिये सभी लाभपात्र पेंशन का आवेदन करने से पहले अपने क्षेत्र के नजदीकी सीएससी सेंटर व अटल सेवा केंद्र में जाकर परिवार पहचान पत्र बनवाये।


उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा जन कल्याण के लिये विभिन्न योजनायें चलाई जा रही है, जिनमें वृद्धावस्था सम्मान भत्ता, विधवा/निराश्रित महिलाओं को वित्तीय सहायता, दिव्यांग पेंशन, लाडली सुरक्षा भत्ता, बोना भत्ता, मंदबुद्धि बच्चों को वित्तीय सहायता इत्यादि शामिल है।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि जो लाभपात्र उपरोक्त पेंशन योजनाओं का लाभ ले रहे है वह सभी लाभपात्र शीघ्रातिशीघ्र अपने क्षेत्र के नजदीकी सीएससी सेंटर व अटल सेवा केंद्र में जाकर परिवार पहचान पत्र बनवाये और सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाये।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

कोविड काल में भारत के साथ साथ विदेशों में सेवा कर रहे भारतीयों ने भी बढ़चढ़कर दिया अपना योगदान- गुप्ता

पचकूला, 3 जुलाई- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि कोविड काल में भारत के साथ साथ विदेशों में सेवा कर रहे भारतीयों ने भी बढ़चढ़कर अपना योगदान दिया हैं जोकि उनकी देश के प्रति कत्र्तव्य निष्ठा व दृढ़ संकल्प को दर्शाता है।

For Detailed News-


ये बात उन्होंने आज सेक्टर-26 स्थित राजकीय पाॅली क्लीनिक में उनकी उपस्थिति में कोविड-19 मरीजों के लिये डोनेट किये गये स्वास्थ्य उपकरणों के अवसर पर कही। यह स्वास्थ्य उपकरण पंचकूला निवासी व जर्मनी के ड्यूश बैंक में कार्यरत हर्ष गुप्ता व उसके साथियों द्वारा डोनेट किये गये है।  डोनेट किये गये मिनी आॅपरेटस, व्हील चेयर, चेयर, स्ट्रेचर, फ्लेामीटर व आॅक्सीमीटर पंचकूला के विभिन्न अस्पतालों में आवश्यकतानुसार भिजवायें जायेंगे।


श्री गुप्ता ने कहा कि पंचकूला के एनआरआई बच्चों द्वारा पंचकूला के अस्पतालों को जो यह सहायता पंहुचाई गई है, इससे निश्चित रूप से मरीजों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि कोविड के काल में इस तरह का नेक काम प्ररेणादायक है। उन्होंने कहा कि चाहे आज ये लोग विदेशों में रहकर वहां अपनी सेवायें दें रहे है लेकिन फिर भी वे अपने देश की मिट्टी से जुड़े है और देश को याद रखें हुये है और देश पर कोई कष्ट आता है तो उस कष्ट को दूर करने के लिये हमारे साथ खड़े है। श्री गुप्ता ने कहा कि इसका अहसास इस बात से हो जाता है कि किस प्रकार से वे विदेशों मे सेवा करते हुये भी अपने देश के प्रति कुछ करने के लिये दृढ संकल्प है।


इस कार्यक्रम के संयोजक श्री रामकुमार गुप्ता ने बताया कि यह स्वास्थ्य उपकरण जर्मनी में रह रहे उनके पुत्र हर्ष गुप्ता व उनके साथियों द्वारा डोनेट किये गये हैं। उन्होंने बताया कि ये उपकरण पंचकूला के विभिन्न अस्पतालों में आवश्यकतानुसार भिजवायें जायेंगे और कोविड-19 मरीजों को निश्चित रूप से इनका लाभ मिलेगा।

https://propertyliquid.com


इस अवसर पर नगर निगम महापौर कुलभूषण गोयल, बीजेपी जिला अध्यक्ष अजय शर्मा, महामंत्री परमजीत कौर, वीरेंद्र राणा, उपाध्यक्ष उमेश सूद, पार्षद जय कोशिक, विश्व हिंदू परिषद के प्रदेश मंत्री सतनारायण वर्मा, मंडलाध्यक्ष राकेश अग्रवाल, एसी मोर्चा के महामंत्री कृष्ण बराड़ व राजकीय पाॅल क्लीनिक के डाॅक्टर व अन्य स्टाफ उपस्थित थे।