PINK OF HEALTH ' WITH " PINATHON "

3 फरवरी को बिजली कर्मचारियों का प्रदेशभर में कार्य बहिष्कार करने का ऐलान

चंडीगढ़, 31 जनवरी।-

बिजली संशोधन बिल 2020 को वापस लेने, पुरानी पेंशन, डीए एलटीसी बहाली व ठेका कर्मचारियों को पक्का करने की मांग को लेकर 3 फरवरी को होने वाली राष्टव्यापी हड़ताल में अब बिजली इंजीनियर भी कूद गए हैं। हरियाणा पावर इंजीनियर एसोसिएशन ने हड़ताल का समर्थन करते हुए 3 फरवरी को प्रदेशभर में कार्य बहिष्कार करने का ऐलान किया है।

For Detailed News-

एसोसिएशन के राज्य प्रधान रामपाल सिंह व महासचिव के के मलिक ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस फैसले का विधिवत नोटिस भी सरकार व बिजली निगमों के आला अधिकारियों को भेज दिया है। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा से संबंधित आल हरियाणा पावर कारपोरेशनज वर्कर यूनियन ने पहले ही राष्टव्यापी हड़ताल में शामिल होने का फैसला ले चुकी है। इंजीनियर एसोसिएशन ने उन्होंने बिजली निगमों के कर्मचारियों के सभी संगठनों से हड़ताल का समर्थन करने का आग्रह किया है।

https://propertyliquid.com

Panjab University, Chandigarh conducted M.Phil. & Ph.D. Entrance Test on 7.3.2021.

Women have an instrumental role in achieving target of $5 trillion economy

Minister of State Sh Rattan lal kataria termed that women have an instrumental role to play in the economic growth of India in the 21st century. Mr kataria was speaking at the foundation day of the National Commission of Women. Mr Kataria informed that as per estimates, the participation of women in labour force stands around 25% as against global average of 48%. An Increase of 10% participation would add $700 billion in the GDP.

https://propertyliquid.com


He added “ Imagine the enormous potential that can be tapped by leveraging the strength of over 40 Crore women in rural areas”.

Mr Kataria honored the female frontline warriors who offered distinguished service during the Covid induced lockdown. He congratulated each one of them for their invaluable service. He mentioned that women have been conferred a status of Goddesses in our rich cultural heritage, however, they have had to face certain challenges due to scathing attack launched on the social fabric by the foreign forces. Mr Kataria highlighted the efforts of social reformers like Raja Ram Mohan Roy and Swami Vivekananda who relentlessly worked for their empowerment.

For Detailed News-

Mr Kataria informed that under the leadership of Prime Minister Sh Narendra Modi, the Government is tirelessly working towards the empowerment of women through flagship programmes like Beti Bachao Beti Padao which is achieving overwhelming response. Mr Kataria also stated that for the first time, women leaders have been given key portfolios like Defence, Finance, etc under the Modi Government.

The Foundation day programme was attended by the Union Cabinet Minister Sh Prakash Javadekar, Chairperson National Commission of Women Smt Rekha Sharma, Member Secretary NCW, Secretary Women and Child Development.

PINK OF HEALTH ' WITH " PINATHON "

प्र्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में जिला के गांव बतौड़ में ग्रामीणो द्वारा की जा रही सिंचाई कार्यक्रम की जमकर सराहना की ।

पंचकूला 31 जनवरी- प्र्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में जिला के गांव बतौड़ में ग्रामीणो द्वारा की जा रही सिंचाई कार्यक्रम की जमकर सराहना की । उन्होंने कहा कि बतौड़ के लोगों ने इस गंदे पानी से खेतों में सिंचाई करके धन सर्जन करने का बेहतर कार्य किया है।

For Detailed News-


प्रधानमंत्री ने अपने मन की बात कार्यक्रम के तहत नागरिकों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत बतौड़ क्षेत्र में गंदे पानी की समस्या विकराल बन रही थी। गांव का गंदा पानी इधर-उधर फैल कर बीमारी फैलाने का कार्य करता था। इसके बाद पंचायत ने पूरे गांव से आने वाले गंदे पानी को तालाब बनाकर एक जगह एकत्र करने ओर फिल्टर कर उसका उपयोग सिंचाई के लिए करने का निर्णय लिया।


उन्होंने कहा कि अब गांव के किसान इस पानी का खेतों में सिंचाई के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं। इससे प्रदूषण, गंदगी और संक्रामक बीमारियों से भी छुटकारा मिला है और खेतों मेें सिचंाई की पर्याप्त सुविधा भी मिली है। ग्राम पंचायत ने यह प्रेरणादायी कमाल करके दिखाया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि बतौड़ ग्राम पंचायत का यह निर्णय पूरे प्रदेशवासियों के लिए राॅल माॅडल के रूप में विख्यात हो गया है।

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने गांव बतौड़ का दौरा कर ग्रामीणों को बधाई देते हुए कहा कि ऐसे उत्साही और प्रेरणादायी कार्यक्रमों से किसानों की उन्नति के द्वार खुलते हैं। प्रधानमंत्री भी देश को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए सार्थक प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने आशा व्यक्त की कि ग्रामीणों द्वारा इस प्रकार के सराहनीय प्रयासों से किसान पूर्ण रूप से आत्मनिर्भर होगा और प्रदेश व देश तरक्की की ओर अग्रसर होगा।

https://propertyliquid.com

श्री गुप्ता ने पंचकूला जिले के छोटे से गांव बतौड़ को देश व दूनिया के नक्षे पर लाने पर प्रधानमंत्री का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि गंाव के अंदर खुली जगह न होने के कारण पांच तालाबों के चारों ओर ग्रामीणों को संाय व सुबह के समय सैर करने के लिए उपयुक्त स्थान मिल गया है। इस प्रकार ग्रामीण क्षेत्र में गंाव का तालाब एक रमणीक स्थल बन गया है। इसके चारों ओर का स्थल हरा-भरा बनाने के लिए ग्रामीणों ने फूल एवं छायादार पौधे भी लगाए है। तालाब की पगडण्डी व फुटपाथ को भव्य रूप देने के लिए पंचायत द्वारा बैठने के लिए बैंच लगाए गए है। इसके अलावा तालाब को मछली पालन के लिए देने से पंचायत को 30 हजार रूपए वार्षिक आमदनी भी हो रही है। यह पंचायत की अतिरिक्त आय का भी स्त्रोत हो गया है। इस प्रकार प्रतिस्पर्धा युग में ऐसे प्रेरणादायी कार्य करना ग्रामीणों के लिए अति आवष्यक है ताकि आने वाली पीढियां उनके द्वारा किए गए कार्यो से परिचित हो सके।


हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ने ग्रामीणों द्वारा गंदे पानी को तालाब में एकत्र करने और उसके बाद फिल्टरयुक्त पानी का उपयोग खेतों में सिंचाई के लिए करने वाले सिंचाई कार्यक्रम का विस्तार से अवलोकन किया और इसकी सराहना की। इस अवसर पर उनके साथ गांव के सरंपच सहित कई ग्रामीण भी मौजूद रहे।

Panjab University, Chandigarh conducted M.Phil. & Ph.D. Entrance Test on 7.3.2021.

‘मन की बात’ से बतौड़ बाग-बाग

पंचकूला के गांव ने तालाब पर नये प्रयोग कर जीता प्रधान मंत्री का दिल

विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता हुए ग्रामीणों के जश्न में शामिल
कहा- लोगों ने पेश की मिशाल, दूसरे गांवों को भी मिलेगी प्रेरणा

पंचकूला, 31 जनवरी

पंचकूला विधान सभा क्षेत्र के गांव बतौड़ का नाम रविवार को जैसे ही प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की जुबां पर आया तो हलका वासियों को गौरव का अनुभव हुआ। बतौड़ गांव में तो जश्न का माहौल बन गया। गांववासियों के इस जश्न में शामिल होने के लिए विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता भी पहुंच गए तो खुशी दोगुना हो गई। विधान सभा अध्यक्ष ने गांववासियों की मेहनत और स्वयं प्रेरणा से किए जा रहे नये प्रयोगों की सराहना की। उन्होंने कहा कि बतौड़ वासियों ने उनके हलके के साथ-साथ हरियाणा प्रदेश का भी नाम रोशन किया है।

For Detailed News-

बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में पंचकूला जिले के गांव बतौड़ में हुए अभिनव प्रयोग की जमकर सराहना की है। यहां गांव में आबादी के बीच स्थित गंदे पानी का तालाब परेशानी का सबब बना हुआ था। खराब पानी आसपास के घरों में घुस जाता था और इसकी बदबू से ग्रामीण काफी परेशान थे। 2016 में सरपंच बने लच्छम दास ने इस समस्या के निराकरण का बीड़ा उठाया। इसके लिए उन्होंने गांववासियों को तैयार किया। गांववासियों ने सामूहिकता की भावना का परिचय देते हुए ऐसी मिसाल पेश की कि प्रधान मंत्री ने उनकी दिल खोल कर तारीफ की।

https://propertyliquid.com

सरपंच लच्छम दास बताते हैं कि तालाब के गंदे पानी को साफ करने के लिए इसे पांच भागों में बांटा गया है। गंदा पानी पहले भाग में आता है, जहां इसकी गाद जम जाती है और इसके बाद पानी दूसरे भाग में डाल दिया जाता है। पांचों में भागों में यही क्रम दोहराया जाता है। पांचवें हिस्से में जाने बाद पानी पूरी तरह से साफ हो जाता है, जिसे किसानों को खेती के लिए उपलब्ध करवा दिया जाता है। लोग पंप-इंजन में अपने खर्च पर डीजल डालकर खेतों की सिंचाई करते हैं। सरपंच बताते हैं कि जब इस काम को शुरू किया तो विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने उनका उत्साह वर्धन किया था। इतना ही नहीं गुप्ता ने अपने स्वैच्छिक अनुदान से इस प्रोजेक्ट के लिए आर्थिक मदद भी की थी।

गांव के पंच प्रेम चंद बताते हैं कि इस प्रयोग का लाभ गांव की व्यायाम शाला को भी मिल रहा है। इस तालाब से साफ होने वाले पानी को व्यायाम शाला तक पहुंचाया जाता है, जहां उससे पौधों की सिंचाई की जाती है। प्रेम चंद के अनुसार यह व्यायाम शाला भी गांव के युवकों के लिए प्रदेश सरकार की तरफ सौगात साबित हो रही है।

चंडीगढ़ परिवहन विभाग से सेवानिवृत्त बतौड़ निवासी हेम सिंह बताते हैं प्रधान मंत्री ने मन की बात में उनके गांव का जिक्र दुनिया भर में गांववासियों का सम्मान बढ़ाया है। इससे गांव के युवा वर्ग में आगे और काम करने की प्रेरणा जगी है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में यह गांव इस क्षेत्र के लिए आदर्श स्थापित करेगा।

पंचकूला जिला अदालत में अधिवक्ता बतौड़ निवासी मोना ठाकुर बताती हैं कि प्रधान मंत्री ने आज जिस प्रकार से गांववासियों की सराहना की है, उससे यहां उत्साह का वातावरण बना है। गांव की अन्य समस्याओं के निराकरण के लिए भी अब लोग प्रयत्न करेंगे। उन्होंने कहा कि जब गांव के लोग स्वयं प्रेरणा से काम शुरू कर देते हैं तो प्रशासन भी सहयोग करने लगता है।

बतौड़ निवासी मुकेश कुमार पंडित कहते हैं कि ‘मन की बात’ में गांव का जिक्र होने से उन्हें गर्व की अनुभूति हो रही है। यह तालाब सांपों का घर हो चुका है, जिससे आसपास के लोगों में डर का माहौल रहता था। गांव की पंचायत और स्थानीय लोगों ने मिलकर इस समस्या का समाधान निकाला है। अब यह पानी खेती के लिए लाभकारी हो गया है। समस्या का निराकरण होने के साथ-साथ किसानी में भी फायदा हो गया है।

महिला पंच नेहा बताती हैं कि इस तालाब के सुधार से जहां गंदे पानी की समस्या का निराकरण हुआ है वहीं अब यहां हो रहा मछली पालन पंचायत की आमदनी का स्रोत भी बन गया है। इसके लिए उन्होंने सरपंच के प्रयास और विधायक ज्ञान चंद गुप्ता के सहयोग की भी सराहना की।

कोट्स …..
‘‘देश के प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जब हरियाणा के प्रभारी थे तब पांच वर्ष तक पंचकूला में रहे थे। उन्होंने जिले के प्रत्येक गांव का स्वयं भ्रमण किया हुआ है। उन्होंने पंचकूला को विकसित होते हुए भी देखा है। आज जिस प्रकार गांव बतौड़ की पंचायत व गांववासियों ने सरपंच लक्षमण दास के नेतृत्व में पांच तालाबों का निर्माण करके गंदे पानी को साफ करके खेतों में सिंचाई के लिए प्रयोग किया जा रहा है। यह एक अति सराहनीय प्रयास है। इससे गांव के साथ-साथ किसानों की खुशहाली के भी नए आयाम स्थापित होंगे। इसके साथ-साथ तालाब में मछली पालन का भी ठेका दिया है, जिससे गांव की आय का सजृन भी हुआ है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मन की बात से दुनिया भर में इस गांव की पहचान स्थापित कर दी है। इसके लिए प्रधान मंत्री का आभार’’।

Panjab University, Chandigarh conducted M.Phil. & Ph.D. Entrance Test on 7.3.2021.

पल्स पोलियो अभियान 2021 की हुई शुरूआत, पांच साल से कम उम्र के 40119 बच्चों को पिलाई गई पोलियो दवा

For Detailed News-

पंचकुला: उपायुक्त पंचकुला श्री मुकेश कुमार आहूजा ने 31 जनवरी को सकेतड़ी गाँव में लगाए गए पोलियो बूथ से बच्चों को पोलियो की दवा पिलाकर अभियान का शुभारंभ किया और बताया की राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस की शुरुआत देशभर में 17 जनवरी से होने वाली थी, लेकिन 16 जनवरी से शुरू हुए कोरोना टीकाकरण अभियान के चलते इसे आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया था । अभियान के दौरान शून्य से पाँच वर्ष तक के बच्चों को दो बूंद जिंदगी की यानी पोलियो वायरस से बचाने के लिए ड्रॉप्स पिलाई जाएंगी चूंकि भारत वर्ष पोलियो से मुक्त घोषित किया जा चुका है, परंतु कुछ पड़ोसी देशों में पोलियो की बीमारी रहने से संक्रमण का अंदेशा बना रेहता है, इसलिए बच्चों को पोलियो की दवा बार-बार पिलाना आवश्यक है और अभिभावकों से अपील की की वह अपने बच्चों को पोलियो की खुराक जरूर दिलवाएँ । पोलियो के खिलाफ इस लड़ाई को स्वास्थय विभाग के साथ-साथ सभी लाइन विभागों के प्रभावी समन्वय और समर्थन से जीता गया है । जिन्होंने यह सुनिश्चित किया कि शून्य से पांच वर्ष के सभी बच्चों को हर चरण में पोलियो की वैक्सिन की डोज़ मिले और वह इस गंभीर बीमारी से सुरक्षित रहें । इस अवसर पर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ मीनू सासन, दंत चिकित्सक डॉ लक्ष्मी, एफ़.पी.ए.आई प्रेसिडेंट श्री विनोद कपूर के साथ-साथ चिकित्सा अधिकारी व स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे ।

https://propertyliquid.com


स्वास्थय विभाग पंचकुला की सिविल सर्जन पंचकुला डॉ जसजीत कौर ने प्राथमिक स्वास्थय केंद्र कोट में जाकर बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई और बताया कि इस अभियान के दौरान जिले में शून्य से पांच वर्ष तक के लगभग 71203 (Rural-42375, Urban-28828) बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए उन्होंने विभाग द्वारा किये गये इंतजामों की समीक्षा करते हुए बताया की इस अभियान को सफल बनाने के लिए जिले में 507 (Rural-339, Urban-168) तय बूथ, 26 (Rural-19, Urban-7) मोबाइल टीमें और 24 (Rural-13, Urban-11) ट्रांजिट टीमों का गठन किया गया है और इसमें लगभग 1600 स्वास्थ्य कर्मियों, स्वयंसेवकों, आंगनवाड़ी श्रमिक और स्वास्थ्य कार्यकर्ता (आशा) और 82 सूपर्वाइज़र द्वारा भाग लिया जा रहा है । इस अभियान को और दो दिनों के लिए, डोर टू डोर के माध्यम से जारी रखा जाएगा। जो बच्चे दौर के पहले दिन के दौरान तय बूथ पर छुट गये है उन्हें घर-घर जाकर दवा पिलाई जाएगी । कोविड-19 महामारी के चलते सभी पोलियो वैक्सिन पिलाने वाली टीमें सरकार द्वारा जारी कोविड नियमों की पालना करना सुनिश्चित करेंगी ।

इसी प्रकार जिले में एस.डी.एच कालका अस्पताल में जिला उपाध्यक्ष श्री संजीव कौशल व अन्य सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों व प्राथमिक स्वास्थय केन्द्रों में सरपंचो, पंचो ने संस्था प्रभारी की मौजूदगी में बच्चों को पोलियो की दवा पिलाकर अभियान की शुरुआत की । डॉ मीनू सासन, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया की अभियान का पहला दिन जिला स्तर के उच्च अधिकारीयों, स्वास्थ्य अधिकारीयों, सुपरवाइजर की देख रेख में किया गया व अधिकारियों द्वारा जिले में स्थित पोलियो बूथों, मलिन बस्तियों, ईंट के भट्ठों और निर्माण स्थलों का निरीक्षण किया गया ताकि कोई भी बच्चा दवा पीने से छुट न जाए । इस तरह अभियान के पहले दिन जिले में 40119 बच्चों को (ग्रामीण क्षेत्र-29208, शहरी क्षेत्र-10911) पोलियो की दवा पिलाई गई है ।

Panjab University, Chandigarh conducted M.Phil. & Ph.D. Entrance Test on 7.3.2021.

Special Online Lecture on Observance of Martyrdom Day

Chandigarh January 30, 2021

For Detailed News-

The Department of Gandhian & Peace Studies,Panjab University Chandigarh observed Martyrdom Day of all Freedom Fighters on 30th January, 2021 with a special Lecture of Professor Mehboob Desai, Rtd. Professor and Head, Department of History & Culture, Gujarat Vidhypapith, Ahmadabad, Gujarat, India.  

The online session was presided over by Professor Ronki Ram, Dean, Faculty of Arts, Shaheed Bhagat Singh Chair Professor of Political Science (Since 2011), Visiting Professor (Faculty of Arts, Business and Social Sciences), University of Wolverhampton (UK).

 While welcoming the dignitaries in the Webinar, Dr. Manish Sharma, Chairperson of the Department payed his tributes to the Martyrs and asked everyone to observe 2 minutes silence at 11am. 

https://propertyliquid.com

After paying the homage to all the Martyrs, Professor Ronki Ram in his presidential remarks asked everyone to follow the path of Nonviolence as to resolve the conflicts in the society,only Gandhian ideology is the best solution for the same, whether they are social, religious, economic or any other issues. His most contribution to this world is how to look at the conflict and to find the solution for the parties. His concept was not focussed on the win of the one party but for both the parties and with the concept of democratic way the real meaning of resolution of the conflict situation can be achieved and the welfare of the masses can be seen. In his online lecture on “गांधी जी को दिए गए मानपत्र”  Professor Mehboob Desai narrated various examples from one of his latest research work which was high appreciated by many that whenever Gandhi ji was awarded with different citations and narrations which were not only different in nature but the wordings of the same were as such that they suited his personality. These citations/ honorary recitations were offered to him where ever he had gone which included the South African phase also. Apart from the citations some amount was also attached with the same but Gandhi ji never taken those amounts and always handed over the same in the national account of the Congress party for the welfare of the masses. And there were occasions where Gandhi ji mentioned that when we are awarding someone with the kind of citations to any one then they should have some guidelines in the form that they should be handwritten, on hand made paper with natural colours and it should be related with the kind of situation and the hard work of the person who had contributed to the society. And in the end he also asked the audience that if the Gandhian thoughts are added while awarding the Citations then it would be very beneficial to all. 

The event was attended by the senior faculty members of the other departments including Professor Monica, Prof. Navjot  and also the research scholars and Master students. Dr. Ashu Pasricha faculty member of the department proposed the vote of thanks to all.

Panjab University, Chandigarh conducted M.Phil. & Ph.D. Entrance Test on 7.3.2021.

उपायुक्त ने जिला सचिवालय के सभागार में बैठक लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जिला के गांव बतौड़, मौली व खटौली के मुर्गी फार्म हाउस में सर्वे अभियान चलाएं।

पंचकूला  30 जनवरी – उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने जिला सचिवालय के सभागार में बैठक लेकर अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जिला के गांव बतौड़, मौली व खटौली के मुर्गी फार्म हाउस में सर्वे अभियान चलाएं।

For Detailed News-


उपायुक्त ने बताया कि जिला के  इन गांवों में स्थित पोल्ट्री फार्मो को पशु संक्रमण एवं संक्रामक रोगों की रोकथाम एवं नियत्रंण अधिनियम 2009 के तहत एवियन इन्फलुऐंजा एच5एन8 से प्रभावित जाॅन घोषित किया है। इनमें लगभग 1.50 लाख मुर्गियां हैं। इनके लिए टीमों का गठन कर आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इसके अलावा इन पोल्ट्री फार्म के एक किलोमीटर के दायरे में आने वाले पोल्ट्री फार्म को भी प्रभावित जाॅन में शामिल किया गया है।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त बताया कि प्रभावित क्षेत्रों में मुर्गियांे के लिए विभाग द्वारा मुआवजा देने का कार्य भी शीघ्र शुरू किया जाएगा ताकि फार्म मालिकों को हुए नुकसान की भरपाई तुरंत की जा सके। जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक की टीम विशेषकर पोल्ट्री फीड की एसेसमेंट करने का कार्य करेगी।


बैठक में एसडीएम कालका राकेश संधु, सिविल सर्जन डा. जसजीत कौर,   जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी कवंर दमन सिंह, एसीपी सतीश शर्मा,   जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक नीरज, एएलसी नवीन शर्मा, नगर निगम के कार्यकारी अधिकारी जरनैल सिंह, उपनिदेशक पशुपालन सहित संबधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे। 

Panjab University, Chandigarh conducted M.Phil. & Ph.D. Entrance Test on 7.3.2021.

जिला में राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के तहत 31 जनवरी से दो फरवरी तक जिला के 71 हजार 483 से अधिक बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

For Detailed News-

पंचकूला  30 जनवरी- जिला में राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के तहत 31 जनवरी से दो फरवरी तक जिला के 71 हजार 483 से अधिक बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।


यह जानकारी उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने लघु सचिवालय के सभागार में अधिकारियों की बैठक में देते हुए बताया कि जिला में पोलियो उन्मूलन की दवा पिलाने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के 42665 तथा शहरी क्षेत्र के 28828 बच्चे शामिल किए गए है। इनके लिए 339 ग्रामीण क्षेत्र, 169 शहरी क्षेत्र में पोलियो बूथ बनाए गए है। इसके अलावा 24-24 ट्रांजिट एवं मोबाईल टीमें भी बनाई गई है जो विशेषकर ईंट, भटठों, रेलवे स्टेशन, बस स्टेण्ड, औद्योगिक क्षेत्रों में कार्य करने वाले मजदूरों के बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाने का कार्य करेंगी।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा आशा, आंगनवाडी कार्यकर्ताओं एवं 1564 कर्मचारियों को पोलियो खुराक पिलाने के लिए तैनात किया गया है तथा 67 सुपरवाईजर निगरानी के लिए नियुक्त किये है जिसमें 47 ग्रामीण व 20 शहरी क्षेत्रों मंे तैनात किए गए है। उन्होंने बताया कि तीन दिन तक चलने वाले इस राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के तहत पहले दिन बूथों तथा दूसरे व तीसरे दिन घर घर जाकर पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी।


बैठक में एसडीएम कालका राकेश संधु, सिविल सर्जन डा. जसजीत कौर,   जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी कवंर दमन सिंह, एसीपी सतीश शर्मा,   जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक नीरज, सहित संबधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।  

Panjab University, Chandigarh conducted M.Phil. & Ph.D. Entrance Test on 7.3.2021.

डाकघर अम्बाला मण्डल की ओर से महात्मा गांधी की पुण्य तिथि पर शांति मार्च का आयोजन किया गया।

For Detailed News-

For Detailed News-

पंचकूला  30 जनवरी- डाकघर अम्बाला मण्डल की ओर से महात्मा गांधी की पुण्य तिथि पर शांति मार्च का आयोजन किया गया। इस शांति मार्च की अगुवाई चीफ पोस्ट मास्टर जनरल रंजुप्रसाद ने की। शांति मार्च मुख्य पोस्ट आफिस सैक्टर 8 से चलकर, गीता चैक, टोपायरी पार्क के साथ साथ होते हुए शहीद मेजर संदीप संाखला चैक पर सम्पन्न हुआ। इसके बाद भारत के स्वतन्त्रता संग्राम में जिन्होंने अपने जीवन का बलिदान दिया उन शहीदों की स्मृति में दो मिनट का मौन धारण कर उन्हें सच्ची श्रद्वांजलि अर्पित की।


प्रतिभागी अपने हाथों में तख्ती लिए हुए नागरिकों को अनुशासन, सत्य, अहिंसा, प्रेम और शांति का संदेश दे रहे थे। शांति मार्च में बहुत ही मनभावक और जीवन के लिए प्रेरणादायी विचार जिन्हें देखने वाले प्रभावित होकर रास्तें मंे भी शांति मार्च से जुड़ते जा रहे थे। इस प्रकार यह शांति मार्च नागरिकों के लिए बहुत ही प्रेरणा का स्त्रोत बना और चलते चलते बहुत बड़ा काफिला बन गया। प्रतिभागियों ने बड़े ही भव्य ओर शानदार ढंग से शांति मार्च में भाग लिया।

https://propertyliquid.com


मुख्य डाकपाल जनरल रंजुप्रसाद ने जयघोष के नारों के साथ शांति मार्च लगभग दो किलोमीटर लम्बे सफर में उनके साथ डाकघर की बचत व बीमा योजनाओं को दर्शाने वाली झांकी भी साथ साथ चल रही थी। शहीद मेजर संदीप सांख्ला चैक पर लगाए गए चरखे के समीप महात्मा गांधी की प्रतिमा लगाकर सभी प्रतिभागियों ने उन्हें पुष्प अर्पित किए।
इस मौके पर निदेशक डाक सेवाएं निर्मल सिंह, अधीक्षक डाकघर अरूण गोयल, सहायक निदेशक व्यवसाय देसूराम, सहायक निदेशक तकनीकी रविन्द्र कुमार, राजेश कुमार सहित सैंकड़ों डाक कर्मचारी उपस्थित रहे।

Panjab University, Chandigarh conducted M.Phil. & Ph.D. Entrance Test on 7.3.2021.

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष भारतीय डाकघर अम्बाला मण्डल की ओर से मुख्य डाकघर सैक्टर 8 में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।

For Detailed News-

पंचकूला  30 जनवरी- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि चरखा गांवों के विकास की समृद्वि का प्रतीक है। इसके माध्यम से विशेषकर ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को स्वावलम्बी एवं आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि यदि गंावों में आर्थिक सम्पन्नता आएगी तो वह देश तरक्की की ओर अग्रसर होगा।
हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष भारतीय डाकघर अम्बाला मण्डल की ओर से मुख्य डाकघर सैक्टर 8 में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। जिन शहीदों एवं स्वतन्त्रता सेनानियों ने देश के लिए बलिदान दिया उनकी याद में आयोजित कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष ने महात्मा गांधी के चित्र के पुष्पाजंलि अर्पित कर उन्हें श्रद्वांजलि दी। उन्होंने पंचकूला के शहीद मेजर अनुज सूद के पिता बिग्रेडियर सी.के.सूद व उनकी माता सुमन दहिया को शाॅल भेंट कर सम्मानित किया। इसके अलावा डाकघर में खादी से बनी स्वदेशी वस्तुओं के बिक्र्री केन्द्र का भी लोकार्पण किया। उन्होंने शांति मार्च को भी हरि झण्डी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने फिलैटली विशेष आवरण का भी विमोचन किया।

https://propertyliquid.com


श्री गुप्ता ने कहा कि यह दिन हमें आजादी दिलाने के लिए सघर्ष करने ओर आजादी के बाद शहादत पाने वाले महात्मा गांधी की याद दिलाता है जिन्होंने हमें सत्य, अहिंसा और शांति के मार्ग पर चलने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि स्वदेशी अपनाने से देश के नागरिक आत्मनिर्भर और समृद्व बनते है। देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी भी लोकल फाॅर वोकल के लिए प्रेरित करते हैं और हमारे देश के नागरिकों को आत्मनिर्भरता की ओर ले जाने का काम कर रहे है। इसलिए ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं के स्वयं सहायता समूह गठित किए जा रहे हैं ताकि महिलाओं को स्वावलम्बी बनाया जा सके।


हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि डाकघर के माध्यम लघु बचत एवं बीमा जैसी कई बेहतर योजनाएं चलाई जा रही हैं। इनका नागरिकों को लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इन योजनाआंे का व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जाना चाहिए ताकि नागरिक इन योजनाओं से अपने जीवन को संवार सके।


कार्यक्र्रम को सम्बोधित करते हुए नगर निगम मेयर कुलभूषण गोयल ने कहा कि निगम की ओर से मेजर अनुज सूद की स्मृति में सड़क का नामकरण मेजर अनूज सूद किया गया है। मेक इन इंडिया कार्यक्रम हमें आत्मनिर्भर बनाने के लिए क्रियान्वित किया गया है।


चीफ पोस्टमास्टर जनरल रंजू प्रसाद ने कहा कि डाकघर में बचत, सुकन्या समृद्वि योजना, पीएलआई, सीनियर सिटिजन, बीमा सुरक्षा, अटल पैशंन, जीवन ज्योति बीमा आदि योजनाओं का डिजिटलाईजेशन कर दिया गया है। इसके अलावा मनरेगा, माईग्रेेंट लेबर, एवं एईपीएस के तहत 10 हजार रुपए तक की राशि उपभोक्ताओं को उनके घर द्वार पर ही उपलब्ध करवाई जा रही है। यह योजनाएं नागरिकों के लिए बहुत ही कारगर और लाभदायक है। उन्होंने कहा कि कोरोना के समय में भी डाक सेवाएं जारी रही।

इस अवसर पर सीनियर सिटीजन की ओर से देशभक्ति सांग, स्कूली बच्चों द्वारा समूहगान प्रस्तुत किया। पार्षद नरेन्द्र पाल, सोनिया सूद, उमेश सूद, निदेशक डाक सेवाएं निर्मल सिंह, अधीक्षक अरूण गोयल, सहायक निदेशक व्यवसाय देसूराम, सहायक निदेशक तकनीकी रविन्द्र कुमार, राजेश कुमार सहित कई अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।