Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता कल 5 अक्तूबर को सिविल अस्पताल सेक्टर-6, पंचकूला के परिसर में मलेरिया कार्यालय एवं एमसीएच प्रखंड के भूमि पूजन के अवसर पर होंगे मुख्य अतिथि

-श्री गुप्ता स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशस्ति पत्र देकर करेंगे सम्मानित

पंचकूला, 4 अक्टूबर- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता कल 5 अक्तूबर को सिविल अस्पताल सेक्टर-6, पंचकूला के परिसर में मलेरिया कार्यालय एवं एमसीएच प्रखंड के भूमि पूजन के अवसर पर मुख्य अतिथि होंगे। इस अवसर पर श्री गुप्ता हेल्थ केयर वर्कर्स और पेरामेडिकल स्टाफ को भी उनकी अनुकर्णीय सेवाओं के लिए सम्मानित भी करेंगे।

For Detailed News-
यह जानकारी देेते हुए सिविल सर्जन डाॅ0 मुक्ता कुमार ने बताया कि मलेरिया कार्यालय भवन राज्य के लिए प्राथमिकता क्षेत्र होने के नाते डेंगू, मलेरिया आदि जैसे वेक्टर जनित रोगों के नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य अधिकारियों को बेहतर तरीके से सेवा करने में मदद करेगा और यह राज्य की उपलब्धियों में एक मील का पत्थर साबित होगा।


उन्होंने बताया कि “पिछले 20 वर्षों के दौरान, मलेरिया मुख्यालय का कोई स्थायी भवन नहीं था। मलेरिया निदेशालय 4500 से अधिक कर्मचारियों के कार्य  से संबंधित है और डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया और जापानी एन्सेफलाइटिस जैसी अचानक फैलने वाली विभिन्न बीमारियों से निपटता है, जिसके लिए निरंतर गहन निगरानी और लगातार बैठकों की आवश्यकता होती है।


उन्होंने बताया कि मलेरिया कार्यालय भवन एक पांच मंजिला भवन होगा जिसमें सम्मेलन कक्ष, पार्किंग की सुविधा होगी और इन रोगों के प्रबंधन के लिए पूरा स्टाफ एक छत के नीचे होगा जो आईडीएसपी, मलेरिया आदि जैसे अंतर-संबंधित विभागों के सभी कार्यों को एकजुट करेगा। यह भवन लगभग 7 करोड़ रूपए की लागत से बनाया जायेगा जो अगले साल तक पूरा हो जायेगा।


उन्होंने कहा कि हर साल हम विभिन्न प्रकार के नए वायरस जैसे कोविड-19, जीका वायरस और अन्य नए इन्फ्लूएंजा वायरस से जूझते और यह समर्पित भवन एक ही छत के नीचे सभी संसाधन प्रदान करेगा।
मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य के लिए एमसीएच विंग की जाएगी स्थापित


डाॅ0 मुक्ता कुमार ने बताया कि जिला पंचकूला में एमएमआर और आईएमआर को कम करने के लिए व् एमसीएच देखभाल सेवाओं को मजबूत करने के लिए मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य के लिए एमसीएच विंग की स्थापना की जानी है। मदर एंड चाइल्ड हेल्थ विंग एनएचएम के तहत एक परियोजना है जो एनक्यूएएस  मानकों के अनुसार मां और बच्चे को सुविधाएं प्रदान करेगी। सिविल अस्पताल सेक्टर -6 पंचकूला में आगामी एमसीएच परियोजना में 11 मंजिल भवन शामिल होंगे, जो पंचकूला के क्षेत्र में मातृ और बाल लाभार्थियों को विश्व स्तरीय सुविधाएं प्रदान करेंगे।


भवन में उपयोगिता ब्लॉक के साथ भूतल सहित 03 बेसमेंट और 08 मंजिल होंगे


यह मदर एंड चाइल्ड हेल्थ विंग निम्नलिखित सुविधाएं प्रदान करेगा –


ओपीडी क्षेत्र, स्टेप डाउन के साथ लेबर रूम, एएनसी वार्ड, स्टेप डाउन के साथ ओटी कॉम्प्लेक्स, प्रसूति और बाल चिकित्सा आईसीयू, एसएनसीयू, पीएनसी वार्ड,  निजी वार्ड, बाल चिकित्सा वार्ड, यूएसजी कक्ष, लैब सुविधा, प्रतिरक्षण कक्ष, संकाय कक्ष, शैक्षणिक विंग, कौशल प्रयोगशाला, संगोष्ठी कक्ष, पुस्तकालय, स्टोर, सिविल सर्जन कार्यालय के लिए प्रशासनिक ब्लॉक और प्रधान चिकित्सा अधिकारी के कार्यालय के लिए, उपयोगिता भवन में उपलब्ध कराने के लिए 04 मंजिल शामिल होंगे सभी उपयोगिता सेवाएं (जैसे गैस मैनिफोल्ड, स्टोर, किचन सर्विस, लॉन्ड्री आदि)