राजकीय बहुतकनीकी नानकपुर में दाखिले  की तिथियों को किया संशोधित

मतगणना की सारी प्रक्रिया की होगी वीडियोग्राफी- डाॅ0 बलकार सिंह

पंचकूला, 20 मई-

उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डाॅ0 बलकार सिंह मतगणना केंद्रों का निरीक्षण करते हुए।

उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डाॅ0 बलकार सिंह ने आज कालका व पंचकूला विधानसभा क्षेत्रों के लिये स्थापित मतगणना केंद्रों व ईवीएम स्ट्रोगरूम का निरीक्षण किया। उन्होंने मतगणना के लिये किये गये प्रबंधों की समीक्षा भी की। उनके साथ एसडीएम पंकज सेतिया भी उपस्थित रहे। 

उपायुक्त ने बताया कि चुनाव आयोग के निर्देशानुसार 23 मई को लोकसभा चुनाव की मतगणना की प्रशासन द्वारा वीडियोग्राफी करवई जायेगी। उन्होंने बताया कि चुनाव आयोग द्वारा मतगणना पूरी तरह से पारदर्शी एवं निष्पक्ष करवाने के लिये व्यापक प्रबंध किये गये है तथा जिले के दोनों मतगणना केंद्रों पर मतगणना के दौरान चुनाव आयोग की ओर से नियुक्त पर्यवेक्षक मौजूद रहेंगे। 

उन्होंने बताया कि पर्यवेक्षक को छोड़कर किसी भी अधिकारी, कर्मचारी, पोलिंग एजैंट या अन्य किसी व्यक्ति को मतदान केंद्रों के अंदर मोबाईल फोन या अन्य कोई ऐसा उपकरण साथ ले जाने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि इसी प्रकार मीडिया को भी मतगणना की वीडियोग्राफी करने की अनुमति नहीं होगी लेकिन वह दूर से उसकी फोटो खींच सकते है। मीडियाकर्मियों की सुविधा के लिये प्रत्येक मतदान केंद्र के मीडिया सेंटर बनाये गये है जहां उन्हें इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध रहेगी। 

उन्होंने बताया कि मतगणना करने वाली टीमों की रैंडमनाईजेशन की जायेगी, जिससे यह निर्धारित किया जायेगा कि कौन सा कर्मचारी किस टेबल पर बैठकर मतगणना करेगा। उन्होंने बताया कि मतगणना एजेंट बनाने का कार्य सहायक निर्वाचन अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है तथा इसके लिये केवल चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों को ही मतगणना एजेंटो के नाम भेजने के लिये अधिकृत किया गया है। मतगणना एजेंट अपने साथ मोबाईल फोन, घड़ी, अंगुठी तथा पैन, पैंसिल व कागज नहीं ले जा सकते है। एक बार मतगणना केंद्र में जाने के बाद किसी भी कर्मचारी या एजेंट को मतगणना पूरी होने तक विशेष परिस्थिति को छोड़कर बाहर आने की अनुमति नहीं होगी। उपायुक्त ने बताया कि मतगणना केंद्रों में कोई भी सुरक्षा कर्मी प्रवेश नहीं कर सकेगा।

डाॅ0 बलकार सिंह ने बताया कि सहायक निर्वाचन अधिकारी द्वारा प्रत्येक राउंड के बाद यह घोषणा की जायेगी कि किस प्रत्याशी को कितने मत प्राप्त हुये है। लोगों की सुविधा के लिये ऐसी घोषणा मतगणना केंद्र के बाहर भी की जायेगी। उन्होंने कहा कि मतगणना के लिये सभी विधानसभा क्षेत्रों में 14-14 टेबल लगाये गये है तथा मतगणना का कार्य प्रातः 8 बजे शुरू होगा। मतगणना केंद्रों पर माईक्रो आब्जर्वर की भी नियुक्ति की गई है तथा प्रत्येक राउंड के बाद एआरओ के माध्यम से ई-मेल द्वारा उनके पास भी रिपोर्ट भेजी जायेगी। मतगणना केंद्रों के बाहर सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किये गये है। 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply