विकास के मामले में रानियां बन रहा अग्रणी हलका : रणजीत सिंह

पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश कृष्ण मुरारी ने श्री माता मनसा देवी के लिये दर्शन

पंचकूला, 12 अप्रैल-

सातवें नवरात्र के उपलक्ष्य में आज पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश कृष्ण मुरारी ने श्री माता मनसा देवी मंदिर में माता के दर्शन किये। उन्होंने यज्ञशाला में आयोजित हवन में भी आहुति डाली। उनके साथ उनकी धर्मपत्नी श्रीमती रूपम श्रीवास्तवम, उपायुक्त डाॅ0 बलकार सिंह, एसडीएम पंकज सेतिया, श्रीमाता मनसा देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एसपी अरोड़ा व न्यायिक व प्रशासन के अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

अम्बाला मंडल की आयुक्त श्रीमती दिप्ती उमाशंकर ने भी मंदिर में की पूजा अर्चना

अम्बाला मंडल की आयुक्त श्रीमती दिप्ती उमाशंकर ने भी श्रीमाता मनसा देवी मंदिर में माता के दर्शन किये और हवनयज्ञ में आहुति डाली। उन्होंने इस मौके पर कहा कि इस तरह के आयोजन न केवल भारतीय संस्कृति की पहचान है बल्कि ऐसे स्थलों के दर्शन और भ्रमण करने से व्यक्ति को मानसिक तनाव से भी मुक्ति मिलती हैं। उन्होंने कहा कि भारत आस्थाओं और परंपराओं का देश हैं और हरियाणा की संस्कृति में इन परंपराओं को विशेष महत्व है। उनके साथ हवनयज्ञ में उपायुक्त डाॅ0 बलकार सिंह, एस0डी0एम0 पंकज सेतिया, सी0ई0ओ0 एसपी अरोड़ा व अन्य अधिकारियों ने भी आहुति डाली। 

एस0पी0 अरोड़ा ने इस मौके पर बताया कि 11 अप्रैल को श्रीमाता मनसा देवी पंचकूला और काली माता मंदिर कालका में दान के रूप में 1743602 रुपये का नकद चढ़ावा तथा चांदी के 157 और सोने के दो नग प्राप्त हुए है। उन्होनंे बताया कि माता मनसा देवी मंदिर में 1422932 रुपये का नकद चढ़ावा, सोने के दो नग और चांदी के 130 नग, काली माता मंदिर कालका में 320670 रुपये का नकद चढ़ावा और चांदी के 27 नग चढ़ावे के रूप में प्राप्त हुए है। उन्होंने कहा कि कनाडा के 15 व न्यूजीलैंड के 20 डाॅलर दान के रूप में प्राप्त हुए है। उन्होंने बताया कि 11 अप्रैल तक एक करोड़ दस लाख दस हजार 246 रुपये का नकद चढ़ावा दान के रूप में प्राप्त हुआ है। 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply