कृषि यंत्रो/मशीनो पर अनुदान हेतु आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ कर 27 मई हुई

अतिरिक्त उपायुक्त आयुष सिन्हा ने पोषण अभियान, पोषण ट्रैकर, क्रीड़ और प्ले स्कूल कार्यक्रमों की, करी समीक्षा

– सभी अति कुपोषित बच्चों के साथ- साथ 6 वर्ष आयु वर्ग तक के सभी बच्चों का रखें विशेष ध्यान


-प्रयास रहे कि जिला में कोई भी बच्चा अति कुपोषित वर्ग में ना रहे, -सिन्हा

For Detailed News-

पंचकूला, 18 जनवरी- अतिरिक्त उपायुक्त श्री आयुष सिन्हा की अध्यक्षता में आज सभी महिला एवं बाल विकास अधिकारियों की बैठक आयोजित की गई, जिसमें पोषण अभियान, पोषण ट्रैकर, क्रीड़ और प्ले स्कूल कार्यक्रमों की विस्तार से चर्चा की गई।


बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त ने पोषण अभियान के अंतर्गत जिले में चिन्हित किए गए अति कुपोषित बच्चों के लिए किए गए प्रयासों के बारे में जानकारी ली।


जिला कार्यक्रम अधिकारी डॉ. सविता नेहरा ने अतिरिक्त उपायुक्त को अवगत करवाया कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सुपरवाइजर, महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी व जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वारा सभी अति कुपोषित बच्चों पर विशेष ध्यान दिया जाता है। समय-समय पर घर-घर जाकर माताओं को कुपोषण के बारे में जागरूक करना, बच्चों के खान-पान व इससे जुड़ी अच्छी आदतों के बारे में जानकारी देना, समय पर बच्चे का टीकाकरण करवाना और यदि बच्चे को किसी प्रकार की समस्या है तो उसकी डॉक्टर से जांच करवाना के बारे में जागरूक किया जाता है।


अतिरित उपायुक्त ने सभी महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे सभी अति कुपोषित बच्चों के साथ- साथ 6 वर्ष आयु वर्ग तक के सभी बच्चों का विशेष ध्यान रखें ताकि भविष्य में जिला में कोई भी बच्चा अति कुपोषित वर्ग में न रहे। उन्होंने पोषण ट्रैकर, क्रीड़ में डाटा अपलोड करने के कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यदि किसी भी महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी को इस कार्य में किसी प्रकार की समस्या आती है तो उन्हें इस बारे अवगत करवाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि जिन आंगनवाड़ी केंद्रों को प्ले स्कूल में अपग्रेड किया जाना है यदि उन केंद्रों में किसी भी प्रकार की आवश्यकता है तो इस बारे में अवगत करवाना सुनिश्चित करें।

https://propertyliquid.com


महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी पिंजौर श्रीमती आरु वशिष्ठ ने बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के दिशा-निर्देशों की अनुपालना में  प्रदेश में 4000 आंगनवाड़ी केन्द्रों को प्ले स्कूल में अपग्रेड किया जा रहा हैं। इसके अंतर्गत जिला के 47 आंगनवाड़ी केंद्रों को प्ले स्कूल में अपग्रेड किया जायेगा। इसके लिये निदेशालय के निर्देशानुसार सभी सुपरवाइजर/आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं/आंगनवाड़ी सहायिकाओं को प्ले स्कूल की ट्रैनिंग दी जा रही है।


बैठक में महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी बरवाला श्रीमति संतोष नैन, रायपुररानी श्रीमति शशि कला सांगवान, पिंजौर श्रीमति आरु वशिष्ठ, जिला समन्वयक (पोषण) श्रीमति मीनू, सहायक (पोषण) श्री विकास, सुमन खंड समन्वयक (पोषण) बरवाला, खंड समन्वयक (पोषण) गुंजन  उपस्थित थे।