विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

संभावित बाढ़ के दृष्टिïगत सतर्क रहें अधिकारी व कर्मचारी : उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 24 जुलाई।

For Detailed News-

-उपायुक्त ने संभावित बाढ़ बचाव प्रबंधों को लेकर अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ की बैठक, दिए आवश्यक दिशा-निर्देश
-उपायुक्त अनीश यादव ने संभावित बाढ़ क्षेत्रों का किया निरीक्षण, अधिकारियों को दिए निर्देेश
-ग्राम सचिव व पटवारी अपने-अपने संभावित बाढ़ क्षेत्रों में लगातार रखें निगरानी, ग्रामीणों से बनाएं रखें तालमेल


उपायुक्त अनीश यादव ने कहा कि अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे संभावित बाढ़ वाले क्षेत्रों पर विशेष निगरानी रखें और सभी आवश्यक प्रबंधों को समय रहते पुख्ता कर लिया जाए। कोई भी असामान्य परिस्थिति होने पर तुरंत प्रशासन को सूचित किया जाए, ताकि समय रहते उस स्थिति को नियंत्रित किया जा सके।


ये निर्देश उन्होंने आज लघुसचिवालय स्थित बैठक कक्ष में संभावित बाढ को लेकर आयोजित बैठक में संंबंधित अधिकारियों को दिए। बैठक में सिंचाई, बिजली, पंचायत विभाग के अधिकारियों के अलावा ग्राम सचिव व पटवारी भी उपस्थित थे। इस अवसर पर एसडीएम सिरसा जयवीर यादव, एसडीएम कालांवाली विजय सिंह, एसई सिंचाई विभाग एआर भांभू सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी भी उपस्थित थे। बैठक उपरांत उपायुक्त ने मुसाहिबवाला, नेजाडेला, फरमाई खुर्द, मीरपुर सहित घग्घर के साथ लगते तटबंधों व पुलों का निरीक्षण भी किया और मौके पर उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने मौके पर उपस्थित संभावित बाढ़ को लेकर ग्रामीणों से बातचीत करते हुए बाढ़ नियंत्रण कार्यों में प्रशासन का सहयोग करने को कहा।


उन्होंने कहा कि ग्राम सचिव व पटवारियों से कहा कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में संभावित बाढ़ को लेकर सतर्क रहें और लगातार निगरानी बनाएं रखें तथा ग्रामीणों से तालमेल रखें। वे घग्घर के तटबंधों व अन्य सुरक्षा प्रबंधों पर नजर रखें, जहां कही भी उन्हें तटबंधों पर तट व पाईपों की लीकेज का पता चलें तो तुरन्त अधिकारियों के नोटिस में लाएं, ताकि समय रहते उस कार्य को पूरा किया जा सके। उन्होंने कहा कि जहां कहीं भी उन्हें घग्घर तटबंधों पर कट आदि दिखाई दे या मुख्य बांधों में किसी प्रकार की कमियां नजर आए तो तुरन्त संबंधित अधिकारी को सूचित करें ताकि समय रहते इस प्रकार की कमियों को दूर किया जा सके। उन्होंने कहा कि संभावित बाढ से प्रभावित होने वाले गांवों पर विशेष फोकस रखें तथा बढ़ते जल स्तर के बारे में उच्च अधिकारियों को अपडेट करवाते रहें। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम अपने-अपने क्षेत्रों में संभावित बाढ़ बचाव कार्यों की समय-समय पर मोनिट्रींग करते रहें।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बाढ़ नियंत्रण कार्यों का निरीक्षण करते हुए सर्व प्रथम मुसाहिबवाला में घग्घर लिंक नहर में आ रहे पानी बहाव का निरीक्षण किया। उन्होंनेे सिंचाई विभाग को निर्देश दिए कि समय-समय पर घग्घर में बढ़ रहे जल स्तर की निगरानी रखें और इसकी सूचना समय पर प्रशासन को दें। उन्होंने घग्घर के आसपास के गांवों के नागरिकों से भी अपील की है कि वे घग्घर नदी की निगरानी रखें और कहीं से बहाव की शिकायत है तो तुरंत प्रशासन की नजर में लाया जाए। पानी में रुकावट पैदा न हो इसके लिए पानी में तैर कर आ रहे जलखुंब को निकाल दें या उन्हें पुल के नीचे इक_ïा न होने दें। उन्होंने कहा कि फील्ड की टीमों का बाढ़ नियंत्रण कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका होती है, इसलिए वे पूरी तरह से अलर्ट रहें।


उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे अपने-अपने विभाग से संबंधित पंप, बलियां व अन्य चीजों का पूरा प्रबन्ध रखें और जिन गांवों में संभावित बाढ़ का खतरा होता है उन गांवों में पहले से ही संबंधित सामान रखवा दें। उन्होंने कहा कि जेसीबी मशीन व गांवों में ट्रेक्टर, ट्रालियों आदि का उचित प्रबंध रखें। जिस गांव में पानी भरने की संभावना हो, उस गांव के लोगों को पहले से ही अवगत करवाएं।  उन्होंने तहसीलदार व खंड विकास एवं पंचायत अधिकारियों से कहा कि वे अपने अधीन पटवारी, ग्राम सचिव आदि को एक्टीवेट रखें तथा गांव की चौपालों, गुरुद्वारों व धर्मशालाओं की पहले से ही सफाई करवाएं। इसके साथ ही गांवों के सरपंचों व नंबरदारों से तालमेल रखें। उन्होंने बिजली विभाग के अधिकारी को निर्देश दिये कि वे भी अपने विभाग से संबंधित तैयारी पूर्ण रखें।