जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

संत कबीर दास जी की जयंती के उपलक्ष पर पंचकूला में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम

हिंदी साहित्य में उनका अहम योगदान रहा-विनय प्रताप सिंह

संत कबीर दास जी का संदेश पहले भी उतने ही प्रासंगिक थे तथा आज भी और भविष्य में भी प्रासंगिक रहेंगे- उपायुक्त

पंचकूला ,24 जून। पंचकूला के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने कहा है कि संत कबीर दास जी एक महान कवि तथा समाज सुधारक थे । उनकी रचनाएं जीवन व समाज को सुधारने को समर्पित थी। उन्होंने कहा कि उनकी रचनाएं युगों तक मानव कल्याण का रास्ता दिखाती रहेंगी।

For Detailed News-

यह बात आज उन्होंने संत गुरु कबीर दास की जयंती के अवसर पर लघु सचिवालय में आयोजित एक कार्यक्रम में कही। इस मौके पर उन्होंने संत कबीर दास जी की जयंती के उपलक्ष पर पंचकूला में आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलित करके किया।

इससे पहले कबीर जयंती पर  चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित भजन संध्या कार्यक्रम का सीधा प्रसारण दिखाया गया जिसमें मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेशवासियों को अपना संदेश दिया।

इस अवसर पर उपायुक्त ने कहा कि संत गुरु कबीर दास भक्तिकाल के महान संत थे और उन्हें कर्म प्रधान कवि भी कहा गया है तथा हिंदी साहित्य में उनका अहम योगदान रहा है। उन्होंने अंधविश्वास और अंधश्रद्धा के खिलाफ अपनी आवाज उठाई थी। उन्होंने कहा कि कबीर की रचनाएं बहुत खूबसूरत और सजीव हैं जिनमें समाज की झलकियों को दर्शाया गया है। उन्होंने कहा कि उनके संदेश पहले भी उतने ही प्रासंगिक थे तथा आज भी और भविष्य में भी प्रासंगिक रहेंगे।

https://propertyliquid.com

इस अवसर पर संत कबीर दास सभा पंचकूला से जुड़े लोगों सहित जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।