ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

श्री राजीव अरोड़ा ने सिविल अस्पताल सेक्टर-6 पंचकूला के ब्लड बैंक में ब्लड कंपोनेंट सेपरेशन यूनिट का किया उद्घाटन

-रोगी देखभाल सेवाओं की बेहतरी के लिए नवाचारों को लागू करने के दिये निर्देश- श्री राजीव अरोड़ा- नियमित रक्तदान शिविर आयोजित करने वाले संगठनों को किये प्रशंसा प्रमाण पत्र वितरित

For Detailed News-

पंचकूला, 25 सितम्बर –   स्वास्थ्य विभाग हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राजीव अरोड़ा ने कल सिविल अस्पताल सेक्टर-6 पंचकूला के ब्लड बैंक में ब्लड कंपोनेंट सेपरेशन यूनिट का उद्घाटन किया। इस अवसर पर नेषनल हेल्थ मिषन (एनएचएम ) के मिशन निदेशक श्री प्रभजोत सिंह, हरियाणा चिकित्सा सेवा निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक डॉ. साकेत कुमार,  महानिदेशक स्वास्थ्य सेवा हरियाणा डॉ. वीना सिंह, अतिरिक्त महानिदेशक स्वास्थ्य सेवाएं हरियाणा डॉ. वी. के बंसल,  सिविल सर्जन पंचकूला डॉ. मुक्ता कुमार, प्रधान चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुवीर सक्सेना और जिला पंचकूला के स्वास्थ्य विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।श्री राजीव अरोड़ा ने  सिविल अस्पताल के अपने दौरे के दौरान लैब में चल रहे COVID एंटीबॉडी परीक्षण के लिए सीरो निगरानी का निरीक्षण किया। उन्हें बताया गया कि पूरे हरियाणा राज्य से 36500 नमूनों का परीक्षण यहां किया जा रहा है और अंतिम विश्लेषणात्मक रिपोर्ट एक सप्ताह के भीतर उपलब्ध होगी। इसके अलावा उन्होंने कोविड योद्धाओं के परिजनों से मुलाकात की व श्रीमती किरण बाला, आशा वर्कर एवं श्री. सुरिंदर पाल हेल्पर और परिवारों के प्रति अपना नैतिक समर्थन व्यक्त किया।श्री अरोड़ा ने कुछ विशिष्टताओं के विभागाध्यक्षों से भी बातचीत की और उन्हें रोगी देखभाल सेवाओं की बेहतरी के लिए नवाचारों को लागू करने का निर्देश दिया। उन्होंने नियमित रक्तदान शिविर आयोजित करने वाले संगठनों को प्रशंसा प्रमाण पत्र भी वितरित किए। रजिस्ट्रेशन काउंटरों पर मरीजों के वेटिंग टाइम पर चिंता व्यक्त करते हुये श्री अरोडा ने  ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की संभावना तलाशने के निर्देश दिए।

https://propertyliquid.com


ब्लड कंपोनेंट सेपरेशन यूनिट (बीसीएसयू)रक्त केंद्र, सिविल अस्पताल सेक्टर -6 पंचकूला पहले से ही पूरे रक्त, एकल दाता प्लेटलेट्स (एसडीपी) और कॉन्वेलसेंट प्लाज्मा (कोविड पॉजिटिव रोगियों के लिए) के लिए इनडोर रोगियों और निजी अस्पतालों/नर्सिंग होम के लिए 24×7 सेवाएं प्रदान कर रहा है। (बीसीएसयू) ब्लड सेंटर, सिविल अस्पताल सेक्टर -6 पंचकूला के लिये एक और मील का पत्थर है। इस बीसीएसयू में रक्त घटक जैसे पैक्ड रेड ब्लड सेल (PRBC),    प्लेटलेट कॉन्सेंट्रेट (पीसी), फ्रेश फ्रोजेन प्लाज्मा (एफएफपी), क्रायोप्रेसीपिटेट उपलब्ध कराए जाएंगे। इन रक्त घटकों का उपयोग विभिन्न प्रकार के एनीमिया, नियो-नेटल एक्सचेंज ट्रांसफ्यूजन, थैलेसीमिया, हीमोफिलिया, कैंसर, थ्रोम्बोसाइटोपेनिया, सर्जरी, बर्न केस आदि के उपचार के लिए किया जाता है। पहले, जिला पंचकूला के मरीज इन घटकों को प्राप्त करने के लिए जीएमसीएच-32 चंडीगढ़ या पीजीआईएमईआर चंडीगढ़ जाते थे। ये हरियाणा के सरकारी अस्पतालों में भर्ती मरीजों के लिए निशुल्क उपलब्ध होंगे।  अन्य रोगियों के लिए राज्य सरकार द्वारा पैक्ड रेड ब्लड सेल ( PRBC)  रु. 1050, प्लेटलेट कॉन्सेंट्रेट (पीसी) रु. 300, फ्रेश फ्रोजेन प्लाज्मा (एफएफपी) रुपये। 300 व क्रायोप्रेसीपिटेट रु. 200 शुल्क निर्धारित किये गये है।

ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने शहीद मेजर अनुज राजपूत को दी श्रद्धांजलि

-शहीद मेजर अनुज राजपूत के परिजनों को दी सांत्वना–षहीद मेजर अनुज राजपूत जैसे वीर बेटे पर देष को गर्व है- राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय

For Detailed News-


पंचकूला, 25 सितम्बर –   हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने आज मेजर शहीद अनुज राजपूत के पंचकूला स्थित सैक्टर-20 में उनके निवास पर पहुंच कर शहीद अनुज राजपूत को श्रद्धांजलि दी और परिजनों को सांत्वना दी। श्री बंडारू दत्तात्रेय ने मेजर अनुज राजपूत को देश का एक होनहार अधिकारी बताते हुए कहा कि ऐसे वीर जाबांज पर देश गर्व करता है। श्री दत्तात्रेय ने परिजनों को ढांडस बढ़ाते हुए कहा कि इस घड़ी में हरियाणा सरकार उनके साथ है। परिजन किसी भी तरह से अपने आप को अकेला ना समझें। इस अवसर पर शहीद मेजर अनुज राजपूत के पिता श्री कुलबंश आर्य, उनकी माता श्रीमती ऊषा रानी, उनके दादा श्री फतेह सिंह और मेजर अनुज के ताऊ जी श्री हरबंश सिंह व चाचा श्री मोहन सिंह तथा शहीद मेजर अनुज के चचेरे भाई कर्नल महेन्द्र सिंह सहित प्रशासिनक अधिकारी उपस्थित थे। अधिकारियों में राज्यपाल के सचिव श्री अतुल द्विवेदी, पंचकूला के उपायुक्त श्री विनय प्रताप सिंह, पुलिस उपायुक्त श्री मोहित हांडा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।श्री दत्तात्रेय ने कहा कि मेजर अनुज राजपूत ने देश के लिए बलिदान दिया है। उनका यह बलिदान युवाओं के लिए प्रेरणादायी है। देश की रक्षा के लिए हरियाणा के वीर सैनिक कभी पीछे नहीं रहे हैं और मेजर अनुज ने भी वीरता का परिचय देते हुए देश के लिए शाहदत दी है। मेजर अनुज राजपूत गत 21 सितम्बर को उदमपुर के पास हैलिकाॅप्टर कै्रष में शहीद हुए थे। राज्यपाल ने परिवार के सभी बड़े व छोटे बच्चों से बात की। उन्होंने बच्चों को निरंतर कठिन परिश्रम कर आगे बढ़ने के लिए उत्साहित किया।

https://propertyliquid.com

ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

जवाहर नवोदय विद्यालय, मौली में सत्र 2022-23 में कक्षा 6 में प्रवेष हेतू आॅनलाईन आवेदन आमंत्रित-उपायुक्त विनय प्रताप सिंह

– 30 नवंबर 2021 तक किये जा सकते है आवेदन-उपायुक्त 

For Detailed News-


पंचकूला, 25 सितंबर- उपायुक्त एवं जवाहर नवोदय विद्यालय प्रबंधन समिति मौली के अध्यक्ष श्री विनय प्रताप सिंह ने बताया कि जवाहर नवोदय विद्यालय, मौली में कक्षा 6 के लिये नवोदय चयन परीक्षा 2022-23 में प्रवेष हेतू 30 नवंबर 2021 तक आॅनलाईन आवेदन आमंत्रित किये गए हैं।  उपायुक्त ने बताया कि परीक्षा का आयोजन 30 अप्रैल 2022 ष्षनिवार को किया जायेगा। उपायुक्त ने बताया कि जो विद्यार्थी 2021-22 में सरकारी/सरकारी मान्यता प्राप्त विद्यालय में कक्षा 5 में अध्ययनरत है, वे विद्यार्थी प्रवेष पाने के लिये पात्र है। उन्होंने बताया कि दाखिले के लिये विद्यार्थी की जन्म तिथि 1 मई 2009 से 30 अप्रैल 2013 के बीच होनी चाहिये। पात्र विद्यार्थी नवोदय विद्यालय समिति की वेबसाईट ूूूण्दंअवकंलंण्हवअण्पद  अथवा ूूूण्बइेमपजमउेण्दपबण्पद पर जाकर निषुल्क आवेदन कर सकते है। उन्होंने बताया कि इस संदर्भ में अधिक जानकारी के लिये जवाहर नवोदय विद्यालय के दूरभाष नंबर 01734-258450 पर संपर्क किया जा सकता है।

https://propertyliquid.com

ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

– आयुष गुप्ता के उज्जवल भविष्य की, की कामना-गुप्ता– आयुष गुप्ता ने पंचकूला का ही नहीं पूरे हरियाणा का किया नाम रोषन-गुप्ता

For Detailed News


पंचकूला, 25 सितंबर- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने आज यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता के निवास स्थान सेक्टर-7 में पंहुचकर उन्हें षुभकामनायें व आर्षिवाद दिया और आयुष के उज्जवल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर उनके साथ नगर निगम के महापौर कुलभूषण गोयल भी उपस्थित थे।  श्री गु प्ता ने कहा कि आयुष गुप्ता ने यह उपलब्धि हासिल कर पंचकूला का ही नहीं पूरे हरियाणा का नाम रोषन किया है। उन्होंने कहा कि आयुष ने यह मुकाम अपनी मेहनत व परिजनों केे आर्षिवाद से हासिल किया है। श्री गुप्ता ने आयुष के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुये आषा व्यक्त की कि वह इसी तरह मेहनत व लग्न से अपने कत्त्र्वयों का निर्वहन करते हुये देष के नवनिर्माण में अपना योगदान देंगे।  आयुष गुप्ता के पिता हरियाणा उच्च न्यायालय के एडवोकेट श्री सरवन गुप्ता ने बताया कि पूरे परिवार को आयुष की इस उपलब्धि पर गर्व है। उन्होंने कहा कि कोविड के दौरान आयुष ने घर बैठकर ही यूपीएससी की तैयारी की और उनकी तैयारी रंग लाई। उन्होंने बताया कि आयुष ने सेंट जाॅन सेक्टर-26 से अपनी षिक्षा पूरी की और वह 7वीं, 8वीं व 9वीं कक्षा में स्काॅलर ब्लेज्र हाॅल्डर भी रहे। इसके पष्चात उन्होंनेे पंजाब यूनिवर्सटी चंडीगढ से लाॅ आॅनर्स उतीर्ण की।  इस अवसर पर आयुष गुप्ता ने कहा कि उनके पिता श्री सरवन गुप्ता का सपना था कि वे आईएएस बने और उनका यह सपना आज पूरा हो गया। उन्होंने कहा कि उनका उद्देष्य समाज की सेवा करना और वे  सिविल सर्विसिज के माध्यम से इसे पूरा करने का प्रयास करेंगे।  इस अवसर पर आयुष की माता श्रीमती रेणू गुप्ता, बड़े भाई षिखर गुप्ता व परिवार के अन्य सदस्य उपस्थित थे।   

https://propertyliquid.com

ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 69 वां रैंक हासिल करने पर अक्षिता गुप्ता को दी बधाई

– डॉक्टर अक्षिता गुप्ता ने पहले ही बार में यूपीएससी में 69 वा रैंक हासिल कर हरियाणा के साथ साथ अपने माता पिता का नाम किया रोशन -गुप्ता

For Detailed News-


पंचकूला, 25  सितंबर- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने आज यूपीएससी में 69 वां रैंक हासिल करने वाली डॉक्टर अक्षिता गुप्ता के चंडीगढ़ निवास सेक्टर 32, पहुंचकर उन्हें मिठाई खिलाकर बधाई व आशीर्वाद दिया।इस अवसर पर अक्षिता के पिता श्री पवन गुप्ता, माता मीना गुप्ता,  परिवार के अन्य सदस्यों के साथ साथ  सार्थक स्कूल के अनेक अध्यापक उपस्थित थे। डॉक्टर अक्षिता गुप्ता के पिता श्री पवन गुप्ता  सेक्टर 12ए सार्थक स्कूल में प्रिंसिपल के रूप में अपनी सेवायें दें रहे हैं और उनकी माता एक सरकारी स्कूल में मैथ टीचर के रूप में कार्यरत है।श्री गुप्ता ने कहा कि हरियाणा की बेटी डॉक्टर अक्षिता गुप्ता ने पहले ही बार में यूपीएससी में 69 वा रैंक हासिल कर हरियाणा के साथ साथ अपने माता पिता का नाम रोशन किया हैं। उन्होंने कहा कि डॉक्टर अक्षिता गुप्ता  सरकारी स्कूल से पढ़ कर पहले एमबीबीएस डॉक्टर बनी और  अब यूपीएससी में पहले ही अटेंप्ट में 69 वा रैंक लेकर हरियाणा प्रदेश का देश में नाम रोशन किया है, हमें अक्षिता पर गर्व है।

https://propertyliquid.com

ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

चौ. देवीलाल का संपूर्ण जीवन प्रेरणादायक : बिजली मंत्री रणजीत सिंह

– हल्के के प्रत्येक किसान के खेत तक पहुंचाया जाएगा घग्घर का पानी : रणजीत सिंह


बिजली मंत्री रणजीत सिंह के निवास पर पूर्व उप प्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 108वी जयंती पर सम्मान समारोह का आयोजन


सिरसा, 25 सितंबर।

For Detailed News-


हरियाणा के बिजली, जेल एवं अक्षय ऊर्जा मंत्री रणजीत सिंह ने पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल सही मायने में गरीबों के मसीहा थे। उन्होंने अपना पूरा जीवन जनसेवा में लगा दिया और उनके द्वारा करवाए गए कार्यों का लाभ आज भी देश की जनता को मिल रहा है। उन्होंने सर्व प्रथम हरियाणा में बुजुर्गों के लिए पैंशन योजना की शुरुआत की थी जिसकी बदौलत बुजुर्गों को सम्मान से जीने का अधिकार मिल रहा है।


वे शनिवार को अपने निवास पर देश पूर्व उप प्रधानमंत्री चौ. देवीलाल की 108वी जयंती के अवसर पर आयोजित सम्मान समारोह में हजारों की संख्या में उमड़ी भीड़ को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर बिजली मंत्री रणजीत सिंह की धर्मपत्नी इंदिरा सिहाग, बहन शांति देवी, पुत्र चौ. गगनदीप, पुत्र वधु ईशा सिहाग, पौत्र सूर्य पकाश, पौत्री गायत्री विजय लक्ष्मी, पौत्री एश्वर्या, सरपंच बलदेव, रमेश कंबोज, बुटा सिंह सहित मौजूद थे।


बिजली मंत्री ने कहा कि चौ. देवीलाल ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत सिरसा की भूमि से ही थी, वे तीन बार प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे व देश के उप प्रधानमंत्री भी बने, यह केवल जनसेवा के बल पर ही संभव हुआ था और इसी कारण वे आज भी प्रदेशवासियों के दिलों में बसते हैं। उन्होंने कहा कि चौ. देवीलाल का संपूर्ण जीवन प्रेरणादायक है और उनके द्वारा किए गए जनहित के कार्यों को कभी भी भूलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि उनका स्वयं का यही उद्देश्य है कि वे चौ. देवीलाल के नक्शे कदम पर चलते हुए जनसेवा करें और वे 24 घंटे हलके व प्रदेश के लोगों की सेवा के लिए तैयार हैं।


उन्होंने कहा कि किसानों की मुख्य आवश्यकता बिजली और पानी होती है और प्रदेश सरकार इस दिशा में गंभीरता से कार्य करते हुए कारगर योजनाएं लागू कर रही है। उन्होंने कहा कि घग्घर का पानी हर खेत तक पहुंचाया जाएगा, इससे किसानों की पैदावार बढ़ेगी और किसान खुशहाल होंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के हित में अनेक योजनाएं क्रियान्वित कर रही है और वर्तमान समय में कृषि क्षेत्र में व्यापक स्तर पर परिवर्तन देखने को मिल रहा है। आज किसान फसल विविधीकरण अपना कर व्यापारिक सोच के साथ आगे बढ़ रहे हैं और मुनाफा भी कमा रहे हैं।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में प्रदेश लगातार तरक्की के पथ पर अग्रसर है। प्रदेश के बिजली वितरण निगम लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे है। प्रति यूनिट 37 पैसे रेट कम होने से घरेलू उपभोक्ताओं को प्रति वर्ष 1200 करोड़ रुपये की बचत होगी। इस प्रकार से बिजली दरों में भारी छूट देकर सरकार ने आमजन को बड़ी राहत दी है। रेटिंग के अनुसार गुजरात के बाद हरियाणा देशभर में दूसरे नंबर है और यह मुख्यमंत्री मनोहर लाल के बेहतर व्यवस्था के कारण ही संभव हो पाया है। हाल ही में सरकार द्वारा औद्योगिक व घरेलू बिजली कनेक्शन को लेकर नियमों का सरलीकरण किया गया है। नई योजना के तहत अब 25 प्रतिशत राशि जमा करवाने पर बिजली कनेक्शन को पुन: शुरू करवाया जा सकेगा। संबंधित उपभोक्ता शेष राशि का किस्तों में भुगतान कर सकता है। इससे आम उपभोक्ता को बड़ी राहत मिली है।

ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

वाणिज्य सप्ताह के अन्तर्गत एक्सपोर्टर्स कॉन्क्लेव कार्यक्रम का आयोजन, विदेश व्यापार निर्यात प्रोत्साहन योजना को लेकर की गई चर्चा

सिरसा, 25 सितंबर।

For Detail


आजादी का अमृत महोत्सव एवं वाणिज्य सप्ताह के अन्तर्गत विदेश व्यापार निर्यात प्रोत्साहन योजनाएं को लेकर स्थानीय लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में एक्सपोर्टर्स कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त सुशील कुमार ने बतौर मुख्यअतिथि शिरकत की। कार्यक्रम में उप निदेशक जिला उद्योग केंद्र ज्ञान चंद्र लांग्याण, जिला एमएसएमई के सहायक निदेशक गुरप्रताप सिंह, एलडीएम सुनील कुकरेजा, उद्योगपति आरके जलान, हरपाल सिंह, अनील बग्गा, राज कुमार, बिमल सिंवर, चंद्र शेखर सहित संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।


अतिरिक्त उपायुक्त सुशील कुमार ने कहा कि एक्सपोर्टर्स कॉन्क्लेव का उद्देश्य जिले से उत्पादों एवं सेवाओं का निर्यात करना, निर्यातकों को सरकार द्वारा सभी स्तरों पर प्रदान किये जा रहे है, सहयोग के बारे में जागरूक करना तथा भविष्य में निर्यात की संभावनाओं के लिए रोडमैप तैयार करना, निर्यात का विकेन्द्रीकरण करना व जिले को एक्सपोर्ट हब के रूप में विकसित करना है। उन्होंने कहा कि इस उत्सव का मुख्य उद्देश्य आर्थिक विकास पर ध्यान केंद्रित करने के साथ-साथ निर्यात को बढ़ावा देना है। जिला सिरसा में ग्वार पाउडर, कॉटन, वुडन क्राफ्ट का भी निर्यात किया जा सकता है। इसके अलावा भी जिला में निर्यात के लिए अनेक विकल्प खुले हैं। जिला में बागवानी क्षेत्र में निर्यात की अपार संभावनाएं है। उन्होंने उद्योग विभाग से कहा कि वे ऐसे उद्योगों को प्रमोट करें जो बागवानी और सब्जी के क्षेत्र से जुड़े हैं।

https://propertyliquid.com


अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि परंपरागत फसलों के अलावा भी जिला में व्यापार के लिए संभावनाएं तलाशनी होगी। इसके लिए हमें चाहिए कि हम प्लास्टिक, पेय पदार्थों के निर्यात के मामले में आगे बढ़े। सरकार भी ऐसे उद्योगों को प्रोत्साहित कर रही है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए हरियाणा सरकार ने प्रत्येक ब्लॉक में कोई न कोई उद्योग स्थापित करवाने का निर्णय लिया है। वन ब्लॉक वन प्रोडक्ट की योजना पर तेजी से काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि उद्योग विभाग भी उद्यमियों को प्रोत्साहित करें और उन्हें सरकार द्वारा लागू की गई योजनाओं का लाभ भी दिलवाए।

ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

UIPS organised an International Webinar on the occasion of World Pharmacist Day

Chandigarh September 25, 2021

For Detailed News-

University Institute of Pharmaceutical Sciences, Panjab University, Chandigarh, and Indian Pharmaceutical Association (IPA), Punjab branch successfully organized an international webinar on the occasion of World Pharmacist Day i.e. 25th September. The talk “Regulatory affairs and its role in pharmaceutical industry” was delivered by Ms Vibha Malhotra, Regulatory Affairs, Pfizer/Viatris, Sydney, Australia, an alumnus of UIPS.

Professor Indu Pal Kaur, Chairperson, UIPS & Secretary, IPA, Punjab Branch, extended a cordial welcome and emphasized on the role of pharmacy professionals in various regulatory processes.

Professor Poonam Piplani, Convenor, Lecture organising Team introduced the esteemed chief guest and noted speaker of the day. The Chief Guest of the event, Professor Tilak Raj Bhardwaj, Advisor to the Chancellor, Baddi University of Emerging Sciences and Technology, Baddi (Solan), Himachal Pradesh, Former Vice-Chancellor, BUEST and Former Chairperson UIPS, highlighted the role of India as “Pharmacy of the World” and also the emerging scope of Pharmacy in India.

Ms Vibha Malhotra initiated her talk by introducing the concept of regulatory affairs (RA). Citing the examples of the Elixir Sulphanilamide and Thalidomide disasters, she apprised the students of the evolution of regulatory affairs in the world and the role of rigorous regulatory checks that a pharmaceutical product undergoes for ensuring safety and efficacy on its path from the laboratory to the clinics. She further elucidated the significance of pharmaceutical regulatory bodies in the world, and threw light on the liaison role of RA professionals and their expertise in making workable plans for different regulatory processes.

https://propertyliquid.com

The talk was followed by an enthusiastic round of Q/A session involving students, researchers as well as UIPS faculty. The talk was successfully concluded by a vote of thanks and felicitation by Professor Indu Pal Kaur.

ई-ऑफिस पर प्राप्त होने वाली फाइलों का 15 दिन के अंदर-अंदर निपटान करना सुनिश्चित करें-नगराधीश सिमरनजीत कौर

FIRST AID TRAINING PROGRAMME

Chandigarh September 25, 2021

For Detailed News-

Today, i.e. September 25th, 2021, the students of Masters in Social Work (MSW) 3rd semester were imparted with the first AID Training by Dr Rakesh Khullar, Ex-Medical Officer, Health Centre, Panjab University, Chandigarh.

He shared the three P formula – Preserve life, Prevent Injury and Promote Recovery as the most crucial aspects in First AID. He said that saving the life of the individual after any accident or injury is the most important task. We should also work on avoiding the injuries, as prevention is better than cure. He emphasized the role of promoting the recovery rate by undertaking appropriate steps.  He shared the importance of the golden hour, which is the first hour after any injury as the most crucial in saving the life of the individual.  He said that the person who met with an accident should be taken to the hospital at the earliest.

He also demonstrated to the students the exact way of washing hands with other hygiene maintaining activities. He shared the importance of using soaps over other material and how to have maximum foam from the soaps. He also shared various precautions to be taken-up after any animal bite like dog, cat, rat or monkey. The most important thing after animal bite is to wash it under running tap water for at least 15 minutes and rush to the doctor immediately for it’s vaccination. He gave the RICE acronym in case of a foot sprain in which Rest, Icing, Compression and Elevation are the most important aspects that we have to follow.

https://propertyliquid.com

Gaurav Gaur, Chairperson, Centre for Social Work also addressed the students and said that all these training programmes are meant to enhance the capacity of students. He said that all the skills learnt today would be useful in future especially in the fieldwork to all of them.

Himani Pant one of the students who attended the session said that “ it was an eye opening session for me and I really liked the way all these things were conveyed to us and especially the RICE acronym” Tanya Chandel welcomed the resource person and Tabisha Kanwar, from MSW – 3rd semester proposed a formal vote of thanks.