कागदाना जनसभा की सफलता के बाद गांव-गांव जाकर वोट मांगेंगे ओपी धनखड़

PU Botany Student secures Ist Rank

Chandigarh July 28, 2021

For Detailed News-

It is moment of great pride that one of the student Mrs. Aditi Godara who did her M.Sc. (Hons.), Department of Botany, Panjab University, Chandigarh got rare distinction by securing 1st rank in the national level UGC CSIR-JRF-NET Examination held in June 2020 and result declared in February 2021, informed Prof. Daizy Rani, Chairperson.

https://propertyliquid.com

Link of her interview


http://www.biotechexpressmag.com/interview-it-was-not-possible-without-husband-and-family-says-csir-jrf-net-june-2020-topper/

कागदाना जनसभा की सफलता के बाद गांव-गांव जाकर वोट मांगेंगे ओपी धनखड़

Chandigarh wins grant of 1 crore in India Cycles4Change challenge

For Detailed News-

Chandigarh, July 28:- Chandigarh has been selected as one of the 11 cities in India to receive a scale-up support of Rs. 1 Crore from the Ministry of Housing and Urban Affairs, for the India Cycles4Change Challenge organised under the Smart Cities Mission.

The event was presided by Shri Durga Shankar Mishra, IAS, Secretary, Ministry of Housing and Urban Affairs (MoHUA) and was attended by key stakeholders from Central and State Governments including Municipal Commissioners of Cities, and MDs/CEOs of Smart Cities.

Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, MCC-cum-CEO-Chandigarh Smart City Ltd. and Sh. N.P. Sharma, Chief General Manager, CSCL attended the online event and received the award.

While sharing the success story of the challenge, the CEO said that Chandigarh will also receive guidance from National and International experts to further scale up the initiatives.  As per the survey by the Institute for Transportation and Development Policy (ITDP), the use of cycles has increased by 65% during the lockdown. Hence, the centre had decided to launch this challenge to motivate cities to implement cycling-friendly initiatives. In all, 107 cities had participated in the first round of the challenge launched in June 2020, under which they had to implement and introduce low cost changes to increase cycling infrastructure. Out of these 107, Chandigarh was selected in the top-25 in February 2021.

He said that a presentation was given to the jury members to cement its place in the top 11. The monetary support received will be utilized in scaling-up of cycling-friendly initiatives in the city. The programme will also involve a compilation of shared learnings from the 11 cities, so that each city can study infrastructure models of other cities to analyze ways the same can be implemented in their zones.

The CEO further said that the journey of Chandigarh in the India Cycles4Change Challenge started with community engagement through forms and surveys to know the issues and feedback of people towards cycling in the city. Further, handlebar surveys were done to know the pain-points in cycling from the cyclist’s perspective. On similar lines, cycling events were planned in the city with support from various cyclist groups, RWA’s and city officials to increase awareness about the city’s participation in the challenge.

https://propertyliquid.com

He said that various parameters on which the cities were judged are: • Forming the C4C Work Team  • Process and rationale behind selection of corridor and neighbourhood locations, Site analysis • Handlebar Survey Process and Findings  • Designing solutions for corridor and neighbourhood through site visits & focused discussions • Testing the design solutions on ground for corridor and neighbourhood through stakeholder & community engagement  • Measuring the Impact of interventions through photo and video documentation • Forming the Scale-Up Cycling Plan and identifying funding sources  • Setting up the Healthy Streets Apex Committee & forming the Healthy Streets Policy • Process of rolling out the Perception Survey and its findings  • On ground engagement through Cycle rallies, Cyclothons, Cycle repair workshops, Cycle training programs, Cycle to work & Cycle rental programs  • Online engagement through Social media campaign to collect cycling stories  • Press coverage of C4C in the city.

He further said that notably, the CSCL has already constructed a dedicated network of 200-km cycle tracks in the city and more are being constructed to connect the periphery and the city’s industrial areas. Chandigarh is also gearing up for the launch of the first phase of the PBS with 1,250 bicycles at 155 docking stations spread across the city.

कागदाना जनसभा की सफलता के बाद गांव-गांव जाकर वोट मांगेंगे ओपी धनखड़

Delegation from Bharatpur (Rajasthan) visits Chandigarh; meets Mayor & Commissioner

For Detailed News-

Chandigarh, July 28: – Sh. Abhijeet Kumar, Mayor from Bharatpur Municipal Corporation (Rajasthan) alongwith delegation of 40 councillors held a meeting with Sh. Ravi Kant Sharma, Mayor and Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, Municipal Corporation Chandigarh and other senior officers of MC, Chandigarh today evening.

Mayor welcomed the delegation in the Office and gave brief introduction regarding various projects & functions of the Corporation, Sanitation system, Solid Waste Management System, door to door waste collection, MRF stations, Garbage Processing Plant etc.

Before the meeting the delegation visited different parts of city to study integrated sanitation system in city including visiting MRF stations, Garbage Processing plant at dadumajra and viewed the GPS enabled vehicles deployed for Solid Waste Management System.

The delegation and Mayor appreciated the sanitation system followed in city by the Municipal Corporation. The Mayor also appreciated the waste disposal system including segregation of waste and door to door waste collection system in city. He said that the Municipal Corporation Chandigarh has succeeded to motivate the local citizens for systematic disposal of waste generated at their households and it is a great achievement to change the mindset of city residents for systematic disposal of waste generated in the city.

https://propertyliquid.com

Others who were present on the occasion were among Sh. Mahesh Inder Singh Siddhu, Senior Deputy Mayor, Smt. Farmila, Deputy Mayor, Dr. Amrit Pal Singh Warring, Medical Officer of Health and other officers of Municipal Corporation Chandigarh.

कागदाना जनसभा की सफलता के बाद गांव-गांव जाकर वोट मांगेंगे ओपी धनखड़

जिला में सूक्ष्म सिंचाई को बढ़ावा देने के लिये शीघ्र ही जिला सिंचाई प्लान (डिस्ट्रिक इरिगेशन प्लान) बनाकर स्वीकृति के लिये भेजा जायेगा-उपायुक्त विनय प्रताप सिंह

For Detailed News-

पंचकूला 28 जुलाई- उपायुक्त श्री विनय प्रताप सिंह ने कहा कि जिला में सूक्ष्म सिंचाई को बढ़ावा देने के लिये शीघ्र ही जिला सिंचाई प्लान (डिस्ट्रिक इरिगेशन प्लान) बनाकर स्वीकृति के लिये राज्य स्तरीय कार्यान्वयन समिति के पास भेजा जायेगा। उन्होंने कृषि विभाग, बागवानी विभाग व सूक्ष्म सिंचाई और कमान क्षेत्र विकास प्राधिकरण (मिकाडा)  को जिला में सूक्ष्म सिंचाई को बढ़ावा देने हेतू सुझाव प्रस्तुत करने के आदेश दिये ताकि उन्हें जिला सिंचाई प्लान में शामिल किया जा सके।


श्री विनय प्रताप सिंह आज यहां लघु सचिवालय के सभागार में जिला स्तरीय कार्यान्वयन समिति की पहली बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय सिंचाई प्लान की स्वीकृति के उपरांत जिला में मोरनी, बरवाला व रायपुररानी क्षेत्रों में किसानों को सूक्ष्म सिंचाई अपनाने के लिये प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जायेगा।


उन्होंने बताया कि भूमिगत जल में सुधार लाने व अधिक से अधिक कृषि क्षेत्र को सूक्ष्म सिंचाई के अंतर्गत लाने के लिये राज्य सरकार द्वारा जिला स्तरीय कार्यान्वयन समिति का गठन किया गया हैं। इस समिति का उद्देश्य कृषि व बागवानी विभाग द्वारा लागू की जा रही सूक्ष्म सिंचाई योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करना है ताकि किसान अधिक से अधिक इन योजनाओं का लाभ उठा सके।


बैठक में श्री विनय प्रताप सिंह ने जिला में सूक्ष्म सिंचाई के अंतर्गत 100 एकड भूमि पर लगाये गये सूक्ष्म सिंचाई संयत्रों की भौतिक जांच के लिये बागवानी विभाग, सिंचाई विभाग व मृदा संरक्षण विभाग के अधिकारियों की संयुक्त टीम गठित करने के निर्देश दिय। उन्होनंे निर्देश दिये कि यह टीम मोरनी, बरवाला व रायपुररानी में अब तक लगाये गये सूक्ष्म सिंचाई संयत्र जैसे स्परिंक्लर और ड्रीप इत्यादि की जांच करेंगी कि वे कार्य कर रहे है या नहीं और इसकी विस्तृत रिपोर्ट उन्हें दो सप्ताह के अंदर प्रस्तुत करेंगे।


 उन्होंने निर्देश दिये कि सूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत पंचकूला जिला में उपचारित अपशिष्ट जल का प्रयोग करने के लिये 5 एमएलडी क्षमता के दो सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट कालका व पिंजौर में स्थापित करने के लिये टेंडर आवंटित करने का कार्य दो सप्ताह में पूरा किया जाये। उन्होंने बागवानी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे एक अप्रैल से पहले के ऐसे मामले जिन्हें सूक्ष्म सिंचाई योजनाओं के अंतर्गत अभी तक सबसीडी का लाभ नहीं मिली है, उन्हें मुख्यालय स्तर पर प्राथमिकता के आधार पर देखे ताकि लाभार्थी किसानो ंको शीघ्र से शीघ्र सबसीडी राशि जारी की जा सके।


श्री विनय प्रताप सिंह ने कहा कि पंचकूला जिला में अधिक से अधिक कृषि क्षेत्र को सूक्ष्म सिंचाई के अंतर्गत लाने के लिये सभी संबंधित विभाग आपसी समन्वय से काम करें। उन्होंने कहा कि संबंधित विभागों में आपसी तालमेल के मामलों के लिये जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी नोडल अधिकारी होंगी। उन्होंने कहा कि सूक्ष्म सिंचाई राज्य सरकार के प्राथमिकताओं में एक हैं और अधिकारी इस पर पूरी गंभीरता से कार्य करें। उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय कार्यान्वयन समिति की बैठक दो या तीन सप्ताह में नियमित अंतराल पर आयोजित की जायेगी।

https://propertyliquid.com


  बैठक में सीईओ जिला परिषद निशु सिंगल, जिला बागवानी अधिकारी अशोक कोशिक, क्षेत्रीय वन अधिकारी मनीर गुप्ता, सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता अनुराग गोयल सहित संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

कागदाना जनसभा की सफलता के बाद गांव-गांव जाकर वोट मांगेंगे ओपी धनखड़

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने सार्थक स्कूल मे किये नये ब्लाॅक का उद्घाटन

For Detailed News-

– लगभग 90 लाख रुपये की लागत से निर्मित नये ब्लाॅक का किया उद्घाटन
– स्कूल में बहुउद्देशीय हाल के निर्माण व अन्य विकास कार्यों के लियेे स्वैच्छिक कोष से 50 लाख रुपये की राशि देने की, की घोषणा-गुप्ता

पंचकूला, 28 जुलाई- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने आज सार्थक माॅडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर 12ए में लगभग 90 लाख रुपये की लागत से निर्मित नये ब्लाॅक का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने स्कूल में बहुउद्देशीय हाल के निर्माण व अन्य विकास कार्यों के लिये अपने स्वैच्छिक कोष से 50 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की।


श्री गुप्ता ने इस अवसर पर मां सरस्वती के चरणों में पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्जवलित किया। इस अवसर पर उनके साथ जिला शिक्षा अधिकारी श्रीमती उर्मिला देवी भी उपस्थित थी।


श्री गुप्ता ने कहा कि आज इस नये ब्लाॅक का उद्घाटन करते हुये उन्हें खुशी हो रही है। इस ब्लाॅक में कंप्यूटर लैब, साईस लैंब के अलावा आॅर्ट एंड क्राफ्ट के क्लास रूम स्थापित की जायेगी। उन्होंने कहा कि इन सुविधाओं से सार्थक स्कूल के विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान करने में सहायता मिलेगी और बच्चे राज्य स्तर पर स्कूल का नाम रोशन करेंगे। उन्होंने कहा कि सार्थक स्कूल जिला पंचकूला का गौरव है। उन्होंने कहा कि सार्थक स्कूल में विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा उपलब्ध करवाने  पर विशेष ध्यान दिया जाता हैं ताकि वह यहां से अच्छी शिक्षा ग्रहण कर प्रदेश व देश का नाम रोशन कर सकेे।


श्री गुप्ता ने अपने स्कूल के दिनों की याद को सांझा करते हुये कहा कि जब वे डीएवी सेक्टर-8 चंडीगढ में पढ़ते थे तो वहां शिक्षकों द्वारा  पढाई में कमजोर बच्चों पर विशेष ध्यान देकर उनकी शिक्षा में सुधार लाने का प्रयास किया जाता था। इसी प्रकार सार्थक स्कूल में भी शिक्षक अपने बच्चों पर विशेष ध्यान देकर, अतिरिक्त क्लास व कोचिंग के माध्यम से विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा उपलब्ध करवाते है।
उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश में 131 संस्कृति स्कूल स्थापित किये गये है जिसमें से 6 प्राइमरी संस्कृति स्कूल पंचकूला में चल रहे है। राज्य सरकार का प्रयास है कि इन स्कूलों में अच्छे अध्यापकों की नियुक्ति कर विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्रदान की जाये ताकि यहां के विद्यार्थी  निजी स्कूलों के विद्यार्थियों से आगे निकल सके।

https://propertyliquid.com


पर्यावरण संरक्षण के महत्व पर प्रकाश डालते हुये श्री गुप्ता ने कहा कि प्रदेश में वृक्षारोपण अभियान चलाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में 3 करोड़ पेड लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। श्री गुप्ता ने कहा कि कल स्वयं उन्होंने आईटीबीपी और अन्य कई स्थानों पर पौधारोपण किया हैं। उन्होंने जिलावासियों व प्रदेशवासियों ंसे अपील की कि वे अधिक से अधिक संख्या मे पेड लगाये और साथ ही उनकी देखभाल करें।


उन्होंने कहा कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर को देखते हुये सभी को केंद्र व राज्य सरकार द्वारा जारी एसओपी का दृढता से पालन करना चाहिये ऐसा करके हम कोरोना की संभावित तीसरी लहर को रोक सकते है।


इस अवसर पर पंचकूला के डीईओ उर्मिला देवी ने हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष को शाॅल भेंट कर सम्मानित किया और सार्थक स्कूल के प्रिंसीपल पवन गुप्ता ने विधानसभा अध्यक्ष को विद्या की देवी मां सरस्वती की प्रतीमा भेंट की। सार्थक स्कूल के प्रिंसीपल पवन गुप्ता द्वारा विधानसभा अध्यक्ष को स्कूल के लिये अन्य आवश्यक मांगों पर श्री गुप्ता ने आश्वासन दिया कि उनकी ओर से हर संभव सहायता की जायेगी।


इस अवसर पर जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी निरूपमा कृष्णन, डीपीसी सत्यपाल कोशिक, डिप्टी डीईओ संध्या छिकारा, प्रचार्या डाईट महासिंह सिंधु, खंड शिक्षा अधिकारी बरवाला कुलभूषण शर्मा, संस्कृति स्कूल की पिं्रसीपल रेणु गुप्ता, बीजेपी के जिला प्रधान अजय शर्मा, जिला महामंत्री वीरेंद्र राणा, जिला उपाध्यक्ष उमेश सूद, पार्षद हरेंद्र मलिक सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

कागदाना जनसभा की सफलता के बाद गांव-गांव जाकर वोट मांगेंगे ओपी धनखड़

हेपेटाइटिस का इलाज संभव, प्राथमिकता के आधार पर करवाएं ईलाज : डा. रोहताश कुमार

सिरसा, 28 जुलाई।

For Detailed News-

विश्व हेपेटाइटिस दिवस पर नागरिक अस्पताल सिरसा में जांच शिविर का आयोजन


विश्व हेपेटाइटिस दिवस के अवसर पर स्थानीय नागरिक अस्पताल में जांच शिविर का आयोजन किया गया, शिविर का शुभारंभ सिविल सर्जन डा. रोहताश कुमार ने किया।


सिविल सर्जन ने बताया कि हरियाणा सरकार के निर्देशानुसार हेपेटाइटिस (काला पीलिया) का इलाज नागरिक अस्पताल में नि:शुल्क किया जा रहा है जिसके लिए दवाओं व टेस्ट के लिए कूपन मरीजों को नि:शुल्क में उपलब्ध करवाए जाते हैं। उन्होंने बताया कि  समय-समय पर इसके संबंध में आमजन को जागरूक करने के लिए प्रचार-प्रसार व स्क्रीनिंग केंपों का आयोजन किया जाता है।


सीनियर कंसलटेंट डा. सूरजभान कंबोज ने बताया कि हेपेटाइटिस बी व सी का इलाज संभव है तथा इसका इलाज मरीजों को प्राथमिकता के आधार पर लेना चाहिए। इस दिवस के अवसर पर जिला कारागार सिरसा तथा सभी सीएचसी/पीएचसी में भी जांच कैंप का आयोजन किया गया और काला पीलिया बीमारी के लक्षण, बचाव एवं इलाज बारे जागरूक किया गया।

https://propertyliquid.com


उप सिविल सर्जन डा. विपुल गुप्ता ने बताया कि जून, 2021 तक कुल 1629 मरीज पॉजिटिव पाए गए जिनमें से 1519 मरीजों द्वारा अपना ईलाज पूर्ण कर लिया गया है तथा शेष मरीजों का इलाज नागरिक अस्पताल में चल रहा है। उन्होंने बताया कि जिला जेल कैदियों का भी इस कार्यक्रम के तहत ईलाज किया जा रहा है जिसमें स्वास्थ्य विभाग की टीमें जिला जेल में जाकर कैदियों की स्क्रीनिंग कार्य करती हैं। अब तक जिला जेल में 90 स्क्रीनिंग कैंप लगाए जा चुके हैं तथा चार हजार 90 जेल कैदियों की हेपेटाइटिस हेतु जांच करते हुए 587 कैदियों को इस बीमारी से ग्रस्त पाया गया है जिनमें से 96 जेल कैदियों का इलाज पूर्ण कर लिया गया है तथा शेष मरीजों का इलाज जारी है। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारीगण एवं कर्मचारीगण मौजूद रहे।

कागदाना जनसभा की सफलता के बाद गांव-गांव जाकर वोट मांगेंगे ओपी धनखड़

धूमधाम से मनाया जाएगा उपमंडल स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह : एसडीएम दिलबाग सिंह

ऐलनाबाद, 28 जुलाई।

For Detailed News-

-समारोह की तैयारियों को लेकर बैठक का आयोजन, एसडीएम ने अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश


एसडीएम दिलबाग सिंह ने कहा कि हर वर्ष की भांति उपमंडल स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह पूरे उत्साह जोश के साथ मनाया जाएगा, समारोह का आयोजन कोविड-19 के नियमों की पालना के साथ किया जाएगा। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि वे स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए जो दायित्व उन्हें सौंपा गया है उस कार्य को पूरी निष्ठïा व लग्न से तय समय सीमा में पूरा करें।


एसडीएम दिलबाग सिंह बुधवार को अपने कार्यालय के बैठक कक्ष में जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह की तैयारियों के संबंध में अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में संबंधित अधिकारियों ने भाग लिया। उन्होंने कहा कि इस बार स्वतंत्रता दिवस समारोह में ध्वजारोहण, भाषण के अलावा परेड व मार्च पास्ट किया जाएगा। समारोह की फाइनल रिहर्सल 13 अगस्त को आयोजित की जाएगी। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि समारोह स्थल को भव्य रूप से सजाया जाए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि समारोह स्थल पर सफाई व्यवस्था पुख्ता की जाए तथा स्थल को सेनेटाइज भी करवाया जाए। समारोह स्थल पर एम्बुलेंस, सेनेटाइजर व मास्क आदि की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए। इसके अलावा जन स्वास्थ्य विभाग समारोह स्थल पर पीने के पानी की पुख्ता व्यवस्था करें।

https://propertyliquid.com