विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

Hunar 2021 at USOL

Chandigarh July 7, 2021

For Detailed News-

University School of Open Learning, Panjab University, Chandigarh, today organized its sixth annual cultural event Hunar, a platform that gives students to explore their talents, included creative items and activities such as writings of poetry and essay, poster making, dance, singing, poetry recitation, photography and filmmaking. Keeping in view the pandemic norms of social distancing and self-isolation, the event was organized online. The students had emailed as many as two hundred entries through PDFs and videos.

            The Chairperson, Prof Madhurima Verma, introduced the chief guests Prof S. K. Tomar, the Dean Students’ Welfare (Men) and Prof Meena Sharma, Dean Students’ Welfare (Women). Referring to the celebration of the Golden Jubilee year of USOL, Prof Verma highlighted the distinctive services rendered by the institution in the field of open learning and education.

            In his address, Prof Tomar congratulated the organizers for the event in the difficult times of the Covid and extolled the efforts of the students. Invoking the landmark mythical character of Eklavya, a dalit, Prof Tomar called him the first distant learner as he mastered the skill of archery staying away from his teacher Dronacharya.  He also called upon to institute a judicious balance between the three coordinates of education—the teacher, the taught and the study material.

https://propertyliquid.com

            Prof Meena Sharma appreciated the event and called it nothing less than a stress buster and confidence booster for the students as the preparation of and engagement with the creative-cultural items distanced them from the environment suffused negativity triggered by the covid. The judgment of each creative item was prepared by a team of three faculty members. 

            Eight teachers including Prof Neeru, Prof Harsh, Prof Praveen, Prof Sukhpreet, Dr Kuljeet, Dr Parveen, Dr Kamala and Dr Richa gave a comprehensive introduction to each creative item and presented the judgment by making a declaration of the first, second, third position and consolation prizes. As many as 40 students were declared as prize winners.  The two prize winning students Mr Gopi and Ms Anand Priya shared their enriching experiences regarding the preparation of their respective items.

            The coordinator of the event, Dr Ravinder Kaur Dhaliwal and co-coordinator Dr Reena Chaudhari, along with a dedicated team of faculty members, put strenuous efforts to organize the event. 

            Dr Sucha Singh provided the technical support to conduct the event. Mr Sudhir Baweja conducted the event eloquently and Dr Kamala Sandhu proposed a vote of thanks.

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

सैनिक की लिखित परीक्षा हिसार मिलिट्री स्टेशन में 25 जुलाई को होगी आयोजित

सिरसा, 07 जुलाई।

For Detailed News-


सेना भर्ती कार्यालय हिसार द्वारा सैनिक (जनरल ड्यूटी), सैनिक (लिपिक/स्टोर कीपर तकनीकी) और सैनिक (ट्रेडसमैन) श्रेणी की भर्ती के उम्मीदवारों के लिए लिखित परीक्षा 25 जुलाई को हिसार मिलिट्री स्टेशन में आयोजित की जाएगी।


यह जानकारी देते हुए सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि जिला सिरसा, फतेहाबाद, जींद व हिसार के उम्मीदवारों के लिए 20 फरवरी 2021 से 13 मार्च 2021 तक हिसार मिलिट्री स्टेशन में सैनिक (जनरल ड्यूटी), सैनिक (लिपिक/स्टोर कीपर तकनीकी) और सैनिक (ट्रेडसमैन) पदों पर भर्ती आयोजित की गई थी। इन भर्ती किए गए उम्मीदवारों की लिखित परीक्षा कोरोना महामारी के मद्देनजर आयोजित नहीं हो सकी थी। अब इन उम्मीदवारों की लिखित परीक्षा 25 जुलाई को हिसार मिलिट्री स्टेशन में आयोजित की जाएगी।

https://propertyliquid.com


सभी रैली फिट और मेडिकल रिव्यु फिट उम्मीदवार सैनिक (जनरल ड्यूटी आरएमडीएस 1250-2100) 15 जुलाई 2021, सैनिक (जनरल ड्यूटी आरएमडीएस 2100-3245) 16 जुलाई 2021, सैनिक (लिपिक) और सैनिक (ट्रेडसमैन) 17 जुलाई 2021 को टीसीपी गेट-2, हिसार मिलिट्री स्टेशन में उपस्थित होकर अपना प्रवेश पत्र प्राप्त कर सकते हैं। जिन उम्मीदवारों को 30 मई 2021 का प्रवेश पत्र जारी किया गया है वे अपना प्रवेश पत्र टीसीपी गेट-2, हिसार मिलिट्री स्टेशन में उपरोक्त तिथि में जमा करवाएं।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

उपमुख्यमंत्री – परियोजनाओं के निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर किसी भी कीमत पर समझौता नहीं किया जाएगा

For Detailed News-

पंचकूला, 7 जुलाई-    हरियाणा के उपमुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चैटाला ने कहा कि लोक निर्माण (भवन एवं सडक़ें) विभाग द्वारा प्रदेश में भवन, सडक़, अस्पताल, खेल का मैदान या अन्य परियोजनाओं के निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर किसी भी कीमत पर समझौता नहीं किया जाएगा, अगर कोई निर्माण एजेंसी या अधिकारी कोताही बरतेगा तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने निर्धारित समय से पहले कार्य करने वाली एजेंसियों को सम्मानित करने तथा देरी से कार्य पूरा करने वालों को जुर्माना लगाने के निर्देश दिए।


डिप्टी सीएम, जिनके पास लोक निर्माण(भवन एवं सडक़ें)विभाग का प्रभार भी है, ने आज यहां लोक निर्माण(भवन एवं सडक़ें)विभाग के अंतर्गत 50 करोड़ से अधिक कीमत की करीब तीन दर्जन चालू परियोजनाओं की समीक्षा की। बैठक में विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री आलोक निगम के अलावा अन्य वरिष्ठड्ढ अधिकारी तथा निर्माण एजेंसियों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।


उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार जनता के प्रति जवाबदेह है और प्रदेश के लोगों की सुविधा के लिए सडक़, अस्पताल व अन्य सार्वजनिक उपयोग की परियोजनाएं बना रही है। उन्होंने लोक निर्माण(भवन एवं सडक़ें)विभाग के तहत निर्माणाधीन 34 परियोजनाओं की समीक्षा की।

https://propertyliquid.com


श्री दुष्यंत चैटाला ने महेंद्रगढ़ जिला के कोरियावास गांव में बन रहे गवर्नमैंट मैडिकल कॉलेज के निर्माण कार्य की प्रगति रिपोर्ट लेते हुए कहा कि चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग से नए नियमों के तहत आर्किटेक्चरल-ड्राईंग को जल्द से जल्द फाइनल करके इसको अगले एक साल में अवश्य पूरा किया जाए। हिसार के निर्माणाधीन अंतर्राष्टड्ढ्रीय हवाई अड्डड्ढा के वर्तमान रन-वे तथा टैक्सी-वे के विकास कार्य में तेजी बरतने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि इसके चैड़ाकरण की प्रक्रिया व अन्य लंबित कार्य 4 मई 2022 तक पूरा करें।


उन्होंने भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों की याद में अंबाला में बनाए जा रहे युद्घ-स्मारक के कार्य की विस्तार से समीक्षा की। इसमें निर्माणाधीन म्यूजियम, ओपन एयर थियेटर, ऑडिटोरियम, मैमोरियल टॉवर के पूरा करने में आ रही दिक्कतों को दूर कर मार्च 2022 तक पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने अंबाला कैंट में 100 बैड क्षमता से बढ़ाकर 200 बैड का सिविल अस्पताल करने के कार्य का भी अधिकारियों से फीडबैक लिया। इसी प्रकार, उन्होंने यहां स्टेडियम के अपग्रेडेशन के तहत सिंथेटिक ट्रैक तथा आर्टिफिसियल फुटबाल टर्फ के कार्य को जल्द पूरा करने के निर्देश देते हुए कहा कि नवंबर 2021 से पहले पूरा करके खेल विभाग को सौंप दिया जाएगा ताकि यहां खेलो-इंडिया गेम्स करवाए जा सकें। अंबाला शहर के सिविल अस्पताल को 200 बैड से बढ़ाकर 300 बैड क्षमता का करने तथा लघु सचिवालय में फेज-3 के प्रशासकीय खंड के निर्माण कार्य की भी समीक्षा की।


उपमुख्यमंत्री ने गुरूग्राम में बनाए जा रहे ‘टॉवर ऑफ जस्टिस’(न्यू ज्यूडिशियल कंपलेक्स) के ‘की-प्लॉन’ से लेकर अभी तक किए गए कार्यों का पिक्चर के माध्यम से अध्ययन किया और इसको जून 2022 तक फाइनल करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि एस्केलेटर व अतिरिक्त पार्किंग की जल्द से जल्द स्वीकृति देकर कार्य में तेजी लाएं। उन्होंने आबकारी एवं कराधान विभाग के कार्यालय-भवन के निर्माण बारे भी अधिकारियों से जवाब-तलबी की।


श्री दुष्यंत चैटाला ने रेवाड़ी में जेल के नए भवन के निर्माण में चल रही धीमी गति पर नाराजगी जाहिर करते हुए एजेंसी व विभाग के अधिकारियों को फटकार लगाई और इसको 31 अक्तूबर 2021 तक कार्य पूरा करने के निर्देश दिए।


सोनीपत में निर्माणाधीन ‘डॉ. बी.आर अंबेडकर नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी’ के कार्य की समय-समय पर समीक्षा किए गए जाने का असर यह हुआ कि आज की बैठक में निर्माण एजेंसी ने उक्त कार्य को निर्धारित अवधि तक पूरा करने का वादा किया।


डिप्टी सीएम ने इसी प्रकार यमुनानगर के मुकंद लाल सिविल अस्पताल को 200 बैड की क्षमता का करने, पंचकुला में ‘हरियाणा स्टेट आर्कियोलोजिक्ल म्यूजियम’ के निर्माण, करनाल के घरोंडा में एनसीसी अकादमी के भवन, पीजीआई रोहतक में शिक्षकों के लिए बनाए जा रहे मकानों के निर्माण कार्य की समीक्षा करते हुए गवर्नमैंट मैडिकल कॉलेज जींद को जुलाई 2023 तक हर हाल में पूरा करने के निर्देश दिए।
श्री दुष्यंत चैटाला ने लोक निर्माण (भवन एवं सडक़ें)विभाग के अंतर्गत प्रदेश में बनाई जा रही सडक़ों, ओवरब्रिज, अंडरब्रिज आदि के चालू कार्यों की भी समीक्षा की। उन्होंने करनाल जिला में करनाल-मेरठ रोड़ को कुछ स्थानों पर फोर-लेन करने, कुछ स्थानों पर सिक्स-लेन करने तथा कुछ ओवरब्रिज के निर्माण कार्यों बारे निर्माण एजेंसी को निर्देश दिए कि उक्त सारा कार्य एक जनवरी 2022 तक पूर्ण हो जाना चाहिए। उन्होंने प्रस्तावित फरीदाबाद-ग्रेटर नोयडा रोड़ पर 630 मीटर लंबाई के यमुना-ब्रिज के निर्माण कार्य को इस वर्ष के अंत तक पूरा करने के लिए कहा।


डिप्टी सीएम ने भिवानी से खरक गांव तक रोड़ को फोर-लेन करने तथा रोहतक रोड़ को चरखी दादरी रोड़ से मिलाने के लिए भिवानी-बाईपास के निर्माण में तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि रास्ते में पडऩे वाली रेलवे लाइनों के ऊपर से ब्रिज बनाने आदि से संबंधित जो औपचारिकताएं हैं वह सभी रेलवे अधिकारियों से बैठक करके जल्द से जल्द स्वीकृति दिलवाएं।


उपमुख्यमंत्री ने फोर-लेन का पिंजौर बाईपास के निर्माण तथा समालखा से अट्टड्ढा तक के रोड़ को चैड़ा करने, गांव खोजकीपुर के नजदीक यमुना नदी पर एच-एल ब्रिज बनाने,रेवाड़ी जिला के गांव पाली में फोर-लेन रेलवे ओवरब्रिज बनाने के कार्य की भी समीक्षा की।


उन्होंने हिसार में रेवाड़ी-भटिंडा रेलवे लाइन पर जिंदल चैक से सूर्य नगर तक रेलवे ओवरब्रिज के निर्माण में तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि उस क्षेत्र से बिजली विभाग से मिलकर बिजली की शेष लाइनों को जल्द से जल्द हटाया जाए। रोहतक शहर में कच्चा बेरी रोड़ पर टू-लेन एलिवेटिड रेलवे ओवरब्रिज बनाने,गुरूग्राम में दिल्ली-रेवाड़ी लाइन पर फोर-लेन रेलवे ओवरब्रिज बनाने, करनाल में दिल्ली-अंबाला रेलवे लाइन पर फोर-लेन रेलवे ओवरब्रिज बनाने,  रेवाड़ी जिला में रेवाड़ी-नारनौल रोड़ से रेवाड़ी- झज्जर रोड़ का लिंक रोड़ का निर्माण , सोनीपत-राठधना-नरेला रोड़ का अपग्रेड करने, गुरूग्राम में पुरानी दिल्ली-जयपुर रोड़ पर फ्लाइओवर तथा अंडरपास का निर्माण करन,े गांव जठलाना के पास यमुना नदी पर एचएल ब्रिज बनाने, रोहतक में शीला बाइपास चैक पर फ्लाइओवर बनाने, कुरूक्षेत्र में गीता द्वार से कुरूक्षेत्र यूनिवर्सिटी के थर्ड गेट तक रोड़ को सिक्स-लेन करने के अलावा नांगल चैधरी के लॉजिस्टिक हब से सिक्स-लेन रोड़ बनाने के कार्य की समीक्षा करते हुए उक्त सभी कार्यों को निर्धारित अवधि में पूरा करने के निर्देश दिए।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

जीरो बजट कृषि के लिए गाय ही हो मुख्य आधार: अजीत प्रसाद महापात्र

For Detailed News-

पंचकूला, 7 जुलाई- हरियाणा गौ सेवा आयोग ने मेरी गाय मेरा जीवन विशेष पर वर्चुअल बौद्धिक श्रंखला की शुरुआत की हैं जिसके शुभारंभ में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से आमंत्रित मुख्य वक्ता श्री अजीत प्रसाद महापात्र, अखिल भारतीय गौसेवा प्रमुख, ने जीरो बजट खेती के लिए गाय के महत्व पर विस्तार से अपने विचार रखें।


उन्होंने पंचगव्य उत्पादों से होने वाले विभिन्न स्वास्थ्य लाभों पर भी ध्यान दिलवाते हुए बताया कि गौमूत्र अर्क के सेवन से हम अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा कर कोरोना एवं अन्य रोग के विरुद्ध अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा कर बीमार होने से बच सकते हैं। जैविक खाद एवं समाधी खाद बनाने की प्रक्रिया एवं उपयोगिता भी बताई।


हरियाणा गौ सेवा आयोग के चेयरमैन श्री श्रवण कुमार गर्ग ने बताया कि आयोग द्वारा अब नियमित ही यह बौद्धिक श्रंखला जारी रहेगी जिससे समाज में गौवंश से संबंधित विभिन्न विषयों पर संवाद जारी रहेगा। चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग ने प्रदेश की गौशालाओं द्वारा गौसंवर्धन हेतु किए जा कार्यों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुखमंत्री मनोहर लाल के मार्गदर्शन में गौ सेवा आयोग द्वारा गौवंश के रखरखाव हेतु बढ़िया कार्य किया जा रहा है। शीघ्र ही प्रदेश में गौ तस्करी रोकने के लिए एक मजबूत काऊ प्रोटेक्शन टास्क फोर्स का गठन किया जा रहा है।

https://propertyliquid.com


डॉ चिरंतन कादयान सचिव हरियाणा गौ सेवा आयोग ने हरियाणा गौ अनुसंधान केंद्र स्थापित करने की जानकारी भी साझा करी। चंद्रकांत जी, पंजाब गौ सेवा प्रमुख सहित महेंद्र कंसल हरियाणा प्रदेश गौसेवा प्रमुख, आयोग के उपाध्यक्ष विद्यासागर बाघला, हरियाणा गौशाला सेवा संघ के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश मालिक, आयोग के सदस्य और अनेकों गौ सेवा से जुड़े हुए व्यक्तियों ने भाग लिया।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने सीवर या सैपटिक टेंक की साफ सफाई का कार्य मशीनों के माध्यम से ही करवाये जाने के दिये निर्देश।

– सीवर की साफ सफाई के दौरान किसी भी सफाई कर्मचारी की ना हो मृत्यु- उपायुक्त
–सीवर की साफ सफाई करने वाले कर्मचारियों को पर्याप्त प्रशिक्षण तथा व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण मुहैया करवाने के दिये निर्देश-उपायुक्त

For Detailed News-

पंचकूला, 7 जुलाई- उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण जनस्वास्थ्य अभियंत्रिकी विभाग के जिला अधिकारियों को  सीवर या सैपटिक टेंक की साफ सफाई का कार्य मशीनों के माध्यम से ही करवाये जाने के निर्देश दिये ताकि सीवर की साफ सफाई के दौरान सफाई कर्मचारी को किसी भी प्रकार की जान माल की हानि न हो।


श्री विनय प्रताप सिंह आज जिला सचिवालय के सभागार में जिला स्तरीय मैनवल स्कवेंजर सर्तकता कमेटी की त्रिमासिक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।


उपायुक्त ने कहा कि यदि सफाई कर्मचारी द्वारा मैनवल तरीके से सीवर की साफ सफाई करवाना बहुत ही आवश्यक हो तो यह सुनिश्चित किया जाये कि सीवर की साफ सफाई करने वाले कर्मचारी को पर्याप्त प्रशिक्षण दिया गया हो तथा वह व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण जैसे स्वसन मास्क, कृत्रित स्वसन जाली या वायु शोधक गैस मास्क, हाथ के दस्ताने, हैलमेट, सुरक्षा चस्में, सुरक्षा कपड़े, बरसाती सुरक्षा सर्च लाईटे से लैस हो।


उपायुक्त ने कहा कि संबंधित विभाग यह भी सुनिश्चित करेंगे कि सीवर की साफ सफाई का कार्य केवल उन्हीं सफाई कर्मचारियों से करवाया जाये जो इस काम के लिये पहले से ही डेग्जिनेट किये गये हो तथा उन्हें इस कार्य का प्रशिक्षण लिया हो। उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य यह होना चाहिये कि सीवर सफाई के दौरान किसी भी कर्मचारी की मृत्यु न हो।

https://propertyliquid.com


श्री विनय प्रताप सिंह ने हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण व जनस्वास्थ्य अभियंत्रिकी विभाग के जिला अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे ऐसी सभी आॅउटसोरसिंग एजेंसी जो सीवरमैन उपलब्ध करवाने का कार्य करती है से एफीडेविट लें कि वे अपने सीवरमैन या सफाई कर्मचारियो ंको व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण उपलब्ध करवायें गये है। इनकी कमी के कारण यदि किसी भी सीवरमैन या सफाई कर्मचारी की सीवर की साफ सफाई के दौरान मृत्यु होती है तो इसके लिये संबंधित ऐजेंसी स्वयं जिम्मेदार होगी। उन्होंने कहा कि संबंधित एजेंसियों से यह एफिडेविट आगामी दो सप्ताह के अंदर जमा करवाये जायें।
श्री विनय प्रताप सिंह ने कहा कि यदि जिला में बिना व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण के सीवर की साफ सफाई का कोई भी मामला किसी के भी संज्ञान में आता है तो वह उसका फोटो खींचकर उन्हें भेज सकते है। वह स्वयं ऐसे मामले का संज्ञान लेंगे तथा दोषियों के विरूद्ध कार्रवाही करेंगे। उन्होंने कहा कि समिति के गैर सरकारी सदस्य इस मामलें में अपने सुझाव उनके कार्यालय को लिखित रूप में भिजवा सकते है।
बैठक में एसीपी ममता सौदा, जिला कल्याण अधिकारी शीश पाल तथा विभिन्न विभागों के संबंधित अधिकारी व समिति के गैर सरकारी सदस्य उपस्थित थे।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के तहत जिला में दर्ज हुये मामलों की जांच में तेजी लाने के दिये निर्देश।

For Detailed News-

पंचकूला, 7 जुलाई- उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने आज जिला सचिवालय के सभागार में जिला स्तरीय सर्तकता एवं निगरानी कमेटी की त्रिमासिक बैठक की अध्यक्षता की और अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के तहत जिला पंचकूला में दर्ज केसों की समीक्षा की।


बैठक में श्री विनय प्रताप सिंह ने पुलिस विभाग द्वारा ऐसे मामलों के लिये नियुक्त की गई नोडल अधिकारी को निर्देश दिये कि वे अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के तहत जिला में दर्ज हुये मामलों की जांच में तेजी लाये ताकि पीड़ितों को जल्द से जल्द न्याय दिलाकर आर्थिक सहायता प्रदान की जा सके। साथ ही वह यह भी सुनिश्चित करें कि पुलिस जांच लंबित ना रहे और एक तय समय में मामलों की जांच की जाये। उन्होंने निर्देश दिये कि जिला कल्याण अधिकारी कार्यालय, पुलिस विभाग तथा जिला न्यायवादी कार्यालय आपस में सामंज्सय स्थापित करते हुये कार्य करें ताकि पीडित व्यक्तियों को शीघ्र न्याय मिल सके।

https://propertyliquid.com


अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 संशोधित 2016 के अंतर्गत गैर अनुसूचित जाति के व्यक्तियों द्वारा पीड़ित अनुसूचित जाति के व्यक्तियों पर होने वाले अत्याचारों जैसे भूमि का अनाधिकृत कब्जा, कत्ल, डकैती, बलात्कार, आगजनी आदि से पीड़ित व्यक्तियों को 85 हजार से 8.25 लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता प्रदान करने का प्रावधान है। पीड़ित व्यक्ति द्वारा संबंधित थाने में अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) के तहत एफआईआर दर्ज हो। वह व्यक्ति इस स्कीम के तहत आर्थिक सहायता प्राप्त करने का पात्र है।


उपायुक्त ने निर्देश दिये कि जिला स्तरीय सर्तकता निगरानी कमेटी के मनोनित गैर सरकारी सदस्यों की भी सहभागीता सुनिश्चित की जाये। इसके लिये उन्होंने जिला समाज कल्याण अधिकारी को निगरानी समिति के गैर सरकारी सदस्यों की एक कमेटी गठित करने के निर्देश दिये। यह समिति संबंधित पुलिस थाने में अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के तहत मामला दर्ज होने के उपरांत पीड़ित पक्ष से मुलाकात करेगी व उसे उक्त अधिनियम के तहत कानूनी अधिकार व राज्य सरकार की योजना के अंतर्गत दी जा रही वित्तीय सहायता के बारे में अवगत करवायेगी। पीड़ित को कानूनी सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से इस कमेटी में लीगल वाॅलिंटीयर को भी शामिल किया जायेगा। इसके अलावा कमेटी पीड़ित पक्ष से बातचीत के दौरान सामने आये अन्य तथ्यों को भी रिपोर्ट के माध्यम से संबंधित जांच अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत कर सकती है।


जिला में अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम 1989 के तहत कोई भी पीड़ित गैर सरकारी सदस्यों अशोक गुप्ता (पंचकूला) के मोबाईल नंबर 9779379900, रामपाल मल्होत्रा (पंचकूला) के 9316134039, विनोद जैन (पंचकूला) के 9316114449, जशमेर सिंह (सूरजपुर) के 8221962012, गुरमेल सिंह (बरवाला) के 9416461058, बलिंदर (रायपुररानी) के 9896986806, रमेशचंद (पिंजौर)  के 9816193202 और पुरूषोतम (मोरनी) के 8901259750 पर संपर्क कर सकता है।


बैठक में एसीपी ममता सौदा, जिला कल्याण अधिकारी शीश पाल,  सीएमओ के प्रतिनिधि डाॅ. नवजौत तिवाना तथा विभिन्न विभागों के संबंधित अधिकारी व समिति के गैर सरकारी सदस्य उपस्थित थे।

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

Enforcement committee meeting held

For Detailed News-

Chandigarh, July 7:- A meeting of the Enforcement Committee, Municipal Corporation Chandigarh was held here today under the chairpersonship of Smt. Asha Jaswal and attended by other members of committee namely Sh. Shakti Parkash Devshali, Sh. Bharat Kumar, Sh. Charanjiv Singh, Smt. Ravinder Kaur Gujral, Sh. Mahesh Inder Singh Sidhu, Senior Deputy Mayor, MCC along with concerned officials of MCC and Inspectors of Enforcement wing, MCC.

* The Committee decided to add Hologram of MCC on the receipts given to vendors for authentication.

https://propertyliquid.com

* The committee members also recommended restarting the practice of online challans to the vendors and shopkeepers.

* The Committee asked the concerned officers to provide the list of vending zones to respective councillors ward-wise.

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

Around 21790 students took Online Even Semester Exam today

Chandigarh July 7, 2021 

For Detailed News-

Around 21790 students of Undergraduate/Post Graduate/Other Professional Courses including USOL/Private appeared today in the ongoing even semester online examinations being conducted by Panjab University, informed Dr. Jagat Bhushan, Controller of Examination, PU. Total of 73 exams were conducted in 2 slabs. COE informed that the exams went off smoothly without any issues. 

https://propertyliquid.com

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

Sewerage Water Drainage pipeline laying work starts at sector 49/50

Chandigarh:

For Detailed News-

Smt. Heera Negi, area councilor of ward No. 13 formally started the pipeline laying work for storm water drainage system infront of BSNL society, Sector 50, Chandigarh. Sh. Rajender Sharma, Vijay Kumar Bali, Chirag Aggarwal, N.K. Sahi, S.K. Sharma, Rajesh Sharma, Mr. Rai, Amit Gupta, Yogita Chauhan and office bearers of Resident Welfare Association, BSNL Society, Sector 50 were present during the occasion.

https://propertyliquid.com

She informed that the pipe line including 450 mm SWD line 369 mtr. and 400 mm SWD line 245 mtr. will be laid from Sai Enclave Sector 49 and BSNL Society Sector 50 under Ward Development Fund at an estimated cost of Rs. 15.63 lacs.

विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने यूपीएससी सिविल सर्विसिज में 74वां रैंक हासिल करने पर आयुष गुप्ता को दी बधाई

पहली व दूसरी कोरोना संक्रमण लहर के अनुभवों से सीख लेकर करें संभावित लहर से निपटने की पूर्ण तैयारी : अनिल विज

सिरसा, 6 जुलाई।

-प्रदेश को ऑक्सीजन में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में करें कार्य, 50 बैड क्षमता वाले निजी अस्पताल लगाएंगे ऑक्सीजन प्लांट
-संभावित संक्रमण लहर से निपटने को लेकर प्रशासन गंभीरता के साथ तैयारियों में जुटा : उपायुक्त अनीश यादव
-स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने वीसी से की संभावित संक्रमण लहर की तैयारियों की समीक्षा, मुख्य सचिव विजय वर्धन ने भी दिए आवश्यक दिशा-निर्देश


प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए समय रहते सभी आवश्यक प्रबंधों को पुख्ता कर लिया जाए, ताकि बाद में किसी प्रकार की दिक्कतों को सामना न करना पड़ें। संक्रमण की पहली व दूसरी लहर के अनुभवों के आधार पर संभावित संक्रमण लहर से निपटने की पूर्ण तैयारी करें।

For Detailed News-


स्वास्थ्य मंत्री मंगलवार को वीडियो कॉफे्रेंस के माध्यम से संभावित तीसरी संक्रमण लहर की तैयारियों की समीक्षा करने के दौरान जिला उपायुक्त, पुलिस अधीक्षकों व संबंधित अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान मुख्य सचिव विजय वर्धन ने भी संभावित लहर से निपटने को लेकर किए जा रहे प्रबंधों व तैयारियों बारे आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग के एसीएस राजीव अरोड़ा ने भी कोविड नियमों की अनुपालना बारे आवश्यक निर्देश दिए। वीसी में मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डीएस ढेसी, एफसीआर संजीव कौशल सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। लघुसचिवालय स्थित वीडियो कॉफ्रेंस रूम से उपायुक्त अनीश यादव, पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह, सीएमओ डा. मनीष बंसल ने वीसी में भाग लिया।


अनिल विज ने कहा कि हमने पहली व दूसरी संक्रमण लहर से एकजुटता व टीम वर्क के साथ निपटने में कामयाबी हासिल की है। संक्रमण के खिलाफ लड़ाई में हेल्थ वर्कर, फ्रंट लाइन वर्कर सहित संबंधित विभागों ने जिम्मेवारी के साथ अपना पूर्ण सहयोग दिया। हालांकि इस दौरान कई दिक्कतों व परेशानियों का सामना भी करना पड़ा। लेकिन संक्रमण की तीसरी लहर की संभावना जताई जा रही है, उसमें इस प्रकार की दिक्कतें व कठिनाईयों का सामना ना करना पड़े, इसके लिए अभी से पुराने अनुभवों से सीखते हुए अभी से तैयारियां पूर्ण कर लें। उन्होंने कहा कि प्रदेश को ऑक्सीजन में आत्मनिर्भर बनाना है, इसलिए इस दिशा में अधिकारी गंभीरता से कार्य करें। सभी 50 बैड की क्षमता वाले निजी अस्पतालों को ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाने के दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं, जोकि छ: माह में लगाए जाने हैं। उन्होंने सभी उपायुक्तों को निर्देश दिए कि वे ऐसे अस्पतालों का दौरा कर ऑक्सीजन प्लांट लगाने की प्रक्रिया की जानकारी लें और इस दिशा में तेजी से कार्य करवाएं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 95 लाख लोगों को वैक्सीनेशन किया जा चुका है। सभी जिला उपायुक्त यह सुनिश्चित करें कि वैक्सीन की दूसरी डोज अवश्य लगे, ताकि बीमारी की गंभीर स्थिति से बचा जा सके।

https://propertyliquid.com


उन्होंने निर्देश दिए कि जिला में कोरोना वेरियंट कमेटी का गठन किया जाए, जिसमें उपायुक्त, पुलिस अधीक्षक, सीएमओ आदि को शामिल किया जाए। कमेटी में आईएमए के सदस्यों को भी रखा जाए। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन, वेंटीलेटर व आईसीयू बैड की संख्या बढाने की दिशा में कार्य करें। इसके साथ ही सभी सीएचसी में ऑक्सीजन बैड की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की टीम बनाकर डेथ ऑडिट करवाकर मृत्यु के कारणों का पता लगाएं, ताकि मृत्यु दर पर रोक लगाई जा सके। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण इलाज से संबंधी उपकरणों व दवाईयों के रेट निर्धारित किए गए हैं, जिन्हें आवश्यकता अनुसार रिवाईज भी किया जा सकता है। उन्होंने निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित किया जाए कि कहीं पर भी बीमारी के नाम पर लोगों से अतिरिक्त चार्ज न लिया जाए।

उपायुक्त अनीश यादव ने बताया कि संभावित कोरोना लहर से निपटने के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किए जा रहे हैं। जिला की सभी सीएचसी में ऑक्सीजन पाइप लाइन का कार्य तेजी से किया जा रहा है। जिला के उपमंडल डबवाली में ऑक्सीजन प्लांट बनकर तैयार हो चुका है। इसी प्रकार शीघ्र ही सामान्य अस्पताल सिरसा में भी ऑक्सीजन प्लांट का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिला में वैक्सीनेशन कार्यक्रमों के माध्यम से पात्र लोगों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अब तक जिला में 3 लाख 83 हजार से अधिक का वैक्सीनेशन किया जा चुका है। उपायुक्त ने बताया कि जिला में 50 बैड क्षमता के दो निजी अस्पताल हैं। इनमें ऑक्सीजन प्लांट की प्रक्रिया का निरीक्षण कर इस दिशा में तेजी से कार्य करने बारे दिशा-निर्देश दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि कोविड को लेकर राज्य की ओर से जारी दिशा-निर्देशों की दृढता से अनुपालना करवाई जा रही है। कोविड नियमों की उल्लंघना करने पर 1366 चालान किए गए हैं और समय-समय पर एसओपी गाइड लाइन की पालना सुनिश्चित करने के लिए पुलिस व प्रशासन द्वारा निरीक्षण भी किया जा रहा है।