जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

अतिरक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा ने कहा कि कल 15 जून को सेक्टर-3 स्थित ताउ देवी लाल खेल परिसर के बहुउद्देशीय सभागार में प्रातः 8 से सायं 4 बजे तक वैक्सीनेशन आॅन व्हील के तीसरे चरण का आयोजन किया जायेगा।

For Detailed News-

पंचकूला, 14 जून- अतिरक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा ने कहा कि कल 15 जून को सेक्टर-3 स्थित ताउ देवी लाल खेल परिसर के बहुउद्देशीय सभागार में प्रातः 8 से सायं 4 बजे तक वैक्सीनेशन आॅन व्हील के तीसरे चरण का आयोजन किया जायेगा।


उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन का प्रयास है कि जिला का 18 वर्ष से अधिक आयु का कोई भी नागरिक कोविड-19 का टीका लगवाने से वंचित न रहे, इसके लिये जिले में व्यापक स्तर पर टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि लोगों की सुविधा व टीकाकरण के सुगम संचालन के लिये विभिन्न अधिकारियों की ड्यूटियां लगाई है। कालका के एसडीएम राकेश संधु को इस अभियान के लिये प्रभारी नियुक्त किया गया है तथा परियोजना अधिकारी सुनील जाखड इनको सहयोग करेंगे।


इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग से डाॅक्टर विकास व डाॅक्टर अनुज वैक्सीनेशन  लगवाने आ रहे लोगों की वैरीफिकेशन करेंगे। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (यातायात) रमेश गुलिया को टीकाकरण के लिये आ रहे वाहनों के नियंत्रण व पार्किंग की व्यवस्था करने की जिम्मेवारी सौंपी गई है।


लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अधीक्षक अमित मलिक को एसएचओ ट्रैफिक के साथ तालमेल कर उचित बेरिकेटिंग सुनिश्चित करने की जिम्मेवारी दी गई है।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि जिला रेडक्राॅस सोसायटी की सचिव सविता मलिक को भी जिम्मेवारी दी है कि वे रेडक्राॅस का पर्याप्त स्टाफ वैक्सीनेशन के लिये उपलब्ध करवाये। इसके अलावा प्रशिक्षणाधीन तहसीलदार आदित्य व निखिल कार्यालय के दिनेश व गगन के साथ टीकाकरण अभियान के सफल आयोजन के लिये नोडल अधिकारी को सहयोग करेंगे। जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी विनय वत्स टीकाकरण के आयोजन स्थल पर माईंक व्यवस्था सुनिश्चित करवायंगे और मैडिकल टीम का टीकाकरण में सूचनाओं के आदान प्रदान में सहयोग करेंगे।


अतिरक्त उपायुक्त ने कहा कि टीका लगवाने के लिये आने वाले व्यक्तियों को टीकाकरण के लिये किये गये प्री-रजिस्ट्रेशन नंबर तथा आईडी प्रूफ लाना होगा ताकि उन्हें किसी प्रकार की असुविधा न हो।
अतिरक्त उपायुक्त ने लोगों से अपील की कि कोविड महामारी से लड़ने में सर्तकता व टीकाकरण ही उपाय है इसलिये लोगों को अपना सहयोग देना चाहिये और जहां तक संभव हो घर से बाहर तभी निकले जब अति आवश्यक हो।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

अग्रवाल भवन सेक्टर-16 में 22 लाख रुपये की लागत से नवनिर्मित लिफ्ट का उद्घाटन।

– भवन में लिफ्ट की मांग लंबे समय से चली आ रही थी जो आज पूरी हुई – गुप्ता
-इस लिफ्ट के निर्माण से विशेषकर वरिष्ठ नागरिकों को होगी सुविधा- कटारिया

For Detailed News-

पंचकूला, 14 जून- हरियाणा के विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने अग्रवाल भवन सेक्टर-16 को तोफ्हा देते हुये आज भवन में 22 लाख रुपये की लागत से नवनिर्मित लिफ्ट का विधिवत उद्घाटन किया। इस लिफ्ट के लगने से भवन में आने वाले लोगों को विशेषकर वरिष्ठ नागरिकों को काफी सुविधा होगी। इस अवसर पर उनके साथ केंद्रीय जलशक्ति एवं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री श्री रतनलाल कटारिया भी उपस्थित थे।


श्री गुप्ता ने किया था 11 लाख रुपये का योगदान
उल्लेखनीय है कि श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने अग्रवाल भवन सेक्टर-16 के नवीनीकरण के लिये अग्रवाल सभा को अपने स्वैच्छिक कोष से 11 लाख रुपये की राशि दी थी। इस लिफ्ट का निर्माण स्वर्गीय लाला बिरखा राम जिंदल की स्मृति में किया गया है।


इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में संबोधित करते हुये श्री गुप्ता ने कहा कि इस भवन में लिफ्ट की मांग लंबे समय से चली आ रही थी जो आज पूरी हुई है। उन्होंने इस लिफ्ट के निर्माण के लिये स्वर्गीय लाला बिरखा राम जिंदल के पुत्र व अग्रवाल सभा के संयोजक श्री अमित जिंदल को बधाई दी।


श्री गुप्ता ने कहा कि आज के समय में लिफ्ट एक सुखसाधन नहीं बल्कि एक आवश्यकता बन गई है। उन्होंने कहा कि अगर आज हम किसी बहुमंजली भवन का अधिकतम प्रयोग करना चाहते है तो बुजुर्गों व माताओं व बहनों के लिये लिफ्ट की काफी आवश्यकता पड़ती है। उन्होंने कहा कि इस लिफ्ट के निर्माण से भविष्य में भवन के और अधिक विस्तार में सुविधा होगी और इस दिशा में आने वाली बाधायें दूर होगी।

https://propertyliquid.com


अग्रवाल भवन पर प्रकाश डालते हुये श्री गुप्ता ने कहा कि पिछले 30-35 वर्षों से सभी धर्मों व वर्गों के लोग यहां अनेक सामाजिक व धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन करते आ रहे है। इसमें अग्रवाल सभा की ओर से गरीब परिवारों को अनेक प्रकार की रियायतेें भी दी जाती है। इसके अलावा अग्रवाल समाज, समाज सेवा में भी बढ़चढ़कर अपना योगदान देता रहा है। कोविड काल के दौरान भी सभी अग्रवाल बंधुओं ने सरकार व प्रशासन के साथ मिलकर कोरोना की रोकथाम के लिये अनेक प्रयास किये है।


पीएमडीए के गठन से मिलेगी पंचकूला के विकास को और गति

पंचकूला महानगरीय विकास प्राधिकरण (पीएमडीए) के गठन पर जिलावासियों को बधाई देते हुये श्री गुप्ता ने कहा कि पंचकूला मैट्रोपोलिटन सिटी बनने जा रहा है। पीएमडीए के बनने से पंचकूला के विकास को नई गति मिलेगी। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय कंपनी का एक मानदंड होता है कि उनका कार्यालय मैट्रोपोलिटन सिटीज में हो। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने पंचकूला के विकास के लिये करोड़ो रुपयों की परियोजनायें घोषित की है जोकि शहर के विकास के लिये मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि मोरनी को टूरिस्ट हब के रूप में विकसित किया जा रहा है। पर्यटक पंचकूला से होते हुये मोरनी जायेंगे, जिससे पंचकूला का और विकास होगा। उन्होंने आशा व्यक्त की कि सरकार के प्रयासों व जनता के सहयोग से पंचकूला विकास के नये आयाम स्थापित करेगा।
कटारिया ने अग्रवाल सभा को एमपी लैड फंड से दिये 11 लाख रुपये


कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुये केंद्रीय जलशक्ति एवं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री श्री रतनलाल कटारिया ने अग्रवाल सभा को बधाई दी और कहा कि अग्रवाल भवन में दो मंजिले है और भविष्य में और मंजिल बनाने की भी योजना हैं। मुख्य रूप से वरिष्ठ नागरिकों को इसका बहुत अधिक लाभ मिलेगा। इस दृष्टि से यह लिफ्ट लाभदायक रहेगी। इस अवसर पर उन्होंने अग्रवाल सभा को अपने स्वैच्छिक कोष से 11 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि यह भवन समाज के सभी वर्गों को अपनी सेवायें दे रहा हैं, जिससे लोगों को सहुलियत मिल रही है। उन्होंने समाज सेवा की दिशा में किये जा रहे कार्यों के लिये अग्रवाल सभा को बधाई व शुभकामनायें दी और आशा व्यक्त की कि भविष्य में भी सभा इसी तरह बढ़चढ़कर समाज सेवा के कार्य करती रहेगी।


उन्होंने कहा कि सौभाग्य की बात है कि पंचकूला मैट्रापोलिटन सिटी बनने जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनता के सहयोग से जनप्रतिनिधियों को जनता की सेवा करने की प्ररेणा और होंसला मिलता है।
इस अवसर पर नगर निगम महापौर कुलभूषण गोयल ने कहा कि अग्रवाल भवन में लिफ्ट के निर्माण के लिये लंबे समय से मांग की जा रही थी जो आज पूरी हुई है। उन्होंने अग्रवाल सभा से आग्रह किया कि भवन के बेसमेंट के साथ साथ 22 कमरों के नवीनीकरण का जो कार्य किया जाना है उसे शीघ्र पूरा करवायें ताकि लोगों को इसका लाभ मिल सके।


इस अवसर पर अग्रवाल सभा के संयोजक अमित जिंदल, सहसंयोजक मोती लाल जिंदल व सीबी गोयल, सभा के सदस्य ब्रिज लाल गर्ग, कुसुम कुमार गुप्ता, कैलाश मित्तल, सतीश जिंदल, भारत बंसल, बलदेव, तेजपाल गुप्ता, अशोक जिंदल सहित सभा के अन्य सदस्य भी उपस्थित थे।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा आगामी 21 जून तक रहेगा प्रभावी : उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 14 जून।

For Detailed News-


उपायुक्त एवं जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के चेयरमैन अनीश यादव ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा की अवधि को 21 जून, 2021 प्रात: पांच बजे तक बढ़ा दिया गया है, जिसके मद्देनजर जिला प्रशासन द्वारा नई हिदायतें जारी की गई है। नई हिदायतों के अनुसार जिला में अब सभी दुकानों को अब प्रात: 9 बजे से लेकर रात्रि आठ बजे तक खोलने की अनुमति प्रदान की गई है। साथ ही कोविड-19 के नियमों की पालना करते हुए सुबह 10 बजे से रात्रि आठ बजे तक मॉल भी खोले जा सकेंगे। रेस्टोरेंट, बार (होटल अथवा मॉल में स्थित हैं) सुबह 10 बजे से रात्रि 10 बजे तक 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ खोलने की इजाजत है लेकिन कोविड गाइडलाइन की अनुपालना सुनिश्चित करनी होगी। होटल, रेस्टोरेंट व फास्ट फूड प्रतिष्ठानों से होम डिलीवरी की अनुमति रात्रि 10 बजे तक रहेगी। जिला में स्थित धार्मिक स्थल एक समय में 21 लोगों की उपस्थिति के साथ खुल सकते हैं और उक्त अवधि में एक दूसरे से उचित सामाजिक दूरी की पालना, मास्क का उपयोग व अन्य स्वास्थ्य सुरक्षा मानकों का ध्यान रखना होगा।


कॉर्पोरेट ऑफिस को भी खोलने की छूट 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ दी गई है जिसमें कोविड गाइडलाइन की गंभीरता से पालना करनी होगी। विवाह समारोह में व अंतिम संस्कार के दौरान 21 लोग शामिल हो सकते हैं जबकि विवाह समारोह में बारात की अनुमति नहीं होगी। शादी समारोह अथवा अंतिम संस्कार के अतिरिक्त किसी भी रूप के सामूहिक कार्यक्रम में 50 से अधिक लोग एकत्रित नहीं हो सकते। वहीं यदि 50 से अधिक लोग एकत्रित होते हैं तो उससे पहले संबंधित एसडीएम से अनुमति आवश्यक है। गोल्फ कोर्स के क्लब हाउस, रेस्टारेंट, बॉर में भी 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलने की अनुमति सुबह 10 बजे से रात्रि 10 बजे तक की रहेगी तथा कोविड गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करनी होगी।

https://propertyliquid.com


नई गाइडलाइन के अनुसार जिम सुबह छह बजे से रात्रि आठ बजे तक 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलने की अनुमति की रहेगी तथा कोविड गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करनी होगी, स्पा बंद रहेंगे। सभी उत्पादन इकाइयों, प्रतिष्ठानों, उद्योगों को कार्य करने की अनुमति है, हालांकि उन्हें कोविड-19 के तहत निर्धारित मानदंडों की कड़ाई से पालन करनी होगी। स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स व स्टेडियम को खेल गतिविधियों के लिए खोलने की अनुमति प्रदान की गई है लेकिन दर्शकों की अनुमति नहीं है। जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी खेल परिसर में सामाजिक दूरी, नियमित सैनिटाइजेशन व कोविड नियमों की पालना सुनिश्चित करेंगे। सभी सरकारी व गैर सरकारी महाविद्यालय, कोचिंग सैंटर, आईटीआई, लाइब्रेरी व प्रशिक्षण संस्थान आगामी आदेशों तक बंद रहेंगे।


उपायुक्त ने कहा कि नियमों की उल्लंघना करने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 व धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई की जाए।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

अम्बाला में मुस्लिम समाज मे कोविड वैक्सीन के प्रति जागरूकता देख कटारिया ने जताई प्रसन्नता

For Detailed News-

पंचकूला जून 13: आज केंद्रीय जल शक्ति एवं समाजिक न्याय अधिकारिता राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया ने अंबाला (शहर) घल रोड मदरसे में कोविड वैक्सीनेशन कैंप में शिरकत की, मुस्लिम समाज के प्रबुद्ध जनों के आग्रह पर अम्बाला विधायक असीम गोयल जी की इस पहल की केंद्रीय मंत्री ने सराहना की तथा ओर भी मदरसा केंद्रों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाने के लिये प्रोत्साहित किया, उन्होंने आह्वान किया कि जिन लोगो को वैक्सीन की पहली डोज़ लग चुकी है वो सरकार द्वारा तय समय सीमा में दूसरी डोज़ जरूर लगवाए।

कटारिया ने अम्बाला प्रशासन के अधिकारियों को भो इस पहल के लिये बधाई दी वैक्सीन के प्रति कुछ लोगो द्वारा फैलाई जा रही भ्रांतियों दूर करने का प्रयास उन्होंने किया है।

कटारिया ने बताया प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार 18 वर्ष से ऊपर सभी नागरिकों को मुफ्त वैक्सीनेशन का कार्य 21 जून से प्रारंभ हो जाएगा, अब तक भारत में 25 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन की डोज़ लग चुकी है, केंद्र ने 44 करोड़ वैक्सीन डोज़ का नया आर्डर अभी दिया है।


कटारिया ने कहा उनके मंत्रालय ने वरिष्ठ नागरिकों व दिव्यांगों को उनके घर के पास ही वैक्सीन लगे इस संबंध में सभी राज्य सरकारों को एडवाइजरी जारी की है, हरियाणा सरकार ने इस पर पहल करते हुए दिव्यांगों को घर से वैक्सीन सेन्टर तक सुविधा की घोषणा की है जो बहुत सराहनीय है।

https://propertyliquid.com


इस अवसर उनके साथ अम्बाला शहर विधायक असीम गोयल, गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया की डायरेक्टर बंतो कटारिया, अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष सद्दाम हुसैन, मौलाना जावेद नदवी प्रिंसिपल, संदीप सचदेवा भी साथ रहे।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

रविवार को 105 लाभार्थियों ने करवाई वैक्सीनेशन

सिरसा, 13 जून।

For Detailed News-


सिविल सर्जन डा. मनीष बंसल ने बताया कि रविवार को 105 लाभार्थियों ने कोरोना की डोज लगवाई तथा अब तक जिला में दो लाख 86 हजार आठ लाभार्थियों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैैं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन बेहद जरूरी है। उन्होंने बताया कि 18 से 44 आयुवर्ग के 50 हजार 753 लाभार्थियों को पहली तथा 662 लाभार्थियों को दूसरी, 45 से 60 वर्ष आयुवर्ग के 72 हजार 30 लाभार्थियों ने कोरोना की पहली तथा 15 हजार 603 लाभार्थियों ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा ली है। इसके अलावा 60 वर्ष से अधिक आयु के 97 हजार 80 लाभार्थियों ने पहली तथा 33 हजार 29 लाभार्थियों ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा ली है।

https://propertyliquid.com

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

UIPS organized a popular talk on “COVID-19 Prevention and Control”

Chandigarh June 13, 2021

For Detailed News-

University Institute of Pharmaceutical Sciences (UIPS), Panjab University, Chandigarh  organized a popular talk under UIPS Expert Talk Series on “COVID-19 Prevention and Control” .

The event was spearheaded by Professor Indu Pal Kaur, Chairperson, UIPS and Professor Poonam Piplani, Convener, Lecture Organising Team of UIPS.

The Chief Guest of the occasion Dr Gurinder Bir Singh, Director Health Services (DHS) Punjab shared his views on the down trending graph of the 2nd wave and the number of lives lost, but he appreciated the strength shown by everyone during these tough times and urged people to keep following COVID protocols to prevent the third and consecutive waves.

Professor Mini P Singh,Department of Virology, PGIMER gave an explicit overview of COVID 19, covering key points like, when and how to mask; proper ways of wearing masks; prone exercise; home care for people with suspected and confirmed infections, busting myths about vaccination. She said that masks with exhalable valves are not good whereas cloth plus surgical masks provide 85% protection. She also covered public dealing during pandemic and protocols to be followed when entering house.

 Professor Mini P Singh is the part of the rapid response team of the UT administration and coronavirus committee of the PGIMER, Chandigarh. 

 Professor Pankaj Malhotra, Professor In-charge of Clinical Haematology, Department of Internal Medicine PGIMER

elaborated disease course of COVID 19, high risk factors and pre-emptive strategies to be followed during infection. He reiterated to strictly prohibit use of steroids, blood tests and CT scans in case of mild illness and educated about LONG COVID (when symptoms remain more than 4 weeks), post COVID complications, coronosomnia and mucormycosis. 

https://propertyliquid.com

The talk was followed by an extensive Q&A session and was concluded successfully with a vote of thanks by the Chairperson Professor Indu Pal Kaur and Professor Poonam Piplani. Around 200 participants joined the webinar which included students, researchers, UIPS faculty and distinguished guests

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

एंटीबॉडी जांचने को 15 जून से शुरु होगा जिला में सीरो सर्वे: उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 13 जून।

For Detailed News-


उपायुक्त अनीश यादव ने बताया कि कोरोना संक्रमण के फैलाव और वायरस के खिलाफ प्रतिरोधक क्षमता का स्तर जानने के लिए जिला में 15 जून से सीरो सर्वे शुरु किया जाएगा। प्रदेश में सीरो सर्वे अभियान का शुभारंभ हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज पंचकूला से ऑनलाइन करेंगे।


उपायुक्त ने बताया कि सर्वे से यह पता लगाया जाएगा कि कितनी आबादी कोरोना से संक्रमित हुई है और कितने फीसदी लोगों में कोरोना के प्रति हार्ड इम्युनिटी विकसित हुई है। सीरो सर्वे में किसी क्षेत्र में रहने वाले कई लोगों की खून के सैंपल लेकर जांच की जाती है। लोगों के शरीर में कोरोना वायरस से लडऩे वाले एंटीबॉडी की मौजूदगी का पता लगाया जाता है। सीरो सर्वे से हमें कोरोना संक्रमण पर रोक लगाने में सहायता मिलेगी।


उन्होंने बताया कि सर्वे में बच्चों, युवाओं व बुजुर्गों के सैंपल लिए जाएंगे। इससे हमें पता चल पाएगा कि कोरोना संक्रमण का लोगों पर क्या असर पड़ रहा है, कितने लोगों में एंटीबॉडी डेवलप हुई, कितने लोग ऐसे रहे, जिन्हें कोरोना हुआ लेकिन पता नहीं चला। इस सर्वे के माध्यम से यह पता लगाया जाएगा कि किस किस क्षेत्र में कोरोना का कितना संक्रमण फैला और आबादी का कितना हिस्सा संक्रमित हुआ। यही नहीं, इससे यह भी सामने आएगा कि कितने लोगों में कोरोना से लडऩे के लिए उनकी एंटीबाडी बन चुकी है। सीरो सर्वे सेरोलॉजी टेस्ट के जरिए किया जाता है, इस टेस्ट में व्यक्ति के शरीर में खास संक्रमण के खिलाफ बनने वाले एंटीबॉडीज की मौजूदगी का पता लगाया जाता है।


उपायुक्त ने बताया कि प्रथम चरण में जिला में आठ शहरी व 12 ग्रामीण क्षेत्रों में अलग-अलग स्थानों पर लोगों के खून का नमूने लिए जाएंगे। सिरसा शहर में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चत्तरगढ पट्टïी, हुड्डïा जेई कॉलोनी, थेहड़ मेला ग्राउंड ऐरिया, डबवाली में वार्ड नंबर दो, वार्ड नंबर 14 में आसपास के लोगों के सैंपल लिए जाएंगे। इसके अलावा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चत्तरगढ़ पट्टïी में शास्त्री नगर ऐरिया तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र थेहड़ प्रीत नगर में सैंपलिंग की जाएगी। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में गांव तिगड़ी, च_ïा, कुस्सर, नाइवाला, डिंग, मोचीवाली, रोड़ी, थिराज, देसूजोधा, खारियां, शेरपुरा व झोरडऱोही में सीरो सर्वे किया जाएगा। उन्होंने आमजन से आग्रह किया है कि वे कोरोना संक्रमण पर पूर्ण अंकुश लगाने की प्रक्रिया में सीरो सर्वे बहुत महत्वपूर्ण कार्य है, इसलिए नागरिक स्वास्थ्य विभाग की टीमों को अपना सहयोग दें।

https://propertyliquid.com


सिविल सर्जन डा. मनीष बंसल ने बताया कि सीरो सर्वे का सुव्यवस्थित ढंग से पूरा करने के लिए इस कार्य के लिए 16 टीमें बनाई गई है जो ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में सीरो सर्वे का कार्य करेंगी। ये टीमें मेडिकल ऑफिसर की देखरेख में कार्य करेगी। इस टीम के अन्य सदस्यों में एएनएम, लैब टैक्निशियन व ऐरिया की आशा वर्कर शामिल हैं। सीरो सर्वे कार्य की निगरानी के लिए जिला स्तर पर स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों की ड्यूटियां भी लगाई गई है।

First meeting of Interdisciplinary Task Force Held

बरसात के दिनों में अधिकारी व कर्मचारी मुस्तैद रहें, तुरंत की जाए बरसाती पानी की निकासी : उपायुक्त अनीश यादव

सिरसा, 13 जून।

For Detailed News-


उपायुक्त अनीश यादव ने कहा कि बारिश से कहीं पर भी जलभराव की स्थिति पैदा न हो इसके लिए पानी निकासी की व्यवस्था को और अधिक सुदृढ किया जाए। बरसात के पानी की निकासी तेजी से हो ताकि जलभराव के कारण लोगों को किसी प्रकार की समस्या न हो। शहर के संभावित जलभराव वाले स्थानों को चिन्हित किया गया है और योजनाबद्ध ढंग से स्थाई समाधान करें।


उपायुक्त अनीश यादव शनिवार सांय व रविवार को प्रात: हुई बारिश के मद्देनजर शहर में विभिन्न स्थानों पर हुए जलभराव की निकासी के लिए किए गए प्रबंधों का निरीक्षण करने के दौरान अधिकारियों को दिशा-निर्देश दे रहे थे। उपायुक्त ने शहर में बस स्टैंड, अंबेडकर चौक, जगदेव सिंह चौक, वाल्मीकि चौक, रानियां रोड़, बाजार एरिया आदि स्थानों पर पानी की निकासी व्यवस्था का निरीक्षण किया। इस अवसर पर कार्यकारी अधिकारी नगर परिषद-, जनस्वास्थ्य विभाग के उपमंडल अभियंता सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।


उपायुक्त ने अधिकारियों व कर्मचारियों को जलभराव समस्या का तुरंत समाधान करने के निर्देश दिए और भविष्य में बरसात के पानी से जलभराव की समस्या न हो इसके लिए पुख्ता प्रबंध किए जाए। उन्होंने कहा कि समस्या से निपटने के लिए सीवरेज व नालों की अच्छी तरह से सफाई के साथ-साथ जरूरी उपकरणों का प्रबंध करने के साथ-साथ यह सुनिश्चित करें उपकरण चालु हालत में हो। उन्होंने हिदायत दी कि बरसात के दिनों में संबंधित विभाग के अधिकारी व कर्मचारी मुस्तैद रहें और किसी भी क्षेत्र में जलभराव होने पर तुरंत उसकी निकासी की जाए।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि अधिकारी जल निकासी कार्यों को प्राथमिकता के साथ करें और इसमें किसी भी प्रकार की कोताही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। बरसाती पानी व सीवरेज की लाइनों को दुरुस्त किया जाए ताकि बरसाती पानी की निकासी सही तरीके से हो सके। उन्होंने कहा कि आगामी दिनों में अच्छी बरसात होने की उम्मीद है जिसके चलते शहर में जलभराव से बचने के लिए पानी की निकासी की समुचित व्यवस्था होनी बेहद जरूरी है। इसके लिए बरसाती पानी व सीवरेज की लाइनों को दूरस्थ रखा जाए ताकि पानी की निकासी तुरंत हो सके।