ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

जिला के नितिन धनूर का युवा पुरस्कार के लिए हुआ चयन, प्रशस्ति पत्र व 40 हजार रुपये की राशि से होंगे पुरस्कृत

सिरसा, 2 अप्रैल।

For Detailed News-


जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी ललिता मलिक ने बताया कि जिला के गांव धनूर निवासी नितिन का चयन सर्वश्रेष्ठ राज्य युवा पुरस्कार के लिए चयन किया गया है। इसके लिए नितिन को प्रशस्ति पत्र व 40 हजार रुपये की राशि देकर पुरस्कृत किया जाएगा।


उन्होंने बताया कि युवा कार्यक्रम एवं खेल विभाग द्वारा हर साल युवा कल्याण व सामाजिक क्षेत्र में कार्य करने वाले युवाओं को राज्य युवा पुरस्कार से नवाजा जाता है। पुरस्कार के लिए राज्य स्तर पर प्रदेशभर में पांच युवाओं का चयन किया जाता है। इस बार सर्वेश्रेष्ठ राज्य युवा पुरस्कार के लिए जिला के गांव धनूर निवासी नितिन धनूर का चयन हुआ है। उन्होंने बताया कि नितिन धनूर लंबे समय से युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय नेहरु युवा केंद्र के सहयोग से पौधारोपण, महिला सशक्तिकरण, स्वास्थ्य शिविर, रक्तदान शिविर, स्वच्छता व अन्य समाजहित कार्य कर रहे हैं। नितिन की इन्हीं सराहनीय कार्यों के लिए सर्वश्रेष्ठ राज्य युवा पुरस्कार के लिए चयन हुआ है।

https://propertyliquid.com


राज्य युवा पुरस्कार के लिए चयन होने पर नितिन धनूर ने बताया कि यह पुरस्कार उन्हें समाज के प्रति और अधिक जिम्मेवारी के साथ काम करने के लिए प्रोत्साहित करेगा। उनका कहना है कि वे समाज के जरूरमंद वर्ग के उत्थान व सामाजिक कार्यों के लिए युवाओं को प्रेरित करेंगे। उन्होंने पुरस्कार के लिए चयन का श्रेय अपने माता-पिता, समाजसेवी बलवंत शैली, मार्गदर्शक राष्ट्रीय युवा पुरस्कार विजेता डा. बलदेवराज, डीवाईओ नरेंद यादव, अनिल ढिठारिया, नेहा कांवत, लेखाकार अनिल जैन, युवा कल्बों, ग्राम पंचायत, समाजहित में कार्य कर रही संस्थाओं को दिया है।

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

नगर परिषद व नगर पालिका की मतदाता सूचियों का होगा पुन: निरीक्षण : एसडीएम

सिरसा, 2 अप्रैल।

For Detailed News-

-16 अप्रैल को प्रारंभिक प्रकाशन तथा 7 जून को होगा मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन


एसडीएम जयवीर यादव ने बताया कि जिला की सभी नगर परिषद व नगर पालिकाओं की मतदाता सूचियों का वार्ड वाइज पुन: निरीक्षण किया जाएगा। मतदाता सूचियों का पुन: निरीक्षण 15 जनवरी 2021 को प्रकाशित विधानसभा की अंतिम मतदाता सूची के आधार पर किया जाएगा। मतदाता सूचियों का प्रारंभिक प्रकाशन 16 अप्रैल को किया जाएगा, जबकि अंतिम प्रकाशन 7 जून को होगा।

https://propertyliquid.com


उन्होंने बताया कि नगर परिषद सिरसा, डबवाली व नगर पालिका ऐलनाबाद तथा कालांवाली की मतदाता सूचियों का वार्डवाइज फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का पुन: निरीक्षण किया जाएगा। सभी वार्डों की मतदाता सूचियों का प्रारंभिक प्रकाशन 16 अप्रैल को किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मतदाता सूचियों के संबंध में दावे व आपत्तियां 26 अप्रैल तक सायं 3 बजे तक (17, 18, 21 व 24 अप्रैल राजपत्रित अवकाश को छोड़कर) रिवाईजिंग अथॉरिटी के संमुख प्रस्तुत कर सकेंगे। रिवाइजिंग अथॉरिटी 11 मई तक दावे व आपत्तियों का निपटान करेगी। उन्होंने बताया कि दावे व आपत्तियों के निपटान के विरूद्ध उपायुक्त को अपील 17 मई तक (14, 15 व 16 मई को राजपत्रित अवकाश को छोड़कर) की जा सकेगी। अपीलों का निर्णय उपायुक्त द्वारा 20 मई तक किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 7 जून को किया जाएगा।

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

तीन दिवसीय 15वीं अश्विनी गुप्ता ममोरियल डिस्ट्रिक्ट बेडमिंटन चेंपियनशिप सेक्टर-3 स्थित ताऊ देवी लाल खेल स्टेडियम में शुरू

For Detailed News-

पंचकूला, 2 अप्रैल- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने आज सेक्टर-3 स्थित ताऊ देवी लाल खेल स्टेडियम में तीन दिवसीय 15 वीं अश्विनी गुप्ता ममोरियल डिस्ट्रिक्ट बेडमिंटन चेंपियनशिप का उद्घाटन किया। अश्विनी गुप्ता ममोरियल ट्रस्ट और जिला बेडमिंटन एसोसिएशन के संयुक्त तत्वाधान में 2 से 4 अप्रैल तक आयोजित की जा रही इस चेंपियनशिप में करीब 125 प्रतिभागी भाग ले रहे है, जिनमें 2019 की अंडर 17 की नेशनल चेंपियन देविका सिहाग और रिद्धि कौर तूर और 2015 राष्ट्रीय खेलों के सिल्वर विजेता अक्षित महाजन भी शामिल है।


इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता, नगर निगम महापौर कुलभूषण गोयल व अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने दिवंगत श्री अश्विनी गुप्ता को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।


मुख्यातिथि के तौर पर संबोधित करते हुए श्री गुप्ता ने कहा कि अश्विनी गुप्ता ममोरियल डिस्ट्रिक्ट बेडमिंटन चेंपियनशिप उनके दिवंगत पुत्र श्री अश्विनी गुप्ता की याद में पिछले 15 वर्षों से आयोजित की जा रही है।


श्री गुप्ता ने बताया कि श्री अश्विनी गुप्ता के आकस्मिक निधन के पश्चात उनकी याद में अश्विनी गुप्ता ममोरियल ट्रस्ट का गठन किया गया था। ट्रस्ट द्वारा उनकी याद में प्रतिवर्ष चार कार्यक्रम आयोजित किये जाते है, जिसमें यह बेडमिंटन चेंपियनशिप भी शामिल है। इसके अलावा रक्तदान शिविर और आखों के आॅपरेशन का कैंप और गांव में युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिये कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन भी किया जाता हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों का खेलों के प्रति आकर्षित करने और उन्हें प्रोत्साहन देने के लिये हर वर्ष पांच लाख रुपये तक के इनाम वितरित किये जाते है। इससे ना केवल युवाओं का खेलों के प्रति रूझान बढत़ा है बल्कि उनकी ऊर्जा को सकारात्मक दिशा में उपयोग करके, युवाओं को नशे जैसे बुरी आदत से भी बचाने में मदद मिलती है। इसके अलावा अश्विनी गुप्ता ममोरियल ट्रस्ट द्वारा ऐसे गरीब परिवारों के बच्चों को भी वित्तीय सहायता उपलब्ध करवाई जाती हैं जो गरीबी के कारण पढ़ाई नहीं कर पाते।  


श्री गुप्ता ने कहा कि पिछले वर्ष कोरोना महामारी के कारण इस बेडमिंटन चेंपियनशिप का आयोजन नहीं हो पाया था परंतु इस बार यह निर्णय लिया गया है कि खेल प्रतिस्पर्धाओं को कोविड-19 के नियमों की पालना करते हुए जारी रखा जाना चाहिए। उन्होंने अपील की कि कोरोना अभी खत्म नही हुआ है और इसके बचाव के लिये सभी सामाजिक दूरी (दो गज की दूरी) बनाये रखें और मास्क व सेनिटाईजर का उपयोग करें।


उन्होंने कहा कि इस महामारी से बचाव के लिये हमारे वैज्ञानिकों ने कोरोना वैक्सीन बनाकर देशवासियों को बहुत बड़ा तोहफा दिया है। इस वैेक्सीन को लगवाकर इस महामारी से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के फैलाव को रोकने के लिये वैक्सीन के साथ साथ हम सबको मिलकर प्रयत्न करने होंगे। उन्होंने बेडमिंटन चेंपियनशिप में भाग ले रहे खिलाड़ियों से विशेष आग्रह किया कि वे खेलों को खेल की भावना से खेले और कोविड-19 के दिशानिर्देशों का पालन अवश्यक करें।

https://propertyliquid.com


श्री गुप्ता ने बताया कि 4 अप्रैल को प्रतियोगिता के समापन अवसर पर खेल राज्यमंत्री श्री संदीप सिंह विजेताओं को पुरस्कार देकर सम्मानित करेंगे। उन्होंने आशा व्यक्त की कि अश्विनी गुप्ता ममोरियल ट्रस्ट इसी प्रकार से समाज सेवा की गतिविधियों में अपनी सकारात्मक भूमिका निभाता रहेगा।


उद्घाटन के उपरांत विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता और नगर निगम महापौर श्री कुलभूषण गोयल ने बेडमिंटन खेलकर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया।


इस अवसर पर एसडीएम पंचकूला रिचा राठी, जिला बेडमिंटन एसोसिएशन के महासचिव जतिंद्र महाजन, स्पोर्ट प्रमोशन सोसायटी के चेयरमैन डीपी सोनी, जिला बीजेपी प्रधान अजय शर्मा, महिला मोर्चा की अध्यक्ष परमजीत कौर, संगठन महामंत्री उमेश सूद, हरियाणा चंेंबर्स आॅफ इंडस्ट्रीज एंड काॅमर्स के चेयरमैन विष्णु गोयल, चंेंबर्स आॅफ इंडस्ट्रीज एंड काॅमर्स पंचकूला के चेयरमैन अरूण ग्रोवर, पार्षद नरेंद्र लुबाना, हरेंद्र मलिक व अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे। 

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

5 व 6 अप्रैल को खुलेगा पोर्टल, किसान फसल का जरूर करवा लें पंजीकरण : एसडीएम दिलबाग सिंह

ऐलनाबाद, 2 अप्रैल।

For Detailed News-


एसडीएम दिलबाग सिंह ने कहा कि किसानों की सुविधा के मद्देनजर मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल को 5 व 6 अप्रैल को खोला जाएगा। जो किसान फसल का पंजीकरण नहीं करवा सके, वो इस अवधि में अपनी फसलों का पंजीकरण अवश्य करवा लेंं, ताकि उन्हें फसल बेचने में किसी प्रकार की असुविधा न हो। फसल का पंजीकरण नजदीकी कामन सर्विस सेंटर(सीएससी) में जाकर आसानी से करवा सकते हैं।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि मंडी में फसल बेचने के लिए मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पोर्टल पर फसलों का पंजीकरण होना जरूरी है। इसलिए किसानों को चाहिए कि वे फसलों का विवरण पोर्टल पर अवश्य ही दर्ज करवा दें। फसल पंजीकरण के लिए परिवार पहचान-पत्र को अनिवार्य किया गया है, इसलिए जिन किसानों ने अपने परिवार पहचान पत्र नहीं बनवाए हैं, वे अपना परिवार पहचान-पत्र भी अनिवार्य रूप से बनवा लें।
एसडीएम ने उपमंडल के किसानों से आह्वान किया है कि पंजीकरण करवाने से वंचित रहे किसान 5 व 6 अप्रैल को अपनी रबी फसलों का पंजीकरण मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर अवश्य करवाएं। किसान कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) पर जाकर अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। इसके अलावा कृषि विभाग की वेबसाइट या पोर्टल मेरी फसल मेरा ब्यौरा पर स्वयं भी पंजीकरण कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि फसल पंजीकरण से किसानों को जहां फसल बेचने में आसानी होगी, वहीं कृषि संबंधी अन्य सुविधाओं का लाभ भी उठा सकेंगे।

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

कोरोना गाइडलाइन की अनुपालना करवाने व चालान के लिए अधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी

सिरसा, 2 अप्रैल।

For Detailed News-


उपायुक्त प्रदीप कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत अधिकारियों को जमीनी स्तर पर कोरोना गाइडलान की अनुपालना सुनिश्चित करने बारे निर्देश जारी किए गए हैं। इसके साथ ही अधिकारी बिना मॉस्क वालों के चालान करेंगे और हर माह की 5 तारिख को चालान की रिपोर्ट देंगे। उन्होंने कहा कि संबंधित अधिकारी स्वयं व अपने अधीनस्थ पदाधिकारियों द्वारा अपने क्षेत्र में कोरोना गाइडलाइन की अनुपालना करवाना सुनिश्चित करेंगे। संबंधित एसडीएम ऑवर ऑल इंचार्ज होंगे, जोकि समय-समय पर निरीक्षण करते हुए जारी दिशा-निर्देशों अनुसार कोरोना गाइडलाइन की अनुपालना करवाएंगे।


उन्होंने बताया कि गृह मंत्रलाय भारत सरकार, मुख्य सचिव कम राज्य कार्यकारी समिति चेयरमैन हरियाणा आपदा प्रबंधन अथॉरिटी, वित्तायुक्त एवं अतिरिक्त मुख्य सचिव हरियाणा सरकार तथा निदेशक स्वास्थ्य सेवाएं हरियाणा की ओर से कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने व कोरोना नियमों की पालना बारे समय-समय पर दिशा-निर्देश जारी किए जाते हैं। इसी कड़ी में जिला में कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए कोरोना गाइडलाइन(एसओपी) की जमीनी स्तर पर अनुपालना सुनिश्चित करवाने के लिए विभिन्न अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई हैं। ये अधिकारी जहां कोरोना से बचाव के नियमों की पालना करवाना सुनिश्चित करेंगे, वहीं बिना मॉस्क वालों के चालान भी करेंगे।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्र में दृढता से कोविड-19 नियमों की अनुपालना करवाएं और जो भी व्यक्ति नियमों की उल्लंघना करता है, तो उसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाए। उन्होंने कहा कि बिना मॉस्क वालों पर विशेष नजर रखी जाए। बिना मॉस्क वालों को तुरंत चालान किया जाए। संबंधित अधिकारी चालान की रिपोर्ट हर माह की पांच तारिख को देंगे।


इन अधिकारियों की रहेगी कोरोना नियमों की अनुपालना करवाने की जिम्मेवारी :


जिला में कोरोना संक्रमण मामलों व इसके प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन की ओर से समय-समय पर कड़े कदम उठाए जा रहे हैं। इसी कड़ी में कोरोना गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न अधिकारियों को अधिकृत किया गया है, इन अधिकारियों में महाप्रबंधक रोडवेज सिरसा, सभी तहसीलदार, नायब तहसीलदार, स्थानीय निकाय के कार्यकारी अधिकारी, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी, खंड शिक्षा अधिकारी व कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग शामिल हैं।  

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

जिला को नशा मुक्त बनाना सबकी सामूहिक जिम्मेवारी, जज्बे व जुनून से करना होगा काम : उपायुक्त प्रदीप कुमार

रानियां, 2 अप्रैल।

https://news7world.com/?cat=33


                 उपायुक्त प्रदीप कुमार ने कहा कि जिलावासियों ने जिस प्रकार सिरसा को लिंगानुपात, स्वच्छता आदि में प्रदेशभर में अव्वल बनाने में अपना संपूर्ण सहयोग दिया है। उसी प्रकार जिला को नशामुक्त बनाने में भी जिम्मेवारी से अपनी भागीदारी निभाएं, ताकि एक स्वस्थ व सभ्य समाज का निर्माण हो और हमारी युवा पीढी नशे की बीमारी से दूर रह सके।

For Detailed News-


                  उपायुक्त वीरवार को देर सांय रानियां के दीप प्लेस में नशामुक्त भारत अभियान के तहत आयोजित वर्कशॉप कम सेमिनार को संबोधित कर रहे थे। सेमिनार में आंगनवाड़ी वर्कर, स्वयंसेवियों व विद्यार्थियों ने भाग लिया। इस अवसर पर जिला सलाहकार स्वच्छ भारत मिशन सुखविंद्र सिंह, मनौचिकित्सक डा. रविंद्र पुरी, डा. अमनदीप, डा. प्रदीप, रंजीत सिंह, विनोद सहारण, रिया सिंगला आदि वक्ताओं ने नशा से होने वाले नुकसान व इसे कैसे छोड़ा जा सकता है, के बारे में अपने विचार रखते हुए नशामुक्त समाज के लिए काम करने बारे प्रेरित किया। वर्कशॉप में जिला समाज कल्याण अधिकारी नरेश बतरा, जिला बाल कल्याण अधिकारी पूनम नागपाल, एसएमओ नरेश सहारण, नायब तहसीलदार हरीश बिजानियां, बीईओ कृष्ण कुमार, बीडीओ अनिल कुमार, थाना प्रभारी रानियां साधु राम, रवि मैहता आदि अधिकारीगण उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com


                  उपायुक्त ने कहा कि युवाओं में लक्ष्य निर्धारित कर उसे हासिल करने का जुनून होना चाहिए और युवा पढाई, खेल व स्वास्थ्य को लेकर अपने अंदर जज्बा पैदा करें। इस कार्य में अभिभावक व अध्यापक अहम भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि युवा नशे की बजाए शिक्षा व खेल को अपने जीवन का लक्ष्य बनाकर आगे बढ़े। नशा मुक्त समाज के निर्माण में सभी को अपना सहयोग देना होगा, तभी इस दिशा में कामयाबी हासिल होगी। उन्होंने कहा कि इस कार्य से जुड़े लोग जज्बे के साथ कार्य करें और ईमानदारी से अपने जिम्मेवारियों का निर्वहन करें। नशा को जड़मूल से खत्म करने के लिए पूरे समाज को मिलजुलकर काम करना होगा, तभी जिला को नशा मुक्त बनाने में कामयाबी हासिल होगी। नशे के खिलाफ सभी एकजुट होकर जज्बे व जुनून के साथ काम करें ताकि एक नशामुक्त समाज का निर्माण हो सके।

https://news7world.com/?cat=33


                  उन्होंने कहा कि नशामुक्ति की शुरूआत स्वयं से करते हुए दूसरों को इस बारे जागरूक करें और नशा न करने के लिए प्रेरित करें। लोगों को नशा के दुष्प्रभावों के बारे में बताएं और नशा न करने के लिए जागरूक करें। खेलों व अन्य गतिविधियों में भाग लेने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि अभिभावक अपने बच्चों को शिक्षा के साथ-साथ अच्छे संस्कार भी दें, ताकि वे अपनी ऊर्जा समाजहित में लगा सके। जिला को नशा मुक्त बनाने के लिए अधिकारी, कर्मचारी व स्वयंसेवी संस्थाएं मिशन के रुप में कार्य करें, इससे न केवल हम युवाओं को नशे से बचा पाएंगे बल्कि जिला को नशा मुक्त बनाने में भी अवश्य कामयाब होंगे।