ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

Fresh batch for the coaching of PCS at IAS Centre, PU

Chandigarh March 31, 2021

For Detailed News-

The Centre for IAS and other Competitive Examinations, Panjab University, Chandigarh, is starting a fresh batch for the coaching of PCS (Executive) (Preliminary) Examinations 2021, informed Prof. Sonal Chawla, Honorary Director of the Centre.

            It was further informed that this course is specially suitable for students who are preparing for PCS(Executive), HCS(Executive), UPPCS(Executive) and other State Civil Services Executive Examinations. The course shall be covering the topics related to the Executive Examination of State Civil Services. The distinguished faculty from Panjab University and other neighbouring Universities and Colleges having immense experience shall be roped in to teach this course. The classes for this course shall be commencing 19th April’ 2021 onwards. This batch shall be of 3 Months duration. The admission for this batch will be on First Come First Serve basis. The Centre runs many other courses for preparation of competitive examinations like UPSC Civil Services (Preliminary), PCS(Judicial), PCS(Executive), UGC(NET) etc., she added.  

https://propertyliquid.com

            Many students have achieved success in these Competitive examinations and the Centre has a good reputation of high selections including State Civil Services Examination. The Centre charges a nominal fee from aspirants of SC/ST category and a subsidized concessional fee from students of any other categories. The application forms are available at www.iasc.puchd.ac.in under the tab ‘Forms’ and fee detail is available under the tab ‘Admission Notices’.

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

आयुष्मान भारत योजना महत्वपूर्ण स्कीम, लाभार्थियों के कार्ड बनाने में लार्ई जाए तेजी : अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह

सिरसा, 31 मार्च।

For Detailed News-

-लाभार्थी सूची में नाम होने के साथ आयुष्मान कार्ड का होना जरूरी, तभी मिलेगा योजना का लाभ
-सरपंच व पार्षद सूची में शामिल परिवारों के सदस्यों के कार्ड बनवाने में करें सहयोग
-सभी सीएससी, सरकारी अस्पताल व पैनल में शामिल निजी अस्पतालों में नि:शुल्क बनाए जा रहे आयुष्मान कार्ड
-अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने की आयुष्मान भारत योजना के कार्य की प्रगति की समीक्षा, अधिकारियों को दिए दिशा-निर्देश


अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना आर्थिक रूप से कमजोर गरीब परिवारों के लिए स्वास्थ्य की दृष्टि से एक महत्वपूर्ण योजना है। योजना का लाभ हर पात्र परिवार के सदस्यों को मिले इसके लिए आयुष्मान पखवाड़ा मनाया जा रहा है। संबंधित अधिकारी पखवाड़े के दौरान सूची में शामिल सभी पात्र परिवारों के आयुष्मान कार्ड बनवाने की दिशा में गंभीरता से कार्य करें।

अतिरिक्त उपायुक्त बुधवार को आयुष्मान भारत योजना के कार्य की प्रगति की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आयुष्मान पखवाड़े में कार्ड बनाए जाने के कार्य में तेजी लाए जाने बारे दिशा-निर्देश दिए। समीक्षा बैठक में सीएमओ डा. कृष्ण कुमार, डीआईओ रमेश शर्मा, आयुष्मान योजना के नोडल अधिकारी डा. प्रमोद सहित संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com
अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के लाभ के लिए जरूरी है कि सूची में शामिल हर परिवार के सदस्य का कार्ड बनाया जाए। कोई भी लाभार्थी कार्ड बनवाने से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि यह योजना गरीब व आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों से जुड़ी है, इसलिए अधिकारी इसे गंभीरता से लेते हुए पात्र व्यक्तियों के कार्ड बनवाने के कार्य में तेजी लाएं। लाभार्थियों की सुविधा को देखते हुए जिला में पखवाड़े की अवधि को बढाया गया है, अब 30 अप्रैल तक आयुष्मान आपके द्वार पखवाड़ा चलेगा और पात्र परिवारों के नि:शुल्क कार्ड बनाए जाएंगे। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे इस कार्य में सरपंचों व पार्षदों का सहयोग लें और लोगों को अधिक से अधिक जागरूक करें, ताकि वे योजना के महत्व को समझते हुए अपना कार्ड बनवाने के लिए स्वयं आगे आएं।
उन्होंने कहा कि केवल सूची में नाम शामिल होने भर से योजना का लाभ नहीं मिल सकता। लाभार्थी का नाम सूची में शामिल होने के साथ-साथ उसके पास आयुष्मान कार्ड होना भी जरूरी है। इसके साथ ही पात्र परिवार के प्रत्येक सदस्य का अलग-अलग कार्ड होना चाहिए। इसलिए सूची में शामिल पात्र परिवार अपने सभी सदस्यों का आयुष्मान कार्ड बनवाएं। पात्र परिवार अपने नजदीकी सीएससी सैंटर पर जाकर अपना आयुष्मान कार्ड बनवा लें। इसके अलावा सरकारी अस्पताल व पैनल में शामिल निजी अस्पतालों में नि:शुल्क कार्ड बनवा सकते हैं।

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

PU to conduct Special Exit/Final Semester Examinations

Chandigarh March 31, 2021

For Detailed News-

Panjab University, Chandigarh is going to conduct special examinations for the candidates who missed their exams of September – 2020 (exit/final semester examinations) due to medical/clash/etc. w.e.f. 7th April, 2021 in online mode, informed Dr. Jagat Bhushan, Controller of Examination.

            He further informed that the time slot for these ONLINE examinations is 5 PM to 8 PM.  The students are advised to follow instructions given in the questions papers and the duration shall be as written on the same. He further added that the number of questions to be attempted should strictly be according to the instructions given in the question paper itself.

https://propertyliquid.com

            The date sheets and instructions for the aforementioned examinations will be uploaded shortly on P.U. Website: http://exams.puchd.ac.in/datesheet.php.

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

Mayor flagged off 3rd phase of door to door waste collection through MCC vehicles

Chandigarh, March 31: – Sh. Ravi Kant Sharma, Mayor, Chandigarh today flagged off the 3rd phase of door to door waste collection through MCC vehicles in Community Centre, Sector 50, Chandigarh in the presence of Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, Sh. Satish Kumar Jain, Additional Commissioner, and Smt. Heera Negi, area councillor, Dr. Amrit Warring, Medical Officer of Health and other officials of MCC.

For Detailed News-

The Mayor said that in order to implementation successful door to door collection of waste separately i.e. wet and dry waste, the Municipal Corporation Chandigarh has deployed their 85 vehicles in 2nd phase in sectors 39, 40, 41, 42, 43, 44, 45, 49, 50, 51, 52, 55, 56, 61 and 63 in the city, which have reduced the problem of mixed garbage collected at garbage plant.

In addition to that Sh. Ravi Kant Sharma, Mayor, Chandigarh today flagged off door to door waste collection through 36 MCC vehicles in Mauli Jagran, Chandigarh in the presence of Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, Sh. Sorabh Arora, Joint Commissioner, Sh. Anil Dubey, area councillor, and Sh. Vinod Aggarwal, Dr. Amrit Warring, Medical Officer of Health and other officials of MCC.

The 36 vehicles will run in Mauli Jagran, Vikas Nagar and Manimajra door to door for the collection of waste separately i.e. wet and dry waste.

While sharing information about the door to door waste collection system through MCC vehicles, Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, MCC said that these vehicles will carry the waste from households to the transfer stations, from where the waste is transported to the garbage plant in loaders. All vehicles used in the collection and transportation system are monitored by a GPS enabled tracking system. The GPS system is constantly monitored by the monitoring cell. Any route deviations by particular drivers are penalized and multiple deviations is also grounds for termination, added the Commissioner.

https://propertyliquid.com

He said that Chandigarh has been divided into 4 zones and 26 wards. Each ward has on an average 9600 households and commercial establishments of the areas. In Chandigarh, waste is generated from various sources including households, commercial areas and other institutions like RWAs, hospitals, hotels among others. The households or residential complexes are covered by the door to door collection system while the semi bulk and bulk generators are covered by the bulk collection system. With this facility, Chandigarh ensures the 100% coverage of wards through its door to door segregated collection system with deploying all the 390 additional vehicles, added the Commissioner.

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

पूर्णिता ने स्कूली ऑनलाइन प्रतियोगिताओं में किया प्रथम व द्वितीय स्थान हासिल

सिरसा, 31 मार्च।

For Detailed News-

-डीएवी पब्लिक स्कूल में पूर्णिता ने जीती हिंदी कविता, सोलो डंास, डैकोरोशन व कार्ड मेकिंग प्रतियोगिता, पिं्रसिपल ने किसा सम्मानित
-पूर्णिता को कक्षा प्रथम में ए प्लस प्लस ग्रेड से भी किया गया सम्मानित


जिला सूचना एवं जनसंपर्क विभाग में कार्यरत लेखाकार मक्खन सिंह की सुपुत्री पूर्णिता ने डीएवी पब्लिक स्कूल में आयोजित विभिन्न ऑनलाइन प्रतियोगिताओं में प्रथम व द्वितीय स्थान हासिल किया है। इसके साथ ही पूर्णिता को कक्षा प्रथम में पहला स्थान हासिल करने पर ए प्लस प्लस ग्रेड भी मिला है। पूर्णिता की इन उपलब्धियों के लिए डीएवी पब्लिक स्कूल की प्रिसिंपल ने उन्हें बुधवार को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया और भविष्य में भी इसी तरह से आगे बढने के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामना दी।

https://propertyliquid.com


डीएवी सैनेंट्री पब्लिक स्कूल की ओर से विभिन्न प्रतियोगिताओं का ऑनलाइन आयोजन किया गया था। इन प्रतियोगिताओं में कक्षा प्रथम की छात्रा पूर्णिता ने भी हिस्सा लिया। छात्रा ने कक्षा प्रथम विद्यार्थियों के लिए करवाई गई हिंदी कविता, सोलो डांस, डैकोरेशन व कार्ड मेकिंग प्रतियोगिताओं में ऑनलाइन प्रतिभागी बनीं। उन्होंने इन प्रतियोगिताओं में प्रथम व द्वितीय स्थान हासिल किया। इसके अलावा पूर्णिता द्वारा कोरोना बचाव पर आधारित ऑनलाइन डाली गई वीडियो क्लीप के लिए भी स्कूल की तरफ से सम्मानित किया गया।

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

परिवार पहचान पत्र में पारिवारिक इनकम वैरिफिकेशन कार्य में नागरिक करें सहयोग : उपायुक्त प्रदीप कुमार

सिरसा, 31 मार्च।

For Detailed News-


                उपायुक्त प्रदीप कुमार ने बताया कि जिला में परिवार पहचान पत्र में पारिवारिक इनकम वैरिफिकेशन कार्य किया जा रहा है, इस कार्य के लिए 995 टीमें बनाई गई है, जोकि घर-घर जाकर इनकम वैरिफिकेशन का कार्य कर रही है। उन्होंने नागरिकों से आह्वïान किया है कि वे परिवार पहचान पत्र में इनकम वेरिफिकेशन कार्य में टीमों का सहयोग करें तथा सही जानकारी दें।


                उन्होंने कहा कि परिवार पहचान पत्र के माध्यम से जरूरतमंद पात्र लोगों को सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ आसानी से मिल सकेगा। पहले जहां अलग-अलग योजनाओं एवं सेवाओं के लिए नागरिकों को अलग-अलग स्थानों एवं कार्यालयों में जाकर कागजात जमा करवाने पड़ते थे, परंतु अब परिवार पहचान पत्र के लागू हो जाने के बाद एक ही स्थान पर सभी कार्य होंगे और बार-बार कागजात जमा करवाने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के विभिन्न विभागों की अधिकतर सेवाओं व योजनाओं को परिवार पहचान पत्र द्वारा दी गई फैमिली आईडी से जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि इनकम वैरिफिकेशन कार्य में लगी टीमें भी परिवार पहचान पत्र में आय का सत्यापन करते समय पूरे विवेक से कार्य करें और वास्तविक जानकारी को ही दर्ज करें। उन्होंने कहा कि आय सत्यापन का कार्य सभी कर्मचारियों की सूझबूझ पर ही निर्भर करता है, इसलिए सभी कर्मचारी जिम्मेवारी के साथ इस कार्य को पूर्ण करें।

https://propertyliquid.com

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

कोरोना से बचाव के लिए मॉस्क व सोशल डिस्टेसिंग की पालना करें नागरिक : उपायुक्त प्रदीप कुमार

सिरसा, 31 मार्च।

For Detailed News-


                उपायुक्त प्रदीप कुमार ने सिरसा जिलावासियों से आह्वान किया कि वे कोरोना को लेकर जरा भी लापरवाही बरतें और संक्रमण से बचाव नियमों की दृढता से पालन करें। मॉस्क व सोशल डिस्टेसिंग को अपनी जीवन शैली का हिस्सा बना लें, क्योंकि स्वयं का बचाव करके ही हम कोरोना संक्रमण फैलाव को रोक सकते हैं। इसलिए संक्रमण बचाव उपायों की पालना करके खुद भी सुरक्षित रहें और दूसरों को भी सुरक्षित रखें।


                उपायुक्त ने कहा कि कोरोना को लेकर बरती गई थोड़ी सी लापरवाही स्वयं व दूसरों के लिए खतरा साबित हो सकती है।  कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, इसलिए अधिक सतर्क व सजग रहने की आवश्यकता है। कोरोना से बचने का मॉस्क एक मात्र कारगर उपाय है, नागरिक मॉस्क व सोशल डिस्टेसिंग को जीवन शैली का हिस्स बना लें। उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन जरूर लगवाएं और दूसरों को भी वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करें। जिला सिरसा के विभिन्न सरकारी अस्पतालों में नि:शुल्क रूप से कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। स्वेच्छा से आगे आकर कोरोना वैक्सीन लगवाएं, ताकि संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके। सार्वजनिक स्थान पर या घर से बाहर निकलते समय मॉस्क जरूर पहनें।

https://propertyliquid.com


                उपायुक्त ने कहा कि कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सबको एकजुट प्रयास करने होंगे। लोगों को चाहिए कि वे अनिवार्य रूप से मास्क लगायें व सैनिटाइजर का प्रयोग करें। जिन लोगों ने वैक्सीन लगवा ली है, वे भी कोरोना से बचाव उपायों की अनुपालना करें। कोरोना वैक्सीन पूर्ण रूप से सुरक्षित है तथा इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं है। खुद की सुरक्षा तथा अपने घर-परिवार की सुरक्षा के लिए सभी को वैक्सीन जरूर लगवानी चाहिए। उपायुक्त ने आम जनमानस से अपील करते हुए कहा कि जब तक शत-प्रतिशत कोरोना वायरस से मुक्ति नहीं मिलती तब तक मास्क व सोशल डिस्टेंंसिंग की अनुपालना करनी बहुत जरूरी है।

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने किया वीटा बूथ का उद्घाटन

पंचकूला, 31 मार्च-             हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने आज स्वास्तिक विहार सेक्टर-5 मनसा देवी काॅम्पलेक्स में वीटा बूथ का उद्घाटन किया। इस वीटा बूथ के खुलने से सेक्टरवासियों को गुणवत्तापरक दूध व दूध से बने खाद्य पदार्थ किफायती दामों पर उपलब्ध होंगे।

For Detailed News-


स्वास्तिक विहार सेक्टर-5 मनसा देवी काॅम्पलेक्स में स्थित यह वीटा बूथ सप्ताह में सातों दिन खुला रहेगा। ग्राहक सुबह 6 से रात 11 बजे तक अपनी आवश्यकता के अनुसार वीटा उत्पाद खरीद सकेंगे। इस अवसर पर श्री गुप्ता ने वीटा बूथ का अवलोकन किया और वहां पर उपलब्ध वीटा के खाद्य पदार्थों के बारे में जानकारी प्राप्त की।


उद्घाटन के उपरांत श्री गुप्ता ने कहा कि वीटा हरियाणा का एक अग्रणीय ब्रांड है और वीटा का दूध व दूध से बने अन्य खाद्य पदार्थ जैसे खीर, दही, मक्खन, घी, मीठी व नमकीन लस्सी, पनीर, पिन्नी आदि की मार्केंट में भारी मांग रहती है।


उन्होंने कहा कि वीटा के उत्पादों के प्रति बढ़ती मांग को देखते हुए राज्य में विभिन्न स्थानों पर बड़ी संख्या में नये वीटा बूथ खोले जा रहे है ताकि लोगों को सस्ते व गुणवत्तापरक खाद्य पदार्थ उपलब्ध करवाये जा सके। इसी कड़ी में आज उन्होंने यहां नये वीटा बूथ का उद्घाटन किया है।


श्री गुप्ता ने कहा कि सरकार द्वारा यह भी निर्णय लिया गया है कि वीटा बूथ पर दूध व दूध से बने खाद्य पदार्थों के अलावा फल, सब्जियां व हेफेड उत्पाद की बिक्री भी की जायेगी ताकि लोगों को प्रतिदिन उपयोग में आने वाली खाद्य वस्तुयें एक ही जगह पर उपलब्ध हो सके।

https://propertyliquid.com


इस अवसर पर बीजेपी के जिला अध्यक्ष अजय शर्मा, जिला उपाध्यक्ष उमेश सूद व एसपी गुप्ता, पार्षद सुरेश वर्मा, जय कोशिक व नरेंद्र लुबाना, सुरेंद्र मनचंदा, राजेंद्र नोनियाल व अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

Prof. Ashwani Koul gets Charge of NSS

Chandigarh March 30, 2021

For Detailed News-

Prof. Ashwani Koul gets Charge of NSS


        Prof. Ashwani Koul, Department of Biophysics, Panjab University, Chandigarh
has been given the additional charge of Programme Coordinator, NSS till further
orders. Earlier, he remained as Chief of University Security.

https://propertyliquid.com

ऑक्सिजन लेवल चेक करने के लिए न फंस जाएं फेक ऑक्सिमीटर ऐप के जाल में, खाता हो सकता है खाली :- डी.सी.पी. पंचकूला

उपायुक्त श्री मुकेश कुमार आहूजा जिला सचिवालय के सभागार में जिला सड़क सुरक्षा कमेटी की मासिक बैठक की अध्यक्षता करते हुए।

For Detailed News-

पंचकूला, 30 मार्च- उपायुक्त श्री मुकेश कुमार आहूजा ने सड़क निर्माण एजेंसियों को निर्देश दिये कि वे जिला में 5-5 किलोमीटर के 7 स्ट्रेचों की पहचान करें और उन्हें दुर्घटना रहित बनाकर माॅडल सड़क के रूप में विकसित करें। इनमें दो लोक निर्माण विभाग (भवन एवं सड़कें) के, एक हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड का, एक शहरी स्थानीय निकाय विभाग, एक हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के दो रोड स्ट्रेच शामिल है। 

श्री आहूजा आज यहां जिला सचिवालय के सभागार में जिला सड़क सुरक्षा कमेटी की मासिक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा की दुर्घटना रहित बनाने व  माॅडल रूप में विकसित करने   के लिये उन रोड स्ट्रेच का चयन किया जाये, जहां पर ज्यादा से ज्यादा इंटरसेक्शन व लाईट प्वाईंटस हो। 

उन्होंने सभी सड़क निर्माण एजेंसियों को आदेश दिये कि वे सड़क सुरक्षा की आॅडिट रिपोर्ट जिला सड़क सुरक्षा कमेटी की अगामी बैठक मासिक से पूर्व देनी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि एजेंसिज अपनी रिपोर्ट में संभावित दुर्घटना वाले बिंदुओं और ब्लैक स्पाॅटस का उल्लेख करने के साथ साथ सुधारात्मक उपाय भी सुझाये। उन्होंने कहा कि गंभीर सड़क दुर्घटना होने पर संबंधित एसडीएम, आरटीए और पुलिस अधिकारी की टीम उस जगह का निरीक्षण करेंगी ताकि दुर्घटना के कारणों का पता कर, भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिये उपयुक्त कदम उठाये जा सके। उपायुक्त ने निर्देश दिये कि यह भी सुनिश्चित किया जाये कि जिला में संचालित निजी परिवाहक सड़क सुरक्षा नियमों का पालन कर रहे है।

https://propertyliquid.com

श्री आहूजा ने पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे सुगम यातायात को सुनिश्चित करने के लिये भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर पुलिस कर्मियों की तैनाती करें। शैक्षणिक संस्थानों के सामने होने वाली सड़क दुर्घटनाओं के मामलों पर चिंता जताते हुए श्री आहूजा ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि राष्ट्रीय व राज्यीय राजमार्ग व जिला मार्ग के साथ साथ पड़ने वाले इस प्रकार के सभी प्रतिष्ठानों का सड़क सुरक्षा के नाते अध्यन किया जाये। उन्होंने सभी सड़क निर्माण एजेंसिज को निर्देश दिये कि वे जिला सड़क सुरक्षा कमेटी की आगामी बैठक से पूर्व उनसे संबंधित सड़को के समीप स्थित प्रतिष्ठानों का अध्यन कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें और साथ ही सुरक्षा उपायों को भी सुझाये। 

उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिये युवाओं को जागरूक करना अति आवश्यक है। उन्होंने निर्देश दिये कि शिक्षा विभाग के सहयोग से जिला के स्कूल व काॅलेजों में सड़क सुरक्षा व यातायात नियमों पर वाद-विवाद व प्रश्नोतरी प्रतियोगिता आयोजित करवाई जाये। उन्होंने कहा कि प्रतियोगिताओं के विजेताओं को नकद पुरस्कार देकर सम्मानित भी किया जाये। 

उन्होंने सड़क निर्माण एजेंसियों को निर्देश दिये कि वे अपने अधीन आने वाली सड़कों पर लाईटिंग का विवरण प्रस्तुत करें और बताये कि कितनी लाईटस क्रियाशील अवस्था में है। इसी प्रकार उन्होंने सड़कों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के बारे में जानकारी उपलब्ध करवाने के साथ साथ ऐसे नये स्थानों का चयन करने के निर्देश भी दिये जहां सीसीटीवी कैमरा लगाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि सीसीटीवी यातायात नियमों की पालना सुनिश्चित करने के साथ साथ सुरक्षा की दृष्टि से भी अत्यंत महत्वपूर्ण है। श्री आहूजा ने निर्देश दिये कि सड़क सुरक्षा उपायों को सुनिश्चित करने के साथ साथ अधिकारी यह भी सुनिश्चित करें कि सडक किनारे किसी प्रकार का अतिक्रमण न हो। उन्होंने एसडीएम कालका को निर्देश दिये कि वे पुलिस विभाग के साथ मिलकर एक मुहिम चलाये और कालका व पिंजौर के बीच में पडने वाली सड़कों के किनारे हो रहे अतिक्रमण को हटवाये। 

उन्होंने कहा कि राज्य व जिला राजमार्गों पर जगह-जगह पर बोर्ड लगाये जाये, जिन पर एंबुलेंस सेवा नंबर 108 तथा पुलिस सहायता नंबर 100 अंकित हो ताकि दुर्घटना के समय इन नंबरों पर संपर्क करके पुलिस व एंबुलेंस सहायता प्राप्त की जा सके। उन्होंने कहा कि इन हैल्प लाईन नंबरों के स्टीकर छपवाकर आॅटो रिक्शा के पीछे चिपकायें जायें ताकि अधिक से अधिक लोगों को इनकी जानकारी प्राप्त हो सके। इस समय जिला में लगभग 6000 के आस पास आॅटो रिक्शा संचालित है। उन्होंने दुर्घटनाग्रस्त लोगों को शीघ्र अतिशीघ्र चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने के लिये सिविल अस्पताल सेक्टर-6 पंचकूला में आपातकालीन सेवाओं को विशेषकर सायं 5 बजे से सुबह 9 बजे के बीच और सुदृढ करने के निर्देश दिये। 

बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा, एसडीएम पंचकूला रिचा राठी, एसडीएम कालका राकेश संधु, आरटीए पंचकूला अमरिंद्र सिंह, डीडीपीओ कंवर दमनसिंह व अनेक विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।