हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि विकास परियोजनाएं एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर जनता के हित को ध्यान में रखते हुए बनाई जाती है ताकि जनता को उनका पूरा लाभ मिल सके।

Prof. Karamjeet Singh appointed as Ist Vice Chancellor of the Punjab State Open University

Chandigarh September 3, 2020

Prof. .Karamjeet Singh, Registrar, Panjab University, Chandigarh has been appointed today as the Ist Vice Chancellor of the Jagat Guru Nanak Dev Punjab State Open University for a period of 3 years by the Governor of Punjab.

For Detailed News-

He has 2 years of experience as Registrar and 36 years of experience in Teaching and Research. On his new assignment, he said that it is a challenging job and it would be his endeavour to live upto the expectations of all. He solicited support from all for the betterment of the University.

https://propertyliquid.com/

 Prof. Singh is a Professor in Finance & Strategic Management, University Business School, Panjab University, Chandigarh. He is former President of Indian Accounting Association. He has been a PU Fellow for 8years from 2008-2016 and a Syndicate member for three terms. He  has been a member in number of  committees of UGC and NAAC. Prof. Singh has to his credit number of awards and honours.

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि विकास परियोजनाएं एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर जनता के हित को ध्यान में रखते हुए बनाई जाती है ताकि जनता को उनका पूरा लाभ मिल सके।

हजारों रुपये की जुआ व सट्टा राशि के साथ चार लोग काबू

सिरसा,3 सितंबर………जिला भर में चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत कार्यवाही करते हुए जिला पुलिस ने विभिंन स्थानों से चार लोगों को 24 हजार साठ रुपए की जुआ व सट्टा राशि के साथ काबू किये है । प्रथम घटना में जिला की शहर डबवाली थाना पुलिस ने गस्त व चैकिंग के दौरान प्रेम नगर मण्ड़ी डबवाली क्षेत्र से महत्वपुर्ण सुचना के आधार पर सार्वजनिक जगह पर जुआ खेल रहे तीन लोगों को 16,900/- रु की जुआ राशि व ताश के पत्तों के साथ काबू किए है । इस संबधं में जानकारी देते हुए थाना शहर डबवाली प्रभारी इंस्पैक्टर सुरेंद्र सिंह ने बताया की पकड़े गए लोगों की पहचान पवन उर्फ जादूगर पुत्र कश्मीरी लाल निवासी प्रेम नगर मंडी डबवाली, जगदीश पुत्र गुरदीप सिहं निवासी अलीकां व रमेश पुत्र माड़ू राम निवासी वार्ड़ न.4 मंडी डबवाली के रुप में हुई है। पुलिस ने पकड़े गए लोगों के खिलाफ थाना शहर डबवाली में गेम्बलिंग एक्ट के तहत अभियोग दर्ज कर लिया है।

For Detailed News-


                                        जिला की ऐलनाबाद थाना पुलिस ने गस्त व चैकिंग के दौरान टिब्बी अड्डा ऐलनाबाद क्षेत्र से महत्वपुर्ण सुचना के आधार पर सार्वजनिक जगह पर सट्टा खाईवाली करते हुए एक व्यक्ति को 7160/ रुपए के साथ काबू किया है। इस संबधं में जानकारी देते हुए ऐलनाबाद थाना प्रभारी सब इंस्पैक्टर औमप्रकाश ने बताया कि पकड़े गए व्यक्ति की पहचान सुंदर लाल पुत्र रामेशवर लाल निवासी वार्ड़ न.8 ऐलनाबाद के रुप में हुई है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने पकड़े गए युवक के खिलाफ ऐलनाबाद थाना में गेम्बलिंग एक्ट के तहत अभियोग दर्ज कर लिया है।

https://propertyliquid.com/

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि विकास परियोजनाएं एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर जनता के हित को ध्यान में रखते हुए बनाई जाती है ताकि जनता को उनका पूरा लाभ मिल सके।

उपायुक्त ने कहा कि जनता के हित को ध्यान में रखते हुए अधिकारी रोड सेफ्टी कार्यो को सही समय पर अंजाम दें ताकि जनता को उनका लाभ तत्काल मिले और कम से कम जान व माल की हानि हो सके।

पंचकूला 3 सितम्बर – उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने कहा कि जनता के हित को ध्यान में रखते हुए अधिकारी रोड सेफ्टी कार्यो को सही समय पर अंजाम दें ताकि जनता को उनका लाभ तत्काल मिले और कम से कम जान व माल की हानि हो सके।

For Detailed News-


उपायुक्त जिला सचिवालय के सभागार में जिला स्तरीय रोड़ सेफ्टी एवं सुरक्षित स्कूल वाहन पोलिसी को लेकर अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि रोड सेफ्टी के अधिकारियों को सदैव जनता का जीवन सुरक्षित बनाने के ध्येय को लेेकर कार्य करना चाहिए।

https://propertyliquid.com/


उपायुक्त ने जिला स्तरीय कमेटी का गठन किया जिसमें लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता, सचिव क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण व यातायात इंचार्ज को शामिल है। यह कमेटी जिला में ब्लाॅक स्पाॅट की पहचान के साथ साथ दुर्घटना होने वाले स्थानों की पहचान करके रिपोर्ट सौंपेगी। इसके अलावा विभिन्न सड़क मार्गो पर ट्रेफिक लाईट, स्पीड ब्रेकर एवं गढढों आदि की पहचान करके रिपोर्ट प्रशासन को सौंपेगी।


श्री आहूजा ने कहा कि वाहन चैकिंग अभियान चलाया जाए, जिसमें विशेषकर थ्री व्हीलर आदि वाहनों की जांच करें। इसके अलावा विभिन्न स्थानों पर संकेत बोर्ड, स्ट्रीट लाईट, सीसीटीवी लगाने बारे भी अवगत करवाएं। विशेषकर निर्माणाधीन स्थल पर संकेत बोर्ड लगाना अनिवार्य है ताकि कोई दुर्घटना न हो सके। बैठक में एन एच पर दुर्घटना होने पर तुरंत मैडिकल सहायता देने के लिए मोबाईल ट्राॅमा सैंटर बारे भी चर्चा हुई।


बैठक में पुलिस विभाग द्वारा चलाए जा रहे क्लीन मोरनी एवं ग्रीन मोरनी अभियान चलाया हुआ है। इसके लिए पुलिस सुरक्षा बढाई गई है। इसके लिए मोरनी रोड़ पर कई स्थानों पर गति सीमा बोर्ड नहीं लगे हुए पुलिस विभाग ऐसे स्थानों की पहचान एवं गति सीमा निर्धारित करके अवगत करवाएं ताकि लोक निर्माण विभाग द्वारा गति सीमा के संकेत बोर्ड लगवाए जा सके।

बैठक में जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी कंवर दमन सिंह, एसीपी राजकुमार शर्मा, महाप्रबंधक हरियाणा रोडवेज रविन्द्र पाठक, कार्यकारी अभियंता शहरी विकास प्राधिकरण, लोक निर्माण विभाग सहित कई विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि विकास परियोजनाएं एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर जनता के हित को ध्यान में रखते हुए बनाई जाती है ताकि जनता को उनका पूरा लाभ मिल सके।

उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने आदेश जारी राजकीय महाविद्यालय सैक्टर 1 लड़कों का छात्रावास एवं सामुदायिक केन्द्र एम डी सी सैक्टर 6 को कोविड केयर सैंटर के रूप में कार्य करने के लिए अधिसुचित किया है।

पंचकूला 3 सितम्बर – उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने आदेश जारी राजकीय महाविद्यालय सैक्टर 1 लड़कों का छात्रावास एवं सामुदायिक केन्द्र एम डी सी सैक्टर 6 को कोविड केयर सैंटर के रूप में कार्य करने के लिए अधिसुचित किया है।

For Detailed News-


उपायुक्त के आदेशानुसार इन केन्द्रों के सही क्रियान्वयन एवं नियमित मोनिटरिंग के लिए इंसीडेंट कमाण्डर नवीन शर्मा, डा. अनुज बिश्नोई, एवं नगर निगम के कार्यकारी अधिकारी जनरैल सिंह की संयुक्त कमेटी का गठन किया गया है। इसके अलावा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के कनिष्ठ अभियंता राजकीय महाविद्यालय सैक्टर 1 एवं अजय बंसल को सामुदायिक केन्द्र एमडीसी के कोविड केयर सैंटर में सुपरवाईजर नियुक्त किया है। आदेशानुसार एसडीएम को ओवरआॅल इंचार्ज एवं सिविल सर्जन डा. जसजीत कौर को लगातार जिला प्रशासन को सूचना भेजने के लिए लगाया गया है।

https://propertyliquid.com/

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि विकास परियोजनाएं एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर जनता के हित को ध्यान में रखते हुए बनाई जाती है ताकि जनता को उनका पूरा लाभ मिल सके।

हरियाणा की मुख्य सचिव श्रीमती केशनी आनन्द अरोड़ा ने अधिकारियों को कहा है कि आने वाले धान की कटाई के मौसम के मद्देनजर पराली जलाने के जीरो बर्निंग के लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में कार्य करना है।

पंचकूला 3 सितम्बर – हरियाणा की मुख्य सचिव श्रीमती केशनी आनन्द अरोड़ा ने अधिकारियों को कहा है कि आने वाले धान की कटाई के मौसम के मद्देनजर पराली जलाने के जीरो बर्निंग के लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में कार्य करना है।

For Detailed News-


मुख्य सचिव कृषि विभाग के अधिकारियों एवं किसानों के साथ वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बातचीत कर रही थी। उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिला में पराली जलाने वाले रैड जोन को विशेष रूप से फोकस किया जाए और योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जाए। पराली जलाने की घटनाएं न हों, इसके लिए निगरानी टीमों का गठन कर नोडल अधिकारी बनाये जाएं। उन्होंने कहा कि गांव स्तर पर पंचायतों व किसानों को पराली न जलाने के लिए जागरुक करें।


उन्होंने कहा कि पर्यावरण की दृष्टि से फसल अवशेष पराली आदि के न जलाए। इससे धरती की उपजाऊ शक्ति कम होती है तथा पर्यावरण भी दूषित होता है। इसलिए ग्राम पंचायतों की अहम भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय एवं एनजीटी के निर्देशानुसार लोगों को फसल के अवशेष न जलाने के साथ मेरा पानी मेरी विरासत, मेरी फसल मेरा ब्यौरा आदि की गांव स्तर पर अभियान चलाकर जानकारी दें। उन्होंने कहा कि फसल अवशेष न जलाने के अभियान को सामाजिक मुहिम बनाएं ओर इसके आग से होने वाले नुकसान के प्रति भी लोगों को प्रेरित करें।

https://propertyliquid.com/


उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने कहा कि पराली न जलाने के लिए लोगो को प्रेरित करने हेतू जिला में विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत कृषि व पचंायत एवं विकास विभाग के सहयोग से गांवों में ई-ग्राम सभाओं का आयोजन लोगों को पराली जलाने से होने वाले नुकसान से अवगत करवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गांवों में कस्टम हायर सैंटरों के माध्यम से छोटे एवं कम जोत वाले किसानों को भी सामुहिक रूप से लाभ दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि लोगों को जागरूक एवं प्रेरित करने के लिए आईईसी गतिविधियों को बढाया जा रहा है जिनमें लोगों को पर्यावरण को दूषित होने से बचाने का संकल्प भी करवाया जाता है। वीसी में मेरा पानी मेरा विरासत योजना, मेरी फसल मेरा ब्यौरा जैसी योजनाओं बारे भी विस्तार से किसानों को लाभान्वित करने बारे चर्चा की गई।


उपायुक्त ने कहा कि गत वर्ष जिला में पराली जलाने वाले 14 किसानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। उनके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है। वीसी में जिला राजस्व अधिकारी रामफल कटारिया, उपकृषि निदेशक वजीर सिंह सहित भरेली गांव के किसान भी शामिल हुए।

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि विकास परियोजनाएं एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर जनता के हित को ध्यान में रखते हुए बनाई जाती है ताकि जनता को उनका पूरा लाभ मिल सके।

ई-लर्निंग : अध्यापक ईमानदारी से निभाएं अपना दायित्व : उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण

सिरसा, 3 सितंबर।

उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण ने की सक्षम हरियाणा (शिक्षा) व सरल प्रोग्राम की समीक्षा


                  उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण ने कहा कि कोरोना काल में बच्चों की शिक्षा जारी रखने के लिए ई-लर्निंग सबसे बढिया माध्यम है। इससे निर्बाध रुप से बच्चों को पढाया जा सकता है और उनकी शिक्षा सुचारु रुप से चल सकती है। जिला में पहली से 12वीं तक के बच्चों को एजुसेट के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षा दी जा रही है। उन्होंने कहा कि अध्यापक समाज की धूरी है, वे अज्ञानता के अंधकार को दूर करके ज्ञान का प्रकाश फैलाते हैं। शिक्षक केवल किताबी शिक्षा ही नहीं देता अपितु जिंदगी जीने की कला भी सीखाने का काम करता है।

For Detailed News-


                      उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण बुधवार को देर सांय अपने कैंप कार्यालय कक्ष में सक्षम हरियाणा (शिक्षा) व सरल प्रोग्राम के तहत अधिकारियों की आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस बैठक में मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी सुकन्या जनार्दनन, जिला शिक्षा अधिकारी संत कुमार, जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी रमेश शर्मा, पीओ आईसीडीएस डा. दर्शना सिंह सहित सर्व शिक्षा अभियान, श्रम विभाग, अक्षय ऊर्जा विभाग से अधिकारी मौजूद थे। बैठक में सीएमजीजीए सुकन्या जनार्दनन ने सक्षम हरियाणा (शिक्षा) व सरल प्रोग्राम के तहत एजेंडा प्रस्तुत किया।

https://propertyliquid.com/


                      उपायुक्त ने कहा कि जिला में जिन बच्चों के पास मोबाइल नहीं है ऐसे बच्चों को चिह्निïत करें और शिक्षा मित्र के माध्यम से उन्हें शिक्षित करें ताकि उनकी शिक्षा सुचारु रुप से चले। उन्होंने कहा कि शिक्षा मित्र का कार्य परिवार पहचान पत्र कैंपेन के साथ किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि यह बहुत जरुरी है कि किसी के पास मोबाइल नहीं है तो उनके लिए शिक्षा मित्रों की सहायता से उन्हें शिक्षित किया जाए। जिला में किताबें वितरण का कार्य शत प्रतिशत पूर्ण किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि जिला में 842 स्कूल हैं जिनके बच्चों को एजुसेट के माध्यम से पढ़ाई करवाई जा रही है। ये बच्चे अपने-अपन टाइम टेबल के अनुसार टेलिविजन के माध्यम से शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।
                      उन्होंने कहा कि बच्चों और अध्यापकों के बीच दूरी को खत्म करने के लिए समय-समय पर ई-पीटीएम का आयोजन किया जाना जरुरी है। इसके लिए अध्यापक व्हाट्सएप, फोन या मैसेज आदि के माध्यम से अभिभावकों  व बच्चों से संवाद कर सकते हैं। जिला में अबतक 3 ई-पीटीएम का आयोजन किया जा चुका है तथा अगली ई-पीटीएम 22 सितंबर को आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा कि बच्चों की शिक्षा की प्रगति जानने के लिए समय-समय पर क्वीज का आयोजन करें। इसके लिए अध्यापक सभी विषयों पर समान रुप से फोकस करें। जिला में सितंबर माह के अंतिम सप्ताह के दो दिनों में कक्षा तीसरी से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए गणित व विज्ञान विषय को छोड़कर क्वीज का आयोजन किया जाएगा।

                      उन्होंने बताया कि दीक्षा एप ऑनलाइन शिक्षा को लेकर सिर्फ विद्यार्थियों के लिए ही नहीं, बल्कि शिक्षकों के लिए भी काफी मददगार होगा। उन्होंने कहा कि इस एप पर डिजिटल कंटेंट के रुप में लाईब्रेरी भी उपलब्ध है। इस एप का उपयोग अध्यापकों के प्रशिक्षण के लिए भी किया जा रहा है, वे अपनी एम्प्लॉई आईडी के माध्यम से लॉगइन कर सकते हैं। जिला के प्राथमिक, माध्यमिक व स्कूल हेड को दीक्षा एप के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि शिक्षा का अर्थ है ज्ञान देना है, शिक्षा व्यक्ति के जीवन के सर्वांगिण विकास में सहायक होती है जिससे न केवल व्यक्ति का स्वयं का बल्कि समाज का भी सुधार होता है।


                      उपायुक्त ने सरल हरियाणा पार्टल पर विभिन्न विभागों के पोर्टल पर आए आवेदन पत्रों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा सरल पोर्टल के माध्यम से आमजन से जुड़ी विभिन्न सेवाओं का लाभ समयबद्ध देना तय किया गया है। सभी संबंधित विभाग सेवा का अधिकार नियम के तहत तय समय में सभी सेवाओं का लाभ लाभार्थियों तक पहुंचाएं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे इन आवेदनों का जल्द से जल्द निपटान करें।