प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

उपमुख्यमंत्री ने आज माता मनसा देवी कांपलैक्स में उद्योग एवं वाणिज्य विभाग की बनने वाली नई ईमारत उद्योग भवन की आधारशीला रखी

पंचकूला:

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चैटाला ने आज माता मनसा देवी कांपलैक्स सैक्टर 1 के प्लाट नंबर 1 व 2 में उद्योग एवं वाणिज्य विभाग की बनने वाली नई ईमारत उद्योग भवन की आधारशीला रखी एवं उपस्थित जनसमूह को संबोधित किया। 


उन्होंने कहा कि इस उद्योग भवन के निर्माण से हरियाणा के उद्योग जगत मंे नई क्रान्ति आएगी और वन स्टाप सैंटर के रूप में यह भवन उद्योग जगत के लिए बैक बाॅन का काम करेगा जहां देश- विदेश के निवेशकों को एक ही केंद्र में सभी सुविधाएं मिलेंगी। आधुनिकतम ग्रीन बिल्डिंग कान्सैप्ट के अनुसार बनने वाले इस भवन में उद्योग जगत की जरूरतों के अनुसार सभी अत्याधुनिक एंव नवीनतम विश्व-स्तरीय सुविधाएं एक ही छत के नीचे उपलब्ध करवाई जाएंगी। उन्होंने कहा कि विश्व बैंक और भारत सरकार  की ईज आफ डूईंग बिजनेस वरीयता  में हरियाणा आज 14वें क्रम से तीसरे पायदान पर आ गया है और इस भवन के बनने यह इस वरीयता में पहले स्थान पर होगा। 


उन्होंने कहा कि पिछले दो दशक से हरियाणा उद्योगों में आगे है और कंुडली मानेसर पलवल केएमपी के निर्माण से हरियाणा औद्योगिक हब के रूप में बन कर उभरेगा। भौगोलिक रूप से  कदम दर कदम दिल्ली के साथ लगने वाले हरियाणाने  दिल्ली के कार्य भार को अपने यहंा यह वहन कर उसे राहत दी है। बेहतर बुनियादी सुविधाओं के चलते दुनिया की 60 प्रतिशत से अधिक आईटी इंडस्ट्री और आटो इंडस्ट्री यहीं से संचालित है। जहां कुंडली मानेसर पलवल मार्ग  ने दिल्ली के सड़क यातायात के भार को वहन किया है, वहीं दिल्ली- मुंबई-औद्योगिक कारिडोर और कोलकाता-दिल्ली- अमृृतसर औद्योगिक काॅरिडोर से दिल्ली के रेलवे के भार को कम होगा व हरियाणा में उद्योग व रोजगार सृृजन के लिए असीमित  संभावनाएं उत्पन्न होने वाली हैं। उन्होंने कहा कि यह भवन  हरियाणा के भविष्य के औद्योगिक परिदृृश्य की सभी जरूरतों को पूरा करेगा। इस भवन की भौगोलिक स्थिती इतनी महत्वपूर्ण है कि यह चंडीगढ़ से मात्र पांच मिन्ट की दूरी पर स्थित है। इस भवन की नंीव से भविष्य के औद्योगिक हब का निर्माण होगा जिससे बड़ी संख्या में हरियाणा के युवाओं के लिए रोजगार का सृजन होगा व समृद्धि और खुशहाली में बढौतरी होगी। 


कार्यक्रम में हरियाणा विधान सभा के अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा कि पंचकूला में सभी विभागों के मुख्यालय एवं महत्वपूर्ण कार्यालय स्थपित हैं और यह प्रदेश की लघु राजधानी के समान है। इसमें उद्योग विभाग की ऐसी इमारत का निर्माण होने जा रहा है, जिसमें सभी सुविधाएं एक ही छत के नीचे मिलेंगी और  इससे निवेश की नई बयार प्रदेश में बहेगी।


समारोह में मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए उद्योग विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद ने कहा कि एक एकड़ के क्षेत्र में  पांच मंजिला यह इमारत ग्रीन बिल्डिंग कान्सेपट के मुताबिक बनाई जाएगी और इस पर  लगभग 30 करोड़ रूपए की राशि खर्च होगी। यह लगभग 21 महीनों में बनकर तैयार हो जाएगी। उद्योग विभाग के निदेशक डा0 साकेत कुमार ने मुख्य अतिथि सहित समारोह में उपस्थित सभी आगंतुकों का धन्यवाद किया। 


इस असवर पर श्रीमती बंतो कटारिया, उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा, पुलिस उपायुक्त कमलदीप गोयल, एसडीएम धीरज चहल,  जननायक जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता दिलबाग नैन,जजपा के जिला अध्यक्ष ओपी सिहाग,  जजपा के भाग सिंह दमदमा सहित अनेकों गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

PU VC to be Governor’s Nominee at GJU

Chandigarh February 7, 2020

Haryana Governor Sh. Satyadev Narayan Arya has nominated Prof. Raj Kumar, Vice Chancellor, Panjab University, as his nominee, on the Selection Committee(s) of Guru Jambheshwar University of Science and Technology, Hisar here today.

As per the notification issued by the Haryana Raj Bhawan, Chandigarh, the Haryana Governor Sh. Satyadev Narayan Arya has exercised the powers conferred by Statute 20 (1) of the Schedule to Guru Jambheshwar University of Science and Technology, Hisar Act, 1995 to appoint PU VC as Hon’ble Governor’s/Chancellor’s nominee on the Selection Committee(s) for selection of teaching posts, besides Dr. Dev Swarup and Prof. R.S. Solanki, for a term of two years with immediate effect.

Named after Guru Jambheshwar Ji Maharaj, a saint environmentalist of the 15th century, the Guru Jambheshwar University of Science and Technology was found in 1995 under the Act No. 17 of the Haryana State Legislature to impart education on the frontiers of Science, Technology, Engineering, Pharmacy, Environmental Studies, Non-conventional Energy Sources, Mass Media and Management Studies etc. The University has been accredited ‘A’ Grade by National
Assessment and Accreditation Council (NAAC), Bangalore in 2002, 2009 and 2014.

Prof. Raj Kumar expressed his gratitude to the Haryana Governor Sh. Satyadev Narayan Arya for the responsibility and assured that he will leave no stone unturned to take the premier institute of Science and Technology in Haryana to new heights.

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

कोरोना वायरस के लक्षण मिलने पर 241155 पर दे सूचना : सिविल सर्जन

सिरसा, 7 फरवरी।


सिविल सर्जन डा. विरेश भूषण ने बताया कि अगर किसी व्यक्ति को चीन से वापिस आने पर सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार या फिर निमोनिया के लक्षण से मिलते जुलते लक्षण हो तो तुरंत जिला स्वास्थ्य विभाग के दूरभाष नम्बर 01666-241155 पर सूचित कर सकते हैं।


डा. विरेश भूषण ने कहा कि चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस से काफी लोग प्रभावित हो रहे है, जिसके चलते विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस वायरस को लेकर निर्देश जारी किए है। जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा भी निजी हस्पतालों को कोरोना वायरस पर निगरानी के बारे मे मीटिंग की गई व एडवाईजरी जारी कर दी गई  है।
उन्होंने बताया कि मरीजों को ईलाज के लिए अलग से आईसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा। इसके अतिरिक्त जिला सिरसा में अब तक 32 पैसेंजर जो सिरसा में आए है, इनमें से 10 पैसेंजर चीन के विभिन्न शहरों से आए है व 22 पैसेंजर ऐसे है जो न्यूजीलैंड, आस्ट्रेलिया, कैनेडा देशों से वाया चीन होकर आए है, सभी पूर्ण रूप से स्वस्थ है। साथ ही सिविल सर्जन ने कोरोना वायरस से बचाव के तरीके बताते हुए कहा कि खांसते व छीकते समय अपने मुंह को ढककर रखे, हाथों को बार-बार धोए, संक्रमित व्यक्ति से दूरी बनाकर रखे, पौष्टिक आहार का सेवन करे व भीड़ भाड़ के इलाकों मे जाते हुए मास्क का प्रयोग करे। उन्होंने कहा कि घबराए नहीं सतर्क व स्वस्थ रहे।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

जिला बाल कल्याण इकाई ने चलाया ऑप्रेशन मुस्कान व बाल श्रम मुक्त अभियान

सिरसा, 7 फरवरी।


जिला बाल कल्याण इकाई द्वारा ऑप्रेशन मुस्कान व बाल श्रम मुक्त अभियान के तहत शुक्रवार को शहर के विभिन्न स्थानों पर बाल श्रम करते हुए बच्चे व गुमशुदा बच्चों की तलाश के लिए अभियान चलाया गया।


जिला बाल संरक्षण अधिकारी डा. गुरप्रीत कौर ने बताया कि टीम ने शुक्रवार को शहर में रोड़ी बाजार, चत्तरगढ पट्टïी, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, बरनाला रोड़ व अनाज मंडी में बाल श्रम करते हुए बच्चे व गुमशुदा बच्चों की तलाश की गई। इस दौरान दो बच्चे बाल श्रम करते हुए पाए गए। इन बच्चों को आगामी कार्रवाई के लिए बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश किया गया।


इस दौरान अनाजमंडी के नजदीक झुग्गी-झौपड़ी में रहने वाले बच्चों व अभिभावकों को बाल अधिकारों, जुवनाईन जस्टिस एक्ट, चाईल्ड हैल्पलाइन नम्बर 1098, स्पोंसर शिप व फोस्टर केयर स्कीम के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। इसके अलावा अभिभावकों को बच्चों से भीख न मंगवाने, बाल श्रम में न लगाने के बारे में भी जागरूक किया गया। उन्होंने कहा कि यदि कोई भी गुमशुदा बच्चा मिलता है तो उसकी सूचना जिला बाल संरक्षण कार्यालय अथवा चाईल्ड हैल्पलाइन नम्बर 1098 पर दी जा सकती है। उन्होंने जागरूकता कैंप में बच्चों को शिक्षा के साथ जोडऩे की शपथ भी दिलवाई। उन्होंने बताया कि बच्चों से भीख मंगवाने, बाल श्रम करवाने आदि से बच्चे शिक्षा से वंचित हो जाते हैं तो नशा जैसी गलत संगति के शिकार हो जाते हैं जिस कारण ये बच्चे अपने अधिकारों से भी वंचित हो जाते हैं।
बाल कल्याण समिति की अध्यक्षा अनिता कुमारी ने बताया कि अगर कोई बच्चा लावारिस हालत में बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, बाजार, गलियों आदि में मिलता है तो नजदीकी पुलिस स्टेशन, जिला बाल संरक्षण ईकाई व हैल्पलाइन नम्बर 1098 पर सूचना दे ताकि बच्चे को उसके परिवार से मिलवाया जा सके। उन्होंने बताया कि ज्यूविनाईल जस्टिस एक्ट के तहत सूचना मिलने पर ऐसे गुमशुदा बच्चों को बाल देखरेख ग्रह में सुरक्षित ठहराव देते हुए परिवार की तालाश की जाती है। नियमानुसार किसी बच्चे के परिवार के न मिलने की स्थिति में ऐसे बच्चों को गोद प्रक्रिया में शामिल करके सामाजिक जीवन के साथ जोड़ा जाता है।


उन्होंने बताया कि स्पोंसरशिप स्कीम के तहत एक परिवार के अधिकतर दो बच्चों को 2 हजार रुपये प्रति माह स्कूल जाने पर दिए जाते हैं। उन्होंने बताया कि स्कीम का लाभ लेने के लिए परिवार की सालाना आय शहरी क्षेत्र में 30 हजार रुपये व ग्रामीण क्षेत्र में 24 हजार रुपये से अधिक न होने के साथ-साथ बच्चे की 75 प्रतिशत स्कूल हाजिरी अनिवार्य है।


इस दौरान सामाजिक कार्यकर्ता मीनाक्षी सिहाग, कोर्डिनेटर चाईल्ड हैल्पलाइन जसप्रीत सिंह, एएसआई रमेश चंद्र, सचएएचटीयू नाहन सिंह, ईएएसआई राज कुमार, होमगार्ड रोशनी मौजूद थे।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

14th MEETING OF BOARD OF DIRECTORS, CSCL

Approval of Financial Proposal submitted by Bharat Electronics Limited for Integrated Command and Control Centre

Chandigarh, February 7:- The 14th Meeting of Board of Directors of CSCL was held here today under the Chairmanship of Sh. Manoj Kumar Parida, IAS Adviser to the Administrator, UT, Chandigarh. During the meeting, Board has accorded approval to financial proposal submitted by BEL forIntegrated Command and Control Centreto be setup in Chandigarh.

 Bharat Electronics Limited (BEL) wil be implementing this project in Rs. 295 Cr. in an estimated time span of 15 months. After implementing BEL will also be maintaining the project for 5 years time period. BEL shall implement Integrated Command and Control Centre (ICCC) as a central monitoring system which will help the city administrators in data analysis, decision making and effective monitoring of the services. ICCC will control and monitor the CCTV cameras, Automatic Number Plate Recognition system, Red light violation detection system, Speed Violation detection system, E-challan system enabling the automatic challan generation for the traffic violators, Adaptive Traffic Control System and other smart solution like dynamic message boards, public addressing system in Chandigarh. These systems shall reduce the traffic issues of the city and provide a robust enforcement system to enhance road safety of the citizen. A dedicated call center will also be a part of this project which shall help the citizen to get real time information of the services provided by the Chandigarh Smart City.  

The Chairman has also given directions to the BEL officials that they should maintain the good quality of work while execution and the ICCC of Chandigarh should be one of its kind  in the Country. Also the project should be implemented in such a way that the citizens shall feel the difference due to digitalization of the city. The meeting was attended by other Board Members including Sh. Arun Kumar Gupta, IAS, Principal Secretary Home, Sh. Ajoy Kumar sinha, IAS, Finance Secretary, Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner MCC-cum-Chief Executive Officer, CSCL, Sh. Mandip Singh Brar, IAS, DC, Chandigarh, Sh. Mukesh Anand, Chief Engineer-cum-Special Secretary, UT, Chandigarh,  Sh. Shalinder Singh, Chief Engineer, MC, Chandigarh, Sh. Kapil Setia, Chief Architect, UT, Chandigarh, Sh. N.P. Sharma, CGM, CSCL.

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

IGNOU: “Annual Coordinator Meeting Held on 07th February, 2020”.

Chandigarh:

IGNOU: “Annual Coordinator Meeting Held on 07th February, 2020”.

Indira Gandhi National Open University (IGNOU) Regional Centre, Chandigarh organized Annual Coordinator Meeting with the Coordinator and Programme In charge of IGNOU Study Centre in Chandigarh held on 07th February, 2019. All the Coordinators and Programme Incharges participated in the meeting from Chandigarh, Panchkula, Ambala, Patiala, Ropar and Morni Hills.

IGNOU: “Annual Coordinator Meeting Held on 07th February, 2020”.

The meeting presided over by Dr. M. Sanmugam, Director, Regional Service Division, IGNOU, Hqrs. New Delhi. While addressing the coordinators Dr. Sanmugam shared that IGNOU is going to launch its programme through online mode. The Ministry of MHRD, Govt. of India has given its permission for IGNOU to conduct the programme through online. He also shared that IGNOU has been exempted from the UGC Regulation 2017. IGNOU would ensure high standard of its programme delivery. Dr. Sanmugam informed that the total enrolment of distance education from IGNOU is 12% and every year IGNOU enroll more than 11 lakh students through distance mode of learning in various programme. He also instructed the coordinators to make maximum use of new technology to reach out to the learners.

Dr. Anil K. Dimri, Regional Director welcome the Coordinators and Programme Incharges and presented the annual report of Regional Centre, Chandigarh and also highlighted the achievement of Regional Centre, Chandigarh. In his report he shared that the enrolment of the Regional Centre, Chandigarh has increased by 30% during last year and has gone up to 17790 learners. He also shared with the support of coordinators the publicity and the promotion activities adopted by Regional Centre reached to the unreached. Dr. Savita Panwar (A. R. D.) shared the monitoring mechanism system with the coordinator and requested for submission of Monthly Monitoring Report every month to Regional Centre for analysis of Student Support Services. Dr. Nurul Hasan (A.R.D.) highlighted the issues pertaining to assignments and promotion and publicity activities of IGNOU. Mr. Tejpal Singhal (E. D. P.) explained the coordinator about how to fill the online Academic Counsellor form of the University. The meeting was also supported by all the staff members of the Regional Centre. All the coordinators were given 10 minutes to present their views and feedback. At the end of the Meeting a vote of thanks was given by Dr. Savita Panwar (A. R. D.) for the cooperation received by Regional Centre from its Study Centre and also requested for their full support in the future endeavors of the University to provide quality and need based education to the society. Following Coordinators were present in the meeting: Mr. J. J. Singh, Dr. Amitabh Dwivedi, Dr. Kiron Angra, Dr. Vandan Awasthi, Dr. Anuradah Agnihotri, Mr. Harpreet Singh, Mr. Pawan Kumar, Mr. Parveen Kumar etc.

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

प्ले स्कूलों के मापदंड निर्धारित, 25 तक करवाना होगा पंजीकरण

सिरसा, 7 फरवरी।


                                भारत सरकार व राष्ट्रीय बाल अधिकार सरंक्षण आयोग द्वारा प्ले स्कूलों के लिए माप दंड निर्धारित किए गए हैं। साथ ही इन स्कूलों के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग को नोडल विभाग घोषित किया गया है। सभी प्राईवेट स्कूल संचालकों को 25 फरवरी से पूर्व अपने खंड की कमेटी के पास रजिस्ट्रेशन हेतू आवेदन करना होगा।


                महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी डा. दर्शना सिंह ने बताया कि जिला के सभी प्राईवेट प्ले स्कूलों का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए जिले के सभी 8 खण्डों (डबवाली, ऐलनाबाद, रानियां, माधोसिंघाना, बडागुढा, औढां, नाथुसरी चौपटा व सिरसा शहरी) में चल रहे प्राईवेट प्ले स्कूलों के लिए खण्ड स्तर पर निरीक्षण कमेटी का गठन भी किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि इस कमेटी में संबंधित खण्ड की महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी, संबंधित खण्ड की प्राथमिक षिक्षा अधिकारी, जिला बाल सरंक्षण अधिकारी, संबंधित खण्ड की एक सर्कल सुपरवाईजर शामिल हैं।


                जिला सिरसा में चल रहे सभी प्राईवेट प्ले स्कूलों को भारत सरकार द्वारा जारी गाईड लाईन्स में दिये गये नार्मस अनुसार एक वर्ष के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना होंगा तथा इस रजिस्ट्रेशन का हर वर्ष नवीनीकरण होगा। विभाग द्वारा गठित की गई कमेटी इन स्कूलों का निरिक्षण करेगी। अत: सभी प्राईवेट प्ले स्कूल के संचालकों को अपने अपने स्कूलों का रजिस्ट्रेशन इस कमेटी के माध्यम से आवेदन करते हुए करवाना होगा। अन्यथा उनके विरूद्व अनुशासनिक कार्यवाही हेतू केस मुख्यालय को भेज दिया जायेगा।


                उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा उक्त रजिस्ट्रेशन हेतू इस कमेटी के माध्यम से पूर्व में भी सभी प्राईवेट प्ले स्कूलों को रजिस्ट्रेशन हेतू बार-बार कहा गया है। अत: अब अंतिम मौका देते हुए निर्देश दिए है कि सभी प्राईवेट प्ले स्कूलों के रजिस्ट्रेशन हेतू 29 फरवरी 2020 तक का समय कमेटी को दिया गया है। सभी प्राईवेट स्कूल संचालकों को 25 फरवरी से पूर्व अपने खंड की कमेटी के पास रजिस्ट्रेशन हेतू आवेदन करना होगा। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा गठित की गई कमेटी द्वारा शीघ्र इन स्कूलों का विजिट करते हुए भारत सरकार द्वारा बच्चों की सुरक्षा के लिए तय किये गये मापदण्डों का वैरीफिकेशन किया जायेगा। बिना रजिस्ट्रेशन के जो भी प्ले स्कूल मिलेगा उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी। जांच पड़ताल व समय-समय पर निरीक्षण करने हेतू खंड स्तर पर नोडल अधिकारी नियुक्त कर दिये गये है।


प्ले स्कूलों के मापदंड निर्धारित


               डा. दर्शना ने बताया कि एनसीपीसीआर की रेगुलेटरी गाईड लाईन्स फॉर प्राईवेट प्ले स्कूल के सभी मापदंडों को पूरा करना जरूरी है। भारत सरकार द्वारा जारी गाईडलाईन्स के अनुसार स्कूल पूरी तरह से स्वच्छ रहना चाहिए, स्कूल में खेलने के लिए अलग से प्ले ग्राउन्ड होना चाहिए, स्कूल में सीसीटीवी कैमरे लगे होने चाहिए, लड़के व लड़कियों के लिए अलग-अलग व साफ सुथरे शौचाल्यों की व्यवस्था होनी चाहिए, फस्टॅ एड किट की व्यवस्था होनी चाहिए, 20 बच्चों पर एक टीचर व एक आया की व्यवस्था होनी चाहिए, बच्चों को स्कूल में शिफ्ट करने का पूरा रिकार्ड मैन्टेन होना जरूरी है।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

लिंगानुपात संतुलन के लिए महिलाओं का सहयोग जरूरी: उपायुक्त

सिरसा, 7 फरवरी।


                महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा शुक्रवार को स्थानीय शहीद भगत सिंह स्टेडियम में जिला स्तरीय महिला खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस अवसर पर उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने बतौर मुख्य अतिथि प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग डा. दर्शना सिंह, खेल विभाग से कृष्ण कुमार बैनीवाल, स्वास्थ्य विभाग से नरेंद्र कुमार, जिला की सभी सीडीपीओ, सुपरवाईजर, आंगनवाड़ी वर्कर, हैल्पर व खेल प्रतिभागी मौजूद थी।


                उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने कहा कि खेल शारीरिक व मानसिक विकास के लिए बेहतर गतिविधि है। हर व्यक्ति को रूचि अनुसार कोई खेल हो खेलना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पुरूषों के कम नहीं है। फिर चाहे वह खेल का क्षेत्र हो। प्रदेश के बेटियों ने खेल के क्षेत्र में प्रदेश व देश का नाम विश्व पटल पर चमकाया है। उन्होंने कहा कि खेल प्रतियोगिताएं जीवन में आगे बढने की पे्ररणा देती हैं। इस तरह के आयोजन से महिलाओं को अपने प्रतिभा दिखाने का अवसर मिलता है। उन्होंने विभाग को सुझाव देते हुए कहा कि महिला खेलकूद प्रतियोगिता में खेलों की संख्या 6 से अधिक हो और खंड स्तर से पहले गांव स्तर पर भी खेलकूद प्रतियोगिताएं करवाई जाएं, ताकि अधिक से अधिक महिला खिलाडिय़ों को अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिल सके।


                उपायुक्त ने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान से लिंगानुपात में काफी सुधार हुआ है और इस दिशा में सकारात्मक परिणााम मिले हैं। लेकिन इसे हमें शतप्रतिशत सफलता हासिल करनी है और इसके लिए महिलाओं का सहयोग अपेक्षित है। लिंगानुपात संतुलन में महिलाओं की अहम भूमिका होती है। इसलिए आपसी सहयोग व भाईचारे की भावना के साथ आगे बढ़ें और जिला के लिंगानुपात संतुलन के लिए काम करें। उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि इस प्रतियोगिता का आयोजन भी बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान के तहत ही करवाया गया है।


                जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग डा. दर्शना सिंह ने बताया कि खंड स्तर पर 6 प्रकार की खेलकूद प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में खंड स्तर पर आयोजित प्रतियोगिताओं की प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली प्रतिभागियों ने भाग लिया। प्रतियोगिताओं में 80 प्रतिभागियों सहित 450 महिलाओं ने भाग लिया। उन्होंने बताया कि छह: प्रकार की प्रतियोगिताओं में 100 मीटर की दौड़, मटका दौड़, आलू दौड़, 400 मीटर दौड़ व साईकिल दौड़ करवाई गई। उन्होंने खेलकूद प्रतियोगिता के आयोजन के उदेश्य सहित विभाग की योजनाओं बारे विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आपकी लाडो है हरियाणा की शान, दादी-नानी की पाठशाला, करियर काउंसलिंग आदि गतिविधियों के माध्यम से भी बेटी बचाओ-बेटी पढाओ का संदेश दिया गया। उन्होंने बताया कि जिला स्तरीय प्रतियोगिताओं में विजेता प्रतिभागी राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेंगे। प्रतियोगिताओं के सफल आयोजन में जुडो कोच अर्चना, क्रिकेट कोच शंकर सैनी, लांग टैनिस कोच रेशम सिंह द्वारा अहम भूमिका निभाई गई।


प्रतियोगिताओं के परिणाम


                मटका दौड़ में सिरसा से सरस्वती प्रथम, गांव अबूबशहर से रुकमादेवी द्वितीय तथा कंवरपूरा से निर्मला तृतीय स्थान पर रही। आलू दौड़ में गांव रघुवाना से सरोजरानी प्रथम, सिरसा से निशा द्वितीय तथा सिरसा से राजरानी तृतीय स्थान पर रही।  100 मीटर दौड़ में गांव मोजूखेड़ा से सरोज प्रथम, बनवाला से बिमला द्वितीय तथा राजपूरा से सुमित्रा रानी तृतीय स्थान पर रही। 300 मीटर दौड़ में गांव लकड़ांवाली से राजपाल प्रथम, कुसुंबी से वर्षा द्वितीय तथा धोलपालिया से किरण तृतीय स्थान पर रही।  400 मीटर दौड़ में गांव गोरीवाला से रीतू प्रथम, धोलपालिया से पूजा द्वितीय तथा बाजेकां से पारुल तृतीय स्थान पर रही। साइकिल दौड़ में गांव कुम्हारिया से सुनीता रानी प्रथम, थेड़ शमिंद्र सिंह से रेखा द्वितीय तथा ठोबरियां से प्रीतपाल तृतीय स्थान पर रही।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

हजारों रुपये की जुआ व सट्टा राशि के साथ 13 लोग काबू

सिरसा:..जिला भर में चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत कार्यवाही करते हुए जिला पुलिस ने विभिन्न स्थानों से 13 लोगो को 68 हजार 620 रुपये की जुआ व सट्टा राशि के साथ काबू किये है । प्रथम घटना में जिला की शहर डबवाली थाना पुलिस ने गस्त व चैकिंग के दौरान सरकारी स्कूल मण्ड़ी डबवाली क्षेत्र से महत्वपुर्ण सुचना के आधार पर सार्वजनिक जगह पर जुआ खेल रहे सात लोगों को 45,800/- रु की जुआ राशि व ताश के पत्तों के साथ काबू किये है। इस संबधं में जानकारी देते हुए थाना शहर डबवाली प्रभारी सब इंस्पैक्टर सत्यवान ने बताया की पकड़े गये लोगों की पहचान संजय पुत्र कंवरभान,सोनू पुत्र मनोहर लाल वासियान प्रेम नगर मण्ड़ी डबवाली,रवि पुत्र गुरमेल सिंह, गुरमेल पुत्र हरनेक वासियान मेहना पंजाब,सुखप्रीत पुत्र नरेंद्र वासी चक्क रुलदू पंजाब,रिछपाल पुत्र जरनैल सिंह वासी गांव कुम्हारा, पंजाब व काला पुत्र गुरतेज वासी वार्ड़ न.2 मण्ड़ी डबवाली के रुप में हुई है। पुलिस ने पकड़े गए लोगों के खिलाफ थाना शहर डबवाली में गेम्बलिंग एक्ट के तहत अभियोग दर्ज कर लिया है।       

                            वही एक अन्य घटना में जिला की नाथूसरी चौपटा थाना पुलिस ने गस्त व चैकिंग के दौरान गांव जमाल क्षेत्र से महत्वपुर्ण सुचना के आधार पर सार्वजनिक जगह पर जुआ खेल रहे पांच लोगों को 8120/- रु की जुआ राशि व ताश के पत्तों के साथ काबू किये है। इस संबधं में जानकारी देते हुए नाथूसरी चौपटा थाना प्रभारी इंस्पैक्टर सुखबीर सिंह ने बताया की पकड़े गये लोगों की पहचान रामकुमार पुत्र श्रीचंद वासी जमाल, जयनारायण पुत्र लाधू राम वासी कुतियाना,राकेश पुत्र सत्यनारायण वासी पीलीमंदोरी ,चंनसुख पुत्र हरपाल वासी निठाना व राजेंद्र पुत्र रामप्रताप वासी जमाल के रुप में हुई है। पुलिस ने पकड़े गए लोगों के खिलाफ थाना नाथूसरी चौपटा में गेम्बलिंग एक्ट के तहत अभियोग दर्ज कर लिया है।         

                                             वही एक अन्य घटना में कालांवाली थाना पुलिस ने गस्त व चैकिंग के दौरान कालांवाली क्षेत्र से महत्वपूर्ण सुचान के आधार छापेमारी करते हुऐ एक युवक को 14700/- रुपयों की सट्टा राशि के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवक की पहचान साहिल उर्फ विक्की पुत्र जयपाल वासी वार्ड़ न.6 मण्ड़ी कालांवाली के रुप में हुई है ।पुलिस ने पकड़े गए युवक के खिलाफ थाना कालांवाली में गेम्बलिंग एक्ट के तहत अभियोग दर्ज कर लिया है।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

प्रधान सचिव आनन्द मोहन शरण बरवाला के शैल्टर होम का मुआयना कर जानकारी लेते हुए।

580 ग्राम अफीम सहित जीप सवार व्यक्ति काबू

सिरसा: जिला भर में चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत कारवाई करते हुऐ जिला कि एंटी नारकोटिक्स सैल सिरसा पुलिस ने गस्त व चैकिंग के दौरान गांव बिज्जूबाली क्षेत्र जीप सवार एक व्यक्ति को 580 ग्राम अफीम के साथ काबू किया है । पकड़े गए युवक की पहचान जीत सिंह पुत्र वीर सिंह वासी मुंनावाली सिरसा के रुप में हुई है। इस संबधं में जानकारी देते हुए एंटी नारकोटिक्स सैल सिरसा प्रभारी इंस्पैक्टर रोहताश कुमार ने बताया कि पकड़े गए युवक से सप्लायर के बारे में नाम पता मालुम कर दो  लोगों के खिलाफ थाना सदर डबवाली में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज कर सप्लायर की तलाश शुरु कर दी है । उन्होने बताया कि एंटी नारकोटिक्स सैल सिरसा पुलिस के सहायक उप निरीक्षक अशोक कुमार के नेतृत्व में एक पुलिस टीम गस्त व चैकिंग के दौरान बिज्जूवाली क्षेत्र में मौजूद थी । इस दौरान सामने से आ रही जीप में सवार युवक ने पुलिस पार्टी को देखकर वापिस मुड़कर भागने की कोशिश कि तो शक के बिनाह पर उक्त जीप में सवार युवक को रोक कर उसकी तलाशी लेने पर उसके कब्जा से 580 ग्राम अफीम बरामद हुई। । पकड़े गए युवक को अदालत में पेश कर रिमाण्ड़ पर लिया जाएगा और रिमाण्ड़ अवधि के दौरान तस्करी के इस नेटवर्क से जुडे अन्य लोगो के बारे में नाम पता मालुम कर उनके खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी । 

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!