FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

32 ग्राम हेरोइन सहित 5 काबू

सिरसा। जिलाभर में चला जा रहे विशेष अभियान के तहत कार्रवाई करते हुए जिला पुलिस ने विभिन्न स्थानों से गश्त व चैकिंग के दौरान पांच युवकों को 32 ग्रम हेरोइन के साथ काबू किया है।  प्रथम घटना में सीआईए डबवाली पुलिस टीम ने गश्त व चैकिंग के दौरान गांव रामपुरा बिश्नोईयां से दो युवको को 20 ग्राम हेरोइन के साथ काबू किया है। पकड़े गए युवको की पहचान अरविंद्र सिंह पुत्र मुकेश व रविंद्र कुमार पुत्र सुभाष चंद्र निवासियान जंडवाला बिशनोईया के रुप में हुई है । इस संबंध में जानकारी देते हुए सीआईए डबवाली प्रभारी इंस्पैक्टर कुलदीप सिंह ने बताया कि पकड़े गए युवकों से सप्लायर के बारे में नाम पता मालूम कर तीन लोगों के खिलाफ थाना सदर डबवाली में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज कर सप्लायर की तलाश शुरु कर दी है  । उन्होने बताया कि सीआईए डबवाली पुलिस टीम के सहायक उप निरीक्षक जागर सिंह के नेतृत्व में एक पुलिस टीम गश्त व चैकिंग के दौरान रामपुरा बिशनोईया क्षेत्र में मौजुद थी । इसी दौरान सामने से आ रहे युवकों ने पुलिस पार्टी को देखकर वापिस मुड़कर भागने की कोशिश की तो शक के बिनाह पर उक्त दोनो युवको को काबू  कर उनकी तलाशी लेने पर उनके कब्जा से 20 ग्राम हेरोइन बरामद हुई ।  वही एक अन्य घटना में सीआईए डबवाली पुलिस टीम ने गश्त व चैकिंग के दौरान गांव पन्नीवाला मोरिंका क्षेत्र से तीन युवको को 12 ग्राम हेरोइन के साथ काबू किया है । पकड़े गए युवको की पहचान मेवा सिंह पुत्र गुरमित सिंह , किरणदीप सिंह जुगनू पुत्र काका सिंह व गुरप्रीत सिंह पुत्र जगसीर सिंह निवासियान पन्नीवाला मोरिकां के रुप में हुई है । सीआईए डबवाली प्रभारी इंस्पैक्टर कुलदीप सिंह ने बताया कि पकड़े गए युवकों से सप्लायर के बारे में नाम पता मालुम कर चार लोगों के खिलाफ थाना सदर डबवाली में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज कर सप्लायर कि तलाश शुरु कर दी है। उन्होने बताया कि सीआईए डबवाली पुलिस टीम के सहायक उप निरीक्षक सुरेश कुमार के नेतृत्व में एक पुलिस टीम गश्त व चैकिंग के दौरान पन्नीवाला मोरिंका क्षेत्र में मौजूद थी । इसी दौरान सामने से आ रहे युवकों ने पुलिस पार्टी को देखकर वापिस मुड़कर भागने की कोशिश की तो शक के बिनाह पर उक्त तीनों युवको को काबू  कर उनकी तलाशी लेने पर उनके कब्जा से 12 ग्राम हेरोइन बरामद हुई।  पकड़े गए युवकों को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान हेरोइन तस्करी के इस नेटवर्क से जुडे अन्य लोगो के बारे में नाम पता मालूम कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

आगामी 12 जनवरी को मनाया जाएगा ‘’राष्ट्रीय युवा दिवस’’

इसी दिन मुख्यमंत्री हरियाणा युवाओं से विडियो कोन्फ्रैसिंग के माध्य से विचार विमर्श करेगेंसिरसा। जिला पुलिस द्वारा स्थानीय प्रशासन के सहयोग से जिला स्तर पर राष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाएगा । स्वामी विवेकान्द के जन्म दिन 12 जनवरी को हर वर्ष विभिन्न गतिविधियो के माध्य से युवा दिवस मनाया जाता है। जिला पुलिस द्वारा इस संबधं में तैयारीयां शुरु कर दी गई है और सभी  थाना प्रभारीयों को निर्देश दिये गए है कि वे अपने-अपने थाना क्षेत्रों में जाकर लोगों से सम्पर्क कर जिला पर मनाये जाने वाले राष्ट्रीय युवा दिवस पर ज्यादा लोगों को भाग लेने के लिए आमंत्रित करें। राष्ट्रीय युवा दिवस पर आयोजित रन फार यूथ में भाग लेने के लिए 3 जनवरी से 9 जनवरी तक website www.nationalyouthday.in पर रजिस्ट्रेशन कर सकते है । हरियाण सरकार राष्ट्रीय दिवस पर जिला मुख्यालयों  व अन्य स्थानो पर 3,5 व 10 किलोमीटर दूरी का ‘’रन फार यूथ’’ का आयोजन कर रही है थीम होगा ‘’यूथ फार नेशन’’ । इसी दिन 10 बजे ‘’यूथ टाऊनहाल’’ भी होगा जिसमें माननीय मुख्यमंत्री हरियाणा उच्च नेतृत्व क्षमता वाले प्रत्येक जिले के 300 किशोरो और नवयुवकों से विडियो कोन्फ्रैसिंग के माध्य मे विचार विमर्श करेगें ।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

पंजाब व चंडीगढ़ का निरंकारी यूथ सिम्पोजियम का समापन पंचकुला

पंचकुला 6 जनवरी, 2020: – 

पंजाब व चंडीगढ़ का निरंकारी यूथ सिम्पोजियम का समापन पंचकुला

(पंजाब) सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज की असीम कृपा से पंजाब व चंडीगढ़ के निरंकारी यूथ सिम्पोजियम का समापन पंचकुला के सेक्टर -5 स्थित शालीमार ग्राउंड में सम्पन्न हुआ।

पंजाब व चंडीगढ़ का निरंकारी यूथ सिम्पोजियम का समापन पंचकुला

            इस अवसर पर सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज ने सभी निरंकारी युवाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि – सत्संग, सेवा और सुमिरण यह केवल 3 शब्द बनकर न रह जाये। इसे हम हमारी रोज़मर्रा कि जिंदगी में ऐसे बसा ले कि हमारा हर पल आनन्द की अवस्था में गुजरे। हम सब इस एक निरंकार प्रभु परमात्मा के हो रहे हैं। हमारा ध्येय केवल इस निराकार प्रभु परमात्मा से आत्मसार हो जाना ही हो जिससे ब्रह्मज्ञान हमारे मन में इस प्रकार से बस जाये कि वह हमारी सोच व जीवन में भी उतर सके।

पंजाब व चंडीगढ़ का निरंकारी यूथ सिम्पोजियम का समापन पंचकुला

            सद्गुरु माता जी ने आगे फरमाया कि इन तीन दिनों में जिसमें पहले दिन खेल व अन्य दो दिन यूथ सिम्पोजियम के माध्यम से जहां पर सभी जन एकत्रित हुए और अपनी-अपनी कलाओं का प्रदर्शन किया जिससे यहीं भाव निकलता है कि हमने व्यक्तिगत तौर पर ही श्रेष्ठ नहीं बनना, अपितु अपने बुजुर्गों के मार्गदर्शन व उनकी शिक्षाओं का सानिध्य लेकर जीवन को जीना है।

            निरंकारी यूथ सिम्पोजियम के दूसरे दिन तीन तत्वों वायु, आकाश व जीव को विभिन्न कलाओं व संवाद के सहयोग से दर्शाया गया जिसमें बाबा हरदेव सिंह जी के विचार ‘‘नफरत करने वाले से ईष्या न करें, बल्कि जिनके लिए भी नफरत के भाव मन में पनपते हैं, उनकी सूची बनाकर उसे समाप्त करने पर बल देना है।

            यह विचार भी उभरकर आया कि आज पदार्थों की अंधी दौड़ में हमारी जीवन यात्रा प्रभु परमात्मा  की ओर जाने की बजाए सांसारिक  पदार्थों की और जा रही  है।

 अपनी ज़रूरतों को पूरा करने में कहीं हम प्रभु भक्ति से दूर न हो जाएं, जिसके लिए हमें यह मनुष्य जीवन प्राप्त हुआ है। दुनियावी कार्य करते हुए भी प्रभु सुमिरण में एकमिक होकर सत्संग, सेवा व सुमिरण को प्राथमिकता दें। 

गाँधी जी के सिद्धांतों का भी उल्लेख हुआ जिसमें ‘‘बुरा न देखें, बुरा न कहें व बुरा न सुने‘‘ पर ज़िक्र हुआ और इन सबमें सबसे अधिक ज़ोर दिया कि ‘‘बुरा न सोचें।“ जब सोच अच्छी होगी तो ऐसा कोई कर्म ही नहीं हो पायेगा।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

गांव के हर घर में पेयजल कनैक्शन पंहुचाना हमार लक्ष्य- उपायुक्त

पंचकूला, 06 जनवरी- उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने प्रधानमंत्री के जल जीवन मिशन के तय लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को तत्परता से कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि जिला में शत-प्रतिशत घरों में पेयजल आपूर्ति पहुंचाने का लक्ष्य प्रदेश सरकार द्वारा दिए गए लक्ष्य से पहले ही प्राप्त किया जाए। इसके लिए जिला स्तर के अधिकारी से लेकर ग्राम स्तर के कर्मचारी तक अपनी जिम्मेदारियों के निर्वहन में जुट जाएं।


उन्होंने बताया कि ग्रामीणों को 500 रुपये सिक्योरटी में पेयजल कनेक्शन दिए जा रहे है। अगर ग्रामीण 500 रुपये की सिक्योरटी देने में असमर्थ है तो 500 रुपये इकटठे ना देकर हर माह 10 रुपये देकर पेयजल कनेक्शन ले सकता है। पानी के बिना जीवन संभव नहीं है। जिला के गांव के हर घर तक में पेयजल कनैक्शन पंहुचाना हमार लक्ष्य है।


इस बैठक में डीडीपीओ कुवर दमन सिंह, जनस्वास्थ्य विभाग के अधीक्षक अभियंता विकास लाठर, एक्सईएन संदीप कुमार मौजूद थे।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

रन फॉर यूथ-यूथ फॉर रन 12 को, उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने दिए अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश।

पंचकूला, 06 जनवरी- उपायुक्त मुकेश कुुमार आहूजा ने जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा सरकार की ओर से 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर युवा शक्ति को जागृत करने के उद्देश्य से रन फॉर यूथ-यूथ फॉर रन मैराथन व इसके पश्चात् पीडब्ल्यूडी के सभागार में विडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री के साथ सीधा संवाद कार्यक्रम रखा गया है। श्री आहूजा लघु सचिवालय के समीति कक्ष में रन फॉर यूथ-यूथ फॉर रन मैराथन की तैयारियों को लेेकर अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।


उन्होंने ने बताया कि इस मैराथन में क्रमशः 3, 5 व 10 कि.मी. की दौड़ होगी। कार्यक्रम में जहां युवाओं को सामाजिक जिम्मेवारी के साथ आगे बढने के लिए प्रेरित किया जाएगा वहीं मुख्यमंत्री का शुभ संदेश युवा वर्ग में नई ऊर्जा का संवार करेगा। रन फार यूनिटी में मुख्यमंत्री राज्य के सभी जिलों में युवाओं से सीधा संवाद भी करेंगे।


रन फॉर यूथ-यूथ फॉर रन की तैयारियों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मैराथन के लिए पंजीकरण आरंभ हो चुका है और उम्मीद है कि हजारों युवा इस मैराथन में भागीदारी करेंगे। इसके लिए डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यूडोटनेशनलयुथडेडोटईन वेब साईट पर अपना पंजीकरण किया जा सकता है। कार्यक्रम के आयोजन को लेकर जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग, युवा क्लबों, तथा संबधित विभागों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वे इसमें ज्यादा से ज्यादा लोगों विशेष कर युवाओं व अन्य सामाजिक संगठनों को भी भागीदार बनाया के लिए प्रोत्साहित करें। उन्होंने संबधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में उपल्बिधी प्राप्त करने वाले युवाओं, जनप्रतिनिधियों और स्वंय सहायता समूहों के युवाओं को मुख्यमंत्री के साथ होने वाले सीधे संवाद वाले कार्यक्रम में आंमत्रित करें।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

अतिरिक्त उपायुक्त एवं जनगणना की नोडल अधिकारी मनिता मालिक 2021 में की जाने वाली जनगणना के अंर्तगत बैठक में अधिकारियों को संबोधित करते हुए।

अतिरिक्त उपायुक्त एवं जनगणना की नोडल अधिकारी मनिता मालिक 2021 में की जाने वाली जनगणना  के अंर्तगत बैठक में अधिकारियों को संबोधित करते हुए।

पंचकूला, 06 जनवरी- अतिरिक्त उपायुक्त एवं जनगणना की नोडल अधिकारी मनिता मालिक की अध्यक्षता में जिला के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र में वर्ष 2021 में की जाने वाली जनगणना की तैयारियों को लेकर बैठक हुई। बैठक में उन्होंने बताया कि पहली बार जनगणना डिजिटल रूप से की जा रही है, जिसमे मोबाइल-एप के माध्यम से सभी आंकडो को संकलित किया जाएगा। इस नई तकनीक के प्रयोग से एकत्रित आंकडे तेजी से एवं सटीकता से संकलित होंगे। जनगणना आंकड़ों को निर्धारित समय में जारी किया जा सकेगा। जनगणना कार्य के सुगमतापूर्वक संचालन के लिए सभी प्रशासनिक अधिकारियों व कर्मचारियों को दिनांक 31 दिसम्बर 2019 को तैनात कर दिया गया है। इसके पश्चात् जनगणना कार्य की समाप्ति तक प्रशासनिक अधिकारियों व कर्मचारियों की डयूटीयों में कोई भी बदलाव नहीं किया जाएगा।


अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा 2021 की जनगणना के मुख्यजनगणना अधिकारी होंगे। जनगणना दो चरणों में होगी। प्रथम चरण में मकानों की जनगणना का कार्य 1 मई, 2020 से 15 जून, 2020 तक किया जायेगा। जनगणना के दूसरे चरण में जनसंख्या की गणना का कार्य 9 फरवरी, 2021 से 28 फरवरी, 2021 तक पूरा किया जाएगा।

इसके पश्चात् रिवीजनल राउंड कार्य 01 मार्च, 2021 से 05 मार्च, 2021 तक पूरा किया जायेगा।


उन्होंने बताया कि ग्रामीणों क्षेत्र मे जनगणना के लिए सम्बधित तहसीलदार और शहरी क्षेत्र में नगर निगम के ईओ को चार्ज अधिकारी नियुक्त किया जायेगा। पंचकूला के सुरक्षा क्षेत्र वाले आईटीबीपी, टीबीआरल, चंडीमंदिर और एचएमटी इलाको के लिए निदेशक जनगणना द्वारा 10 विशेष चार्ज अधिकारी नियुक्त होंगे। उन्होंने बताया कि 2021 की जनगणना को सुचारू रूप से करने के लिए 2 मास्टर ट्रेनर, 1500 गणनाकार और 260 सुपरवाइजर की नियुक्ती की जायेंगे ।
इस बैठक में डीआरओ रामफल कटारिया, तहसीलदार विरेन्द्र गिल, एडीआईओ आस्था एवं जनगणना विभाग के अधिकारी मौजूद थे।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

किसान आय बढ़ोतरी के लिए बागवानी को अपनाएं : दलाल

सिरसा, 6 जनवरी।


            किसान गेहूं, धान, कपास जैसी परंपरागत खेती से न तो अधिक उत्पादन ले सकता है और न ही अधिक मूल्य लिया जा सकता है। इसके साथ-साथ आधुनिक खेती, बागवानी व अन्य खेती से जुड़े व्यवसाय को अपनाकर अपने आय में बढोतरी कर सकता है। प्रदेश सरकार इस दिशा में किसानों को प्रेरित करने के लिए अनेकों योजनाएं लागू कर रही है, ताकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के किसान की आय दोगुनी के लक्ष्य को निर्धारित समय से पहले पूरा किया जा सके।


            यह बात कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जेपी दलाल ने सोमवार को जिला बागवानी कार्यालय में आधुनिक गुणवत्ता नियंत्रण प्रयोगशाला का उद्घाटन करने के दौरान कही। इस दौरान उन्होंने प्रयोगशाला में उपलब्ध सभी सुविधाओं व व्यवस्थाओं का बारिकी से निरक्षण किया तथा अधिकारियों से जानकारी ली। इस अवसर पर पूर्व विधायक मक्खन लाल सिंगला, भाजपा के वरिष्ठ नेता जगदीश चौपड़ा,भाजपा नेत्री रेणू शर्मा, एसडीएम जयवीर यादव, मिशन निदेशक हरियाणा राज्य बागवानी विकास मिशन डा. बी.एस सहरावत, जेडीएस डा. धर्म सिंह यादव, सहित किसान व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। मंत्री के यहां पहुंचने पर पुलिस की टुकड़ी ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया तथा अधिकारियों व गणमान्य व्यक्तियों ने फूल-मालाओं के साथ स्वागत किया।


            कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि किसान को अपनी परंपरागत खेती के साथ-साथ बागवानी को भी तरजीह देनी होगी, ताकि वह अपनी आय में बढोतरी कर सके। गेंहू, कपास, धान जैसी फसलों से किसान न तो अधिक उत्पादन ले सकता है और न ही अधिक मूल्य प्राप्त कर सकता है। इसके अलावा पशुपालन, मच्छली पालन आदि व्यवसाय को भी अपनाकर किसान आर्थिक रूप से सुदृढ हो सकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों को बागवानी की ओर अग्रसर करने के उद्ेश्य से अनेकों योजनाएं क्रियान्वित कर रही है। इसी कड़ी में यह आधुनिक गुणवता नियंत्रण प्रयोगशाला किसानों के लिए नये साल के तोहफे के रूप में समर्पित की गई है। राज्य के किसान इस प्रयोगशाला से लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि अधिक फर्टिलाइजर व पेस्टिसाइड के होने से अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में हमारे प्रोडेक्ट स्वीकृत नहीं हो पाते हैं। प्रयोगशाला में किसान अपने फल व सब्जियों के उक्त कंटेंट को कम करके अपने प्रोडेक्ट की अच्छा मूल्य प्राप्त कर सकेंगे।


            उन्होंने कहा कि हमारे यहां फसलों में बहुत अधिक फर्टिलाईजर, पैस्टिसाइड आदि कीटनाशक दवाओं का प्रयोग हो रहा है, जोकि न केवल भूमि की उर्वरा शक्ति को खत्म करता है, वहीं कैंसर जैसी भयानक बीमारियों में सहायक हो रहा है। इसलिए किसान भाईयों को प्राकृतिक खेती की ओर प्रेरित करने के लिए प्रदेश सरकार अनेक कदम उठा रही है। इसी कड़ी में विभाग में अलग से प्राकृतिक खेती विंग बनाई गई है, जोकि पदमश्री पारलेकर की विधि पर काम करते हुए किसानों को प्राकृतिक खेती के लिए प्रेरित करेगी। इसके लिए प्रत्येक गांव से एक किसान को प्राकृतिक खेती के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा, जोकि आगे वो अन्य किसानों को इसके लिए प्रशिक्षण देगा।


            डा.बीएस सहरावत ने बताया कि यह प्रयोगशाला राज्य की दूसरी गुणवत्ता नियंत्रण प्रयोगशाला है। प्रयोगशाला का उद्ेश्य फल व सब्जियों के नमूने में कीटनाशक अवशेषों की उपलब्धता की जांच, कीटनाश अवशेषों की मोनटरिंग के साथ-साथ किसानों को कीटनाशक दवाओं का समुचित उपयोग व प्रबंधन के लिए जागरूक करना है। उन्होंने बताया कि 194 लाख रुपये की लागत से स्थापित इस प्रयोगशला का राज्य के किसानों को लाभ होगा और किसानों को उनके फल व सब्जियों में प्रयोग किए जा रहे फर्टिलाइजर व पेस्टिसाइड के मात्रा का पता चलेगा। जिससे किसानों को अहसास होगा कि उन द्वारा किए जा रहे कीटनाशक दवाओं के प्रयोग से स्वास्थ्य व भूमि की कीतनी हानी हो रही है।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

कृषि यंत्रों का भौतिक सत्यापन 8 व 9 को

सिरसा, 6 जनवरी।


                      कृषि विभाग की सीआरएम योजना के तहत जिन किसानों ने वर्ष 2019-2020 के दौरान कृषि यंत्र अनुदान पर लिए है उन किसानों के पराली प्रबंधन कृषि यंत्रों का भौतिक सत्यापन 8 व 9 जनवरी को किया जाएगा।


                      यह जानकारी देते हुए सहायक कृषि अभियंता धर्मवीर सिंह यादव ने बताया कि 8 जनवरी को प्रात: 10 से सांय 5 बजे तक खंड सिरसा, ऐलनाबाद, नाथूसरी चौपटा, रानियां, बड़ागुढा के किसान अपने कृषि यंत्रों का भौतिक सत्यापन उप निदेशक कृषि सिरसा कार्यालय में तथा खंड औढां व डबवाली के किसान 9 जनवरी को उपमंडल कृषि अधिकारी डबवाली कार्यालय में प्रात: 10 से सांय 5 बजे तक अपने कृषि यंत्रों का भौतिक सत्यापन करवा सकते हैं।


                      उन्होंने बताया कि वर्ष 2019-20 में सीआरएम स्कीम के तहत फसल अवशेष प्रबंधन के कृषि यंत्रों जैसे सुपर स्ट्रा मैनेजमेंट सिस्टम, हैप्पी सीडर, पैडी स्ट्रा चौपर/ श्रेडर / मल्चर, शर्ब मास्टर / कट्टर कम स्प्रेडर, रिवर्सिबल एमबीप्लो, रोटरी स्लेशर, जीरो टिल ड्रिल मशीन, रोटावेटर व समैम स्कीम के तहत स्ट्रा बेलर यूनिट, हे रेक आदि कृषि यंत्रों पर अनुदान दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिन जिन ग्राम पंचायतों ने स्ट्रा बेलर, हे रेक अनुदान पर लिए हैं, वे भी अपने खंड अनुसार भौतिक सत्यापन करवाए। उन्होंने बताया कि निर्धारित तिथि के उपरांत कोई भी मौका नहीं दिया जाएगा व अनुदान राशि की पात्रता रद्द कर दी जाएगी।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

FDP - Exploring Science and Technology Interconnections

मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने की जल जीवन मिशन की प्रगति की समीक्षा, दिए आवश्यक दिशा निर्देश

सिरसा, 6 जनवरी।

मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने की जल जीवन मिशन की प्रगति की समीक्षा, दिए आवश्यक दिशा निर्देश


                  हरियाणा की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने आज वीडियो कॉफ्रेंस के माध्यम से जिलावार जल जीवन मिशन की प्रगति की समीक्षा की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान उपायुक्त अशोक गर्ग एवं जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकार मौजूद थे।


                      मुख्य सचिव ने कहा कि जल जीवन मिशन केंद्र सरकार की बहुत महत्वपूर्ण योजना है जिसके तहत वर्ष 2022 तक हर घर तक पेयजल कनेक्शन पहुंचाए जाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने बताया कि योजना के तहत अवैध कनेक्शनों को वैध करना, प्रति व्यक्ति प्रतिदिन 55 लीटर पेयजल आपूर्ति करना तथा प्रत्येक घर में जल पहुंचाना मुख्य उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि आपूर्ति किए जाने वाले पेयजल की मात्रा के साथ गुणवत्ता की ओर भी ध्यान दिए जाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि जल जीवन मिशन की प्रगति की समीक्षा स्वयं मुख्यमंत्री भी कर रहे हैं। बैठक में उन्होंने जिलावार योजना की प्रगति की समीक्षा भी की।


                      वीडियो कॉफ्रेंस के उपरांत उपायुक्त अशोक कुमार गर्ग ने बताया कि सक्षम युवाओं के माध्यम से जिला में सर्वे करवाया जा रहा है तथा इसके लिए प्रशिक्षण भी दिया जा चुका है। उन्होंने बताया कि सर्वे में ग्रामीण क्षेत्र में किस गांव में कितने कनेक्शन वैध और कितने अवैध है, यह जानकारी जुटाई जाएगी। इन कनेक्शनों को सर्वे के बाद वैध किया जाएगा। जिला में हाउस होल्ड सर्वे का कार्य 95 प्रतिशत पूरा हो चुका है शेष को जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिला में 62 प्रतिशत घरों के कनेक्शन स्वीकृत है शेष घरों का एफएसटीसी के माध्यम से जल्द ही स्वीकृत किए जाएगा।


                      उन्होंने बताया कि जिला में 337 गांवों में ग्राम जल एवं सीवरेज कमेटियों बनाई जा चुकी है जिसमें प्रत्येक कमेटी में 11 सदस्य शामिल है। इन कमेटियों में 50 प्रतिशत महिलाओं को शामिल किया गया है। उन्होंने बताया कि कमेटी में चेयरमैन सरपंच, सदस्य आशावर्कर, आंगनवाड़ी वर्कर, महिला मंडल की प्रधान, साक्षर महिला समूह, महिला पंच, पुरुष पंच, चोकीदार,जनस्वास्थ्य व पंचायती राज विभाग के जेई व ग्राम सचिव बतौर कनवेनर कार्य करेंगे। उन्होंने बताया कि जिन गांवों में कनेक्शन या पाइपलाइन नहीं पहुंची है उनका विभाग द्वारा एस्टीमेट बना कर कार्य किया जाएगा। इसके अलावा जल एवं स्वच्छता सहायक संगठन द्वारा पंचायतों को उनकी भूमिका व कर्तव्यों के  बारे में जागरूक किया जाएगा ताकि प्रत्येक घर में कनेक्शन वैध किया जा सके तथा जल सप्लाई सुचारु की जा सके।

उन्होंने बताया कि जिला में तीन चरणों में विशेष अभियान के तहत शत-प्रतिशत घरों में पेयजल आपूर्ति करने का लक्ष्य प्राप्त करने की कार्ययोजना तैयार की गई है।


                      वीडियो कॉफ्रेंस में अधीक्षक अभियंता जनस्वास्थ्य विभाग प्रदीप पूनिया, कार्यकारी अभियंता होशियार सिंह, तरुण गर्ग, जिला सलाहकार डब्ल्यूएसएसओ राकेश सोगलान सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!