Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

Two Day National Conference on ‘Draft New Education Policy 2019’ starts at Panjab University

16th July 2019, Chandigarh :

“Better connect between primary and higher education,stress on values and ethics, industry oriented quality education are the key essentials to ponder over as we contribute towards the New Education Policy” said Prof. Raj Kumar, Vice Chancellor, Panjab University as he delivered the inaugural address at a two day national conference titled ‘ Draft New Education Policy(DNEP) 2019 : A Way Ahead’ at PU.  Organized by Centre for Academic Leadership and Education Management (CALEM) and Department of Education, PU, under the aegis of Pandit Madan Mohan Malaviya National Mission on Teachers and Teaching (PMMMNMTT), Ministry of Human Resource Development, GOI, the two day event has experts deliberating on the draft of the New Education Policy 2019 with special focus on reforms in Governance and Governance Structures.

Prof. Latika Sharma, Chairperson, Dept. of Education, welcomed the guests.


 Presenting the theme paper at the inaugural session of the conference, Prof. Nandita Singh,DIS said that international
organizations like UNESCO, World bank have highlighted that education should enable students to develop cognitive skills and the draft of New Education Policy 2019 goes further by emphasising that along with cognitive skills there is a need to develop social and emotional skills, recognising the need to conceive education in a more encompassing manner. She also said that the DNEP provides a framework for the transformation and reinvigoration of the education system in order to respond to the requirements of fast-changing, knowledge-based societies while taking into account the diversity of the Indian people  Prof. Jatinder Grover, Coordinator, CALEM presented the vote of thanks.

            The first technical session for the day focused on school and teacher education. The session was chaired by Prof. Lalit Kumar Awasthi, Director, NIT Jallandhar. The panellists included Prof, Krishna Kumar, Former Director NCERT; Prof. Sudesh Mukhopadhyay, Former Chairperson, Rehabilitation Council of India, Prof. Keya Dharamvir and Prof. Kuldip Puri.

            The second session for the day focused on Higher Education. The session was chaired by Prof. Arvind, Director, IISER. He spoke about the multiple entry and exit points that the draft of New Education Policy focuses on, which gives an opportunity to switch between academics and job. The panellists for the session included Dr. Dalip Kumar , Dr. Jayanti Dutta and Prof. Yojna.

 The third session of the conference focused on Professional and Technical Education. Prof Patnaik the Director of NITTR asked the participants to read between the lines and appreciate the vision of the document which is taking education system to a different level so as to address future challenges.

            The second day of the conference will focus on Governance and Administration of Education and Research, and will include a roundtable discussion and compilation of recommendations.

            The two day conference assumes significance as it is an effort in contributing towards country’s first education policy of the 21st century. “The aim of this conference is to bring together various stakeholders and prepare a compendium of recommendations on DNEP 2019.The registration for the conference is open for administrators of
educational institutes, teacher educators and teachers from schools as well as higher education institutes” informed Prof. Nandita Singh and Prof. Latika Sharma, Program Coordinator for the two day conference.

Watch This Video Till End…

Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

PU

Chandigarh July 16, 2019

Prof. Raj Kumar, Vice Chancellor, Panjab University, Chandigarh visited Sophisticated Analytical Instrumentation Facility (SAIF)/CIL and Department of Computer Science & Application of Panjab University, Chandigarh. It was a routine round of PU VC where he checked the instruments and appreciated the whole set up of SAIF/CIL. He assured them of addressing issues relating to manpower. He directed Sh. R.K. Rai, XEN, PU to plug the issue of water logging and leakage at the basement of both the buildings.

Watch This Video Till End….

बी प्याज की खेती को प्रोत्साहन देने के लिए प्याज के बीज पर 500 रुपये प्रति किलोग्राम अनुदान : उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण

Departments Course Date Time Venue

Chandigarh July 16, 2019

Department of Library & Information Science     Bachelor of Library & Information Science (B.Lib.I.Sc.)   22nd July, 2019 (Monday)        9.30 a.m. Department of Library & Information Science, Arts Block No. IV, Panjab University, Chandigarh
Centre for Systems Biology & Bioinformatics     M.Sc. 2 Year Course     22nd July, 2019 (Monday)   10.00 am Chairman Room, Centre for Systems Biology & Bioinformatics, South Campus, Sector-25, Panjab University, Chandigarh
Department of Ancient Indian History Culture & Archaeology, Panjab University, Chandigarh 

M.A. Ist Semester       22nd July, 2019 (Monday)        10.00 am        

Chairperson Room of the DepartmentDepartment of Computer Science & Applications, Panjab University, Chandigarh, Panjab University Regional Centre, (PURC)  Muktsar and Panjab University Regional Centre, (PURC) PURC Hoshiarpur  1st  Sem M.Sc. (Hons. School)

1st  Sem MCA (General Category)

1st  Sem MCA (Reserved Category)        23.7.2019

24.7.2019

25.7.2019       9:00 a.m.

9.00 a.m.

9.00 a.m.       Department of Computer Science & Applications, Panjab University, 
Chandigarh

Note: All candidates are required to bring their downloaded admission forms, original 
certificate/documents and must report one hour before the scheduled time.

Watch This Video Till End….

Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

Physical Efficiency Test for admission to B.P.Ed. and M.P.Ed.

Chandigarh July 16, 2019

Physical Efficiency Test for admission to B.P.Ed. and M.P.Ed. Courses will be held on 23.7.2019 at 7.30 A.M. at Panjab University Ground.Further, the interview/counseling for the qualified candidates of Physical Efficiency Test will be held on the same day at 2.00 P.M. in the Department of Physical Education, Arts Block-II, Panjab University, Chandigarh.


Watch This Video Till End….

Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

PU

Chandigarh July 16, 2019

 The Centre for IAS & Other Competitive Examinations, Panjab University Chandigarh is going to start a fresh batch for the Coaching Classes for IAS(Preliminary) examinations .The last date for submission of Admission form is 18th 
July 2019. The Admission will be based on test will be held on 19th  July 2019. The Classes will commence from 8th  August 2019. For More details contact office 0172-278156 or see the website: http:/iasc.puchd.ac.in.  

Watch This Video Till End….

Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

गुरू नानक जी के प्रकाशोत्सव पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में उमड़ेगी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ : चौपड़ा

सिरसा, 16 जुलाई।

हरियाणा पयर्टन निगम चेयरमैन जगदीश चौपड़ा ने समारोह के प्रबंधों बारे समाज के गणमान्य व्यक्तियों के साथ की बैठक


                हरियाणा पर्यटन निगम के चेयरमैन जगदीश चोपड़ा ने कहा कि भारत की धरती में अनेकों महापुरूष हुए हैं, जिनके संदेश व वाणी आज भी समाज सुधार की दिशा में प्रभावी रूप से प्रासांगिक हैं। ऐसे ही महापुरूष थे, गुरू नानक देव जी। गुरू नानक देव जी के समाज को दिए संदेश आज भी हमें इंसानियत, भाईचारा व प्रेम के मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करते हैं। इन्हीं संदेशों व विचारों को जन-जन तक पहुंचाने के उद्ेश्य से प्रदेश सरकार ने गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य में सिरसा में राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन करने बारे ऐतिहासिक निर्णय लिया है।

 वे आज राज्य स्तरीय समारोह के सफल आयोजन के संबंध में समाज के गणमान्य व्यक्तियों के साथ गुरू नानक पब्लिक स्कूल में बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान सिख समाज के गणमान्य व्यक्तियों के साथ-साथ विभिन्न गुरूद्वारों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। बैठक में समारोह के आयोजन की व्यवस्थाओं, प्रबंधों आदि बारे चर्चा की गई।

   श्री चौपड़ा ने कहा कि गुरु नानक देव जी महाराज के 550वीं जयंती के उपलक्ष्य में सिरसा में आयोजित होने वाले राज्य स्तरीय समारोह में देश व प्रदेश के कोने-कोने से लाखों की तादाद में साध संगत पहुंचेगी। इसलिए समारोह की सभी तैयारियां समयावधि में पूरी करनी होगी। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा श्री गुरु नानक देव जी का 550वां जन्मोत्सव को बड़े श्रद्धा, धूमधाम और उत्साह से मनाया जा रहा है। इस समारोह में किसी भी प्रकार की कोई कमी न हो इसके लिए कमेटियां बनाई गई है, प्रत्येक कमेटी अपने निर्धारित कार्य को पूरी जि मेवारी व निष्ठा से करेंगी। इनमें स्वागत समिति,प्रबंधन समिति,सेवादारों की ड्यूटियां व अन्य आवश्यक प्रबंध शामिल है। 

उन्होंने कहा कि इस राज्य स्तरीय समारोह का उद्देश्य है कि गुरु नानक देव जी महाराज के कथनों को जन-जन तक पहुंचाया जाए ताकि लोगों में भाईचारा व प्रेम भाव की भावना जागृत हो और हमारा देश व समाज सही दिशा में आगे बढे। इस बैठक में इस बैठक में बाबा गुरपाल जी चोरमार साहब, बाबा प्रीतम जी मलड़ी, बाबा प्रेम सिंह, बाबा शिवानंद  केवल, बाबा गुरमीत सिंह तिलोकेवाला, बाबा अजीत सिंह कार सेवा वाले, बाबा कश्मीर सिंह, बाबा नरेंद्र सिंह, बाबा हरप्रीत सिंह, बाबा हरदास, बाबा जग्गा सिंह, सुरेंद्र सिंह वैदवाला, महेंद्र सिंह वधवा, परमजीत अहरवा, भगत सिंह, हरमिंद्र सिंह सहित अनेक समाजसेवी शर्मा व गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

Watch This Video Till End….

Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

कालका की विधायक श्रीमती लतिका शर्मा सेंट विवेकानंद स्कूल एचएमटी पिंजौर में पौधागिरी कार्यक्रम के तहत पौधारोपण करते हुए।

पंचकूला, 16 जुलाई-

कालका की विधायक श्रीमती लतिका शर्मा सेंट विवेकानंद स्कूल एचएमटी पिंजौर में पौधागिरी कार्यक्रम के तहत पौधारोपण करते हुए।

कालका की विधायक श्रीमती लतिका शर्मा ने बच्चों को आह्वान किया कि वे पौधागिरी कार्यक्रम में लगाये गये पौधों की बड़े होने तक देखभाल करें। उन्होंने कहा कि ये पौधे न केवल पर्यावरण सुरक्षा में मददगार साबित होंगे बल्कि बच्चों के लिये भी जीवनभर एक यादगार के तौर पर स्थापित रहेंगे।

श्रीमती शर्मा आज सेंट विवेकानंद स्कूल एचएमटी पिंजौर में पौधागिरी कार्यक्रम के तहत पौधारोपण करने उपरांत विद्यार्थियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस मौके पर छठीं से बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियांें को अपने घर आंगन में पौधे लगाने के लिये वन विभाग की ओर से पौधे भी वितरित किये।

विधायक ने कहा कि विकास के साथ साथ पर्यावरण की सुरक्षा भी जरूरी है और पर्यावरण की सुरक्षा का सबसे बेहतर माध्यम अधिक से अधिक पौधारोपण हैं। पौधों से जहां वातावरण हरा भरा रहता है वहीं ओद्यौगिक विकास, बढते परिवहन के कारण पर्यावरण में प्रदूषण की मात्रा को बढ़ने से भी रोका जा सकता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा पौधारोपण कार्यक्रम के साथ बच्चों को जोड़ने के लिये पौधागिरी कार्यक्रम आरंभ किया गया है और उसके काफी सार्थक परिणाम भी आये है। 

इस कार्यक्रम में उप जिला शिक्षा अधिकारी सुनीता नैन, स्कूल के प्रिंसीपल पीयूष कुंज, स्कूल के अध्यापक, वन विभाग के अधिकारी व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Watch This Video Till End….

Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

जलशक्ति अभियान के तहत आज जिला सचिवालय के बैठक हाल में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।

पंचकूला, 16 जुलाई-

जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुश्री निशु सिंगल कार्यशाला में उपस्थित जनप्रतिनिधियों और ग्राम सचिवों को संबोधित करते हुए।

जलशक्ति अभियान के तहत आज जिला सचिवालय के बैठक हाल में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला की अध्यक्षता जिला परिषद की चेयरपर्सन श्रीमती रितु सिंगला ने किया और कार्यक्रम में जिला परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुश्री निशु सिंगल सहित अन्य संबंधित अधिकारी शामिल थे।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने कार्यशाला में उपस्थित जनप्रतिनिधियों और ग्राम सचिवों को संबोधित करते हुए कहा कि लोगों को जल संरक्षण के प्रति जागरूक करें। उन्होंने कहा कि ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में तलाबों के जीर्णोद्धार के लिये कार्य योजना तैयार की जा रही है ताकि वर्षा के पानी का संग्रह करके वाॅटर रिचार्जजिंग को बढ़ावा दिया जा सके। उन्होंने कहा कि घटता जल स्तर चिंता का विषय है और इसके लिये प्रशासन व नागरिक मिलकर जल संरक्षण के लिये प्रयास करें। 

उन्होंने कहा कि पहाड़ी क्षेत्रों में जहां वाॅटर शैड इत्यादि के माध्यम से जल संरक्षण की संभावना है, उसके लिये भी संबंधित विभागों के माध्यम से प्रयास किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत प्राकृतिक जल स्त्रोतों को सुरक्षित करने के अलावा जागरूकता गतिविधियों पर विशेष बल दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि जहां किसानों को कम सिंचाई वाली फसलें उगाने के लिये सरकार द्वारा जल ही जीवन है कार्यक्रम चलाया गया है वहीं घरों और संस्थानों में प्रतिदिन प्रयोग होने वाले जल की बचत के लिये भी जागरूकता जीवन है। उन्होंने कहा कि भावी पीढ़ियों के लिये जल के पर्याप्त भंडारण के लिये आज से जल संरक्षण पर ध्यान देने की आवश्यकता है। 

इस कार्यशाला में सिंचाई विभाग के अधिकारी अभियंता संदीप कुमार, पंचायती राज विभाग के कार्यकारी अभियंता अशोक श्योकंद, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी डाॅ. दलजीत सिंह, सहायक भूमि संरक्षण अधिकारी राहुल बढकोटिया, परियोजना अधिकारी राजेंद्र कुमार सहित अन्य अधिकारियों ने भी प्रतिभागियों को जलशक्ति अभियान के अलग अलग पहलुओं की जानकारी दी।  

Watch This Video Till End….

Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

ज्ञानचंद गुप्ता ने बताया कि नगर निगम पंचकूला द्वारा 21 जुलाई को प्रातः 6 बजे काॅम स्केयर सेक्टर-5 पंचकूला से वाकाथन कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा।

पंचकूला, 16 जुलाई-

विधायक एवं मुख्य सचेतक ज्ञानचंद गुप्ता ने बताया कि नगर निगम पंचकूला द्वारा 21 जुलाई को प्रातः 6 बजे काॅम स्केयर सेक्टर-5 पंचकूला से वाकाथन कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि जिला ओलंपिक एसोसियेशन और स्पोर्टस प्रमोशन सोसायटी के सहयोग से आयोजित किये जाने वाले इस वाकाथन का विषय स्वच्छ पंचकूला, स्वस्थ पंचकूला और सुंदर पंचकूला रखा गया है। 

उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में हजारों की संख्या में पंचकूलावासी शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में राज्य सरकार की ओर से विशिष्ठ अतिथियों को आमंत्रित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि वाकाथन में शामिल हजारों प्रतिभागी शहरवासियों को पंचकूला शहर को स्वच्छ रखने, शहरवासियों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने तथा पंचकूला की सुंदरता को और अधिक बढ़ाने का संदेश देंगे। 

Watch This Video Till End….

Ayushmann Khurrana in Times 100 Most Influential List

अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने बताया कि 7वें आर्थिक जनगणना के लिये जिला स्तरीय समन्वय समिति गठित की गई है।

पंचकूला, 16 जुलाई-

अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने बताया कि 7वें आर्थिक जनगणना के लिये जिला स्तरीय समन्वय समिति गठित की गई है। उन्होंने बताया कि इस समिति के चेयरमैन जिला उपायुक्त होंगे जबकि अतिरिक्त उपायुक्त, एसडीएम पंचकूला व कालका, नगर निगम आयुक्त, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी, जिला उद्योग केंद्र के प्रतिनिधि, काॅमन सर्विस सेंटर के जिला प्रबंधक, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी और जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी समिति के सदस्य होंगे। 

For Sale

उन्होंने बताया कि प्रक्रिया आरंभ हो चुकी हैं और यह कार्य काॅमन सर्विस सेंटर के माध्यम से रखें गये गणकों द्वारा एक विशेष एप्प से किया जायेगा। उन्होंने बताया कि सर्वें का यह कार्य शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के विभिन्न विभागों की आॅन लाईन सेवाओं के लिये स्थापित किये गये काॅमन सर्विस सेंटर के माध्यम से किया जायेगा और इन सेंटरों के संचालकों को इस कार्य के सुपरवाईजर बनाया गया है। वे अपने क्षेत्र में आर्थिक जनगणना के लिये गणक रखेंगे, जो घर-घर जाकर आवासिय और व्यवसायिक कार्यों का डाटा एकत्रित करेंगे। उन्होंने बताया कि इस आर्थिक जनगणना के दौरान उद्योग, कुटीर उद्योग, सभी प्रकार की औद्योगिक दुकानों, सभी प्रकार की औद्योगिक ईकाइयों व सभी आर्थिक गतिविधियां करने वाले संस्थानों का विवरण एक एप्प के माध्यम से रिकार्ड किया जायेगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि इस आर्थिक गणना में सरकारी, सैन्य, कृषि आधारित, अंतर्राष्ट्रीय संस्थाएं, वेतन भोगी व घुमंतु परिवारों को शामिल नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि घर-घर जाकर इस बात का रिकार्ड रखा जायेगा कि किन-किन आवासिय परिसरों पर व्यवसायिक गतिविधियां चलाई जा रही है। 

Watch This Video Till End….