*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

Lecture on “International Day of Immunology” held today in the Department of Biochemistry, PU, Chandigarh.

Chandigarh April 29, 2024

For Detailed

The Department of Biochemistry, Panjab University, Chandigarh celebrated International Day of Immunology on April 29, 2024 highlighting Wellness during Aging through Immunology. The program was supported by DBT-BUILDER grant sanctioned by the Department of Biotechnology, Govt of India. Chairperson Prof. Amarjit Singh Naura shared that the aim of this celebration  is to raise awareness pertaining to importance of immunology and immunological research in the fight for lifelong health maintenance and individual well-being. The theme this year was Immunity and Ageing: Navigating the Science of Aging and Immunology. The speakers addressed the issue through their talks. Dr. Deepak Sharma, Principal Scientist, CSIR-IMTECH, Chandigarh spoke on How immune is our immune system from ageing?  He highlighted the differences in the immune system of young and old and the requirement of keeping the immune system healthy for healthy ageing. Dr. Rupinder Kaur, CMO, Panjab University Health Center, Chandigarh delivered a talk “Understanding Human Immunology to improve public health”. She discussed  the role of diagnostic tools, immuno modulation therapies, personalised meedicine and preparedness for emerging pathogens. She reiterated that education and awareness are pivotal in encouraging a healthy lifestyle and hence lead to healthy ageing.

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

लोकसभा आम चुनाव – 2024 के दृष्टिगत पीओ तथा एपीओ का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित

चुनाव को निष्पक्ष, स्वतंत्र एवं शांतिपूर्वक तरीके से आयोजित करवाने के लिए पीओ तथा एपीओ को उनके दायित्वों से कराया अवगत

सीयू/बीयू, वीवीपैट, ईवीएम तथा विभिन्न प्रपत्रों के बारे में दी जानकारी

For Detailed

पंचकूला, 29 अप्रैल – उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री यश गर्ग के मार्गदर्शन में लोकसभा आम चुनाव – 2024 के दृष्टिगत आज सेक्टर-1 स्थित राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में पीठासीन (पीओ) और सहायक पीठासीन अधिकारियों (एपीओ) का प्रशिक्षण कार्यक्रम आरंभ हुआ। 6 मई तक चलने वाले इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के पहले दिन आज 200 अधिकारियों, कर्मचारियों ने भाग लिया।
ट्रेनिंग के नोडल अधिकारी एवं जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गगनदीप सिंह ने निष्पक्ष, स्वतंत्र एवं शांतिपूर्वक ढंग से चुनाव संपन्न कराने के लिये अधिकारियों को प्रेजेंटेशन के माध्यम से दायित्वों से अवगत कराया। साथ ही मॉक पोल की प्रक्रिया को वीडियो के माध्यम से समझाया गया। प्रशिक्षण शिविर में एआरओ पंचकूला एवं एसडीएम गौरव चौहान, उप जिला निर्वाचन अधिकारी एवं नगराधीश मन्नत राणा ने जानकारी दी।
उन्होंने बताया कि पीओ तथा एपीओ अपने स्तर पर मतदान केंद्र के निर्धारित स्थान में बदलाव नहीं कर सकते। उन्हें मतदान से एक दिन पहले बूथ पर पहुंचना होगा। जिस भी स्कूल/धर्मशाला/सामुदायिक केंद्र आदि में पोलिंग बूथ बनाया गया है उसकी चारदीवारी से 200 मीटर की दूरी पर ही राजनीतिक दलों की ओर से निर्धारित आकार में टेंट लगाया जा सकता है। यदि इससे कम दूरी पर टेंट लगा है तो पीओ उसे हटवा सकते हैं। उन्होंने कहा कि ईवीएम व वीवीपैट को मतदान केंद्र की खिड़की के पास नहीं रखा जाना चाहिए। यदि किसी बूथ के बाहर निर्धारित समय के बाद भी मतदाताओं की लाइन लगी हो तो सभी के वोट डलवाना सुनिश्चित करें।


उन्होंने बताया कि सरकारी कर्मचारी, विधायक, मंत्री, सरकार से मानदेय प्राप्त करने वाले, आंगनवाड़ी वर्कर आदि पोलिंग एजेंट नहीं बन सकते। पोलिंग एजेंट के नियुक्ति पत्र पर प्रत्याशी के दस्तखत होने चाहिये। पीओ जिस भी फार्म को भरें उस पर पोलिंग एजेंट के हस्ताक्षर अवश्य करायें।
अधिकारियों को बताया गया कि वे मतदान से 90 मिनट पहले मॉक पोल की प्रक्रिया को एजेंटों की मौजूदगी में पूरा करें। इस प्रक्रिया को नोटा (नन ऑफ द अबव) सहित 50 वोटों को समान रूप से बांटकर पूरा किया जाना चाहिये। मॉक पोल के दौरान किये गये वोट तथा वीवीपैट से निकलने वाली पर्चियों व कंट्रोल यूनिट में कुल वोट का मिलान होने पर पोलिंग एजेंट के हस्ताक्षर जरूर करायें। मॉक पोल के बाद इसका रिकॉर्ड भी रखें। मॉक पोल की स्लिप के पीछे मुहर लगाकर उसे काले रंग के लिफाफे में सील बंद करके रखें।
उन्होंने चुनाव के दौरान ईवीएम खराब होने की स्थिति में उठाये जाने वाले कदमों की जानकारी दी। ईवीएम में किसी भी प्रकार की खराबी के बारे में अविलम्ब एआरओ को सूचित करें। यदि मतदान के दौरान बीयू/सीयू खराब होता है तो पूरा सेट बदलना जरूरी है। फिर नई मशीन से पुन मॉक पोल प्रक्रिया पूरी करें। उन्होंने कहा कि पोलिंग बूथ में चुनाव आयोग द्वारा अधिकृत मीडिया कर्मचारी केवल गेट तक जा सकते हैं। नेत्रहीन मतदाता पोलिंग बूथ तक अपने साथ सहयोगी को ला सकते हैं। महिला मतदाता शिशु के साथ पोलिंग बूथ आकर मतदान कर सकती हैं।
उन्होंने बताया कि पीओ व एपीओ को उन दस्तावेजों की जानकारी दी गई जिनके आधार पर कोई भी मतदाता मतदान करने का अधिकार रखता है। यदि कोई मतदाता बूथ में आने के बाद वोट डालने से इंकार कर देता है तो उस स्थिति में की जाने वाली कार्यवाही, उम्र को लेकर दी जानी वाली चुनौती, टेंडर वोट, पोस्टल मतपत्र, ईवीएम व वीवीपैट को सील की जाने वाली प्रक्रिया, चुनाव प्रक्रिया से जुड़े विभिन्न प्रकार के फार्मों आदि के बारे में भी बताया।
इस अवसर पर खण्ड शिक्षा अधिकारी पिंजोर, मोरनी, रायपुर रानी व बरवाला, मास्टर ट्रेनर द्वारा सीयू/बीयू, वीवीपैट के बारे में भी अधिकारियों को प्रशिक्षित किया गया। इस मौके पर चुनाव नायब तहसीलदार अजय राठी, कानूनगो कुलदीप सिंह भी मौजूद रहे।

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

*नोटिफिकेशन के साथ ही शुरू हुई लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया: श्री यश गर्ग*

*सुविधा एप पर आॅनलाइन नामांकन भरने उपरांत हार्ड प्रति संबंधित आरओ को करवानी होगी जमा – जिला निर्वाचन अधिकारी*

For Detailed

पंचकूला, 29 अप्रैल-  उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री यश गर्ग ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग के आदेशानुसार रिटर्निंग अधिकारी ने लोकसभा आम चुनाव-2024 के लिए जारी शैड्यूल अनुसार 29 अप्रैल को नोटिफिकेशन हो गया, नोटिफिकेशन के साथ ही नामांकन प्रकिया शुरु हो गई है। अम्बाला लोकसभा क्षेत्र के लिए नामांकन अंबाला में आरओ के पास होगा। 

   डीसी एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गर्ग ने बताया कि जिला के 01-कालका विधानसभा क्षेत्र व 02-पंचकूला विधानसभा अम्बाला लोकसभा क्षेत्र में आते हैं। लोकसभा चुनाव के लिए सोमवार 29 अप्रैल को नोटिफिकेशन जारी किया गया तथा आज से सोमवार 6 मई तक उम्मीदवारों द्वारा नामांकन किए जा सकेंगे।     

   उन्होंने बताया कि मंगलवार 7 मई को नामांकन पत्रों की जांच पड़ताल की जाएगी जबकि गुरूवार 9 मई को उम्मीदवार अपना नामांकन वापिस ले सकेंगे। 25 मई को मतदान होंगे तथा मंगलवार 4 जून का मतगणना उपरांत नतीजे घोषित किए जाएंगे।

     जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि यदि कोई उम्मीदवार ऑनलाइन नामांकन करना चाहता है तो उसे सुविधा एप पर आॅनलाइन फार्म भरने उपरांत उसकी हार्ड प्रति संबंधित आरओ को जमा करवानी होगी। चुनाव लड़ने वाले सभी अभ्यर्थियों को चुनाव प्रचार के दौरान कम से कम तीन बार खर्चा रजिस्टर चैक करवाना जरूरी है। सभी राजनीतिक दल/चुनाव लड़ने वाले अभ्यार्थी सुनिश्चित करें कि चुनाव प्रचार के दौरान जो भी बैनर पोस्टर आदि प्रिंट करवाए उस पर प्रिंटिंग प्रेस का नाम व पता सहित छपवाने वाले का भी ब्योरा हो। अगर इस मामले में अवहेलना की गई तो आयोग की गाइडलाइन के अनुसार  कार्यवाही की जाएगी।

   श्री यश गर्ग ने बताया कि नामांकन पत्र उम्मीदवार या उसके किसी प्रस्तावक द्वारा प्रातः 11 बजे से 3 बजे तक जमा करवा सकते हैं। एक उम्मीदवार को नामांकन पत्र जमा करवाने आते समय अधिकतम तीन वाहनों की अनुमति होगी और कार्यालय की 100 मीटर परिधि में वाहन खड़े करने होंगे। उम्मीदवार सहित आरओ कार्यालय में अधिकतम 5 व्यक्तियों की प्रविष्टि की अनुमति होगी। उन्होंने बताया कि नामांकन प्रक्रिया की वीडियोग्राफी की जाएगी। नामांकन दाखिल करने के अंतिम एक घंटा अर्थात 2 बजे के बाद की वीडियोग्राफी बिना एडिटिंग के निरंतर की जाएगी। पीठासीन अधिकारी वीडियोग्राफी व सभी दस्तावेजों को सुरक्षित रखेंगे।  

   जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जनप्रतिनिधि अधिनियम 1951 के तहत चुनाव लड़ रहे उम्मीदवारों को सिक्योरिटी जमा करानी होती है। लोकसभा चुनाव के लिए यह राशि 25 हजार रुपए है। अनुसूचित जाति व अनुसूचित जाति उम्मीदवारों के लिए यह राशि आधी होती है। उन्होंने स्पष्ट किया कि सिक्योरिटी राशि रिटर्निंग अधिकारी के सामने या तो नकद या फिर भारतीय रिजर्व बैंक या ट्रेजरी में जमा करानी होगी। चैक या बैंक ड्राफ्ट के माध्यम से सिक्योरिटी राशि स्वीकार्य नहीं है। मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय या राज्य की मान्यता प्राप्त राजनीतिक पार्टियों के लिए एक प्रस्तावक तथा अन्य सभी उम्मीदवारों व दूसरों राज्यों की मान्यता प्राप्त राजनीतिक पार्टियों के लिए 10 प्रस्ताव होने चाहिए। प्रस्तावक संबंधित लोकसभा व विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र का मतदाता होना चाहिए।

    श्री यश गर्ग ने बताया कि चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवार को नामांकन से पहले एक अलग बैंक खाता खुलवाना होगा और चुनाव से संबंधित खर्च केवल इसी खाते के माध्यम से किया जाएगा। सभी बैंको को निर्देश दिए जा चुके है कि वह चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियों के लिए अलग खाता खोलने के लिए प्रत्येक बैंक मे अलग काउंटर की व्यवस्था करवाएं। उन्होंने बताया कि सभी राजनीतिक दलों/चुनाव लडने वाले उम्मीदवारों को रैली/जनसभा, लाऊड स्पीकर व वाहन इत्यादि की अनुमति के लिए जिला स्तर व एआरओ स्तर पर सिंगल विंडो स्थापित करवा दी गई है। इन चीजों के लिए सभी को अनुमति लेना जरूरी है। अगर कोई बिना अनुमति के चुनाव प्रचार करता पाया गया तो चुनाव आयोग की गाइडलाइन के अनुसार कार्यवाही की जाएगी। कोई भी राजनीतिक दल/चुनाव लडने वाला अभ्यर्थी रात 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक लाउडस्पीकर का इस्तेमाल नहीं कर सकता है। सभी चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियों को चुनाव परिणाम घोषित होने के 30 दिन के अन्दर खर्चा रजिस्टर जमा करवाना होगा।

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

अकादमी के उर्दू प्रकोष्ठ की प्रस्तुति प्रख्यात शायर एवं गीतकार डाॅ. इरशाद कामिल से रू-ब-रू

For Detailed

पंचकूला 28 अप्रैल: हरियाणा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के उर्दू प्रकोष्ठ द्वारा आज अकादमी सभागार, पंचकूला में अकादमी के मासिक कार्यक्रम रू-ब-रू की शानदार शुरूआत की गई। रू-ब-रू कार्यक्रम में राजेश खुल्लर, मुख्य प्रधान सचिव, मुख्यमंत्री, हरियाणा मुख्य अतिथि के रूप में पधारे तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता अकादमी के कार्यकारी उपाध्यक्ष वरिष्ठ चिंतक प्रो. कुलदीप चंद अग्निहोत्री ने की।
कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथ, राजेश खुल्लर, मुख्य प्रधान सचिव, मुख्यमंत्री, हरियाणा व विशिष्ट अतिथि अनुराग अग्रवाल, प्रधान सचिव, चुनाव विभाग द्वारा दीप प्रज्ज्वलित करके गई। रू-ब-रू के लिए आमन्त्रित प्रख्यात शायर तथा चर्चित फिल्म गीतकार डाॅ. इरशाद कामिल का रू-ब-रू वरिष्ठ पत्रकार शायदा तथा प्रोफेसर डाॅ. गुरमीत द्वारा किया गया।
​डाॅ. इरशाद कामिल ने कहा कि वक्त अच्छे और बुरे काम को अपने आप अलग कर देता है। उन्होंने कहा कि कबीर और रूमी (ईरान) की कविता का स्वर एक था, जबकि उस समय इंटरनैट जैसा माध्यम नहीं था। उनका कहना था कि गीतकारी मेरा काम है और शायरी मेरी मोहब्बत है। सभी शायरी अपने लिए ही करते हैं, लेकिन वह व्यक्ति की न रहकर समष्टि की हो जाती है। मोहब्बत का पैगाम देते हुए उन्होंने कहा: पेड़ हमने प्यार का लगाना है कामिल जरूर, फल आ गए तो ठीक है, वो ना फले तो ना फले। आग का दरिया धीरे-धीरे कतरा भी हो सकता है, साथ तुम्हारे रहने वाला तन्हा भी हो सकता है।
​इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्री राजेश खुल्लर ने अनेक उर्दू शायरों के कलाम का उल्लेख करते हुए कहा कि फिल्मी दुनिया एक अलग बाजार है। इस दौर में भी शायरी, बाॅलीवुड सब था। उन्होंने भी एक शे’र कुछ इस तरह ब्यां किया: कुछ इस तरह ज़िन्दगी ने दिया है हमारा साथ, जैसे निभा रहा हो कोई अपने रकीब से।


​अकादमी के कार्यकारी उपाध्यक्ष, प्रो. कुलदीप चंद अग्निहोत्री ने अकादमी द्वारा मासिक रू-ब-रू कार्यक्रम की शानदार शुरुआत के लिए डाॅ. चन्द्र त्रिखा, निदेशक, उर्दू प्रकोष्ठ को बधाई देते हुए कहा कि हमें फिल्मी साहित्य को भी साहित्य की मुख्य धारा में लाना होगा।
डाॅ. माधव कौशिक, अध्यक्ष, केन्द्रीय साहित्य अकादमी ने कहा कि कविता कविता है उसमें कहीं भी संकीर्णता नहीं होनी चाहिए। फिल्मी चकाचैंध में शायर की किताबें गायब हो जाती हैं। समाज की संकीर्णता को साहित्य ही खत्म कर सकता है।
हरियाणा सरकार के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी श्री अनुराग अग्रवाल ने कहा कि हम सबको अपनी जीवन धारा में साहित्य एवं संस्कृति को जरूर सम्मिलित करना चाहिए। साहित्य का काम केवल मनोरंजन नहीं है, वह समाज को दिशा एवं मार्गदर्शन भी देता है। अकादमी के हिन्दी एवं हरियाणवी प्रकोष्ठ के निदेशक, डाॅ. धर्मदेव विद्यार्थी ने इरशाद कामिल का अभार प्रकट करते हुए मुख्य अतिथि श्री राजेश खुल्लर, श्री अनुराग अग्रवाल व अन्य वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों का आभार प्रकट किया।
डाॅ. चितरंजनदयाल सिंह कौशलन, निदेशक, संस्कृत प्रकोष्ठ ने ट्राई सिटी से पधारे सभी लेखकों का आभार प्रकट करते हुए आश्वासन दिया कि अकादमी इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन करती रहेगी।
इस अवसर पर भारतीय पुलिस सेवा की वरिष्ठ अधिकारी श्रीमती कला रामचन्द्रन, हरबंस सिंह, रेखा मित्तल, सीमा गुप्ता, विजय कपूर, संगीता बैनीवाल, डी.पी. एस. बैनीवाल, डाॅ. तरूणा सहित अनेक वरिष्ठ लेखक उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन डाॅ. चन्द्र त्रिखा, निदेशक, उर्दू प्रकोष्ठ ने किया।

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

तीसरी बटालियन, लद्दाख स्काउट्स रेजिमेंट ने चंडीमंदिर छावनी में बड़ी भव्यता के साथ मनाई अपनी रजत जयंती

हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने मुख्य अतिथि के रूप में की शिरकत

यह इकाई भारतीय सेना की बेहतरीन पर्वतीय युद्ध विशेषज्ञ इकाइयों में से एक है

For Detailed

पंचकुला 28 अप्रैल: तीसरी बटालियन , लद्दाख स्काउट्स रेजिमेंट, जिसे ज़ेडांग सुम्पा के नाम से भी जाना जाता है, ने चंडीमंदिर छावनी में अपनी रजत जयंती बड़ी भव्यता के साथ मनाई। हरियाणा के राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की।

राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय ने लेफ्टिनेंट जनरल एमकेएस कटियार, एवीएसएम जीओसी-इन-सी मुख्यालय पश्चिमी कमान के साथ बटालियन की रजत जयंती ट्रॉफी का अनावरण किया।

तीसरी बटालियन, लद्दाख स्काउट्स को मूल रूप से 1948 में नुब्रा गार्ड्स के रूप में स्थापित किया गया था, बटालियन वर्ष 2000 में अपने वर्तमान स्वरूप में आई, तब से यह इकाई भारतीय सेना की बेहतरीन पर्वतीय युद्ध विशेषज्ञ इकाइयों में से एक बन गई है। पिछले ढाई दशकों में, यूनिट ने सीमाओं और भीतरी इलाकों में विभिन्न अभियानों के दौरान सिविल अथॉरिटी के लिए एक महत्वपूर्ण सहायता के रूप में अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया है।

कार्यक्रम के दौरान तीसरी बटालियन , स्काउट्स के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल आशीष मोहंती और पश्चिमी कमान में नागरिक सैन्य मामलों के सलाहकार कर्नल जसदीप संधू ने राज्यपाल श्री बंडारू दत्तात्रेय का गर्मजोशी से स्वागत किया। सेना कमांडर मुख्यालय पश्चिमी कमान ने यूनिट की सराहना की और इसके भविष्य के सभी प्रयासों के लिए शुभकामनाएं दीं ।

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

पंचकूला की तीनों मंडियों में 32621 मीट्रिक टन गेहूं व 654 मीट्रिक टन सरसों की हुई खरीद

For Detailed

पंचकूला, 28 अप्रैल – जिला में रबी सीजन 2024-25 के दौरान सरसों व गेहूं की खरीद तथा उठान का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है। सरकारी खरीद एजेंसियों द्वारा जिला की मंडियों में अब तक 32621 मीट्रिक टन गेहूं और 654 मीट्रिक टन सरसों की खरीद की गई है और 649 मीट्रिक टन सरसों और 17066 मीट्रिक टन गेहूं का अब तक उठान किया जा चुका है।


इस संबंध में जानकारी देते हुए खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि सरकारी खरीद एजेंसियों हैफेड और हरियाणा वेयर हाउसिंग कारपोरेशन द्वारा पंचकूला, बरवाला और रायपुररानी स्थित अनाज मंडियों में गेहूं व सरसों की खरीद की जा रही है।


उन्होंने बताया कि 32621 मीट्रिक टन गेहूं में से 15421 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद रायपुररानी अनाज मंडी से, 16250 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद बरवाला अनाज मंडी से और 950 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद पंचकूला अनाज मंडी से की गई है। इसी प्रकार 654 मीट्रिक टन सरसों में से रायपुररानी अनाज मंडी से 386 मीट्रिक टन सरसों की खरीद हैफेड द्वारा, बरवाला अनाज मंडी से 56 मीट्रिक टन सरसों की खरीद हरियाणा वेयर हाउसिंग कारपोरेशन द्वारा और 212 मीट्रिक टन सरसों की खरीद हैफेड द्वारा की गई। उन्होंने बताया कि हैफेड द्वारा 598 मीट्रिक टन सरसों का उठान किया गया, जिसमें से 386 मीट्रिक टन सरसों रायपुररानी अनाज मंडी तथा 212 मीट्रिक टन सरसों बरवाला अनाज मंडी तथा हरियाणा वेयर हाउसिंग कारपोरेशन द्वारा बरवाला अनाजमंडी से 51 मीट्रिक टन सरसों का उठान किया गया। 17066 मीट्रिक टन गेहूं में से हैफेड द्वारा रायपुररानी अनाज मंडी से 8000 मीट्रिक टन गेहूं और वेयर हाउसिंग कारपोरेशन द्वारा बरवाला अनाज मंडी से 8650 मीट्रिक टन और हैफेड द्वारा पंचकूला अनाज मंडी से 416 मीट्रिक टन गेहूं का उठान किया गया।

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

श्रीमती अरुणा आसिफ अली राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कालका में एल्यूमिनी मीट मिलाप -2024 का रंगारंग आयोजन

For Detailed

पंचकूला अप्रैल 28: श्रीमती अरुणा आसिफ अली राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कालका में प्राचार्या प्रोमिला मलिक के नेतृत्व में एल्यूमिनी मीट मिलाप 2024 का रंगारंग आयोजन हुआ। मुख्य अतिथि महाविद्यालय कालका से पढ़ी हुई जस्टिस राज राहुल गर्ग ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।


एलुमनी मीट में पास आउट विद्यार्थियों ने महाविद्यालय से जुड़ी अपनी यादों व अनुभवों को सांझा किया। उन्होंने महाविद्यालय द्वारा आयोजित एलुमनी मीट की प्रशंसा की। सभी ने कहा कि यह सिर्फ हमारा कॉलेज ही नहीं, हमारा परिवार है, यहीं से शिक्षा और संस्कार प्राप्त करके हम जीवन में सफल हो पाए हैं। यहां के पूर्व विद्यार्थी विभिन्न पदों पर आसीन है। कुछ विद्यार्थी फिल्मी दुनिया में अपना नाम रोशन कर रहे हैं।


प्राचार्या प्रोमिला मलिक ने सभी पूर्व छात्रों का स्वागत किया और अपने संबोधन में कहा कि कॉलेज हमेशा अपने पूर्व विद्यार्थियों को याद करता रहेगा तथा यह आशा भी व्यक्त की सभी पूर्व विद्यार्थी तन व मन से सहयोग करते रहेंगे।

https://propertyliquid.com/properties/dlf-the-valley-orchard-in-panchkula-haryana/


महाविद्यालय के विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये। बीए तृतीय वर्ष के विद्यार्थी हार्दिक, नेहा, काजल, रवि और बीए प्रथम वर्ष के विद्यार्थी शुभम ने हे राम और हरे रामा हरे कृष्णा धुन पर समूह सितार वादन प्रस्तुत किया। बीए प्रथम वर्ष की चासना ने सालोना सा सज्जन है एक मैं हूं गायन गाया। बीए तृतीय वर्ष के रवि ने कव्वाली प्रस्तुत की। हार्दिक ने गजल प्रस्तुत की। बीए प्रथम वर्ष की शबाना, प्रीति, आंचल और वीना ने गिद्दा प्रस्तुत किया। डॉ पूनम रानी और प्रोफेसर जगपाल के मार्गदर्शन और दिशा निर्देशन में विद्यार्थियों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किया।


प्रस्तुत कार्यक्रम एल्यूमिनी मीट की आयोजन कमेटी डॉक्टर गीतांजलि, डॉक्टर नीरू शर्मा, प्रोफ़ेसर गीता, प्रोफेसर सोनू , प्रोफेसर डॉक्टर नवनीत नैंसी, असिस्टेंट प्रोफेसर सविता, डॉक्टर शबनम अरोड़ा के मार्गदर्शन और दिशा निर्देशन में किया गया। एलुमनी मीट के सदस्य एडवोकेट विजय बंसल, श्री हरमेल सिंह, श्री जितेंद्र, श्री अरुण कुमार, श्री संजीव बंसल और डॉक्टर रामचंद्र हैं। समस्त महाविद्यालय का वातावरण बहुत उत्साह पूर्ण रहा।

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

*Municipal Corporation is committed to ensure Fire safety in the city as well as safety of the brave Fire fighters of Fire and Rescue Services of Chandigarh*

*Purchases Pyrolene/Splash Tight Suits and Chemical/Gas Tight Suits in ensure safety of Fire Personnel*

For Detailed

*Chandigarh, April 28:-* Aiming at safeguarding the life of Fire Personnel, the Municipal Corporation Chandigarh has procured 28 Pyrolene/Splash Tight Suits as well as 14 Chemical/Gas Tight Suits for the utility of it’s firefighters to protect then while responding to the various Biochemical threats.

This is the first instance when the emergency response department of Municipal Corporation has procured this kind of equipment to safeguard the life of Fire Personnel. The estimated amount for the procurement of these Personal Protective Gear is approx Rs. 51 lakhs.

This milestone exemplifies the unwavering dedication of MC Chandigarh in staying at the forefront of the emergency preparedness by  providing the firefighters with state of the art protective gears while responding to the emergency situation which will bolster their capability to handle complex challenges with utmost confidence and efficiency and will ultimately result in mitigation of loss of valuable life and property.

This step is part of the Municipal Corporation’s mission to ensure fire preparedness in the city.MCC has added 7 Bullet Motor Cycles  and 14 Water Mist and CAF High Pressure using special AFFF for Fire fighting in narrow lanes, recently.

Further, MCC has got a Tata 407 chassis fabricated with Mini Water Tender for Fire fighting in narrow lanes and for VVIP duties and fabricated a Tata 1613 chassis with Water Tender for Fire fighting duties. Additionally, 4 Tata xenon vehicles have been got fabricated with Mini Water Tender based on Water Mist Technology for Fire fighting in narrow lanes.

The MCC has also purchased inflatable emergency lighting tower .The inflatable emergency lighting tower is used at the time of major disasters like building collapse, Fire incident and in rescue operations during night hours. 5 thermal imaging detector have also been purchased for detection in smoke/smog areas having low visibility and purchased 28 Fire Proximity Suits which is one of the most important Personal Protective Equipment (PPE) used by the Fire and Rescue Services Personnel all over the world.

The Department has purchased 30 n

Fire Helmets with central touch to work during the fire operation hands free and purchased 03 Water Tender (Type-X), 56 Breathing Apparatus Sets, 24 specialized tools/Combi tools for the Rescue Operations, 3 Breathing Air Compressors i.e. Two Electrical motor Driven and One is Petrol Driven and 5 Water Tender (Type-B). Additionally, refurbishment/replacement of superstructure/chassis of 2 Hydraulic Platform-cum-Turn Table Ladder has been ordered and 7 potable tents purchased for standby duties.

In order to strengthen the Department, MCC has appointed 245 Firemen and 35 Drivers through regular recruitment in the year 2022.

Further, a Fire Safety Audit of all Commercial/Govt. establishments of the City has been done and about 6000 buildings have been issued fire advisories to meet the left out requirements at the earliest so far.

To create awareness and also to improve fire response among citizens, regular mock drills in Hospitals, Schools, Industries and with RWAs, MWAs etc are being conducted on a regular basis.

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

Road Closed

For Detailed

Chandigarh, April 27: – The General public is hereby informed that road cut for laying of 800 mm i/d M.S. Pipeline from Sector 39, Chandigarh to MES Chandimandir on Railway Light point from Madhya Marg towards Daria will be done on 30.04.2024 from 10.00 am to 10.00 pm. During the work, the roads leading to dividing road  Railway Light point from Madhya Marg towards Daria will be closed. The general public is requested to take alternate routes and bear with Municipal Corporation, Chandigarh.

https://propertyliquid.com

*Municipal Corporation takes another step to improve Sanitary Waste Management with new initiatives*

*29 अप्रैल से 6 मई तक आयोजित किया जाएगा पीठासीन और सहायक पीठासीन अधिकारी का दूसरा प्रशिक्षण कार्यक्रम – जिला निर्वाचन अधिकारी*

*प्रशिक्षण कार्यक्रम में मास्टर ट्रेनरों द्वारा चुनाव प्रक्रिया और ईवीएम की दी जाएगी ट्रेनिंग – श्री यश गर्ग*

For Detailed

पंचकूला, 27 अप्रैल – उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री यश गर्ग ने बताया कि लोकसभा आम चुनाव -2024 के लिए पीठासीन अधिकारियों और सहायक पीठासीन अधिकारियों के लिए दूसरा प्रशिक्षण कार्यक्रम 29 अप्रैल से 6 मई तक राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सेक्टर-1 में आयोजित किया जाएगा।

   जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिन विभागों के 1400 अधिकारियों-कर्मचारियों को प्रशिक्षण के लिए चयनित किया गया हैं उन विभागों के विभागाध्यक्षों को अपने अधिकारियों-कर्मचारियों को प्रशिक्षण में भेजना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए है ।अतिरिक्त उपायुक्त सचिन गुप्ता प्रशिक्षण कार्यक्रम के नोडल अधिकारी होंगे।

    जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि चुनाव को सफल बनाने के लिए प्रशिक्षण अहम होता है। इस प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनरों द्वारा पीठासीन और सहायक पीठासीन अधिकारियों को चुनाव संबंधी प्रक्रिया का विस्तार से विवरण दिया जाएगा। इसके अलावा ईवीएम की पूर्ण जानकारी डैमो के साथ समझाई जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान जिला परिषद के सीईओ, उप जिला निर्वाचन अधिकारी और दोनों विधानसभा क्षेत्र के एआरओ-सह-एसडीएम भी मौजूद रहेंगे। 

     श्री यश गर्ग ने बताया कि अम्बाला लोकसभा क्षेत्र में जिला की 01-कालका विधानसभा क्षेत्र और 02-पंचकूला विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं। दोनों विधानसभा में 4,29,972 मतदाताओं के लिए 424 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं। इन केन्द्रों पर मतदान करवाने के लिए अधिकारियों- कर्मचारियों की डयूटी लगाई जा चुकी है। उन्होंने बताया कि 29 अप्रैल से शुरू होने वाले प्रशिक्षण में कालका विधानसभा के 700 और पंचकूला विधानसभा क्षेत्र के 700 अधिकारियों-कर्मचारियों को शामिल किया जाएगा। इससे पहले 2283 अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए 8 अप्रैल से 16 अप्रैल तक पीठासीन व सहायक पीठासीन अधिकारियों का पहला प्रशिक्षण कार्यक्रम सेक्टर-1 स्थित राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में आयोजित किया गया था।

   जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिला में दोनों विधानसभाओं के लिए दो स्ट्रोंग रूम स्थापित किये गए हैं। कालका विधानसभा के लिए सेक्टर-14 स्थित राजकीय स्नातकोत्तर महिला महाविद्यालय और पंचकूला विधानसभा के लिए सेक्टर-1 स्थित राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में स्ट्रोंग रूम बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि दोनों स्ट्रोंग रूम में सीसीटीवी कैमरे और सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता प्रबन्ध किये जा चुके हैं। ईवीएम मशीनों का पहला रेंडमाइजेशन हो चुका हैं।

https://propertyliquid.com