Director, ICAR-NBAGR, Karnal Addresses a Webinar on "Animal Genetic Resources of India"

राजकीय महाविद्यालय कालका में किया ’अंतर जिला स्तरीय’ विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन

– जिला स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी में पंचकूला और अंबाला जिले के 11 महाविद्यालयों ने लिया भाग

For Detailed News-

पंचकूला, 26 नवंबर- राजकीय महाविद्यालय कालका की प्राचार्या श्रीमती प्रोमिला मलिक के कुशल नेतृत्व में ’अंतर जिला स्तरीय’ विज्ञान प्रदर्शनी का भव्य आयोजन किया गया, जिसमें पंचकूला और अंबाला जिले के 11 विभिन्न महाविद्यालयों ने भाग लिया।


इस संबंध में जानकारी देते हुये प्रो. डाॅ. बिंदु ने बताया कि प्रस्तुत प्रदर्शनी नोडल आॅफिसर डाॅ. रामचंद और प्रभारी डाॅ. नीरू के मार्गदर्शन और दिशानिर्देशन में लगवायी गई। प्रस्तुत प्रदर्शनी में मनोविज्ञान विभाग के वरिष्ठ प्रो. राकेश गोयल, नवनीत नेंसी, भूगोल विज्ञान के प्रो. गुलशन, जीव विज्ञान की प्रो. डाॅ. नीरू, डाॅ. बिंदु, वनस्पति विज्ञान के प्रो. डाॅ. रामचंद, रसायन विभाग की इंदु, भौतिक विज्ञान की डाॅ. गुरप्रीत कौर, कंप्यूटर साईस विभाग के प्रो. भूप सिंह ने विद्यार्थियों को विभिन्न प्रकार के माॅडल बनाने के लिये प्रोत्साहित किया।


निर्णायक मंडल के सदस्य डाॅ गौरव (चेयरमैन, भूगोल विज्ञान, पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ), डाॅ. रोशन लाल (वरिष्ठ प्रो. मनोविज्ञान विभाग, पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ), डाॅ. आनंद नारायण सिंह (वनस्पति विज्ञान विभाग, पंजाब यनिवर्सिटी चंडीगढ), डाॅ समरजीत सिहोतरा (भौतिक विज्ञान विभाग पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ), डाॅ. इंदु (जीव विज्ञान विभाग, पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ), डाॅ राजीव (पर्यावरण विभाग, पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ) तथा श्री रमेश गुप्ता (वैज्ञानिक, भारत सरकार) रहे, जिन्होंने अपने-अपने विषय में विद्यार्थियों द्वारा बनाये गये माॅडल का विस्तार से अवलोकन किया तथा विद्यार्थियों के प्रयासों की भरपूर सराहना की।

https://propertyliquid.com


उन्होंने सभी विषयों के माॅडल के परिणाम निकाले, जिसमें मनोविज्ञान विषय पर बनाये गये माॅडल में प्रथम स्थान राजकीय महाविद्यालय अंबाला केंट को मिला, द्वितीय स्थान राजकीय महाविद्यालय पंचकूला सेक्टर-1 को मिला, तृतीय स्थान राजकीय महाविद्यालय कालका और राजकीय महाविद्यालय पंचकूला सेक्टर-14 को मिला। इसी प्रकार भूगोल विषय पर बनाये गये माॅडल का परिणाम, प्रथम राजकीय महाविद्यालय अंबाला केंट, द्वितीय राजकीय महाविद्यालय कालका व तृतीय राजकीय महाविद्यालय नारायणगढ़, कंप्यूटर साईस के माॅडल में प्रथम राजकीय महाविद्यालय अंबाला केंट, द्वितीय एसडी काॅलेज, अंबाला केंट और तृतीय राजकीय महाविद्यालय कालका, भौतिक विज्ञान के माॅडल में प्रथम राजकीय महाविद्यालय कालका, द्वितीय राजकीय महाविद्यालय अंबाला केंट व तृतीय राजकीय महाविद्यालय पंचकूला सेक्टर-14, रसायन विभाग के माॅडल में प्रथम एसडी काॅलेज अंबाला केंट, द्वितीय राजकीय महाविद्यालय कालका व तृतीय डीएवी काॅलेज अंबाला सिटी, वनस्पति विज्ञान के माॅडल में प्रथम राजकीय महाविद्यालय अंबाला केंट, द्वितीय राजकीय महाविद्यालय कालका व डीएवी काॅलेज अंबाला सिटी और जीव विज्ञान के माॅडल में प्रथम राजकीय महाविद्यालय कालका, द्वितीय डीएवी काॅलेज अंबाला सिटी रहे।


प्रस्तुत विज्ञान प्रदर्शनी में 39 आॅफलाईन और 14 आॅनलाईन माॅडल प्रस्तुत किये गये। विज्ञान प्रदर्शनी में मुख्यातिथि श्रीमती रीटा गुप्ता प्राचार्या संस्कृत महाविद्यालय पंचकूला रही। उन्होंने सभी विद्यार्थियों को बधाई दी और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। विज्ञान प्रदर्शनी को देखने प्राचार्य पीयूष (विवेकानंद मिलेनियम स्कूल) भी आये।


विज्ञान प्रदर्शनी में विद्यार्थियों को प्रोत्साहित व प्रेरित करने के लिये श्रीमती रंजना कुमारी (संस्कृत अध्यापिका, राजकीय माध्यमिक स्कूल, जबरोट में कार्यरत) ने सभी प्रतिभागी विद्यार्थियों को पुरस्कार के रूप में 100 रुपये दिये। उन्होंने विभाग से अनुरोध भी किया कि ऐसी विज्ञान प्रदर्शनी में भाग लेने वाले सभी विद्यार्थियों को पुरस्कार प्रदान किया जाना चाहिये।