*श्रीमती अरूणा आसफ अली राजकीय महाविद्यालय कालका में राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन*

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ऐतिहासिक नाडा साहिब गुरूद्वारा में शीश नवा लिया गुरू साहिब का आशीर्वाद

हरियाणा के लिये अलग सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के गठन के सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर हरियाणा के सिख समुदाय के लोगों को दी बधाई एवं शुभकामनायें

मुख्यमंत्री ने हरियाणा के सिख समुदाय से की मिलजुलकर समाज सेवा करने की अपील

एक अक्तूबर से धान की खरीद शुरू, किसानों के एक-एक दाने की होगी खरीद – मुख्यमंत्री

For Detailed

पंचकूला, 24 सितंबर – हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने हरियाणा के लिये अलग सिख गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के गठन के सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर हरियाणा के सिख समुदाय के लोगों को बधाई एवं शुभकामनायें दी। उन्होंने कहा कि इस निर्णय के बाद अब हरियाणा के सभी 52 गुरूद्वारा साहिब हरियाणा गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी की देखरेख में समाज सेवा का कार्य करेंगे।

श्री मनोहर लाल आज पंचकूला स्थित ऐतिहासिक नाडा साहिब गुरूद्वारा में शीश नवाने और गुरू साहिब का आशीर्वाद लेने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा के लिये अलग गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी का मामला पिछले काफी लंबे समय से सुप्रीम कोर्ट में लंबित था। लगभग 8 साल बाद अब सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी के पक्ष में फैसला सुनाया है, जिससे प्रदेश के सभी 52 गुरूद्वारा साहिब इस कमेटी की देखरेख में चलेंगे और समाज की सेवा के काम सुचारू ढंग से चलाये जा सकेंगे।

उन्होंने हरियाणा के सिख समुदाय से अपील करते हुये कहा कि वे सब अंतर्विरोध खत्म कर मिलजुलकर समाज सेवा का कार्य करें। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही प्रदेश में सभी गुरूद्वारों की एक टीम बनाई जायेगी, जिसके अनुसार गुरूद्वारे एक व्यवस्थित रूप से कार्य करेंगे।

बरसात की वजह से फसलों को हुए नुकसान के लिए विशेष गिरदावरी करवाई जायेगी

प्रदेश में बरसात की वजह से फसलों को हुए नुकसान के संबंध में पूछे गये प्रश्न के उत्तर में श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा सहित पूरे उत्तर भारत में पिछले दो दिनों से बरसात हो रही है, जिसकी वजह से प्रदेश में धान की फसल को नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि बरसात रूकते ही फसलों की विशेष गिरदावरी करवाई जायेगी और बरसात से हुये नुकसान का आंकलन करने के पश्चात नीति अनुसार किसानों को मुआवजा दिया जायेगा।

धान में नमी की मात्रा बढ़ने के कारण केंद्र सरकार ने एक अक्तूबर से धान की खरीद का लिया निर्णय

श्री मनोहर लाल ने कहा कि बरसात की वजह से धान में नमी की मात्रा बढ़ने के कारण केंद्र सरकार द्वारा एक अक्तूबर से धान की खरीद का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि कुछ किसान नेताओं द्वारा खरीद जल्दी करवाये जाने की बात कही जा रही है। जल्द खरीद की संभावना नहीं है, क्योंकि बरसात की वजह से फसल में नमी की मात्रा बढ़ी है और नमी कम होने से पहले मिलर्स और खरीद एजेंसियों द्वारा धान की खरीद संभव नहीं है।

उन्होंने कहा कि नमी की वजह से चावल के काला होने और ब्रोकन राईस की समस्या आती है। इसके अलावा 20 प्रतिशत से अधिक टूटे चावल का निर्यात भी नहीं किया जा सकता। इसलिये सभी को एक अक्तूबर से हो रही धान की खरीद में सहयोग करना चाहिये।

किसानों के एक-एक दाने की खरीद की जायेगी

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा सरकार किसानों के साथ है। प्रदेश में किसानों के एक-एक दाने की खरीद की जायेगी और इसमें किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरती जायेगी। उन्होंने कहा कि जो धान मंडियों में पंहुच चुका है, उसके लिए हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि बरसात खत्म होने तक मंडियों में धान को सुरक्षित स्थानों पर शैड के नीचे रखें या तरपाल से ढके ताकि फसल को नुकसान न हो।

इस अवसर पर पंचकूला के उपायुक्त श्री महावीर कौशिक, पुलिस उपायुक्त श्री सुरेंद्र पाल सहित बड़ी संख्या में सिख संगत उपस्थित थी।

ttps://propertyliquid.com/