विकास के मामले में रानियां बन रहा अग्रणी हलका : रणजीत सिंह

चैत्र नवरात्र के दौरान श्री माता मनसा देवी मंदिर में माता के दर्शन करते हुए उपायुक्त डाॅ0 बलकार सिंह

पंचकूला, 9 अप्रैल-

6 से 14 अप्रैल तक चैत्र नवरात्रों में श्री माता मनसा देवी मंदिर पंचकूला व काली माता मंदिर कालका में मेला आयोजित किया जा रहा है। आज उपायुक्त एवं श्रीमाता मनसा देवी श्राईन बोर्ड के चेयरमैन डाॅ0 बलकार सिंह ने मंदिर में नतमस्तक होकर महामाई के दर्शन किये और यज्ञशाला में आयोजित हवन यज्ञ में अपने परिजनों के साथ आहुति डाली। 

उपायुक्त ने इस मौके पर कहा कि मेले और त्योहार भारतीय संस्कृति की पहचान हैं। उन्होंने कहा कि सभी धर्मों के लोग सम्मान के साथ इन आयोजनों का हिस्सा बनते है, जो अनेकता में एकता की भारती की अनूठी पहचान को प्रतिबिंबित करता है। उन्होंने इस मेले में हरियाणा के साथ साथ देश के अन्य राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं के लिये श्री माता मनसा देवी श्राईंन बोर्ड द्वारा किये गये प्रबंधों की जानकारी भी प्राप्त की और उपलब्ध करवाई जा रही सुविधाओं पर संतोष जाहिर किया। 

श्रीमाता मनसा देवी श्राईंन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एस0पी0 अरोड़ा ने बताया कि श्रीमाता मनसा देवी मेला पंचकूला व काली माता मंदिर कालका में तीसरे नवरात्र पर 8 अप्रैल को श्रद्धालुओं द्वारा 2044219 रुपये का नकद चढ़ावा चढ़ाया गया है। जिसमें से माता मनसा देवी में 1727006 रुपये तथा श्री काली माता मंदिर में 317213 रुपये का चढ़ावा चढ़ा है। 

उन्होंने बताया कि इस दिन चांदी के 83 नग, सोने के 9 नग भी चढ़ावे के रूप में दान किये गये है जबकि श्रद्धालुओं ने यू0एस0ए0 के 42 डाॅलर भी दान किये है। उन्होंने बताया कि माता मनसा देवी में चांदी के 52 व सोने के 5 तथा काली माता मंदिर में चांदी के 31 और सोने के 2 नग चढ़ाये गये है। इसके अलावा उन्होंने श्रद्धालुओं के लिये उपलब्ध करवाई जा रही पेयजल, शौचालय, परिवहन, स्वास्थ्य, स्वच्छता व यातायात सुविधाओं की जानकारी भी दी। उन्होंने बताया कि श्रद्धालुओं को आवश्यक जानकारी और हिदायतें देने के लिये सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग द्वारा प्रसारण केंद्र स्थापित किया गया है। इस केंद्र के माध्यम से अपने परिजनों व सहयोगियों से बिछुड़े हुए श्रद्धालुओं, बच्चों को मिलवाया जाता है और मेला परिसर से किसी श्रद्धालु का गुम हुआ सामान मिलने पर उसकी जानकारी भी प्रसारण केंद्र के माध्यम से दी जाती हैं। 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply