राजकीय बहुतकनीकी नानकपुर में दाखिले  की तिथियों को किया संशोधित

खराब मौसम के बावजूद बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने किये महामाई के दर्शन-उपायुक्त

पंचकूला, 8 अप्रैल-

श्री माता मनसा देवी चेत्र नवरात्र मेला पंचकूला और काली माता मंदिर कालका में आज बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने महामाई के दर्शन किये। मौसम खराब होने के बावजूद प्रातः काल से ही लंबी लाईनों में श्रद्धालु माथा टेकने के लिये अपनी बारी की प्रतीक्षा कर रहे थे। पुरूषों के साथ-साथ बड़ी संख्या में महिलायें और बच्चे भी कतारों में खड़े थे। 

उन्होंने बताया कि श्री माता मनसा देवी श्राईंन बोर्ड पंचकूला द्वारा इस बार दोनों मंदिरों में दर्शनों के लिये की गई अतिरिक्त व्यवस्था होने के कारण श्रद्धालुओं की संख्या अधिक होने के बावजूद किसी भी श्रद्धालु को कोई परेशानी नहीं आई। अन्य सुविधाओं के साथ साथ स्वास्थ्य विभाग द्वारा श्रद्धालुओं को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने के लिये मेला परिसर के नजदीक बस अड्डा और मुख्य द्वार के नजदीक डिस्पेंसरियां स्थापित की हुई है। इन डिस्पेंसरियों पर तैनात डाॅ0 मानव और डाॅ0 नूरी ने बताया कि दोपहर दो बजे तक 835 श्रद्धालु स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ ले चुके है। इसके अलावा आयुष विभाग द्वारा भी श्रद्धालुओं के लिये निशुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर स्थापित किया हुआ है और आवश्यकतानुसार श्रद्धालुओं को दवाइयां भी निशुल्क उपलब्ध करवाई जा रही है। 

श्रीमाता मनसा देवी श्राईंन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एस0पी0 अरोड़ा ने बताया कि विभिन्न संस्थाओं द्वारा मेला परिसर में 8 भंडारे लगाये गये है। इसके अलावा श्री कांवड सेवा दल द्वारा निरंतर रक्तदान शिविर का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें प्रतिदिन सैकड़ों श्रद्धालु रक्तदान कर रहे है। 

श्री अरोड़ा ने कहा कि 7 अप्रैल को लगभग 2 लाख श्रद्धालुओं ने महामाई के दर्शन किये। दोनों मंदिरों में 7 अप्रैल तक 2038446 रुपये का चढ़ावा, चांदी के 264 नग तथा सोने के 18 नग चढ़ावे के रूप में दान किये गये है। इसके अलावा यू0एस0ए0 21 डाॅलर, कैनेडा के 7 डाॅलर तथा इग्लैंड के 10 डाॅलर भी दान के रूप में प्राप्त हुए है। उन्होंने बताया कि यह मेला 14 अप्रैल तक जारी रहेगा। 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply