*श्रीमती अरूणा आसफ अली राजकीय महाविद्यालय कालका में राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन*

उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने पिंजौर-कालका में डेंगू व बुखार के मामलों को लेकर अधिकारियों की ली बैठक

– प्रभावित क्षेत्रों में फौगिंग बढाने के साथ-साथ लोगों को जागरूक करने के दिये निर्देश*


*- फौगिंग की गतिविधियों को तेज करते हुए दो दिन कालका तथा दो दिन पिंजौर को किया जाए कवर-महावीर कौशिक*


*- पंचकूला में डेंगू से बचाव के लिए शहर के पार्को तथा अन्य स्थानों पर लगे फाउंटेन्स में पानी इकट्ठा न होने देने के दिये निर्देश*

For Detailed

पंचकूला, 22 सितंबर- उपायुक्त श्री महावीर कौशिक ने लघु सचिवालय सचिवालय स्थित अपने कार्यालय में पिंजौर-कालका में डेंगू व बुखार के मामलों को लेकर स्वास्थ्य विभाग, कालका नगर परिषद, कालका उपमण्डल के अधिकारियों के साथ बैठक की और प्रभावित क्षेत्रों में फौगिंग बढाने के साथ-साथ लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिये। उपायुक्त ने पंचकूला में डेंगू से बचाव के लिए नगर निगम तथा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण को निर्देश दिये कि यह सुनिश्चित किया जाए कि शहर के पार्को तथा अन्य स्थानों पर लगे फाउंटेन्स में पानी इकट्ठा न हो।  उपायुक्त ने निर्देश दिये कि स्वास्थ्य विभाग व नगर परिषद की टीमों द्वारा फौगिंग की गतिविधियों को तेज करते हुए दो दिन कालका तथा दो दिन पिंजौर को कवर किया जाए ताकि डेंगू के साईकल को तोड़ा जो सके। इसके साथ-साथ नालियों में दवाई का छिड़काव किया जाए और डेंगू मच्छर के लारवा को खतम करने के लिए सोर्स रिडक्शन एक्टिविटीज़ भी चलाई जाएं। उन्होंने निर्देश दिये कि पिंजौर और कालका में ऐसे क्षेत्रो की पहचान की जाए जहां डेंगू व बुखार के मामले अधिक सामने आ रहे हैं ताकि वहां फौगिंग व अन्य गतिविधियों को तेज किया जा सके। उपायुक्त ने कहा कि फौगिंग और दवाईयों के छिड़काव के साथ-साथ लोगों को डेंगू से बचाव के प्रति जागरूक करना भी आवश्यक है। उन्होंने निर्देश दिये कि नगर परिषद द्वारा कालका और पिंजौर में जिंगल के माध्यम से लोगों को डेंगू से बचाव के लिए ‘डूज़ एण्ड डोंट्स’ के बारे में बताया जाए। इसके अलावा यह भी सुनिश्चित किया जाए कि स्कूलों में आने वाले बच्चे पूरी बाजू के कपड़े पहन कर आएं। बैठक में बताया गया कि हाल ही में पीजीआई के डाॅक्टरों की टीम ने पिंजौर और कालका में डेंगू प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया और वहां बढते बुखार के मामलों के कारणों का पता लगाने के लिए लोंगों से बातचीत की। इसके साथ-साथ पीजीआई से आए डाॅक्टरों द्वारा सामान्य अस्पताल सेक्टर 6 के डाॅक्टरों को डेंगू और बुखार की स्थिति में मरीजों को दिये जाने वाले उपचार का प्रशिक्षण भी दिया गया। बैठक में बताया गया कि कालका नगर परिषद द्वारा 24 फौगिंग मशीनों व एक व्हीकल माउंटेड मशीन के माध्यम से पिंजौर व कालका में सुबह व शाम फौगिंग करवाई जा रही है। इसके अलावा परिषद की  5 गाड़ियों के माध्यम से मुनादी करवा कर लोगों को डेंगू से बचाव के लिए जागरूक किया जा रहा है। बैठक में बताया गया कि पिंजौर-कालका स्थित अस्पतालों में दवाईयों की प्रयाप्त मात्रा में उपलब्धता है। इस अवसर पर एसडीएम कालका रूचि सिंह बेदी, नगर परिषद की मुख्य कार्यकारी अधिकारी निशा शर्मा, कार्यवाहक सिविल सर्जन डाॅ. राजीव कपूर, जिला मलेरिया अधिकारी डाॅ. नवजोत कौर, डाॅ. सरोज अग्रवाल, डाॅ. अरूण तथा तहसीलदार कालका विक्रम सिंगला भी उपस्थित थे।

ttps://propertyliquid.com/