हरियाणा सरकार ने 30 जून, 2020 तक कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन बढाने का निर्णय लिया हैं।

शैल्टर हाउस में प्रवासी मजदूरों की सुविधाओं का रखा जा रहा है ख्याल, मनोरंजन के लिए लगाई गई है एलइडी

सिरसा, 3 अप्रैल।

लॉकडाउन : शहीद भगत सिंह स्टेडियम में बने शैल्टर हाउस में ठहरे हैं 53 प्रवासी मजदूर

शैल्टर हाउस में प्रवासी मजदूरों की सुविधाओं का रखा जा रहा है ख्याल, मनोरंजन के लिए लगाई गई है एलइडी


                            उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ान ने कहा कि स्थानीय शहीद भगत सिंह स्टेडियम में प्रवासी मजदूरों के लिए बनाए गए शैल्टर हाउस में 53 प्रवासी मजदूरों ने आसरा लिया हुआ है। जिला प्रशासन द्वारा सभी शैल्टर हाउस में प्रवासी मजदूरों के लिए जरूरी सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही है। प्रवासी मजदूरों को भोजन, चिकित्सा, मनोरंजन आदि की भी व्यवस्था की गई है। एलइडी के माध्यम से प्रवासी मजदूर रामायण, अन्य धारावाहिक तथा फिल्म आदि देख कर समय व्यतीत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि शैल्टर हाउस में रह रहे प्रवासी मजदूर किसी प्रकार की चिंता न करें उनके लिए जिला प्रशासन द्वारा चिकित्सा सुविधा के साथ-साथ खाने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।


                            उपायुक्त ने बताया कि लॉकडाउन में प्रवासी मजदूरों के लिए जिला में 10 शैल्टर हाउस बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के फैलाव और रोकने के लिए खुद सुरक्षित रहना व दूसरों को सुरक्षित रखना बेहद जरूरी है। आमजन लॉकडाउन में सरकार की हिदायतों का पालन करते हुए अनावश्यक घर से न निकलें। उन्होंने प्रवासी मजदूरों से कहा कि वे जब तक लॉकडाउन की स्थिति है, वे यहीं पर रहें, कहीं बाहर न जाएं। जिला प्रशासन द्वारा उनके लिये शैल्टर हाउस में सभी सुविधाएं उपलब्ध मुहैया करवाई जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि यदि वे यहां से अपने गांव में जाते हैं तो रास्ते में उन्हें वहीं पर रोक लिया जायेगा और जो उनके लिए परेशानी बन सकती है, इसलिये वे यहीं पर रहें। पूरे भारत में लॉकडाउन के तहत कड़ी हिदायतें जारी की गई हैं, इसलिये वे इन हिदायतों की पालना करते हुए प्रशासन का सहयोग करें।

https://propertyliquid.com/properties/1-kanal-luxury-premium-floors/


                            उपायुक्त ने शैल्टर हाउस में ड्यूटी पर तैनात कर्मचारी व प्रवासी मजदूरों से कहा कि वे सामाजिक दूरी का विशेष ध्यान रखें। उन्होंने बताया कि सिरसा शहर में स्थानीय शहीद भगत सिंह स्टेडियम में एक शैल्टर हाउस बनाया गया है जिसमें 100 व्यक्तियों को एक साथ रखा जा सकता है, इस समय इस शैल्टर में 53 प्रवासी व्यक्ति रह रहे हैं। उन्होंने बताया कि ऐलनाबाद में तीन शैल्टर हाउस बनाए गए हैं जिनमें जैन धर्मशाला में 50, सतनाम धर्मशाला में 70 तथा नगर पालिका में 4 व्यक्ति रह सकते हैं। इसके अलावा रानियां में हिम्मतपुरा मौहल्ला के शैल्टर हाउस 20 तथा गांव धोलपालियों की हरिजन चौपाल में 12 व्यक्ति रह सकते हैं। उन्होंने बताया कि गांव चकेरियां के राजकीय प्राइमरी स्कूल में बनाए गए शैल्टर हाउस में 10, कालांवाली की सालासर धर्मशाला में 50, कांलावाली की महाजन धर्मशाला में 50 तथा मंडी डबवाली के नगर परिषद के सामुदायिक भवन 60 लोगों के ठहरने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि इन शैल्टर हाउस में कर्मचारियों की ड्यूटियां लगाई गई है, जो ठहरने के लिए आने वाले प्रवासी मजदूरों के लिए हर संभव सहायता उपलब्ध करवाएंगे।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!