स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिला में 848 व्यक्तियों को निगरानी में रखा गया है।

बच्चों को कुपोषण व अनीमिया से बचाने के लिए खिलाएं एल्बेंडाजोल : डीसी रमेश चंद्र बिढान

सिरसा, 10 फरवरी।

बच्चों को कुपोषण व अनीमिया से बचाने के लिए खिलाएं एल्बेंडाजोल : डीसी रमेश चंद्र बिढान


             बच्चों को कुपोषण व अनीमिया से बचाने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में आज यानि 10 फरवरी को कृमि मुक्ति दिवस मनाया जा रहा है। इसी उद्ïदेश्य से आज पूरे जिले में एक साल से 19 साल तक के बच्चों को एलबेंडाजॉल की गोलियां खिलाई जाएगी। उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान सोमवार को दी सिरसा स्कूल में राष्टï्रीय कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर विद्यार्थियों को संबोधित कर रहे थे।


                 उन्होंने स्वयं इस गोली का सेवन कर कहा कि यह गोली एक साल से उपर की उम्र का कोई भी व्यक्ति खा सकता है। इससे कोई दुष्प्रभाव नहीं है। उन्होंने बच्चों को सम्बंोधित करते हुए कहा कि बच्चे हमारे राष्टï्र व समाज का भविष्य है इसलिए उन्हें स्वस्थ रहना अति आवश्यक है। हरियाणा सरकार अपना भविष्य को स्वस्थ व सुरक्षित  करने के लिए समय समय पर ऐसे अभियान चलाते है  ताकि राष्टï्र का भविष्य कुपोषण व अनीमिया से ग्रस्त न हो बल्कि स्वस्थ हो। उन्होंने कहा कि ये गोलियां एक साल से 19 साल तक के बच्चों को खिलाई जाएगी। इसके लिए जिला के सभी सरकारी स्कूल, प्राइवेट स्कूल, प्ले स्कूल, आंगनवाड़ी सेंटर व ट्रांजिट पॉइंट जैसे बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर बिल्कुल मुफ्त दी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिले के 843 राजकीय स्कूलों, 273 निजी स्कूलों तथा 1377 आंगनवाड़ी केंद्रों में बच्चे 4 लाख 29 हजार 859 बच्चों को एल्बेंडाजोल की गोलियां खिलाने का लक्ष्य रखा गया है।


उन्होंने बताया कि जिन बच्चों के पेट में ज्यादा कीड़े होते हैं उन्हें दवा खाने पर मिचली, चक्कर या घबराहट की दिक्कत हो सकती है। इससे घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने सभी अभिभावकों से अपील की है कि वे अपने एक से 19 साल तक के बच्चों को एल्बेंडाजोल की गोली अवश्य खिलाये। उन्होंने कहा कि यह चबाने वाली गोली है ताकि पेट में पलने वाले कीड़े का खत्म किया जा सके ताकि बच्चों को स्वस्थ व तंदरुस्थ बने।


                 उपायुक्त ने बताया कि इस कार्य को करने के लिए स्वास्थ्य विभाग व शिक्षा विभाग तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के समस्त कर्मचारी लगे हुए है। उन्होंने कहा कि पेट के कीड़े मारने की दवाई खाने से अगर किसी बच्चे को कोई परेशानी होती है तो वे तुरंत 108 नम्बर पर फोन कर सिविल सर्जन कार्यालय में सम्पर्क कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि एलबेंडाजॉल टैबलेट खाने से वैसे तो कोई नुकसान नहीं है पर फिर भी अगर किसी बच्चे में डर है या उसे खाने से कोई दिक्कत लगती है तो वे हैल्पलाईन नम्बर पर सम्पर्क कर सकते हैं।


                 कार्यक्रम में उप सिविल सर्जन डा. कुलदीप गोरी, डा. सैनी जिंदल, डा. कमल कक्कड़, प्रिंसिपल डा. राजेश सचदेवा, कमलजीत सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। 

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!