पर्यावरण संतुलित बनाए रखने के लिए पौधारोपण बहुत जरुरी : सीईओ जयवीर यादव

सिरसा, 21 जुलाई। 

   जल शक्ति अभियान के तहत गांव ढांणी भरोखां में पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित       

    जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जयवीर यादव ने कि पर्यावरण संतुलित बनाए रखने के लिए पौधारोपण बहुत जरुरी है। पौधे और वर्षा एक दूसरे के पूरक हैं। जितने अधिक पेड़ पौधे होंगे उतनी ही वर्षा की संभावनाएं बढेंगी। एक पौधा लगा कर न केवल पर्यावरण को स्वच्छ रख सकेंगे बल्कि गिरते भूजल स्तर को भी बचा सकेंगे।     

वे आज जिला के गांव ढाणी भरोखां में जल शक्ति अभियान के तहत सेवा परमों धर्म वैलफेयर ट्रस्ट द्वारा आयोजित पौधारोपण कार्यक्रम के शुभारंभ उपरांत ग्रामीणों को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे।    

 श्री जयवीर यादव ने ग्रामीणों को केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा 15 सितंबर तक ग्रामीण व शहरी क्षेत्र चलाए जा रहे जल शक्ति अभियान के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आज हमें पानी की कमी महसूस होने लगी है लेकिन यदि हमने जल संरक्षण पर ध्यान नहीं दिया तो आने वाले समय में जल संकट की समस्या और अधिक गहरा जाएगी। उन्होंने ग्रामीणों से कहा वे अपने बच्चों को जल के महत्व के बारे में बताए और कहीं भी व्यर्थ में जल न बहने दे। उन्होंने कहा कि बरसाती सीजन पौधरोपण के लिए उत्तम होता है। वन विभाग द्वारा जिला की प्रत्येक ग्राम पंचायत में 500-500 पौधे रोपित किये जाएंगे। उन्होंने ग्रामीणों से अपील की कि वे वन विभाग द्वारा लगवाए जाने वाले पौधों का संरक्षण करें और पर्यावरण संरक्षण में अपना दायित्व पूरा करें।   

ग्रामीणों ने ली अधिक से अधिक पौधारोपण की शपथ

  सेवा परमों धर्म वैलफेयर ट्रस्ट द्वारा जिला के 20 गांवों में 10 हजार पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इस कार्यक्रम की शुरुआत आज गांव ढाणी भरोखां से की गई है। इस अवसर पर बच्चों से पौधे लगवाए गए और उन्हें पेड़ पौधों के महत्व के बारे में बताया गया। इस मौके पर ग्रामीणों ने अधिक से अधिक पेड़ पौधे लगाने की शपथ भी ली।     

Watch This Video Till End….

कार्यक्रम में सरपंच गांव ढाणी भरोखां रेखा देवी, सरपंच गांव भरोखां शीशपाल सुथार, लेखाकार इंद्रजीत, एबीपीओ सुनील कुमार, संदीप हंस व रामदास पंच, एनजीओ सेवा परमो धर्म के सदस्य व ग्रामीण मौजूद थे।

Watch This Video Till End….

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *