जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

PU Results

Chandigarh June 2, 2021

For Detailed News-

This is to inform that the result of examination December, 2020 of the following courses have been declared/made public today.
1. Master of Business Administration (Hons. School System) 1st Semester Examination – December, 2020
2. Bachelor of Science (Agriculture) (4 Year Course) 5th Semester Examination – December, 2020
3.  Bachelor of Science 5th Semester Examination – December, 2020

https://propertyliquid.com

The same can be seen at the respective Departments/Colleges or Panjab University website.

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

खरीफ सीजन में धान की फसल के लिए किसानों न बिजाई शुरू कर दी है।

For Detailed News-

पंचकूला 2 जून- खरीफ सीजन में धान की फसल के लिए किसानों बिजाई शुरू कर दी है। इसके साथ ही कृषि एवं किसान कल्याण विभाग किसानों को धान की सीधी बिजाई के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इसके लिए व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है।


यह जानकारी देते हुए उप निदेशक, पंचकूला ने बताया कि धान की सीधी बिजाई उन्ही खेतों में करे जिनमें पहले से ही धान की फसल ली जा रही हो। बेहतर परिणाम के लिए किसानों को समय पर और सिफारिस के अनुसार सभी कृषि क्रियाए करनी चाहिए। सबसे पहले खेत को लेजरलैड लेवलर से समतल करवाएं तथा डीएसआर मशीन द्वारा उपचारित बीज की बिजाई सांयकाल के समय करें इससे भूमि में नमी अधिक देर तक बनी रहेगी।


उन्होंने बताया कि बिजाई के समय कतारों की दूरी 20 सें0मी0 रखे तथा बीज की 3-5 सें0मी0 की गहराई तक ही बिजाई करें। हल्की भूमि में धान की सीधी बिजाई करने से कभी-कभी लोहे की कमी के लक्षण नजर आते हैं, तो कृषि विशेषज्ञों की सलाह लेकर दवाईयों/खादों का प्रयोग करें। जिले में लगभग 50 एकड़ क्षेत्र में धान की सीधी बिजाई हुई थी जिसे इस वर्ष ओर अधिक करने के प्रयास विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा किसानों को जागरूक करके किए जा रहे हैं।

https://propertyliquid.com


उन्होनें बताया कि रोपाई की अपेक्षा धान की सीधी बिजाई करने से लगभग 20 प्रतिशत पानी की बचत होती है। जिससे भूमिगत जल स्तर में भी 10 से 15 प्रतिशत वृद्वि संभव हो सकती है। कीट पंतगों एवं बिमारियों का प्रकोप भी कम होता है तथा धन की बचत भी होती है।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

उपायुक्त – मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम का इस वर्ष भी खरीफ सीजन 2021 में क्रियान्वयन करने का फैसला किया

For Detailed News-

पंचकूला 2 जून- उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि फसल विविधकरण के अन्तर्गत मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम खरीफ 2021 लागू लगातार गिरते भूजल स्तर से चिंतित सरकार द्वारा गत वर्ष की भान्ति फसल विविधकरण के अन्तर्गत मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम का इस वर्ष भी खरीफ सीजन 2021 में क्रियान्वयन करने का फैसला किया है। यह स्कीम पूर्व की तरह कृषि एवं किसान कल्याण विभाग तथा बागवानी विभाग द्वारा क्रियान्वित की जाएगी।


उपायुक्त ने बताया कि जो किसान धान के स्थान पर अन्य फसलों की बिजाई करेगा जिनमें कपास, मक्का, अरहर, मूंग, मोठ, उड़द, सोयाबीन, ग्वार, तिल मूंगफली खरीफ सीजन के सभी चारे, खरीफ प्याज, बागवानी, सब्जियां शामिल हैं। उन किसानों को 7000 रूपये प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा विभागीय अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा सत्यापन उपरान्त उनके बैंक खातों में हस्तान्तरित करवा दी जाएगी। इसके अतिरिक्त यह प्रोत्साहन राशि पाने के पात्र वे किसान भी होंगे जिन्होंने गत वर्ष की गई धान की बिजाई वाले क्षेत्र को इस वर्ष खरीफ सीजन 2021 में खाली छोड़ा है।


उपायुक्त ने बताया कि मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम के तहत गत वर्ष जिन खेतों में फसल विविधकरण अपनाकर लाभ प्राप्त किया था उन्हीं खेतों में इस वर्ष भी अनुमोदित खरीफ फसलों को उगाकर लाभ प्राप्त कर सकते है। प्रोत्साहन राशि के हकदार वे किसान भी होंगे जिन्होंने मेरा पानी मेरी विरासत पोर्टल पर पंजीकरण करवाया होगा। पोर्टल पर पंजीकरण न होने पर स्कीम का लाभ नहीं दिया जाएगा।


उन्होंने बताया कि मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम में वर्णित सभी फसलों का बीमा प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत कवर होगा जिसकी प्रीमियम राशि का वहन सरकार द्वारा किया जाएगा। जिन फसलों का समर्थन मूल्य भारत सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है उन सभी फसलों की 100 प्रतिशत खरीद भी सरकार द्वारा समर्थन मूल्य पर की जाएगी।

https://propertyliquid.com


उन्होंने किसानों का आहवान करते हुए कहा कि वैकल्पिक फसलें उगाकर भूमि जलस्तर को और अधिक गिरने से रोकने में अपना भरपूर योगदान दें ताकि कृषि व्यवसाय हमेशा फलता-फूलता रहे।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने पंचकूला को टूरिज्म हब के रूप में विकसित करने के लिए गम्भीरता से कार्य करने के साथ ही मोरनी के लिए पेयजल की व्यवस्था का स्थाई समाधान निकालने के निर्देश दिए।

For Detailed News-

पंचकूला 2 जून- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने पंचकूला को टूरिज्म हब के रूप में विकसित करने के लिए गम्भीरता से कार्य करने के साथ ही मोरनी के लिए पेयजल की व्यवस्था का स्थाई समाधान निकालने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री आज यहां पंचकूला डेवलपमेंट प्लान की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता व पंचकूला के महापौर श्री कुलभूषण गोयल भी उपस्थित रहे।


मुख्यमंत्री ने पैराग्लाईडिंग जैसे साहसिक खेलों को बढावा देने के लिए मोरनी में आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रम के लिए हर आवश्यक मापदण्ड समय से पूरा करने के लिए निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस खेल में क्योंकि काफी रिस्क रहता है इसलिए प्रतिभागियों के बीमा आदि के लिए भी सभी औपचारिकताएं पूरी की जानी बेहद जरूरी है। उन्हांेने आगामी 20 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित किए जाने वाले पैराग्लाईडिंग की शुरूआत के कार्यक्रम के लिए विस्तृत जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके साथ ही ट्रैकिंग को बढावा देने के लिए ट्रैकिंग रूट ऐसे बनाए जाएं ताकि युवा सायं के समय आसानी से गंतव्य स्थल पर पहंुच जाए।


मुख्यमंत्री ने श्री ज्ञानचंद गुप्ता को कहा कि उन्हें पंचकूला के विधायक के नाते चण्डीगढ एयरपोर्ट से पंचकूला की कनेक्टीविटी के विषय पर केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री से मिलना चाहिए ताकि प्रोजेक्ट को जल्द से जल्द सिरे चढ सके। बैठक में पंचकूला में मेडिकल और शैक्षणिक हब के रूप में विकसित करने की योजना पर भी विस्तार से चर्चा की गई। मुख्यमंत्री ने पंचकूला के महापौर को इस संबंध में विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर देने के भी निर्देश दिए।

https://propertyliquid.com


सड़कों के मजबूत नेटवर्क से सुगम होगा पर्यटन


समीक्षा बैठक के दौरान मोरनी और टिक्करताल आदि स्थलों को जोड़ने के तहत सड़कों के मजबूत नेटवर्क के लिए मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से विस्तृत जानकारी ली एवं आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इसके लिए जिन विभागों की एनओसी की आवश्यकता है, वह काम तेजी से पूरा करने के लिए कहा। बैठक में पंचकूला से मांधना, मांधना से मोरनी, मोरनी से टिक्करताल और टिक्करताल से रायपुररानी तक सड़कों को मजबूत करने के लिए व्यापक चर्चा की गई ताकि पर्यटकों का आवागमन सुगम हो। रामगढ से हिमाचल को जोड़ने वाली सड़क के बारे में मुख्यमंत्री ने विस्तृत चर्चा की। इस सड़क की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट आगामी 15 दिनों में तैयार कर ली जाएगी।


नक्षत्र वाटिका, सुगंध वाटिका एवं राशि वन का शिलान्यास 5 जून को


बैठक के दौरान बताया गया कि पर्यटन को बढावा देने के लिए पंचकूला से मोरनी रोड़ के किनारे लगभग 20 एकड़ में नक्षत्र वाटिका, सुगंध वाटिका और राशि वन स्थापित किए जाएंगे। नक्षत्र वाटिका में सभी 27 नक्षत्रों से संबंधित पौधे लगाए जाएंगे। इसके साथ ही नक्षत्रों के बारे में विस्तृत जानकारी भी इस वाटिका में मिलेगी। सुगंध वाटिका में सुगंध बिखेरने वाले पौधे लगाए जाएंगे। इसके साथ ही आसपास के किसानों को ऐसे पौधे लगाने के लिए प्रेरित किया जाएगा ताकि आसपास में ही स्थापित सुगंधित तेल बनाने वाले उद्योग में किसान अपनी फसल बेच कर अधिक से अधिक मुनाफा कमा सकें। इसी प्रकार राशि वन में सभी 12 राशियों से संबंधित पौधों का रोपण किया जाएगा। इन पौधों और राशियों के बारे में भी इस वन में विस्तृत जानकारी पर्यटकों के लिए उपलब्ध करवाई जाएगी। मुख्यमंत्री ने बैठक के दौरान ही अधिकारियों से राशि से संबंधित पौधों के बारे में पूछा। इन वाटिकाओं का शिलान्यास मुख्यमंत्री द्वारा पर्यावरण दिवस के अवसर पर 5 जून को किया जाएगा।


डम्पिंग ग्राउण्ड को तुरंत शिफ्ट करने के निर्देश


मुख्यमंत्री ने सैक्टर 23 के डम्पिंग ग्राउण्ड की चर्चा के दौरान कड़ा संज्ञान लेते हुए इसे तुरंत प्रभाव से झूरीवाला में शिफ्ट करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सैक्टर 23 के डम्पिंग ग्राउण्ड में कूड़ा डालना तत्काल बंद किया जाए और इसे जल्द से जल्द साफ करवाया जाए। उन्हांेने कहा कि इस काम में किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त करने योग्य नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस कार्य में देरी के लिए अधिकारियों की जवाबदेही तय करते हुए कड़ी कार्रवाई की जाए।


इस मौके पर हरियाणा के मुख्य सचिव श्री विजय वर्धन, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डी एस ढेसी, एसीएस श्री ए के सिंह, श्री आलोक निगम, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री वी उमाशंकर, अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. अमित अग्रवाल, पंचकूला के उपायुक्त के अलावा कई विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

Raj Kumar ,PU VC gets 3 years extension

Chandigarh June 2, 2021

Prof. Raj Kumar,   Vice Chancellor of Panjab University has  been given extension for a period of another three years  w.e.f 23 July 2021. by the office of Chancellor, Panjab University..   

For Detailed News-

Under his tenure, growth of Panjab University has taken a quantum leap in the last about 3-years. There are many first time initiatives which include integration of Seven Verticals SAIF/CIL Lab, Design Innovation Centre, CIIPP, Skill Development, Bio-Nest Incubator, Institute Innovation Council, DST Centre for Policy Research, for their efficient and coordinated working. University received a grant of Rs. 50 crore from MHRD Rashtriya Uchchatar Shiksha Abhiyan (RUSA) under Component 10 and planned and established Incubation Centre known as Discovery Block in the University Campus. PU is ranked at 2nd in the Atal Ranking of Institutions on Innovation Achievements (ARIIA) amongst Indian Universities of the country. It has signed 37 MoUs with National and International institutions/ Industry.

Also, the University library provided learning resources through RemoteXs at home for the faculty, research scholars and students. University faculty with motivation has organized 900+ Webinars/ Seminars/ Workshops/ Conferences in last two years along with 500+ online events during COVID pandemic. 27 scientists from various disciplines out of 2313 Indian Scientists have been included in the elite list of world top two percent scientists by Stanford University. Assam Government established the Srimanta Sankardev Chair commencing from 2019-20 to facilitate research beyond Assam borders. He made efforts to give  promotion and service benefits to a number of ministerial, secretarial, technical and Class ‘C’ staff .

It was also observed that over 100 teachers of the university were struggling to get their Ph.D benefits released. Unnecessary pressure which was lingering on the minds of the young faculty members since 2009 was taken with priority. The Vice Chancellor took initiative and with personal intervention made regulatory bodies address the concern of the teachers and letter concerning the same was issued. Also, now there is zero pendency of CAS promotion in the Vice-Chancellor office. A total of 133 cases of promotion are processed and granted under Career Advancement Scheme (CAS) during July 2018 to July 2020

https://propertyliquid.com

PU won the prestigious Maulana Abul Kalam Azad (MAKA) Trophy for all-round performance in sports among Indian Universities continuously for two years (2019 & 2020). It was awarded by the President of India on National Sports Day. PU also got First position in1st Khelo India University Games organized by the Ministry of Youth Affairs & Sports during Feb-March 2020. University introduced a Six-month Certificate Course in Elementary Sanskrit and Bhagavad-Gita, Ancient Indian Wisdom. It has also conducted Online examination for all the students (~2,50,000) during COVID Pandemic. It is among top 05 universities in India to upload data of 31000+ students on NAD (National Academic Depository) as mandated by MHRD, GoI. Under his leadership,  PU Alumni Association (PUAA) organized a Global Alumni Meet in November, 2019.

He has been instrumental in getting 271 Molekule Air purifier units for SAIF/CIL, Panjab University and have been distributed to the hospitals of the region.

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

बुधवार को 3629 लाभार्थियों ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, अब तक जिला में हुआ दो लाख 65 हजार से अधिक वैक्सीनेशन

सिरसा, 02 जून।

For Detailed News-


उपायुक्त प्रदीप कुमार ने बताया कि बुधवार को 3629 लाभार्थियों ने कोरोना की डोज लगवाई तथा अब तक जिला में दो लाख 65 हजार 471 लाभार्थियों को वैक्सीन की डोज दी जा चुकी हैैं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन बेहद जरूरी है। उन्होंने बताया कि 18 से 44 आयुवर्ग के 37 हजार 94 लाभार्थियों, 45 से 60 वर्ष आयुवर्ग के 67 हजार 540 लाभार्थियों ने कोरोना की पहली तथा 15 हजार 124 लाभार्थियों ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा ली है। इसके अलावा 60 वर्ष से अधिक आयु के 96 हजार 459 लाभार्थियों ने पहली तथा 32 हजार 724 लाभार्थियों ने कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा ली है।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बताया कि वैक्सीनेशन पूरी तरह से सुरक्षित व प्रभावी है और किसी तरह का इससे कोई साइड इफेक्ट नहीं है। इसलिए नागरिक बिना किसी भय व संकोच के वैक्सीनेशन के लिए आगे आएं और अपनी आयुवर्ग के अनुसार वैक्सीनेशन करवाएं। वैक्सीनेशन के साथ-साथ नागरिक बचाव उपायों की भी पालना अवश्य करें। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रत्येक व्यक्ति को चाहिए कि वे अपनी नैतिक जिम्मेवारी समझ कर बचाव उपायों व एसओपी गाइडलाइन की अनुपालना करें तभी कोरोना संक्रमण से बचाव संभव है। कोरोना संक्रमण पर काबू पाने के लिए नागरिकों का सहयोग जरूरी है, इसलिए आमजन जरा भी ढील न बरतें और टेस्टिंग व वैक्सीनेशन अवश्य करवाएं।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

Mayor creates awareness about swachhata at ward No.3

For Detailed News-

Chandigarh, June 2:- Sh. Ravi Kant Sharma, Mayor, Chandigarh today flagged off a special sanitation under Swachh Bharat Mission at ward No.3, Chandigarh. Smt. Sunita Dhawan, area councilor and all concerned staff of Engineering wing, Sanitation wing and manpower took part in this drive.

During the drive special emphasis has been given to clean road berms, specially the horticulture waste lying after the recent storm. The Mayor instructed the concerned officers of Horticulture and sanitation wings to clean the road berms and other open areas.

The Mayor also instructed the public health officials to clean road gullies properly to avoid any kind of water logging in the area near Bal Bhawan, sector 23. The Mayor instructed the B&R officials to remove the malba from the road berms and asked them to challan the violators, who dumped malba infront of house No. 1293, Sector 23 after its renovation.

https://propertyliquid.com

The Mayor also distributed pamphlets to the residents of area creating awareness about precautions about COVID-19 and upkeep of sanitation in their houses/surroundings besides making compost from their kitchen waste to use for gardening.

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

चालान के डर से नहीं कोरोना महामारी से बचाव के लिए करें नियमों की पालना : पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह

सिरसा, 2 जून।

For Detailed News-

-अनावश्यक ही घर से न निकलें बाहर, कोरोना महामारी से बचाव में ही समझदारी


पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने कहा कि यह सुखद है कि कोरोना के मामले लगातार घट रहे हैं, लेकिन संक्रमण को बढने से रोकने तथा इसके खात्मे के लिए निरंतर सजग व जागरूक रहने की जरूरत है। दोबारा से स्थिति अनियंत्रित न हो, इसके लिए जरूरी है कि आमजन संक्रमण से बचाव उपायों की पालना करते हुए पुलिस प्रशासन का सहयोग करें।


उन्होंने कहा कि मास्क संक्रमण से बचने का बेहतर उपाय है, लेकिन देखने में आता है कि लोग चालान के डर से औपचारिक रूप से मास्क को लगाते हैं। ऐसा करना न केवल स्वयं के लिए बल्कि दूसरों को भी असुरक्षित करता है। उन्होंने कहा कि मास्क चालान के डर से नहीं बल्कि संक्रमण से स्वयं के बचाव व दूसरों की सुरक्षा के लिए लगाएं। मास्क को अच्छे ढंग से लगाएं, ताकि संक्रमण से बचाव हो सके और इसका फैलाव न हो। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन लोगों की सुरक्षा के लिए नियमों की पालना करवाती है। इसलिए आमजन लॉकडाउन व बचाव उपायों की पालना करते हुए पुलिस प्रशासन का सहयोग करें।

https://propertyliquid.com


पुलिस अधीक्षक ने कहा कि कोरोना महामारी से संक्रमण की दर लगातार घट तो रही है मगर नियमों की अनदेखी करने से इस महामारी को बढने में देर नहीं लगेगी। इसलिए आमजन से अपील है कि बेवजह सड़कों पर न निकलें क्योंकि कोरोना महामारी से बचाव में ही समझदारी है। अपने घरों में रहकर कोविड-19 के नियमों की पालना करके अपने तथा अपने परिवार को सुरक्षित रखे। सिरसा में कोरोना महामारी से आमजन की सुरक्षा के लिए पुलिस दिन व रात की शिफ्टों में गलियों, सडकों व चौराहों पर तैनात है और बिना वजह सड़कों पर घूमने वालों व नियमों की अवहेलना करने वालों के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही की जा रही है। इसके साथ ही मुख्य स्थानों पर नाकाबंदी करके चैकिंग की जा रही है।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

वाणिज्य भवन परिसर में पौधारोपण कर दिया पर्यावरण स्वच्छता का संदेश

सिरसा, 2 जून।

For Detailed News-


कोरोना महामारी में संक्रमित मरीजों के लिए ऑक्सीजन की विशेष जरूरत से मानव जीवन के लिए ऑक्सीजन की अहमियत को भलिभांति समझा जा सकता है। ऑक्सीजन पर्यावरण का अहम हिस्सा है। इसलिए स्वच्छ पर्यावरण को लेकर आमजन को जागरूक होने की जरूरत है। इसी दिशा में पर्यावरण स्वच्छता का संदेश देने के उद्ेश्य से वाणिज्य भवन परिसर में डीआईपीआरओ कार्यालय के कर्मचारियों ने पौधारोपण किया। इस दौरान डीआईपीआरओ वीरेंद्र वर्मा, एआईपीआरओ संजय बिडलान, लेखाकार मक्खन सिंह, हरपाल सिंह, जगमीत सिंह, अमित गोदारा, शेर सिंह आदि उपस्थित थे।


सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी वीरेंद्र वर्मा ने कहा कि आमजन पर्यावरण सरंक्षण के लिए अधिक से अधिक पेड़-पौधे लगाएं। पर्यावरण स्वच्छता को लेकर सबको मिलकर काम करना होगा। हर व्यक्ति अपने जीवन में अधिक से अधिक पौधारोपण करने का संकल्प लें, ताकि एक स्वच्छ पर्यावरण परिकल्पना को साकार करते हुए स्वस्थ जीवन का निर्माण किया जा सके। हर नागरिक को पेड़ लगाकर पर्यावरण सरंक्षण की सामाजिक जिम्मेवारी का निर्वहन करना होगा।


उन्होंने कहा कि आमजन कोरोना महामारी से बचाव के लिए मास्क, हाथों को बार-बार धोनें जैसे प्रभावी उपायों को निरंतर अपनी दिनचर्या में शामिल करें। नियमों की पालना ही संक्रमण से बचाव का बेहतर उपाय है। उन्होंने कहा कि महामारी की रोकथाम को लेकर सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन के नियमों की ईमानदारी से पालना करें और प्रशासन का सहयोग करें। संक्रमण से स्वयं के बचाव में ही दूसरा की सुरक्षा है।  

https://propertyliquid.com


पर्यावरण संस्कृति में त्रिवेणी का विशेष महत्व :


पर्यावरण संस्कृति में त्रिवेणी का विशेष महत्व है, जिसमें नीम, बरगद व पीपल के पेड़ होते हैं। ये पेड़ ऑक्सीजन प्रचूर मात्रा में प्रदान करते हैं। पीपल का पेड़ एक दिन में सबसे ज्यादा ऑक्सीजन छोड़ता है। बरगद का पेड़ भी हर रोज प्रचूर मात्रा में ऑक्सीजन प्रदान करता है। इसलिए पर्यावरण स्वच्छता के महत्व को समझते हुए अधिक से अधिक पेड़ लगाएं।

जिला पंचकूला के विभिन्न केन्द्रों पर आयोजित की जाएगी परीक्षा

BBMB ORGANISES BLOOD DONATION CAMP

For Detailed News-

Chandigarh: Today i.e. on 02.06.2021 Bhakra Beas Management organized a Blood
Donation Camp on special request of Department of Transfusion Medicine, P.G.I.,
Chandigarh at BBMB Rest House, Sector 35-B, Chandigarh. Presently, blood banks in
India are facing acute shortage of blood due to grave situation of COVID-19 pandemic
and Hospitals are in urgent need of Blood, Plasma & Platelets to treat critically ill
patients & for surgery etc.


The camp was inaugurated by Er. Harminder Singh Chugh, Member/Power. All
COVID-19 protocols were followed during the camp.

https://propertyliquid.com


On this occasion, Er. Sanjay Srivastava, Chairman, BBMB saluted all the donors
of BBMB for their courage to donate blood during the grave situation of COVID-19
pandemic. He further, apprised that all BBMB Hospitals at Nangal, Talwara &
Sundernagar are working 24X7 to provide best treatment to COVID patients & these
Hospitals are also Vaccinating public residing in their vicinity. He also saluted all the
frontline workers of the Hospitals.


On this occasion, Er. B.S.Sabherwal/CESO, Er. Vipin Gupta/CETS, Er. Rakesh
Sharma/Special Secretary, Er. B.S.Singhmar/Director HRD, Er. H.S.Manocha/Director
Security, Er. Satish Singla/Director NHP and Er. Anurag Goyal, Jt. Secretary/PR &
Admn. were also present in this camp.