पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा का आयोजन 10 जनवरी, 2021 को होगा।

चंडीगढ, 9 नवम्बर-

हरियाणा के सैनिक स्कूल कुंजपुरा, करनाल में शैक्षिणक सत्र 2021-2022 के लिए कक्षा छठी में लगभग 93 सीटों व कक्षा नौंवी में 22 सीटों पर दाखिले हेतु अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा का आयोजन 10 जनवरी, 2021 को होगा।

For Detailed News-

         इस संबंध में जानकारी देते हुए सैनिक स्कूल कुंंजपुरा के प्रधानाचार्य कर्नल वी.डी. चंदौला ने बताया कि देश में 33 सैनिक स्कूलों में दाखिले के लिए हर वर्ष अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है। उन्होंने कहा कि इस शैक्षिणक सत्र के लिए प्रवेश परीक्षा ओएमआर आधारित होगी जिसमे बहु-विकल्प प्रश्न दिए जाएंगे।

         शैक्षिणक सत्र 2021-2022 के लिए सैनिक स्कूल कुंजपुरा, करनाल में कक्षा छठी में लडक़ों के लिए लगभग 83 सीटें व लड़कियों के लिए 10 सीटें और कक्षा नौंवी में लडक़ों के लिए 22 सीटें हैं। उन्होंने कहा सीटों की वास्तविक संख्या पासआऊट और नाम वापस लेने की संख्या पर आधारित होगी।

https://propertyliquid.com

उन्होंने कहा कि दाखिले अखिल भारतीय सैनिक स्कूल प्रवेश परीक्षा के आधार पर केवल मैरिट आधार पर ही दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के लिए कुल सीटों में से क्रमश: 15 प्रतिशत और 7.5 प्रतिशत सीटें और अन्य पिछड़े वर्गों- नॉन क्रिमिलेयर के लिए 27 प्रतिशत सीटें आरक्षित की गई हैं। शेष सीटों में से 25 प्रतिशत सीटें भूतपूर्व सैनिकों सहित सेवारत सैन्यकर्मियों के बच्चों के लिए आरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि 1 अप्रैल, 2009 से 31 मार्च, 2011 के बीच जन्में लडक़ें शैक्षिणक वर्ष 2021-2022 सत्र के दौरान कक्षा छठी में और 1 अप्रैल, 2006 से 31 मार्च 2008 के बीच जन्में लडक़ें कक्षा नौवीं में दाखिले के लिए पात्र होंगे।

आवेदक स्कूल की बैवसाइट www.aissee.nta.nic.in  पर 19 नवम्बर, 2020 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

14th CHASCON 2020 By PU In December

Chandigarh November 9, 2020

Panjab University in association with Chandigarh Region Innovation and Knowledge Cluster (CRIKC) is organizing 14th Chandigarh Science Congress 2020 (CHASCON-2020) through online mode from December 17-19, 2020 on the theme ‘Science and Technology Innovations: Ushering in the Era of Make-in-India” under the patronship of Prof. Raj Kumar, Vice Chancellor, PU.

For Detailed News-

Prof. Desh Deepak Singh, Coordinator, CHASCON-2020 informed that the registration fees is waived off since the conference is in online mode. But, still the participants have to fill the registration form which they can download from the website https://chascon.puchd.ac.in/.

CHASCON is an annual event since 2007 in PU which encourages the young and innovative minds for interaction with researchers, academicians and industry leaders. CHASCON will be an exciting platform to deliberate, exchange views on scientific challenges and innovations and would showcase the contributions from the region and define the future roadmap for making India the Innovation Hub.

https://propertyliquid.com

Many eminent speakers will give plenary lectures and there will be panel discussions and opportunity for e-posters, abstracts and oral presentations.

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

ई-ऑफिस बनाकर सरकारी कार्यालयों को किया जाएगा पेपरलैस : एडीसी उत्तम सिंह

सिरसा, 9 नवंबर।

अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने ई-ऑफिस प्रोजेक्ट को लेकर ली अधिकारियों की बैठक, दिए आवश्यक दिशा निर्देश


              अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने कहा कि जिला के सरकारी कार्यालयों को ई-आफिस बनाकर पेपरलैस किया जाएगा। प्रोजेक्ट को विभिन्न चरणों में पूरा किया जाएगा, इस कार्य को सफलता पूर्वक पूरा करने के उद्देश्य से संबंधित विभागों के अधिकारियों, कर्मचारियों को ई-ऑफिस प्रोजेक्ट के लिए प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।

For Detailed News-


              अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने सोमवार को स्थानीय लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में ई-ऑफिस के संबंध में अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस बैठक में सीएमजीजीए सुकन्या जनार्दनन, कार्यकारी अभियंता पंचायती राज भरत सिंह बेनीवाल, जिला शिक्षा अधिकारी संत कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी नरेश बत्रा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

https://propertyliquid.com


             एडीसी उत्तम सिंह ने कहा कि राज्य सरकार के आदेशानुसार ई-आफिस प्रोजैक्ट की योजना को जिले में अमलीजामा पहनाने का काम शुरु कर दिया गया है। इस प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए हार्डवेयर और साफ्टवेयर से संबंधित इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार किया जा रहा है। इससे पहले स्टाफ के सदस्यों को शैडयूल अनुसार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिले में ई-आफिस बनाने का उदेश्य है कि सभी कार्यालयों को पेररलैस बनाया जाए और लोगों को सीटिजन सेवाएं आनलाईन प्रणाली से दी जाए ताकि लम्बे समय दस्तावेजों के प्रचलन को समाप्त किया जा सके। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि ई-आफिस प्रोजैक्ट को निर्धारित समयावधि के अंदर लागू करना सुनिश्चित करे। इसके लिए जिस विभाग को कम्पयूटर, स्कैनर, प्रिंटर, इंटरनेट व अन्य किसी साफ्टवेयर आदि समान का समय रहते प्रबंध करना सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि इस संबंध में किसी भी विभाग को कोई समस्या जा रही है तो वे जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी से सम्पर्क कर सकते हैं। 

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

Mayor & Commissioner flag off the display van for awareness about precautions to be taken against COVID-19

Chandigarh, November 9:- Smt. Raj Bala Malik, Mayor and Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, Municipal Corporation, Chandigarh today flagged off a mobile display van on COVID-19 appropriate behavior to launch the five day campaign from MCC office premises, Sector 17, here today.

For Detailed News-

The mobile display van, designed by Regional Outreach Bureau Chandigarh under Ministry of Information & Broadcasting, Government of India in collaboration with Municipal Corporation Chandigarh scheduled to be take route throughout city for 5 days outdoor awareness campaign from November 9 to 13, 2020, which will cover different villages, colonies, residential areas and city markets etc.

https://propertyliquid.com

The Mayor said that this campaign is a part of ‘Jan Andolan’ launched by the  Prime Minister, Sh. Narendra Modi last month to encourage people’s participation in the fight against COVID-19 in view of the festival season and opening up of economic activities across the country.

The Commissioner elaborated that the objective of the campaign is to reiterate the key message of “wear a mask, wash hands and follow social distancing by practicing “Do Gajki Doori”. The focus of the campaign is to nudge people towards COVID appropriate behaviors now trending as “The New Normal”. The van has displayed the COVID appropriate behaviours and recorded messages of the PM alongwith Corona Anthem is also being played, he added.

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में चलाए जा रहे कई कार्यक्रम : श्रवण कुमार गर्ग

सिरसा, 9 नवंबर।


प्रदेश की गौशालाओं को आत्मनिर्भर व स्वावलंबी बनाने की दिशा में अनेकों कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इसी कड़ी में अब गौशालाओं में गाय के गोबर व मूत्र से उत्पाद बनाने व गौशालाओं के सही संचालन आदि बारे संचालकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए प्रदेश की 50 गौशालाओं को चिन्हित किया गया है।

For Detailed News-


यह बात हरियाणा गौ सेवा आयोग के चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग ने सोमवार को लघुसचिवालय स्थित सभागार में प्रेसवार्ता के दौरान कही। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह, एसडीएम जयवीर यादव व उप पुलिस अधीक्षक आर्यन चौधरी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


चेयरमैन ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व की प्रदेश सरकार जब से बनी है, तब से लेकर आज तक गाय के संवर्धन व इसके सरंक्षण की दिशा में गंभीरता से कार्य कर रही है। देश का सबसे मजबूत गौ संरक्षण व गौ संवर्धन कानून हरियाणा में लागू किया गया। इस कानून के बनने से गौ तस्करी पर रोक लगी है। इसी प्रकार गौ संवर्धन के लिए गौशालाओं में नस्ल सुधार, पंचगव्य उत्पाद, जैविक खेती प्रशिक्षण सहित अनेकों कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इसी कड़ी में गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में और अधिक सुदृढता के उद्ेश्य से गौशालाओं को गौशाालाओं के आधुनिक संचालन व गोबर एवं मूत्र से उत्पाद बनाने बारे प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए प्रदेश की 50 गौशालाओं को चिन्हित किया गया है।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि गाय के मूत्र से अनेकों दवाईयां बनती है। रोजाना गौ मूत्र बराबर मात्रा में पानी के साथ लेने से पेट संबंधी सभी बीमरियां दूर होती हैं। पंचगव्य पदार्थ जोकि गाय के गोबर व मूत्र को मिलाकर तैयार होता है। इसका प्रयोग पूजा में भी होता है। उन्होंने कहा कि हमारे ऋषि-मुनियों ने कई वर्षों पूर्व ही शोध कर सिद्ध किया था कि गाय के गोबर में लक्ष्मी का वास होता है। भले ही लोग उनके पास वैज्ञानिक रूप से अध्ययन न होने से शोध को समझ न पाए हों। लेकिन जब से खेती हो रही गोबर की खाद से जमीन की उर्वरा शक्ति को बढाने काम किया है, जिससे फसल उत्पादन बढा है। उत्पादन बढने के साथ ही देश आर्थिक रूप से समृद्ध बना है। अब उसी परंपरा को वैज्ञानिक विधि से गौशालाओं में पंचगव्य प्रशिक्षण, नस्ल सुधार सहित अनेकों कार्यक्रम चलाकर गौशालाओं को आत्मनिर्भर व स्वावलंबी बनाने की दिशा में गंभीरतापूर्वक कार्य किया जा रहा है।


चेयरमैन ने कहा कि सिरसा में सबसे अधिक गौशालाएं हैं। प्रदेश में 650 गौशाला हैं, जिनमें से 137 गौशालाएं अकेले सिरसा में हैं। उन्होंने कहा कि पहले हर घर में गाय होती थी। आधुनिकता के दौर में हमने गाय को सड़क पर छोड़ दिया। इसके कारण सड़क पर दुर्घटना होने से जान व माल के नुकसान के साथ-साथ गायों को भी क्षत्रि पहुंचती है। उन्होंने कहा कि जब तक एक भी गाय सड़क पर है, तब तक सभी के सहयोग से अभियान जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि सिरसा के हर गांव में गौशाला हो, इसके लिए अतिरिक्त उपायुक्त ने भी आश्वस्त किया है। उन्होंने प्रशासन की सराहना करते हुए कहा कि सिरसा की सभी गौशालाओं को प्रशासन की ओर से पूरा सहयोग व सुविधाएं समय पर उपलब्ध हो रही हैं। इस अवसर पर चेयरमैन ने गोबर से बने दीपक व अन्य उत्पाद अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह को भेंट किए।


दीपावली पर गाय के गोबर के कम से कम पांच दीपक जलाने का किया आह्वान :


चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग ने कहा कि कुरूक्षेत्र विकास बोर्ड की ओर से ब्रहमसरोवर में एक लाख गाय के गोबर के दीपकों के साथ गोमय दीपावली मनाई जाएगी। इसी प्रकार गीता जयंति के अवसर पर 18 लाख दीपक जलाएं जाएंगे और कुरूक्षेत्र के 48 कोस में पडऩे वाले तीर्थ स्थानों पर गोबर से बने दीपकों को जलाकर आयोजन किया जाएगा। उन्होंने आह्वान किया कि इस बार हर घर में कम से कम पांच दीपक गाय के गोबर के दीपक जलाकर माता लक्ष्मी की पूजा करें।


बॉक्स: हरियाणा गौसेवा आयोग के चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग ने कहा कि सड़कों पर एक भी बेसहारा पशु न रहे, इसके लिए योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जाए। जिला में बेसहारा पशुओं की संख्या के अनुसार उन्हें गौशालाओं में आश्रय दिया जाए।

चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग सोमवार को स्थानीय लघु सचिवालय के बैठक कक्ष में अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। इस बैठक में हरियाणा गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष विद्या सागर बाघला, अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह, एसडीएम जयवीर यादव, उप निदेशक पशुपालन विभाग डा. सुखविंद्र, सचिव नगर परिषद ऋषिकेश चौधरी व गौशालाओं के प्रतिनिधि मौजूद थे। उन्होंने कहा कि गौशालाओं के नियमित संचालन के लिए स्थानीय संचालन समिति का गठन किया जाए और इच्छुक पंचायतों को गौशालाएं बनाने व सहयोग के लिए प्रेरित करें।


अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने निर्देश दिए कि गौशालाओं की समस्याओं के समाधान के लिए संबंधित अधिकारी स्वयं निरीक्षण करें और संबंधित विभाग से तालमेल स्थापित कर समस्याओं का समाधान करवाएं। उन्होंने कहा कि गौशालाओं के प्रतिनिधि गौशालाओं की समस्याओं और अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने की सूचि बना कर उन्हें अवगत करवाएं।

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

सीएम विंडो पर ओवरड्यू हो चुकी शिकायतों का एक सप्ताह में करें निवारण : उपायुक्त प्रदीप कुमार

सिरसा, 09 नवंबर।


              उपायुक्त प्रदीप कुमार ने कहा कि सीएम विंडो पर ओवरड्यू हो चुकी शिकायतों का प्राथमिकता के आधार पर निवारण करें और एक सप्ताह में इसी रिपोर्ट उपायुक्त कार्यालय में भेजें। अधिकारी व्यक्तिगत रूची लेकर जिम्मेवारी के साथ सीएम विंडो पर आई शिकायतों को जल्द से जल्द निपटान करें।

For Detailed News-


              उपायुक्त प्रदीप कुमार सोमवार को अपने कार्यालय कक्ष में सीएम विंडो की लंबित शिकायतों के निपटान कार्य की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर एलडीएम सुनील कुमार, तहसीदार, बीडीपीओ, राजस्व विभाग, नगर परिषद /पालिका के अधिकारी, सीएम विंडो इंचार्ज आजाद सिंह उपस्थित थे।


              उपायुक्त ने कहा कि सीएम विंडो से संबंधित कोई भी शिकायत लंबित न रहे, इसके लिए अधिकारी गंभीरता से कार्य करें। पोर्टल पर जो भी शिकायत लंबित हैं, उनका प्राथमिकता के साथ समाधान करते हुए निपटारा करें। ओवरड्यू हो चुकी शिकायतों को एक सप्ताह के अंदर-अंदर निवारण करके उपायुक्त कार्यालय में रिपोर्ट भिजवाएं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा नागरिकों को उनकी समस्याओं के समाधान के लिए सीएम विंडो की सुविधा उन्हें अधिकार के रूप में उपलब्ध करवाई गई है। इसलिए सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतों का प्राथमिकता के आधार पर समाधान करना हर विभाग की नैतिक कर्तव्य के साथ-साथ जिम्मेवारी भी है। उन्होंने कहा कि विभागाध्यक्ष स्वयं रूचि लेकर लंबित शिकायतों का निपटान करवाएं।

https://propertyliquid.com


              उपायुक्त ने कहा कि सीएम विंडो पर आई शिकायतों को अधिकारी गंभीरता से लेते हुए तुरंत निपटान करवाया जाए और जिस भी विभाग से संबंधित सीएम विंडो की पैंडेंसी है, उन्हें जल्द से जल्द पूरा करें। अधिकारी अपना दायित्व गंभीरता से निभाएं ताकि शिकायतकर्ता को संतुष्टï किया जा सके। उन्होंने कहा कि सीएम विंडो की मोनिट्रिंग स्वयं मुख्यमंत्री हरियाणा करते हैं, इसलिए अधिकारी विंडो पर आई शिकायतों को गंभीरता से लें और इसमें किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

पटाखा बैन को लेकर बोले सीएम:-त्योहार को देखते हुए प्रदेश में 2 घण्टे देंगे पटाखे बजाने की इजाजत।

फतेहाबाद (हरियाणा)

For Detailed News-

फतेहाबाद पहुंचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मीडिया से की प्रेस वार्ता, पटाखा व्यापारियों को दी राहत, कहा दीपावली पर दो घंटे पटाखे बजाने की लोगों को मिलेगी छूट,

इस से नहीं होगा पटाखा व्यपारियों का नुकसान, कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों के चलते सरकार द्वारा पटाखों पर लगाया गया था बैन, सोनीपत में लगातार जहरीली शराब की चलते हो रही मौत के मामले में भी बोले मुख्यमंत्री,

https://propertyliquid.com

कहा सरकार द्वारा इसमे की जा रही है सख्त कारवाई, किसान आंदोलन पर भी बोले सीएम, कहा किसान आंदोलन के नाम पर कांग्रेस द्वारा किसानों को बरगलाने का किया जा रहा है काम, कोंग्रेसी खुद विधानसभा में चर्चा करने से भी गए भाग, फतेहाबाद में पूर्व विधायक बलवान सिंह की भतीजी की शादी में शिरकत करने पहुचेंते थे मुख्यमंत्री।