भारतीय जनता पार्टी पंचकुला के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष अजय शर्मा ने शनिवार को पार्टी कार्यालय में नवनियुक्त ज़िला पदाधिकारियों एवं मोर्चों के अध्यक्षों की पहली बैठक को संबोधित किया।

योग प्रषिक्षण देने के कार्यक्रम का षुभारम्भ विडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से उद्घाटन करते हुए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा को योग के क्षेत्र में माॅडल स्टेट बनाने का हमारा संकल्प है।

पंचकूला 8 नवम्बर – हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद् एवं हरियाणा योग परिषद् के संयुक्त तत्वाधान में प्रदेष के 21 जिलों में एक साथ षिक्षा विभाग के पी0टी0आई0/ डी0पी0ई0 को योग प्रषिक्षण देने के कार्यक्रम का षुभारम्भ विडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से उद्घाटन करते हुए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा को योग के क्षेत्र में माॅडल स्टेट बनाने का हमारा संकल्प है।


योग को पहाडों, कंदराआंे और गुफाओं से सम्पूर्ण दुनिया तक पहुंचाने मे प्रधानमंत्री महोदय श्री नरेन्द्र मोदी जी का विषेष योगदान है। व्यवस्थित एवं एकरूपता के साथ प्रस्तुत इस कार्यक्रम को अद्भुत बताते हुए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने इस कार्यक्रम की प्रंषसा की और कहा कि यह अभूतपूर्व दृष्य है। ऐसा लग रहा है कि आज योग दिवस है। उन्होंने घोषणा की कि हर माह में एक दिवस योग प्रषिक्षण दिवस के रूप में मनाया जाएगा।

For Detailed News-


पंचकूला के सार्थक स्कूल मे आयोजित कार्यक्रम में हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने कहा कि योग को जन-जन तक पहुचाकर ढाई करोड हरियाणावासियों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए योग, व्यायाम एवं खेल को उनके जीवन का अभिन्न अंग बनाने के दृष्टिकोण से हरियाणा के 6500 गांवो में से प्रथम चरण में 1000 से अधिक ग्रामों में योग व्यायामषालाओं को आरम्भ करने का निर्णय लिया गया था। जिसमें से 560 व्यायामषालाएं बन चुकी हैं, और 600 व्यायामषालाएं अभी निर्माणाधीन हैं। उन्होंने कहा कि योग को बढावा देने के लिए हमने हरियाणा योग परिषद् का गठन किया है। बहुत षीघ्र ही 1000 आयुष योग सहायकों की नियुक्ति आरम्भ करने वाले है और जिला स्तर पर 22 आयुष योग षिक्षकों की नियुक्ति होने जा रही है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी काल में खेल के माध्यम से योग के प्रवेष से जीवन अनुषासित एवं संस्कारित होगा। उन्होंने हरियाणा योग परिषद्, हरियाणा स्कूल षिक्षा परियोजना परिषद् एवं पतंजलि योगपीठ सहित अन्य योग संस्थानों की इस योग षिविर के आयोजन, संचालन और नियोजन में सहयोग करने हेतु प्रषंसा की।


श्री गुुप्ता ने कहा कि कोरोना महामारी से मैं स्वयं पीडित हुआ और मैने पाया कि पूर्ण स्वस्थ होने में, इम्यूनिटी को बढ़ाने में योग व प्राणायाम का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने दैनिक जीवन में योग एवं प्राणायाम के नित्य अभ्यास करने पर बल दिया तथा सम्पूर्ण स्वास्थ्य के लिए महर्षि पतंजलि प्रणीत अष्टांग योग को अपनाने का आह्वान किया। योग को षिक्षा पाठ्यक्रम एवं योगासनों को खेल से जोड़ने के विचार का स्वागत करते हुए मुख्यमंत्री की दूरदृष्टि तथा हरियाणा प्रदेष के प्रत्येक नागरिक को योग साधना से रोगमुक्त बनाए रखने की योजना का अभिनंदन किया।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि आगामी कार्ययोजना बताते हुए उन्होंने कहा कि हरियाणा योग परिषद् पंचकूला से प्रषिक्षण प्राप्त करने के बाद यह योग प्रषिक्षित अध्यापक प्रतिदिन अपने-अपने स्कूलों में प्रातः कालीन सभा के दौरान सभी विद्यार्थियों को विभिन्न प्रकार की योग क्रियाओं का प्रषिक्षण प्रदान करेंगे ताकि विद्यार्थियों का षारीरिक एवं मानसिक विकास हो। मुझे यह बताते हुए हर्ष हो रहा है कि हरियाणा प्रदेष देष का पहला राज्य होगा जो योग षिक्षा को बढ़ावा देने के लिए विद्यार्थियों की दिनचर्या में योग षिक्षा को समायोजित करने जा रहा है। द्वितीय चरण में, उपरोक्त प्रषिक्षित अध्यापकों द्वारा विद्यालयों से चयनित विद्यार्थियो का क्लस्टर स्तर से लेकर राज्य स्तर तक की विभिन्न प्रकार की योग प्रतियोगिताओं का आयोजन करवाया जाएगा। जिसके लिए छात्र तथा छात्राओं के लिए 3 चरणों में अलग-अलग प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएगी।


इस अवसर पर सार्थक स्कूल पंचकूला से कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए हरियाणा योग परिषद् के चेयरमैन डा0 जयदीप आर्य ने कहा कि मुख्यमंत्री के विषेष प्रयास से 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के कार्यक्रमों में सूर्य नमस्कार एवं संगीतमय योगासन को षामिल करके इतिहास का निर्माण किया गया था।


डा0 जयदीप आर्य ने योग को पाठ्यक्रम में विधिवत् जोड़ने के कार्य को क्रान्तिकारी कदम बताते हुए कहा कि मैकाले की अंग्रेजी षिक्षा नीति को बदलने के केंद्र सरकार के प्रस्ताव को अमली जामा पहनाते हुए योग को पूर्ण खेल के रूप में षामिल करने का जो चरणबद्ध कार्यक्रम आरम्भ किया है उसके लिए हम माननीय मुख्यमंत्री महोदय, माननीय षिक्षामंत्री महोदय का हृद्य से आभार ज्ञापित करते है।


उल्लेखनीय है कि कुछ जिलों में सात दिवसीय दो कैम्प व कुछ जिलों मे सात दिवसीय तीन कैम्पों के माध्यम से षिक्षा विभाग के पी0टी0आई0/ डी0पी0ई0 का प्रषिक्षण कार्यक्रम हरियाणा योग परिषद् द्वारा नवम्बर माह के अंत तक पूर्ण किया जाएगा। षिविर में भाग ले रहे डा0 षमषेर सिंह जो राजकीय विद्यालय सेकटर 15 पंचकूला में कार्यरत हैं, उन्होंने मुख्यमंत्री महोदय से निवेदन किया कि योगासन को पूर्ण खेल के रूप में षामिल किया जाए। मुख्यमंत्री जी ने साकारात्मकता के साथ इस निवेदन को स्वीकार किया।


इस कार्यक्रम के दौरान श्री ज्ञानचंद गुप्ता, विधानसभा स्पीकर, हरियाणा का पंचकुला से, श्रीकंवरपाल, षिक्षामंत्री, हरियाणा का यमुनानगर से, डाॅं. महावीर सिंह, अतिरिक्त मुख्यसचिव, षिक्षा विभाग, हरियाणा सरकार, डाॅ. जयदीप आर्य, अध्यक्ष, हरियाणा योग परिषद् एवं डाॅ. रजनीष गर्ग, राज्य परियोजना निदेषक का भी उद्बोधन हुआ। इस अवसर पर प्रत्येक जिला मुख्यालय पर जिला उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा, जिला षिक्षा अधिकारी, जिला परियोजना अधिकारी, जिला आयुर्वेदिक अधिकारी, आयुष विभाग के योग स्पेषलिस्ट, सुखानंद फाउंडेषन द्वारा प्रषिक्षित योग षिक्षक तथा भारत स्वाभीमान न्यास के व्यवस्थापक विषेष रूप से उपस्थित रहे।

भारतीय जनता पार्टी पंचकुला के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष अजय शर्मा ने शनिवार को पार्टी कार्यालय में नवनियुक्त ज़िला पदाधिकारियों एवं मोर्चों के अध्यक्षों की पहली बैठक को संबोधित किया।

Workshop on Cow Dung Bricks held online

Social Substance and Ecologic Corporation has joined hands to educate people about the optimum utilization of traditional resources. Cow dung is one of the sources given by nature that is misused presently to greater extent. Sweeping the dung in sewage is choking STPs (Sewage Treatment Plants), polluting water bodies and causing contention in urban and rural areas alike.

For Detailed News-

Mr. Puneet Arora from Ecologic Corporation has come forward to educate himself and then make the masses aware of the issues. He along with Dr. Arun Bansal, Social Substance has started a series of workshops on Bio-bricks|Cow dung bricks. The second online session of the series was organized today. 

https://propertyliquid.com

The discussion focused on raw material, processing and output. Numbers of doubts were raised by attendees such as strength, quantity, durability, cost effectiveness, logistics, vedic plaster etc.  Mr. Arora clarified all of those using presentation, lecture, videos, interaction, experiential learning etc. Videos were shown for both pros and cons of using dung. Putting emphasis on the topic, many possibilities for utilization of bio-bricks were listed by various members such building of permanent and well as temporary structures at schools, institutes, kitchen gardens, for homeless people, in fields etc.

The research on matter is already making waves at international level and soon we may expect more companies taking up start-ups handling dung waste. The workshop ended on a higher note with a notion that it has enormous opportunity to generate employment and self-reliance as well in rural areas.

भारतीय जनता पार्टी पंचकुला के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष अजय शर्मा ने शनिवार को पार्टी कार्यालय में नवनियुक्त ज़िला पदाधिकारियों एवं मोर्चों के अध्यक्षों की पहली बैठक को संबोधित किया।

KK Yadav distributes prizes to winners of Cyclegiri rangoli competition

Chandigarh, November 8:- Sh. K.K. Yadav, IAS, Commissioner, Municipal Corporation Chandigarh-cum-CEO, Chandigarh Smart City Ltd. today distributed prizes to the winners of Cyclegiri rangoli competition, held at Plaza, Sector 17, here today.

For Detailed News-

The rangoli competition was organized by Cycle giri group, Chandigarh in coordination with Chandigarh Smart City Ltd. today to celebrate Green Diwali at Sector 17 Plaza.

While sharing his views, Sh. Yadav said that this rangoli competition was organized to promote cycling in the city as well as to convey the message of a clean and healthy Diwali to the people of city. He said that all the participants swore that they would celebrate pollution free Diwali and make cycling an integral part of  their lives. He encouraged the participants and honoured the winners with mementoes.

https://propertyliquid.com

The children gathered in plaza sector 17 with great enthusiasm to make Rangoli on Cycling in city. People made beautiful rangolis, keeping the bicycle theme on mind. Total 50 contestants took part in the competition. Dr. Pooja Sharma, Professor and head of department fine arts, MCM college and Dr. O.P. Parameshweran, Associate Professor, fine arts, GCG were among the judging panel.

The winners were:

1st Ms. Eshita & Dhruvika

2nd Mr. Nikhil Panchal & Ms. Pratibha

3rd Ms. Nikita & Mr. Puneet

          In addition to that 4 consolation prizes were also given to the winners. The Cyclegiri group officials informed that the winners will make big rangoli in the central plaza area on coming Wednesday with the message of Green Diwali.

भारतीय जनता पार्टी पंचकुला के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष अजय शर्मा ने शनिवार को पार्टी कार्यालय में नवनियुक्त ज़िला पदाधिकारियों एवं मोर्चों के अध्यक्षों की पहली बैठक को संबोधित किया।

पैंशनभोगी डाक घर के माध्यम से भेज सकेंगे जीवन प्रमाण पत्र : दीप डागर

सिरसा, 8 नवंबर।

For Detailed News-


जिला सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण विभाग ने पैंशनभोगी पूर्व सैनिकों विधवाओं की सुविधा के लिए डाकघरों के माध्यम से जीवन प्रमाण पत्र दाखिल करवाने की सुविधा शुरू की है। जिला के 155 डाकघरों में आधार कार्ड आधारित जीवन प्रमाण पत्र भिजवाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। कोई भी पूर्व सैनिक व विधवा पैंशनभोगी अपने नजदीकी डाकघर में संपर्क करके अपना जीवन प्रमाण पत्र दाखिल कर सकते हैं।

https://propertyliquid.com


जिला सैनिक व अर्ध सैनिक कल्याण अधिकारी दीप डागर ने बताया कि पूर्व सैनिक व विधवाएं जोकि पैंशनभोगी हैं, उनकी सुविधा के लिए आधार कार्ड आधारित जीवन प्रमाण पत्र भिजवाने की सुविधा डाकघरों में शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि पैंशनभोगी अपने नजदीकी डाकघर में जाकर इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। यह सुविधा जिला के 155 डाकघरों में उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने कहा कि डाकघर के माध्यम से जीवन प्रमाण पत्र दाखिल करने के लिए पैंशनभोगी अपने साथ आधार कार्ड, पैंशन पहचान संख्या(पीपीओ), बैंक खाता(पैंशन) संख्या व मोबाइल नम्बर ले जाना अनिवार्य है। 

भारतीय जनता पार्टी पंचकुला के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष अजय शर्मा ने शनिवार को पार्टी कार्यालय में नवनियुक्त ज़िला पदाधिकारियों एवं मोर्चों के अध्यक्षों की पहली बैठक को संबोधित किया।

योग को जन-जन तक पहुंचाने में शिक्षक निभाएं भूमिका : मुख्यमंत्री

सिरसा, 8 नवंबर।

For Detailed News-

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पंचकूला से वीडियो कॉफ्रेंस से किया योग प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ


मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि योग हमारी प्राचीन विद्या है और यह हमारी संस्कृति के साथ-साथ शिक्षा का अभिन्न अंग रहा है। गुरूकुल में पढने वाले बच्चों को योग की शिक्षा दी जाती थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संकल्प व दूरदर्शिता से दोबारा से योग को पूरी दुनिया में पहचान मिली है। प्रदेश सरकार ने इस दिशा में कदम बढाते ुहुए स्कूलों में भी योग प्रशिक्षक तैयार करने की योजना बनाई है। इसी कड़ी में सरकारी स्कूलों के डीपी, पीटीआई व अन्य अध्यापकों को प्रशिक्षित करने के प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया है।


मुख्यमंत्री मनोहर लाल रविवार को पंचकूला से हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद व हरियाणा योग परिषद की संयुक्त तत्वाधान में आयोजित योग प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ करने उपरांत प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे पीटीआई, डीपी व अध्यापकों को संबोधित कर रहे थे।

https://propertyliquid.com


मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यक्ति के शारीरिक व मानसिक विकास के लिए योग बहुत ही जरूरी है। कोरोनाकाल में तो योग की अहमियत और भी अधिक हो गई है। उन्होंने कहा कि इलाज से कोरोना बीमारी से ठीक तो जाते हैं, लेकिन दोबारा से शरीर को ऊर्जावान व स्वस्थ बनाने में योग की अहम भूमिका होती है। कोरोना बीमारी से ऊभरने में उनके लिए योग का काफी सहयोग रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संकल्प व दूरदर्शी सोच ने योग को दुनिया में दोबारा से ख्याति दिलाने का काम किया है। आज 200 से अधिक देशों में 21 जून को योग दिवस के रूप में मनाया जाता है।


सिरसा में जिला स्तरीय योग प्रशिक्षण का आयोजन सीडीएलयू के मल्टीपर्पज हाल में किया गया, जिसका शुभारंभ दीप प्रज्जवलित कर अतिरिक्त उपायुक्त उत्तम सिंह ने किया। अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि स्वस्थ्य शरीर से ही विकासात्मक गतिविधियों का उद्गम होता है और सकारात्मक दृष्टिकोण जीवन में आगे बढऩे के लिए प्रेरणा देता है। स्वस्थ्य शरीर के लिए योगासन अहम है और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में योग साधना की अतुलनीय भागीदारी है। उन्होंने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी के दौर में योग साधना मनुष्य के स्वास्थ्य को सही रखने में बेहद जरूरी है। योग के माध्यम से ही निरंतर आसन करते हुए हम कोरोना से दूरी बनाने में अपनी सहभागिता निभा सकते हैं।


उन्होंने कहा कि जिला में तीन चरणों के योग प्रशिक्षण में करीब 320 पीटीआई, डीपी व अध्यापकों को योग का प्रशिक्षण दिया जाएगा। प्रथम चरण के प्रशिक्षण शिविर का आज शुरूआत की गई है। इसी तरह सेे तीसरे चरण का प्रशिक्षण शिविर लगाया जाएगा। तीनों चरणों के 21 दिनों में जिला के 320 पीटीआई, डीपी व अध्यापकों को योग बारे प्रशिक्षित किया जाएगा।


प्रशिक्षण शिविर में हरियाणा योग परिषद की ओर से प्रशिक्षित बच्चों व गांव ढूकड़ा के सीनियर सैकेंडरी स्कूल के बच्चों ने उपस्थित पीटीआई व डीपी के समक्ष योग क्रियाएं की। स्वाभिमान ट्रस्ट के चंद्रपाल योगी ने पीटीआई व डीपी को योग प्रशिक्षण दिया और योग के महत्व पर प्रकाश डाला। मंच संचालन संगीता व पूजा ने किया।


ये रहे मौजूद :


इस अवसर पर सीएमजीजीए सुकन्या जर्नादन, मौलिक शिक्षा अधिकारी आत्म प्रकाश , जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डा. गिरीश चौधरी, एपीसी गोपाल कृष्ण शुक्ला, जिला मास्टर योग ट्रेनर मांगे राम, मास्टर ट्रेनर सुनील कुमार, सहायक मास्टर ट्रेनर सुमन, शिवम पतंजलि के जय प्रकाश, विवेक शर्मा, खरैत लाल, प्रेम शर्मा सहित अन्य प्रशिक्षक उपस्थित थे।


संस्कृत अध्यापक भगवाना राम 20 वर्षों से करवा रहे योग, 70 से अधिक बच्चे योग में जीत चुके गोल्ड मेडल :
गांव ढूकड़ा के सीनियर सैकेंडरी स्कूल के संस्कृत अध्यापक करीब 20 वर्षों से बच्चों को योग का प्रशिक्षण दे रहे हैं। इन द्वारा योग सीख चुके करीब 70 से अधिक बच्चे योग में राज्य स्तर पर गोल्ड मेडल जीत चुके हैं। आज योग प्रशिक्षण शिवर में उनकी टीम के छात्र-छात्राओं शीर्षआसन, गर्भआसन, कुकुटआसन, चक्रआसन, हलआसन, श्रीकृष्णाआसन, पश्चिमोतानआसन, धर्नुआसन, सल्पआसन, डोल आसन, नटराज आसन, ताड़ासन, हनुमान आसन, वृक्षासन आदि की प्रस्तुति की।

भारतीय जनता पार्टी पंचकुला के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष अजय शर्मा ने शनिवार को पार्टी कार्यालय में नवनियुक्त ज़िला पदाधिकारियों एवं मोर्चों के अध्यक्षों की पहली बैठक को संबोधित किया।

गौशालाओं को स्वावलंबी बनाने के लिए उठाए जा रहे हैं कारगर कदम : चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग

सिरसा, 08 नवंबर।

For Detailed News-


                  हरियाणा गौ सेवा आयोग के चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा गौशालाओं को स्वावलंबी बनाने की दिशा में कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। सड़कों पर एक भी गाय न रहे, इसके लिए योजनाबद्ध तरीके से गायों को गौशालाओं में भिजवाया जा रहा है और नई गौशालाए बनाने के साथ-साथ गौशालाओं का विस्तार भी किया जा रहा है। आयोग द्वारा जहां एक ओर गौशालाओं का विस्तार किया जा रहा है वहीं आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं। इसी कड़ी में गौमय दीपावली मनाने का निर्णय लिया गया है। इस बार गाय के गोबर से महालक्ष्मी, गणेश की मूर्तियां व दीये बनाए जाना इसी दिशा में पहल है।


                  चेयरमैन श्रवण कुमार गर्ग रविवार को स्थानीय श्री श्याम गौवंश उपचार आश्रम में गौवंश गौशाला सेवा संघ द्वारा आयोजित विचार गोष्ठïी में बतौर मुख्यअतिथि संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व चेयरमैन ने गौशाला व गाय के गोबर से बनी मूर्तियों व दीयों की स्टॉल का निरीक्षण किया। इस दौरान गौसेवा आयोग हरियाणा के वाइस चेयरमैन विद्या सागर बाघला, गौवंश गौशाला संघ हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष जगदीश मलिक, प्रधान कमल सोनी, योगेश बिश्रोई, अजीत हिसार, उप प्रधान शिशपाल सैनी, वरिष्ठï उप प्रधान द्वारका प्रसाद, औम प्रकाश नोखवाल, अंशुल गर्ग, राजेंद्र, सुभाष, मदनलाल, अजय, सीताराम, रामचंद्र, डा. सुनील मौजूद थे।


                  चेयरमैन श्रवण कुमार ने कहा कि इस बार गौमय दीपावली मनाने के लिए गोबर से बने दीये, गणेश और लक्ष्मी की मूर्तियां व अन्य सामग्री विभिन्न गौशालाओं के माध्यम से आमजन को उपलब्ध करवाई जाएगी। इससे पर्यावरण में भी शुद्धता आएगी और लोगों में गोसेवा के प्रति प्रेम पैदा होगा। उन्होंने कहा कि ये दीये प्रदूषण कारक नहीं होंगे और वातावरण को शुद्ध करेंगे, इससे गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने में सहयोग मिलेगा। दीपावली पर मिट्टी के अलावा गाय के गोबर से बने दीपकों से भी जगमगाहट होगी और वातावरण सुंगधित होगा। पर्यावरण संरक्षण और गोशालाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने के लिए हरियाणा गौ सेवा आयोग ने विस्तृत कार्ययोजना तैयार की है। उन्होंने कहा कि गौसेवा आयोग का मुख्य ध्येय सभी बेसहारा गायों को गौशालाओं में छोडऩा तथा उनका सहीं सरंक्षण एवं देखभाल करना है। उन्होंने कहा कि गौ सेवा आयोग का प्रयास है कि लोगों में गाय के प्रति स्नेह की भावना बनी रहे ओर लोग अपने घरों में गाय को दोबारा से पालना शुरू करें।

https://propertyliquid.com


                  हरियाणा गौ सेवा आयोग के उपाध्यक्ष विद्या सागर बाघला ने कहा कि इस बार दीवाली के पावन पर्व पर गाय के गोबर से बनी मुर्तियां व दीयों से घर रोशन हों, इसके लिए राष्ट्रीय कामधेनु आयोग ने गौमय दीपावली अभियान शुरुआत की है। इस अभियान के तहत इस दीवाली पर देश के 11 करोड़ परिवारों में कामधेनु गौमय दीये व मुर्तियां पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। इसी कड़ी में हरियाणा में विभिन्न गौशालाओं के माध्यम से दीपावाली पर्व पर एक करोड़ परिवारों तक मुर्तियां व दीये पहुंचाए जाएंगे।


                  उन्होंने कहा कि अभियान का वाक्य गौमय वसते लक्ष्मी है अर्थात गाय में लक्ष्मी का वास होता है और हम दीपावली पर मां लक्ष्मी की पूजा करते हैं। इसलिए कामधेनु आयोग द्वारा गाय के गोबर से मां लक्ष्मी की मुर्तियां व दीपक बनाने के मिशन की शुरुआत की गई है। हरियाणा में लगभग 650 गौशालाएं हैं जिसमें से 50 से अधिक गौशालाएं गोबर के दीये व मुर्तियां बनाई जा रही है। इनमें सिरसा जिला की 12 गौशालाएं शामिल है जहां गाय के गोबर से दीपक व मुर्तियां बनाई जा रही है। प्रदेश की शेष गौशालाएं इन दीयों व मुर्तियों की बिक्री में सहयोग कर रही है, इससे न केवल गाय के गोबर का सदुपयोग होगा बल्कि गौशालाओं की आमदनी भी बढ़ेगी।

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

बिजली मंत्री चौ. रणजीत सिंह ने मुख्यमंत्री किसान खेतीहर मजदूर योजना के तहत 11 लाभार्थियों को 14 लाख रुपये की राशि के चैक किए वितरित

सिरसा, 07 नवंबर।

For Detailed News-


             हरियाणा के बिजली मंत्री चौ. रणजीत सिंह ने शनिवार को रानियां के गाबा रिसोर्ट में आयोजित विकास कार्यों की समीक्षा बैठक के दौरान मुख्यमंत्री किसान खेतीहर मजदूर योजना के तहत 11 लाभार्थियों को 14 लाख रुपये की राशि के चैक वितरित किए जिनमें अलका देवी पत्नी विनोद कुमार निवासी खारियां, कृष्ण कुमार पुत्र धर्मपाल निवासी जोधपुरिया, पवन कुमार पुत्र राज कुमार निवासी फिरोजाबाद, सुरेंद्र कुमार पुत्र पूर्ण राम निवासी हारणी खुर्द, विनोद कुमार पुत्र निहाल सिंह निवासी जोधपुरिया, कालू राम पुत्र पूर्ण राम निवासी गिंदड़ा, दर्शना देवी पत्नी कुलदीप निवासी गांव कुस्सर, मनी देवी, पूजा रानी, दीपिका, आनंद पुत्र कुलदीप शामिल हैं। 

https://propertyliquid.com

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

जिला रेडक्रॉस सोसायटी ने गांव चकजालू में नशा मुक्ति सेमिनार किया आयोजित

सिरसा, 07 नवंबर।


                उपायुक्त प्रदीप कुमार के दिशा निर्देशानुसार जिला रेडक्रॉस सोसाइटी द्वारा शनिवार को खंड डबवाली के गांव चकजालू में नशा मुक्ति सेमिनार का आयोजन किया गया। इस अवसर पर खंड शिक्षा अधिकारी डबवाली रानी ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की।


                सेमिनार में खंड शिक्षा अधिकारी डबवाली रानी ने संबोधित करते हुए कहा कि नशा एक ऐसी बुराई है, जिससे इंसान का अनमोल जीवन समय से पहले ही काल का ग्रास बन जाता है और उसके परिवार को कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। युवा वर्ग में नशा करने के बढ़ती प्रवृति बहुत गंभीर समस्या है, नशे से अपराधों में भी वृद्धि होती है बल्कि यदि यह कहा जाए कि नशा ही अपराधों की जड़ है तो गलत नहीं होगा। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि उनके परिवार या आस पड़ोस में यदि कोई व्यक्ति नशा करता है तो उसका ईलाज करवाएं ताकि वे समाज की मुख्यधारा में जीवन यापन कर सके। इसके अलावा यदि कोई व्यक्ति नशे की बिक्री करता है तो उसकी सूचना पुलिस प्रशासन के हैल्पलाइन नंबर 88140-11620, 88140-11626 व 88140-11675 अथवा जिला प्रशासन के नंबर 01666-248890 पर दें। उन्होंने कहा कि सूचना देने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा।

For Detailed News-


                इस अवसर पर पीएचसी गोरीवाला से आयुर्वेदिक चिकित्सा अधिकारी डा. जितेंद्र व राजकीय माध्यमिक विद्यालय रामनगरिया के मुख्याध्यापक मदन वर्मा ने भी उपस्थितजनों को नशा के परिवार व समाज पर पडऩे वाले दुष्प्रभावों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। गांव के सरपंच बिमला देवी ने बताया कि नशा समाज के लिए अभिशाप है, विशेषकर युवा पीढ़ी को नशे की लत से दूर रहकर अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए खेलों की ओर बढऩा चाहिए तथा आगे बढ़कर नशा न करने बारे जागरूक करना चाहिए।

https://propertyliquid.com


                कार्यक्रम संयोजक पवन ने उपस्थितजनों को कोविड-19 से स्वयं व दूसरों की सुरक्षा के उपाय बताए तथा मास्क व सैनिटाइजर वितरित किए। सेमिनार में ग्रामीणों को नशा न करने तथा दूसरों को भी न करने देने की शपथ दिलवाई गई। इस अवसर पर जिला रैडक्रास सोसायटी की ओर से उपस्थित महिलाओं को तुलसी के पौधे गमले सहित देकर पर्यावरण स्वच्छ रखने का संदेश दिया गया व नशामुक्ति से संबंधित सहायक सामग्री वितरित की गई। इस अवसर पर उपस्थित ग्राम वासियों, युवाओं को नशा न करने की शपथ दिलाई गई व सहयोगी कार्यकर्ताओं व ग्रवित वालंटियर्स को प्रशंसा पत्र  देकर सम्मानित किया गया।


                इस अवसर पर प्राचार्य डबवाली राज कुमार मैहता, जगदीश चंद्र, भानी राम माहर, राम निवास शास्त्री, आंगनबाड़ी वर्कर सुनीता, आशावर्कर संतोष, डा. सूरजपाल, ग्रवित वालंटियर्स अमरजीत माहर, प्रदीप, सीता राम, सुशील सहित  समस्त ग्रामवासी मौजूद थे।

पीएम किसान योजना की 7वीं किस्त, एक दिसंबर से किसानों के खातों में डलना शुरू हो जाएगी !

65 YEARS OLD OPERATED SUCCESSFULLY AT FORTIS HOSPITAL, MOHALI FOR BRAIN CLOT

–Neuronavigation proves to be game changer for brain, spine surgeries – Dr. Anupam Jindal

–Increases life expectancy, surgery accuracy and decreases complication rate

For Detailed News-

Solan, November 7, Recently a 65 years old lady, Mrs. Surinder Kaur with a brain clot, located deep inside the brain, was operated upon successfully at Fortis Hospital Mohali. The clot had been pressing vital structures leading to an unconscious state. She was operated on in an emergency and recovered almost completely and was discharged in a conscious state.

Sharing this Dr. Anupam Jindal, Additional Director Neurosurgery, Fortis Hospital Mohali said that the elderly was operated upon using a neuro-navigation technique which has come up as a game-changer for brain and spine surgeries – the most delicate and complicated organs – increasing the life expectancy of patients by 20 years and better quality of life. 

He said that the incidence and prevalence of brain Tumors are growing rapidly in India. Every year several thousand people are diagnosed with a brain Tumor which reduces life expectancy by 20 years. Brain Tumors can be and are often, operated upon while awake so that they can assist the surgeon by moving a part of the body or speaking during surgery.

https://propertyliquid.com

Brain Tumors are devastating lesions that affect the nerve centre of the body. All our functions, from eating to speaking to walking, etc., and all our emotions, from love to hate, are controlled by the brain, the spinal cord, and nerves that are intimately connected. The brain is housed in a rigid shell (skull) and the body maintains a rather homogenous atmosphere, air-conditioned & shockproof, inside the skull. 

Unlike the widespread perception of a brain Tumor, many patients of the disease can be cured with current advances in technology and early detection. The diseases affecting these are becoming more common as our aging population is increasing. 

Dr. Jindal added that Fortis Hospital, Mohali is now equipped with neuro-navigation and neuro-monitoring systems to enhance patient safety during operations.

Explaining the technique, he added that brain Tumors, when located deep inside the brain or when found near critical structures, require special methods so that function of nearby areas can be preserved and damage can be minimized. Neuro-navigation identifies these structures and guides neurosurgeon to go through a path of least trauma. Spinal cord surgery especially when placement of screws and rods we required pauses a similar challenge. The neuro-monitoring system detects if a screw is placed too close to a nerve and hence the placement of screws can be corrected right at the time of surgery-making the surgery less risky.

Symptoms of brain Tumor

—Recurrent headaches, giddiness, vomiting, loss of memory, fits, etc. In a scenario when every year brain Tumor patients are being diagnosed in India, these symptoms are alarming enough.

भारतीय जनता पार्टी पंचकुला के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष अजय शर्मा ने शनिवार को पार्टी कार्यालय में नवनियुक्त ज़िला पदाधिकारियों एवं मोर्चों के अध्यक्षों की पहली बैठक को संबोधित किया।

चार साल में रानियां हलके में दिखेगी विकास कार्यों की चमक : बिजली मंत्री रणजीत सिंह

सिरसा, 7 नवंबर।

For Detailed News-


प्रदेश के बिजली, अक्षय उर्जा व जेल मंत्री चौधरी रणजीत सिंह ने कहा कि कोरोना के चलते विकास कार्यों की रफ्तार थोड़ी धीमी हो गई थी। अब अगले चार साल रानियां हलके में विकास की गाड़ी नॉन स्टॉप चलेगी। हलका में विकास कार्यों की कमी नहीं रहने दी जाएगी। इन चार साल में हलका में विकास कार्यों की चमक दिखाई देगी। जल्द ही हलका के सभी गांवों का दौरा किया जाएगा और मौके पर ही लोगों की समस्याओं को सुनकर उनका समाधान करवाया जाएगा।
बिजली मंत्री शनिवार को रानियां के गाबा रिसोर्ट में हलका के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने एक-एक कर संबंधित विभाग के अधिकारियों से हलका में चल रहे व होने वाले विकास कार्यों बारे विस्तार से जानकारी ली। विकास कार्यों की समीक्षा उपरांत मंत्री ने कार्यकर्ताओं को भी संबोधित किया। इस अवसर पर उपायुक्त प्रदीप कुमार, पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह, नगर आयुक्त संगीता तेतरवाल, एसडीएम दिलबाग सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।


चौधरी रणजीत सिंह ने कहा कि कोरोना बीमारी से विश्व का कोई भी देश अछूता नहीं रहा। कोरोना के चलते लॉकडाउन लगाया गया, जिसमें लोगों को एक-दूसरे से मिलना नहीं था। कोरोना से विकास कार्यों की रफ्तार भी धीमी हो गई थी। लेकिन अब अगले चार साल विकास कार्य नॉन स्टॉप होंगे। अब 24 घंटे आप लोगों के ही बीच रहूंगा। जल्द ही पूरे हलके के सभी गांवों का दौरा करूंगा और मौके पर ही लोगों की जो भी समस्या होगी उसका समाधान करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि रानियां हलका में अगले चार में विकास कार्यों की चमक दिखाई देगी। विकास कार्यों की कोई भी कमी नहीं रहने दी जाएगी।

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि रानियां शहर में जो विकास कार्यों की घोषणाएं की गई थी, उन पर कार्य तेज गति से चल रहा है। उन्होंने कहा कि शहर के नकोड़ा बाजार की रोड़ को 18 फुट से बढाकर 24 फुट कर दिया है। अब बाजार खुला हो गया है, जिससे लोगों का आवागमन सुगम हुआ है। इसी प्रकार शहर में मल्टीपर्पज हाल बनाया जा रहा है। जिसमें बच्चों के खेलने से लेकर पार्क आदि की सभी सुविधाएं होंगी। प्रदेश में यह अपनी तरह का मॉडल पर्पज हाल होगा। इसके निर्माण से लोगों को सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि शहर की गलियों, सीवरेज, जल घर, स्ट्रीट लाईट, बिजली आदि कार्य तेजी के साथ किए जा रहे हैं। इसके अलावा शहर में जरूरत अनुसार सीसीटीवी कमरे लगवाए जाएंगे। इन कार्यों के पूरा होने पर रानियां शहर की एक अलग पहचान होगी। उन्होंने कहा कि दीवाली त्यौहार के बाद सभी गांवों में विकास कार्यों के लिए राशि आवंटित की जाएगी। यह 15 करोड़ की राशि होगी, जोकि हलके के सभी गांवों को दी जाएगी। रानियां हलका में सौ करोड़ से अधिक के विकास कार्य चल रहे हैं, जिनमें से अधिकतर विकास कार्य पूरे हो चुके हैं और अन्य पर तेजी से कार्य चल रहा है। इसके अलावा नगर पालिका की 18 करोड़ रुपये की राशि से भी शहर में विभिन्न विकास कार्य करवाए जाएंगे।  


बिजली मंत्री ने कहा कि किसानों का हित उनके लिए सर्वपरि है और किसानों की समस्याओं का समाधान करवाना उनकी जिम्मेवारी है। उन्होंने कहा कि उनके अथक प्रयासों से ही आज घग्घर नदी से हलका के 20 गांवों को सिंचाई के लिए पानी मिल रहा है। इसी प्रकार से सभी खालों को पक्का करवाया जाएगा। उन्होंने कृषि बिलों के संबंध में कहा कि यह केंद्र सरकार द्वारा पारित कानून है, जिसमें विधानसभा का कोई हस्तक्षेप नहीं होता है। उन्होंने कहा कि स्वयं मुख्यमंत्री ने भी आश्वस्त किया है कि न तो एमएसपी खत्म होगी और न ही मंडी व्यवस्था खत्म होगी। प्रदेश की सभी मंडियों में एमएसपी पर फसलों की खरीद की जा रही है। उन्होंने कहा कि वे स्वयं किसान होने के नाते किसानों की समस्याओं व उनके हितों को भलिभांति समझते है।


उपायुक्त प्रदीप कुमार ने बिजली मंत्री को विश्वास दिलाया कि उनकी प्रशासनिक टीम विकास कार्यों व समस्याओं के समाधान में पूरी तत्परता व ईमानदारी से ड्यूटी का निर्वहन करेंगे। उपायुक्त ने अधिकारियों को भी निर्देश दिए कि विकास कायों के संबंध में मुख्यालय स्तर की कोई भी दिक्कत हो तो मेरे संज्ञान में लाएं, ताकि उसका समाधान हो सके और विकास कार्यों में तेजी बनी रहे। उन्होंने कहा कि नागरिकों को सरकारी योजनाओं का लाभ सरलता से मिले और उनकी समस्या का समाधान प्राथमिकता से करना प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। सभी विभागीय अधिकारी आपस में तालमेल स्थापित कर आमजन को सुविधाओं का लाभ दिलवाना सुनिश्चित करें। इसके अलावा आमजन की समस्याओं का समाधान प्राथमिकता से करें।


पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने कहा कि उनकी प्राथमिकता जिला में कानून व्यवस्था को बनाए रखना है। उन्होंने कहा कि जिला में नशा की समस्या एक गंभीर विषय है। इस पर सभी को मिलकर काम करना होगा और इसमें आमजन को पुलिस प्रशासन का सहयोग करना होगा। उन्होंने कहा कि नशा एक ऐसी समस्या है, जिससे घर के घर बर्बाद हो रहे हैं। इस दिशा में जब तक आमजन एकजुट नहीं होगा इस समस्या का समाधान जड़मूल से नहीं होगा। उन्होंने कहा कि यदि कोई नशा तस्करी करता है या इस काम में संलिप्त है, तो उसकी सूचना तुरंत पुलिस प्रशासन को दें। सूचना देने वाले नाम गुप्त रखा जाएगा।


ऐलनाबाद एसडीएम दिलबाग सिंह ने कहा कि मंत्री व आए हुए अधिकारियों तथा उपस्थित लोगों का स्वागत किया।


इस अवसर पर प्रधान आढती एसोसिएशन रानियां दीपक गाबा, नगर पालिका चेयरमैन प्रतिनिधि मुख्तीयार सिंह, मास्टर बूटा सिंह, काका सरपंच, बूटा सिंह करीवाला, नरेंद्र गाबा, गुरमेल सिंह, स्वर्ण जज, पार्षद सरवंज सहित शहर के गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।


इन विकास कार्यों पर चल रहा काम :


हरियाणा के बिजली मंत्री चौ. रणजीत सिंह ने बताया कि रानियां हलके के 11 गांवों में जल जीवन मिशन योजना के तहत 286.50 लाख रुपये की धनराशि के कार्यों के टेंडर लगाए जा चुके हैं जिसके तहत इन 11 गांवों में ट्यूबवेल व पीने के पानी की लाइन बिछाई जाएगी। इसके अलावा 16 गांवों के विकास के लिए 18.45 करोड़ रुपये के कार्यों के एस्टीमेट स्वीकृति के लिए चंडीगढ़ मुख्यालय भेजे गए हैं। उन्होंने बताया कि हलके के 8 अन्य गांवों में नया वाटर वर्कस बनाने व उनके नवीनीकरण के लिए 8.50 करोड़ के कार्यों की स्वीकृति मिल चुकी है और जल्द ही उनके टेंडर लगाए जाएंगे। इस योजना के तहत गांव दारिया बुखाराखेड़ा में एक नया वाटर वर्कस बनाया जाएगा।


बिजली मंत्री ने बताया कि गांव रिसारियाखेड़ा से केहरवाला तक 7 किलोमीटर लंबी सड़क, गांव खैरेकां से रानियां वॉया बनसुधार, चामल, झोरडऩाली व धोतड़ की 16 किलोमीटर लंबी तथा गांव खारियां से भुन्ना – खाई शेरगढ़ तक की साढे पांच किलोमीटर लंबी सड़क के निर्माण के लिए टेंडर हो चुके हैं तथा निमार्ण कार्य जल्द ही शुरु किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दीपावली पर्व के बाद रानियां हलके के गांवों के विकास के लिए पंचायतों को राशि जारी की जाएगी।