पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

UIET Team bags 1st Prize of Rs. 3 lakh in Deloitte Techno Utsav

Chandigarh September 16, 2020

A team comprising of 3 students namely Rajat Jain, Namanpreet Singh and Sarthak Gupta of B.E. Information Technology Final Year of University Institute of Engineering and Technology(UIET), Panjab University, Chandigarh won the 1st prize of Rs. 3 lakh in National Level Collegiate Cyber Threat Competition (CCTC) 2020 conducted at Deloitte TechnoUtsav.  The results were declared on 15th September in a virtual event. The students also secured Pre-Placement Offers from Deloitte USI (Offices of the US).

The competition started in February 2020 with a basic aptitude test in which around 20,000 students from more than 100 different prestigious Indian colleges participated. After clearing initial round, the students formed a team UIET Chandigarh_Cybersec since they all had keen interest in cyber security. There were around 550 shortlisted teams in CCTC 2020. The next round tested the subjective knowledge of students in cybersecurity. 145 teams cleared this round. The next round was a 16 day long challenge in which everyday 5-6 problems were given to be solved in 24 hours. The challenge was to capture the flag based on cyber security which required knowledge of technology and tools. Due to lockdown, all rounds were online. UIET Chandigarh_Cybersec reached the finale round. UIET Chandigarh_Cybersec was part of 13 teams in the finale. Final challenge was to solve multiple problems with strict time constraints and difficulty level within duration of 9 hours.  

The department of Information Technology at UIET has several students, research scholars and faculty members working in the area of cybersecurity under the mentorship of Prof. Krishan Kumar, Co-ordinator (IT), and leadership of Prof. Savita Gupta, Director, UIET.

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

सरल केंद्र में तीन कर्मचारी मिले कोरोना पोजिटीव, दो दिन सेवाएं रहेंगी बंद : उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण

सिरसा, 16 सितंबर। उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण ने बताया कि लघु सचिवालय स्थित सरल केंद्र में तीन कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिले हैं। ऐहतियात के तौर अगले दो दिनों के लिए सरल केंद्र को बंद कर दिया गया है, अब सरल केंद्र में सोमवार से सेवाएं शुरू हो सकेंगी।

For Detailed News-


उन्होंने बताया कि कोरोना हिदायतों के तहत कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट करवाया गया था। इसी कड़ी में सरल केंद्र में तीन कर्मचारी कोरोना पॉजिटीव पाए गए। सरल केंद्र आगामी दो दिनों (वीरवार व शुक्रवार) को बंद रहेगी,  शनिवार व रविवार को अवकाश होगा। अब सोमवार से ही सरल केंद्र में सेवाएं शुरू होंगी।

https://propertyliquid.com

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

गांव में ठिकरी पहरा लगाकर बाहर से आने वालों को मॉस्क के लिए करें प्रेरित: उपायुक्त

सिरसा, 16 सितंबर।


उपायुक्त रमेश चंद्र बिढाण ने कहा कि जिला में तेजी से हो रहा कोरोना का फैलाव चिंता का विषय है। कोरोना को लेकर लोगों द्वारा बरती जा रही लापरवाही व जांच में देरी से न केवल कोरोना का फैलाव बढ रहा है, बल्कि जिला में मृत्यु दर में बढोतरी हुई है। पिछले एक सप्ताह में 500 से अधिक कोरोना के मामले सामने आए हैं और अब तक जिला में 36 लोगों की कोरोना के कारण मृत्यु भी हो चुकी है। कोरोना से बढती मृत्यु दर भविष्य के लिए घातक संकेत है। इसे रोकने के लिए हम सबको अपने जिम्मेवारी समझते हुए कारगर कदम उठाने होंगे और मिलकर कोरोना बचाव के संबंध में लोगों को प्रेरित करना होगा। इस कार्य में सरपंच अहम भूमिका निभा सकते हैं।

For Detailed News-


उपायुक्त रमेश चंद्र बिढाण बुधवार को कैंप कार्यालय में वीडियो कॉफ्रेसिंग के माध्यम से नगर पार्षदों व सरपंचों से कोरोना व नशा को लेकर बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार सरपंचों ने लॉकडाउन के दौरान गांव में ठीकरी पहरा लगाकर लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध लगाया था, जो सराहनीय रहा और इसके लिए आप सभी प्रशंसा के पात्र हैं। उसी प्रकार अब दोबारा से गांव में ठीकरी पहरा लगाकर कोरोना के फैलाव को रोकने में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि इस बार किसी को रोकना नहीं बल्कि मॉस्क लगाने व सोशल डिस्टेसिंग की अनुपालना करवानी है। मॉस्क व सोशल डिस्टेसिंग इस बीमारी से बचाव के कारगर उपाय है। यदि दूसरे व्यक्ति से बातचीत करने के दौरान मॉस्क लगाकर रखा जाएं तो 99 प्रतिशत बचाव संभव है और सोशल डिस्टेसिंग बनाकर रखी जाए तो सौ प्रतिशत बीमारी से बचा जा सकात है। उन्होंने कहा कि सरपंच गांव में मॉस्क के लिए लोगों को प्रेरित करें।  

https://propertyliquid.com


उन्होंने कहा कि लोगों में भ्रांति है कि चिकित्सक जानबुझकर जांच करवाने वाले को कोरोना पोजिटीव दिखा रहे हैं। जोकि सरासर गलत है। चिकित्सक व जिला प्रशासन लोगों की सेवा के लिए दिन-रात तत्परता से कार्य कर रहा है। इसके अलावा लोगों में यह भी अफवाह फैलाई जा रही है कि पोजिटीव पाए जाने पर घर पर 14 दिन के लिए बंद कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि घर के किसी सदस्य को किसी बीमारी से खोने से कहीं अधिक बेहतर है 14 दिन के लिए घर में रहकर कोरोना ये अपना बचाव करना है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों का इम्यूनिटी सिस्टम बेहतर होता है, उनको कई बार किसी प्रकार के लक्षण नहीं होते हैं और वे अपने आप ठीक भी हो जाते हैं, लेकिन यह सोच परिवार के बुजुर्गों व बच्चों के लिए घातक है, क्योंकि वह स्वयं तो इससे ठीक होता है लेकिन वह अपने परिवार के सदस्यों को संक्रमित कर देता है। इसलिए शुरूआती लक्षण में ही वह अपनी जांच करवाकर समय पर इलाज करवाएं, ताकि संक्रमण दूसरे लोगों में न फैल सके।

nbf


उपायुक्त ने सरपंचों से आह्वान किया कि कोरोना के साथ-साथ जिला को नशा मुक्त बनाना भी हम सबकी सामाजिक जिम्मेवारी है। उन्होंने कहा कि जिस उम्र में युवाओं को शिक्षा, खेल के साथ-साथ अपने अमूल्य जीवन को सही दिशा देनी चाहिए, उस उम्र में गलत संगत में शामिल होकर वे नशे का शिकार हो रहे हैं। जिला में नशे के कारण बहुत से परिवार बर्बाद हो चुके हैं और कई युवा छोटी उम्र में ही अपने जान गंवा चुके हैं। उन्होंने कहा कि सरपंच अपने गांव में नशा में लिप्त युवाओं को नशा छोडऩे के लिए प्रेरित करें और इलाज के लिए नशा मुक्ति केंद्र में लेकर आएं। इसके अलावा गांव में नशा बेचने वालों की सूचना पुलिस व प्रशासन को जरूर दें। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति पांच लोगों को नशा छुड़ाएगा उसे जिला स्तरीय समारोह में सम्मानित किया जाएगा और पूरा गांव नशा मुक्त होने पर पंचायत को सम्मानित करने के साथ-साथ विकास कार्यों के लिए विशेष राशि दी जाएगी।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

फसल अवशेष जलाने से रोकने हेतू उड़न दस्तों का गठन-उपायुक्त

पंचकूला 16 सितम्बर –उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला में किसानों द्वारा 20 सितम्बर 2020 से धान फसल की कटाई शुरू की जाएगी। धान की कटाई के बाद किसान बचे हुए अवशेषों को आग लगा देते हैं जिससे वातावरण प्रदूषित होता है जिससे मनुष्य के स्वस्थ्य पर कुप्रभाव पड़ता है। इसके साथ ही जमीन की उर्वरा शक्ति को हानि होती है।

For Detailed News-


उन्होंने बताया कि उच्चतम न्यायालय व राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण द्वारा फसल अवशेष जलाने पर रोक लगाई गई है। यदि कोई किसान फसल अवशेष में आग लगाता है तो राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण के आदेशानुसार 15000 रू0 तक का जुर्माना लगाया जाएगा। यदि कोई किसान जुर्माना नही भरता है तो उसके खिलाफ पुलिस की कार्यवाही की जाएगी।

https://propertyliquid.com


उपायुक्त ने बताया कि न्यायालय के निर्देशानुसार फसल अवशेष जलाने को रोकने के लिए जिला, खण्ड व गांव स्तर पर उड़न दस्ते गठित किए गए है। जिला स्तर पर जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी, उप कृषि निदेशक व क्षेत्रीय अधिकारी, प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड और उपमण्डल स्तर पर उपमण्डल अधिकारी (नागरिक) व उपमण्डल कृषि अधिकारी की अध्यक्षता में उड़न दस्ते का गठन किया गया है। इसी प्रकार गांव स्तर पर पटवारी, सरपंच व कृषि विकास अधिकारी की टीमें गठित की गई है। यह टीमें प्रतिदिन गांवों में जा कर किसानों को फसल अवशेष न जलाने बारे जागरूक करेंगी तथा यदि किसी किसान द्वारा फसल अवशेष में आग लगाई जाती है तो उस किसान पर आवश्यक कार्यवाही करना सुनिश्चित करेगी।

nbf


उपायुक्त ने बताया कि फसल अवशेष न जलाने बारें किसान को जागरूक करने के लिए पंचायत विभाग व कृषि विभाग द्वारा संयुक्त रूप से खण्ड बरवाला के गांव भरेली, श्यामटू, बतौड़, भगवानपुर, शाहपुर, बटवाल व सुन्दरपुर में व खण्ड रायपुर रानी के गांव ककराली, देबड़, मौली, रामपुर, फिरोजपुर व गढ़ी कोटाहा में विशेष ग्राम सभाओं की बैठक की जा चुकी है। जिसमें किसानों को फसल अवशेष न जलाने बारे, मेरा पानी मेरी विरासत, मेरी फसल मेरा ब्यौरा व प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आदि स्कीमों की विस्तृत जानकारी दी गई।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

Panjab University, SAIF/CIL holds webinar on National Education Policy-2020

Chandigarh September 16, 2020

The SAIF/CIL Panjab University Chandigarh organised a webinar on National Education Policy-2020 with special reference to Student Centric Teaching Learning. The session began with the introductory remarks of Prof GR Chaudhary, Director SAIF/CIL. 

For Detailed News-

The Vice chancellor Panjab University Prof. Raj Kumar, the chief patron of the webinar appreciated and acknowledged the topic Student Centrcongratulated the panelist & speaker for selecting the right time for dispensing the knowledge on a very important topic National Education Policy 2020. The VC talked about providing access to the resources and focusing on the participation of students in implementing NEP 2020. 

https://propertyliquid.com

The speaker of the day was a very versatile and renowned personality in the field of higher education – Prof RL Raina, VC, JKLU Jaipur. His exemplary talk on this visionary document kept the virtual audience curious and completely engrossed throughout, as is the aim of this multidisciplinary policy. Prof Raina explicitly discussed the principles and various elements on which NEP 2020 rests. He beautifully cited the thin line between the terms use, misuse, overuse and underuse and discussed how this holistic and integrated policy aims at producing a complete human being and not just a professional. He highlighted the importance of teaching the students the art of “learning to learn” and rise above rote learning that just aims at securing marks. He addressed that our youth are our ambassadors and education needs to prepare them for life, for facing the world out there. Prof Raina shared an interesting and unique course named SEE (Social, Emotional and Ethical Learning) that he introduced in his JKL University, Jaipur last year. He not only highlighted the pros of NEP 2020, but critically analyzed it and brought into light the recognition to library resources that the policy failed to include. 

nbf

He concluded his talk by reciting a short prayer from the book ‘Power of Positive Thinking’ by Norman Vincent Peale and appealed everyone to start acting on this visionary document with an enthusiastic approach, since it is your attitude that makes it look positive and doable.

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

PU VC attends GB Meeting of CEC

Chandigarh September 16, 2020

For Detailed News-

Prof. Raj Kumar, Vice Chancellor, Panjab University, Chandigarh attended the 45th Governing Body Meeting of Consortium for Educational Communication(CEC) in the capacity of Member of this body. The meeting was chaired by Prof. Jagat Bhushan Nadda, Director, CEC. PU VC in his participation, gave suggestions related to expansion, diversification of activities, short term and long term strategy and overseas centre of CEC.

https://propertyliquid.com

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

18 सितम्बर को ई लोक अदालत – सम्प्रीत कौर

पंचकूला 16 सितम्बर – जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा 18 सितम्बर को जिला में इलैक्ट्रोनिक्स प्लेटफार्म के माध्यम से ई- लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। इस लोक अदालतों में अधिक से अधिक विवादों का निपटारा किया जाएगा।

For Detailed News-


प्राधिकरण की सचिव एवं मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी सम्प्रीत कौर ने बताया कि ई लोक अदालत में बैंक रिकवरी, सिविल, अपराधिक एवं वैवाहिक विवादों का निपटारा किया जाएगा। इसके लिए पंचकूला जिला न्यायालय में पांच व पीएलए में एक बैंच तथा कालका सब डिविजन में भी एक बैंच का आयोजन किया जाएगा। इस प्रकार जिला में 7 बैंच लगाकर अधिक से अधिक विवादों का निपटारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि न्यायिक अधिकारियों को अपने क्षेत्रों में बैंच स्थापित लगाने ओर विवादों का चयन करने के निर्देश दिए गए है।

https://propertyliquid.com


प्राधिकरण की सचिव ने बताया कि ई लोक अदालत के माध्यम से जनता के विवादों का निपटारा करने के लिए लोगों को प्रेरित किया जा रहा है ताकि इस लोक अदालत में विवादों को रखकर उनका निपटारा सुनिश्चित किया जा सके। उन्होंने बताया कि ई लोक अदालत के माध्यम से लोगों के समय व धन की बचत होगी ओर दोनों पक्षों की सहमति से ही विवादों का निपटारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि लोक अदालतों का निर्णय अहम होता है तथा बहुत ही सरल तरीके से उनका निपटारा किया जाता है।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

हरियाणा विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा है कि पार्टी ने अजय शर्मा को जो जिम्मेवारी सौंपी है उसे सभी कार्यकर्ताओं के सहयोग से पार्टी को मजबूत करने का कार्य करेंगे।

पंचकूला 16 सितम्बर – हरियाणा विधान सभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने कहा है कि पार्टी ने अजय शर्मा को जो जिम्मेवारी सौंपी है उसे सभी कार्यकर्ताओं के सहयोग से पार्टी को मजबूत करने का कार्य करेंगे।
विधानसभा अध्यक्ष सेक्टर 2 के कार्यालय में भाजपा के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष को पदभार ग्रहण करवाने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होनें जिला प्रधान को माता की चुनरी ओढ़ाकर आशीर्वाद दिया। इससे पूर्व भाजपा के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चन्द गुप्ता का करोना को हरा कर कार्यलय पहुंचने पर स्वागत किया।

For Detailed News-


विधानसभा अध्यक्ष ने नए जिला अध्यक्ष को बधाई देते हुए कहा कि अजय शर्मा पर पार्टी ने विश्वास किया है उस पर वे खरा उतरेंगे और हर कार्यकर्ता के साथ मिलकर कार्य करेंगे जिससे पार्टी संगठन और मजबूत होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है कि भारत दोबारा से विश्व गुरु बने और अन्य देश इसका अनुसरण करे। उन्होंने कहा कि पार्टी ने जिला अध्यक्ष को पद नहीं अहम जिम्मेवारी सौंपी है। लगभग 25 साल से पार्टी में रहते हुए अजय शर्मा ने जिला स्तर पर महामंत्री, उपाध्यक्ष आदि कई पदो पर कार्य किया है इसलिए यह दायित्व दिया है। उन्होंने कहा कि जिला अध्यक्ष बहुत ही मिलनसार और संस्कारवान एवम् मेहनती है इससे पार्टी संगठन में और अधिक मजबूती आयेगी।

https://propertyliquid.com


नवनियुक्त जिला प्रधान अजय शर्मा ने कहा कि पार्टी ने विश्वास के साथ जो जिम्मेवारी सौंपी है उसे एक परिवार समझ के रूप में लेकर पार्टी की मजबूती के लिए कार्य करेंगे। उन्होंने नए पदभार के लिए संगठन के शीर्ष नेतृत्व का आभार जताया।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

प्राकृतिक चिकित्सा से हर प्रकार के रोगों का निदान सम्भव

पंचकूला 16 सितम्बर – हरियाणा योग परिषद के चेयरमैन डा0 जयदीप आर्य ने कहा कि आज के दौर में कोरोना वैश्विक महामारी से लड़ने के लिए हमें प्राकृतिक चिकित्सा का सहारा लेना चाहिए। हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल योग एवं आयुर्वेद को बढ़ावा देने का कार्य कर रहे है।

For Detailed News-


योग परिषद के चेयरमैन प्रधानमंत्री के 70वें जन्मदिवस के उपलक्ष्य में आॅनलाईन वेबिनार एवं संगोष्ठी का उद्घाटन कर रहे थे। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रयासों से ही योग को अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर दर्जा मिल पाया है ओर प्राकृतिक चिकित्सा को अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिले, इसके लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज प्रयासरत है। प्राकृतिक चिकित्सा हमारे लिए बहुत ही कारगर है इसलिए हमें इसका लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हर प्रकार की बिमारी का ईलाज प्राकृतिक चिकित्सा में मौजूद है। इसके लिए हमें अपनी आहार-विहार चर्या अर्थात् खान-पान का विशेष तौर पर ध्यान रखना होगा।


उन्होंने बताया कि प्राकृतिक चिकित्सा का अपने जीवन में प्रयोग करने पर बहुत फायदे होगें साथ ही साथ प्राकृतिक चिकित्सा के प्रयोग के कोई दुष्प्रभाव नहीं है। प्राकृतिक चिकित्सा के निरंतर उपयोग करने से व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जो वर्तमान समय में बहुत ही महत्वपूर्ण है।

https://propertyliquid.com


हरियाणा योग परिषद के रजिस्ट्रार डा0 हरीश चन्द्र ने चेयरमैन महोदय डा0 जयदीप आर्य, कार्यक्रम संयोजक डा0 मदन मानव व प्राकृतिक चिकित्सा के वक्ताओं का अभिनंदन किया।


इस अवसर पर कार्यक्रम के संयोजक डा0 मदन मानव वेबिनार में पूर्व निदेशक सीसीआरवाईएन भारत सरकार डा0 बी0टी0सी0 मूर्ति, मुख्य चिकित्सा अधिकारी योग ग्राम हरिद्वार डा0 नागेंन्द्र नीरज, मुख्य चिकित्सा अधिकारी आरोग्य मंदिर गोरखपुर डा0 बिमल कुमार मोदी ने भाग लिया और अपना अनुभव हरियाणा प्रांत की जनता के साथ सांझा किए।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला में बुधवार को 147 मामले पोजिटिव आए।

पंचकूला 16 सितम्बर – उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला में बुधवार को 147 मामले पोजिटिव आए। इनमें 110 पंचकूला के है। अब तक जिला में कुल 5924 मामले आए हैं जिनमें से 4496 पंचकूला के हैं। इनमें से 3171 कोरोना रोगी ठीक हो गए हैं तथा अब जिला में 1272 मामले एक्टिव रह गए है और 55793 व्यक्तियों के आरटी, पीसीआर, रेपिड एंटीजन नमूने लिए गए।

For Detailed News-


उपायुक्त ने बताया कि अभयपुर, औद्योगिक क्षेत्र, मदनपुर, कालका, रामगढ, टिब्बी माजरा, सैक्टर 8, 9, 10, 18, 24, व 25 में एक एक मामले पोजिटिव आए है। इसके अलावा बरवाला, भगवानपुर, सैक्टर 15, 17, 19 व 28 में दो दो मामले, सैक्टर 6, 7 व 26 में तीन तीन मामले, सबिलपुर व सैक्टर 12 में चार चार, सैक्टर 21 में 5, सैक्टर 4 में 6, एमडीसी सैक्टर 5 में सात, सैक्टर 11, 20 व रायपुर रानी में 8-8 तथा पिंजौर में 13 और गांव मंढावाला में 14 मामले पोजिटिव आए है।ं इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट किया जा रहा है।

https://propertyliquid.com