पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

विश्व प्राथमिक सहायता दिवस पर मास्क, साबुन बांटते हुए रैडक्रास शाखा के सदस्य।

पंचकूला 12 सितम्बर – उपायुक्त एवम प्रधान जिला रैड क्रोस शाखा पंचकूला मुकेश कुमार आहूजा के आदेश अनुसार तथा सचिव सविता अग्रवाल के मार्गदर्शन में जिला रैड शाखा द्वारा विश्व प्राथमिक सहायता दिवस पर वृद्धाश्रम सेक्टर 15 में विशेषकर बुजुर्गो के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

For Detailed News-


विश्व प्राथमिक सहायता दिवस का उद्देश्य -फर्स्ट ऐड सेव लाइफ- रखा गया । इस अवसर पर जिला रेडक्रॉस व सेंट जॉन के स्वयंसेवकों को बताया गया कि किसी भी सड़क दुर्घटना ग्रस्त व्यक्ति या अचानक बीमार व्यक्ति को प्राथमिक सहायता देकर उसके अमूल्य जीवन को कैसे बचा सकते हैं। यदि कोई व्यक्ति बेहोश हो जाता है तो उसके दिल की धड़कन रुक जाती है, सांस किर्या में बाधा हो जाती है तो उस व्यक्ति को सीपीआर देकर उसके बहुमूल्य जीवन को बचा सकते हैं।


उन्होने बताया कि किसी भी आपात काल स्थिति भी आपातकालीन नंबर तो पुलिस 101 फायर ब्रिगेड 108 1073 वे 1033 का प्रयोग करके मदद ली जा सकती है। इसके साथ-साथ प्रतिभागियों को बिजली का करंट लगना, पानी में डूबना, किसी के गले में कोई चीज को फंसना, आग में जलना, दिल का दौरा पड़ना, दिमाग का दौरा पड़ना, किसी जानवर द्वारा काटना जैसे सांप, कुत्ता, मधुमक्खी का सदमा होना, रोगी की घटना होते ही सबसे नजदीकी अस्पताल में सही तरीके से पहुंचाना आदि के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी।

https://propertyliquid.com/


विश्व प्राथमिक सहायता दिवस पर प्रतिभागियों को वैश्विक महामारी कोविड-19 के संक्रमण के बढ़ते मरीजों को मध्य नजर करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क के सही प्रयोग के साथ-साथ अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां सांझा की गई। इस दौरान सभी प्रतिभागियों के हाथ सैनिटाइज करवाए गए तथा मास्क एवं साबुन इत्यादि भी बांटे गए। इसके साथ साथ प्रतिभागियों को रक्तदान, अंगदान, एचआईवी एड्स, पर्यावरण स्वच्छता अभियान, योगाभ्यास पोस्टिक आहार इत्यादि महत्वपूर्ण जानकारियां दी गई।


इस अवसर पर राज्य प्रशिक्षण पर्यवेक्षक विजय कुमार, सहायक सचिव रमेश चैधरी, राज्य प्रशिक्षण पर्यवेक्षक सुशील कुमार, प्राथमिक सहायता प्रवक्ता चन्दरपाल व शीला देवी, सुपरवाइजर गंभीर सिंह, सतीश चंद सहायक व अन्य सवयंसेवक भी उपस्थित थे।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला में शनिवार को 288 मामले पोजिटिव आए।

For Detailed News-

पंचकूला 12 सितम्बर – उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला में शनिवार को 288 मामले पोजिटिव आए। इनमें 178 पंचकूला के है। अब तक जिला में कुल 5305 मामले आए हैं जिनमें से 3990 पंचकूला के हैं। इनमें से 2665 कोरोना रोगी ठीक हो गए हैं तथा अब जिला में 1284 मामले एक्टिव रह गए है और 51922 व्यक्तियों के आरटी, पीसीआर, रेपिड एंटीजन नमूने लिए गए।

https://propertyliquid.com/


उपायुक्त ने बताया कि अमरावती एन्कलेव, भगवानपुर, कुण्डी, माजरी चैक, एमडीसी सैक्टर 4, नाडा साहेब, सकेतड़ी, सुरजपुर, टिपरा, सैक्टर 7, 9, 14, 25, 30 में एक-एक मामले पोजिटिव आए है। इसके अलावा औद्योगिक क्षेत्र फेस-2, खड़क मंगोली, रामगढ, सरकपुर, टागरा कलीराम, सैक्टर 4 एवं 24 में दो-दो, बुढनपुर, एमडीसी सैक्टर 5, सैक्टर 17, 26, 28 में 3-3, चण्डींमदिर एवं सैक्टर 27 में चार-चार, सैक्टर 16, 20, 21 में 5-5, नानकपुर व सैक्टर 10 में 6-6, सैक्टर 2, 11 में 7-7, सैक्टर 8 में 8, सैक्टर 12ए में 10, सैक्टर 12 व 19 में 11-11, सैक्टर 15 में 12, कालका में 14 तथा पिंजौर में 20 मामले पोजिटिव आए है। इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट किया जा रहा है।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

आयुष काढा कोरोना रोगियों के लिए कारगर -मिश्रा

पंचकूला 12 सितम्बर – कोरोना वैश्विक महामारी के चलते पंचकूला में कोरोना के बढते हुए प्रभाव को देखते हुए, आयुष विभाग द्वारा कन्टेनमेन्ट जोन में सक्रमंण्.ा को रोकने के लिए त्वरित गति से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने वाली दवाईयों का वितरण करवा जा रहा है। आयुष काढा कोरोना रोगियों के लिए कारगर साबित हो रहा है।

For Detailed News-


जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डा. दलीप मिश्रा ने बताया कि इसके अलावा कोविड केयर सैन्टर में कोरोना मरीजों को आनलाइन योगा तथा आनलाइन काउन्सलिंग आयुष चिकित्सकों के माध्यम से करवाई जा रहा है ताकि रोगी मानसिक रूप से सशक्त एवं मजबूत रह सके।

https://propertyliquid.com/


उन्होनंे बताया कि आयुष क्वाथ जिसमें दालचीनी, सोठ, कालीमीर्च तथा तुलसी हैं, लोगो को काढ़ा बनाकर पीने के लिए बताया जा रहा है। इसके अलावा गिलोय की टेबलेट भी बांटी जा रही है। इसी क्रम में कोरोना से बचाव हेतु चिकित्सकों द्वारा गरम पानी का सेवन तथा पुदीने का भाप लेने को भी बताया जा रहा है। घर से बाहर जाने पर मास्क लगाने तथा दो गज की दूरी बना, रखने हेतू जागरूक किया जा रहा है।


डाॅ0 मिश्रा ने बताया कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने के लिए आयुष क्वाथ व घुडुची घनवटी का वितरण आयुष विभाग की टीमों के द्वारा केनटेंन्मैंट जोन मे किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सहित 45 कंटेनजोन जोन में गठित 8 कमेटियों ने 195 व्यक्तियों को 2723 आयुष क्वाथ एवं गुडुची घनवटी गोलियां बांटने का कार्य किया।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

पोष्टिक आहार बारे जागरूक करते हुए प्राध्यापक

पंचकूला 12 सितम्बर – उपायुक्त एवं अध्यक्ष जिला रैडक्रास सोसायटी के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे पोषण माह अभियान के दौरान किशोर स्वास्थ्य शिक्षा विषय पर राजकीय महाविद्यालय कालका में आॅनलाईन वेबिनार का आयोजन किया गया। इस वेबिनार में रैडक्रास सोसायटी की प्रभारी प्रो. नीतू चैधरी ने किशोरियां को स्वास्थ्य शिक्षा पर विस्तृत जानकारी प्रदान की।

For Detailed News-


कार्यक्रम में मुख्य वक्ता सामान्य अस्पताल की वरिष्ठ चिकित्सक डा. सरोज अग्रवाल ने किशोरियों को पोष्टिक आहार लेेने के लिए प्रेरित किया ताकि उनका संर्वागींण विकास सम्भव हो सके। उन्होंने कहा कि हमारे समाज में यह अवधारणा है कि लड़कों को ही पोषण युक्त पोष्टिक आहार लेना चाहिए। इस सोच के कारण लड़कियां बहुत कम आहार लेती है ओर पोष्टिक एवं प्रोटीन युक्त आहार लेने से गुरेज करती हैं जिसके कारण उनके शरीर में ऐनिमिया, आयरन आदि आवश्यक तत्वों की कमी हो जाती है। इसलिए अभिभावकों को भी इस ओर अधिक ध्यान देना चाहिए तथा लड़कियों को भी प्रोटीन युक्त पोषण आहार लेना चाहिए ताकि सरकार की सोच के अनुरूप बालिकांए भी हृष्टपुष्ट बन सकें।

https://propertyliquid.com/


उन्होंने कहा कि लड़के व लड़कियां समाज में बराबर के भागीदार होते हैं तो फिर खान पान में भी समानता रखनी चाहिए। इसके अलावा हमारा शरीर सबसे बड़ी एक पंूजी है। इसे चलाने के लिए हमें पोषण तत्वों की आवश्यकता होती है। पोषण तत्वों में हमें दूध, पानी, कार्बोहाईड्रेड, विटामिन, प्रोटीन आदि लेने चाहिए तथा हमें जंक फूड से बचना चाहिए। जंक फूड हमें से अनेक व्याधियां उत्पन्न होती है।
प्राचार्य प्रोमिला मलिक, प्रो. स्वाति अरोड़ा, प्रो. शबनम, प्रो. सुशील कुमार, सहित कई प्राचार्यो ने विस्तार से किशोरियों को पोष्टिक आहार लेने के लिए सचेत एवं जागरूक किया।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

AGENDA @ ATMANIRBHAR BHARAT by UIAMS,PU

Chandigarh September 12, 2020

As India Embarks on a new journey of “Atmanirbhar Bharat” Entrepreneurs and Corporate Relations Cell of University Institute of Applied Management Sciences, Panjab University, Chandigarh under the advice and guidance of Prof. Raj Kumar,  Vice Chancellor, took this peculiar initiative of organizing the webinar “Agenda @ Atmanirbhar Bharat”. The webinar was organized to enable students understand the whole narrative of it by roping in eminent and distinguished personalities who are at zenith of their careers including Mr. Rahul Narvekar, serial entrepreneur, Mr. KS Bhatia, CEO and Founder Pumpkart and Figgital and Mr. Ravi Kumar, SP (HQ) Jalandhar.

For Detailed News-

Prof. Raj Kumar, Vice Chancellor, Panjab University in his inaugural address highlighted that the global pandemic has shown us the benefits of ‘Be Indian and Buy Indian’. We have now become critically aware of our own supply chain. We know that relying on other countries for critical items will ultimately put you at their mercy. To avoid such adversity for ourselves, it is more important than ever that we become self-reliant and reduce our dependence on other countries. The pandemic has taught the importance of local manufacturing, local market and local supply chain. Emphasis of ‘vocal for local’ asserts that it is all about ‘made in India’ and is to increase to push Indian products to become large enough to become international brands.The NEP 2020 has gone in for a significant overhaul of the education system—from terminologies and institutional framework to functionality—when it comes to transforming the governance, delivery, and financing of education. NEP will be the harbinger of movement towards Atmanirbhar and Swabhiman Bharat. Further he talked about promoting multidisciplinary approach, scouting for  partners from numerous  fields like industry, academicians, researchers and focus on technology and promote collaboration with national and international institutions and these tie ups should be in the right direction to create synergies. This will help India become ATMANIRBHAR and students becoming job providers not job seekers only.

https://propertyliquid.com/

Mr. Ravi Kumar an IPS officer and currently serving as SP (Superintendent of Police) Cyber Cell Jalandhar provided valuable insights in the field of data security and its vulnerabilities. He began by explaining how pivotal data is in the functioning of any enterprise and startups where 68% of business leaders feel their cyber security risks are increasing and only 5 % of company’s folders are properly protected. With help of various live examples, he talked about various vulnerabilities like unsecured websites, improper cookie policy, SQL injection attacks, Brute force attacks and others and also suggested remedies like stronger IT Act, IPR protection for startup, Data Protection Law, increasing manpower training and more security experts. In the time of Covid 19, these cyber attacks have been increased 3 times. So, we all must be very aware of Data Security.

Mr. K. S. Bhatia founder and C.E.O of B2C platform Pumpkart.com is also launching another startup Figgital (non essential hyper local platform) at the end of this month appreciated Prime Minister for launching initiatives like Atmanirbhar Bharat, Startup India, Digital India, Skill India, Made in India and told how Startups are the key to success of Atmanirbhar Bharat. He advised students to work on innovation and also laid emphasis on the importance of parents encouraging students to go for startups. He is also starting IAS (Indian Association of Startups) with the aim to encourage more startups’ and build more unicorns in India. He also appealed to everyone to celebrate PM Narendra Modi 70th birthday on 17th September as World Startup Day.

nbf

Mr. Rahul Narvedkar, Social Entrepreneur, Speaker, Investor and Mentor, and founder and CEO of various ventures including Startup Studio India, Sun and Sands Advisors, Japan, The India Network, NDTV Indian Roots and FashionandYou.com told us about his own story. How at one time, he did not have money to pay salaries and later sold Indian Roots ecommerce platform for such a high valuation. He achieved it by not following the rules of book and he went on to say that if you have the right approach and idea money is not a constraint.After that he started India Networks to provide mentorship for kids in small town so that language and geography do not remain a constraint intertwined with the aim of 1 Million startups from rural India in next 3 tears. He also had Indian Angel Fund which has so far done 3 investments all in women led startups. He in his speech laid emphasis on creating an ecosystem which can lead to innovation.  He motivated the students by saying that we need to understand  and celebrate our failures like an event and not label people as failures. We have to invest in people and create role models. By doing this, we can create an Atmanirbhar Bharat.

Prof. Upasna Joshi Sethi extended a formal welcome to the guests and said that a self-reliant India will develop with focus on five pillars viz economy, which brings in quantum jump and not incremental change; infrastructure, which should become the identity of India; technology-driven system; vibrant demography; and nascent demand, especially in the rural hinterland.

All the queries of the students were successfully taken up by the eminent guests and concomitantly they were answered too which made this event an eye opener for the students. Dr. Monika Aggarwal. Associate Professor, UIAMS moderated questions and answers session and proposed vote of thanks. Efforts of ECRC Cell of UIAMS including BarkhaRawat, KartikayNikhanj and Deeksha were also appreciated.

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

कोरोना के लक्षण दिखते ही करवाएं जांच, उपचार में देरी होती है घातक सिद्ध : उपायुक्त

सिरसा, 12 सितंबर।

कोरोना बचाव नियमों की उल्लंघना से बढ रहा संक्रमण, मृत्यु दर में भी हो रही वृद्धि

For Detailed News-


उपायुक्त रमेश चंद्र बिढाण ने कहा कि लोग कोरोना को लेकर लापरवाह हो रहे हैं। संक्रमण बचाव के लिए मॉस्क कारगर उपाय है, लेकिन लोग इसकी गंभीरता को नहीं समझ रहे हैं। बचाव नियमों की उल्लंघना व लोगों का लक्षण दिखने पर बिना देरी किए जांच व उपचार नहीं करवाना से संक्रमण का फैलाव दिन प्रति दिन बढ रहा है। संक्रमण फैलाव में बढोतरी से ही मृत्यु दर बढ रहा है। इसलिए आमजन कोरोन संक्रमण नियंत्रण में प्रशासन का सहयोग करें और संक्रमण के थोड़े से भी लक्षण दिखते हैं, तो तुरंत अपनी जांच करवाएं। यदि समय पर कोरोना होने का पता चलने के साथ उपचार किया जाए तो इसका इलाज संभव है। इसके साथ ही संक्रमण बचाव के उपाय जैसे की मॉस्क, बार-बार हाथ धोना, सोशल डिस्टेसिंग आदि का सही ढंग से व कड़ाई के साथ अनुपालना करें।


उन्होंने बताया कि आमजन कोरोना बीमारी की गंभीरता को समझें, इसके प्रति लापरवाही न बनें। कोरोना से घबराएं ना बल्कि सजग होते हुए इससे बचाव के उपायों को नियमित रूप से अपनाएं। जब लोग पहले लोग स्वयं आगे आकर जांच करवाते थे, तो मृत्यु दर कम थी। जब से लोगों रिपोर्टिंग करने में देरी की है, जिला में मृत्यु दर बढ़ा है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे प्रारंभिक लक्षण दिखने पर ही अपनी जांच करवाएं। यदि समय पर उपचार करवा लिया जाए तो मृत्यु दर कम होने के साथ-साथ संक्रमण का फैलाव भी नहीं होगा। उन्होंने कहा कि अधिकतर लोग यह समझते हैं कि यदि उन्हें जांच करवाई तो उन्हें होम क्वारंटाइन या अस्पताल में दाखिल कर लिया जाएगा। लोगों का ऐसा सोचना बिल्कुल ही गलत है और यही सोच संक्रमण के फैलने का कारण भी बन रही है। जांच का उद्ेश्य कोरोना संक्रमित व्यक्ति की पहचान के साथ-साथ उसका समय पर इलाज करना है। इसलिए बिना किसी डर के लक्षण दिखते ही अपनी जांच करवाएं और प्रशासन के संक्रमण नियंत्रण कार्य के सहयोगी बनें।

https://propertyliquid.com/


जेल से लिए 841 सैंपल, ढाबों तथा रेस्टोरेंट में भी की जाएगी सैंपलिंग :


उपायुक्त रमेश चंद्र बिढाण ने बताया कि कोरोना संक्रमण नियंत्रण के लिए सैंपलिंग कार्य में तेजी लाई जाएगी। इसी कड़ी में जेल से अब तक 841 लोगों के सैंपल लिए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि शहर के ढाबों, रेस्टोरेंट व रेहड़ी चालकों के भी सैंपल लिए जाएंगे, ताकि समय रहते संक्रमित व्यक्ति की पहचान कर उसका उपचार किया जा सके। 

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

Technical Run for Online Exam Test Successfully by PU

Chandigarh September 12, 2020

Office of the Controller of Examination(COE), Panjab University Chandigarh, successfully tested the technical run by the upload of question papers for the forthcoming exit semester exams to be starting from 17th Sept, 2020 , informed Prof Parvinder Singh, COE. He informed that an advisory will be sent to the Colleges for the downloading of the question papers by different modes. In addition, broadcast list will be connected with the Web Whatsapp so that there is no hitch in the transmission. It was also decided that sufficient time will be given as the uploading procedure will be completed half an hour before schedule time of paper.

For Detailed News-

The COE informed that special technical team has been deployed to run the conduct of online exam smoothly since, this is the first ever online examinations to be conducted by Panjab University. He further added that various inputs/feedback from the Principals of Colleges have been considered to improve the conduct of online examination. The supporting staff have also been appointed in all the Exam Centres.

He informed that his office has issued instructions to the students for downloading admit card from PU website:

All Colleges/Departments/Regional Centre shall be able to download the Admit Card/s in PDF format Course wise from College Admin Portal of UG exam and PG exam website after successful login i.e.http://ugexam.puchd.ac.in/ and http://pgexam.puchd.ac.in.

Colleges/Departments/Regional Centres are advised to upload the same file on the website of their respective Colleges/Departments/Regional Centres.

Or

https://propertyliquid.com/

Steps/Instructions for downloading admit card from PU website:

1 Login College Admin Portal of UG exam and PG exam i.e. http://ugexam.puchd.ac.in/ and http://pgexam.puchd.ac.in

2. Click on download the Admit Card Option.

3. Select Class and Semester and click on Go button.

4. A combined file will be generated containing Admit Card/s of all eligible students of that course.

5. Same file may be uploaded on the website of their respective Colleges/Departments/Regional Centres.

The CoE further informed that new emails with Terabyte space have been activated for smooth operation of transmission for around 20000 private/USOL candidates to submit their answer sheets in the University Secrecy Branch:

ugexam@gmail.com and pgexam@gmail.com

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

कंटेनमेंट जोन में प्रशासन द्वारा जारी हिदायतों की गंभीरता से हो पालना : उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण

सिरसा, 12 सितंबर।

For Detailed News-


                उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण ने बताया कि शुक्रवार को जिला में कोरोना संक्रमण के नए केस मिलने के बाद प्रभावित क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन व साथ लगते क्षेत्र को बफर जोन बनाया गया हैं। संबंधित एसडीएम कंटेनमेंट व बफर जोन के ओवरऑल इंचार्ज रहेंगे, जो सभी प्रबंधों व व्यवस्थाओं की देखरेख करेंगे। उन्होंने निर्देश दिए कि कंटेनमेंट जोन में प्रशासन द्वारा जारी हिदायतों की गंभीरता से पालना सुनिश्चित की जाए। इसके अलावा यह भी ध्यान रखा जाए कि कंटेनमेंट जोन में रह रहे लोगों को किसी प्रकार की परेशानी न हो व सुविधाएं सरलता से उपलब्ध हो।


नए कंटेनमेंट व बफर जोन स्थापित, कंट्रोल रुम नम्बर जारी :


                उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण ने बताया कि जिला में कोरोना केस मिलने पर नए कंटेनमेंट व बफर जोन बनाए गए हैं जिनमें सिरसा में वार्ड नंबर 14 अग्रसेन कॉलोनी होटल सूर्या वाली गली (01666-237908), शास्त्री कॉलोनी माल गोदाम रोड़ नजदीक रेलवे गुरुद्वारा (01666-220613), शक्ति नगर गली नंबर 7 हवा सिंह पूनिया वाली गली बरनाला रोड़ (01666-247300), अनाज मंडी नजदीक कबीर चौक गेट नंबर 4 (01666-240289, 240091), खन्ना कॉलोनी गली नंबर 4 हिसार रोड़ (93557-96000), थेड़ मौहल्ला रिंकू एमसी वाली गली (94162-53666), विष्णुपुरी कॉलोनी गली नंबर 4 डबवाली रोड़ (01666-241140, 220101), मंडी कालांवाली मॉडल टाउन आर-1, वार्ड नंबर 8 इंद्र जैन वाली गली वाटर वक्र्स रोड़, वार्ड नंबर 10 ज्ञान टेंट वाली गली व राजीव एमसी वाली गली वाटर वक्र्स रोड़ (01696-222014), खंड ओढां के गांव रोहिड़ांवाली वार्ड नंबर 3 (सरपंच 94660-58200, ग्राम सचिव 98126-06333), खंड नाथूसरी चौपटा के गांव रामपुरा ढिल्लों पूर्व सरपंच वाली गली (सरपंच 93860-00007, ग्राम सचिव 96084-00001), खंड सिरसा के गांव केलनियां वार्ड नंबर 3 (सरपंच 94674-94549, ग्राम सचिव 97289-22239) व ऐलनाबाद में वार्ड नंबर 17 हनुमानगढ़ रोड़ नजदीक एफसीआई गोदाम (01698-220352, 93066-78952) व में कंटेनमेंट जोन व बफर जोन बनाए गए हैं।

https://propertyliquid.com/


कंटेनमेंट व बफर जोन के लिए हिदायतें जारी :


                उपायुक्त रमेश चंद्र बिढ़ाण ने अधिकारियों को कोरोना वायरस के आस-पास के क्षेत्रों में इसके फैलाव को रोकने के लिए संदिग्धों की स्क्रीनिंग, संदिग्ध मामलों का परीक्षण, क्वारंनटाइन, सोशल डिस्टेंस आदि कार्यों के लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं। इन क्षेत्रों में सैनिटाइजेशन, खाद्य सामग्री की सुचारु आपूर्ति, बिजली व पानी की सुचारु सप्लाई, कंटेनमेंट जोन में रहने वालो लोगों का डाटा आरोग्य सेतु एप पर अपलोड करने, पशुधन के लिए खाद्य सामग्री उपलब्ध करवाने, स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने आदि कार्यों के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को हिदायतें जारी की गई है। इसके अलावा कंटेनमेंट जोन में सभी प्रकार की गतिविधियों व आवागमन पर रोक लगा दी गई है। केवल आपातकालीन सेवाओं के लिए ही बाहर जाया जा सकता है।