पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला में वीरवार को 256 मामले पोजिटिव आए।

पंचकूला 11 सितम्बर – उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि जिला में वीरवार को 256 मामले पोजिटिव आए। इनमें 180 पंचकूला के है। अब तक जिला में कुल 5017 मामले आए हैं जिनमें से 3812 पंचकूला के हैं। इनमें से 2508 कोरोना रोगी ठीक हो गए हैं तथा अब जिला में 1264 मामले एक्टिव रह गए है और 50820 व्यक्तियों के आरटी, पीसीआर, रेपिड एंटीजन नमूने लिए गए।

For Detailed News-


उपायुक्त ने बताया कि बडोना खुर्द, खेड़ा सीताराम, एमडीसी सैक्टर 6, 17, बीड़ घग्गर, बुढनपुर, पुलिस लाईन, भैंसा टिब्बा, नाडा साहेब, मौली, नानकपुर, रेहना, सैक्टर 25, में एक एक, रामगढ, एमडीसी सैक्टर 5, 7, 15, मंढावाला, बरवाला, सैक्टर 18, 19, 27 में दो दो, खटौली, सैक्टर 2, 15, 26, 29,रायपुररानी, में तीन तीन, सरकपुर, सैक्टर 11, 25, में चार चार, सैक्टर 10, सैक्टर 12, सैक्टर 6, 12 ए, अमरावती एन्कलेव में 5-5, सैक्टर 8, 9, 14 में 6-6, सैक्टर 20, 28 में 8-8, सैक्टर 21 में 10, कालका, पिंजौर में 4, 18 में 13, मामले पोजिटिव आए है। इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट किया जा रहा है।

https://propertyliquid.com/

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

स्वास्थ्य विभाग द्वारा पोषण माह के दौरान जिला के स्वास्थ्य केन्द्रोें में गर्भवती महिलाओ, दूध पिलाने वाली माताओं, बच्चों को पोषण आहार बारे जानकारी देकर जागरूक किया गया।

पंचकूला 11 सितम्बर – स्वास्थ्य विभाग द्वारा पोषण माह के दौरान जिला के स्वास्थ्य केन्द्रोें में गर्भवती महिलाओ, दूध पिलाने वाली माताओं, बच्चों को पोषण आहार बारे जानकारी देकर जागरूक किया गया।
सिविल सर्जन डा. जसजीत कौर ने बताया कि महिला एवं बाल विकास विभाग के सौजन्य से सितम्बर माह को पोषण माह के रूप में मनाया जा रहा है। इस माह के दौरान विभिन्न स्कूलों, आंगनबाडी केन्द्रों स्वास्थ्य केन्द्रों में विशेष कर पोष्टिक आहार संबधी गतिविधियां चलाकर महिलाओं, बच्चों, दूध पिलाने वाली माताओं को जानकारी दी जा रही है। इस अभियान के दौरान विभिन्न विभागों के सहयोग से महिलाओं एवं बच्चों के संर्वागीण विकास हेतू कोविड को ध्यान में रखते हुए कई गतिविधियांें के माध्यम से लाभान्वित करने का किया जाएगा।

For Detailed News-


उन्होंने बताया कि पोषण माह के दौरान जिला की आंगनबाड़ी केन्द्रों मे गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को प्रोटीनयुक्त डाईट, एनिमिया आदि से बचाव के लिए महिला गोष्ठी, मदर मिटिंग, कम्युनिटी बेसड इवेंट एवं गावं स्तर पर हेल्थ सेनीटेशन न्यूट्रीशन दिवस जैसे कार्यक्रम भी चलाकर पोष्टिक आहार बारे उन्हें प्रेरित किया जाएगा। इसके अलावा कई स्वास्थ्य केन्द्रों में पौधारोपण कर कीचन गार्डन के लिए प्रेरित किया गया तथा लोगोें को स्वच्छता के प्रति संकल्प भी करवाया गया।

https://propertyliquid.com/


सिविल सर्जन ने बताया कि उपायुक्त के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे पोषण अभियान के तहत महिला एवं बाल विकास कार्यक्रम अधिकारी आरू वशिष्ट की संयुक्त टीम जन जन तक पहुंचकर जिला को कुपोषण से मुक्त बनाया जाएगा। इसके तहत पोषण वाटिका, एनिमिया, डायरिया प्रबंधन जैसे कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएगें जिनमें आयरन युक्त आहार पोष्टिक आहार पर बल देते हुए महिलाओं एवं बच्चों का चहुंमुखी विकास किया जाएगा।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा 18 सितम्बर को जिला में इलैक्ट्रोनिक्स प्लेटफार्म के माध्यम से ई- लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा।

पंचकूला 11 सितम्बर – जिला विधिक सेवाएं प्राधिकरण द्वारा 18 सितम्बर को जिला में इलैक्ट्रोनिक्स प्लेटफार्म के माध्यम से ई- लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। इस लोक अदालतों में अधिक से अधिक विवादों का निपटारा किया जाएगा।

For Detailed News-


प्राधिकरण की सचिव एवं मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी सम्प्रीत कौर ने बताया कि ई लोक अदालत में बैंक रिकवरी, सिविल, अपराधिक एवं वैवाहिक विवादों का निपटारा किया जाएगा। इसके लिए पंचकूला जिला न्यायालय में पांच व पीएलए में एक बैंच तथा कालका सब डिविजन में भी एक बैंच का आयोजन किया जाएगा। इस प्रकार जिला में 7 बैंच लगाकर अधिक से अधिक विवादों का निपटारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि न्यायिक अधिकारियों को अपने क्षेत्रों में बैंच स्थापित लगाने ओर विवादों का चयन करने के निर्देश दिए गए है।

https://propertyliquid.com/


प्राधिकरण की सचिव ने बताया कि ई लोक अदालत के माध्यम से जनता के विवादों का निपटारा करने के लिए लोगों को प्रेरित किया जा रहा है ताकि इस लोक अदालत में विवादों को रखकर उनका निपटारा सुनिश्चित किया जा सके। उन्होंने बताया कि ई लोक अदालत के माध्यम से लोगों के समय व धन की बचत होगी ओर दोनों पक्षों की सहमति से ही विवादों का निपटारा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि लोक अदालतों का निर्णय अहम होता है तथा बहुत ही सरल तरीके से उनका निपटारा किया जाता है।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने हेतू सोलर पम्प-अतिरिक्त उपायुक्त

पंचकूला 11 सितम्बर – अतिरिक्त उपायुक्त एवं मुख्य परियोजना अधिकारी मनीता मलिक ने बताया कि नवीन एवं नवीकरणीय विभाग द्वारा सोलर पम्प योजना के तहत 3 व 10 हाॅर्स पावर के सोलर पम्प उपलब्ध करवाने के लिए saralharyana.gov.in पर आॅनलाईन आवेदन मांगे गए है।

For Detailed News-


अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि इस योजना के तहत किसानों को कृषि कार्यो के अलावा गौशालाओं को भी आत्मनिर्भर बनाने हेतू सोलर पम्प मुहैया करवाए जाते है। उन्होंने बताया कि वाटर यूजर एसोसिएशन एवं सामुहिक सिंचाई के लिए भी किसान सोलर पम्प 75 प्रतिशत अनुदान पर उपलब्ध करवाए जाते है। उन्होंने बताया कि इस स्कीम का ध्येय किसानों को सूक्ष्म सिंचाई योजना के लिए भी प्रोत्साहित करना है ताकि जल सरंक्षण योजनाओं को भी बढावा मिले और किसान कम पानी का उपयोग करके अच्छा उत्पादन भी कर सके।

https://propertyliquid.com/


उन्होंने बताया कि इस स्कीम का लाभ लेने के लिए किसानों को सूक्ष्म सिंचाई योजना के तहत भूमिगत पाईप लाईन लगवाना अनिवार्य है। इसके अलावा पहले से पाईप लाईन लगाए किसान भी इस योजना का लाभ उठा सकते है। उन्होंने बताया कि आवेदन केवल आॅनलाईन ही स्वीकार किए जाएगें। योजना की अधिक जानकारी के लिए परियोजना अधिकारी अक्षय ऊर्जा विभाग राजेन्द्र कुमार के दूरभाष 0172-2582337 एवं मोबाईल 7986033796 पर भी सम्पर्क स्थापित किया जा सकता है।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

युवा रोजगार मेले के लिए करें आॅनलाईन आवेदन-उपायुक्त

पंचकूला 11 सितम्बर – युवाओं को सरकारी व निजी क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध करवाने के उद्वेश्य से रोजगार विभाग के कार्यालय में 15 सितंबर 2020 को आनलाईन रोजगार मेले का आयोजन किया जाएगा। रोजगार मेले में भाग लेने के लिए इच्छुक युवाओं को रोजगार विभाग की वैबसाईट hrex.gov.in पर आनलाईन पंजीकरण करवाना अनिवार्य है।

For Detailed News-


उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने इस संबध में जानकारी देते हुए बताया कि आनलाईन विभाग की वैबसाईट hrex.gov.in पर जोबसीकर्स सैक्शन में जाकर नियोक्ता को इम्पलायर्स सैक्शन में पंजीकरण करवाना है। इसमें नियोक्ता अपने इम्पलायर आईडी, पासवर्ड इज हरेक्स वैबसाईट पर लोगिन करके जाॅब फेयर सैक्शन में रिक्तियाॅ अपलोड कर सकते है। इस प्रकार निजी व सरकारी क्षेत्र में नौकरी पाने के इच्छुक युवा अपनी जोबसीकर आई डी पासवर्ड से लोगिन करके अपनी योग्यतानुसार रिक्तियाॅ देखकर आनलाईन आवेदन कर सकते है।

https://propertyliquid.com/


उपायुक्त ने बताया कि विभाग द्वारा समय समय रोजगार मेलों का आयोजन किया जा रहा है। इन मेलों के माध्यम से युवाओं को सरकारी क्षेत्र में आवेदन करने के लिए जानकारी देने के साथ साथ निजी क्षेत्र में रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाए जा रहे है।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

महिलाओं के लिए कारगर सखी वन स्टाॅप सैंटर-उपायुक्त

For Detailed News-

पंचकूला 11 सितम्बर – महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा जिला सचिवालय में पीड़ित महिलाओ की सहायता के लिए सखी वन स्टाप सैंटर संचालित किया जा रहा है। इस केन्द्र में शिकायत दर्ज होने के तुरंत बाद कार्रवाई करते हुए महिलाओं को न्याय सुलभ करवाया जा रहा है।

महिलाओं के निपटाए 90 मामले


उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने इस संबध में जानकारी देते हुए बताया कि विभाग द्वारा संचालित सखी वन स्टाॅप सैंटर मार्च 2019 में शुरू किया गया। तब से लेकर अब तक इस सैंटर में 161 शिकायतें दर्ज हुई। उन्होंने बताया कि सैंटर में त्वरित कार्रवाई करते हुए घरेलू ंिहंसा से पीड़ित 90 शिकायतों का निपटारा करते हुए महिलाओं को न्याय दिलवाया गया। उन्होंने बताया कि सैंटर में कांउसलिंग के माध्यम से महिलाओं की शिकायतों का निपटारा करवाया जाता है।

https://propertyliquid.com/


उपायुक्त ने बताया कि सखी वन स्टाॅप सैंटर महिलाओं के लिए नाम के अनुरूप कार्य करते हुए बहुत ही कारगर साबित हो रहा है तथा महिलाओं को न्याय दिलवा रहा है। उन्होंने बताया कि सैंटर में पीड़ित महिला को पुलिस सहायता, स्वास्थ्य लाभ, मनौवैज्ञानिक परामर्श मुहैया करवाया जाता है। इसके अलावा अस्थाई रूप से 5 दिन के लिए आवास भी उपलब्ध करवाया जाता है।


उपायुक्त ने बताया कि सैंटर में घरेलू, हिंसा, दहेज, उत्पीडन, बाल विवाह, महिला तस्करी, बलात्कार से पीडित, साईबर क्राईम, गुमशुदा, ऐसिड, अटैक, यौन शोषण से पीड़ित महिलाएं अपनी शिकायत दर्ज करवा सकती है। महिलाओं की मदद के लिए 181 टोल फ्री नम्बर की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जा रही है। इसके अलावा हैल्प लाईन 0172-2586600 पर भी महिला अपनी शिकायत दर्ज करवा सकती है।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

FDP on ‘Nanoscience and Nanotechnology in the Perspective of New India’ by PU

Chandigarh September 11, 2020

The Vice Chancellor of Panjab University Prof. Raj Kumar inaugurated the faculty development programme (FDP) on ‘Nanoscience and Nanotechnology in the Perspective of New India’ today via online mode organized by UGC-HRDC, Panjab University. He emphasized on the role of nanoscience and nanotechnology in the emerging scenario of new education policy NEP-2020 and the role it plays in developing ‘AtmaNirbhar Bharat’ and future smart cities.

For Detailed News-

Director of UGC-HRDC Prof. S. K. Tomar welcomed the guests, resource persons and participants. Four eminent scientists in the field of Nanoscience and Nanotechnology delivered lectures in the event. Prof. Amitava Patra, Director of Institute of Nanoscience and Technology (INST), Mohali talked about ‘Challenges and opportunities for nanomaterials based energy harvesting systems’. Another renowned scientist Prof. Vijayamohanan K. Pillai, former director CECRI-Tamil Nadu, former acting director CSIR-NCL, Pune and currently the Chair Professor at IISER-Tirupati and the dean R&D delivered a scintillating talk on Nanoscience and nanotechnology using two-dimensional (2D) materials’. Dr. NiranjanS. Ramgir from Bhabha Atomic Research Center (BARC) -Mumbai gave some input on ‘Nano-sensors-technology development challenges’. Dr. Shunmugavel Saravanamuruganfrom CIAB-Mohali delivered the concluding talkon ‘Nanoporouszeolites and nano zirconia as catalysts for the production of sustainable chemicals’. 

https://propertyliquid.com/

There were participants from all across India in the online event. The event was coordinated by Dr. Jadab Sharma from Centre for Nanoscience and Nanotechnology, Panjab University. A panel discussion was also held on integration of industry and research institutes with academic institutes like Panjab University in view of the NEP-2020.

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

Vice President Congratulates Panjab University for winning the Maulana Abul Kalam Azad trophy for the year 2020

Chandigarh September 11, 2020

The Vice President, Shri M. Venkaiah Naidu and Chancellor of Panjab University, Chandigarh called for an urgent revival of sporting culture in India. He said that games and Sports or Yoga or any physical activity must become integral to people’s daily routine for good health and a stress-free life.

Delivering a congratulatory address to Panjab University  for winning the coveted Maulana Abul Kalam Azad trophy for the top performing University in sports for a second time in a row for the year 2020, he stressed the need for schools and other educational institutions to actively promote sports and games.

For Detailed News-

Observing that excellence in sporting  comes by relentless hard work coupled with planning and determination, he lauded the coaches, management, staff and students of the Panjab University for achieving sporting excellence along with academic brilliance. It also requires iron clad willpower to become an exceptional sports person with strong body and strong mind. He added that sports and games are crucial parts of our lives; they not only improve physical abilities but also enhance social skills. Participation in sports increases concentration level and develops teamwork. The sports improve the general quality of life and the sports persons can become exceptional human beings with leadership qualities.

Shri Naidu said that sports and games form a crucial part of our lives and they improve our physical fitness, improve our cognitive abilities and in the case of team games, enhance our social skills. Asserting that sports and games help in developing an attitude of equanimity, he said that this balance is essential to accept failures and setbacks without any sense of bitterness, ill-will or grudge. 

https://propertyliquid.com/

Expressing concern over the rising incidence of lifestyle diseases in our country, especially among the youth, the Vice President said that it is of paramount importance to make our youngsters aware of the dangers of unhealthy diet and sedentary lifestyle.

He lauded the “Fit India campaign” initiated by the Prime Minister Shri Narendra Modi and said that it would definitely encourage people to stay fit and healthy.

Stressing the need to identify sporting talent from a young age, he called for the creation of an effective and comprehensive talent monitoring and scouting systems to achieve this objective.

Highlighting the need to upgrade sporting infrastructure in the country, especially in rural areas, Shri Naidu also called for creating a large pool of home grown, highly skilled Indian coaches. Coaches play an important role, he added.

nbf

Urging more colleges and universities to offer degrees and diplomas in sports management, he also wanted the creation of a pool of highly skilled sports medicine experts and practitioners to improve the performance of our sportspersons.

He underscored the importance of investing more resources in areas in which India has competitive advantage. Terming sports persons as our national pride, he expressed confidence that with diligent hard work, India will go on to win many more accolades in international sporting events. “We have no dearth of talent in this country. What we need is stronger support systems”, he observed.

Earlier, Prof. Raj Kumar, Vice Chancellor, PU extended his warm welcome to the Hon’ble Vice President of India. He added that PU has a long tradition of achieving excellence in all spheres of education apart from brining laurels in sports. He informed that PU is delighted to have received prestigious MAKA trophy second time in a row and the credit goes to the hardwork of coaches and players. PU also created history by emerging Champions in Ist-Ever Khelo India University Games held in March 2020.

PU senior officials, Director Sports along with the officials of Sports Departments, the Coaches and the Awardees were present at the occasion.

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

उपायुक्त ने शहर का दौरा कर लिया कोरोना नियमों, स्वच्छता व ट्रेफिक व्यवस्था का जायजा

सिरसा, 11 सितंबर।

उपायुक्त ने कहा कि दुकानदार के तीन बार नियमों की उल्लंघना पर होगा चालान, चौथी बार उल्लंघना की तो दुकान को किया जाएगा सील


उपायुक्त रमेश चंंद्र बिढाण ने शुक्रवार को शहर के बाजारों, विभिन्न चौक सामान्य अस्पताल का औचक निरीक्षण किया और कोरोना नियमों की पालना के साथ-साथ शहर की सफाई व ट्रैफिक व्यवस्था का जायजा लिया। इस दौरान उपायुक्त ने दुकानदारों, रेहड़ी चालकों व आमजन को कोरोना बचाव नियमों की गंभीरता से अनुपालना करने की नसीहत दी। उपायुक्त ने बस स्टैंड, सुरखाब चौक, अंबेडकर चौक, परशु राम चौक, काठ मंडी, भादरा बाजार, गोल डिग्गी, रोड़ी बाजार, सुभाष चौक, सुरतगढिया चौक, अनाज मंडी, शिव चौक, सामान्य अस्पताल व सांगवान चौक का निरीक्षण किया और इस दौरान जो व्यक्ति मॉस्क नहीं लगा रहे थे, उनको मॉस्क लगाने की नसीहत देते हुए कहा कि वे अपनी जान जोखिम में न डालें और स्वयं का बचाव करते हुए मॉस्क लगाएं व दूसरों को भी मॉस्क लगाने के लिए प्रेरित करें।

For Detailed News-


उपायुक्त ने कहा कि आमजन कोरोना को लेकर जागरूक तो हैं, लेकिन नियमों की गंभीरता से पालना नहीं कर रहे हैं। लोगों की कोरोना को लेकर लापरवाही संक्रमण के अधिक फैलने का कारण बन रही है। जितना संक्रमण अधिक फैलेगा, मृत्यु दर भी उतनी तेजी के साथ बढेगी। लोग कोरोना के शुरूआती लक्षण मिलने पर अपनी जांच नहीं करवा रहे, यह लापरवाही भविष्य में गंभीर रूप धारण कर सकती है। इसलिए आमजन ने जो सजगता व गंभीरता कोरोना को लेकर लॉकडाउन में दिखाई थी, वहीं सजगता अब भी दिखाएं, तभी कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोका जा सकता है। उन्होंने कहा कि दौरे के दौरान देखने में आया है कि आधे लोग मॉस्क का प्रयोग नहीं कर रहे हैं और जो मॉस्क का प्रयोग कर रहे हैं, लेकिन वो सहीं ढंग से नहीं कर रहे हैं। ऐसे लोग मॉस्क से मूंह व नाक पूरी तरह से ढकें। मॉस्क का सही ढंग से किया गया प्रयोग ही संक्रमण से बचाव करेगा और संक्रमण फैलाव पर भी अंकुश लग सकेगा। उन्होंने कहा कि चालान करने के बावजूद भी लोग कोरोना बचाव नियमों के प्रति लापरवाही कर रहे हैं। अब टीमों को सख्त हिदायत दी गई है ऐसे लोगों का लगातार चालान करें और जो दुकानदार तीन बार मॉस्क को लेकर उल्लंघना करता है, इसके बाद चालान की बजाए दुकान को ही सील कर दिया जाए।

https://propertyliquid.com/


उन्होंने कहा कि संक्रमण फैलाव को नियंत्रण करने में दुकानदार अहम भूमिका निभा सकते हैं। दुकानदार स्वयं मॉस्क का प्रयोग करें और दुकान पर आने वाले ग्राहक भी मॉस्क का प्रयोग करें। दुकान पर हाथों को सेनेटाइज के लिए सेनेटाइजर जरूर रखें। उन्होंने कहा कि शहर में दौरे के दौरान अधिकतर रेहडिय़ों विशेषकर फास्टफुड व फलों की रेहडिय़ों पर भीड़ एकत्रित दिखी, जोकि कोविड-19 बचाव नियमों की घोर उल्लंघना के साथ-साथ संक्रमण फैलाव का मुख्य करण बन रही है। उन्होंने रेहड़ी चालकों से कहा कि वे अपनी रेहड़ी पर भीड़ एकत्रित न होने दें और सोशल डिस्टेसिंग के साथ मॉस्क का प्रयोग भी करें। कोरोना संक्रमण फैलाव को रोकने के मद्देनजर शहर के रेहड़ी चालकों, रेस्टोरेंट व ढाबों पर कार्यरत लोगों की सैंपलिंग की जाएगी।


उपायुक्त रमेश चंद्र बिढाण ने कहा कि दुकानदार बाजार में दुकान के कूड़े को खुले में न फैंके, बल्कि नगर परिषद की गाड़ी में ही डालें। इसके अलावा दुकानदार व रेहड़ी चालक अपनी दुकान व रेहड़ी पर डेस्टबीन जरूर रखें और गीला व सूखा कचरा अलग-अलग रखें। उन्होंने कहा कि आमजन शहर व जिला को स्वच्छ बनाने में प्रशासन का सहयोग करें और अपने शहर के सौंदर्यकरण में पूर्ण योगदान दें।


उपायुक्त ने शहर की यातायात व्यवस्था का भी जायजा लिया। उन्होंने कहा कि वाहन चालक विशेषकर ऑटो चालक अपने वाहन को निर्धारित जगह पर ही खड़ा करके सवारियों को उतारे व चढाएं। वाहनों को निर्धारित स्थान पर ही पार्किंग करें, ताकि यातायात अव्यवस्थित न हो और लोगों का आगमन सुगम हो। उन्होंने कहा कि ऑटो चालक अपने वाहन में निर्धारित सवारियों से ज्यादा न बिठाएं, क्योंकि कोरोना के फैलाव को देखते हुए यह सावधानी बरतनी बेहद जरूरी है। वाहन चालक विशेषकर बस व ऑटो चालक स्वयं मॉस्क का प्रयोग करें व सवारियों को भी मॉस्क लगाने के लिए कहें।

पर्यावरण सरंक्षण के लिए पौधारोपण जरूरी : सिटीएम संदीप कुमार

पंचकूला में आज 256 नए कोरोना संक्रमित मरीजों की हुई पुष्टि।

पंचकूला:

पंचकूला में कल देर रात से अबतक 256 नए कोरोना संक्रमित मरीज़ आए हैं सामने।

वहीं 2 और मरीज़ो की कोरोना संक्रमण से हुई मौत।

पंचकूला नागरिक अस्पताल में डॉ मनकीरत ने की पुष्टि।

उन्होंने बताया कि ये 256 कोरोना संक्रमित मरीज़ पंचकूला के विभिन्न क्षेत्रों व सेक्टरों से शामिल हैं।

साथ ही कुछ कोरोना संक्रमित मरीज़ अन्य जिलों व राज्यों के भी शामिल हैं।

For Detailed News-

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी कोरोना संक्रमित मरीज़ों को आईसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जा रहा है।

इन सभी कोरोना संक्रमित मरीज़ों के परिजनों को भी आइसोलेट करने की प्रक्रिया में स्वास्थ्य विभाग जुट गया है।

साथ ही सभी कोरोना संक्रमित मरीज़ो के संपर्क में आए लोगों की लिस्ट बनाने व ट्रेस करने में जुट गया है।

ताकि उन्हें भी क्वॉरेंटाइन किया जा सके व उनके सैंपल कोरोना टेस्ट के लिए भेजे जा सकें।

https://propertyliquid.com/