बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

उपायुक्त ने आदेश जारी कर अपराधिक अधिनियम 1973 की धारा 22 (1) एवं धारा 23 (1) के तहत प्रद्वत शक्तियों का प्रयेाग करते हुए सैक्टर 19, राजीव कालोनी, एवं माजरी कंटेनमेंट क्षेत्र में डयूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए है।

पंचकूला 12 मई-  उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने आदेश जारी कर अपराधिक अधिनियम 1973 की धारा 22 (1) एवं धारा 23 (1) के तहत प्रद्वत शक्तियों का प्रयेाग करते हुए सैक्टर 19, राजीव कालोनी, एवं माजरी कंटेनमेंट क्षेत्र में डयूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए है। 

For Detailed News-

उपायुक्त ने हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की सम्पदा अधिकारी ममता शर्मा को पंचकूला कंटेनमेंट जोन का ओवर आल इंचार्ज बनाया है।जारी आदेशानुसार सैक्टर 19 कंटेनमेंट क्षेत्र में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के कनिष्ठ अभियंता सत्यवान मोबाईल 9417591241, राजीव कालोनी क्षेत्र में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के एएसडीई रामकुमार मोबाईल 9988085566 तथा माजरी एरिया में इसी विभाग के कनिष्ठ अभियंता उमेश मोबाईल 9417011269 को डयूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किया है। 

https://propertyliquid.com/

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

उपायुक्त ने बताया कि सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए जिला में अब तक 36038 मिट्रिक टन गेहूं की खरीद की जा चुकी है।

पंचकूला 12 मई- उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए जिला में अब तक 36038 मिट्रिक टन गेहूं की खरीद की जा चुकी है जिसमंे से 30349 मिट्रिक टन गेहूं का उठान कर लिया गया है। 

For Detailed News-

उपायुक्त ने बताया कि जिला की विभिन्न मंडियों में हैफेड एवं हरियाणा वेयरहाउसिंग कारपोरेशन द्वारा सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए 6013 किसानों का गेहंू खरीदा गया है। इन मंडियों में अब तक गेहूं की आवक हुई है उसे न्यूनतम समर्थन मूल्य 1925 रुपए प्रति किंव्टल की दर खरीदा गया है। पंचकूला के 425, रायपुररानी के 3394 तथा बरवाला के 2191 किसानों का गेहूं खरीदा गया है।

https://propertyliquid.com/

उपायुक्त ने बताया कि हैफेड ने सबसे अधिक 19245 मिट्रिक टन गेहूं की खरीद की है। हरियाणा वेयर हाउसिंग कारपोरेशन ने 16793 मिट्रिक टन गेंहू की खरीद की है। जिसमें से 14789 मिट्रिक टन गेहूं हैफेड एवं 15560 मिट्रिक टन गेहूं हरियाणा वेयर हाउस कारपोशन द्वारा उठान कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि शेष गेहूं का उठान युद्व स्तर पर जारी है ताकि किसान आसानी से गेहूं बिक्री के लिए मण्डी में ला सकें। 

उपायुक्त ने बताया कि गेहूं खरीद के लिए जिला में किसानों को सेनीटाईजर, मास्क, दस्ताने भी उपलब्ध करवाए जा रहे है। जिला की मंडियों का नियमित रूप से निरीक्षण किया जा रहा है ताकि किसानों को बारदाने आदि किसी प्रकार की दिक्कतेें पेश न आए।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

उपायुक्त ने बताया कि स्मार्ट फोन से वंचित और आरोग्य सेतू ऐप को डाउनलोड ना करने वाले व्यक्तियों को कोविड-19 से सम्बंधित जानकारी देने के लिए केन्द्र सरकार ने 1921 टोल फ्री नम्बर की सेवा शुरू की है।

पंचकूला 12 मई- उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने बताया कि स्मार्ट फोन से वंचित और आरोग्य सेतू ऐप को डाउनलोड ना करने वाले व्यक्तियों को कोविड-19 से सम्बंधित जानकारी देने के लिए केन्द्र सरकार ने 1921 टोल फ्री नम्बर की सेवा शुरू की है। कोई भी व्यक्ति जिसके पास स्मार्ट फोन नही है और वह केवल साधारण फोन रखता है। अब उसको भी सरकार की ओर से कोविड-19 की जानकारी जो आरोग्य सेतू ऐप के माध्यम से उपलब्ध हो पाएगी। 

For Detailed News-

उपायुक्त ने बताया कि एनआईसी की ओर से लोगों में प्रभावी ढंग से कोरोना वायरस के प्रति सचेत करने के लिए यह टोल फ्री नम्बर शुरू किया गया है। साधारण फोन से जिसके पास अरोग्य सेतू ऐप नही है वो व्यक्ति टोल फ्री न0 1921 पर मिस कॉल कर कोविड-19 की जानकारी प्राप्त कर सकता है। इस नम्बर पर केवल मिस कॉल करने पर वहां से डिस्कनैक्ट होने के बाद फोन करने वाले व्यक्ति को वापिस उसी नम्बर पर फोन आएगा जिसमें उससे स्वास्थ्य से सम्बंधित जानकारी ली जाएगी। सम्बंधित नागरिक की प्रतिक्रिया के बाद उसके स्वास्थ्य से सम्बंधित उसके फोन पर अलर्ट मैसेज आएगा। यही नही वह नागरिक जब कोविड-19 के संक्रमित केसों के आसपास होगा तो उसे तुरन्त आरोग्य ऐप की भांति अलर्ट एसएमएस प्राप्त होगा।

https://propertyliquid.com/

उपायुक्त ने बताया कि यह सुविधा साधारण फोन रखने वाले लोगों के लिए बनाई गई जोकि पूर्णत्या सुरक्षित है। इसका उद्ेश्य कोविड-19 के बारे में लोगों को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करना है। साथ ही साथ सरकार की समय-समय पर आने वाली गाईडलाईन की जानकारी भी आमजन को मिलती रहेगी। 

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

आयुष विभाग के प्रचार वाहन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए नगराधीश सुशील कुमार।

आयुष विभाग के प्रचार वाहन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करते हुए नगराधीश सुशील कुमार।

पंचकूला  12 मई-  कोरोना से लड़ने, इम्युनिटी बढाने एवं जिला के नागरिकों को जागरूक करने के लिए आयुष विभाग ने व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार अभियान शुरू किया है। इस अभियान का शुभारम्भ नगराधीश सुशील कुमार ने हरी झण्डी दिखाकर पब्लिसिटी वाहन को रवाना किया। यह प्रचार अभियान लगातार 23 मई तक जारी रहेगा। 

For Detailed News-

नगराधीश सुशील कुमार ने बताया कि यह प्रचार वाहन जिला के प्रत्येक गांव के साथ नगर निगम क्षेत्र को कवर करेगा जिसमें प्रतिदिन 12 से 15 गांवों का दौरा कर लोगों को जागरूकर एवं सचेत किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 13 से 15 मई तक नगर निगम के सभी सैक्टरों के अलावा देवीनगर, फतेहपुर, महेशपुर, अभयपुर, बुढनपुर, ख़डक मंगोली, भैंसा टीबा, एमडीसी, सकेतड़ी आदि में प्रचार प्रसार किया जाएगा। इसके बाद 16 मई को इशर नगर नजदीक सीआरपीएफ, दमदमा, पाटन, भोडिया, धतोगड़ा, कजियाना, जनौली, नौलटा, भवाना, 18 मई को ककराला, बागवाली, बागवाला, ठरवा, जासपुर, मौली, नटवाल, टोडा गांवों में प्रचार प्रसार किया जाएगा।   

 https://propertyliquid.com/

जिला आयुवेर्दिक अधिकारी डा. दलीप मिश्रा ने बताया कि  प्रचार अभियान के लिए एएमओ डा. अजय को ओवर आॅल इंचार्ज बनाया गया है। इसके अलावा प्रतिदिन चिकित्सकों की डयूटी लगाई गई है जो लोगों को जागरूक करेंगें। उन्होंने बताया कि कोविड-19  महामारी के चलते जिला के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अलावा नागरिकों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने के लिए गुडूची घन वटी का वितरण किया जा रहा है।  

जिला आयुवेर्दिक अधिकारी डा. दलीप मिश्रा ने बताया कि  प्रचार अभियान के लिए एएमओ डा. अजय को ओवर आॅल इंचार्ज बनाया गया है। इसके अलावा प्रतिदिन चिकित्सकों की डयूटी लगाई गई है जो लोगों को जागरूक करेंगें। उन्होंने बताया कि कोविड-19  महामारी के चलते जिला के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के अलावा नागरिकों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने के लिए गुडूची घन वटी का वितरण किया जा रहा है।  

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

कोरोना वायरस के चलते लोकडाउन के दौरान पंचकूला स्थित सैक्टर 14 व रायपुररानी के अलावा बिटना की औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान की महिला अनुदेशक व विद्यार्थियों ने जिला के लोगों को नो लॉस-नो प्रोफिट के आधार पर डबल लेयर के मास्क बनाकर उपलब्ध करवाने का जो बीड़ा उठाया है वह काबिले तारीफ है।

पंचकुला 12 मई-          कोरोना वायरस के चलते लोकडाउन के दौरान पंचकूला स्थित सैक्टर 14 रायपुररानी के अलावा बिटना  की औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान की महिला अनुदेशक   विद्यार्थियों ने जिला के  लोगों को नो लॉस-नो प्रोफिट के आधार र डबल लेयर के मास्क बनाकर उपलब्ध करवाने का जो बीड़ा उठाया है वह काबिले तारीफ है। विशेषता यह है कि ये मास्क गुणवत्ता में बेहतरीन है और सुती कपड़े के बनाए जा रहे है। 

For Detailed News-

अनुदेशक व विद्यार्थियों यह मास्क आई टी आई परिसर में सामाजिक दूरी की पालना कर बडी स्ंाख्या में बनाए जा रहे है। यह मास्क इतने किफायती है कि कोई भी गरीब से गरीब व्यक्ति आसानी से खरीद सकता है। आजकल आईटीआई में बन रहे मास्क को लोग अच्छा खासा पसंद कर रहे है जिसकी बदौलत इन मास्कों की सरकारी कार्यालयों के साथ साथ मार्केट में मांग भी डिमांण्ड है। रायपुररानी की ग्रुप इंचार्ज प्रोमिला शर्मा एवं अनुदेशक प्रवीन ने बताया कि डयूटी के साथ-साथ मास्क बनाकर लोगों तक पंहुचाने में आत्मिक संतुष्टि मिलती है। मास्क बनाने से जन सेवा का आभास होता है। अनुदेशकों ने तो यह भी कहा कि समाज को जब तक जरूरत रहेगी ,तब तक मास्क तैयार कर लोगों तक पंहुचाने के कार्य में तत्पर रहेगी। 

https://propertyliquid.com/

सैक्टर 14 की  प्रधानाचार्य बलविन्द्र ने बताया कि अब तक तैयार मास्क लोगों को उपलब्ध करवाए जा चुके है। पहले 8 रुपये में मास्क उपलब्ध करवाए गए लेकिन अब सरकार की ओर से रेट रिवाईज होकर आए हैं उनमें 10 रुपये प्रति मास्क लोगों को उपलब्ध करवाये जा रहे है। तीनों आईटीआई में लगभग 15 हजार मास्क बनाकर जिला प्रशासन को उपलब्ध करवाए है। इसके अलावा ओर मास्क बनाने का कार्य जारी है। जिला उपायुक्त मुकेश कुमार आहूजा ने इन मास्क की विशेष रूप से सराहना की है। इसके अलावा बैंकर्स की ओर से भी उनके पास डिमाण्ड आई है उसे भी पूरा करने में जुटे हुए है। औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में बने हुए मास्क का उपयोग सरकारी कार्यालयों में भी किया जा रहा है।  

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

उपायुक्त ने किया घग्घर के बांधों व लिंक चैनलों का निरीक्षण, अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

सिरसा, 12 मई।

बाढ़ से बचाव प्रबंधों के तहत लिंक चैनलों की सफाई तथा बांधों को मजबूत करने के दिए आदेश

उपायुक्त ने किया घग्घर के बांधों व लिंक चैनलों का निरीक्षण, अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

For Detailed News-


                उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने निर्देश दिए कि घग्घर नदी के साथ लगते चैनलों तथा हैडों की समुचित सफाई की जाए। चैनलों के दोनों किनारों को मजबूत किया जाए, ताकि इनमें पानी बहाव की क्षमता बढ सके। नदी के तटबंधों व पुलों को भी मजबूत बनाया जाए और किनारों पर उगी घास या झाडिय़ों को साफ करवाया जाए।

https://propertyliquid.com/


                उपायुक्त मंगलवार को बाढ़ से बचाव प्रबंधों को लेकर घग्घर नदी के लिंक चैनलों व हैड का निरीक्षण कर रहे थे। इस दौरान एसडीएम सिरसा जयवीर यादव, एसडीएम ऐलनाबाद दिलबाग सिंह, डीआरओ विजेंद्र भारद्वाज, डीडीपीओ राजेंद्र ङ्क्षसह, अधीक्षण अभियंता सिंचाई विभाग आत्मा राम भांभू, तहसीलदार रानियां जितेंद्र, तहसीलदार ऐलनाबाद हरकेश गुप्ता, कार्यकारी अभियंता सिंचाई विभाग सतीश जनेवा आदि साथ रहे। उन्होंने सबसे पहले मुसाहिबवाला में घग्घर के लिंक चैनल से मल्लेवाला, केलनियां, झोरडऩाली, ओटू हैड का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सभी चैनल की सफाई व्यवस्था दुरूस्त की जाए। दोनों ओर खड़ी झाड़ी आदि कटवाकर बाधों को मजबूत व साफ-सुथरा किया जाए। उन्होंने कहा कि चैनलों व हैड के दोनों किनारों को मजबूत बनाया जाए। इसके अलावा जहां पर भी कटाव दिखाई देता है, वहां पर मिट्टी डालकर उसे मजबूत बनाया जाए। इसके लिए अधिकारी अपने क्षेत्र में इस कार्य का निरीक्षण करें और जहां पर भी कमजोर बांध दिखाई देता है, उसे तुरंत ठीक करवाया जाए।


                उन्होंने निर्देश दिए कि चैनल व हैडों की निरंतर निगरानी के लिए सैक्टर वाइज टीम बना कर अधिकारियों की ड्यूटी लगाई जाए और मिट्टïी के बैगों की भी समुचित व्यवस्था पहले से रखें। उन्होंने गांव फरवाई खुर्द से गांव नेजाडेला तक बने बांध का निरीक्षण करते हुए अधिकारियों से कहा कि जहां भी आवश्यकता हो उन स्थानों पर तुरंत मिट्टी डलवाएं और बांध को मजबूत रखें, अगर इन कार्यों में किसी प्रकार की कोई दिक्कत आती है तो तुरंत उनके संज्ञान में लाया जाए ताकि समय रहते उन दिक्कतों को दूर किया जा सके। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को ये भी निर्देश दिये कि वे समय-समय पर घग्घर बांध की मजबूती की जांच करते रहें तथा कमजोर स्थानों को चयनित कर उनको मजबूत बनाएं।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

संत निरंकारी मिशन द्वारा बाबा हरदेव सिंह जी को श्रद्धांजली अर्पित

चण्डीगढ़, 12 मई,

2020ः पूरे विश्व में फैले निरंकारी परिवार द्वारा उनके पूर्व सद्गुरु बाबा हरदेव सिंह जी महाराज को ‘समर्पण दिवस’ मनाते हुए श्रद्धांजली अर्पित की यह जानकारी चण्डीगढ ब्रांच़ के संयोजक श्री नवनीत पाठक जी ने दी।

For Detailed News-

                उन्होने आगे कहा कि निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज की स्मृति के रूप में प्रति वर्ष 13 मई को ‘समर्पण दिवस’मनाया जाता है। इस वर्ष कोरोना महामारी के वैश्विक संकट को देखते हुए सरकार के निर्देशों को सम्मुख रख कर समर्पण दिवस पर किसी भी विशेष सत्संग समारोह का आयोजन न करते हुए घर बैठे ही ऑनलाईन संत समागम के माध्यम से निरंकारी भक्त बाबा हरदेव सिंह जी के प्रति अपने श्रद्धा भाव अर्पित करेंगे जिसमें मिशन की वर्तमान प्रमुख, सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज द्वारा अपना पावन संदेश भी प्रसारित किया जायेगा ।

https://propertyliquid.com/

                बाबा हरदेव सिंह जी ने मिशन के आध्यात्मिक प्रमुख के रुप में 36 साल मिशन की बागड़ोर सम्भाली और चार साल पहले इसी (13 मई के) दिन अपने नश्वर शरीर का त्याग कर अपने निराकार रुप में विलीन हो गए ।

                अपने कार्य काल में बाबा जी ने अनथक परिश्रम करते हुए आध्यात्मिक जागरुकता के माध्यम से मिशन का सत्य, प्रेम, मानवता एवं विश्वबंधुत्व का संदेश संसार के कोने कोने में पहुंचाया जिससे वैर, द्वेष, ईर्ष्या, संकीर्णता, भेदभाव जैसी दुर्भावनायें दूर होकर मानवीय मूल्यों को बढ़ावा मिले और संसार में प्यार, अमन, दया, करुणा जैसे सद्गुणों का विकास हो ।

                बाबा हरदेव सिंह जी ने 36 साल मिशन की बागड़ोर सम्भाली। उनके समय में मिशन 17 देशों से चलकर विश्व के प्रत्येक महाद्वीप के 60 राष्ट्रों तक पहुँच गया जहाँ राष्ट्रीय व अन्तराष्ट्रीय स्तर के समागम, युवा सम्मेलन, सत्संग कार्यक्रम, समाज सेवा, विभिन्न धार्मिक तथा आध्यात्मिक संस्थाओं के साथ ताल-मेल आदि शामिल थे। संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा संत निरंकारी मिशन को उनके सामाजिक एवं आर्थिक परिषद के सलाहकार के रूप में मान्यता भी बाबा जी के समय में ही प्रदान की गई है।

                बाबा जी ने विश्व के सामने एक नया दृष्टिकोण रखा कि प्रत्येक रेखा जो दो राज्यों या देशों को विभाजित करती है वो वास्तव में उन राज्यों व देशों को मिलाने वाली रेखा होती है। इस तरह की सोच अपना कर नफरत की दीवारों को गिराकर प्रेम के पुलों का निर्माण किया जा सकता है।

                मिशन के मुख्य उद्देश्य आध्यात्मिक जागरुकता के अलावा समाज के प्रति अपने दायित्व निभाने की तरफ भी बाबा जी ने सार्थक कदम उठायें। समाज कल्याण की गतिविधियों में बाबा जी ने मिशन को आगे लाया । रक्तदान, स्वच्छता अभियान, वृक्षारोपण, स्वास्थ्य, महिला सक्षमीकरण, शिक्षा, व्यवसाय मार्गदर्शन केन्द्र आदि क्षेत्रों में मिशन के सराहनीय योगदान के पीछे बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के दिव्य मार्गदर्शन का सबसे बड़ा हाथ है । जनसाधारण को अत्याधुनिक वैघकीय सुविधायें सस्ते दामों में उपलब्ध कराने के लिए बाबा जी ने दिल्ली में ‘हेल्थ सिटी’ के महत्वाकांक्षी प्रकल्प का आरंभ किया है ।

                बाबा जी ने मिशन की पहली रक्तपेढी का लोकार्पण 26 जनवरी, 2016 को किया था जो विले पार्ले, मुंबई में स्थित है ।

                बाबा जी के मार्गदर्शन में ही उनके जन्मदिन के अवसर पर 23 फरवरीको वर्ष 2003 से मिशन द्वारा देशव्यापी स्वच्छता अभियान का प्रारंभ किया गया । इस स्वच्छता अभियान के अंतर्गत पुरातन स्मारक, सरकारी अस्पताल, रेल्वे स्थानक, समुद्र तथा नदीयों के किनारे, उघान, पर्यटन स्थल इत्यादि सार्वजनिक स्थलों का समावेश है । किसी अन्य संस्था द्वारा भी जब इस प्रकार के आयोजन किये गए तो उसका स्वागत करते हुए उसमें मिशन द्वारा भी हिस्सा लिया जाता रहा ।

                मिशन की समाज कल्याण गतिविधियाँ विस्तृत रुप में चलाने के लिए बाबा जी ने अप्रैल, 2010 में संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन का निर्माण किया ।

                समालखा (हरियाणा) में ‘संत निरंकारी आध्यात्मिक स्थल’ का निर्माण बाबा जी का बहुत बड़ा सपना रहा जहां पिछले कुछ वर्षों से मिशन के वार्षिक संत समागम आयोजित किये जा रहे हैं तथा अन्य गतिविधियाँ चलाई जा रही हैं ।

                बाबा हरदेव सिंह जी ने मिशन के भारत तथा दूर देशों के युवाओं को सद्भावपूर्ण एकत्व के भाव को धारण करते हुए मिशन के विभिन्न गतिविधियों में सम्मिलित होने के लिए प्रोत्साहित किया । आध्यात्मिक सिखलाई द्वारा बाबा जी ने युवाशक्ती को समाज के सकारात्मक उन्नति की तरफ मोड़ दिया ।

                वर्तमान समय में सद्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के दिव्य मार्गदर्शन में बाबा जी की सत्य, प्रेम, एकत्व और विश्व शांति की सिखलाई को पूरे संसार में पहुँचाया जा रहा है । कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए सरकार के मार्गदर्शन के अनुसार हर प्रकार की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मानवता की सेवा करने की प्रेरणा सद्गुरु माता जी निरंकारी भक्तों को दे रहे हैं ।

                कोविड-19 के संकट के चलते मिशन द्वारा हजारों जरुरतमंद परिवारों को राशन बाँटा जा रहा है, लाखों विस्थापित मजदूरों को लंगर बाँटा जा रहा है जिनकी उपजिविका उनके दैनंदिन कमाई पर आधारित है ।

 मिशन द्वारा कई अस्पतालों को पीपीई किट्स दिये जा रहे हैं और समाज के कई वर्गों में मास्क इत्यादि का वितरण किया जा रहा है । मिशन ने अपने सत्संग भवन क्वारंटाईन सेंटर बनाने के लिए प्रस्तुत किए हैं । प्रशासन के माँग पर स्वेच्छा रक्तदानभी किया जा रहा है । निरंकारी भक्तों द्वारा की जा रही इन सेवाओं से बाबा हरदेव सिंह जी की सिखलाई को क्रियात्मक रुप देने का अनोखा उदाहरण समाज के सामने प्रस्तुत हो रहा है ।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

सोशल डिस्टेंसिंग कोरोना के फैलाव को रोकने का बेहतर उपाय : उपायुक्त

सिरसा, 12 मई।

उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने आमजन से की लॉकडाउन में जारी की गई हिदायतों की अनुपालना की अपील

सोशल डिस्टेंसिंग कोरोना के फैलाव को रोकने का बेहतर उपाय : उपायुक्त


उपायुक्त रमेश चंद्र बिढान ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने व इससे बचाव के लिए मॉस्क व सोशल डिस्टेंसिंग बेहतर उपायों में से एक हैं। यदि हर व्यक्ति अपने मूंह को मॉस्क से ढक कर रखें और सोशल डिस्टेंस के साथ रहे, तो कोरोना वायरस से काफी हद तक बचा जा सकता है।

For Detailed News-


उन्होंने कहा कि कोविड-19 संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। कोरोना पोजिटीव लक्षणों वाले व्यक्ति के संपर्क में आने वाले व्यक्तियों में संक्रमण फैलने की पूरी संभावना रहती है। इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग को कोरोना से बचाव के लिए बेहतर उपाय माना गया है। उन्होंने कहा कि जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि जब भी घर बाहर निकलें मूहं को मॉस्क आदि पहनकर निकलें। जब भी बाजार में सामान लेने या अन्य कार्य के लिए जाएं तो दूसरे व्यक्ति से 6 फुट की दूरी बनाकर रखें।

https://propertyliquid.com/


उपायुक्त ने कहा कि संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है, जोकि 17 मई तक है। लॉकडाउन के दौरान प्रशासन की ओर से गाइडलाइन जारी की गई है। सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए दुकानों को खोलने व बंद करने आदि बारे आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं। दुकानदार नियमों के अनुसार ही दुकानों को खोलें व इस दौरान जारी हिदायतों का गंभीरता से पालन करें। उन्होंने कहा कि दुकानदार जिम्मेवार नागरिक की भूमिका निभाकर सोशल डिस्टेंस व लॉकडाउन के नियमों का पालन करें, ताकि जिला में कोरोना संक्रमण का फैलाव न हो। दुकान पर भीड़ एकतित्र न होने दें। उन्होंने कहा कि जब हर नागरिक कोरोना के विरूद्ध लड़ाई में मॉस्क व सोशल डिस्टेंसिंग को  हथियार के रूप में इस्तेमाल करने लगेगा तो संक्रमण को फैलने से पूर्ण रूप से रोका जा सकता है।


उन्होंने कहा कि मॉस्क के इस्तेमाल के दौरान भी सावधानियां बरतें। मॉस्क के इस्तेमाल के बाद उसे इधर-उधर न फैंके। इसे निर्धारित कूड़ादान में ही डालें। एक-दूसरे का मॉस्क इस्तेमाल न करें। कपड़े से बनें मॉस्क को दोबारा प्रयोग के लिए उसे अच्छी तरह से धोकर धूप में सूखाकर प्रयोग में लाएं। उन्होंने कहा कि इस तरह से छोटी-छोटी सावधानियां हैं, जो हमें मॉस्क के इस्तेमाल के दौरान करनी हैं। इसी प्रकार साफ-सफाई व व्यक्तिगत स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें। हाथों को दिन में कई बार सेनेटाइजर या साबुन से अच्छी तरह धोएं। खाना खाने से पहले व बाद में हाथों को अवश्य धोएं। घरों से बाहर बिना काम के बिल्कुल भी न निकलें। जब भी बाहर जाएं मूहं को अवश्य ढंके। जहां भी जाएं सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखें। इस प्रकार से कोरोना से बचाव के इन उपायों व सावधानियों को अपनाकर स्वयं सुरक्षित रहें और दूसरों को सुरक्षित रखें। 

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!

बाढ़ संभावित क्षेत्रों में पशुधन के बचाव के लिए 32 टीमें गठित : उपायुक्त बिढ़ान

गेहूं व जौ चोरी की गुत्थी सुलझी, घटना के चारों आरोपी काबू

सिरसा, 12 मई…….जिला की ओढां थाना पुलिस ने महत्वपुर्ण सुराग जुटाते हुए बीती 10 मई 2020 की रात्रि को गांव जलालआना स्थित एक खेत से चोरी हुए करीब 4 क्विंटल गेहूं व 4 क्विंटल जौ चोरी की घटना की गुत्थी को सुलझा लिया है। इस संबंध में जानकारी देते हए ओढां थाना प्रभारी सब इंस्पैक्टर राजकुमार ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान राजू उर्फ राजबीर सिंह पुत्र बलदेव, संदीप सिंह उर्फ सिप्पा पुत्र गुरजंट सिंह, ईमदाद उर्फ काला उर्फ अन्ना पुत्र जगसीर सिंह व विक्की सिंह पुत्र भोला सिंह वासियान जलालआना के रुप में हुई है । ओढां थाना प्रभारी ने बताया कि जगजीत सिंह पुत्र गुरलाल सिंह वासी जलालआना की शिकायत पर ओढां थाना में अभियोग दर्ज कर जांच शुरु की गई थी । उन्होंने बताया कि चारों आरोपियों की निशान देही पर चोरी शुदा गेहूं व जौ तथा वारदात में प्रयुक्त मोटर साइकिल भी बरामद किया गया है ।

Watch This Video Till End….

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें!