*MCC organizes special workshop for students on World Paper Bag Day*

हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ने संत शिरोमणी गुरु रविदास जी महाराज के दिखाए मार्ग पर चलने का किया आह्वान

श्री गुप्ता ने संत शिरोमणि श्री गुरु रविदास जी महाराज के 647वीं जयंती समारोह में  मुख्यातिथि के रूप करी शिरकत

 भाईचारे और समरसता के संदेश को जन-जन तक पंहुचाकर, एक सशक्त भारत के निर्माण में निभाए अपनी भूमिका- ज्ञान चंद गुप्ता

श्री गुरु रविदास जी का संदेश किसी एक जाति और समुदाय विशेष के लोगों के लिए नहीं बल्कि संपूर्ण मानवता के कल्याण के लिए

श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने श्री गुरु रविदास सभा पंचकूला को अपने स्वैच्छिक कोष से 31 लाख रुपये की राशि देने की करी घोषणा

For Detailed

पंचकूला, 24 फरवरी- हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञानचंद गुप्ता ने लोगों से आह्वान किया कि वे संत शिरोमणी गुरु रविदास जी महाराज के दिखाए मार्ग पर चलते हुए आपसी भाईचारे और समरसता के संदेश को जन-जन तक पंहुचाए और एक सशक्त भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाए। श्री गुरु रविदास जी का संदेश किसी एक जाति और समुदाय विशेष  के लोगों के लिए नहीं बल्कि संपूर्ण मानवता के कल्याण के लिए है।

श्री ज्ञानचंद गुप्ता आज संत शिरोमणि श्री गुरु रविदास जी महाराज के 647वीं जयंती के उपलक्ष्य में श्री गुरु रविदास सभा पंचकूला द्वारा सेक्टर-15 स्थित गुरु रविदास भवन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यातिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर पटौदी के विधायक श्री सत्यप्रकाश जरावता भी उपस्थित थे।

श्री गुप्ता ने श्री गुरु रविदास मंदिर में माथा टेक आशीर्वाद लिया

इससे पूर्व श्री गुप्ता ने श्री गुरु रविदास मंदिर में माथा टेक आशीर्वाद लिया। उन्होंने श्री गुरु रविदास सभा पंचकूला को अपने स्वैच्छिक कोष से 31 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की।

संत रविदास जी द्वारा वर्षों पूर्व आपसी भाईचारे और समरसता का संदेश आज भी उतना ही प्रासंगिक

विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि संत शिरोमणि श्री गुरु रविदास जी महाराज की जयंती आज प्रदेश और देश में नहीं बल्कि विश्व में बड़े धूमधाम से मनाई जा रही है। संत रविदास जी द्वारा लगभग 647 वर्ष पूर्व आपसी भाईचारे और समरसता का संदेश आज भी उतना ही प्रासंगिक है। हम सभी को उनके संदेश को अपने जीवन में अपनाने का प्रयास करना चाहिए। उन्होनंे कहा था कोई भी व्यक्ति जाति और वर्ण से बड़ा या छोटा नहीं होता बल्कि अपने कर्म से जाना जाता हैं। संत रविदास जी बहुत ही दयालु और दानवीर थे। उन्होंने अपने दोहो व पदो के माध्यम से समाज में जातिगत भेदभाव को दूर कर सामाजिक एकता पर बल दिया और मानवादी मूल्यों की नीवं रखी।

* कुरुक्षेत्र जिले के पीपली में पांच एकड भूमि पर गुरु रविदास जी का एक भव्य स्मारक स्थापित किया जाएगा*

श्री गुप्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि गुरु रविदास हम सभी के है और हम सब गुरु रविदास जी के। वाराणसी में संत गुरु रविदास जी का भव्य मंदिर और मठ है जहां सभी जाति के लोग दर्शन करने के लिए आते है। हरियाणा में पहली बार मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व वाली  सरकार ने प्रदेश में संतों और महापुरूषों की जयतियों को राज्य स्तर पर मनाने का निर्णय लिया ताकि वर्षों पूर्व उनके द्वारा दिए गए संदेशों को जन-जन तक पंहुचाया जा सके। इसके अलावा कल ही मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल जो वित मंत्री भी है, ने विधानसभा में दिए अपने बजट भाषण में कुरुक्षेत्र जिले के पीपली में पांच एकड भूमि पर गुरु रविदास जी का एक भव्य स्मारक स्थापित करने की घोषणा की है।

संत गुरु रविदास जी अनेक नामों से जाने जाते हैं

संत गुरु रविदास जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए श्री गुप्ता ने कहा कि संत रविदास जी को पंजाब में रविदास और उत्तर प्रदेश और राजस्थान में रैदास के नाम से जाना जाता है। गुजरात और महाराष्ट्र के लोग रोहिदास और बंगाल के लोग उन्हें रूइदास कहते है।

संविधान निर्माता डाॅ भीम राव अंबेडकर की प्रतिमा हरियाणा विधानसभा में स्थापित की गई है

श्री गुप्ता ने कहा कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर ने विश्व के सबसे बडे लोकतंत्र भारत के संविधान की रचना की और उसी संविधान की पालना करते हुए आज भारत विश्व के सबसे शक्तिशाली देश के रूप में उभर रहा है।  विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें प्रसन्नता है कि संविधान निर्माता डाॅ भीम राव अंबेडकर की प्रतिमा हरियाणा विधानसभा में स्थापित की गई है ताकि वहां आने वाले विधायक विधि के अनुसार कार्य करने की प्रेरणा लें सके। डाॅ भीम राव अंबेडकर के शिक्षित बनो, संगठित रहो और संघर्ष करो के नारे को याद करते हुए श्री गुप्ता ने लोगों से आह्वान किया कि वे अपने बच्चों को अच्छी से अच्छी शिक्षा दें ताकि प्रतियोगिता के इस युग में वे किसी से पीछे ना रहे।

संत शिरोमणि गुरु रविदास की जयंति विश्व स्तर पर मनाई जा रही हैं

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पटौदी के विधायक सत्यप्रकाश  जरावता ने कहा कि संत शिरोमणि गुरु रविदास की जयंति विश्व स्तर पर मनाई जा रही है। हरियाणा सरकार द्वारा संत महापुरूष विचार एवं सम्मान योजना के तहत बाबा साहेब, संत कबीर, संत वाल्मिकी जैसे महापुरूषों की जयंतियों को सरकारी स्तर पर मनाया जा रहा है ताकि आज का युवा महापुरूषों की वाणी व विचारों को अपने जीवन में आत्मसात कर सके। उन्होंने श्री गुरु रविदास सभा पंचकूला को अपने स्वैच्छिक कोष से 5 लाख रुपये देने की घोषणा की।

ये रहे उपस्थित

इस अवसर पर आबकारी एवं कराधान विभाग के संयुक्तायुक्त डाॅ इंद्रजीत रंगा, बाल कल्याण परिषद की मानद महासचिव रंजिता मेहता, गुरु रविदास महासभा के प्रधान कृष्ण कुमार, महासचिव जयबीर सिंह रंगा, बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्षा बंतो कटारिया, बीजेपी जिलाध्यक्ष दीपक शर्मा, पार्षद हरेंद्र मलिक, जय कौशिक, सुदेश बिडला, सोनिया सूद, राकेश वाल्मिकी, जिला महामंत्री एससी मोर्चा सोनू बिडला, मंडल महामंत्री प्रमोद वत्स, जेजेपी नेता ओपी सिहाग, सेवानिवृत आईएएस एसके भोरिया, पूर्व विधायक लहरी सिंह, पूर्व अध्यक्ष जिला उपभोक्ता फोरम पंचकूला धर्मपाल पंवार, अंबेडकर महासभा के प्रधान सुरेश मोरका,  सुरेंद्र जाटव, उपप्रधान तेजपाल जौहर, बलवंत सिंह, बीडी खेवडा, मांगेराम कटारिया, बलवीर सिंह, राजकपूर अहलावत, सलीम अली, बीएस रंगा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

https://propertyliquid.com