Water Supply Shut Down on 2nd December

सीसीटीवी की निगरानी में हो ईवीएम जमा करने की गतिविधि : उपायुक्त

सिरसा, 11 मई। 

उपायुक्त ने किया सभी विधानसभा सेग्मेंट के स्ट्रॉंग रूम का निरीक्षण

उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने आज चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय में जिला के पांचों विधानसभा सैग्मेंट के लिए बनाए गए स्ट्रॉग रूम का निरीक्षण तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान संबंधित विधानसभा क्षेत्र के एआरओ भी उपस्थित रहे। 

जिला के पांच विधानसभा क्षेत्र सिरसा, ऐलनाबाद, रानियां, डबवाली व कालांवाली की ईवीएम के लिए चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय में स्ट्रॉग रूम बनाए गए हैं। उपायुक्त प्रभजोत सिंह ने यूनिवर्सिटी में बने सभी पांचों स्ट्रॉग रूम का निरीक्षण करते हुए वहां पर सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता करने के लिए अधिकारियों का जरूरी दिशा-निर्देश दिए। 

उपायुक्त ने सबसे पहले स्ट्रॉग में लगे सीसीटीवी कैमरों का निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि स्ट्रॉग रूम के सभी सीसीटीवी कैमरे सुचारू रूप से काम करने चाहिए। पोलिंग पार्टियों द्वारा ईवीएम जमा करवाने की हर प्रक्रिया की गतिविधि कैमरे में कैद हो, इसके लिए कैमरे की लोकेशन के हिसाब से ही गतिविधि करें। उन्होंने कहा कि स्ट्रॉग रूम पर सुरक्षा की व्यवस्था सुदृढ रहनी चाहिए। सुरक्षा में किसी प्रकार की कोई चूक नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि स्ट्रॉग रूम की सुरक्षा व्यवस्था बहुत महत्वपूर्ण कार्य है, इसलिए इस दिशा में किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इसके अलावा उन्होंने स्ट्रॉग रूम में अन्य किए गए अन्य प्रबंधों का जायजा लेेते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 

उपायुक्त ने सभी विधानसभा क्षेत्रों में मतदान के उपरांत आने वाली पोलिंग टीमों से ईवीएम व अन्य चुनाव सामग्री प्राप्त करने के लिए किये गए प्रबंधों का भी जायजा लिया। उन्होंने कहा कि ईवीएम प्राप्त करने के लिए कम से कम 10 टेबल अवश्य लगवाएं। प्रत्येक टेबल पर कम से कम 5 कर्मचारी हों ताकि ईवीएम, वीवीपैट व अन्य चुनाव सामग्री पूर्ण व्यवस्था के साथ प्राप्त की जा सके। उन्होंने कहा कि ईवीएम की सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है, इसलिए आने वाली टीमों से ईवीएम सबसे पहले प्राप्त करें, इसके उपरांत ही अन्य चुनाव सामग्री प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि ईवीएम व अन्य चुनाव सामग्री प्राप्त करने उपरांत पोलिंग पार्टियों को प्राप्ति रसीद दी जाए ताकि उन्हें बाद में रिलिविंग सर्टिफिकेट जारी किया जा सके। इस दौरान एसडीएम अमित कुमार, वीरेन्द्र सिंह, सिटीएम जयबीर यादव सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply