*MCC organizes special workshop for students on World Paper Bag Day*

सांसद हिसार ने राजकीय महाविद्यालय सेक्टर 1 के शारीरिक शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित दो दिवसीय बहु-विषयक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का किया उद्घाटन

देश के क्षेत्रफल का हरियाणा सिर्फ 1.34 प्रतिशत, पर अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में प्रदेश का कोई सानी नहीं: सांसद

युवाओं के लिए एंटीडॉट की भूमिका निभाते हैं खेल – बृजेंद्र सिंह

For Detailed

पंचकूला, 22 फरवरी – सांसद हिसार बिजेन्द्र सिंह ने कहा कि नशे की लत से बचने के लिए खेल युवा पीढ़ी के लिए एंटीडोट का काम करते हैं।
    सांसद आज राजकीय महाविद्यालय सेक्टर 1 पंचकूला के शारीरिक शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित  दो दिवसीय बहु-विषयक अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।
     उन्होंने कहा कि समय के साथ खेलों के प्रति समाज और सरकार के रवैये में बदलाव आया है। प्रदेश में हमेशा से खेलों की संस्कृति रही है, जिसके कारण राज्य की अंतर्राष्ट्रीय पहचान स्थापित हुई है। खेलों को अब सम्मानजनक पेशे के तौर पर देखा जाने लगा है। सरकार, समाज और कॉरपोरेट सेक्टर द्वारा खेलों को भरपूर समर्थन देना चाहिए।
   उन्होंने कहा कि हरियाणा ने खेल की दुनिया में अनेक सितारे दिए हैं। हरियाणा का क्षेत्रफल देश के क्षेत्रफल का सिर्फ 1.34 प्रतिशत है, लेकिन अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में हरियाणा का कोई सानी नहीं है। गुजरात जैसे बड़े और विकसित राज्य हरियाणा के खेल मॉडल को समझने और सीखने के लिए अपने प्रतिनिधि भेज रहे हैं।


    कार्यक्रम में बीआर अम्बेडकर लॉ यूनिवर्सिटी सोनीपत की कुलपति डॉ. अर्चना मिश्रा बतौर विशिष्ट अतिथि शामिल हुईं।
कॉलेज के प्राचार्य यशपाल सिंह ने स्वागत उद्बोधन प्रस्तुत किया। उद्घाटन सत्र में बीबीसी की एंकर सारिका सिंह ने बतौर मुख्य वक्ता कहा कि खिलाड़ियों की उपलब्धि को उनके मेडलों से नहीं आंका जा सकता, बल्कि उनकी सफलता के पीछे अनेक अनकही कहानियां होती हैं। इसी कड़ी में जाने माने स्पोर्ट्स सर्जन डॉ. मनित अरोड़ा ने स्पोर्ट्स इंजरीज मैनेजमैंट पर अपनी प्रस्तुति दी।
    यूनाइटेड किंगडम के विंडसर वर्कशायर से इस कॉन्फ्रेंस में जुड़े डॉ. सोहराब शर्मा ने स्पोर्ट्स और फिजियोथेरैपी पर अपनी बात रखी। वहीं यूनिवर्सिटी ऑफ कनाडा में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर कार्यरत गीतांजलि छाबड़ा ने खेलों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर अपनी प्रस्तुति दी।
    कार्यक्रम में अर्जुन खेल पुरस्कार विजेता, वॉलीबॉल के खिलाड़ी अमीर सिंह और वुशू की खिलाड़ी पूजा कादयान भी विशेष अतिथि शामिल रहीं।  कॉन्फ्रेंस के संयोजक डॉ. राम मेहर ने बताया कि कॉन्फ्रेंस के प्रथम दिन चार समानांतर सत्रों में लगभग 50 प्रतिभागियों ने अपने शोध पत्र प्रस्तुत किए। इस दो दिवसीय सम्मेलन में कनाडा, इंग्लैंड, बांग्लादेश, ईरान, ऑस्ट्रेलिया, सिंगापुर से साथ देश के विभिन्न राज्यों से 250 से अधिक प्रतिभागी हिस्सा ले रहे हैं।
   डॉ. विजय कुमार ने सेमिनार में भाग लेने पहुंचे अतिथियों का आभार जताया। मंच संचालन डॉ. अनिल कुमार पांडेय ने किया। इस मौके पर कॉलेज का राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर नाम रोशन करने वाले विद्यार्थियों अमनजोत कौर, विकास कौशिक, रिम्पी दबास, रविकांत, बलजीत कौर और पंकज को सम्मानित किया गया।

https://propertyliquid.com