Water Supply Shut Down on 2nd December

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को एकजुट करने के लिए राहुल गांधी ने ‘परिवर्तन रथयात्रा’ की कमान अपने हाथों में ली

चंडीगढ़:

 हरियाणा में कांग्रेस की गुटबाजी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अच्छी तरह वाकिफ हैं।

इसीलिए हरियाणा में सियासी जमीन तलाशने के लिए वह शुक्रवार को यमुनानगर के जगाधरी पहुंचे।

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को एकजुट करने के लिए राहुल गांधी ने परिवर्तन रथयात्रा की कमान अपने हाथों में ली।

यमुनानगर जिले के जगाधरी विधानसभा क्षेत्र में राहुल गांधी ने जनसभा में कांग्रेस नेताओं को एकजुट होने की नसीहत दी। 

गांधी ने कहा कि सभी नेता व कार्यकर्ता एकजुट होकर कांग्रेस को बूथस्तर तक मजबूती देने का काम करें।

साथ ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार की वादाखिलाफी से भी जनता को अवगत कराएं।

राहुल की इस नसीहत को गुटों में बंटे कांग्रेस नेता कितनी गंभीरता से लेते हैं, यह लोकसभा चुनाव के परिणाम से साफ होगा।

फिलहाल पिछले चार दिनों से परिवर्तन रथयात्रा से दूरी बनाने रखने वाले कुलदीप बिश्नोई भी जगाधरी और लाडवा में नजर आए। 

कांग्रेस अध्यक्ष ने करनाल संसदीय क्षेत्र के इंद्री में भी कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया।

साथ ही भाजपा की जनविरोधी नीतियों के बारे में जनता को अवगत कराया।

शाम को आईटीआई चौक से रोड शो निकालने के बाद जनसभा को संबोधित किया।


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि हमारी न्याय योजना की घोषणा से पूरी भाजपा सदमे में है। देश में 20 प्रतिशत लोगों की आमदनी हर महीने 12 हजार रुपये से कम है।

इन लोगों को प्रति माह छह हजार रुपये यानी सालाना 72 हजार रुपये और पांच साल में 3.60 लाख रुपये दिए जाएंगे। राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री केवल गरीबों के खाते में पैसे देने का वादा किया, लेकिन कांग्रेस ने योजना तैयार कर गरीबों को नया विजन दिया है।

पहले पायलट प्रोजैक्ट शुरू होगा, इसके बाद गरीबों की पहचान की जाएगी और फिर हर महीने 6 हजार रुपये दिए जाएंगे। 

वर्ष 2014 में कांग्रेस ने हरियाणा की सभी 10 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ा था। मगर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बेटे दीपेंद्र हुड्डा ही अपनी सीट बचा पाए।

वर्ष 2004 व 2009 में कांग्रेस ने 10 में से 9 सीटें जीती थी। अब 2019 में कांग्रेस के प्रदर्शन को सुधारने के लिए खुद राहुल गांधी हरियाणा में सियासी जमीन मजबूत करने के लिए चुनाव मैदान में उतरे हैं। 

परिवर्तन रथ यात्रा में कांग्रेस के हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला, प्रदेश अध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर, कांग्रेस विधायक दल की नेता किरण चौधरी, राज्यसभा सदस्य कुमारी शैलजा, रोहतक से सांसद दीपेंद्र हुड्डा, पूर्व सांसद नवीन जिंदल, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कुलदीप बिश्रोई, पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष फूलचंद मौलाना, पूर्व मंत्री महेन्द्र प्रताप सिंह और पूर्व सांसद कैलाशो सैनी मौजूद रहीं। 

राहुल गांधी ने कहा कि न्याय योजना कार्यकर्ताओं के लिए हथियार है। हर कार्यकर्ता अपने क्षेत्र में 72 हजार रुपये की योजना का प्रचार करे।

गरीबों, किसानों और छोटे दुकानदारों को न्याय दिलाया जाएगा। गब्बर टैक्स से मुक्ति दिलाकर सच्ची जीएसटी लगाई जाएगी। किसानों की फसल का एमएसपी बढ़ाया जाएगा।

यात्रा से आएगा परिवर्तन हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने कहा कि प्रदेश में परिवर्तन यात्रा के प्रति उत्साह है। इससे केंद्र और राज्य में परिवर्तन आएगा। सुबह 7ः00 बजे से शुरू होने वाली यह यात्रा आधीरात बाद खत्म हो रही है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खुद को चौकीदार बताने पर राहुल ने जमकर वार किए। गांधी ने कहा कि 2014 में मोदी ने कहा था कि वे प्रधानमंत्री नहीं, चौकीदार बनना चाहते हैं।

अब वे हर भारतीय को चौकीदार बता रहे हैं। राहुल ने कहा कि हर चौकीदार चोर नहीं है, मगर वे हर चौकीदार की बदनामी कर रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि भाजपा ने पिछले पांच साल में एक भी नीति जनहित में नहीं बनाई है। किसानों को फसल को समर्थन मूल्य नहीं मिल रहा है।

कृषि संसाधनों पर भी जीएसटी की मार है। परिवर्तन यात्रा को मिल रहा समर्थन ‘परिवर्तन’ का इशारा कर रहा है। 

अशोक तंवर ने राहुल गांधी से गुटबाजी का जिक्र किया। उन्होंने कहा, हरियाणा प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने पूरी कांग्रेस को एकजुट करते हुए बस में बैठा दिया।

छह दिन में परिवर्तन यात्रा 22 जिलों से होती हुई सभी लोकसभा क्षेत्रों से गुजरेगी। 

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply