जिला रेडक्रॉस सोसायटी द्वारा हर घर तिरंगा अभियान के तहत निकाली गई साइकिल रैली

मानसिक रोगियों के लिये लगाये गये शिविर में जानकारी देते हुये सी0जे0एम विवेक गोयल

पंचकूला,20 मार्च-

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा मानसिक रोगों और मानसिक रूप से दिव्यांग लोगों की पहचान के लिये एक विशेष अभियान आरम्भ किया गया है । कदम मिलाकर चलना होगा नामक इस अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से जिला के विभिन्न क्षेत्रों में शिविर आयोजित करके मानसिक रोगियों और मानसिक रूप से दिव्यांग लोगों की पहचान की जा रही है।

मुख्य न्याय दंडाधिकारी विवेक गोयल ने बताया कि ऐसे लोगों की पहचान करके उनके परिजनों को कानूनी अधिकारों की प्रति जागरूक किया जायेगा और परिवारजनों को ऐसे लोगों के साथ दैनिक जीवन में पेश आने वाली दिक्कतों से निपटनें के लिये ही आवश्यक जानकारी दी जायेगी। उन्होंने कहा कि विधिक सेवा प्राधिकरण के अधिवक्ताओं ओैर पैरालीगल वालंटियर के माध्यम से भी ऐसे लोगों की पहचान की जायेगी। उन्होंने बताया की ऐसे लोगों और उन के परिजनों को मानसिक रोगियों व मानसिक रूप से दिव्यांग लोगों से सम्बन्धित मैंटल हैल्थ केयर एक्ट 2017 तथा पर्सनस विद डिसएब्लटी एक्ट 1995 के तहत उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी भी दी जायेगी ।

उन्होंने बताया कि भारत के सविधान द्वारा देश के सभी नागरिकों को एक समान अधिकार दिये गये है और रोजगार के अवसरों में भी समान अधिकार का प्रावधान है । उन्होंने बताया कि सविधान में मानसिक रूप से रोगी लोगों के लिये भी कानूनी सरंक्षण,सामाजिक सुरक्षा,शिक्षा और रोजगार के कानून का प्रावधान किया गया है ।  उन्होंने बताया कि ऐसे बच्चों के लिये विशेष स्कूल स्थापित किये गये है और उन्हें 18 वर्ष की आयु तक निःशुल्क शिक्षा का अधिकार दिया गया है । इसके अलावा सरकारी रोजगार के अवसरों में भी 3 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है ।

उन्होंने बताया कि विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा ऐसे लोगों की जानकारी के लिये राजीव कालोनी,मनसा देवी कम्पलैक्स,बस अडडो,राजकीय माध्यमिक विद्यालय सैक्टर-19 में शिविर लगाकर लोगों को जागरूक किया गया । इसके अलावा आंगनवाडी कार्यकर्ताओं को भी इनके अधिकारों और योजनाओं की जानकारी दी गई है ताकि हर योग्य पात्र तक  यह जानकारी पहुंचाई जा सके ।

0 replies

Leave a Reply

Want to join the discussion?
Feel free to contribute!

Leave a Reply